नागपुर बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,सेक्सी नंगा दिखाएं

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी सेक्सी बीएफ बीएफ: नागपुर बीएफ सेक्सी, जैसे ही मैंने उसके एक बोबे को पकड़ा तो उसने फिर से मेरा हाथ पकड़ लिया और बोली- बेबी प्लीज मूवी देखने दो ना!मेरी बुद्धि चटक गई और मैंने गुस्से से अपना हाथ हटा लिया.

मामी की सेक्सी चुदाई

जब मैं उससे पहली बार मिला था, तो मैंने तभी उसकी बॉडी का सारा नाप ले लिया था. anil सेक्सी वीडियोकरीबन एक घंटे बाद वो सभी लोग चले गए लेकिन अपनी बेटी को हमारे घर ही छोड़ गए.

फिर घर पर देखने के लिए भी कोई चाहिए होगा, तो मैं और अमन सब मैनेज कर लेंगे. ननद और भाभी की सेक्सी वीडियोमाधवी के गर्म होंठों का अनुभव पाकर भिड़े के लंड ने फिर से सख्ती दिखाना शुरू कर दिया.

मुझे भी अच्छा लगने लगा क्योंकि छोटे कपड़े पहनने में मुझे भी मज़ा आता है.नागपुर बीएफ सेक्सी: मैं दीदी के मम्मों को देखकर मुस्कुराने लगा और दीदी से बोला- दीदी, क्या बिना कपड़ों के ही रहने का इरादा है?ये सुनकर दीदी ने अपने मम्मों को भी चादर से ढक लिया था.

मैम- आप क्लास नहीं करते हैं … आपको लगता है कि आप बिना पढ़े पास हो जाएंगे?मैंने हां में सिर हिला दिया.थोड़ी दूर जाने के बाद मैम ने कहा- यहीं रोक दो … मुझे कुछ सामान लेना है, सामान लेकर घर चली जाऊंगी.

जैकलीन फर्नांडिस सेक्स - नागपुर बीएफ सेक्सी

मुझे शुरू से ही चूत चाटना पसंद था … तो मैंने उसकी बुर को चाटना जारी रखा.तब धीरे धीरे मेरा दर्द कुछ कम हुआ।उसने अपना हाथ मेरे मुंह से हटा दिया अब मैं आहहह उहहह आहहह करके उसका लंड ले रही थी।अब उसने मुझे अपने लंड पर बैठने को कहा और वो नीचे लेट गया। मैं अपनी गांड को उसके लन्ड पर लगाकर बैठ गई और धीरे धीरे उछलने लगी।रोहित का लंड मेरी गांड में अंदर बाहर होने लगा.

तभी शैंकी ने मुझे बातों में लगा लिया और मैंने उससे कहा कि जान मुझे डर लग रहा है. नागपुर बीएफ सेक्सी सेक्स और वासना से भरपूर पोर्न कॉमिक्स के जरिये कामुक भाभी 2009 से लेकर अब तक हम सब के दिलों पर राज कर रही हैं.

पहले उन्होंने साड़ी उतारी और फिर बाकी के कपड़े प्याज के छिलकों की तरह उतरते चले गए.

नागपुर बीएफ सेक्सी?

अब मेरी अम्मी भी उसे खुल कर गाली देने लगी थीं- हां मां के लवड़े … मेरी लौंडिया को भी चोद लेना … मगर धीरे तो चोद भोसड़ी के … जब छेद ही फट जाएगा तो पेलेगा किधर!अब पीयूष भी जोर जोर से झटके मारने लगा. वो बिल्कुल कामदेवी लग रही थी क्योंकि उसकी लंबाई भी करीब 5 फुट और 8 इंच थी और वो भरे हुए शरीर की मल्लिका थी. तभी एक वेबसाइट पर सेक्स मूवी देखने का मन हुआ और फ्री समय होने के कारण में चुदाई के वीडियो देखने लग गया.

आह क्या जिस्म था … उसके 34 इंच के बूब्स हाथ ऊपर उठे हुए होने के कारण कुछ ज्यादा ही फूले लग रहे थे. हम दोनों काफी गर्म हो गए थे और एक-दूसरे को चुदाई का मज़ा दे रहे थे. मैंने भी लंड को सिकोड़कर फटाफट कपड़े पहन लिए और चारपाई की आड़ में छिप गया.

‘अरे?’भाभी- हां फिर ये सब मैंने मां को साफ़ बताया तो उन्होंने मुझसे तुम्हारे साथ सम्बन्ध बनाने की इजाजत दे दी. मुझे थोड़ा सा असमंजस में देख कर वो हंसने लगी और बोली- अरे यार इतना क्यों शर्मा रहे हो … चलता है, हो जाता है. वो बोलीं- दूध वाली चाय बनाऊं या बिना दूध की!मैं उनकी चूचियां देखता हुआ बोला- दूध वाली.

दीदी बोलीं- तो तुम मुझे कैसे कार चलाना सिखाओगे?तभी मैं फिर ड्राइवर सीट पर बैठ गया और थोड़ा पीछे हटते हुए दीदी से बोला- दीदी, आप यहां आ जाओ मेरे पास. आपका समीर खान[emailprotected]कॉलेज सेक्स लाइफ स्टोरी का अगला भाग:कॉलेज में आयी नयी मैम को पटा के चोदा- 2.

हमें यहां आए 10-15 मिनट ही हुए थे कि तभी स्मिता की मम्मी का कॉल आ गया और उसे अर्जेंट घर बुलाया गया.

तब तक वो अल्मारी से एक ड्राईफ्रूट्स का डिब्बा लाकर मेरे बाजू में बैठ गई.

मैंने अपने लंड को घी में डुबोया और मामी की गांड के छेद में लगा दिया. अपनी सहेली की बात में दम जानकर मैंने चुदने का मन बना लिया और शैंकी को वीडियो काल करके उसकी तरफ देख मुस्कुरा दी. उसके मुंह से मादक आवाजें आने लगीं- आह और जोर से … और जोर से चोदो … जल्दी जल्दी करो … आह मजा आ रहा है.

कुछ देर बाद उन्होंने अपनी आंखों की मूक भाषा से मुझे आगे बढ़ने का इशारा किया तो मैंने उनके गाउन को पैरों से ऊपर उठाना शुरू कर दिया. तभी अचानक से ही उस गहरी रात को बंद कमरे के घुप्प अंधेरे में मेरी नींद खुल गयी. मेरे लंड के कड़ेपन का अहसास दीदी की गांड में हुआ, तो वो थोड़े संकोच से मेरी तरफ मुड़ कर देखने लगीं और मैंने मुस्कुराते हुए गाड़ी को स्टार्ट कर दिया.

रेखा की गांड से खून आ रहा था लेकिन मधु को इससे कोई फर्क नहीं पड़ रहा था.

फिर मेरे होंठों से होंठ लगा कर उसने मेरे मुँह में रम उड़ेलने का सिलसिला शुरू किया. इस वक्त मॉम की ब्रा में उनके तने हुए मम्मों को देखकर किसी मुर्दे का भी लंड खड़ा हो सकता था. कमरे में बस मेरे आंडों के आंटी की गांड से टकराने से ‘फ़ट फट …’ की आवाज आ रही थी.

मैं कार्लोस की बात से उत्तेजित हो उठा था और मेरी नजर उसी समय कार्लोस के लंड पर चली गई. उसी समय मेरी मॉम ने विकी को याद करके अपनी चूत में उंगली करना शुरू कर दी थी- अह्ह उह्ह ओउह्ह्ह कम ऑन विकी. मैंने भी देर ना करते हुए नफीसा आंटी के बड़े बड़े बूब्स दबाने शुरू कर दिए.

तब चाची बोलीं- कित्ता प्यार से बोले कि वो भी करना है … मेरे बच्चे को चुत में लंड डालना है … ठीक है लो डाल लो.

इस बार वह इतनी जोर से चीखी कि उसकी चीख से पूरा कमरा गूंज उठा … लेकिन मैंने उसकी चीख पर कोई खास ध्यान नहीं दिया और मैं धक्के लगाता रहा. कॉलेज सेक्स लाइफ स्टोरी में पढ़ें कि मेरे कॉलेज में एक सेक्सी मैम आयी.

नागपुर बीएफ सेक्सी बॉस वाइफ सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरे कम्पनी के मालिक की शादी के बाद उनकी बीवी भी ऑफिस सम्भालने लगी. मैंने पहले मेज पर दरी को फोल्ड करके बिछाया, फिर प्रीति के पास जा कर उसका टॉप निकाल दिया.

नागपुर बीएफ सेक्सी मैंने जैसे ही किस करना बंद किया, उसकी धीमी आवाज में कामुक कराहें आनी शुरू हो गईं- आह आह ओह आहम्म करते रहो … आह करते रहो … आह. तब मैंने फोन रख दिया और खाना खत्म करके मैं मोबाइल में गेम खेलने लगा.

गर्म वीर्य की पिचकारियां आंटी की चुत में गिरना शुरू हुईं तो मेरी आंखें मदहोशी में बंद हो गईं और लंड के स्खलन का सुख मिलने लगा.

प्रियंका चोपड़ा की सेक्सी वीडियो फोटो

प्रीति भी इसमें मेरा पूरा साथ देने लगी, हम दोनों की जीभ आपस में लड़ने लगी. फिर एक दिन में कॉलेज से घर पर आया तो मैंने देखा कि कमरे का दरवाज़ा खुला हुआ है और भाभी नाईटी पहनकर सो रही हैं. मॉम डैड Xxx स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मेरे पापा ने मुझे अपना दोस्त समझ कर मेरी मम्मी की चुदाई करके सिखाया कि सेक्स कैसे करते हैं.

आंटी बोलने लगीं- ऋषि, मेरे शौहर ने मुझे कभी भी इतना प्यार नहीं किया … वो तो बस मेरे ऊपर चढ़ जाते हैं, थोड़े धक्के लगा कर फारिग हो जाते हैं और मेरे नीचे उतर कर सो जाते हैं. कुछ ही देर में आंटी की गांड मेरे सामने आ गई, मैंने उनकी गांड को सहलाना शुरू कर दिया और वो मजा लेने लगीं. कुछ देर के बाद मुझे अपनी छाती पर कुछ गीला सा महसूस हुआ, तो देखा कि उसकी चुत का पानी मेरी छाती से लग रहा था.

दोस्तो, हॉट हिंदी सेक्स स्टोरी के अगले भाग में अपने दोस्त बिलाल की अम्मी जुवैरिया की चुत चुदाई विस्तार से लिखूंगा.

मॉम की संकरी पड़ चुकी चुत में मोटा लंड एकदम से घुसा, तो वो चिल्लाने लगीं- अह्ह्ह ह्ह्ह मर गई मम्मी रे … उह्ह … धीरे कर साले भड़वे … ऊऊऊ. खबर बड़ी है, सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक कनिका कपूर लंदन से लौटी थीं और लखनऊ के एक पार्टी में पहुंची थीं, जहां वो लगभग 400 लोगों से मिली थीं. हालांकि भिड़े अभी भी थोड़ा असहज महसूस कर रहा था लेकिन अब बात उसके हाथ से निकल चुकी थी.

फिर वो उठीं और जगप्रीत के गाल अपने एक हाथ से पकड़ कर उसकी काली मूछों में छिपे होंठों को काटने लगीं. एक दिन उसका फोन आया और उसने मुझसे मेरे हाल-चाल पूछे तो हमारी बातचीत शुरू हो गई. मैं मामी के बारे में बहुत गंदा गंदा सोचता हूँ तो वही मुझे सपने में भी दिखता है.

दोस्तो, मुठ मारना, गंदी फ़िल्में देखना … मुझे बड़ा अच्छा लगता था लेकिन आज तक मैंने कभी किसी लड़की की चूत नहीं चोदी थी. मॉम अपनी गांड हिलाने लगीं और उनकी गांड की नीचे दबा विकी का हाथ मसलने लगीं.

उन्होंने लाल साड़ी पहनी हुई थी और फुल मेकअप में घूंघट निकाले हुए बैठी थीं. मैं लौड़े को जोर जोर से हिलाने लगा और सारा माल मामी की पैंटी में निकाल दिया. चुत चिकनी होने के कारण उसका पूरा लंड एक ही बार में मॉम की चुत में घुसता चला गया.

जो छोटी वाली बहन है, उसकी उम्र मेरे बराबर की ही है … यानि वो 20 साल की है.

पता नहीं उसको इस बात से फर्क पड़ता था या नहीं … यह तो नहीं पता, पर मैं उसे यह दिखाने लगा था कि मुझे उससे अब कोई भी मतलब नहीं है. मैं बिस्तर पर लेट गया और मेघना से अपनी गांड मेरे लंड पर सैट करने को कहा. कुछ देर बाद वो मुझसे अलग हुई और बोली- जीजू, क्या ऐसे ही खड़े खड़े सब करोगे? और जो करना है जल्दी करो, मामा जी भी आने वाले होंगे.

नफीसा आंटी की ‘हह आहह मर गई … आह फाड़ दी मेरी चुत … आहहह …’ करने लगीं लेकिन फिर जल्दी ही पूरा लंड चुत में मजे से लेने लगीं. मेरी पिछली कहानी थी:मैं बॉस और उसके भाई से चुद गईमैं बहुत समय से कोई सेक्स कहानी नहीं लिख पाई थी, इसलिए आज एक नयी सेक्स कहानी साथ आपके सामने हाजिर हूँ.

अब मैंने दो उंगलियां आंटी की गांड में डाल दी और अंदर-बाहर करने लगा. मैं उसका कुछ नहीं बिगाड़ सकता था, परन्तु तब भी मैं तुरंत उसके पास गया. तभी वो बोली- भैया, रात में मजा आया?पहले तो मैं डर गया … फिर याद आया कि इसने किसी से कुछ नहीं कहा है इसका मतलब है कि इसको भीचुदने में मजा आयाहै.

कैटरीना की सेक्सी वीडियो फोटो

मैंने चाचा जी के सीने के एक निप्पल को अपनी उंगलियों से दबाते हुए दूसरे निप्पल पर अपने होंठ लगा दिए और उसको चूसने लगा.

वो लंड चुसवाते हुए बोला- मैं दो दिन पहले आया था, तो तुमने मुझे डांट कर क्यों निकाल दिया था!मॉम बोलीं- उस दिन मेरा बेटा घर पर था, तो तुम्हें अन्दर कैसे आने देती. आप लोगों ने यदि मेरी पुरानी कहानी पढ़ी होगी तो आपको मेरे बारे में पता होगा कि मैंने तो अपनी दोनों बहनों की ली है. मगर वो आवारा नहीं माना और जबरदस्ती मुंह में लंड डालने वाला ही था कि तभी मैं अपने डंडा जमीन पर पटकते हुए उसके सामने आ डटा.

अब वह दूसरे शहर चला गया है।मैंने कहा- मोहिनी तुम्हारे बारे में बताओ, तुम्हारा किसी से रहा संबंध?मोहिनी ने कहा- मेरी एक सहेली है, उसके साथ निकट संबध है।खाना खाने के बाद मैंने कहा- मेरे दिमाग़ में हमारी समस्या का एक हल आया है. भाभी गांड हिलाती हुई बोलने लगीं- आह धीरे धीरे करो … दर्द हो रहा है. काय सेक्सी व्हिडिओमैं बोला- नहीं आंटी …आंटी मुझे बीच में रोक कर बोलीं- आज से मैं तेरी आंटी नहीं, तुम्हारी रूपाली हूँ.

फिर कब हमारे होंठ एक दूसरे के होंठों से मिल गए और हमारी जीभें आपस में लड़ने लगीं, इसका अहसास ही नहीं हुआ. मैंने कहा- बाहर तो कोई नहीं है, तो दरवाजा कैसे खुलेगा?उस लड़की ने कहा- मम्मी डैडी कल से घर पर नहीं हैं.

मैंने उससे पूछा कि तुम्हें मुझसे क्या काम था?उसने कहा- अरे यार मैं सोच रहा था कि आज शनिवार है. खैर … मैंने उसकी पैंट खोलने में मदद की, तभी उस लड़की ने मेरा हाथ पकड़ा और अपनी गीली पैंट वाली जगह पर रगड़ने लगी. मैंने अपने लंड साफ़ करके उस पर घी लगाया और मामी के मुँह में डाल दिया.

मैं उनके करीब गया और उनके घूंघट उठा कर उनके रूप सौंदर्य में खो गया. मैंने भाभी की दोनों टांगों को चौड़ा किया और जैसे ही मैंने भाभी की प्यासी कली के जैसी उनकी चूत के दोनों होंठों को खोला तो मानो मेरी उंगलियां देसी घी में डूब गई थीं. मेरी निगाहें जगप्रीत की मूछों पर गईं, तो अम्मी ने उसे इशारा कर दिया.

मेरी अम्मी का न ही कोई दोस्त है और न ही कोई उनके दर्द को समझने वाला है.

इसके बाद मैंने भाभी को कई बार चोदा; उनकी गांड भी मारी और उनसे लंड भी चुसवाया. थोड़ी देर में वो बाथरूम से नहा कर निकली, तब तक मैं भी दूसरे टॉयलेट में जाकर फ्रेश हो गया था.

तब भाभी अपनी मादक अदाओं से अपने पति के दोस्त को गर्म करने लगी।मौका पाकर वे दोनों रसोई में पहुँच गए. फिर मैंने नफीसा आंटी को बिस्तर पर लिटा दिया और उनकी दोनों टांगों को अपने हाथों में लेकर चूत में लंड घुसा दिया. मॉम को ब्रा पैंटी में देख कर विकी आगे बढ़ा तो मॉम ने उससे कपड़े उतार कर आने को कहा.

ये कहकर वो लड़खड़ाती हुई कार से उतरी और अपने पर्स से एक चाबी निकाल कर दरवाजा खोला और कार अन्दर लाने को कहा. मैंने पूछा- आपके रिश्तेदार इधर, किधर रहते हैं?उसने बताया कि जगह का सही सही पता तो नहीं मालूम … मगर वो नई आबादी है और बाजार से हटकर कुछ दूर है. नवीन बोला- डरो मत, मैंने व्हिस्की की बोतल मंगाई है, धीरज जा … ले ले.

नागपुर बीएफ सेक्सी मैंने अपनी बाहें उसकी पीठ पर कस दीं और उसके होंठों की तरफ़ अपने होंठ ले जाने लगा. मैं मामी की गांड में अपने लंड को फंसाए हुए ही उन्हें उठाकर ले आया और जैसे ही लंड निकाला बाहर मामी की गांड से सारी टट्टी बाहर निकलने को हो गयी.

सेक्सी वीडियो दिखाएं चूत चुदाई

मैं खुद उसे सैट करना चाहता था, तो इस घटना के बाद मैंने धीरे धीरे उससे सेक्स की बातें करनी शुरू कर दीं. उस दिन मेरी मॉम ने काले रंग की साड़ी पहनी थी और स्लीवलैस ब्लाउज पहना था. मेरी सासू मां ये सब चुपचाप देखती रहती थीं पर कुछ नहीं बोल पाती थीं.

मेरी पिछली कहानी थी:टाकीज़ में मिली चुदक्कड़ आंटीमैं आपको सास दामाद Xxx कहानी के किरदारों के बारे में बताता हूं. फिर तुम्हारा लंड खड़ा होते ही मैंने एक बार लंड की सवारी करना शुरू कर दी और ये सब शुरू हो गया. মিয়া খলিফা পন ভিডিওमैंने एक निप्पल मुँह में भर लिया और अपनी तरफ खींचते हुए निप्पल को मींजा, तो वो सिहर गई.

मोटा टमाटर के आकार का सुपारा मेरी बीवी की चुत की फांकों को चीरता हुआ अन्दर फंस गया.

उसकी गुलाबी सीलपैक चुत देख कर ऐसा लग रहा था कि मेरा लंड लोअर फाड़ कर बाहर निकल आएगा. मेरी रिश्ते में एक दीदी लगती हैं, ये सेक्स कहानी उन्हीं की चुत चुदाई को लेकर है.

कुछ पल बाद जब लंड ने चुत की गहराई में जाकर खुद को समायोजित कर लिया, तब मैडम की जान में जान आई. मैं- ये सब तो ठीक है … इसके आगे क्या हुआ?उसने आगे कहा कि धीरे धीरे वह मेरी गांड को सहला सहला मुझे इतना उत्तेजित कर देता था कि मुझे आज इच्छा हो ही गयी कि एक बार उससे अपनी गांड में डलवा ही लूं. मुझे नवरात्रि के पंडाल आदि का बचा हुआ कुछ सामान वापिस देना था, उसे देने चला गया.

ये सब इतनी तेज गति से हुआ था कि न तो मधु को कुछ समझ आया कि उसकी चुत से मेरा लंड क्यों निकल गया और न ही रेखा को समझ आया कि उसकी चुत ने क्या जुर्म कर दिया था, जो मेरा लंड एकदम से उसकी चुत में घुस गया.

दोस्तो, नफीसा आंटी के साथ सुहागरात की चुदाई की कहानी बड़ी ही दिलकश है. बल्कि उसे डर सा लगा कि घर पर वो और संजीव अकेले होंगे।पहले तो कोई बात नहीं थी पर पिछले दिनों में उसके और संजीव में जो खुलापन आ गया था, कहीं कुछ गड़बड़ न हो जाये।पर अब वो विजय से कुछ नहीं कह सकती थी. मैं और मौसी सबसे पीछे थे और हमारे पास में दूसरे बिस्तर पर नानी सो रही थीं.

देहाती गर्ल्स सेक्सी वीडियोलेकिन इस बार मैंने फिर जल्दी से लंड बाहर निकाल कर चार पांच बार लंड शिवानी की चूत में ठोका. वो पसीने में डूबी हुई थी मगर चुदाई का मजा आने लगा था तो वो मस्ती से लंड के ऊपर नीचे करके अपनी गांड उछालने लगी.

डॉग एंड सेक्सी वीडियो

ये कहते ही मैंने सीमा मामीजी के उरोजों को ज़ोर से पकड़ कर मसल दिया. उसने मेरे सर पर हाथ फेरा और दूसरा निप्पल मेरे होंठों में लगा दियावो बोली- इसमें भी रस है मेरी जान. मैं गणित में थोड़ी कमजोर थी तो मेरे अब्बू ने एक गणित के टीचर को मुझे पढ़ाने के लिए रख लिया.

न्यू सेक्स लाइफ स्टोरी में पढ़ें कि दो दोस्तों ने कैसे बिवियों की अदला-बदली की पर पत्नियों को यही लगा कि उनके पतियों को कुछ पता नहीं है. क़रीब दस पिचकाउमैय्यां निकलीं और मेरे वीर्य से उमैय्या का मुँह भर गया. लगभग 20 मिनट की किसिंग के बाद वो बोली- मेरे बेडरूम में चलो न!मैंने उसको अपनी गोद में ऐसे उठाया कि उसकी चूचियां मेरे होंठों से टकरा रही थीं.

ऊपर गहरे गले की टाईट कुर्ती में से उनकी चूचियां भी बहुत ज्यादा मस्त लग रही थीं. ब्रा खोलते ही भाभी के बड़े बड़े संतरे हवा में फुदकने लगे और मेरी आंखों में चुभने लगे. मैंने कहा- हां जरूर … मेरा ख्याल है उस दिन तुमको एक अलग ही अनुभव मिलेगा.

मुझे ये सोच सोच कर ही बेहद सनसनी हो रही थी कि चुत फाड़ने का पहला मैडल मेरे लंड से हासिल कर लिया था. उनकी इन ज्ञान भरी बातों से मैं सहज हो गया और भाभी के साथ फिर से सामान्य बातें करने लगा.

इस बार वो वाशरूम में जाने लगीं और कटाक्ष करती हुई बोलीं- हां मुझे मालूम है, मगर फिर से गर्म भी किया जा सकता है.

मैंने काफी कोशिशों के बाद आंटी की गांड मार ली और उनसे अपना लंड भी चुसवाया. जानवर फिल्म अक्षय कुमार की फुल मूवीआप भी सोच रहे होंगे कि जब इतने टाइम से रिलेशन में था, तो अभी तक लौंडिया के साथ सेक्स क्यों नहीं किया. सेक्सी के वीडियो गानेउसी के चलते वो माधवी की उंगली को, जो उसके मुँह में थी … उसे कभी-कभार काट भी लेता. इस बात पर धीरज और नवीन हंस कर बोले- भोसड़ी वाली, उसमें गैर मर्द से चुदाई हराम नहीं है … साली ड्रामा मत कर चल गिलास बना और पी ले … कुछ नहीं होता.

कोई गर्लफ्रेंड बना ली है क्या?मैं उनकी इस बात से एकदम से चौंक गया और कहा- नहीं मौसी, मैं इन चक्करों में नहीं पड़ता.

इतने में साई उठा और बोला- मेरा लौड़ा भी चूस!मैं कभी सोमू का गांड चाटता, कभी साई का लौड़ा. मुस्कुराती हुई भाबी बोलीं- कुछ चाहिए था क्या आलोक?भाबी एकदम सेक्सी अंदाज में अपने होंठों को दांतों तले दबा कर बोली थीं. दीदी की पिंडलियों में हल्के भूरे बाल थे और बांहों के बाल बिल्कुल साफ थे.

कुछ देर बाद पोजीशन बदल गई और अब मनीषा भी मेरे लंड के ऊपर बैठ कर मेरेलंड के पूरे मज़ेले रही थी. यह हॉट गर्लफ्रेंड की फर्स्ट सेक्स कहानी मार्च 2017 की है, उस वक्त मैं 21 साल का था और कॉलेज के फाइनल ईयर में था. तेरी उम्र और इनकी उम्र में काफी अंतर दिखाई दे रहा है?धीरज बोला- अरे ये मेरे पापा के दोस्त के बेटे हैं … और मुझे ट्यूशन भी देते हैं.

सेक्सी शुभ रात्रि

वो मेरे सामने अपनी दोनों टांगें खोल कर ऐसे बैठी थी कि अगर वो वह नंगी बैठी होती तो उसकी चूत बिल्कुल खुल कर मेरे सामने होती. अब उनका जब भी मन होता तो कभी इब्राहिम, कभी मोतीलाल, कभी काशिफ मुझे रगड़ देते. आंटी- आह्ह आह्ह … मेरे राजा चोद दे अपनी रंडी को … आह्ह हाय रे अम्मी उई आह्ह बना ले मुझे अपनी रंडी … छिनाल बना ले … उंह चोद मेरे राजा … चोद अपने दोस्त की रंडी अम्मी को … आंह चोद दे साले.

इस बार वो वाशरूम में जाने लगीं और कटाक्ष करती हुई बोलीं- हां मुझे मालूम है, मगर फिर से गर्म भी किया जा सकता है.

उस लड़की ने एक डिजाइनर जींस के ऊपर आर्कषक लाल रंग की टी-शर्ट पहनी थी.

क्या बताऊं दोस्तो, उसके क्या रसीले होंठ थे … उसका गोरा मुखड़ा नशे में थोड़ा लाल हो गया था. अब हमारे बीच मैडम की तरफ से आप वाला सम्बोधन समाप्त हो गया था और जान व तुम शुरू हो गया था. सेक्सी वीडियो फौजी वालाआंटी ने इठला कर पूछा- क्या देख रहे हो?मैंने कुछ नहीं कहा और उनके मम्मों की गोलाई को ही देखता रहा.

जैसे हर लड़के की मनोकामना होती है कि उसके पास कोई लड़की हो, जिसके साथ वो प्यार कर सके, वो इच्छा मुझमें भी थी. अपनी बात कह कर मैंने सासू मां के कंधे पर अपना हाथ रख उनके कंधे को सहला दिया और मसलने लगा. फिर मैंने धीरे धीरे अपनी बहन के चूचे दबाने शुरू किए, वो तो मानो जन्नती सुख लेने लगी थी.

मैंने उनसे कहा- सलीम कहां है?वो बोलीं- सलीम अपनी खाला के घर गया है … वो कल सुबह तक आएगा. वो मुझे चूमने लगी और बोली- मेरे सनम मजा आ गया, एक बार और मजा दे दो मेरी जान!कुछ देर बाद उसने लंड चूस कर खड़ा कर दिया और मैंने उसकी दूसरी बार चुदाई कर दी.

मैं काफी समय से सोच रहा था कि अपनी आपबीती आप सबके साथ साझा करूं, मगर कुछ संकोच और हिचकिचाहट थी.

बाथरूम में जाते ही मैं अपने कपड़े टांगने लगा तो वहां जो मैंने देखा, वो देख कर मेरी आंखें बड़ी हो गईं. फिर पहले वो गई, उसके बाद जैसे ही मैं फ्रेश होकर बाहर आया तो देखा कि उसके भाई बाथरूम में आने को थे. मैं उसके पास गया और उसके दोनों हाथों को पकड़ कर उठाया और उसे बांहों में भर लिया.

हिंदी देशी सेक्सी विडिओ लंड चुत में लेते ही उसकी एक मादक आह निकली, तो मैं समझ गया कशिश चुदी हुई है. मैं वहां सबसे अंधेरे वाले हिस्से में जाकर बैठ गया और शीला दीदी के आने की राह देखने लगा.

कुछ ही दिनों बाद गर्मियां शुरू हो गईं और मेरी वाइफ ने अपने घर कुछ दिनों के लिए जाने को कहा. मैंने लेटी हुई भाभी के मम्मों के बीच में लंड फंसाया और मम्मों की चुदाई करते हुए उनके मुँह में लंड देने लगा. मैंने उसकी जांघों पर हाथ फेरना चालू कर दिया, वो कुछ नहीं बोल रही थी.

सेक्सी गोरी चूत की चुदाई

मैंने उसकी टांगों को फैला कर पीछे से उसकी चुत में लंड पेला और फिर सेचोदना शुरूकर दिया. मैं अपने डिब्बे से बाहर निकला तो इधर-उधर देखा कि सलईका किधर खड़ी है. इससे पहले कि मैं कुछ कर पाता, पापा बोले- चलो, मैं तुझे चुत चोदना सिखाता हूं और बताता हूं कि संभोग कैसे किया जाता है.

मैंने बोला- फिर छोड़ा क्यों उसको?वो बोली- एक दिन उसने कुछ ज्यादा ही बदतमीज़ी कर दी थी. उसने अपनी टांगें चिपका ली थीं और मेरे हाथ को अपनी चुत तक जाने से रोकने लगी थी.

इस थ्री-सम चुदाई से मेघना को भी एक नए तरीके के सम्भोग का सुख मिलेगा.

फिर भी मूत की बूंदें टपक रही थीं, मेरे होंठ पर दो चार बूंदें गिरीं, जिसे मैं जल्दी से चाट गया. फिर चार दिन बाद धीरज मुझसे बोला- कल मैं फिर से उसी रंडी के घर एक दोस्त को लेकर जा रहा हूँ. मैंने उसके हाथ से सिगरेट लेकर सुलगाई और एक लम्बा कश खींच कर उसकी तरफ सिगरेट बढ़ा दी.

इससे फरीना इतनी तड़पने लगी थी कि अगर उसका बस चल रहा होता, तो वो अभी के अभी घोड़ी बन जाती और मेरा लंड अपनी चुत को खिला देती. जिसे सुनकर प्रीति घबरा गई, बोली- हाय लगता है कि मामा जी आ गए!इतना बोलकर प्रीति जल्दी से उठी और अपने कपड़े पहनने लगी. फिर वो मुझसे बोलीं- अब बताओ क्या प्रोग्राम है?मैंने भाभी से कहा- मैं आपसे मिलना चाहता हूं.

मेरी मम्मी बोलीं- राज सो गया क्या?नफीसा आंटी बोलीं- नहीं दीदी, अभी तो उन्होंने एक ही चैप्टर कंम्पलीट किया है.

नागपुर बीएफ सेक्सी: कुछ देर बाद प्रीति भी वहां आ गयी और मेरे ससुर से बोली- मामा जी, क्या मैं ही कर दूं फिश फ्राई?तो मैं बोला- हाँ प्रीति, आज तुम्हारे ही हाथ की फिश फ्राई खाते हैं. हालांकि अभी मैं झड़ना नहीं चाहता था, तो मैंने अपने लौड़े को बाहर निकाल लिया और सावी भाभी को किस करने लगा.

कुछ देर में गांड ढीली पड़ गई और अब मॉम को भी गांड मराने में मजा आने लगा था. आंटी ने मेरे दोस्त की तरफ इशारा किया तो मैंने बताया कि वो मेरा दोस्त है, दारू पीकर सो रहा है. मेरा गीला लंड सटाक से गांड के अन्दर घुसता चला गया और मैं आंटी की क़मर पकड़कर दे दनादन चोदने लगा.

बस फिर क्या था … मैं अपना खड़ा लौड़ा लेकर चल पड़ा भाभी की चूत को चोदने!जैसे ही मैं वहां पहुंचा तो देखा भाभी ने लाल रंग की साड़ी पहनी हुई थी और बेड पर लाल गुलाब के फूल बिछे हुए थे.

वो मेरी गांड के पीछे आ गया और उसने पीछे से मेरी गांड पर अपना लंड फिराना शुरू कर दिया. मोनिका ने मेरी पैंट की जिप खोली और घुटने बल बैठ कर मेरे लंड को चूसना शुरू कर दिया. ‘अरे सोनू तुम कब उठी?’भिड़े के लंड पर बैठे-बैठे ही अपना मुँह फेरकर माधवी ने सोनू से पूछा, उस वक़्त भी भिड़े का लंड माधवी की चूत में ही था.