और बेटा का बीएफ

छवि स्रोत,தமிழ் ஆன்ட்டி செக்ஸ் ஃபிலிம்

तस्वीर का शीर्षक ,

हद वीडियो क्सक्सक्स: और बेटा का बीएफ, फिर उसने भी मुझसे पूछा- तुम कितनी बार दिन में लंड हिलाते हो?मैंने कहा- कभी कभी तुम्हारी जैसी सेक्सी औरत या कोई सेक्सी लड़की देखता हूँ तो लंड बेचैन कर देता है, बस तभी हिला लेता हूं.

सेक्सी वीडियो मध्य प्रदेश

मेरे बाद तुम मेरी गांड मारोगे ना?मैं बोला- नहीं यार, मैं तेरे जैसा हरफनमौला नहीं हूँ. बफ सेक्सी विडियोअब आगे न्यूड यंग गर्ल सेक्स कहानी:फिर तीन दिन बाद मैंने अपने फार्म हाउस जाने का मन बनाया.

मैंने देखा कि पायल ने लाल साड़ी पहन रखी थी, जो उसके बदन पर एकदम टाईट पहनी हुई थी. क्सक्सक्स विलेज वीडियोमैं समझ तो पहले ही गया था कि अब संगीता भाभी चुदने की मूड में हैं, तो चुदाई कर ही देता हूँ.

वो सिसक रही थी और ‘सी आह आह ओह सी आह ओह ओह आह की आवाजें निकाल रही थी.और बेटा का बीएफ: उनकी गांड के दोनों फलकों को हाथों से दबाने और मसलने में काफी ज्यादा मजा आ रहा था.

उसके टॉप में हाथ डाल कर बूब्स मसलने लगा, फिर एक दूध बाहर निकाला और चूसने लगा.बस देखोगे ही या कुछ आगे भी सोचा है!मैंने कहा- बिना आपकी हरी झंडी के मैं कैसे कुछ कर सकता हूँ भाभी.

एक्सएक्सएक्स हॉट - और बेटा का बीएफ

मुझे न जाने क्यों काफी डर लग रहा था और आज मुझे अपने ब्वॉयफ्रेंड की काफी याद आ रही थी.हम दोनों 69 की पोजीशन में काफी देर तक एक दूसरे के लंड चूत चूसने का मजा लेते रहे.

उन लोगों ने बीयर और शराब पीनी शुरू कर दी और साथ ही रोमांटिक गाने चला दिए. और बेटा का बीएफ मुझे सिर्फ 15 दिनों में फर्क दिखने लगा मेरा लंड पहले से एक इंच बड़ा ओर मोटा हो गया.

हॉट Xxx आंटी चुदाई कहानी में पढ़ें कि मुझे शेयर मार्किट की एक्सपर्ट मिली तो मैं उससे मार्किट के गुर सीखने लगा.

और बेटा का बीएफ?

उसने कहा- दीदी कंडोम बाद में लगा लेंगे, पहले चमड़ी से चमड़ी रगड़ लेने दो. मैंने अपने लंड पर अच्छे से तेल लगाया, फिर उसी पोज़िशन में उसे लिटाया जिसमें मैंने लंड लिया था. फिर उसने मेरे दाने को मुँह में दबाया और बुर में तेज़ी से उंगली करने लगा.

मैंने उसे सीधा लिटाया और उसकी दोनों टांगों को अपने कंधे पर रख लिया. चारों स्त्री परीक्षक उनके लंड के ऊपर बैठकर बारी बारी उनको चोदने लगीं. मैं लेटने की बोलने लगा, तो प्रिया भाभी कहने लगीं- यहीं मेरे साथ में लेट जाओ.

मुझे चूमते हुए उसने मेरी सलवार कमीज दोनों ही निकाल दीं और अपने भी कपड़े निकाल दिए. मेरी सहेली ने कहा- देख, जैसे भी बने उसे सेक्स की गोली खिला देना … फिर तेरी प्यास बुझ जाएगी. अभी भाभी ने सलवार सूट पहन रखा था इस पोजीशन में चुदाई करने में थोड़ी मुश्किल आ सकती थी.

मैं अगले ही पल ये भी सोचने लगी कि मैं कौन सी सती सावित्री हूँ, जो अपने पति की चुदाई की बात सुनकर बुरा मानूं. फिर वो अपने हाथ से मेरा लंड जोर जोर से ऊपर नीचे करने लगी मेरे चेहरे को देखते हुए!दोस्तो, मुझे उस समय ऐसा लग रहा था कि मानो आज ज़ाफ़रा मेरी जान ही ले लेगी.

अपनी चूत पर मेरे होंठ लगते ही उसके मुँह से आवाज निकलने लगी ‘आईई ईई सीईईई ईई …’मुझे चूत चाटना पसन्द नहीं था पर सेक्स की मदहोशी में उसकी चूत को चाटने और चूसने लगा.

कुछ देर बाद मामी मेरे लिए दूध के आईं और हम दोनों फिर से चुदाई में लग गए.

स्कूल के जीवन से सीधा कॉलेज की जिन्दगी में आना काफी महत्वपूर्ण होता है. ऑफिस पहुंच कर पता चला कि जिस काम का आबंटन तीन महीने पहले हो गया था, वो शुरू ही नहीं हुआ था और लोग आक्रोश में थे. कुछ देर तक चूत चाटने के बाद सलोनी भाभी मेरे ऊपर आ गईं और मुझे किस करने लगीं.

जब उसकी सांसें मेरे लंड को छू रही थीं तो लंड में एक अजीब सी कसक उठ रही थी. तुम्हारे दादा ने बताया कि तुम्हारी मां रात को नीद की गोलियां खाकर सोती है. इंडियन चूत गांड चुदाई कहानी में मैंने पड़ोस की एक कुंवारी लड़की से दोस्ती करके उसके साथ फोन सेक्स किया.

वो मोबाइल की स्क्रीन पर देख कर बोलीं- सुनो, मैं इस चूतिया से बात कर रही हूँ, तुम चुप रहना.

इतने में मेरी काली रंग की ब्रा का हुक भी खुल गया और ब्रा एक झटके में ही मेरे बदन से अलग हो गई. सच में मस्त अहसास था वो!मेरी आह सुनकर शायद वो बिंदास हो गई और अगले ही पल उसने मेरे लोअर के अन्दर ही हाथ डाल दिया. बाद में हम दोनों ने अपने अपने कपड़े पहने और मैं अपने कमरे में चला गया.

कुछ देर बाद मैंने घुटनों के बल बैठ कर साली की चिकनी चूत काफी देर तक चूसा. मैंने भी पूरा लंड एक झटके में चूत के अन्दर तक पेल दिया और चोदने लगा. किशोर ने अपने एक हाथ से लंड को चूत पर सैट किया और दोनों हाथों को मेरी पीठ के नीचे ले जाकर मुझे कसकर जकड़ लिया.

वो कचरा निकालते वक्त बार बार झुक रही थीं, तब चाची के बूब्स साफ दिख रहे थे.

फिर मैंने ध्यान दिया कि वो कुछ तेज स्वर में आवाजें निकालने लगी और दरवाजे की तरफ को होकर अपनी चूत दिखाने लगी. वो मेरे कमरे से भले ही थोड़ी दूरी पर थी पर उस समय वीडियो में देखने से मैं जितना उत्तेजित हुआ था, उतना तो मिलने पर नहीं हो सकता थामेरा हाथ लंड पर जल्दी जल्दी चल रहा था और वो भी अपनी चूत में उंगली करके मुझे और ज्यादा गर्म कर रही थी.

और बेटा का बीएफ मैंने सोचा कि अब कोई ऐसा काम मिले, जिससे जितना भी लॉकडाउन क्यों ना हो, पर मेरा काम चलता रहे. मैंने चौंकते हुए कहा- अच्छा साली छिनाल … तभी तू मुझसे इतना चिपक रही थी.

और बेटा का बीएफ जब मुझे लगा कि अब अच्छे से तेल लग गया है तो मैंने उसे कंडोम पहनाया और उसके लंड को तेल की कटोरी में डुबो दिया. नाइटी पर दुपट्टा भी नहीं होता है, इसलिए मुझे मजेदार सीन दिख रहा था.

मेरी जान मेरी रंडी ये चूत इतनी गोरी और चिपकी हुई क्यों है और इस पर झांटों के नाम पर तो कुछ है नहीं है.

सेक्सी वीडियो देहाती देखने वाला

आज मैंने पहली बार किसी लड़की की चूत का पानी पिया था और अपना पानी उसे पिलाया था. दोस्तो, स्वाति भाभी जैसीगदरायी हुई आइटम की चुदाईकी सेक्स कहानी मैं आपको अगले भाग में पूरी करूंगा. अब आगे आंटी सेक्स डबल चुदाई कहानी:इस कारण आंटी ने हमारे साथ कहीं घूमने का प्लान बनाने के लिए कहा.

मॉम का पानी पेशाब की तरह पूरे उफान के साथ बाहर निकला और उसने मॉम को पूरा भिगो दिया. अगले दिन मैंने उसे ब्वॉय्ज टायलट में पकड़ लिया और उसे बाथरूम में बंद करके हड़काने लगा. एक दिन दोपहर को मैं क्रिकेट खेल कर घर आया तो देखा भाभी अपने कमरे में सो रही थीं.

शायद हम दोनों समझ चुकी थीं कि सेक्स में गाली से कितनी उत्तेजना बढ़ती है और मेरी मॉम की चूत में आग लग चुकी थी.

मैं जब पहली बार महेश चाचा के घर पहुंचा तो मैंने उनकी पत्नी सुमन को देखा. मैं भी उसका सहयोग करते हुए अपने दोनों हाथ पीछे ले गया और उसके चूतड़ों को अपने चूतड़ों पर दबाते हुए मैंने अपने पैर और ज्यादा फैला दिए. काम के व्यस्त रहने के कारण अशोक अपनी सेक्सी पत्नी सविता को बिस्तर पर संतुष्ट नहीं कर पाया था कई दिनों से!एक रविवार सुबह वह जगा तो उसे इस बात का आभास हुआ कि उसने काफी दिनों से सावी को नहीं चोदा है.

कुछ ही मिनट बाद भाभी का शरीर एकदम से अकड़ा और एक तेज आवाज के साथ ढीला पड़ गया. मैंने कहा- रुक … अभी ये क्या कर रहा है?वो बोला- दीदी, वीडियो में तो यही सब करते हैं, वही मैं भी कर रहा था. बचपन से अपनी चाची के यहां होने के कारण मैं अपनी चाची जी को मम्मी बुलाया करता हूं.

फिर उसने कहा- पहले तुम फ्रेश हो जाओ, मैं तुम्हारे लिए जूस लेकर आती हूँ. फिर मैंने तुम्हारे दादा को शराब के नशे में चूर कर दिया और घर में इस समय कौन कौन है, सब पता कर लिया था.

मैंने कहा- रुक … अभी ये क्या कर रहा है?वो बोला- दीदी, वीडियो में तो यही सब करते हैं, वही मैं भी कर रहा था. इससे मुझे भी जोश आ गया और मैं उसके चूचे चूसने लगा, साथ ही नीचे उसकी चूत में उंगली करने लगा. साथ ही साथ उनको भईया से कोई लेना देना नहीं रहता था, उनको तो अब मुझसे लेना देना रहता था.

मेरी हालत खराब थी; पहली चुदाई की वजह से गांड में बहुत दर्द हो रहा था.

चाची बोलीं- चलो तुम्हारा लंड अब मुरझा जाए, इससे पहले मेरी गांड का भी काम पूरा कर देते हैं. अब मैंने सोच लिया था कि आज में चाची को बोल ही दूँगा और इसलिए मैं डरते-डरते रूम के दूसरे दरवाजे से अंदर इस तरह गया कि उन्हें लगे कि मैं गलती से अंदर आ गया हूँ. मैंने अपनी हालत संभाली और कहा, अरुणिमा! विश्वेश्वर जी हमारे सबसे आदरणीय हैं, अच्छे से उन सबका लंड चूसो.

दोस्तो, मैं आपको बता देना चाहता हूँ कि वो इस तरह से कभी भी अपने पति के पास भी कॉल करके उनको नहीं बोलती थीं. आंटी के दोनों हाथ मॉम के 36डी नाप के मम्मों को मसलते हुए दबा रहे थे.

गांड में लंड लेते समय दर्द तो हुआ मगर कुछ देर बाद वो गांड चुदाई का मजा लेने लगी. उसने दरवाजा लॉक किया और पलट कर बोली- साले तूने डॉक्टर स्वाति को खूब चोदा … अब वो तो है नहीं तो मैं चाहती हूं कि मुझे चोद. अब इसी तरह मैं रोज अपनी पैंटी के ऊपर से ही चूत में उंगली रगड़ कर अपनी पैंटी उसके बाथरूम में रख देती और अपना सारा चूतरस उस पर छोड़ देती.

अरे सेक्सी फिल्म सेक्सी फिल्म

मेरी कहानी के तीसरे भागमेरी कुलीग चुद गयी बॉस सेमें आपने पढ़ा कि मैं वीनस अपने साथियों के साथ एक रिसोर्ट में थी.

साथ ही मैं खुद उसके ऊपर चढ़ गया और उसको चूमने चूसने लगा, उसके पूरे शरीर को सहलाने लगा. Xxx पंजाबी लड़की सिमरन भी पूरी चुदक्कड़ थी … या कहूँ चुदाई का पूरा मजा लेने वाली लड़की थी. मैंने साली से कहा- देखो, तुम्हारी दीदी ने हम दोनों को सेक्स के लिए पहले से ही तुम्हें सेक्सी ड्रेस दे दी.

अरुणिमा ने हंस कर हां में सर हिला दिया और मैं ऑफिस के लिए निकल गया. उन्होंने मेरे लंड के सुपारे को अपनी चूत के मुँह के पास सैट किया और फचाक से मेरे लंड के ऊपर बैठ गईं जिससे मेरा पूरा लंड चूत को चीरता हुआ अन्दर चला गया. राजस्थानी एक्स एक्समैं- फोन को स्पीकर पर रख दो और जैसा-जैसा मैं बोलूंगा, तुम वैसा ही करना.

ये कह कर मुझे सुनील जी ने एम्बुलेंस की चाबी दे दी जो उनके ऑफिस में ही थी. आंटी ने तुरंत पसीना पौंछा अपने और मेरे बदन से!फिर एक दूसरी ब्रा नीले रंग की प्रिंटेड पहन ली, जिसका हुक मैंने लगाया.

मुझसे चुदाई की थकावट से और दारू के नशे से सीधा खड़ा नहीं हुआ जा रहा था. मैंने कहा- ठीक है।अब मैं पूरा खुश था क्योंकि मेरी इच्छा पूरी होने वाली थी।अब मुझे किसी ऐसे शख्स की तलाश थी जिस पर मैं भरोसा कर सकता था और जो हमारी यह जरूरत पूरी कर सके।कुछ दिनों की खोज के बाद मुझे एक बंदा मिल गया. हमें साईट में विज्ञापनों के जरिए लंड की साइज बढ़ाने के लिए कुछ तरीके मिले.

मुझे डर लगने लगा कि कहीं भाभी इस हरकत को भाई से ना बता दें।तीन-चार दिनों तक भाभी ने मुझसे बात नहीं की।फिर एक दिन मैंने भाभी के रूम में कीहोल से देखा कि वह नहा कर केवल अपने बदन पर एक चुन्नी डाले हुए बाहर आई और शीशे में देख कर अपने शरीर को संवारने लगीं. मैं भी उसकी गांड की चुदाई पूरी मस्ती से कर रहा था मगर मैं अभी झड़ना नहीं चाहता था इसलिए मैंने गांड से लौड़ा निकाल कर उसकी टपक रही चूत में डाल दिया और ऐसे छेद बदल बदल कर उसे चोदने लगा. जब भी लंड का पानी निकालना होता, तो मैं लंड का माल चाची की चूत में या गांड में ही निकालता.

मैं उसे चोदते वक़्त उसकी गांड को अपने लंड के ऊपर भी दबा रहा था जिससे मेरा लंड उसकी बुर में और गहरा घुस रहा था.

उसी बुर पर छोटी छोटी झांटें उगी थीं और उसकी कमसिन बुर की मादक महक आ रही थी. मैं अब और नहीं रुक सकता था तो मैंने उसको नीचे लिटाया और पूरा उसके ऊपर लेट कर ताबड़तोड़ चूत चुदाई करने लगा.

शमशुद्दीन जी हंस दिए और बोले- भड़वे, हाथ मत जोड़ … सर मजाक कर रहे हैं. वो मेरे मोटे लंड को अपनी चूत में लेने के लिए पूरी तरह से पागल सी हो गई थी. अभी उनकी चूत में जब मेरा हब्शी बन चुका लंड अन्दर जाएगा, तब क्या हाहाकार मचेगा, वो मैं आपको अपनी चाची की देसी चुदाई की कहानी के अगले भाग में लिखूँगा.

भाई ने कहा- क्या बात है?मैंने कहा- मैं पहली बार सेक्स करूंगी तो मेरी चूत में दर्द होगा. बहुत लम्बा चिकना और मजबूत लंड था उसका … जिसके ऊपर लाल लाल हल्की नसें दिख रही थी. मैंने उनकी प्लाजो सलवार को थोड़ा ऊपर किया और हल्के हाथों से लगाना शुरू कर दिया.

और बेटा का बीएफ मैंने जाकर देखा कि मेरे दूसरे बाथरूम में भाभी पूरी तरह नंगी बैठी थीं और बाहर की तरफ पीठ करके भाभी नहा रही थीं. इस बार हम दोनों काफी मस्ती से चुदाई कर रहे थे और हम दोनों ने ही चार आसनों में चुदाई का मजा लिया था.

सेक्सी व्हिडिओ पिक्चर पाहिजे

उसने कहा कि तुम अपना नम्बर ही व्हाट्सएप ग्रुप में डाल दो, ताकि किसी लड़के वाले का फोन आए, तो आप बात करके मुझे बता देना. मैंने कामिनी की एक न सुनते हुए लंड अन्दर बाहर करना चालू कर दिया और कामिनी को चोदने लगा. बुआ ने मुझे बताया कि वो और नीलिमा कैसे सहेली बनीं और कैसे वो लेस्बियन सेक्स और थ्रीसम, ग्रोअपसेक्स करने लगीं.

मैं ही एक ऐसा मादरचोद इंसान था जिसने घर में सबकी जवानी का रस पिया था. भाभी मेरी आंखें नचा कर बोलीं- अरे वाह … अब ये भी बताओ कि तुम्हें मुझमें क्या अच्छा लगता है?मैंने कहा- आप पूरी की पूरी ही अच्छी लगती हो. सेक्सी वीडियो मोटी कीकोमल बोली- लगता है नीतू की शादी तब तक नहीं होगी, जब तक नीतू का जिस्म नहीं भरेगा.

मैं उस वेटर से बोली- क्या नाम है तुम्हारा?वो बोला- मनीष, मैडम मेरा नाम मनीष है.

मैंने वैसलीन की डिब्बी से थोड़ी सी वैसलीन निकाल कर लंड के ऊपरी भाग में लगाई और धीरे धीरे अपने लंड को सहलाने लगा. जब रात हुई तो मैंने घर के बाकी सदस्यों के साथ खाना खाया और ऊपर छत पर सोने के लिए बिस्तर लगा लिया.

मैं उसको तड़पा रहा था लेकिन जब ज़्यादा देर हो गई … तो मैंने अपना लंड उसकी चूत पर रखा और धक्का दे दिया. काफी देर तक गांड चुदाई के बाद मैं झड़ने वाला था तो उसने बोला- गांड में ही रस डाल दो. रात को उसने वीडियोकॉल पर अपनी टांगें उठा कर अपनी गांड में अपनी उंगली पेल कर मुझे दिखाई.

कामिनी- आह और जोर से मसलो मेरे चूचों को … पी लो … खा जाओ इन्हें!इस समय कामिनी चुदासी होकर अंटशंट बोले जा रही थी.

वो उधर दर्द की वजह से मेरी पीठ मसलने लगी।फिर मैं एक हाथ उसकी नाभि से ले जाते हुए उसकी पेंटी के ऊपर फेरने लगा. वो ज़ोर से चिल्लाई- ऊऊई मम्मी रे … मर गई आह फट गई मेरी चूत … आंह साले लंड बाहर निकाल मादरचोद. पर हमारे गांव में एक कहावत है कि अगर लड़की मर्द के सामने अपना नाड़ा खुद खोले, तो वो साला नामर्द है.

காலேஜ் செக்ஸ் வீடியோ தமிழ்मैडम की निगाहें मेरे उभरे हुए पैंट पर थीं, जो कि मेरे पैंट के अन्दर से झांकते हुए लंड को देख रही थीं. मैं उससे बोली- अंकल, आपको कुछ चाहिए क्या?वो बोला- हां, मुझे तुम चाहिए.

गाय और बैल की सेक्सी वीडियो

मैंने उससे पूछा- अब कब मजा लेने आओगी?वो हंसने लगी और बोली- अब तो चूत के लिए लंड मिल गया है तो मेरी चूत बार बार लंड के लिए मचलेगी. चुदाई के बाद थकान बहुत ज्यादा हो गई थी तो हम दोनों नंगे ही चिपक कर सो गए थे. कोई भी मर्द या लड़का मुझे देखेगा तो उसी पल मुझे चोदने का मन बना लेगा.

जब मैं ज्यादा नहीं थूक पाया तो उसने मेरे मुंह में उंगली डालकर जबरन थुकवाया और उस थूक को अपने डिल्डो पर लगा लिया. रीना मेरी दोनों टांगों के बीच घुटने के बल बैठ गयी और अपनी कमर पर बंधा डिल्डो मेरी चूत में डालना शुरू कर दिया. मैं उसके दोनों पैरों के बीच में आ गया और अपने लंड को उसकी चूत पर रखकर आहिस्ता से पहला धक्का लगा दिया.

कसरत में मदद के समय कोई लड़का जब मुझे छूता, तब मुझे बहुत अच्छा लगता था. पहली बार कमीने दोस्तों से मुठ मारने की बात जब पता चली तो घर पर अपने बाथरूम में पहली बार इस कला को ट्राई किया. मेरा दिल धक् धक् करने लगा और मैंने कुछ कदम आगे बढ़ कर डाइनिंग रूम में झांका.

फिर उन्होंने मुझे नंगा किया और चाची ने मेरा लंड देखा तो हैरान रह गईं. बातों बातों में पता चला कि भाभी के पतिदेव अपने काम के चलते उन्हें ज्यादा समय नहीं दे पाते हैं.

थोड़ी देर लगातार धक्के लगाने के बाद ही सिमरन आवाज निकालने लगी- आंह … मैं तो गयी आंह आह!वो ये बोलकर मेरे बदन पर निढाल होकर गिर पड़ी.

उनके जाने के कुछ देर बाद हम दोनों 69 में आ गए और एक दूसरे का लंड चूस रहे थे. दासी क्सक्सक्सअब आज वही होने वाला था, बस फर्क इतना था कि भाभी के ऊपर उनके पति की जगह में चढ़ा था. सेक्स विडिओ देशीआपको कुछ हुआ है क्या?उसकी मम्मी ने कहा- बेटे में काम कर रही थी और गिर गई. मैं जाने लगा तो पायल ने मेरा हाथ थाम लिया और बोला- कल नहीं, आज रात को तुम मेरे साथ रहोगे … आज पूरी रातचुदाई की रातहोगी.

हम सब तेरी चूत की गर्मी को ठंडा करने के लिए ही आज तुझे पानी की टंकी में चोदने का खेल खेल रहे हैं.

वो दिन भी करीब आ गया जब उसकी मम्मी मुझसे रात में उसके घर पर सोने के लिए बोल कर छोड़ कर चली गईं. विक्रम मॉम की छाती पर बैठ गया और बोला- चल साली मां की लौड़ी, अपनी दोनों मोटी चूचियों के बीच में मेरा लंड दबा. मैंने पांच दिन बाद आखिरकार उसे बता ही दिया कि गुंजन के पापा मना कर रहे हैं.

इसके बाद मेरे होंठ उनके वक्ष स्थल के बीच में उतर गए और चुम्बनों की बाढ़ लगा दी. मैंने सर हिला दिया तो उसने कहा- आप भी कमाल करते हैं, मुझे उन सबसे चुदवाना था, ये मुझे पहले ही बता देते. दोस्तो, स्वाति भाभी जैसीगदरायी हुई आइटम की चुदाईकी सेक्स कहानी मैं आपको अगले भाग में पूरी करूंगा.

प्राण्यांचा सेक्सी

करीब 5 मिनट तक अंकल मेरी चूत के दाने को सहलाते रहे और मेरे होठों को चूसते रहे और लंड अंदर चूत में बिना किसी हलचल के अंदर ही रखा।जिससे वो बड़े लंड का दर्द खत्म हो गया था और अब मुझे दर्द में थोड़ा आराम मिला।फिर अंकल ने हल्के हल्के धक्के मेरी चूत में लगाने शुरू किए. उसने अपनी आंखें खोलीं, अपना चेहरा मेरे चेहरे से थोड़ा दूर करके मेरी ओर देखा. उसमें मैंने आपको बताया कि कैसे मैंने अपने ही पड़ोस के शर्मा अंकल से अपनी चूत की सील तुड़वाई और दिन में तीन-तीन बार अलग-अलग आसनों में चुद कर कुछ ही दिनों में एक शानदार चुदक्कड़ रांड बन गई थी.

वैसे भी मैं अपने से बड़ी उम्र के शर्मा अंकल से चुद चुद कर बोर हो गई थी.

वो बोली- हां बे साले समझ गई … तुझे मेरे मुँह में लंड देने की ज्यादा चुल्ल होती है.

मेरा लंड फिसलता हुआ उसकी चूत की गहराई में उतरने लगा और प्रिया की अचानक से चीख निकल पड़ी ‘नहींई आआह मम्मीई. तभी मैं वहां पहुंच गया और स्टूल पकड़ लिया, जिससे आंटी का बैलेंस बना रहे. चुदाई पोर्न वीडियोमैंने उसकी फोटो को देख के मुठ भी मार ली।अब मैंने सोचा कि क्यों न सेक्स करने के लिए दोस्त की गर्लफ्रेंड सोनी को राजी किया जाये। मैंने हॉट गर्ल लस्ट का फायदा उठाने की सोची.

इसी क्रम में पहले टीवी में कम कपड़ों में दूध हिलाती अभिनेत्रियां, फिर अखबार में विज्ञापनों के कामुक चित्रों को देखकर सिलसिला शुरू हुआ. मैंने अपने दोनों हाथ पलंग पर फैला दिए और ऐसा फील करने लगा, जैसे मैं आसमान की ऊंचाइयों को छू रहा हूं. अगले भाग में मैं फौजिया की चुत की सीलतोड़ चुदाई की कहानी का मजा लिखूँगा;मेरी जवानी का सेक्स कहानी के इस भाग पर मुझे आपके मेल का इन्तजार भी रहेगा.

फिर मैंने भी भाभी के मम्मों के साथ कुछ नहीं किया और सीधे भाभी के नीचे की तरफ आ गया. फिर विश्वेश्वर जी चोदना रोक कर अरुणिमा के मम्मों को और निप्पलों को चूसने लगे.

तो उन्हें डर था कि उनकी चूत में ही लंड इतना दर्द देकर गया है तो कहीं शानू मेरी गान्ड ना मार ले।मैंने उन्हें विश्वास दिलाया- भाभी, आप चिंता मत कीजिए, मैं आपकी गांड में लौड़ा नहीं डालूंगा.

कोमल बहुत डरी हुई थी क्योंकि वो बिना मां की लड़की थी, उसे बदनामी से बहुत डर लग रहा था. चारों स्त्री परीक्षक उनके लंड के ऊपर बैठकर बारी बारी उनको चोदने लगीं. ये सिलसिला इतना आगे तक गया कि मैं क्लास में पीछे की बेंच पर अकेले बैठता और साथ पढ़ने वाली लड़कियों को देखकर मुठ मार लिया करता.

ब्लू हॉट सेक्सी वो जब अपनी चूत में अपनी उंगली डालती थी तो अपने एक हाथ से अपनी चूची को मसल कर आह आह कर रही थी. होंठों पे होंठ चल रहे थे।आंटी एकदम मदहोशी में नीचे सरकने लग रही थी, मोटी जांघ को कैसे भी मैं खींच के ऊपर लाता।उनको लेट के चुदने का मन हो गया था पर इतना वक़्त नहीं था।10 मिनट की चुदाई खूब हुई।मैं खुद पे काबू न कर सका और चूत में झड़ गया.

चाची ने मुझे ऊपर से हटाकर बेड पर धक्का दे दिया जिससे पक की आवाज के साथ मेरा मुरझाया हुआ लंड चाची की गांड से बाहर निकल आया. उन्होंने जोर जोर से किसी मदांध सांड के जैसे झटके मारे कि मेरी जान ही निकल गई. मेरे रोकने से वो दोनों रुकने वाले तो थे नहीं, तो मैं बाहर आकर बैठ गया.

3 प्लस सेक्सी

मैंने कहा- तो उससे चिड़िया भी नहीं मर पाती है क्या?वो गहरी सांस लेकर बोलीं- उस बंदूक से चिड़िया मर पाती तो तुम्हारी भाभी तुम्हारे पास न बैठी होती. वो मेरी छाती को भूखी बिल्ली की तरह चाट रही थी, कभी मेरे 6 पैक्स को, कभी मेरी सीने के निप्पल को. अब मैं जल्द ही आने वाले समय में फेमस पोर्न स्टार्स में शामिल हो जाऊंगी.

करीब 20 मिनट के बाद मेरा शरीर अकड़ने लगा और अचानक से मेरे लंड से धीरे धीरे करके सफेद रंग का कुछ तरल पदार्थ निकलने लगा. मैंने अपना लंड भाभी की साड़ी के ऊपर से ही उनकी गांड में सैट कर दिया और पीठ पर किस करने लगा.

पापा ने बहुत दिनों से चुदाई का सुख नहीं लिया था इसलिए उनका जी नहीं भरा था.

मैंने देर ना करते हुए अपना मूसल उसकी चूत पर रखा और एक धक्का लगा दिया. वे समझ नहीं पा रहे थे कि कोई पूल को देख कर लौड़ा क्यों हिलाएगा।तभी मुझे एक तरकीब सूझी, क्यों ना धीरज और दीपक दोनों को अपनी और सफाई कर्मचारी की चुदाई का लाइव पोर्न दिखाया जाए।मैं पूल से गीला बदन लिए बाहर निकली. नमस्कार दोस्तो, मैं राज शर्मा!आपका हिन्दी सैक्स कहानी पर स्वागत है।दोस्तो, जैसा कि आप मेरी कहानीविधवा बुआ को चोदा उसी के घर मेंजान चुके हो कि मैं अपनी बुआ को चोदता हूं।यह नई बर्थडे सेक्स कहानी भी मेरी उसी बुआ की चुदाई की एक सच्ची कहानी है।इनका नाम बबली है.

मैं देख रही थी कि वहां जितने भी लड़के थे, सब मुझे ललचाई नजरों से देख रहे थे क्योंकि मैं श्रीदेवी की तरह तैयार होकर आई थी और गजब की सेक्सी लग रही थी. कुछ देर बाद मैंने उनकी टांगें नीचे की और अपना पूरा वजन भाभी के ऊपर रख दिया. उसने थोड़ा विरोध किया तो मैंने डांटते हुए कहा- कुछ नहीं करना था, तो बुलाया क्यों … अपना वादा भूल गयी क्या?उसने कहा- ठीक है, अगर तुम यही चाहते हो, तो कर लो अपनी मर्जी पूरी.

मैंने नैना के माथे पर किस किया और उससे कहा- नैना, आज अपनी रात का मजा ले लो … तुम भूल जाना कि वो मेरा कजिन है.

और बेटा का बीएफ: मैं बोला- भाभी, किसी को कुछ पता नहीं चलेगा, यह बात सिर्फ हम दोनों के बीच रहेगी. विश्वेश्वर जी बोले- थोड़ा इस रंडी को सीधा कर, ऐसे में ही मैं भी इसकी चूत मार लेता हूँ.

चाची ने अपना दुपट्टा मुँह से ढक दिया और फिर से आगे की ओर हाथ लाकर बांध दिए. मैंने भी देर नहीं करना चाही और जल्दी जल्दी से अपने पूरे कपड़े निकाल कर दूर फैंक दिए. चाटने और सूंघने के बाद मैं अपने भाई के अंडरवियर को अपनी चूत में रगड़ लेती थी.

धीरज थे- मिल गया कमरा! हम्म्म … काफी अच्छा है ये वाला भी … चलो ठीक है। पता है न एक घंटे में कॉन्फ्रेंस हॉल में मिलना है.

मैम ने मेरे नाम से शेयर बाजार में बिजनेस करना शुरू किया और मुझे भी ढेर सारी कमाई करवा दी. वेटर मनीष वापिस अपनी जगह पर चला गया और तीनों साथियों को साईड लाकर उनसे बात करने लगा. परंतु वरूण ने बहुत टाइम लगाने के बाद हां की क्योंकि उसका मन म्यूजियम जाने को था.