सेक्सी बीएफ बीएफ हिंदी

छवि स्रोत,पोर्न 2022

तस्वीर का शीर्षक ,

गधा की बीएफ: सेक्सी बीएफ बीएफ हिंदी, मैंने बहुत सारा तेल अपने लंड पर लगाया और धीरे से लंड को गांड के छेद के पास ले जाकर थोड़ा धक्का दे दिया.

इंडियन सेक्सी इमेज

शुरू में वह मेरे मम्मों की झलक को नजरअंदाज कर देता था मगर मैंने ध्यान दिया तो पाया कि मेरा भाई छुप छुप कर मेरी चूचियों को निहारता था. चांदी की चेन डिजाइनये बात तब की है जब मेरी भाभी ने मेरी खाला से कहा कि फ़ैज़ी जब आए तो उससे कहना कि वो हमें कहीं घुमाने लेकर जाए.

मैंने कुछ नहीं कहा तो भाभी ने फिर से लंड मुँह में ले लिया और चूसने लगीं. खांसी की दवाई बताओमां ने मेरी चुदास समझ ली और उन्होंने तत्काल झुक कर अपनी साड़ी ऊपर कर दी.

उसी बुर पर छोटी छोटी झांटें उगी थीं और उसकी कमसिन बुर की मादक महक आ रही थी.सेक्सी बीएफ बीएफ हिंदी: अरुणिमा की इस बात से विश्वेश्वर जी थोड़ा चिढ़ गए और बोले- साली रंडी! क्यों मज़ा ख़राब कर रही है कुतिया … गांड खोल और लंड अन्दर ले.

आज मैंने पहली बार किसी लड़की की चूत का पानी पिया था और अपना पानी उसे पिलाया था.आंटी ने अपने सिर की स्पीड बढ़ा दी और अपनी जीभ चूत में अन्दर बाहर करने लगी.

ऑनलाइन बीपी वीडियो - सेक्सी बीएफ बीएफ हिंदी

उसके धक्कों से मेरा लंड तकिया से रगड़ खाते हुए स्वाभाविक रूप से पिलो सेक्स का मजा ले रहा था.अभी भी हम दोनों फोन पर बातें कर रहे थे और एक दूसरे की तारीफ किए जा रहे थे.

उन्होंने हाथ से मुँह में केला लेकर चूसते हुए लंड काटने का इशारा किया. सेक्सी बीएफ बीएफ हिंदी अपने दोनों पांव भी चाची के दोनों पांव के बीच में फंसा कर लपेट मार दी.

हम दोनों का सफर करीब डेढ़ घंटे का होने वाला था क्योंकि वो सड़क गांव की थी और बहुत सही हालत में नहीं थी.

सेक्सी बीएफ बीएफ हिंदी?

तभी अचानक से एक हाथ मेरी गांड पर लगा तो मैंने पीछे घूमकर देखा तो वो आयुष ही था और उसी ने ही मेरी गांड को छुआ था. मैं पूरी तरह वासना में डूबा हुआ था, तभी भाभी आवाज देती हुई मेरे कमरे में आई और मेरे बाथरूम में आकर दरवाजे को झटके से खोला. जिसको मज़ा नहीं आ रहा, उसकी तब तक पिटाई होगी, जब तक उसे मज़ा न आने लगे.

उनमें से एक ने बोतल मेरे मुँह में लगा दी और बोला- ले नीट ही पी ले हरामजादी … साली तू तो अभी से मर गई. उसी वक्त अचानक से मॉम ज़ोर से धक्के मारने लगीं और बोलीं- आंह मैं झड़ गयी मेरी बेबी … आहाआअ. कुछ देर बाद मैंने एक झटके से मैडम की चूत से अपना मोटा लंड निकालकर उनकी गांड के छेद पर सैट कर दिया.

दोनों ने मेरे सारे गुब्बारे फोड़ कर कहा- ऐसे फोड़े जाते हैं गुब्बारे, तुम लोग अभी बच्चे हो!एक पल को उन दोनों के बीच सैंडविच बनने से मेरी कामवासना और भड़क गई।अब मैं चुदने की योजनाएं बनाने लगी।खेल खेल में दिन ढल गया, रात घिर आयी, डिनर का वक्त हो गया. मैंने भी बता दिया कि मेरा प्रवीण कुमार है और मैं एक विद्यार्थी हूँ. लेकिन वो बोला- यार, तुमने मेरा लंड इतना मोटा करके खड़ा कर दिया, अब इसे किसकी बुर में डालूं?मैं बोली- तू एक काम करना, रात को ग्यारह बजे मेरे घर पर आ जाना.

मैंने तीन प्लेट लगाईं और विक्रम की प्लेट अपने बाजू में लगा ली ताकि वो मॉम के साथ कोई बदतमीजी ना कर सके. 10- 15 झटकों में मैं उनके बदन पे गिर गया और झटके ले लेकर माल चूत में छोड़ने लगा.

तो मैंने कहा- ठीक है नम्रता, अब से तुम भी मुझे आप कह कर मत बुलाया करो.

थोड़ी देर उसके मस्त बदन की खुशबू और उसके गोरे हाथों के स्पर्श से लौड़ा अकड़ने लगा और कड़क हो गया.

फ्रेंड्स, मैं जयंत आपको दिल्ली में मिली एक मस्त लड़की फ़ारिज़ा के साथ चूत गांड चुदाई की कहानी सुना रहा था. भाभी ने बताया- आप मुझे बहुत प्रिय हो, साथ ही साथ आप मुझको बहुत अच्छी तरह से समझते हो और मुझे कभी भी उदास देखना आपको पसंद नहीं है. मैं दो तीन मिनट तक चाची की चूत का रस चाटता रहा, इससे वो एकदम से बेहाल हो गई थीं.

मैंने कहा- हां मेरी जान, आज हम सब कुछ मस्ती से करेंगे … लेकिन जल्दबाजी का काम अच्छा नहीं है. वो तो आइसक्रीम का मजा भी ले रही थी और लंड चूसने का मजा भी ले रही थी. फिर उन्होंने मुझे नंगा किया और चाची ने मेरा लंड देखा तो हैरान रह गईं.

और चाची ने दोनों पांव मेरे पांव के बीच में रखकर पीछे से जोड़ लिए था और मेरी पीठ पर दोनों हाथ पैर बांध दिए थे.

वो एक काटन का हाउस कोट जैसा गाउन था जिसे आप घुटनों तक आने वाली नाइटी कह सकते हैं. दोस्तो आज मैंने अपनी लाइफ की पहली ऐसी हसीन हुस्न की परी देखी थी, जो शादी के इतने सालों बाद भी बिल्कुल कुंआरी लड़की की तरह दिख रही थी. मेरी गांड के नीचे तकिया लगा होने के कारण मेरी गांड ऊपर को उठी हुई थी.

इसके आगे मैंने प्रिया की ऐसी चुदाई की, जिसे वो अपनी पूरी जिंदगी याद रखने वाली है. इतना कहने के बाद उसने मेरी पीठ दोनों हाथ से थाम ली और मुझे जकड़कर एक जोरदार धक्का लगा दिया. मैंने कहा- सिर्फ आना है या कुछ और भी करना है?वो बोली- सताओ मत यार … तुम आ जाओ और कई दिनों तक यहीं रह जाना.

मैंने उसके बाद टैबलेट और कॉन्डम निकाली और पूछा- इनमें से तुम क्या यूज करना पसंद करोगी?उसने गोली चुनी.

मैंने कहा- हां चलो, मैं भी खाना लगाने में तुम्हारी मदद कर देता हूं. मेरा लंड मानने को तैयार ही नहीं था फिर भाबी ने हाथ पीछे करके मेरे लंड की गोटियां सहलाईं और कुछ तेज झटकों के साथ मैंने अपना पूरा माल भाबी की चूत में डाल दिया.

सेक्सी बीएफ बीएफ हिंदी मैं बोला- तेरा पतला लंड मुझे दर्द दे गया, तो तू मेरा मोटा लंड सह पाएगा?किशन- भैया आपके लिए कितना भी दर्द होगा, मैं सह लूँगा. सारी टेंशन को भूल जाओ, हम तुम्हारा बुरा नहीं चाहते और ना ही हम किसी से कुछ नहीं कहेंगे.

सेक्सी बीएफ बीएफ हिंदी कुछ देर तक मम्मों का रस पीने के बाद मैंने पायल के लहंगे का नाड़ा खोलने हाथ बढ़ाया तो वो शर्मा गई. आंटी ने कहा- तो फिर देर किस बात की?मैं झट से आंटी को शॉवर में ही किस करने लगा.

दोस्तो, तीन साल की उम्र में उनका लड़का क्या दूध पिएगा, इसलिए वो कभी भी अपने बेटे को अपना दूध नहीं पिलाती थीं.

नेपाली नेकेड वीडियो

फिर रणवीर झड़ गया और मेरे ऊपर से उतर कर बोला- राजीव, तूने आज मुझे खुश कर दिया. चुदाई के बाद मैंने उनसे पूछा- आपके यहां तो आपके मर्द दोस्त आते रहते हैं, उनसे आपका काम नहीं बनता है क्या?भाभी ने कहा- वो सब मेरे पति के दोस्त हैं और उनसे मेरी प्राइवेसी के लिए खतरा है. नीलिमा और बुआ दोनों के चेहरे और बूब्स मेरे माल से भरे थे, जिसे दोनों ने एक दूसरे के शरीर से चाट लिया.

उनकी लम्बी टांगें, कमसिन कमर, कटावदार फिगर और 34 की साइज के स्तन एकदम टाइट लग रहे थे. साथ ही मैं खुद उसके ऊपर चढ़ गया और उसको चूमने चूसने लगा, उसके पूरे शरीर को सहलाने लगा. आंटी बोलीं- चल मेरे बेटे जब तक मेरी गांड ढीली होती है, तब तक मेरी चूत जमकर चोद ले.

ऐसे संकट के समय श्रीमती जी अपनी सहेली को अकेले नहीं छोड़ सकती थीं तो मुझे हुक्म मिला कि मैं जाकर उनकी सहायता करूं.

हम्म्म!” उन्होंने सिगरेट का कश लगाते हुए आह भरी।एक काम करो, इसे मेरे कमरे में ले जाओ, धीरज से चाबी ले लो. जब पायल ज़्यादा गर्म हो गई तो वो मुझसे बोली- यश, अब मुझसे रहा नहीं जा रहा है. कभी वे मेरे मम्मे दबाते, कभी मैं उनका लंड सहलाती, वह मेरे मम्मे चूस लेते, मेरी चूत में उंगली कर देते, कभी मैं मौका पाकर उनका लंड चूस लेती.

आप लोग यकीन नहीं मानेंगे, उसकी चूत में जब मेरा डोटेड कंडोम लगा लंड गया, तो वो इतनी जोर से चिल्लाई कि रूम के बाहर भी उसकी आवाज़ सबने सुन ली गई होगी. मैंने उनसे भाभी कह कर बात करता था तो एक दिन उन्होंने कहा- तुम मुझे संगीता कहा करो. शादी के दस दिन के बाद नीतू का पति जॉब पर चला गया तो मैंने नीतू से अपने पास आने के लिए कहा.

वो बोली- अरे वाह, अभी नंबर दिया और इतने सारे मैसेज … कुछ आराम से करो यार … मैं इनको पढ़ तो लूं!मैंने कहा- हां पढ़ लो और जबाव भी देना. ऐसा करते हुए भाभी ने मुझे देखकर तीन चार बार देखा पर वो न तो कुछ बोलीं और ना ही अपनी साड़ी का पल्ला ठीक किया.

एक को अपने मुँह में डालकर बहुत जोरों से चूसने लगा और दूसरा मसलने लगा. तो मैंने पूछा- फिर आप कहां सोओगी?वो बोलीं- मैं भी बेड पर ही सोऊंगी. एक महिला जब किसी मर्द से सिगरेट मंगाए तो बात समझ आती है कि वो कुछ गर्म है.

वो बोलीं- सामने ही तो हूँ, दिखाओ न!मैंने कहा- अरे यार, जब तुम्हारा ज्यादा मन हो तो मुझे घर बुला कर देख लेना, अन्दर ले लेना, जो मन हो सो कर लेना.

उन्होंने मेरा लंड चुत के नीचे से आगे की ओर किया और लंड को चुत के ऊपर रगड़ने लगीं. किशोर ने मुझसे मेरा स्कूल बैग लेकर किनारे रख दिया और मेरा हाथ पकड़कर मुझे अपनी बांहों में खींच लिया. उसकी चूत, गांड और उसके मुँह में एक साथ अपने लंड से उसकी मजेदार चुदाई करें.

फिर कोमल ने कैमरा सैट करके मोबाइल को एक सही जगह पर रख दिया, जिससे पूरी फिल्म की रिकॉर्डिंग अच्छे से हो. उसने हंस कर कहा- और अब आप बताओ, आपकी कितनी प्रेमिकाएं हैं?मैंने कहा- एक भी नहीं है … ये क्यों पूछ रही हो?उसने कहा- बस ऐसे ही, पर आप झूठ बोल रहे हो कि आपकी कोई प्रेमिका नहीं है.

फिर गांड मारने वाले और मराने वालियां इस बात को समझती होंगी कि गांड में लंड लेने में शुरुआत में दर्द होता ही है. वो भी ब्लू-फिल्म में चार पांच लंड से चुदने वाले वीडियो देख कर एकदम से गर्मा जाती थी और मस्त मजा देती थी. मैंने उससे कहा- साली फिर इधर क्या अपनी मां चुदाने आयी है?वो बोली- मैं चुदवाने ही आयी थी.

ममता सेक्सी

फोन उठाते ही वो चिल्लाए- अबे भड़वे! हमारे जाने के बाद भी उस वेश्या को चोद रहा था क्या … जो अब तक सो रहा है? जल्दी उठ और निगम जाकर चारों फाइल जमा कर दे और पावती ले लेना.

दीदी मेरे होंठों को चूसती हुई बोलीं- कैसा लगा अपनी दीदी को चोदकर?मैं बोला- बहुत मजा आया अपनी रंडी बहन को चोदकर. भाभी ने नीले रंग की साड़ी पहनी थी पर उनका पल्लू उनके मम्मों पर नहीं था. आप यूं भी कह सकते हैं अलग-अलग लंड खाने की आस में मैंने अपने आपको काफी मेंटेन कर रखा है.

भाभी ने अपनी गांड उठा दी और मैंने भाभी की टांगों से पैंटी निकाल कर उनकी चूत को देखा. उसी रात को कोमल का मेरे पास फोन आया तो हम दोनों आज के अनुभव को लेकर बात करने लगे. ब्लू पिक्चर के फोटोयह घटना मैं फिर किसी कहानी में लिखूँगी।आज के लिए इतना ही।तो दोस्तो, कैसी लगी आपको मेरी कहानी? मुझे आप मेल करके बताइए।ऐसे ही अपनी सच्ची कहानी लेकर फिर आपके सामने हाजिर होऊंगी।[emailprotected].

मुझे भी आंटी की चूत चूसने का मजा आने लगा था क्योंकि वह चॉकलेट और शहद टपका कर मुझे पागल कर रही थीं. ऑफिस तीस मिनट की दूरी पर था सो रास्ते में मैंने अरुणिमा को मैसेज किया कि अगर मुझे देर हो जाए, तो उनको खाना भी खिला देना.

तभी मुझे ध्यान आया और मैंने कहा- यार, दवा के साथ अच्छे से फ़्लेवर वाले दो पैकेट कंडोम भी ले आना. मैंने उसे अलग अलग पोज़ में चोदा और जब मेरा रस निकलने वाला था, तब मैंने उससे पूछा- मेरा माल निकलने वाला है, कहाँ निकालूँ?वो बोली- अन्दर नहीं, तुम मेरे मुँह में दो. बीवी टहलती हुई बोल रही थी कि बहुत दिन से लंड चूसने को नहीं मिल रहा है.

फिर उन्होंने मेरी सलवार भी उतार दी अब मैं केवल उनके सामने पैंटी में थी वह मुझे बेहताशा चूमे जा रहे थे. अपनी दोनों टांगें हवा में खड़ी करके मेरे मुँह को अपनी जांघों के बीच में जोर से दबा दिया. अबकी बार जो मेरा लंड तेरी चूत अन्दर घुसा, तो तेरी चूत का भोसड़ा बनाकर ही बाहर आएगा.

फिर ढेर सारा सरसों का तेल चूत के छेद में डाला और मैं दो उंगली घुसा कर अन्दर बाहर करने लगा.

सभी को सोने की जल्दी थी, बहुत सारी नर्स गांड मरवाने को बेकरार थीं और उन सबने अपना अपना लंड को सिलेक्ट कर लिया था. मैंने उनसे पूछा- आपके पति कहां हैं?उन्होंने बताया- वो भी अभी जाग रहे हैं.

मैं अभी तक अपनी चूत में कम और गांड में उंगली व मोमबत्ती ज्यादा करती थी. मामी हंस दीं और बोलीं- क्या तुम मुझे उठा सकते हो?मुझे तो मौका ही चाहिए था, मैं बोला- हां क्यों नहीं. चाचा हर महीने के आखिर में सारे महीने का हिसाब किताब करने मुझे ही बुलाते थे तो मुझे थोड़ी देर लगती थी.

हॉट मेड सेक्स कहानी में पढ़ें कि लॉकडाउन में मैंने एक नयी नौकरानी रखी. आंटी ने कहा- चलो ठीक है, तुमने मेरे बेटे का इतना ख्याल रखा, तो मैं तुमको खुश तो कर ही सकती हूँ. इस खेल से वो काफी खिलखिला रही थी मगर मैं सफल हो गया और उसकी एक चूची को अपने मुँह में दबा ही लिया.

सेक्सी बीएफ बीएफ हिंदी फिर उसने मुझे किस करते हुए प्यार से समझाया- चाचा डरो मत … बहुत से मर्द ऐसे करवाते हैं. मगर ये तभी संभव हो सकता था जब प्रिया अपने आपको पूरी ख़ुशी और पूरे मन से मुझे सौंप देती.

अवैध+सम्बन्ध+कहानी

दस मिनट किस करने के बाद मैं उसकी गर्दन को चूमने लगा और टॉप के ऊपर से ही उसके चुचे दबाने लगा. वो बोली- घर पर क्या तेरी बीवी तेरा इंतजार कर रही है?मैंने कहा- अभी मेरी शादी नहीं हुई है. हम दोनों ने किचन में कुछ मिनट तक एक दूसरे को किस किया और मैंने अपनी साली के मम्मों को चूसा.

मैं मस्ती में आ गया और बोलने लगा- आंह डार्लिंग चोदो यार … जमके चोद दो … मेरा लंड झड़ रहा है. मुझसे दर्द सहन नहीं हुआ और मैं एकदम से बेहोश सी हो गई पर उसने मेरी तरफ कोई ध्यान नहीं दिया. हिंदी सेक्स रोमांस वीडियोफिर उसने मुझसे मेरी उम्र पूछी और मैंने उससे उसकी!उसकी उम्र 21 साल थी.

मैंने कहा- कुछ नहीं होगा तुम इसको प्यार करोगी, तो ये भी तुमको प्यार करेगा और जरा सा भी दर्द नहीं देगा.

वो सर से बोली- सर मेरा रिश्ता किसी के साथ नहीं हो पाता, कुछ न कुछ हो जाता है. इसी के साथ भाभी लम्बी लम्बी सांस लेती हुई कराह रही थीं- आह आह आह … आह आह प्रवीण बस भी करो न … मुझसे अब रहा नहीं जा रहा है … प्लीज अपना लंड मेरी आग में जल रही चुद में डाल दो न यार … जल्दी से मुझे चोद दो.

मैंने बोतल से बड़े बड़े चार घूँट लगाए और मुझ पर नशा हावी होने लगा था. कुछ ही पलों में भाभी बहुत उत्तेजित हो गई थीं और उन्होंने एकदम से मेरे सर को पकड़ कर अपनी चूत पर जोर से दबा दिया. विक्रम ने मॉम के दोनों निप्पल पकड़े और जोर से खींचे, तो मॉम के मुँह से आह निकला.

उन्होंने मेरी मम्मी को सपरिवार आने का न्यौता दिया और कहा कि आपके भाई साहब (शर्मा अंकल) शादी में एक-दो दिन पहले ही आएंगे.

मैंने भी अब भाभी के साथ मजाक करते हुए बोल दिया- भाभी आपके लिए तो आपका देवर कुछ भी कर सकता है, आप बोलो तो सही … ये नौकरी तो बहुत छोटी सी बात है. रात को जब बीवी बिस्तर पर आयी तो मुझको फिर से चिन्ता हुई कि अब क्या होगा, दम ज्यादा नहीं बचा था. अब आगे कपल थ्रीसम सेक्स कहानी:मैंने ज्योति के सामने बैठकर उसके चूतड़ों को दोनों हाथों से बैड से ऊपर उठाया और उसकी पैंटी के ऊपर अपने तपते होंठ रख दिए.

ब्लू पिक्चर बीपी बीपीमेरे घर पर मेरे माता-पिता, मेरा बड़ा भाई, मेरी भाभी और मैं रहा करते थे. शुरू-शुरू शादी के समय चार पांच बार होता था, लेकिन अब जिंदगी झंड जैसी लगती है.

सेकसी गाने

मैं लंड खड़ा किए हुए फर्श पर लेट गया और भाभी मेरी तरफ मुँह करके अपनी दोनों जांघों को खोल कर मेरे लंड के ऊपर बैठ गईं. एक दिन मैं अपनी बाल्कनी में खड़े होकर गाने सुन रहा था कि मेरी नज़र सामने वाले घर के नीचे वाले कमरे की तरफ गयी. मॉम ने कुछ नहीं कहा, बस अपनी टांगें खोल दीं और गर्म सिसकारियां लेने लगीं.

कुर्ते में आगे की ओर से चाची के बड़े-बड़े मम्मे उछल रहे थे और पीछे की ओर चाची की मोटी गांड मटक रही थी. उसने अपनी लाइफ को आज जितना एन्जॉय किया था, शायद उतना मजा उसे कभी नहीं मिला था. मैंने कहा- तो अब मैं क्या करूं?जोगी सर बोले- मेरा एक फ्रेंड तुम्हारी मदद कर सकता है, अगर बोलो तो उससे बात करूं!मैं बोली- आप जो चाहे करो, लेकिन करो.

आप सबके प्यार ने मुझे बहुत ही जल्दी अगली कहानी लिखने के लिए प्रेरित कर दिया है. उसने अपनी दोनों टांगें दिनों तरफ डाल ली थीं और मुझसे चिपक कर बैठ गई थी. उसकी सिसकारी थोड़े दर्द में बदलने लगी क्योंकि शायद मेरी कठोर हथेलियों के कारण उसके मुलायम दूध छिल रहे थे.

तब तक उस माल ने मेरा वो नम्बर वाला कागज उठाने की कोशिश की पर वो नहीं उठा पाई. बाद में एक बार फिर से पापा मम्मी की मिशनरी पोजीशन में धमाकेदार चुदाई होने लगी.

फिर मैंने अपने आपको संभाला और अंकल की बांहों से छूटने की कोशिश करती हुई मैंने उनसे कहा- आप कहां और मैं कहां … आप मुझसे कितने बड़े हो.

थोड़ी देर पोजीशन बदल बदल कर चोदने के बाद मैंने आंटी से कहा- आंटी अब गांड मार लूं?आंटी बोलीं- हां चल शुरू कर दे. होली गीत वीडियोअगर तुम्हारे दिल में भी मेरे लिए कुछ है, तो अपना जवाब देना … नहीं तो मैं दुबारा तुम्हें परेशान नहीं करूंगा. सबसे सेक्सी फिल्ममैंने इसके बाद अपने होंठों को उनकी गर्दन की तरफ किया और किस करने लगा. वो थोड़ा रुक कर बोले- जब मैंने उसका पल्लू पकड़ कर खींचा तो घबरा गई थी.

कुछ देर चूमाचाटी के बाद मैंने चाची की ब्रा को भी निकाल दिया और चाची के सर के बाल भी खोल दिए जिससे चाची एकदम गजब की रंडी दिख रही थीं.

इसके बाद बेड पर हम दोनों सिर्फ पैंटी में थीं और हम दोनों एक दूसरे के मम्मे टकरा रही थीं. जब मैं अपनी ब्रा पैंटी धोने के लिए ले गई तो मैंने देखा कि मेरी ब्रा पैंटी पर चिपचिपा सा कुछ लगा हुआ है जो एकदम गाढ़ा सफेद रंग का था. कसम से दोस्तो, मैंने दो बार जल्दी जल्दी आंटी की पैंटी में अपने लंड का पानी गिराया और इसके बाद मैं उनके घर चला गया.

एक गोरी और बिना बालों की सफाचट फूली हुई चूत और गांड की मालकिन मेरे सामने नंगी चुदने के लिए राजी थी. उसे जवाब मिल चुका था; उसने मुझे प्यार से हग किया और बोली- शरमा गया मेरा बच्चा!इस खुशी में उसने पहली बार मेरे लबों को अपने लबों से जोड़कर लंबा किस किया. मैं भाभी के ऊपर ऐसे ही पांच मिनट तब तक पड़ा रहा, जब तक मेरा लंड सिकुड़ कर बाहर नहीं आ गया.

साड़ी उठा के चोदा

अब मेरी झड़ने की बारी थी तो आंटी अपने मुँह में मेरा लौड़ा लेकर चूसने लगीं. हॉट पंजाबी सेक्स कहानी मेरी बीवी की है जिसे मैंने अपनी तमन्ना पूरी करने के लिए अपने सामने किसी गैर मर्द के लंड से चुदवाया. उनकी चूत में मैंने तीन चार बार लंड डाला और कहा- भाभी, तुम्हारी गांड बहुत मस्त दिख रही है, इसमें लंड टिका कर देख लूं?उन्होंने कहा- हां … लेकिन डालना मत.

मम्मी पापा के कारण से मैंने पापा को कुछ भी न बताने का तय कर लिया था.

अबकी बार मैं अपने लौड़े के सुपारे को उसकी चूत के पास उसकी क्लिट पर रगड़ने लगा.

उनकी श्रीमती जी ने बिजली रिपेयर करने वाले को फोन किया था लेकिन वह फोन नहीं उठा रहा है. और मैं मन ही मन में सोचने लगा था कि पहले तुम्हारी बहन की चूत का भोसड़ा बना दूँ, फिर तुझे चोदूंगा. देहाती चाची की चुदाईअब मेरी झड़ने की बारी थी तो आंटी अपने मुँह में मेरा लौड़ा लेकर चूसने लगीं.

लड़कियां कहीं आराम से बैठकर अपनी चूत की मालिश शुरू कर दें, वो अपनी उंगलियों से चूत को रगड़ें. वो बोली- अरे वाह, अभी नंबर दिया और इतने सारे मैसेज … कुछ आराम से करो यार … मैं इनको पढ़ तो लूं!मैंने कहा- हां पढ़ लो और जबाव भी देना. अब मैंने लंड झांटों को साफ किया और नहा कर उसके कमरे पर जाने के लिए खुद को रेडी करने लगा.

चड्डी को खुद ही साबुन से रगड़ रगड़ कर धोने के बाद उन्हीं कपड़ों में डाल दिया. चाची वजह से मुझे भी किसी गर्लफ्रेंड और बिना साड़ी के एक खूबसूरत औरत की चुदाई करने को मिलती थी.

मैंने उसकी गांड मारने की कोशिश भी की, पर छेद इतना छोटा था कि लंड अन्दर जा ही नहीं पाया.

करीब दस मिनट की चुदाई के बाद मैंने लंड निकाल कर भाभी के आगे लाकर कहा- अब इसको मुँह में डाल कर चूसो. नमस्कार दोस्तो, मैं मधु एक बार फिर से आप सभी का अपनी सेक्स कहानी के अगले भाग में स्वागत करती हूँ. उसके कहने पर राजेंद्र नीचे से हटा और प्रकाश ने मेरी चूत में लंड दे दिया.

सेक्स की गोली का नाम मैंने भी पूरा लंड एक झटके में चूत के अन्दर तक पेल दिया और चोदने लगा. मेरे चाचा बिज़नसमैन थे तो वो अक्सर टूर पर जाते थे इसलिए चाची हम बच्चों में से किसी को भी अपने घर में रात को सोने के लिए बुलाती थी.

तुम जिस तरह से मेरी उदासी और मेरा पूरा ध्यान रखते आ रहे हो, तभी तो मैं तुम्हारी तरफ आकर्षित होती चली होती गई. दूसरे दिन खाला और हुसैना भाभी डॉक्टर से रूटीन चैकअप के लिए गई हुई थीं. साले मेरी चूत में मत झड़ियो कुत्ते … आगे आ मेरे मुँह पर झाड़ अपने माल को.

बर्ड्स पिक्चर

शनिवार को मैंने पूरे दिन उससे बात नहीं की और रात को भी मोबाइल बन्द करके सो गया. मेरी दोनों भाभियों के चेहरे से वासना की भूख साफ़ ज़ाहिर हो रही थी लेकिन वो रिश्ते के सम्मान में खुद पर काबू कर रही थीं. मैंने कहा- हां चाची, आज मैं आपकी चूत का सारा पानी निकाल कर ही छोड़ूंगा.

नीतू- भैया मानेंगे?कोमल- वो मान गए हैं, उनको मैं पहले ही मना चुकी हूं. मैं जैसे ही अपना पैंट पहनने लगा, उसी वक्त न जाने कैसे मेरा तौलिया अचानक से खुल गया और मेरा लंड सामने लहराने लगा.

मैंने नीचे कमर से उसकी टी-शर्ट के अन्दर हाथ दे दिए और ब्रा के ऊपर से ही उसके बूब्स को दबाने लगा.

मैंने उनकी दोनों टांगें उठा कर अपने कंधों पर रख लीं और लंड को चूत पर सैट करके एक ही बार में तेज झटके से पूरा लंड चूत में डाल दिया. उसके मुँह से निकली मादक आवाजें निकल रही थीं और चुदाई की आवाजों से पूरा रूम गूंज रहा था. मैंने उसकी टांगें सीधी कर दीं और खुद उनके ऊपर बैठ कर उसके हाथों को साइड में करके पकड़ लिया ताकि वो ज्यादा छटपटा ना सके.

अब आगे यंग वाइफ हार्डकोर सेक्स कहानी:चार दिन तक मेरे उन चारों आकाओं में से किसी का कॉल नहीं आया और ना ही मैंने उनको कॉल किया. एक दिन मैं उन्हें डॉक्टर के पास ले गया तो उन्होंने मुझे अपने घर रोक लिया. लेकिन मेरी किस्मत ने मेरा साथ दिया और एक कपल मेरे पड़ोस में आकर रहने लगा.

चुदाई करते करते आंटी एक बार झड़ गईं, मगर मैं आधा घंटा तक आंटी को चोदता रहा.

सेक्सी बीएफ बीएफ हिंदी: मुझे मालूम है कि झड़ते समय मर्द को लंड ज्यादा से ज्यादा अन्दर घुसेड़ने की इच्छा होती है, इसी लिए वो मेरी गांड को फुल स्पीड में चोद रहा था. आठ परीक्षकों ने आर्ट ऑफ़ सेक्स सीखने वालों के गले की बेल्ट की रस्सी पकड़ी.

इस पर भाभी ने भी मज़ाक करना शुरू कर दिया- अच्छा … ऐसा है क्या … तो देवर जी अभी भी क्या बिगड़ा है? आप मुझे अभी अपनी बीवी बना लो. दोस्तो, दीदी ये बात इसलिए कह रही थीं क्योंकि मैं चढ़ती जवानी पर था और उनकी जवानी ढलान पर थी. ऐसा भाई ने उन्हें पहले ही बता दिया था क्योंकि हम लोग पहले भी कई बार अंडा पार्टी कर चुके थे.

सिगरट पीने के बाद हम दोनों हल्के हल्के नशे में होने लगे और हम दोनों ही उस वक़्त एक दूसरे को नशे में हवस की नजरों से देखने लगे.

जैसे जैसे मैं अपनी जीभ उसकी गदरायी जांघों पर चलाता जा रहा था, वैसे वैसे वो मछली की तरह मचलती जा रही थी. इस पर भाभी ने मुझे रोकते हुए कहा- मेरे पति का कमरा ये नहीं है, मेरे पति का कमरा वो है. फिर उन्होंने मुझे मेरे पलंग पर लिटा दिया और मेरी दोनों टांगों को फैला दिया.