रंडी खाना का बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,રોમાન્ટિક વિડિયો

तस्वीर का शीर्षक ,

कुत्ता वाला बर्फ: रंडी खाना का बीएफ वीडियो, उसकी गोल गोल कसी हुई चूचियां उभर आई थीं और उसकी सफेद शर्ट में से उसकी पीली ब्रा भी दिख रही थी.

भोजपुरी मोनालिसा सेक्सी वीडियो

मैंने एल्बम को टेबल पर रखा तो उन्होंने कहा- चलें फोटो सेशन के लिए?मैं एक झटके से खडी़ हो गई और कहा- ये सब मुझसे नहीं होगा. नागिन सिक्सवो चूत चटवाते हुए बहुत चुदासी हो गयी और अपनी चूचियों को जोर जोर से मसलने लगी.

मैंने कहा- जब तुम शुरुआत में मेरे से बात करती थीं, तब तुम्हें शुभम के साथ ऐसा क्या ठीक लगा था, जो उसके साथ तुमने सेक्स कर लिया?उसने कहा- हां, मुझे सेक्स पसंद है तो मैंने उसके साथ किया था. कोलकाता सेक्सी कोलकाता सेक्सीजैसे ही मैं गिलास उठाने के लिए हाथ बढ़ाती, चारों मेरे भरे हुए स्तनों को एकटक घूरने लगते और जब मैं गिलास रख कर जैसे ही अपने स्तनों को ढक लेती, वो लोग अपने बातों में मशगूल हो जाते.

मैं उसके ऊपर वाले होंठ को अपने मुंह में लेकर चूस रहा था। एक हाथ से मैं उसकी चूचियों को उसके सूट के ऊपर से ही दबा रहा था।लगभग 5 मिनट तक उसके होंठों को मैं चूसता रहा। उसके होंठों को चूसने के कारण उसके होंठ इतने लाल हो चुके थे कि लगने लगा अब इनमें से खून ही निकल आयेगा.रंडी खाना का बीएफ वीडियो: शैली एक दिन मेरे लिए खाने की थाली लेकर आई तो मैंने उससे कहा: शैली, बैठो.

मैं उसको अपने कमरे के अन्दर ले गया और उसकी एक चूची को कस कर दबा दिया.उसके बाद मैंने उसकी चूत पर अपने लंड को सेट किया और एक रंडी की तरह उसकी चूत की खूब चुदाई की.

छोटू दादा कहां रहता है - रंडी खाना का बीएफ वीडियो

क्योंकि यार यह तो बहुत बड़ा है। बिल्कुल ब्लू फिल्म के हीरो के लंड की तरह। मेरी तो फट जाएगी इससे चुदवाने से।मेरी बात सुनकर नीरव का चेहरा थोड़ा फीका पड़ गया.इससे उसकी लगातार मादक सिसकारियां निकल रही थीं- उफ्फ्फ ह्म्म्म हांनन ऐसे ही … आह करते रहो … डॉक्टर बहुत मज़ा आ रहा है.

मेरा देवर तो जेठानी जी को देख कर ही बावला हो गया और बोला- मैं भी मज़ा लूंगा. रंडी खाना का बीएफ वीडियो कुछ देर बाद मैंने उसकी गांड पर नारियल का तेल लगा दिया और अपनी उंगली उसकी गांड के छेद पर लगा कर धीरे धीरे अन्दर घुसाने लगा.

तभी अंजलि ने मुझसे पूछा- तेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है?मैंने उसे मना कर दिया, तो वो बोली- क्यों कोई पटी नहीं या किसी ने तुझे घास नहीं डाली.

रंडी खाना का बीएफ वीडियो?

आगे की इंडियन चुदाई की कहानी जानने के लिए कहानी का चौथा और अंतिम भाग अवश्य पढ़ें। दोस्तो, कहानी के बारे में सुझाव और कहानी की कमियां बताने के लिए मुझे मेल करना न भूलें।[emailprotected]इंडियन चुदाई की कहानी का अगला भाग:एक्स-गर्लफ्रेंड के साथ दोबारा सेक्स सम्बन्ध- 4. उस जंगल में अन्दर जाने बाद एक लाइन में 3 से 4 घर कमरों जैसे बने थे. आशू के पिता के पास धन और ज्ञान की कमी नहीं थी लेकिन बेटे के पास दिमाग की बहुत कमी थी.

उसकी आंखों पर काला चश्मा था और हाफ आस्तीन की टी-शर्ट पहने हुए वो एक फिल्म स्टार लग रहा था. मैं थोड़ी देर ऐसे ही रुका रहा और उसके होंठों को अपने होंठों में दबा कर चूसने लगा. क्या दीदी भी आपके साथ जा रही हैं?उन्होंने कहा- नहीं मैं अकेले ही जा रही हूँ और तुम घर पर ही रह कर अपनी बहन का ख्याल रखना.

कहकर एक बार फिर बड़े प्यार से मेरे चूचियों को सहलाने लगा और उसको बारी-बारी पीने लगा. इनकी चूचियों का रंग तो इनके बदन के बाकी रंग से भी ज्यादा सफेद होगा. मेरी गुदा पीछे दीवार पर सटी थी और मैं उस मर्द की जीभ को अपनी योनि में बर्दाश्त करने की कोशिश कर रही थी.

मैंने उससे पूछा- तुम किस हॉस्टल में रहती हो?उसने बताने से मना कर दिया और कहने लगी- ये क्यों पूछ रहे हो और तुम जानकर क्या करोगे. अब वो कहती थी- मेरी और भी जिम्मेदारियां हैं … सारा दिन तो मैं तुमसे बात नहीं कर सकती ना?ये सुनकर मैंने भी उसे जाने दिया.

मैंने पैंटी में ही अपना माल गिरा दिया और फिर नहा कर बाहर आ गया और कपड़े चेंज कर लिये.

शाम को मैं डिनर बना रही थी और माया दीदी अपने रूम में मेरे पति और जेठ जी के लिए ड्रिंक की व्यवस्था कर रही थीं.

फिर एक हफ्ते बाद जब अविनाश घर पर नहीं था, तब रात को मैं अपने कमरे में फोन इस्तेमाल कर रही थी. मैंने अपनी आवाज़ को दबाया और किसी तरह से लंड के दर्द को जज्ब करने लगी. इसके अलावा कभी पौराणिक चित्रण भी होता, कभी वेश्या बन जाती तो कभी कुछ और.

मगर भाभी की नजर बार बार पारुल की चूचियों पर जा रही थी जो मैक्सी में साफ नंगी प्रतीत हो रही थी. इतनी उत्तेजना बहुत दिनों के बाद महसूस की थी मैंने। बस अब मेरा पानी निकालने ही वाला था। उतने में मेरा संतुलन बिगड़ गया और मेरा हाथ धाड़ से बेड पर लगा. अपनी मन की इच्छा पूरी करके उसने भी अपना लिंग मेरी योनि में घुसा दिया और मेरे कन्धों को दबा कर मेरी योनि को भेदने लगा.

इसके बाद अब जब भी मुझे मौका मिलता है … तब हम दोनों लाइब्रेरी में जाकर अपने शरीर की भूख मिटा लेते हैं.

मेरे मुँह से अब आवाज नहीं निकल रही थी लेकिन दर्द से बिलबिला गयी थी. कहानी पर अपने कमेंट्स के जरिये अपनी राय दें और बतायें कि आपको इंडियन सेक्स रोमांस स्टोरी कैसी लगी. आज मैं अपनी इस सेक्स कहानी में पीयूष की पत्नी की चुदाई की बात करूंगा.

इस बार मम्मी अपनी गांड उठा उठा कर मेरा साथ दे रही थीं, साथ ही गाली भी दे रही थीं. मुसम्मियां चूसने और चूत के गीले होने की खबर लगते ही मेरा लण्ड टनटना गया. फिर वो मेरी चूत पर लंड लगाकर अपना सुपारा उसमें घुसाने की कोशिश करने लगा.

उसने अपने हाथ से अपनी मॉम की चूत को रगड़ा और मेरा लंड लगा कर बोला- लो मॉम, तेरे लिए लंड अपने हाथों से डाल रहा हूँ.

मुझे अपनी रखैल बना लो आह्ह … और चोदो … आह्ह और तेज।मैं भी उसको पूरी स्पीड में पेलने लगा. मैंने अपनी जींस और शर्ट को निकाला और उसके मम्मों को चूसना शुरू कर दिया.

रंडी खाना का बीएफ वीडियो जब लॉकडाउन में ढील मिली तो वो बंगलौर जाने को हुई तो मैं भी उसके साथ घर से निकला और उसे मंगलसूत्र, चूड़ी, बिंदी, सिन्दूर आदि दिलाकर दुल्हन बना कर भेजा. इस तरह से मां जितेन्द्र से चुदने लगीं और कुछ देर बाद चुदाई अपने चरम पर आ गई.

रंडी खाना का बीएफ वीडियो ये सुनकर लोकेश खुशी से पागल हो गया।उसने रोहन से पूछा- ये लड़की कहाँ मिलेगी, जल्दी बता. मैंने अपना फनफनाता हुआ लौड़ा हाथ में लिया और धीरे से उसकी लम्बी दरार पर घिसना शुरू कर दिया.

मैं किसी कटी पतंग की तरह उसके साथ चल दी।उस दिन पहली बार मैं खण्डहर के अंदर गई थी। अंदर कई सारे टूटे फूटे कमरे थे.

एक्सएक्सएक्

मौसी ने मेरे लंड को मेरे अंडरवियर समेत मुंह में पकड़ लिया और उसको कपड़े समेत चूसने लगी. निखिल की गर्लफ्रेंड देखने में ज्यादा अच्छी तो नहीं थी लेकिन काम चलाने के लिए ठीक ठाक थी. दो चार बार ऐसा हुआ तो दीदी बोलीं- कैसे बाइक चला रहा है? झटके लग रहे हैं.

अब बस मैं मौके की तलाश में था कि सुनीता भाभी को कैसे भी पटाकर चोदा जाए. एक बार मैं अपने पीछे वाले बरामदे में सुबह कपड़े सुखाने गयी तो हरी वहां व्यायाम कर रहे थे. कभी कभार महीने में जब ज्यादा आग लगती थी, तो गाजर, मूली, बैगन, खीरा डालकर पानी निकाल लेती थीं.

सोनी के मुखमंडल पर मर्द के चोदन से पैदा होने वाली वासना साफ साफ दिखाई दे रही थी.

जैसे जैसे मेरे धक्कों की स्पीड बढ़ रही थी, वैसे वैसे ऐश्वर्या की कामुक आवाजें बढ़ रही थीं. हम लोकेश को भूल ही चुके थे। हम फिर एक-दूसरे को किस करने लगे। रोहन मेरे पूरे जिस्म को चूमने लगा।फिर मैं उठी और बाथरूम में जाकर फ्रेश हो गई. जो आदमी मेरी चूत में अपने लंड से धक्के लगा रहा था, अब उसने मेरी चूत में पानी छोड़ दिया था और साथ ही चौथे ने भी पानी छोड़ दिया था.

जिया की चूत को चोदने में जो मजा आ रहा था वो मुझे रुकने नहीं दे रहा था. मैंने जिया के बूब्स को अपने हाथों में भर लिया और उनको कस कर दबाने लगा. तभी रवि की बॉडी ने ज़ोर का झटका खाया और अपने लंड का पानी जेठानी जी के मुँह में डालने लगा.

लेकिन रवीन्द्रनाथ मां को घोड़ी बना दिया और उनकी गांड के छेद पर लंड का सुपारा रख दिया. वो मेरे बालों को, जो चेहरे पर छा गए थे, उन्हें मेरे चेहरे से हटाने लगा। उसने मुझे ज्यादा देर तक लंड नहीं चूसने दिया। जल्द ही मुझे उठाया और मेरा बायां घुटना मोड़ कर सोफे पर रख दिया.

वो सिर्फ अपनी चड्डी में खड़ा था।मैंने भी मौके का फ़ायदा उठाया और उसकी चड्डी के ऊपर से ही उसके लंड को दबा दिया।तभी पीछे से प्रिंसीपल भी आ गया. तब वो बोलीं- नहीं जान, चड्डी मेरी गांड पर टाईट होती है और मुझे दर्द हो रहा था इसलिए नहीं पहनी. कुछ ही देर मामला एकदम गरम हो गया और सुंदर ने अपनी सास को अपने ऊपर लेकर उसकी चुत में अपना पूरा लंड एक बार में ही ठांस दिया.

मैंने बिना देर किए पीछे से उनके दोनों मम्मों को पकड़ लिया और धीमे धीमे से सहलाने लगा.

हालांकि मैं कोई लेखक नहीं हूं, इसलिए मुझसे सेक्स कहानी लिखने में भूल हो सकती है. मैंने अब आंटी की मैक्सी उतार कर उन्हें बेड पर गिरा दिया और उनके ऊपर चढ़ गया. इस बार झटका कुछ जोरदार लगा था, तो मेरी मां की तो समझो जान ही निकल गयी.

सच में वो ऐसी ही एक कयामत और गदरायी हुई एकदम गोरी अंग्रेजन जैसे हंसिका मोटवानी जैसी माल है. धीरे धीरे मेरी छाती को चूम कर मेरे पेट की ओर बढ़ती हुई जिया ने मेरी नाभि को चूमा और फिर मेरे झांटों वाली जगह पर एक बहुत ही कोमल गर्म चुम्बन कर दिया.

मेरी आंख 10 बजे खुली और मैंने पाया कि मेरे बदन पर मेरी अंडरपैंट और बनियान थी. मगर उस समय तक पति के अलावा मेरे मन में किसी गैर मर्द से चुदवाने का खयाल कभी आया ही नहीं था. मैं उस घर के अंदर आ गया तो पारुल और साधना के चेहरे पर सवालिया निशान लग गया.

ब्लू फिल्म भोजपुरी में

करीब दो मिनट बाद मेरी दो उंगलियां बड़ी आसानी से देवर की गांड में अन्दर बाहर हो रही थीं.

सुमित से ब्रेकअप के बाद मेरी चूत में आग लगी हुई थी, लेकिन मैं किसी तरह बस कंट्रोल कर रही थी. फिर जेठानी जी ने मेरे पापा को बीच में एक गद्दे पर लिटा दिया और राज को भी. पीछे धकेलते हुए वो बोली- क्या कर रहे हो गौतम? कोई देख लेगा!मैं हटा और दरवाजा ढालने के लिए चला गया.

जब मैंने उसे छोड़ने की बात की तो उसको बहुत दुख हुआ और वो मेरे सामने बहुत रोई. अगर मामी नाराज हो गयी तो चूत चोदने का मिला मिलाया मौका हाथ से निकल जायेगा. देवर भाभी के सेक्सी बफमैंने कहा- और न मिला मौक़ा … तो?वो मायूस हो गई और हम दोनों बस इन्तजार करने लगे.

चुदाई के पूरे टाइम मेरी चूचियां आशीष के होंठों में ही दबी रहती हैं. कुछ देर लंड घिसने के बाद वो मेरे ऊपर अपना पूरा वजन डाल कर थम से गए.

जैसे ही मेरी उंगली मामी जी की चूत में जाती तो मामी जी दर्द से उचक सी जाती थी. चाची ने तब मुझे कहा- संदीप, बहुत दिनों से मेरी इच्छा हो रही थी लेकिन कभी तुझसे ये कहने की हिम्मत नहीं हुई. मौसी को इस तरह लंड के लिए तड़पते देख कर मुझे भी उन पर दया आ गयी और मैंने उनकी टांगों को फैला कर उनकी चूत पर लंड को सेट कर दिया.

अपना हाथ मौसी की चूची पर रखते हुए मैंने कहा- तुमने कई बार कहा कि तुमको मुझमें पापा की छवि दिखती है, लो आज महसूस भी कर लो. मैंने उनकी गांड में लंड डाला और अमित ने अपना लंड अपनी मॉम के सामने कर दिया. मैंने उससे पूछा- तुम किस हॉस्टल में रहती हो?उसने बताने से मना कर दिया और कहने लगी- ये क्यों पूछ रहे हो और तुम जानकर क्या करोगे.

इसके बिल्कुल विपरीत विकास था। वो मेरे शरीर के हर एक अंग को तब तक चाटता था जब तक मैं बुरी तरह से सिसकारने न लगूं.

मुझे उम्मीद है कि आपको मेरी वो शादी में पहली बार लंड का मजा वाली कॉलेज गर्ल Xxx स्टोरी अच्छी लगी होगी. सुभाष ने चादर खींच ली और कहा- और अब!दरबान ने अमिता को ऊपर से नीचे तक देखा और कहा- बहुत पटाखा है साहब.

यह उसका फर्स्ट लव सेक्स होने वाला था, तो वो बहुत शर्मा रही थी और डर भी रही थी कि कहीं कुछ हो ना जाए. वो जब मेरे कमरे में नंगी आई, तो बोली- मैं तो तेरे साथ कबसे चुदने को राजी थी. जिस दिन ग्राहक नहीं मिलता था तो उस दिन पैसे का जुगाड़ नहीं हो पाता था.

वो चाहता है कि मैं किसी औऱ से चुदूं … पर अभी तक हमें कोई भरोसे का कोई कपल या आदमी नहीं मिला है. मैंने पैंटी नहीं पहनी थी, तो मैं हड़बड़ी में उसका हाथ पकड़ने की कोशिश करने लगी. मैंने एक बार चूत चुदवा कर लंड का स्वाद चख लिया था और अब मैं अंकल की अगली पारी का इंतजार कर रही थी.

रंडी खाना का बीएफ वीडियो तो जल्द ही प्याज की तरह उजमा के कपड़े फर्श पर गिरते चले गए और मैं भी नंगा हो गया. रस्सी के सिरे को क्रॉस करके ऐसे घुमाया कि मेरे दोनों बूब्स भी उस फँदे में कैद हो गये.

अंग्रेजी चुड़ै

मैंने कहा- अभी तो एक लड़का रहता है मगर वो सर्दी में किसी काम का नहीं है. 5 इंच का है?तब जिगर बोला- मैंने कभी नापा नहीं है … और नापने भी नहीं आया हूं … साली चूत मरावनी. अब आगे की फेमिली सेक्स स्टोरी:समीर ने झट से अपना लंड जेठानी जी की गांड में पेल दिया.

मैंने धीरे धीरे उसके गांड में अपना पूरा लंड डाल दिया और उसकी गांड मारने लगा. फाड़ कर रख दो! उम्म्म याह्ह्ह … चोदो आह्ह … और जोर से चोदो … और जोर से अजय!अजय ने मेरे दोनों बूब्स को पकड़ कर दबाते हुए धीरे धीरे अपनी स्पीड बढ़ाई. कुत्ते और घोड़े की सेक्सी वीडियोमैंने उससे कहा कुछ नहीं, बस मुस्कुरा दी और लंड का मजा लेते हुए हंसते हुए उसे दूध पिलाने लगी.

वो भी मस्ती में बड़बड़ाने लगी- आंह … आह … और तेज चूसो … और तेज दबाओ … मज़ा आ रहा है … और तेज.

दूसरी औरत बोली- तो जंवाई बाबू यहीं आपके साथ होली मनाएं, जुग जुग जीवें. मैंने सीधे ही अनीता जी को खुले शब्दों में बोल दिया कि आज रात को सेवा करने आ जाऊं क्या?अनीता जी मुझे देख कर मुस्कुराने लगीं.

लावा निकालते वक्त मैं उसके होंठों के रस को पागलों की तरह पी रहा था. फिर जेठानी जी रवि को सोफे पर ले जाकर बोलीं- मेरे देवर जी, चलो आज आपको मैं आसमान की सैर कराती हूँ … तुम बस चुपचाप मज़े लो. वो बोली- अच्छा! ऐसा क्या है अनु भाभी में?मैं बोला- आपकी आंखें भी बहुत मस्त हैं.

मगर आपके पति भी तो होंगे घर पर?वो बोली- हां हैं, मगर उनसे कुछ होता नहीं है.

इतने में ही आकाश उठा और अपने लंड को मेरी सास के मुंह में पेलने लगा. मैंने घर जाकर कपड़े उतारते हुए पाया कि चूत पूरी गीली हो गयी थी और उसने मेरी गुलाबी पैंटी पर बहुत बड़ा धब्बा बना दिया था. मौसी- बताओ, क्या हो गया? क्या बात करनी है?मैं- दरअसल बात ये है कि धीरे धीरे मुझे तुमसे प्यार हो गया है और मैं तुम्हें अपनी आगोश में लेकर तुम्हारी उदासी दूर करना चाहता हूं.

ರೇಪ್ ವಿಡಿಯೋजितेन्द्र मां की चुदाई करते हुए कहने लगा- भाभी मजा आ गया … सच में तुम्हें पेलने में मुझे बहुत मजा आ रहा है. उसका शायरी करके मेरी तारीफ करना … दिल से कहूँ तो अजय को देखते ही मुझे ‘लव ऐट फर्स्ट साईट’ हो गया था.

चूत में लंड कैसे घुसता है

अब आगे की वर्जिन Xxx कहानी:मैं अपने कमरे में आकर बेड पर बैठ गया था. जोरों से भाभी अपनी गांड उछाल रही थीं और उनकी गांड चूत की पानी से लथपथ हुई जा रही थी. मैंने दरवाजे के की-होल में आंख लगाई, तो देखा कि सलमा की अम्मी पूरी तरह से नंगी हैं और वो लड़का उनकी चुत में लंड पेले हुए उन्हें धकापेल चोदे जा रहा है.

नेहा- आहह मजा आ रहा है आपके लंड से … आपकी रंडी बीवी की चूत फ़ट गयी है … उन्ह … बना दीजिए भोसड़ा इसको … आह आह्ह्ह फ़ाड़ दीजिए मेरी चूत को … आह और जोर से पेलिए. अगले दिन जब दोपहर में घर पर कोई नहीं था, तो उनमें से एक घर पर आ गया. उसने कहा- कैसे ना करती … आपने उस दिन मेरी रातों की नींद जो खराब कर दी थी.

मैंने उधर ही एक गिलास में मूत दिया और उसमें दारू मिला कर उसको हिलाकर उसके हाथ में दे दिया. मैं भी खुश हो रहा था कि सुबह सुबह सुन्दर सुन्दर लड़कियों के दर्शन होंगे. चाची ने कहा- संदीप … अरे और जोर लगा ना … थोड़ा ताकत लगा और अंदर पूरा पेल दे इसे.

मेरी फिर समझ में नहीं आया कि ये सब जेठानी जी को क्यों याद कर रहे हैं?मैंने उन दोनों को भी स्नेहा के रूम में बैठा दिया और उन्हें भी चाय-नाश्ता दिया. मेरी चाहत आंटी को चोदने की बन गई थी और मैं सोचता रहता था कि किस तरह से आंटी की चुत हासिल कर सकूँ.

कमरे में आकर हम दोनों ने कपड़ों को निकाल दिया और उसने मुझे एक गिलास दूध पकड़ा दिया.

उसका नाम नेहा था और वो हमारे घर पर किराएदार के रूप में रहने के लिए आयी थी. भाभी की चुदाई हिंदी में सेक्सीआपको मेरी इस मदमस्त कर देने वाली दो चूत की रगड़ाई वाली लेस्बियन सेक्स स्टोरी को लेकर क्या कहना है … और आपको मेरी लेस्बियन सेक्स स्टोरी कैसी लगी, प्लीज़ मुझे मेल जरूर करें. कॉलेजच्या पोरीचे सेक्सी व्हिडिओमैंने उसकी चूचियों को ध्यान से देखा और मेरे लंड का बुरा हाल होने लगा. ये कह कर मैंने नजमी को अपनी गोद में खींच लिया और अपने मुँह में एक पैग खींच कर उसके मुँह से मुँह सटा कर उसके मुँह में कुल्ला कर दिया.

फिर एक ऐसी घटना हुई, जिसने मेरे जीवन का मुझे पहला सेक्स अनुभव कराया.

उसने मेरे पैरों से गमछे को घुटनों के ऊपर चूत तक सरकाया और ऊपर से मेरी चूत तक सरकाया. भाभी मुझसे बोलने लगीं- वो हील्स की वजह से मुझसे बड़ी दिखती है और तुम मेरा मजाक बनाने में लगे हो. मैंने अपनी बीवी का चेहरा थाम लिया और पहले उसके माथे पर, फिर नाक पर, फिर दोनों गालों पर बारी बारी से चूम लिया.

जैसे ही मैं गली में चलने लगा तो थोड़ी दूर चलने के बाद मुझे आंटी दिखाई दे गईं. बिना समय बरबाद दिये उसने मेरे दोनों स्तन पकड़ लिए और मेरे मम्मों को जोर जोर से मसलने लगा. दोस्तो … मेरी इस फेमिली सेक्स स्टोरीहोली पर मेरी ससुराल में घमासान सेक्स- 4में अब तक आपने जाना कि रिया दी ने अपनी छोटी बहन स्नेह की चुदाई से परेशान होकर अपने पति दीपक जी सहित मुझे और जेठानी जी को अपना शिकार बनाना शुरू कर दिया था.

सेक्सी चोदने वाली फिल्म

नाजनीन- आंह … आन्न … साब और करो … आह साहब साहब और … मजा आ रहा है … आह. उस टेबल पर गुझिया, गुलाल और रंग रखा हुआ था और साथ ही ठंडाई के कुछ गिलास और जग रखा हुआ था. मेरा खड़ा लंड उनकी नजरों के सामने था, जिसको देखकर ऐश्वर्या देखती ही रह गईं.

कोई बीस मिनट तक मुझे चोदने के बाद समीर ने मेरे अन्दर ही अपना लंड झाड़ दिया.

चूंकि रिश्ते में वो मेरे ननदोई लगते हैं, इसलिए उनसे मज़ाक का भी रिश्ता है.

वहां पर इक्का दुक्का लोग ही थे इसलिए हम दोनों बेधड़क किस किये जा रहे थे और एक दूसरे के होंठों को चूसने का मजा ले रहे थे. कुछ देर बाद ससुर ने बहू की चुत में अपना रस गिरा दिया मतलब कंडोम में वीर्य त्याग करके वो अपनी बहू के ऊपर से उठे और कंडोम को हटा कर डस्टबिन में डाल कर अपने कपड़े लेकर कमरे से बाहर निकल गए. सेक्सी मौसी को चोदाफिर हमारी बात हँसी मज़ाक में बदल गई।फिर हम दोनों अपना समय काटने लगे.

उस पूरे बैग में पॉर्न फिल्में भरी हुई थी। वो दोनों पूरी रात पार्न फिल्में देखकर पार्टी करने वाले थे। रोहन ने बताया कि वो कई बार ऐसा करते हैं. लेकिन मैंने मेरा हाथ नहीं हटाया।मामी बोली- रोहित! मैंने तुझसे जो कहा था वो याद है या नहीं?मैंने कहा- मामी जी, मुझे आपकी चूत चोदनी है, मुझे तो बस यही याद है और कुछ याद नहीं आ रहा।मामी- नहीं, मैं तुझे ऐसा नहीं करने दूंगी. उनकी गर्म जीभ का अहसास पाकर मेरी चूचियों की घुंडियां एकदम से कड़ी हो गयीं.

फिर भाई ने अपनी टांगें सीधी की और मुझे अपने मुँह की तरफ मुँह करके अपने ऊपर बिठा लिया. मैंने उसी पल सनी का मोटा लंड पकड़ा और उस पर लिक्विड चॉकलेट लगा कर अपने मुँह में लेकर चूस दिया.

जब मां ने अशोक को देखा और उसकी बात सुनी, तो वह समझ गईं कि मैं इसके लंड से पेली जाऊंगी.

योगेश जी ने सब बाते क्लियर कर दी हैं न?मैंने सिर हिलाया और बाथरूम में घुस गई. वो व्याकुलता से बोली- कौन?मैंने चुटकी लेते हुए बोल दिया- वही, जिसका तू उस दिन खिड़की से देखकर कह रही थी कि एकदम कड़क लंड है. तभी देखा कि चाचू ने मेरी मां को डॉगी पोजीशन में कर लिया और पीछे से मेरी मां की चूत में लंड पेल दिया.

हिंदी सेक्सी ट्रिपल वीडियो उसने पूछा- अगर मैं प्रेग्नेंट हो गई तो?मैंने बोला- जानू कुछ नहीं होगा, मैं अपना पानी बाहर निकालूंगा … अन्दर नहीं. क्या भैया को दूध नहीं पिलाती हो?मैंने उसकी चूचियों को दबाया और कहा- यार नूतन तेरी तो बहुत बड़ी हैं … तुम क्या पूरी चुदाई में दूध ही चुसवाती रहती हो.

वो फोन पर किसी से बात करते हुए आ रहे थे और बोल रहे थे- जल्दी आ, अगर आना है तो। माल बहुत गर्म है फिर ठंडा हो जायेगा. अब मेरे दोनों स्तनों का आधे से ज्यादा हिस्सा बाहर को झलक रहा था। अपने आपको आईने में देखा और अपने हुस्न के जलवे से मुझे अपने पर गर्व होने लगा। मन में सोच लिया था कि भैया को दीवाना न कर दिया तो मेरा नाम भी सोनी नहीं।अब मैं पूरी तरह तैयार थी और मैंने हरी भैया को मैसेज किया कि जल्दी आइये, मैं घर पर अकेली हूँ।मेरी धड़कन जोर से बढ़ने लगी। घबराहट सी हो रही थी. 2 मिनट वो बेचैन सी होकर बैठी रही और फिर उठकर जाते हुए बोली- मैं बाद में आ जाऊंगी.

गांड झवाझवी

एक बार मैं कॉलेज जाने के लिए बस का इंतज़ार कर रही थी, तभी एक भीड़ से भरी हुई बस आ गई. जुबैदा उस समय कुतिया बन कर लंड से चुत चुदवा रही थी और जोर जोर से गरम आवाजें लेते हुए मस्ती से चिल्ला रही थी. लेखक की पिछली कहानी:पड़ोस की जवान हसीं लड़की की चूदाई की तमन्नाअन्तर्वासना के सभी दोस्तों को मेरा नमस्कार। दोस्तो, मेरा नाम विजय है और आज मैं अपने जीवन की एक सच्ची घटना आपको बताने जा रहा हूं.

फिर उसने पॉर्न फिल्में शुरू कर दीं। रोहन ने उसका ध्यान भटका कर रखा था और मौका देखकर मैं वहाँ से किसी तरह निकल गई। उस दिन के बाद भी मैंने और रोहन ने खूब मज़े किये।मैं अब लोकेश से पूरी तरह पीछा छुड़ाना चाहती थी। वो हमेशा मुझे परेशान किया करता था। मैंने रोहन से भी इस बारे में बात की थी। एक दिन मेरी और लोकेश की बहुत लड़ाई हो गई।मुझे उस दिन बहुत गुस्सा आया. उसकी बात सुन कर मुझे रोमांच भी पैदा हो रहा था और थोड़ी घबराहट भी हो रही थी.

दिल कर रहा था कि उसके बूब्स को जोर से पकड़ कर भींच दूं और उसके निप्पलों को चूस चूस कर काट लूं.

जितेन्द्र के निगाहों के सामने मेरी मां की भरी हुई चूचियां फुदकने लगीं. पापा को ये बात जंच गई और मेरे ना नुकुर करने के बावजूद मुझे जबरदस्ती तैयार करवा कर अंकल के साथ में भेज दिया. वो अपनी जांघें उठाकर चुत मेरे मुँह में देने लगी और ज़ोर ज़ोर से चिल्लाने लगी.

मौसी ने मुझसे कहा कि पायल आज मेरी ज़िंदगी का अब तक का सबसे बेस्ट सेक्स हुआ है … इतना मज़ा तो मुझे सुहागरात में भी नहीं आया था. फिर सर ने मेरे सिर को पकड़ लिया और मेरे मुंह में पूरा लिंग ठूंस दिया. वो फोन पर किसी से बात करते हुए आ रहे थे और बोल रहे थे- जल्दी आ, अगर आना है तो। माल बहुत गर्म है फिर ठंडा हो जायेगा.

पति का लंड इतना मोटा नहीं था और बहुत दिनों से मेरी चुदाई भी नहीं हो पा रही थी.

रंडी खाना का बीएफ वीडियो: किस करते वक़्त मेरा एक हाथ उसकी कमर पर था और दूसरे हाथ से मैं उसके मम्मों को सहला रहा था. मैंने दीदी जीजाजी की चुदाई में देखा था कि जीजा जी का लंड काफी बड़ा था.

फर्स्ट टाइम सेक्स हिंदी स्टोरी में पढ़ें कि मामा की बेटी अपने यार से चुदने गयी तो मुझे साथ ले गयी. मैंने फ़ोन उठाया ही था कि तभी मेरे फ़ोन पर नजमी का मैसेज आया कि ‘क्या कर रहे हो. मैंने अपना लंड निकाल कर मम्मी के मुँह में डाल दिया और उनके मुँह में ही झड़ गया.

जिस चूत से मैं पैदा नहीं हो पाया आज उसकी कमी मैं अपने लंड से चोद कर पूरी करने वाला था.

उसने अपने मुँह खोला और मैंने उसकी बाहर निकली जीभ और मुँह में अपना वीर्य गिरा दिया. मैं- अगर मैं आपसे और भी आगे निजी सवाल पूछूं तो आपको कोई एतराज तो नहीं है!ऐश्वर्या- नहीं … मेरी चुदाई से ज्यादा क्या पर्सनल हो सकता है. वो तो साला मेरी चुत को तो शांत नहीं कर पाता है … तो गांड क्या मारेगा.