एसएस सेक्सी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,मोटी गांड वाली चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी जोक्स इन हिंदी: एसएस सेक्सी वीडियो बीएफ, इस बार अलीमा खुलकर बोली- पहले एक बार चोद दीजिए ना!बलविंदर को ये सुनकर बहुत खुशी हुई कि चलो अब लौंडिया खुल कर लंड मांग रही है.

सेक्सी मूव्ही

अब तुम ज्यादा सवाल मत करो, जब ये तैयार हो जायेगी तो खुद ही देख लेना. हिंदी बीपी ब्लू सेक्समैंने झट से उसकी दोनों टांगें अपने कंधों पर रखीं … और लंड को उसकी चूत पर रगड़ने लगा.

मैंने अपने हाथ से उसे झुका दिया और उसकी गांड पकड़ कर उसकी दबादब चुदाई करने लगा. की नंगी वीडियोमैं दीदी के लिए सब्जी लेकर जाने लगा और मेरे मन में यही खयाल चल रहा था कि काश उसको चोदने का मौका मिल जाये.

चूंकि साइट पर लोकेशन का भी पता लग रहा था तो मैंने पाया कि वो इन्सान मेरे से महज 1.एसएस सेक्सी वीडियो बीएफ: मैंने ऐसे ही अपना मूसल अंदर तक फँसाये रखा और लंड को वहीं पर गोल गोल घुमाते हुए उसकी चूत की चटनी बनाने लगा.

जब कामकाज चल रहे थे, तो मैं सारे दिन अपनी फैक्ट्री में काम में व्यस्त रहता था.इतना बोल कर जया ने मुझे फिर से गले लगा लिया और हम दोनों एक दूसरे की बांहों में जकड़ कर किस करने लगे.

बिहारी सेक्सी वीडियो एक्स एक्स एक्स - एसएस सेक्सी वीडियो बीएफ

शेखर: एक मिनट … पहले मैं चोदूंगा, फिर तुम।अंजलि: एक साथ ही करो दोनों.पूजा होने के बाद हम सब छत पर पटाके फोड़ने चले गए।कुछ देर बाद सब फ़ोटो खिंचवाने लगे तो साहिल ने मुझे इशारा कर के अपने पास बुलाया.

हैलो फ्रेंड्स, कैसे हैं आप सब?उम्मीद करता हूं कि आप सब अच्छे होंगे. एसएस सेक्सी वीडियो बीएफ खाना बनाने के बाद वो मेरे रूम में आई और मुझे नहाने के लिए कहने लगी.

मैं बोला- 7 दिन का भूखा है मेरा लंड।वो बोली- गुड़गांव में कौन देती है इसे अपनी जान की खुराक?मैंने कहा- चाची जान नहीं जन्नत का मज़ा!और अब मैं झटके मारने लगा.

एसएस सेक्सी वीडियो बीएफ?

मैंने उस दिन खाना आने से पहले दो पैग लिए और खाना आया तो खाकर एक सिगरेट फूंकते हुए भाभी की ब्रा पैंटी वाली छवि को अपने दिमाग में उकेरने लगा. अब मेरी आवाज़ें तेज़ हो रही थीं- आह … आह प्लीज … आह्ह … आहा … और तेज करो. लेकिन शायद अब तक साहिल को इस बारे में मालूम नहीं था।अब मैंने सोचा कि बहुत हुआ छुप छुप के!तो मैं चली गयी साहिल में मुंह की तरफ!और अभी भी रागिनी उसका लन्ड चूसे जा रही थी.

इतने में जय आया और ज़मीन पर घुटनों के बल बैठकर मेरे पेट पर हाथ फिराने लगा और राज ने सोफे पर बैठ कर मेरे लिप्स और चेहरे को उंगलियों से सहलाना शुरू कर दिया. अब मैंने आहिस्ता आहिस्ता झटका लगाना चालू किए, तो वो फिर से रोने लगी थी. कई बार तो ऐसी औरतें टकराती हैं जिनको देखकर तो क्या … चूत पर रगड़ने से भी लंड खड़ा न हो.

कविता- उफ्फ … क्या कर रहे हो निहाल जी! अंदर चलिये, यहां गेट के पास नहीं. सुलेखा ने लंड रस का चटखारा लेते हुए कहा- इसका टेस्ट नमकीन दही जैसा है. तो वो औरत बोली- देखो तुम्हारी योनि के अन्दर की एक नस रूकी हुई है, इसके हथियार से वो नस खुल जाएगी और तुमको बच्चा अपने शौहर से ही सेक्स करके होगा.

जिसमें वो अपनी चुत में कभी शैम्पू की गोल शीशी डाल कर दिखातीं, तो कभी अपनी झांटों को साफ़ करते हुए वीडियो दिखातीं. मेरे इतने जंगली और आक्रामक रुख से भी उसने मुझे ऐसा करने न तो रोका, न ही उफ किया.

उस दिन मैंने रात को चार बजे तक चाची की चुत को तीन बार रगड़ा और वापस छत के रास्ते अपने घर आ गया.

थोड़ी देर बाद जब बलविंदर की नींद टूटी तो उसे यह अहसास हुआ कि उसका मुँह अलीमा की चूची पर था.

मैं दीदी के पास बैठा था और मेरी नजर बार बार उनके चूचों पर जा रही थी. मेरी पड़ोसन हेमा चाची की बाथिंग सेक्स स्टोरी में अगली बार आपको उनकी गांड मारने की सेक्स कहानी लिखूंगा. मेरी बॉडी पर एक भी बाल नहीं है, बस थोड़े से बाल पैरों और जांघों पर हैं.

सेठ जी का लंड अब उनके बस में नहीं था; वो हवस की आग में जल रहे थे।तो सेठ बोला- चल संतो, मैं तेरा सारा कर्जा माफ कर दूंगा. मैं उसकी चूचियां मसल देता था, उसके होंठों को काट लेता था, स्कर्ट में हाथ डालकर चूत में उंगली डाल देता था. मैंने सुना था जाटनी लड़कियां बहुत चुदक्कड़ होती हैं और आज मेरा लौड़ा एक जाटनी की चीख निकाल रहा था।सुमन का शरीर अकड़ने लगा और उसकी चीख के साथ उसकी चूत का पानी भी निकल गया.

क्या मैं आपके वाट्सऐप पे भेज दूँ?वो बोला- ठीक है, भेजो!और उसने अपना नम्बर बताया.

मैं भी उठ कर उनके पीछे गया और उनकी चूत में अपना लंड डाल कर तेज़ी से चोदने लगा।इस चुदाई के खेल को चलते हुए लगभग 15 मिनट हो चुके थे। मेरा लन्ड भी पानी छोड़ने वाला था. लंड पक् … की आवाज के साथ अंदर घुस गया; रानी के मुंह से हल्की सी चीख निकल गई. मैंने उस दिन खाना आने से पहले दो पैग लिए और खाना आया तो खाकर एक सिगरेट फूंकते हुए भाभी की ब्रा पैंटी वाली छवि को अपने दिमाग में उकेरने लगा.

उनकी हाइट 5 फिट से कुछ कम ही थी … क्योंकि जब वो खड़ी थीं, तब मेरे सीने तक ही आ रही थीं. वो उछलती रही और उसकी चूचियां भी उछलती रहीं जिनको मैं बीच बीच में मुंह में लेकर पीने लगता था. कमरे के बीच में एक छोटा सा 36 इंच का गोल टेबल था जिस पर मोटा गद्दा था। उसी पर कोमल को बैठने को बोला।रूम में चारों तरफ सोफे थे.

फिर मैंने सारा माल अंदर भरने के बाद उसकी चूत के होंठों को दबाते हुए सिरींज को बाहर खींच लिया.

नानी ने फिर से आवाज दी।मैंने अपनी अंडरवियर और बनियान पहन ली और नानी के पास चला गया।थोड़ी देर बाद चाची भी आ गई।फिर चाची ने सबको चाय पिलाई और हम सब अस्पताल पहुंच गए, वहां नानी का इलाज करवाया. हेमा चाची बोलीं- भास्कर पता नहीं मेरे घर की टीवी में क्या हो गया है … उसमें शायद कुछ सैटिंग गड़बड़ हो गई है, वो चल ही ही नहीं रहा है.

एसएस सेक्सी वीडियो बीएफ मैंने प्रिया भाभी को सीधा लेटा कर उनकी गांड के नीचे एक तकिया लगाया और उनके दोनों पैरों को अपने कंधे पर रख दिया. मैंने ध्यान दिया अमित मेरी बीवी की चुचियों की दरार को भूखी नजरों से देख रहा था.

एसएस सेक्सी वीडियो बीएफ चीटिंग सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी सेक्सी अम्मी को घर में अपने किसी यार से चूत चुदाई का मजा लेते देखा. मैं उन्हें देख रहा था कि उनकी झीनी सी साड़ी से उनके दूध साफ़ दिख रहे थे.

अंदर जाते ही मैंने उसको नीचे उतारा और उसको पीछे घुमा कर उसकी पीठ पर से बाल आगे कर दिए.

चोदा चोदी वीडियो चाहिए

अजीत- तू तो खेली हुई रंडी लगती है!अंजलि- तो तुमको क्या लगा था?शेखर- हम लोगों को तो पता ही है तेरे बारे में सब कुछ. आज मैं घर पर बिल्कुल अकेली थी तो इसीलिए मैंने आंटी को सब्जी देने के लिए कहा. उनका पति बच्चे पैदा नहीं कर सकता था इसलिए दीदी को कोई औलाद नहीं थी.

अब वो दोनों अन्दर आ गए।फिर आंटी ने बोला- तुम दोनों में से पहले कौन करेगा?अर्पित और हर्षदीप ने आपस में बात की. तीसरे दिन शाम को उसका छोटा भाई मुझे बुलाने आया और बोला- दीदी बुला रही हैं आपको. वो चिल्लाती रही … मैं मामी की गांड चोदता रहा।अब मेरा लौड़ा उसे ऐसे चोद रहा था जैसे कोई घोड़ा घोड़ी चोद रहा हों।पलंग ऐसे हिल रहा था जैसे भूकंप आ रहा हो।अब तक मामी बेहाल हो गई थी.

कविता हंसने लगी और बोली- अरे क्या हुआ? अब बोलिए भी? या मुंह से आवाज़ निकलनी बंद हो गयी?मैं- अरे नहीं नहीं, मैंने तो बस आपको इसलिए रोका ताकि हाल चाल पूछ सकूं.

वो बोली- क्या तरीका है?मैं बोला- उसके लिए आपको मेरी एक बात माननी होगी. मैंने कहा- अभी मेरे पापा सब्जी लेकर आने वाले हैं, मैं आपको उनसे कुछ सब्जी दिलवा दूंगा. वो मेरी तरफ देख कर बोलीं- साहब, भूखे मरने से अच्छा है कि खा कर मरो.

मैंने बात बनाते हुए कहा- चाची अगर घर वाले आ गए, तो वो मुझे किसी न किसी काम में लगा देंगे … फिर मैं आपका टीवी ठीक करने कैसे आ पाऊंगा?हेमा चाची ने कहा- अरे हां भास्कर … तुम्हारी ये बात तो बराबर है. दीदी ने सब अपनी सास को बता दिया तो सास खुश हो गई कि वो दादी बनने वाली हैं।अब दीदी कमरे में आई और उसने बताया कि उसकी सास को बहुत दिनों से पता है कि हम भाई बहन चुदाई करते हैं. उसकी जांघें देख कर मन मचल उठता और मेरे लंड में से सीन देख कर ही पानी निकल जाता.

लेकिन उस लड़के के बारे में जब मैंने रागिनी को पूरा सच बताया तो वो रोने लगी और बोली- मुझे नहीं मालूम था कि ये ऐसा लड़का है।मैंने रागिनी को समझाते हुए बोला- देखो मुझे पता है कि इस उम्र में ये सब होता है. कभी उसकी तरफ झुककर उसे अपनी छाती की गोलाइयां दिखती तो कभी अपनी चूचियों को उससे जानबूझ कर टकरा देती.

मैं अब उसके मुंह में जीभ घुसाकर उसकी लार को अपने मुंह में खींच रहा था. इससे सुलेखा उछल पड़ी- खाने का मूड है क्या?मैंने अगले ही पल इसके दाने को चूस कर उसका दर्द खत्म किया. उसके बाद उसने रानी को घुमा कर दीवार के सहारे खड़ा कर दिया और पीछे से रानी के उरोजों को मसलने लगा.

मैंने फोन दिया और बताया- आपका फोन ऑफ़ आ रहा था, तो भैया ने मेरे फोन पर फोन करके आपसे बात करवाने के लिए कहा है.

इसके बाद उसने मेरे मुँह से लंड निकाला और मेरी पैन्ट चड्डी समेत नीचे करके मेरी गांड में अपनी एक उंगली घुसेड़ दी. और अभी कुछ दूर पहुंची थी कि मुझे याद आया कि मैं अपना लॉकेट जो सोने का था उसको वहीं भूल गयी. पुराने पाठकों के लिए मैं पिछले भाग का संक्षिप्त सार बता रहा हूं कि कैसे मैंने पिछले भाग में अपने गांव के दोस्त सोनू की बहन नेहा की जवानी का रस चखा.

सलमान ने भी गांड उठाते हुए मेरी अम्मी के मुँह को चोदना चालू कर दिया था. रात को मैंनेबीवी के साथ सेक्सकिया तो ऐसा लगा कि मेरा लंड उसकी चूत में आराम से चला जा रहा था.

मैंने भी ऐसा ही कहा और उसके लंड का सारा पानी निकला जाने के बाद भी उसका लंड चूसता रहा. इंडियन हाउस वाइफ सेक्स कहानी में पढ़ें कि बस में चुदाई के बाद मैंने उस लड़के को अपने घर बुलाया सेक्स के लिए. तो अब मैं अपने कमरे में आ कर सोचने लगी कि ये फिर हम लोगों को सही मौका मिला है तो मैंने तुरंत रागिनी को कॉल करके साब बताया तो वो बोलने लगी कि ठीक है मैं आ कर कुछ करती हूं।जब दोपहर में रागिनी आयी तो दादी ने उसको भी बोला- आज तैयारी कर लो.

गुर्दे का चित्र

अपनी चुदी हुई अम्मी को नंगी देख कर मेरे लंड ने भी तय कर लिया था कि मैं अपनी अम्मी को किसी भी तरह चोदूंगा जरूर.

मैंने ओके कहा और उसे अपने साथ बाइक पर बिठा कर एक सरकारी अस्पताल लिवा ले गया. मैंने उसकी चूत को अपनी दो उँगलियों से खोला और अपनी जीभ को उसमें घुसा दिया. मैं हंस कर बोली- तुम कितने बिगड़े हुए हो … मैं तुम्हारी माँ की उम्र की हूँ और तुम ऐसी बात करते हो!जय बोला- बहन की लौड़ी, तुझे ऑर्डर चाहिए न … मुझे पता है तुम टार्गेट पूरा करोगी, तब तुम्हारी शॉप का मालिक तेरी सैलरी और कमीशन बढ़ाएगा.

अब मेरे रिएक्ट न करने पर ये हुआ कि उसकी हिम्मत और बढ़ गयी जिससे वो मुझसे चिपक कर बैठ गया. साहिल ने भी पहले तो मज़े से अपनी जीभ से राजसी की चूत को खूब अच्छे से चाटा और फिर अपनी जीभ उसमें घुसाने लगा. सेक्सी में ब्लूबीस मिनट के बाद मैं झड़ने वाला हो गया था तो उसने कहा- अन्दर ही निकाल देना.

मैंने जोश में आकर बुआ के सिर को पकड़ लिया और उनके मुँह को जोर जोर से चोदने लगा. उसने लगभग दस मिनट मेरे मम्मों की चुदाई की और अपने लंड के पानी की पिचकारी मेरे मुँह पर मार दी.

मेरे हाथ सीधे उसकी चूचियों पर लगे और मेरे बदन में 440 वोल्ट का झटका लगा. अम्मी भी अपनी वासना से भरी हुई आहें भरते हुए उसे और तेजी से चुत चूसने की कहते हुए अपनी गांड उठा उठा कर अपनी चुत की चटनी बनवा रही थीं. मेरी पहले की कहानियोंसीधी सादी लड़की प्यार से चुद गयीके लिए जो आप सभी ने प्यार दिया, उसका मैं तहे-दिल से शुक्रगुजार हूँ.

धीरे धीरे हमारा इतना मजाक अधिक बढ़ गया था कि मैं दुकान में उसके साथ हंसते बोलते उसके दूध दबा देता था और वो कुछ नहीं बोलती थी … बस केवल हंसती रहती थी. तुम्हारा फोन कहां है, मुझे गेम खेलना है थोड़ी देर।मैंने उसको बेड की तरफ इशारा किया और वो अंदर आ गई। मैंने भी दरवाजा अंदर से लॉक कर लिया और बेड पर आ गया।हम दोनों रजाई में घुसकर गेम खेलने लगे. सलमान ने भी गांड उठाते हुए मेरी अम्मी के मुँह को चोदना चालू कर दिया था.

मैंने उनसे कहा- आंटी अगर आप मुझसे चुदाई करवाओगी … तो मैं आपका अहसान कभी नहीं भूलूंगा.

वो मना नहीं कर सकती थी इसलिए नीचे बैठ गयी और मेरे लंड को मुंह में भर लिया. मैं जिस दिन किचन में नहीं जाता था, तो बोलती थीं कि क्या बात है … आज तुम मुझसे नाराज़ हो गए हो क्या?मैं हंस कर उनसे लिपट जाता और उनके गालों पर चूमा ले लेता था.

उसके मम्मे बड़े ही मादक थे, उसकी एक फोटो में तो उसने बिना आस्तीन की कुर्ती पहनी हुई थी, जो उसकी बांहों से काफी गहरी कटाव वाली थी. उसी समय मुझे उनकी गांड का छेद भी दिखा तो मैंने गांड में एक उंगली पेल दी. क्योंकि वो सही लड़का है और तुम्हारी सारी सहेलियां बेकार।अब मुझे भी अंदर से खुशी थी साहिल के हमारे घर रुकने की!तो दादी ने साहिल की मम्मी को फ़ोन करके बोला कि वो साहिल को कुछ दिनों के लिए हमारे घर भेज दें.

वो सोचने लगी कि इस बात को अगर वो किसी को बतायेगी तो बात घर से बाहर भी जा सकती है. उसको लेटे हुए देखा तो मैंने अपने सारे कपड़े उतार कर रजाई उठा ली और उससे चिपक कर लेट गया. पहली बार मैं किसी लड़के से चूत चटवाने का मजा ले रही थी मैं क्योंकि मेरे पहले बॉयफ्रेंड ने कभी मेरी चूत नहीं चाटी थी.

एसएस सेक्सी वीडियो बीएफ नन्दा एकदम से सिहर गई और तुरंत मेरे सर हाथ रखते हुए हटाने का जतन करने लगी- आह नहीं … आप ऐसी गन्दी जगह मुँह मत लगाओ. वो थोड़ा सोचकर बोली- ठीक है, जब मौका मिलेगा तो अगली बार गांड में कर लेना लेकिन धीरे करना प्लीज।फिर मैंने उसको हग किया और किस करके वहां से आ गया अपने घर।तो दोस्तो, ये मेरी दीदी की सहेली की चूत चुदाई की कहानी थी.

प्रियंका चोपड़ा की नंगी तस्वीर

और उनके दो बच्चे जो अभी बहुत छोटे हैं।अपनी मामी का वर्णन मैं अपनी दूसरी कहानी पर बताऊंगा।अभी इसी कहानी पर आते हैं. थोड़ी देर लंड चुसवाने के बाद मैंने लंड बाहर निकाला तो लंड बिल्कुल कड़क हो चुका था. बात सेक्स तक कैसे पहुंची और हमारे बीच क्या क्या हुआ?मॉम एंड सन सेक्स कहानी के पिछले भागमम्मी के साथ चेन्नई यात्रा- 4में आपने पढ़ा कि मैं और मेरी मामी दोनों नंगे होटल के कमरे में एक बेड पर सो रहे थे.

अंकल ने पूछा- क्या हुआ अच्छा नहीं लगा!अलीमा बोली- हां … थोड़ा सा अजीब लग रहा है. भाभी कहती है कि उसका पति उसको पांच मिनट ही चोद पाता है … फिर झड़ कर सो जाता है. हिंदी वीडियो चुदाई वालीमैंने भी ऐसा ही कहा और उसके लंड का सारा पानी निकला जाने के बाद भी उसका लंड चूसता रहा.

मैं- और अमित का?नेहा- मैंने घर पर आकर अमित को थैंक्स बोलने के लिए गले लगा लिया था तो अमित मेरी नंगी पीठ और कमर सहला रहा था.

उसने चुपके से मेरे कान में कहा- कल आयेगी क्या?मैं बोली- हां, आऊंगी. फिर मैंने हेमा चाची से कहा- चलो न चाची, पहले मैं आपके टीवी की सैटिंग ठीक कर देता हूँ.

बच्चे छोटे थे तो मैं सोच रहा था कि आज रिया की चुदाई करने का मौका मिल सकता है. वो जोर से सिसकारियां भरने लगी- आह्ह … ऊह्ह … ओह्ह … राज … और अंदर तक … आह्ह … अम्म … चाटो … चूसो. भाभी बोलीं- सिर्फ तुम ही मजा लोगे क्या … मुझे कुछ मजा नहीं दोगे?मैंने कहा- हां हां मेरी प्यारी भाभी … क्यों नहीं आ जाओ.

धीरे धीरे हमारा इतना मजाक अधिक बढ़ गया था कि मैं दुकान में उसके साथ हंसते बोलते उसके दूध दबा देता था और वो कुछ नहीं बोलती थी … बस केवल हंसती रहती थी.

शबाना मेरे लौड़े को देखने लगी और मैं उसके सीने पर उभरे ज्वालामुखी देख रहा था. और इसी सोच से मेरा लंड खड़ा होने लगा।मैंने एक योजना बनाई और दोपहर में वाशी को चोदने का फैसला किया।दोपहर में जब खा पीकर वो बिस्तर पर गई तो मैं उसके कमरे में गया जहाँ वाशी सो रहा था. उसके बाद बलविंदर अलग हुआ और बोला- मैं तुम्हारा पति तो नहीं हूँ, लेकिन प्यार तो मैं भी तुझे बहुत करता हूं.

बिहार की औरत की चुदाईअब भी सर को जब भी अपनी गांड मरवाने का मन होता है, वो मुझे रुकने को बोल देते हैं और सबके जाने के बाद मैं सर की गांड मार कर उनकी हवस पूरी कर देता हूँ. फिर मैंने उसकी चूचियों को पर थप्पड़ मारकर कहा- बता साली रांड, ये क्या चल रहा था?अब भी उसने कोई जवाब न दिया.

सनी देओल की एक्स एक्स एक्स वीडियो

उसने थोड़ी देर के बाद फिर से मेरा लंड पकड़ लिया और अपने मुँह में लेकर चूसने लगी. मैं देख कर हैरान हो गया क्योंकि मेरी सबसे पक्की फ्रेंड अब वाली नूपुर पहले वाली से बिल्कुल बदल गयी थी. कुछ देर बाद मैंने भाभी जी को चुदाई के लिए चित लिटाया और टांगें फैला कर उनकी चुत खोल दी.

फिर उस दिन दोपहर में स्कूल से आने के बाद उनका बेटा अपने दादा-दादी के साथ चला गया. थोड़ी देर बाद वो जब ठीक हुईं, तो अपनी गांड उचका कर लंड को और अन्दर लेने की कोशिश करने लगीं. हॉट टीनेज गर्ल्स सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि चार सहेलियों में से अपनी गर्लफ्रेंड की चुदाई के बाद मैंने कैसे बाक़ी तीन लड़कियों को भी सबके सामने चोदा.

तभी उसने अभय को कॉल किया और कहा- सुन भड़वे … अपने लन्ड को खड़ा करके मेरे घर के बाहर आओ. मैं भी उसका साथ देने लगी और वो मेरे होंठों को … और गालों को अपनी जीभ से चाटने लगा. उसका लंड काफी चिकना हो गया था इससे मुझे भी सही लगा कि अब ये मेरी गांड में आसानी से घुस जाएगा.

नेहा- हां मैं आऊंगी तो हम और क्या करेंगे?मैं- मैं तुझे नंगा करके पूरे घर में घुमाऊंगा कुतिया. उसने अपने लंड पर कॉन्डम पहन लिया और उसकी चूत पर ऊपर से लण्ड रगड़ने लगा.

उसके जिस्म से आती परफ्यूम की महक ये जता रही थी कि मानो सामने सुलेखा नहीं … कोई गुलाब का फूल हो.

मैं रुका तो उसने बिना आंखें खोले कहा- क्या पूरा चला गया?मैंने कहा- अभी कहां शब्बो रानी. देसी घाघरा वालीअब उसकी रिसती हुई चूत मुझे दिख गयी और उसको देखते ही मेरे मुंह में लार बह चली. डॉक्टर बफअगली बार उसको लगा कि मैं फिर धीरे धीरे डालूँगा लेकिन इस बार मैंने पूरा लंड एक बार में ही उसकी चूत में घुसा दिया. आपको मेरी यह इंडियन देसी सेक्सी वाइफ कहानी कैसी लगी, कृपया मुझे ईमेल करके जरूर बताएं.

जब मेरी उंगली थोड़ी सी चुत के अन्दर गयी, तो उसके मुँह से लम्बी आह निकल गयी.

जैसे ही बस थोड़ी बहुत हिलती तो मेरा नाज़ुक हाथ और उसका मर्दाना बालों वाला हाथ टच हो जाते. हो सकता था कि वह चुदी हुई भी हो क्योंकि उसको लंड लेने हल्की फुल्की दिक्कत ही हुई. लेकिन फिर दीदी ने मुझे कहा- तुम भी तो रोज़ साहिल से अपनी चुदाई करवाती हो?तब मैंने तुरन्त साहिल को गुस्से से देखा.

अब जब उससे रहा न गया तो बोली- अब देर मत कर सनी, मेरी बॉडी के साथ साथ मेरी फुद्दी का दर्द भी मिटा दे. वो मीठी सी आवाज में बोली- छोड़ो न … आपको यूं अकेली लड़की को पकड़ने में शर्म नहीं आती!मैं- कैसी शर्म … यहां कौन ऐसा है जिससे शर्म करूं?ये कहते हुए मैं नन्दा की गर्दन पर अपने होंठ रख कर उसको चूमने लगा. फिर मैं भी वहां से हट गया और घूमते हुए करीब दस मिनट बाद जब मैं उस महिला के घर पहुंचा, तो मोना हॉल में ही बैठी थी.

मराठी बीपी फिल्म

फिर उसने अपनी मैक्सी को हल्की सी हाथ से नीचे खींच कर अपनी आधी चूची दिखा दी. मैंने कहा- तब भी मशीन वाली को अंदाज तो होगा ही कि औजार सही है या नहीं. लेकिन जवान लड़की की चुदाई कहानी शुरू करने से पहले मुझे अपना परिचय देना चाहिए।मेरा नाम मीत है। नाम बदल दिया गया है.

वैसे ही फिर मैंने नीचे वाले होंठ के साथ किया और फिर एक लंबा चुंबन दे दिया उसको.

इसके बाद मैंने उसके पूरे शरीर में केक लगाया और पूरे शरीर को चाटना शुरू कर दिया.

मेरी चुत पर बहुत बड़ी बड़ी झांटें आ गई थीं तो अपनी चुत पर मैंने एक दिल के आकार में बाल कटवाए, जिसकी नोक मेरी चुत की फांकों के ठीक ऊपर थी. जब मेरा लंड छोटा होकर बाहर आ गया, तब मैं उसके ऊपर से साइड में हो गया. अटी सेक्समज़ाक करते हुए मैं बोला- ओह्ह्ह दीदी … मेरी जान … मैं तुम्हारा कुत्ता बनने को तैयार हूँ.

भाभी- प्रिया कहां है तू?मैं- भाभी मेरे पास है, ऊपर!भाभी- क्या कर रहे हो तुम दोंनों?मैं- प्यार!भाभी- पागल … मम्मी पूछ रही है प्रिया के बारे में। जल्दी से इसको नीचे भेज. अपनी गांड मैंने ऊपर उठाई और परम के लंड पर चूत को रखकर धीरे से बैठ गयी. दस मिनट तक मैंने चाची की चुत को चाट कर उसे झड़ा दिया और सारा रस पी गया.

नमस्कार दोस्तो, मैं सुनीता अपनी कहानी का अगला भाग लेकर आप लोगों के पास हाजिर हूँ. हेमा चाची ने मेरा लंड पकड़ने के लिए मेरी जींस की पैंट के अन्दर हाथ डाल दिया.

तो दोस्तो, मुझे जरूर बताइयेगा कि कहानी कैसी लगी? अगर आपको अच्छी लगी होगी तो मैं मेरी ज़िंदगी के कुछ और पन्ने भी पक्का खोलूंगी आप लोगों के सामने।मुझे मेरी ईमेल पर मैसेज करें.

उनका वो ब्लाउज उनके कंधे से थोड़ा फटा सा था और वो झुकी हुयी थीं, तो साड़ी का पल्लू भी सही नहीं था. मैं अमन को एक सरप्राइज देना चाहती थी ताकि उसे पता चले कि मैं उससे कितना प्यार करती हूं. वो जान गए थे कि उनकी इंडियन देसी सेक्सी वाइफ इतनी खूबसूरत है कि मैं जहां भी जाऊं, लोग मुझे देखेंगे ही.

सेक्सी मूवी चुदाई वीडियो और प्रेमा भी जानती थी कि अगर शालू को कहीं से सहारा नहीं मिला तो वह ज्यादा दिन नहीं रह पायेगी प्रमोद के साथ।उधर भानू अपनी बहू की चूत चुदाई करने की फिराक में रहता था. मुझसे तो चला भी नहीं जा रहा था हील्स में!फिर रूपाली जो केवल पैंटी और फुटवियर में थी, वो मेरे पास आयी और मुझे चलाने लगी.

फिर उन्होंने 69 की पोजीशन ली और आंटी ने अपने मुंह में हर्षदीप का लन्ड ले लिया और उसे चूसने लगी. फिर बातों बातों में हम दोनों तीसरे फ्लोर पर आ गए, जहां न ही कोई टीचर थी और न ही कोई स्टूडेंट. उनकी हाईट पांच फुट चार इंच थी और उस समय भाभी की उम्र 24 साल रही होगी और उनकी साइज़ 32-28-36 की थी.

नंगी पिक्चर बताइए हिंदी में

उसको लेटे हुए देखा तो मैंने अपने सारे कपड़े उतार कर रजाई उठा ली और उससे चिपक कर लेट गया. आंटी ने भी कम्पूटर पर चलती ब्लू-फिल्म देखी और बिना किसी शर्म के मेरी तरफ वासना से देखने लगीं. भाभी गुस्से से बोलीं- तुम्हारी ऐसा बोलने की हिम्मत कैसे हुई कि मैं तुम्हें ऐसा करने दूंगी!भाभी के तेवर देख कर मैं समझ गया कि मामला संगीन है.

वही मेरा ये पहला मौका था जब मैं किसी मर्द के आगोश में आई थी और वो भी एक साथ दो मर्द मुझे चोदने की तैयारी में लगे थे. जब दोनों वापस आईं तो हाज़िमा आंटी बोलीं- सच में तेरे लंड की मलाई का मस्त स्वाद है.

मैंने ध्यान दिया अमित मेरी बीवी की चुचियों की दरार को भूखी नजरों से देख रहा था.

चाची ने लंड को अपनी चूत से निकाला और साड़ी ठीक करके लकड़ी और कंडे उठाकर चली गई।मैंने चाची का नाम लेकर मुठ मारी और नहाकर आ गया।उसके 4 दिन बाद रातभर उसको चोदा। वो अगली कहानी में बताऊंगा।दोस्तो, यह देसी चाची सेक्स कहानी आप लोगों को पसंद आयी होगी. रंग की थोड़ी सांवली है मगर फिगर ऐसा कि किसी भी हालत खराब कर सकता है. इस देसी चुदाई की स्टोरी में आगे अभी और भी रस है, उसका वर्णन आपके मेल मिलने के बाद लिखना तय करूंगा.

इतनी ही देर में उस छोटे से बाथरूम के जंगले पर एक बंदर आ धमका और गुर्राने लगा. अकेली भाभी की चुदाई स्टोरी में पढ़ें कि मेरा दोस्त विदेश गया तो उसकी बीवी अकेली रह गयी. वो उचकी और बोली- मत कर ना … आह्ह … पागल हो गया है क्या?मैं बोला- हां, तुम्हारे जिस्म के लिए पागल हो गया हूं.

होटल पहुंच कर मैंने थोड़ी देर बेड पर लेट कर रेस्ट किया और अपने घर से यहां गुवाहाटी आने तक की एक एक घटना को याद करने लगा.

एसएस सेक्सी वीडियो बीएफ: वहीं विजय अपने दोनों हाथों से मेरे दोनों दूध को थामे हुए था और बेरहमी से उन्हें दबाए जा रहा था. जैसे मैंने अपने अंडरवियर को निकाला, तो वह मेरे लंड को देखकर बहुत खुश हुई.

वो सिसकारियां भरने लगी- आहह हह मेरे राजा … और तेज़ तेज़ आह हहह आह चोदो चोदो चोदो मुझे … ले लो मेरी आहहहह!अब मैं और तेज़ तेज़ झटके मारने लगा अब दोनों चुदाई का मज़ा लेने लगे।मेरी चाची अपनी गांड को पीछे करके लंड लेने लगी।वो बोली- राज, आजकल तू मेरा बिल्कुल ख्याल नहीं रखता है।मैंने कहा- चाची, ऐसी कोई बात नहीं है. आंटी की नाइटी हटी, तो उसके अन्दर से उनके दोनों खरबूजे ब्रा में कैद मानो कब से बाहर निकलने को मचल रहे थे. बाबा ने गिलास को एक झटके में खाली कर दिया और आंटी के हाथ से सिगरेट लेकर धुंआ उड़ाने लगे.

फिल्म देखते समय हेमा चाची ने मेरे बांय कंधे पर अपना सिर रखा हुआ था और उनकी गोरी नंगी जांघ मेरे लंड के ऊपर थी.

सिनेमा हॉल में इस ओपन सेक्स के बाद उन तीनों ने अपने कपड़े सही किये।फिर आंटी बोली- यही पास में ही मेरा घर है और घर बिल्कुल खाली है।ये बोल वो आंटी टाकीज़ से जाने लगी. एक दिन मुझे कुछ काम से इंस्टीट्यूट के आफिस जाना था तो मैं अपनी टीचर से पूछ कर गयी।अब वहां जैसे मैं पहुंची तो देखा कि वही लड़का सामने वाले आफिस में बैठा कुछ काम कर रहा था।मैं उसी के पास गई और उसको अपना काम बताया तो उसने बड़े ही प्यार से जवाब दिया. भाभी ने कहा- हां आपका ड्रम अन्दर है, किसी का सामान निकलना था तो हटा कर मैंने अन्दर रख लिया था.