हिंदी बीएफ चाहिए हिंदी बीएफ चाहिए

छवि स्रोत,ट्रेक्टर वाली गेम

तस्वीर का शीर्षक ,

एचडी बीपी सनी लियोन: हिंदी बीएफ चाहिए हिंदी बीएफ चाहिए, फिर उन दोनों ने मुझे बहुत देर तक उसी अवस्था में चोदा और आखिर काफी देर बाद हम तीनों ने एक साथ पानी छोड़ दिया.

ಸೆಕ್ಸ್ ಪಿಚ್ಚರ್ ವಿಡಿಯೋ ಕನ್ನಡ

कुछ ही पलों में मेरे कमरे की घंटी बजी, मैंने दरवाज़ा खोला और मेरे सामने मेरे सपनों की रानी खड़ी थी. कॉलेज का लड़का लड़की का सेक्सी वीडियोरात को मैं अपनी चुत में मेरा फेवरिट 11 इंची वाईब्रेटर घुसेड़ कर नंगी हो सो गई.

महीने में दो-तीन बार रीना कविता को अपने पास बुला लेती है और साथ डिनर के लिए, पर कविता उसके लाख रोकने पर भी कभी रात को नहीं रुकी. इंडियन सेक्सी हिंदी में वीडियोउनके चुच्चे 36 इंच के थे, इस कहानी में मैं भाभी को चंद्रा नाम से कह रहा हूँ.

वो घबरा गई और बोली- जीजू कुछ होगा तो नहीं?मैंने कहा- तुम टेंशन मत लो.हिंदी बीएफ चाहिए हिंदी बीएफ चाहिए: मैं मर गई!मैं एकदम से रुक गया, क्योंकि चुदी हुई चुत को चोदने में चिल्लाहट का क्या काम! मुझे लगा कोई गड़बड़ हो गई है.

वो भी चुद रही थी, उसने अपना फोन टेबल पर गुलदान से टिका कर रखा हुआ था.इससे वो और मस्त हुए जा रही थी, वो मुझे बोल रही थी- जल्दी डालो ना प्लीज़.

सनी लियोन की सेक्सी वीडियो सनी लियोन - हिंदी बीएफ चाहिए हिंदी बीएफ चाहिए

com/teen-girls/padosi-sangita/ बुर में उंगली डाल कर अन्दर बाहर करता.मेरी उम्र 39 साल है, पर कोई भी मुझे देख कर यह नहीं कह सकता है कि मेरी उम्र 39 साल की है.

अब तक की इस सेक्सी कहानी में आपने पढ़ा था कि सुमन की मॉम की रिंग को टीना ने भिखारी के पजामे में डाल दी थी।अब आगे. हिंदी बीएफ चाहिए हिंदी बीएफ चाहिए खजुराहो तो वो यह तय करने के बाद कि उन्हें शादी करनी है, कर लिया था.

वो तो मर ही गई थी… वो पसीने से लथपथ हो चुकी थी… उसके चेहरे का रंग बदल गया था.

हिंदी बीएफ चाहिए हिंदी बीएफ चाहिए?

गुलशन- अच्छा ये बात है तो चल आज मैं तुझे सुला देता हूँ जैसे पहले सुलाता था. वो सिहर सी गई, उसे बहुत पेन हो रहा था, उसको लेकिन मज़ा भी आ रहा था. ‘इह्ह्ह ओह्ह्ह ह्ह्हह्ह ओह्हह्ह आआ ओ ओ ओ इ इ’ कहते हुये सरिता ने रमेश के हाथ को पकड़ लिया.

मैंने कहा- क्या तुम मुझे प्यार नहीं करती?तो वो बोली- ऐसी बात नहीं है. गुलशन जी ने टी-शर्ट थोड़ी ऊपर की तो सुमन आगे की ओर झुक गई- पापा थोड़ा ऊपर करो ना प्लीज़. शहज़ाद का होंसला बढ़ा और उसने घुमा कर मेरी गर्दन में हाथ डाला और मेरा चेहरा अपनी तरफ कर के मेरे होठों पर अपने होंठ लगा दिए.

बात करते करते उसने मेरा हाथ थाम लिया तो मुझसे रहा नहीं गया और मैंने पलट कर सीधे अपने होंठ उसके होठों पे रख दिए. सो गए।फिर सुबह उठ कर अपने रुटीन के कामों में लग गए। शाम को सुकांत और मैं फिर दस बजे रात तक मिले, वह मेरे बेड पर आकर लेट गया।सुकांत बोला- सर आपने कल मजा बांध दिया. उसका बायाँ बाजू मेरे कंधे के ऊपर से मेरी पीठ पर था तथा उसने उससे मुझे जकड़ा हुआ था और उसका दायाँ बाजू हम दोनों के बीच में था तथा उसका वह हाथ मेरे लिंग पर रखा हुआ था.

मेरी पड़ोसन गर्लफ्रेंड की चुदाई स्टोरी कैसी लग रही है?पड़ोसन गर्लफ्रेंड की चुदाई स्टोरी का अगला भाग:माँ को चोद कर बेटी की फैंटसी पूरी की-2. बस उसके बाद वापस शुरू करेंगे क्योंकि तेरी जैसी कमसिन चुत मुझे बार बार नहीं मिलने वाली.

मैं पीछे से ही सुमन भाभी के मम्मों को दबाने लगा और उनके निप्पलों को मसलने लगा.

तेरी चुत प्यासी होगी ना!मोना- नहीं गोपाल मैं बहुत थकी हुई हूँ मुझे सोना है.

एक दिन पापा कहीं गए हुए थे, तो मैंने सोचा क्यों ना आज झांटें साफ़ कर ली जाएं. मुझे वो पल बहुत ही सुहाना लगा, अब मेरा भी अकेलापन दूर हो गया था, सो हमने बहुत देर बातें की. अब तक की इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि जॉन ने अपनी चचेरी बहन फ्लॉरा को चोद कर उसे कुछ ही दिनों में पक्की चुदक्कड़ बना दिया था.

नहीं एयेए आह…फ्लॉरा को अब डबल मजा मिल रहा था तो वो कहाँ तक टिक पाती. लेकिन बहूरानी ने मंगल को भी मेरी दाल नहीं गलने दी, कहने लगी कि जब इतने सालों से व्रत रहते आये हो तो क्यों तोड़ते हो? मैं कोई भागी जा रहीं हूँ कहीं. ‘मैं भी चाहता हूँ कि ये देर तक हम लोगों के लंड चूसे!!’ मैंने भी अपनी कामना उजागर की.

तुझे भी गिफ्ट्स मिलेंगे और मुझे भी न्यौछावर मिलेगी आखिर नाई हूँ ना और हो सकता है मोहल्ले की लेडीज अपनी अपनी पिंकी का मुंडन करवाने मुझे ही बुला लें.

मैंने भी उनकी भावनाओं का सम्मान करते हुए उनके साथ मुफ्त सेक्स कर उनको पूरी तरह संतुष्ट किया. उन्होंने डरते हुए अपना एक हाथ सुमन के एक चूचे पे रख दिया, मगर उन्होंने कोई हरकत नहीं की, बस चूचे पर हाथ रखे हुए सुमन के चेहरे को देखते रहे. आप दुनिया के सबसे अच्छे पापा हो।सुमन ने गुलशन जी को इतना कस कर पकड़ा हुआ था कि उसके चूचे वो अपने सीने में धंसते हुए साफ महसूस कर रहे थे। फिर इस वक्त उन्होंने सिर्फ़ बनियान और लुंगी ही पहनी हुई थी, जिससे जवान जिस्म की गर्मी उनको पागल बना रही थी। उनका लंड तन गया था और सुमन की नाभि को चुत समझ कर उसमें घुसने की कोशिश कर रहा था।सुमन को इस बात का अहसास हुआ या नहीं.

वहां पर एक पंजाबी शादी थी और आपको तो पता ही है कि पंजाबी लड़कियों में खूबसूरती तो कूट-कूट कर भरी होती है. टीना ने सुमन का हाथ पकड़ा हुआ था वो उसको लेकर सीधे बेड के पास आ गई. ऋतु- तुमने तो मुझे अपने वीर्य की लत लगा दी है… कितना मजा आता है तुम्हारा लंड चूसने में और तुम्हारा वीर्य पीने में!मैं- मैं भी तुम्हारे मीठे रस का शौकीन हो चुका हूँ… जी करता है सारा दिन तुम्हारी चूत चूसता रहूँ.

मेरी गर्दन नीचे झुकने से जैसे ही मेरा चेहरा उसके पास आया उसने अपना सिर ऊँचा करते हुए मेरे होंठों को चूम मुझे कस कर जकड़ लिया.

पर मेरा दिल वही लगा रहा, काफी दिन बीत गए पर मुझे उसकी याद आती रही, पर मैं अपनी पढ़ाई और काम मे व्यस्त हो गया, और वक़्त के साथ साथ उसकी यादें धीरे धीरे धुँधली पड़ने लगी. मैंने उसे ‘किस’ किया और वह बाय कह कर जाते हुए बोल गई कि सांय 8 बजे के बाद फोन पर बात करेंगे.

हिंदी बीएफ चाहिए हिंदी बीएफ चाहिए अब उससे रहा नहीं जा रहा था, वो सेक्स के लिए बहुत हॉट हो रही थी तो उसने मुझसे कहा- प्लीज विक्रम, चोदो मुझे… मैं और नहीं रुक सकती. उसी दिन शाम को मैं जिम जा रहा था तो वो रास्ते में मिल गई।मैंने कहा- देख, ये पेन किलर की गोलियां हैं.

हिंदी बीएफ चाहिए हिंदी बीएफ चाहिए सासू माँ जब हाथ को पीछे करतीं तो लंड का मोटा सुपारा अपने बिल से बाहर निकल आता. उन्होंने पूरी ताकत लगा कर चूतड़ों को ऊपर किया तो मेरा लंड चूत से बाहर आ गया.

लेकिन मैंने शादी के बाद एकदम साफ़-सुथरी जिन्दगी बिताने की सोची, मैं अपने पति अशोक को धोखा नहीं देना चाहती थी.

सेक्सी बप वीडियो

दोस्तो कहानी बहुत लंबी हो गई है तो अब थोड़ा फास्टली आपको बताती हूँ ताकि बहुत ज़्यादा काम की बात ही आपको बताऊं बाकी को जाने देती हूँ. तो मैं बोली- प्लीज गांड नहीं!सुरेश बोला- चुप चाप रह, हम जो करते है. ऐसी क्या बात हो गई?फ्लॉरा ने इधर-उधर देखा फिर कहा।फ्लॉरा- यार जिसने शुरूआत की थी.

मैं भी उसके पीछे पीछे चलने लगा क्योंकि मैं अब उसे छोड़ना नहीं चाहता था. अब हम दोनों ही अपनी पार्टनर की चूचियों को तेजी से मसलने लगे, जिससे वो और भी मस्त होकर अमरीकन लंड को अपने अन्दर लेने लगी और स्वान संग हमारे लंड चूसते-2 उसने दांतों से हल्का-2 काटते हुए, स्वान के लंड को ऊपर को उठा दिया और लटकते हुए अण्डों को अपनी गुलाबी जीभ से चाटने लगी. भाभी एकदम मदहोश हो गई और झट से मुझे नीचे पटक कर मेरा लंड मुँह में लेकर चूसने लगी.

पण्डित जी ने चाय नाश्ता बना कर मेरे कमरे में अपने नौकर के हाथ भिजवा दिया.

गुलशन जी ने मौके का फायदा उठाया और सुमन की टी-शर्ट में हाथ डाल कर अबकी बार बारी-बारी दोनों मम्मों को अच्छे से दबाया और मसला. आज उन्हीं के आग्रह पर मैं मेरे और उनके बीच हुए एक अत्यन्त कामुक रोमांचित और आनन्दमयी सेक्स समागम का यहाँ वर्णन करने जा रहा हूँ. मेरे दिल की धड़कन बहुत तेज़ी से चल रही थी पर मुझे पता था कि अगर मलाई खानी है तो मुझे थोड़ा संयम बनाये रखना होगा.

मैं जितना सुमन से दूर जाना चाहता हूँ, हालात मुझे इसके और करीब ला रहे हैं. रानी के मुंह पर पीड़ा के चिह्न उभरे लेकिन वो दर्द को पी गई पर मुंह से कुछ न बोली. कुछ समय के बाद बात करते हुए वो अपनी जगह से आगे बढ़ते हुए रेलिंग से नीचे झांकते हुए कुछ देखने लगा जिससे उसका लंड पूरी तरह से मेरे हाथ से टच हो गया और मेरा हाथ उसके लंड और रेलिंग के पाइप के बीच में दब गया.

उसने पूजा और अपनी चूत की तरफ इशारा करके दोनों को अपनी चोइस लेने को कहा. राहुल जितना पैसे वाला था, उतना ही साधारण जिन्दगी जीने वाला!आप सबको मेरी इंडियन सेक्स स्टोरी कैसी लगी मुझे मेल कीजियेगा.

कहावत है ना ‘दूध का जला छाछ भी फूँक फूँक के पीता है…’ इसी लिए जैसे ही मैंने उसकी योनि पर हाथ रखा, मैं एकदम रुक गया, उसकी तरफ देखने लगा तो वो पूछने लगी- क्या हुआ? रुकक्यों गया?मैं बोला- तुम्हारी अनुमति चाहिए. कुछ ही देर में वो झड़ गई थी क्योंकि उसका गर्म लावा मुझे मेरे लंड पर महसूस हुआ. सबीना बोली- भाभीजी, मैं राजेश की तेल मालिश कर देती हूँ, आप खाना बना लो!मैंने बताया कि सब घर में नंगे ही रहेंगे और जमीला की किचन में सभी मदद करेंगे जिससे हम फिर से मिलकर मस्ती कर सकें.

अब वो अब अपनी पूरी आन बान और शान से फहरा रहा था रानी बहू रानी की चूत के सामने!‘वाओ… ग्रेट!’ रानी चहक कर बोली और मेरा लंड थाम लिया अपने हाथ में फिर इसे ऊपर नीचे कर के चार पांच बार मुठियाया और इसे मसल कर दबा कर इसकी कठोरता को परखा और संतुष्ट होकर मेरी तरफ मुस्कुरा के देखा.

‘मेरे राजा सुनो, धक्के लगाना बन्द करो और चुपचाप पड़े रहो चूत में लंड फंसाए, आप हिलना नहीं बिल्कुल. बैंक के आस-पास हो तो मुझे भी छोड़ दो।तो वो बताने लगी कि बैंक में उसका काम 5 बजे ही खत्म हो जाता है. कविता ने आज बहुत दिनों के बाद व्हिस्की ली थी तो उसे सुरूर सा हो रहा था.

बैंक के आस-पास हो तो मुझे भी छोड़ दो।तो वो बताने लगी कि बैंक में उसका काम 5 बजे ही खत्म हो जाता है. मैंने उसकी आँखों को पौंछा और उसे धीरज बँधाया तो वो मुझसे गले लग गई और फिर हम कब एक दूसरे में खो गये, हमें पता ही नहीं चला.

ये बातें दिमाग में चलते-चलते मुझे नींद आ गई और सुबह 8 बजे मां ने मुझे फिर उठा दिया. उसके बाद जब माला नीचे बैठी अपनी योनि को पानी से धो रही थी तब मैंने शावर खोल दिया और माला को खींचते हुए उसके नीचे अपने साथ नहलाने लगा. फिर घर वालों ने उन दोनों को समझाया और उसने भी सोचा कि डाइवोर्स लेकर क्या होगा, इससे उसके घर वालों की ही परेशानी बढ़ेगी.

राजस्थानी ब्लू सेक्सी पिक्चर

इतने में ही उसने अपने झटके थोड़े तेज कर दिए और तेजी से आह आह करने लगा.

‘आपको नहीं पता तिवारी जी? यह डिलडो है, मतलब एक कृत्रिम लंड, जब प्रिया गई तो मुझे यह डिलडो गिफ्ट कर गई, और अब से जब मुझे कभी भी चुदवाने का मन करा करेगा न? तो मैं इस डिलडो से अपनी प्यास बुझा लूँगी. मगर उस वक़्त पता नहीं था और एक बात बताऊं, अंकल ने शादी नहीं की थी मगर चुदाई बिना वो रहते भी नहीं थे. समझी! अरे आज सुबह जो तू चिपकी वो क्या था हाँ? तूने उन्हें चैक किया ना.

मैं खुद को बचाने की बहुत कोशिश करता हूं पर मेरी कामना भी जाग जाती है और मैं अपनी बहूरानी को चोद डालता हूं. मुझे भी उसकी चुदाई करनी थी, तो मैंने चुत के अन्दर एक धक्का लगा दिया. প্রিয়াঙ্কা চোপড়া বিএফ ভিডিওकाफी देर तक जब मैं नहीं मानी तो रिया का मुँह फूल गया और वो चुपचाप अपने मोबाइल में कुछ करने लगी.

दस मिनट तक सौम्य धक्के देने पर मैंने देखा कि चाची को यौन क्रीड़ा का आनन्द आ रहा था! चाची मेरे धक्कों का बराबर उछल उछल कर आह… आह्ह… तथा ऊन्ह ह्ह… ऊन्ह्ह्ह ह्ह… करती हुई अपने आनन्द का प्रदर्शन भी करती रही. वो जाते वक्त बोलीं- तुम मेरे सर की भी मालिश कर दोगे?मैंने हाँ बोल दिया.

ये देख कर मेरा बुरा हाल हो रहा था और इसलिए मैं वहीं पर अपनी चुत में उंगली करने लगी और अपना पानी झाड़ दिया. हालांकि चाची के बेटे की उम्र 4 साल ही थी, पर फिर भी उसके सामने ये सब करना गलत तो था ही. उसने पूछा- तो कहानी छपेगी कहाँ पर?मैंने कहा- कहानी अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज़ डॉट कॉम पर छपेगी, तुम वहाँ से पढ़ लेना.

फिर मैंने इस दौरान भाभी के मम्मों को भी चूसा और जोर से लंड के दमदार झटके देने लगा. मैं तो खुशी से झूम उठा था, मैं भी हमारे वार्ड में ही आ गया और उसके पास ही खड़ा हो गया. खाना होने के बाद मैं और मेरे दोस्त अपने अपने घर की और चल दिए यह घटना उसी दिन खत्म हो गई और मैं भी अपने काम में व्यस्त हो गया.

पड़ोसन को स्कूटी सिखा कर चोदा-1अब तक इस रियल सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा कि कैसे मैंने अपनी पड़ोसन को एक आधे बने मकान में ले जा कर चोदा.

कुछ ही मिनट में वो मेरी पूरी चुत को चाट चाट कर मेरी चुत का सब पानी पी गया. फिर जब उसे मज़ा आने लगा तो उसने दोनों टांगों को ढीला छोड़ दिया और मैं समझ गया कि अब बुर की चुदाई का सही वक्त आ गया है.

‘कहाँ जा रही है भाबी जी?’ तिवारी को लगा मानो अनीता उसे सुबह सुबह ही अपने बेडरूम में चुदने के लिए रिझा रही थी, तिवारी ने खड़े हो कर अनीता का पीछा करना शुरू किया कि तभी अनीता बोल पड़ी- ठहरिये तिवारी जी, मैं आपको कुछ दिखाना चाहती हूँ, आप मेरा इंतज़ार कीजिये. क्यों बार-बार खड़ा हो रहा है। कहीं मेरे दिल में सुमन के लिए तो कुछ. बात करते करते उसने मेरा हाथ थाम लिया तो मुझसे रहा नहीं गया और मैंने पलट कर सीधे अपने होंठ उसके होठों पे रख दिए.

टीका और मलखान की बातें सुन विभूति को भी मानो एक झटका सा लगा, वे दोनों जिगोलो बन गये थे और कानपुर की चुदासी औरतों को यौन संतुष्टि करवाते थे, और ऊपर से इसके पैसे भी कमाते थे, उनके चेहरे पे ख़ुशी देख लग रहा था कि उनकी लाइफ सेट हो गई थी. दोस्तो, मैं अपनी पिछली सेक्स कहानीपड़ोसन भाभी से प्यार और फिर चुदाई-1पड़ोसन भाभी से प्यार और फिर चुदाई-2से आगे की घटना लेकर फिर से हाजिर हूं. खाना खा कर सब यहाँ वहाँ बैठ गए, हर कोई मंजीत के बदन और उसके गुप्तांगों को छू कर सहला कर अपनी अपनी ठर्क मिटा रहे थे.

हिंदी बीएफ चाहिए हिंदी बीएफ चाहिए तभी सुरेश ने मुझे सीधी कर के अपना लंड मेरी चूत पे ठिकाया और एक ही झटके में पूरा लंड मेरी चुत में घुसा दिया. फिर मेरी माहवारी आ गई उसके बाद हमारी ट्रेनिंग भी खत्म हो गई और सब अपने अपने घर.

sxxi वीडियो

सुमन भाभी जब अपने पानी छूटने के करीब आने लगीं तब उन्होंने कहा- सैम उम्म्ह… अहह… हय… याह… प्लीज जल्दी करो. मुझसे नहीं होगा!साहिल- अरे ये क्या बात हुई तो हमारे लिए तूने कुछ तो सोचा होगा!टीना- सोचा है ना. मेरे दिल में तब रोमांस करने का सूझा, तो मैंने होटेल के मैनेजर से रिक्वेस्ट करके एक रूम 2 घंटे के लिए ले लिया.

काफी देर एक दूसरी को चूमना-चूसना होने के बाद हम दोनों बाहर आकर तैयार होने लगी. मुझे जैसे लगा कि जन्नत मिल गई हो।फिर मैंने भाभी के मम्मों को अपने मुँह में ले लिया, तो भाभी ने कामुक आवाज़ निकाली ‘आआआह. ट्रिपल एक्स सेक्सी व्हिडिओ लावापर मेरे मस्ताना की मलाई खूब निकलती है तो कहाँ सबीना के मुँह में आ पाती, सबीना मस्ताना को मुँह से निकाल कर साँस लेने लगी.

काफी देर की चुदाई के बाद मुझे लगा कि मुझे अब अपना माल गिरा देना चाहिए.

खजुराहो तो वो यह तय करने के बाद कि उन्हें शादी करनी है, कर लिया था. लेकिन होनी को कोई नहीं टाल सकता; कोई कितनी भी चतुराई दिखा ले लेकिन होनी के आगे उसकी एक नहीं चलती.

संजय के लंड को देख कर वैसे तो सुमन का मन भी बेचैन था मगर एक झिझक उसमें थी, जो टीना ने दूर कर दी, अब सुमन आहिस्ता-आहिस्ता लंड को सहलाने लगी. इसी वजह से जब मेरी बिल्ली हम दोनों के लंडों को इकट्ठा मुंह के अन्दर डालने का प्रयास करती थी तो उसे कामयाबी नहीं मिल रही थी. प्राची भाभी के जिस्म से मंहगे परफ्यूम की खुशबू आ रही थी, जो वासना में मिलकर वातावरण को कामुक बना रही थी.

मेरी कामवासना अधूरी रह गई थी, मैंने बाथरूम जा कर अपनी चूत को साफ़ किया और आकर बेड पर लेट गई.

उन्होंने भी पैन्ट के ऊपर से ही मेरा खड़ा लंड पकड़ लिया और सहलाने लगीं. जैसे ही मोना ने गेट खोला, उसके चेहरे पर हल्की सी मुस्कान आ गई क्योंकि उसके सामने उसकी खास सहेली मीना थी. अगले दिन मैं फिर भाभी के घर गया और फिर उनसे मालिश करवाने का पूछा, तो भाभी ने हाँ कह दिया.

किन्नर किन्नर सेक्सीऔर तेरी आँखें सूजी हुई क्यों हैं? जीजू से झगड़ा हुआ क्या?मोना- अरे नहीं ऐसा कुछ नहीं है. मेरा मन तो उसे चोदने का था तो एक दिन मैंने उससे अपने दिल की बात कह दी कि मैं तुम्हें पसंद करने लगा हूँ.

सेक्सी भाभी को देवर ने चोदा

मैंने उसके होंठ चूसने शुरू किये और धीरे धीरे उसके बूब्स सहलाने शुरू किये!समीर, तुम्हारे हाथ जब मेरे बदन पर घूमते हैं तो बड़ा अच्छा लगता है. इसी बीच मैंने साड़ी को ऊपर तक समेट कर चाची की चूत पूरी नंगी कर दी और उनकी टांगों के बीच आ गया. वो कुछ नहीं बोली और मैं उसे गले पर चूमने लगा और उसके मम्मों को दबाने लगा.

अब और कोई भी जगह नहीं बची थी ढूंढने के लिए इसलिए मैं हेल्प डेस्क पर गया और वहाँ बैठी नर्स से पूछा- मैडम, वो अभी एक सर दवाई देने के लिए आये थे वार्ड में, वो कहाँ है?नर्स बोली- क्यों क्या हुआ? मरीज को कोई परेशानी हो रही है क्या? उनकी तो शिफ्ट खत्म हो गई तो वो तो चले गए हैं. सोनू एकदम मेरी तरफ घूम गई और एक हाथ से मेरा लौड़ा पकड़ कर बोली- राज! अब तो आपने इसकी आदत डाल दी है. अब आगे…चाची की चूत और नंगी टांगें देख कर मेरा लंड फनफनाने लगा, मैं बोला- चाची अपनी नुन्नू में मेरा नुन्नू डालने दीजिए ना.

उस रात रिया ने मुझे सोने नहीं दिया, बदल बदल कर हमने अपने सारे छेदों की चुदाई रात भर की. मम्मी अपने पल्लू ढीला करके खींच रही थी, उन्हें लग रहा था कि शायद किसी कील में फँस गया है. दोस्तो, यह कहानी थी मेरी और निशा जी की जो अन्तर्वासना प्लेटफ़ॉर्म के जरिये मुझसे मिली थी.

अब मुझे कंट्रोल नहीं हो रहा था मैंने ताश खेलते खेलते मामला शुरू करने के लिए एक बाजी जीतने के बाद सरिता को एक फ्लाइंग किस दे दी जिस पर वह शर्मा गई लेकिन जवाब में उसने भी मुझे वापस एक किस दीमैंने अपना एक पैर सीधा किया और वह सीधा करते ही सामने बैठी सरिता की गांड की बाजू में जा लगा. मैंने उनकी ब्रा और पेंटी को निकाल दिया और उनके मम्मों पर तेल लगा कर उन्हें मसलने लगा.

मैंने पैंटी के ऊपर से भाभी की चुत पर हाथ फेरते ही महसूस कर लिया था कि भाभी की चुत सफाचट है.

तभी राजीव अपना लंड मेरी चूत में डालने लगा तो मॉन्टी ने कहा- पहले मैं डालूँगा. भोपाली सेक्सी वीडियोअब आप जानते हैं फर्स्ट ए सी में दो टिकट का मतलब है एक कैबिन आपका हो जाता है. संदेश के सेक्सीअब तक की इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि गुलशन और अनिता के बीच क्या रिश्ते थे. उसने कब अपनी जीभ मेरे मुंह में धकेल दी, पता ही नहीं चला, मैं उसे चूसता रहा और फिर दोनों बूब्स दबाता मसलता रहा.

बातों बातों में मैंने उससे कहा कि तूने तो मुझे गुरु दक्षिणा दी ही नहीं.

उसके बाद शादी में जब भी हमारा आमना सामना होता वो मुझे शरारत भरी स्माइल ज़रूर देती. मेरे पापा ने उन्हीं के साथ जॉब की थी और काफी दूर के रिलेशन में भी हमारे अंकल यानी चाचा जी भी लगते थे. उसने बुर से मुँह हटाया और एक ही पल में अपना लंड फ्लॉरा के मुँह में घुसा दिया.

भाभी अन्दर किचन में जाने लगीं तो मैं ठगा सा खड़ा रह कर भाभी की मटकती गांड को खुले मुँह से देखने लगा. उसने दर्द से मचल कर कमर को इधर-उधर घुमाया और छूटने की कोशिश की, पर मैंने उसे छूटने नहीं दिया. पहले दिन जब वो घर में आई थी तो तब से ही उसकी नजर मेरी पैंट की जिप पर रहती थी.

चाची का सेक्स वीडियो

हर तरह की गंदी हरकत मैंने उस से करनी शुरू कर दी, और वो भी हंस हंस कर मेरा हौंसला बढ़ाती, और खुद भी मुझसे गंदी गंदी बातें कर लेती थी. रात मैं मैंने प्रिया से बात की, मेरा उससे झगड़ा हो गया तो मैंने सोचा कि अब नहीं जाना उसके यहाँ!अगले दिन मैं अपने छत पर बैठा पढ़ रहा था, मौसम बहुत ठंडा था, मेरे फोन पर किसी का फोन आया, मैंने अटेंड किया तो नेहा बोल रही थी- आज क्यों नहीं आये पढ़ने?मैं- मन नहीं था. खैर, वीजा वगैरा की कारवाई करके हम दोनों सहेलियां थाईलैंड जाने के लिए तैयार हुई.

जैसे ही लण्ड का टोपा सबीना की गांड के छल्ले में घुसा, सबीना की चीख निकल गई.

बस दोस्तो अब इनकी कहानी अगले पार्ट में सुनना आप, तब तक जल्दी से आप मुझे मेरी इस होम सेक्स स्टोरी पर कमेंट्स कर सकते हैं.

चाची बोली- क्या देख रहा है?मैं- चाची आप इस उम्र में भी बहुत सेक्सी हो!चाची हँस कर बोली- चल अब मस्का मत लगा… जोर से चोद… अब 30 मिनट ही हैं, नहीं तो सीमा आ जायेगी. ऋतु अब पगला चुकी थी, उसने खुद ही मेरा लंड पकड़ा और अपनी चूत में घुसा दिया. தமிழ்செக்ஸ் வாய்ஸ்उसने अच्छे से अपनी चूत की झांटें साफ़ कर रखी थी।मैं और गर्म हो गया और उसकी सफाचट चिकनी चूत देख कर… मैंने उसकी चुत को दो मिनट तक चूसा। वो मेरा सिर पकड़ कर बोल रही थी- आह विजय.

मुझे एक-दो बार किस कर लेती थीं तब मेरा लौड़ा टाइट हो जाता और मैं वहां से भाग जाता था. ये चाय छानने के लिए चले गए तो मैंने जोर दिया- बोलो न मनोज, क्या बात है? कैसे कम चल रहा है?वो बोला- फिर कभी बताऊँगा!कह कर बाथरूम चला गया और ये भी चाय लेकर आ गए. फिर वो वॉशरूम गई और हाथ-मुँह धोकर फ्रेश हो गई और कमरे में आकर उसने एक पतली सी नाइटी पहन ली और बाहर आ गई.

अब आप सब जानते ही हैं कि गाँव के लड़के इतने स्मार्ट और इंटेलीजेंट तो होते नहीं हैं, पर फिर भी मैं इंग्लिश और मैथ में काफी होशियार था. लेकिन बुड्ढा बिट्टू सिंह ढेर सयाना था, वो जानता था कि दिल्ली में इंजीनियरिंग करने वाले लौंडे कितने खतरनाक होते हैं.

जॉन ने फ्लॉरा को बहुत समझाया और उसको सेक्स के मज़े के बारे में बताया तब कहीं जाकर वो मानी.

मैं अभी कुछ देर और उसके ऊपर ही लेटा रहना चाहता था लेकिन मेरे लिंग के सिकुड़ कर माला की योनि से बाहर निकल जाने के कारण योनि में से निकल रहा दोनों का मिश्रित रस बिस्तर गीला करने लगा था. गुलशन जी बहुत देर तक मिन्नतें करते रहे मगर हेमा नहीं मानी और आख़िर हार कर गुलशन जी सो गए मगर बाहर खड़ी सुमन के दिमाग़ में एक तूफान छोड़ गए. मैंने उसकी जोरदार चुदाई करने का यही वक्त सही समझा और मैंने लंड को पूरा बाहर खींच कर एक जोरदार धक्का मारा… 6″ का पूरा लंड उसकी नाजुक योनि को फाड़ते हुए उसकी गहराई में समाहित हो गया.

स्मार्ट व्यू अब उसने मुझे अपनी बांहों में भर लिया जिससे उसके बदन की गर्मी से मैं और भी कामुक हो गया और सिसकारियाँ लेने लगा. मगर जाने दे यार फिर कभी देखूँगी आज तो वैसे भी सब साथ हैं।टीना- मेरी जान हाथ आया मौका वेस्ट नहीं करना चाहिए.

अब सुमन की उत्तेजना बहुत बढ़ गई थी चुत के बाँध को रोके रखना अब उसके बस का नहीं था. फिर उसने वही किया- जीजू, कल आपकी लुल्ली से पानी जैसा क्या निकला था?गोपाल- वो एक किस्म का रस होता है. फिर मैंने उसे अपने मम्मों की तरफ इशारा किया तो वो 10 मिनट तक मेरे दोनों मम्मों को बारी बारी से जोर-जोर से चूसने लगा.

सनी लियोन की सेक्सी चूत

वीरू- यार सीधे फाइनल टेस्ट? पहले कुछ टेस्ट तो लेकर देख कि ये फाइनल टेस्ट के लिए रेडी भी है या नहीं. तो सुमन ने अपने पापा को बहुत कोसा, भला बुरा कहा और गुलशन जी मायूस होकर वहां से निकल गए. मेरे ऊपर एक साथ दो चूत सवार थी, एक मेरे मुँह पर और दूसरी मेरे मस्ताना पर.

मुझे अन्दर ही अन्दर अच्छा फील हुआ और मैंने भी धीमी सी आवाज में रुकने के लिए हाँ कर दी. ’अब वो पूरी गर्म हो चुकी थी और मेरा सिर पकड़ कर खुद अपने बूब पे दबा रही थी, उसकी ‘आअहह ससईईईई और जोर से चूसो आअहह.

लेकिन मेरा तौलिया निकल गया तो तेरी जाँघों के टच से मेरा लंड खड़ा हो गया.

हुआ यूं कि जब मैं चाची को देखने की जुगत लगा रहा था, तब मुझे ये मालूम हो गया था कि वो नहाते वक़्त अपने बाथरूम का दरवाजा खुला रखती थीं. गुलशन जी धीरे से की-होल के पास बैठ गए और जैसे ही उन्होंने अन्दर देखा, उनका लंड एक झटके में खड़ा हो गया. साथ ही मैं सुमन भाभी की चूत प्यार से चाटने लगा और अपनी जीभ को अन्दर-बाहर करते हुए और उनके दाने को भी रगड़ता रहा.

उसने धीरे से मेरे कान के पास आकर कहा- आप चाहें तो अन्दर आ सकते हैं. सुमन के साथ सब हंसने लगे और संजय के साथ बाकी सब भी हैरान थे कि ये सुमन अचानक से इतनी फास्ट कैसे हो गई. अब अगर तू उनसे ऐसे नाराज़ रहेगी तो उनका ज़्यादा ध्यान तुझ पर ही रहेगा और तू कुछ नहीं कर पाएगी.

फिर मैंने उसको बेड पे लिटा दिया और उसके पूरे बदन को चूमने लगा और धीरे-धीरे नीचे आकर उसके पेट को चूमा, उसकी नाभि में जीभ डाल कर चूसने लगा.

हिंदी बीएफ चाहिए हिंदी बीएफ चाहिए: सुबह तक वो फ्लॉरा को बहन मानता था मगर अब उसी को चोदने का सोचने लगा. मुझे लगा कि कोई डॉक्टर आकर मेरा फिजिकल एक्जामिनेशन करेगा, तो मैंने हामी भर दी.

मैं उसे किस करने लगा और उसके बूब्स सहलाने लगा जिससे उसे थोड़ा अच्छा लगने लगा और उसका थोड़ा दर्द कम हुआ. क्या तुम्हें मेरी चुत की गर्मी महसूस नहीं हो रही?फ्लॉरा के खुले शब्दों को सुनकर अतुल एकदम से घबरा गया और उसकी बातों से उसका लंड और अकड़ने लगा. मानसी जैसी लड़की कुछ ही नसीब वाले लंडबाज़ लौंडों को मिलती हैं, इतना तो मैं अब तक समझ चुका था और बस अब यह जानना बाकी था कि मैं इस घोड़ी की सवारी करने वाला पहला लंड हूँ या नहीं.

लेकिन मैं थोड़ा शर्मीले स्वभाव का लड़का था, मुझमें ऐसा करने की कोई हिम्मत नहीं थी.

मैंने चाची की कमर पकड़ कर अपने ऊपर झुका लिया, जिससे चूत पूरी खुल जाए और किस करने लगा. वह कुछ कह नहीं पा रही थी लेकिन बात अपने होठों के नीचे दबा वह अपनी तरह को छुपा रही थी ‘अम्म्ह अह मम्मम आअह्ह’मैं उसकी चूत चाट ले जा रहा था, इतना स्वादिष्ट रस मैंने आज तक नहीं चखा था. अब मेरी बारी थी, मैंने उसे ज़मीन से अपनी बाहों में उठाया और बड़े प्यार से बेड पर लेटा दिया, उसे किस करने लगा और बूब्स को मसलने लगा.