बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी पिक्चर

छवि स्रोत,मकान की सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

क्राईम स्टोरी: बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी पिक्चर, इसके अलावा वीडियो कॉल पे खुद के जैसे दोस्तों के साथ लाइव वीडियो में एक दूसरे की कामुक क्रियाओं को देख और दिखा रहे हैं.

भोजपुरी सेक्शी वीडियो

पर इसका दिल आ गया यानि के मेरी छुट्टी?फ्रेंड मतलब?”उसने कहा- मेरी एक सहेली है. क्सक्सक्स हद मेंमगर हमारी रात वाली पार्टी का क्या होगा?टीना कुछ जवाब देती तभी बरखा उनके पास आ गई, उसने फ्लॉरा की बात सुन ली थी.

?उसकी आह ऊह गूँज रही थी और मैं झटके से धक्के मार रहा था- ले मेरी जान ले मेरा लौड़ा और ले, कमीनी मेरा लौड़ा आज तेरी चूत फाड़ देगा…उसने रुक कर मुझे मिट्टी में धकेल दिया और मेरे ऊपर पैर फैला कर खड़ी हो गई- क्यों कभी जंगली नंगी रंडी देखी है?मैंने कहा- आजा मेरी प्राइवेट रंडी, ठरकी साली. एक्स एक्स एक्स वीडियो चोदी चोदा वालामेरा मन कर रहा था कि मैं उसके लंड को पकड़ लूँ लेकिन मेरे मन में ख्याल आया कि जय क्या सोचेगा.

मामी की चुदाई देख कर मेरी बहन पहले ही गर्म हो चुकी थी, उसकी चुत से पानी निकल रहा था.बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी पिक्चर: उनके मुँह से हल्की सी आह… निकली और उन्होंने लंड का मजा लेना शुरू कर दिया.

कहानी का पिछला भाग :जोशीले जवान जाट का नशीला लौड़ा-1पहले भाग में आपने पढ़ा कि मैं उस जाट के मोटे लंड को फ्रेंची में से ही चाट रहा था.ऊपर मैं उसे किस किए जा रहा था और नीचे मेरा पप्पू उस की मुनिया को किस कर रहा था.

भोजपुरी एक्ट्रेस सेक्स वीडियो - बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी पिक्चर

मैं पूरे जोश में थी और मेरी जोश भरी सिसकारियां रूम में गूँज रही थीं.मैं चिल्लाई और बेड से उतर कर भागने की कोशिश की, पर उस आदमी ने मुझे पकड़ लिया.

फिर वो मुझे वापस बिस्तर पर लिटा कर मेरी बुर में धक्के लगाने लगा और करीब 10 मिनट बाद उसने मुझसे कहा- पायल, मैं अब झड़ने वाला हूँ, तो बताओ मैं कहाँ झडूं?मैंने उसको बोल दिया- तुम मेरी बुर में झड़ जाओ!और वो 5 मिनट बाद मेरी बुर में ही झड़ गया और उसके झड़ने के साथ ही मैं भी एक बार फिर से झड़ गई. बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी पिक्चर मैंने नीलिमा से पूछा कि ये तो स्लीपर कोच है, अब एक ही बर्थ से कैसे सफ़र करेंगे, गाड़ी में एक लेडी हैं, आप उनसे आप बात करो ना कि वो आपके साथ एडजस्ट कर लें.

मैं उनकी प्यार और हवस भरी आंखों में देखकर शर्म से मरी जा रही थी क्योंकि मैं बिस्तर पर अपने चाचा ससुर के साथ नंगी पड़ी थी.

बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी पिक्चर?

उस की आंख मुंदते ही मैंने उस की चुत को पानी के अन्दर ही अपने हाथ से भर कर मसल दिया. मैं नहीं चाहता कि मेरी वजह से तुम सारी जिन्दगीजवानी का मजाना ले पाओ. वो एक मादक अँगड़ाई ले कर बोली- अंकल, प्लीज़ छोड़ो मुझे, आप क्यों मेरा जिस्म सहला रहे हो.

पर पप्पू इतनी भी गाली मत दे मेरे पति को और उसे इतना भी निकम्मा मत समझ. हर लड़की या औरत का एक सेन्सिटिव पॉइंट होता है, वैसे ही सुमन का पॉइंट उसकी गांड का छेद था. कल शाम को साढ़े पांच की ट्रेन से मेरा बेटा बैंगलोर से वापिस लौट रहा था.

उफ्फ देख तूने मेरा हुक तोड़ दिया… अब मैं क्या करूँ? पप्पू बस में तुझसे अगर ऐतराज़ करना होता तो क्या मैं तुझे इतना खेलने देती? मेरा पति रात को आकर देखता है कि लड़कियाँ सोई नहीं तो बिना कुछ किये जा के सीधे खर्राटे लगाने लगता है. नयना अपने भाई के कमरे के अंदर गई और बोली- भाई, ये सब करना हो तो दरवाजा तो बंद कर लिया कर!भाई के मुख से कोई शब्द ना निकला. अब की बार उसने मुझे बेड पर नीचे लिटा लिया और खुद मेरे लंड पर चढ़ कर उस पर उछलने लगी.

लेकिन हम आखिर हैं तो भाई बहन, इसलिए मैंने अपने आप पे कंट्रोल कर लिया. भाभी जब अपनी सुहागरात की बात बता रही थी तो मेरा लण्ड मेरे लोअर में टाइट होने लगा था। भाभी ने ये बात नोटिस कर ली थी।भाभी ने मुझसे पूछा- सच सच बताओ तुमने कभी किसी के साथ सेक्स किया है या नहीं?वे कहने लगी- मुझे पता है, तुम उस दिन कुछ छिपा रहे थे.

लेकिन मैं सोचता था कि अगर भैया को पता चल गया तो सब रायता फ़ैल जाएगा तो इसके लिए मैंने एक प्लान बनाया.

पूजा- एयाया एयाया मर गई आह… मामू उफ्फ अब्ब… बहुत दर्द हो रहा है आह…संजय- यार पूजा, बस एक झटका और झेल ले… तेरी गांड बहुत टाइट है वैसे तो लंड अन्दर जाएगा भी नहीं… बस थोड़ा सा और बर्दाश्त कर ले तू, फिर दर्द नहीं होगा.

ये सुन कर मैंने भाभी कस के पकड़ लिया और पीछे से उसके चूतड़ों को कस के जकड़ लिया. थोड़ी देर बाद मैंने अपना हाथ उसकी चूत पर रख दिया और पजामी के ऊपर से ही उसकी चूत सहलाने लगा. पर आज तेरे इस वेल-मेंटेंड गुजराती जिस्म की चूत, गांड, मुँह और मम्मों का भोसड़ा बनाकर रख दूँगा समझी? बहनचोद तुझे इतना चोदूँगा कि तुझमें उठने का दम ही नहीं रहेगा.

मैंने उस से कहा- तुम यहीं पे रुको, मैं तुम्हें तुम्हारी मेम के दर्शन करवाता हूँ. पूरा लंड घुसा देने के बाद जय ने निशा की कमर को जोर से पकड़ लिया और बहुत ही जोर जोर के धक्के लगाते हुए उसकी चुदाई करने लगा. मैंने अपने लंड पर अब थोड़ा सा सरसों का तेल लगा लिया था, जो मनोज ने इस बार पास ही रख दिया था.

मैंने फिर तुरन्त लंड को वापस निकाल लिया और दुबारा फिर से पूरा लंड अन्दर डाल दिया.

तभी सुरैया भाभी मेरे लंड को पकड़ कर बोलने लगी- संदीप, जल्दी से अपने इस साबुत लंड को मेरी चुत में डालो. इधर मनोज और नेहा पूरी स्पीड में चुदाई में मगन थे और अब मनोज नेहा की दोनों टांगें उठा कर चोद रहा था. मामी ने मेरे कान में बोला- इनका मजा लेना है तो अपनी बड़ी मामी के पास जा.

मैंने उसकी सलवार के फटे स्थान से उंगली अन्दर ले जाते हुए फांक में दो उंगलियां घुसा दीं. मेरी चूत में बार बार तेज खुजली सी मचती और वो आपके लंड की आस लगाये पानी छोड़ने लगती, थोड़ी देर मैंने अपनी उंगली भी चलाई इसमें पर अच्छा नहीं लगा. मुझे बहुत मजा आ रहा था और जल्दी ही लंड पूरा खड़ा हो गया, तो मैंने उसे अपने ऊपर खींच लिया और उसने मेरा लंड अपने हाथ से पकड़ कर अपनी चूत के मुँह पे टिका लिया और मेरे लंड पे बैठ गई.

30 बजे उस के हस्बैंड और उस का दोस्त ड्यूटी पर चले जाएंगे, क्योंकि उनकी 8 बजे रात को शिफ्ट शुरू होती है.

ये कह कर उसने मेरे होंठों पर एक किस किया और उठ कर कपड़े पहनने लगी क्योंकि अब दीदी और उनकी सास के आने का टाइम हो चला था. मैं उन दोनों से मिल कर बहुत खुश था और वो दोनों भी बहुत खुश लग रही थीं.

बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी पिक्चर मैंने एक हाथ से उनके ब्लाउज के बटन खोलने लगा और 4 बटन खोलने के बाद उनका ब्लाउज़ पूरा खुल गया. मैं अब भी उस नए कांटे को देख रहा था तो उसे शर्म सी आ गई, उसने अपना चेहरा पीछे कर लिया और मुस्कुरा दी.

बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी पिक्चर अब मैंने उस पर एक ब्लू फिल्म लगा दी ब्लू-फिल्म की सिसकारियों की आवाज़ सुनकर माही मेरे कमरे में आई. जीजू ने एक हाथ मेरी एक चूची पर रखा और दूसरी चूची पर अपने गर्म होंठ रख दिए.

जहाँ पर मैं उसके होंठों पर बहुत देर तक किस करता रहता और उसे भी मजा आता.

सेक्सी वीडियो जान

असली मजा चुदाई में आता है और अभी तक तेरी चुदाई तो सही मायने में हुई ही नहीं है. कुछ देर बाद एअरपोर्ट से बाहर निकल कर मैंने अर्पिता को कॉल किया और पूछा कि वो कहाँ है, तो बात करते-करते वो मेरे पीछे आ कर खड़ी हो गई. फिर डॉक्टर मैडम आई, उसने टेबलेट्स दीं, उसको रात को यूज़ करने के लिए और बोला- कल और आना है बस.

लंड चूसते चूसते शायद उनका पेट भर आया और डकार मारकर अचानक मामी ने पैंतरा बदला और मेरे लंड पर चुत टिका कर बैठ धीरे धीरे दबाव देने लगीं. मैंने अपनी जीभ उसके होंठों के बीच में घुसा दी तो वो बड़े मजे से मेरी जीभ को चूसने लगी. मैंने सिर्फ हाँ” कहा और लेट कर अपने ऊपर कम्बल डाल लिया, जो चाचाजी के पेट तक था.

शायद अब उसका अजगर लंड खड़ा हो चुका था और उस पर हवस हावी हो गई थी, इसीलिए उसका व्यवहार इतना सख्त हो गया था.

जब मैं लगातार देख रहा था तो कुछ समझ में आने लगा कि चाचा मम्मी को दीवार के सहारे खड़ा करके अपनी कमर आगे पीछे कर रहे हैं और मम्मी ‘सीइइ. माया के शरीर में करंट सा दौड़ गया और उसके मुँह से एक आअह्ह्ह निकल गई. नेहा की साँसें भी थोड़ा थम सी गयीं और उसने हमें रुकने को बोला, तो हम दोनों वहीं रुक गए.

काजल ने झट से अपने दोनों हाथों से उसको पकड़ लिया और उसके साथ खेलने लगी. मैं किचन में जो कुछ मेरे साथ हुआ, वह सोच कर मन ही मन अपने आपको कोस रही थी कि ये मैंने क्या कर दिया!! जान से ज्यादा प्यार करने वाले शौहर को धोखा दे दिया!! मेरी आँखों से पछ्तावे के आंसू निकलने लगे. जिसके पापा केमिस्ट थे और उसे अनवांटेड-72 लाने को कहा। वो थोड़ी देर में गोली ले आई और कनिका ने वो खा ली।फिर उसने अपनी सहेली मनीषा को पूरी कहानी बताई। मनीषा की नजरें मेरे लौड़े पर थीं।कुछ समय बाद मैं अपने घर आ गया.

अब कुर्सी लगाकर मेरे कमरे से दीदी के कमरे का लगभग हर हिस्सा टॉम की आँखों से दिख रहा है. अब आप लोग परेशान हो रहे होंगे कि मैं ये सब फ़ालतू की बात बता रहा हूँ.

दूसरा चूत में लंड पेल कर मुझे चोदता है, तीसरा मेरी गांड में पेल कर मजा देता है. और इतनी सर्दी में स्कर्ट टॉप सर्दी नहीं लगेगी तुझे?”एक दोस्त की पार्टी है. मैं देख रहा था कि अब मम्मी रबर की गुड़िया की तरह उनके इशारों पर कर रही थीं, जैसे वो चाह कर रहे थे.

हां… हां… ओह्ह!अब मैं अपने मुँह में पिंकी की छोटी छोटी चुचियों को लेकर चूस रहा था.

मैं अपने होश पूरी तरह खो चुकी थी।वो सिर्फ़ अंडरवीयर में थे और उनके लंड का सख़्त होना मुझे महसूस हो रहा था. सन 2015 में दीपावली से 2 दिन पहले यानि के धनतेरस के दिन मैं अपने घर के मेन गेट को पानी से धोकर साफ़ रहा था. एक हाथ दूसरी चूची के चूचुक को सहला रहा था तो दूसरा हाथ नाभि के चारों तरफ फिरा रहा था.

अच्छा, हम लोग तो प्रकाश कुल्फी में, कुल्फी खा रहे हैं, तुम यहीं आ जाओ. मेरी पेंटी के अंदरउनका हाथ अब मेरी चूत तक पहुँच चुका थाजो गीली हो चुकी थी।मैं मेरे एक हाथ की उंगलियाँ उनके बालों में घुमा रही थी। मैं तो किसी और ही दुनिया में थी। मुझे इतना भी होश नहीं था कि कोई छत पर आ भी सकता है।जीजा ने मेरी ब्रा उतार दी और मेरी गोरी सुडौल चूची उनके सामने थी, उनकी आँखें तो बस मेरी चूची को देखती ही रही.

अभी पिछले साल दिसम्बर में मैं एक दिन कुछ खरीदारी करने के लिए अमीनाबाद गया था. मेरी अगली नयी कहानी के लिए मैं ऐसी लड़कियों से मित्रता करना करना चाहता हूँ जो मेरे साथ सेक्स चेट्स करते हुए मेरी कुछ जिज्ञासाओं का समाधान कर सकें. उसे देखते ही एक बार तो मैं काम्प सा गया, मुझे मोबाइल वाला गेम बच्चों का गेम लगने लगा.

चुदाई दिखाइए

एक महीने के बाद बुआ के पास ले गईं तो बुआ ने मेरे लंड को पकड़कऱ खोला तो चमड़ी आराम से खुल गई.

दोस्तो, मेरी इस देसी हॉट सेक्स स्टोरी पर आप अपने विचार भेज सकते हैं. मैंने उससे कहा- ये सब करने को तेरा वो तैयार होगा?वो बोली- तुझे देख कर कौन मना करेगा जानी?फिर उसने एक फोन मिलाया और उसने मेरे बारे में उससे बात की, उसे मेरी पिक दिखाई. मैंने उनकी पेंटी भी उतार दी और उनकी गोरी चुत पर चॉकलेट सीरप लगाया कर चाटने लगा.

वो ऊपर-ऊपर करके नीतू से लंड दबवाना चाहता था मगर नीतू की समझ में नहीं आ रहा था. रागिनी मुझसे बोली- आप की चुदाई से मेरी वासना शांत हो गई है, आज तक मेरे पति शांत ही नहीं कर पाए थे. ತೆಲುಗು ಬಿಎಫ್ ಸೆಕ್ಸ್टीना- अबे सालो, तुमको तो एक चुत एक्सट्रा मिल गई मगर हमें भी तो एक एक्सट्रा लौड़ा झेलना पड़ेगा ना.

की होल से पप्पू ने देखा कि कपड़े निकाल कर नीता अपना नंगा जिस्म आईने में देखती हुई सहला रही है. मैंने नीलिमा को ऊपर चढ़ने में मदद की, फिर उसके बच्चे को उसके गोद में दिया.

फिर उसने अपना डिल्डो रूपी लंड मेरे मुँह में दे दिया और कहा- चूस इसे कुत्ते. भैया बोले- दीदी तुमने ऊपर का कपड़ा क्यों उतार दिया?मैं बोली- भैया मुझे गर्मी लग रही है, इसलिए उतार दिया. ’ करते हुए अपने हाथ मेरे सर पर रखे और मेरे सर को अपनी चुत पर दबाने लगी.

मैंने भी कह दिया कि काम वाली बाई को एक दिन देखा था कि रैक से कुछ निकाल कर अपने ब्लाउज में छुपा रही थी, शायद माला-डी ही रख रही होगी. मामी को पूरा मजा नहीं आ रहा था शायद रेणु का हाथ को देख नहीं पा रही थीं आखिर देखती कैसे होंठ मैं चूस रही थी और उनकी दोनों चूचियाँ को दो हब्शी लड़कियां खा रही थीं. उसने ‘जबान’ पर काफी जोर देकर बोला, तो मैं भी उसका मतलब समझ गया कि ये तो काफी बिंदास माल निकली.

तुम्हारे साथ तो कोई रंडी भी नहीं सोएगी…सागर बोला- साली तू भी तो मेरी रंडी ही है ना.

com/koi-mil-gaya/koi-mil-gaya-asantript-yoni/असंतृप्त योनि की आग भड़क उठी थी. तो उसने बोला- नेक्स्ट शनिवार को दे दूँगी।और शनिवार आ गया तो मैंने पहले नम्बर ही माँगा… उसने उसका एड्रेस लिखा चैट में और बोला- नम्बर क्या जान.

अकसर उसकी लुंगी खुल कर इधर उधर हो जाती थी और उसका लंड दिखाई देता था. मैं एक दिन भाभी से बोला- भाभी, आप इतना उदास क्यों रहती हो?तो उन्होंने कहा- देवर जी, जब तुम्हारी शादी हो जाएगी और तुम्हारी बीवी मायके चली जाएगी, तब तुम्हें पता चलेगा. मुझे उसके किस करने से बहुत अच्छा लगने लगा और मैं डर को भूल गया जिससे गांड अपने आप ही खुल गई, उसकी उंगली आसानी से अंदर बाहर होने लगी.

चाचाजी का हाथ मेरी गरदन में आया और अपनी तरफ झुका लिया और मेरे होंठों को लिपलॉक कर लिया. और वो चुत की मिट्टी पोंछ मेरे चेहरे पर बैठ गई और मेरा सर उठा कर अपनी चूत पर लगा दिया. उसने मेरी आंखों में देखा… और बोला- पक्का दूसरा फोन लायेगा मेरे लिए?तो मैंने कहा- हां यार.

बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी पिक्चर मेरे हिप्स अपने आप हिलने लगे, मेरा पूरा लंड आंटी के मुँह की सैर कर रहा था. वो रोजाना रात को मम्मी-पापा के सोने के बाद मेरे रूम में आ जाती और चुद कर चली जाती.

एक्स एक्स आदिवासी सेक्सी

तो अचानक वो आई और कहने लगी- भाई, क्या देख रहा है?तो मैंने कह दिया- वीडियो. ये शक मुझे पहली बार तब हुआ, जब मैं एक दिन हाफ पैंट में बिना चड्डी के बैठा था और भाभी जान मेरे तने हुए लंड को बड़ी गौर से घूर रही थी. सुमन को जब गर्म अहसास हुआ वो समझ गई कि पापा जी ने लंड को कैसे फँसाया हुआ है मगर वो अनजान बनी रही.

मैंने कहा- इतनी सारी रोटियां किसके लिए हैं?उसने कहा- हमारे लिए हैं और किसके लिए है? तू जाट के घर में है, यहां ऐसे ही खाया जाता है. नहीं नहीं मुझे मरना है क्या?टीना- हा हा हा हा लो भाई, बरखा की गांड तो सुन कर ही फट गई हा हा हा. सनी लियोनी ट्रिपल एक्स वीडियोचल आज गांड तो क्या तेरे शरीर के हर एक छेद में अपना लंड पेलूँगा, मैं तेरा पति हूँ, मुझे तू नहीं मना कर सकती मेरी ज्योति डार्लिंग.

वैसे वो लोग अंत तक कहते रहे कि अरे एक दो दिन के लिए आए हैं रात भर गप्पें मारेगें, नींद लगेगी तो वहीं सो लेंगे.

अन्दर से मयूरी (24 साल) आई जो कि बड़े भाई रमेश की पत्नी थी और दोनों को देख कर मुस्कुराते हुए बोली- आ गए दोनों?छोटा भाई सुरेश बोला- हाँ भाभी!मयूरी- तुम दोनों काफी थके हुए लग रहे हो?सुरेश- हाँ भाभी, आज का दिन काफी हेक्टिक रहा. उस दिन तो कुछ नहीं हुआ लेकिन अब हम फोन पर रेग्युलर बात करते और एक साथ ही मेट्रो में आया जाया भी करते हैं.

आह क्या मस्त चूचे थे, एकदम तने हुए ऐसे लग रहे थे जैसे उनके पति ने कभी चूचियां मसली ही न हों. मैंने कहा- छोड़ो… क्या कर रही हो?लेकिन वो तो उल्टा मेरी चूचियों को जोरों से दबाने लगी. रूपा ने जब 1-2 बार मुड़ के ज़रा नाराज़गी से उसे देखा तो उसने सोचा कि मैं जानबूझ के कुछ नहीं कर रहा तो भी ये औरत मुझ पे क्यों बिगड़ रही है? वो उस औरत को पीछे से देखने लगा.

फिर वाशरूम में जाकर सभी ने अपने आप को साफ़ किया और कपड़े पहन कर बातें करने लगे.

जीजाजी ने बुआ को स्टोर रूम में जगह के बारे में बताया, बुआ स्टोर रूम में बिस्तर लगाकर खाना खाने चली गयी. अब दीदी रोज मुझसे चुदवाती हैं और मैं भी अपनी दीदी यानि मेरी पत्नी को ज़म कर चोदता हूँ. पिछली बार सबने मेरी हालत बिगाड़ दी थी, इसीलिए आज हम दोनों मिलकर मस्ती करेंगे.

सगे भाई बहन की सेक्सीटीना- अब पार्टी का मज़ा आ रहा है, जब तक नशा ना चढ़े, कुछ मज़ा ही नहीं आता. फ्लॉरा उनसे कुछ पूछती, तब तक वो जल्दी से अन्दर आ गए और उस लड़के ने जल्दी से दरवाजा बंद कर दिया.

क्सक्सक्स हिंदी सेक्स वीडियो

मेरा मन अब मौसी से भर चुका था, पर मौसी की चूत की आग ठंडी ही नहीं होती थी. तभी रिया ने मज़ाक में कहा- रात में कुछ चिल्लाने की आवाज़ आई थी, कुछ हुआ था क्या?और फिर वो हंस दी. आपका बेटा तो ऐसे संभल संभल कर करता है कि कहीं चूत को चोट न लग जाए, उसे पता ही नहीं कि चूत को जितना बेरहमी से ‘मारो’ वो उतनी ही खुश होती है.

अगले ही पल मेरी दो उंगलियां उसकी चुत में चली गईं और अंगूठा उसकी गांड में चला गया. वो जानता था कि अगर उसके दोनों भाई बहन को, जो इस समय वासना में लिप्त थे. रहमत बोला- कोई बात नहीं, उससे भी उसकी चुदक्कड़ रांड माँ को चुदवा दूंगा।मेरा तो सुनते ही खड़ा हो गया, मैं अपना लंड निकाल कर हिलाने लगा.

मैंने अपने होंठ उसकी एक चूची पर रख दिए और मैं उसकी चूचियों को काफी देर तक चूसता रहा. इसलिए मैंने दूर रहने वाले अपने कॉलेज के दो पक्के दोस्तों दीपक और रामकुमार को राजी कर मामी के साथ फुल नाइट मस्ती का पूरा प्लान तैयार किया. हम भैंसों के उस बरामदे से निकलकर बाहर आ गए और लोहे के गजों से बना वो गेट बंद कर दिया.

क्योंकि 10-20 दिन में या कभी 1-2 महीने में जब भी उसकी चुदाई होती थी, मुझसे ही होती थी. सफर की थकान की वजह से हमने कुछ देर आराम करने का तय किया और दोपहर के खाने के बाद ही घूमने जाने का तय किया.

तो मैंने देखा भाभी नंगी सोई हुई थी और ये चीखना सिर्फ़ मुझे धोखे से कमरे के अन्दर बुलाने की एक चाल थी.

टीना- थैंक्स यार उन दोनों ने मेरा जिक्र नहीं किया वरना मैं भी फंस जाती. चोदी चोदा सेक्सी पिक्चर वीडियोफिर 15 दिनों के बाद जब वो ऑफिस जाने लगे तो उन्होंने मुझसे कहा- जय की बहुत देर तक सोने की आदत है. सेक्सी मूवी एचडी बीएफ30 बज गया था; मैंने भाभी को गद्दे पर लिटाया और अपनी मन पसन्द पोजीशन- भाभी की दोनों टांगों को अपने कंधे पर रख कर जोर जोर से चोदना शुरू किया. मैंने उसे अपनी हथेली में लेकर सहलाते हुए मुँह में ले लिया, जिसकी एक्साइटमेन्ट से चाचाजी ने अपनी जीभ मेरी चुत में डाल दी.

ऐसा लग रहा था कि मुझे बुखार हो गया हो।मैं वहां से हट गया और मैंने नीचे आकर दीदी की पैंटी निकाली और मुट्ठ मारी।शाम को उनके पति आए.

सुमन- ठीक है पापा जी, लाओ आप खड़े हो जाओ… मैं आराम से इसको चूस कर गीला करती हूँ, फिर आप भी मेरी चुत को चाट कर गीला कर देना ताकि ये मूसल आराम से अन्दर घुस जाए और मुझे तकलीफ़ ना दे. मैंने मन ही मन सोचा कि काश जय ही मुझे चोद देता तो मुझे जवानी का मजा तो मिल जाता. उसका बॉयफ्रेंड मूवी की टिकटें ले कर आया था तो वे दोनों सिनेमा हाल में चले गए.

मेरे प्यारे साथियो, आप मुझे इस भांजी की गांड की चुदाई की कहानी पर कमेंट्स कर सकते हैं. तभी तो दर्द का नाटक किया मैंने, अब जल्दी से आ जाओ और मेरी चुत को सुकून दे दो. जब पीछे से मेरी चूत में लंड डाल कर जीजू मुझे चोदने लगे तो मैं एकदम से गनगना गई और अपनेजीजू का लंडअपनी चूत में लेकर चुदवाने लगी.

खड़े खड़े चुदाई

लेकिन बड़ी बहन रीना बिल्कुल अलग है, वो मेरी हर बात का ख्याल रखती थी और जिसे उम्र के साथ दायित्वबोध कुछ ज्यादा ही है. फिर एक तो मेरे ऊपर अपना पूरा वजन रख कर खड़ी हो गई, एक मेरी बाल्स को दबाने लगी और एक ने अपने तो मेरे मुँह पर अपनी गांड रख दी और चाटने को बोला. मुझे उसका चिल्लाना और उत्तेजित कर रहा था और मैं बेरहमी से विनीता को चोदने में भिड़ा था.

उसको लगा कि शायद अपनी माँ के सुहाग के साथ ऐसा करने से भगवान नाराज़ हो गए, तभी उसकी माँ को उठा लिया.

मैंने उनको बिस्तर पर हाथ रख कर नीचे खड़ा किया और पीछे से उनकी चूत में लंड फंसा कर एक जोरदार धक्का दे मारा.

मैं- अगर तूने मेरा लंड नहीं चूसा तो ये उंगली तेरी गांड में डालूँगा. बहूरानी उठी और लाइट जला दी, पूरे ड्राइंग रूम में तेज रोशनी फैल गयी. गांव की भाभी का फोटोउसने काजल की गांड को बड़े प्यार से छुआ और उसकी पैंटी को भी नीचे सरका दिया.

कुछ समय बाद जब वो सामान्य हुई तो मैंने लिंग को आगे-पीछे करना शुरू किया. बहूरानी की चूत से निकलती फच फचफच फचाफच फचा फच की आवाजें, नंगे फर्श पर गिरते उसके कूल्हों की थप थप और उसके मुंह से निकलती कामुक कराहें ड्राइंग रूम में गूंजने लगीं. गुलशन- सुमन, अरे बेटा कहाँ हो तुम?सुमन- मेरे कमरे में आ जाओ पापा… यही हूँ मैं अपनी फ्रेंड के साथ.

अब तो तुम्हारे कॉलेज की छुट्टियां भी खत्म हो गईं, फिर भी आज तुम नहीं गईं. मम्मी ने कहा- पहले हम लेस्बियन सेक्स करेंगे, बाद में रोल प्ले सेक्स करेंगे.

उन्होंने लाल साड़ी पहनी, मेकअप किया और बिस्तर पर दुल्हन की तरह बैठ गईं.

मैंने अपने दोनों हाथ उनके कंधे के पास बेड पर टिकाए और इस बार मैंने पूरी ताकत से जोरदार धक्का मारा तो मेरा पूरा लंड उनकी गांड को चीरते हुए अन्दर समा गया. मेरी चादर एसी में मिलने वाली पतली सी थी, कम्बल मैंने ओढ़ा नहीं था, इसलिए उस चादर में टेंट जैसा शेप बन गया. लेकिन मैंने जय को बिल्कुल भी मना नहीं किया क्योंकि मैं पूरे जोश में आ चुकी थी और जय का पूरा लंड अपनी चुत के अन्दर लेना चाहती थी.

सेक्सी ब्लू वीडियो चालू बाबा तो वासना के भंवर में फंसे हुए थे वो कहाँ नीतू की सुनने वाले थे. कुछ देर बाद वो मेरे ऊपर चढ़ गई और उसने मेरे लंड को अपनू चूत में लेकर लंड की सवारी कराणे लगी.

मैं जैसे चाहूँगा तुझे चोदूँगा, जितना चाहूँगा मारूँगा समझी? तेरी जैसी रंडी चूत को मार मार कर चोदने से तुम हमेशा हमारे हमारे लंड की गुलाम रहती हो. फिर मैंने उसेव अपनी बांहों में भर लिया और उसे किस करने लगा, वो भी मेरा साथ देने लगी. मैंने सोचा अगर इससे शादी के लिए कोई कह दे तो मैं अभी इसके साथ सात फेरे ले लूँ.

सेक्सएक्सएक्सएक्सेक्स

पहले वो आनाकानी करती रही मैंने उसके सामने खड़ा हो कर उसकी चुत पर मूत की धार मारी तो उसने मेरा लंड पकड़ कर मुँह में ले लिया. मैंने अपनी एक छोटी सी सवालिया कहानी में आपको अपनी कामना को लिखा था. सुमन के मुँह से दर्द भरी चीख निकली मगर जल्दी से गुलशन जी ने उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और कमर को फिर पीछे किया और एक और जोरदार झटका मार दिया.

हम दोनों हंस पड़े और फिर मैंने दो तीन जोर के झटके लगा कर अपने लंड का पानी आंटी की चूत में निकाल दिया. उस नज़र से पप्पू समझ गया कि नीता को अपनी जवानी का एहसास है और वो भी मर्द का साथ चाहती है.

तो फिर मारूंगी और चूतड़ों को लाल कर दूंगी मादर चोद।मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था कि क्या करूँ.

उन्होंने चूत से रस छोड़ने के बाद एक पल की देर नहीं की और तुरंत अगले पल मेरे लंड को अपने मुँह में भर लिया. हेमा- हाँ आ जाएँगे और तू दरवाजा अन्दर से लॉक कर लेना, तेरे पापा के पास चाभी है, वो खोलकर आ जाएँगे. मुझे मालूम था कि उसने बस में मेरे लंड को टच किया था तो उसे पता था कि मेरा लंड कितना टाइट है। हम लोगों ने कामसूत्र सेक्स पोजीशन्स और सेक्स के बारे में बहुत बातें की।ऐसे ही बात करते करते मैंने उसे उसका मोबाइल नम्बर पूछा.

उसकी छुट्टी थी और मेरी तो छुट्टी ही छुट्टी थी क्योंकि मेरी तो ट्रेन ही छूट गई थी. उसने पूछा- तुम्हारी बीवी कहाँ गई है?तो मैंने उसे बताया- वो अपने माँ के घर गई है, दस दिनों के बाद आएगी. इधर उस्मान अपना लंड माया की बोबों पे रगड़ रहा था और माया के होंठ चूस रहा था.

इस बार गुस्सा होने के बजाय रूपा को लगा जैसे उसकी ही गलती है और वो थोड़ी शिष्टाचार के लिए मुस्कुराते हुए बोली- ओह आय एम सारी, भीड़ की वजह से मैंने आपको गुस्से से देखा.

बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी पिक्चर: पूजा की बात सुनकर संजय को हँसी आ गई क्योंकि उसने कही ही ऐसे थी- हा हा हा अरे मजाक कर रहा हूँ मेरी जान… तुझे दर्द देकर मुझे मजा थोड़ी आएगा. तुम्हारा लम्बा लंड जब भी मेरी चुत में घुसता है तो बस मेरी तो चुत फटने लगती है.

सबने एक से बढ़कर एक कमेंट्स दिए, जिसे सुनकर बरखा हवा में उड़ने लगी. पूजा- नहीं मामू, मुझे पता है आप गांड मारोगे तो मेरी जान निकाल दोगे. मेरा लंड पूरा खड़ा देख कर वह बोली- गिफ्ट पसन्द आया?मैंने कहा- बहुत ज्यादा.

मेरी उम्मीद के विपरीत उसने मेरा लंड अपने मुँह में लेकर चूसना शुरू कर दिया.

आप अपने विचार मुझे प्रेषित कर सकते हैं, मेल द्वारा या कमेंट्स द्वारा![emailprotected][emailprotected]कहानी का दूसरा भाग :नवविवाहिता की कामुकता को अपने लंड से शांत किया-2. यह सब देख कर पप्पू ने रूपा के मम्मे मसलते हुए उसका मुँह चोदना शुरू किया. उधर मनोज ने सोनिया के चूतड़ों पर एक चपत लगाई और फिर उसने सोनिया की चूत पे अपना लंड रख दिया.