सेक्सी बीएफ फुल एचडी सनी लियोन

छवि स्रोत,लेडीस ऑपरेशन

तस्वीर का शीर्षक ,

नया मारवाड़ी सेक्स: सेक्सी बीएफ फुल एचडी सनी लियोन, उसके बाद मैंने रजू के चूचों को जोर से दबाते हुए उसकी चूत में उंगली करना शुरू कर दिया.

लस्सी फोटो

पैंट पहनने के बाद मैंने अपने तने हुए लंड को अपनी पैंट में एडजस्ट करने का दिखावा सा किया. शेयर चाट कॉमएक रंडी की तरह तीनों ने मुझे और मंजू को बारी बारी से चोदा और अंधेरे में सुबह वापस कॉलेज पहुंच गए.

अगर वो चाहती तो मुझे भैया कह कर भी संबोधित कर सकती थी लेकिन उसने ऐसा नहीं किया. लड़कियों की फोटो सेक्सीउन्होंने चूस-चूस कर मेरा लंड और उसके नीचे के बॉल्ज़ बिल्कुल गीले कर दिए.

उसने पूछा- तुम ये बात कैसे कह सकते हो??अब मैंने उसको समझाया कि देखो लड़कियों के चूतड़ इसलिए बड़े होते हैं, ताकि उनको दोनों तरफ से बजाया जा सके.सेक्सी बीएफ फुल एचडी सनी लियोन: ” महेश अब नीचे होकर अपनी बहू की चूचियों को गौर से देखते हुए उसकी तारीफ कर रहा था।नीलम को ऐसे महसूस हो रहा था जैसे उसका ससुर उसके जिस्म को ऊपर से लेकर अपने होंठों से चूमता हुआ नीचे हो रहा है, नीलम की चूत से पानी बहना शुरू हो गया था। वह न चाहते हुए भी कुछ कर नहीं सकती थी.

आपको कहानी पसंद आई हो तो अपना प्यार देना, अगर नहीं पसंद आई हो तो भी बता देना.मेरे दोस्तो, मैं देवराज! आप सबने मेरी पहली सच्ची कहानीमौसेरी बहन संग मस्ती और चूत चुदाईपढ़ी और सबने इतना पसंद किया.

हिंदी सेक्सी वीडियो गाने के साथ - सेक्सी बीएफ फुल एचडी सनी लियोन

मैंने राजनाथ को पापा बोल दिया और मॉम को बोला- मुझे ऐसे पापा चाहिए और एक छोटा भाई भी.मैं नवनीत शर्मा पुणे से हूँ, छह फीट दो इंच हाइट का फिट और फुर्तीला इंसान हूँ.

मैंने चाची को पिछले 10 दिनों से चोदा नहीं था, तो मैं पहले चाची को अपने पास खींच लिया. सेक्सी बीएफ फुल एचडी सनी लियोन वैसे मैं बहुत ही ज्यादा कामुक हो गया था और मेरा पानी कभी भी निकलने वाला था.

फिर उसने मुझे धक्का देकर बेड पर गिरा दिया और पेटीकोट ब्लाउज खोल दिया.

सेक्सी बीएफ फुल एचडी सनी लियोन?

मैं लंड खुजा कर उसको समझाता रहा, वो भी अपने बार बार झुक कर अपने मम्मों को दिखाती रही. लेकिन मुझे कोई शिकायत भी नहीं है क्योंकि उस कहानी को आप लोगों ने बहुत प्यार दिया. मैं चुदासी हो गई और अपनी गांड को पीछे करते हुए खुद ही अपने घरवाले के लौड़े पर रगड़ने लगी.

उसने मेरी चूचियों को मसल मसल कर उनका हलवा सा बना दिया था, मेरी चूचियों का बुरा हाल हो चुका था. मेरे दोस्तो, मैं देवराज! आप सबने मेरी पहली सच्ची कहानीमौसेरी बहन संग मस्ती और चूत चुदाईपढ़ी और सबने इतना पसंद किया. स्प्रे करने के बाद मैंने आंटी को उठने के लिए कहा क्योंकि गर्म खून में उठना आसान होता है.

फिर वो बोले- पहले तू दारू भी नहीं पीती थी लेकिन अब मेरे साथ पीती है. ” महेश ने अपने लंड को अपनी बहू की चूत के खुले हुए छेद पर घिसते हुए कहा।हाहहह पिता जी घुसाओ न अपना लंड. सुमिना, सुधीर आ गया है …”यह काजल की आवाज़ थी क्योंकि सुमिना की आवाज़ को तो मैं अच्छी तरह पहचानता था.

उनके बच्चे वगैरह सब लोग अमेरीका में रहते थे, भारत में सिर्फ़ अंकल आंटी रहते थे. राहुल ज्यादा नहीं पीता था तो उसने एक छोटा सा पेग केवल साथ देने के लिए ले लिया और रजनी डिनर लगाने चल दी.

मैं- यहां कितने लोग रहते हैं?वो- हम दो लोग रहते हैं?मैं- क्या आप मुझे एडजस्ट कर सकते हो? रेन्ट भी शेयर हो जाएगा, तो पर हैड कम लगेगा.

” नीलम ने अपने पति को चेतावनी देते हुए कहा।भाड़ में जाओ!” समीर ने गुस्से से अपना अंडरवियर पहन लिया और कमरे से बाहर निकल गया।समीर बाहर आते ही सोफ़े पर बैठ गया.

उनसे कंट्रोल नहीं हो पा रहा था, तो वो बोलीं- आप थोड़ा साइड हो जाओ … और गाड़ी का गेट खोल कर आड़ लगा दो. फिर उसने मेरी साड़ी उतारी और मेरी गर्दन पर चूमने लगा, मैं मदहोश सी हो गई. मैंने अपनी मम्मी जी से पूछा- आप ठीक हो … अब नॉर्मल हुईं कि नहीं?वो बोलीं- हां … अब मुझे ठीक लग रहा है, जिसके पास आपके जैसा दामाद हो, वो सास कब तक मूड ऑफ करके रह सकती है … थैंक्यू दामाद जी.

जैसा संतोष ने बताया था, मैंने उनके कहने पर अपनी दो पैंटी छत पर ही छोड़ दी थी. मैंने भाभी को छेड़ा भी, उन्हें बांहों में लेने की कोशिश भी की कि अब मौक़ा है तो भाभी जरूर चुदवा लेगी. मैंने पूछा- इसका क्या करोगे भाई?वो बोला- तू चुप कर, मैं जो कर रहा हूं मुझे करने दे.

तो दोस्तो, इस तरह चार दिन की जुदाई के बाद पति ने मेरी चूत और गांड की जमकर की चुदाई की.

इसी बात का फायदा उठा कर मैंने फिर से रजू के चूचों में हाथ डाल दिया. फिर करीब 20 मिनट के बाद मैंने चयन की गांड में अपना सारा पानी निकाल दिया. कभी वो मेरे एक मम्मे को अपने मुँह में लेकर चूसता तो कभी मेरे निप्पल को अपनी दो उंगलियों से जोर से उमेठ कर रगड़ देता.

फिर मैंने दीदी के पेट पर किस करते हुए उनकी पेंटी उतार दी और उनकी चुत पे अपने होंठ लगा दिए. मैं उससे ताकतवर था और उसके लंड का सुपारा मेरी गांड में घुसा आनंद दे रहा था. मैंने धक्के के साथ ही उसके मुँह को अपने मुँह से दबा लिया था, ताकि उसकी चीख न निकले.

फिर रात को मैंने तीन बजे के करीब एक फिर से उसकी चूत पर अपने लंड से हमला कर दिया.

मैंने कहा- ठीक है, अगर दोस्त की बीवी इतना कह रही है तो फिर पी लेते हैं. ज्योति ने अपने भाई के लंड को चाटते हुए देखा कि उसके सुपाडे के छेद से प्रीकम की कुछ बूँदें निकल रही हैं। उसने जल्दी से अपनी जीभ को अपने भाई के लंड के छेद पर रखा और उसके प्रीकम को अपनी जीभ से चाटने लगी, ज्योति अपने भाई के प्रीकम को चाटने के बाद अपनी जीभ से उसके सुपाड़े के छेद को ही चाटने लगी।ओह बहन!” समीर ने ज़ोर से सिसकारी लेते हुए कहा.

सेक्सी बीएफ फुल एचडी सनी लियोन पर मैं नीचे छिपा रहा।वह आदमी फ़ोन निकाल कर यूज़ करने लगा। फ़ोन की रोशनी में मैंने उसका चेहरा देखा, लगभग 40-45 साल का रहा होगा, बड़ी बड़ी मूछें, भरा हुआ चेहरा, कुल मिला कर ठीक ठाक आदमी लग रहा था।फिर उसने फ़ोन की लाइट ऑन की और बैग से कुछ निकाल कर खाने लगा।रात के 10 बज रहे थे और खाने का सामान देख कर मेरी भूख दोगुनी हो गयी। मैं नीचे से ऊपर आया और लालसा भारी नजरों से खाने को देखने लगा. उनके ‘क्यों?’ के सवाल पर, मैंने उनसे निवेदन किया कि मेरी यही इच्छा है.

सेक्सी बीएफ फुल एचडी सनी लियोन क्या हुआ भाई जान?” समीर ने आवाज़ सुनते ही सामने देखा तो उसकी 36 साल की छोटी बहन ज्योति दूसरे सोफ़े पर बैठी थी।तुम्हें पता है फिर क्यों पूछ रही हो?” समीर ने गुस्से से अपनी बहन को जवाब दिया।यार. मेरा वीर्य उसकी चूत में से बह कर बाहर आ रहा था लेकिन उसने इसकी परवाह नहीं की और वो एक साफ़ नेपकिन लेकर मेरी बीवी की ओर बढ़ी.

और फिर उसने काफी सारा पानी उसकी चूत में भरकर अपना मुंह उसकी चूत के होठों पर रख दिया और कस के चूत का रस चूसने लगा.

सेक्सी पिक्चर चोदा हिंदी

मैंने उसके डिपार्टमेंट में पता लगाने की कोशिश भी की पर कुछ भी पता नहीं चला और अब तो ये आलम हो गया था कि मैं भी उसे भूल जाऊँ और फिर हमेशा की तरह अपनी जिंदगी में मस्त हो जाऊँ. वो उठा तो राहुल भी खड़ा हुआ जाने के लिए … तो सारिका बोली- अगर कॉफ़ी नहीं पियोगे तो पैंटी वापिस देनी होगी. पति को भी कुछ नया करने का मौका मिल रहा था इसलिए वो भी ज्यादा ही उत्तेजित हो रहे थे.

फिर रात में हम सबने साथ ही डिनर किया और अपने अपने कमरों में सोने चले गए. अब तुझे चुदने में मुझे चोदने में दुगना मजा आएगा।अब रुकना मेरी सहनशक्ति से बाहर था। मैंने रॉकी को खींच के बेड पर पटक दिया और खुद उसके ऊपर चढ़ गई। रॉकी का लण्ड अपने हाथ से ही अपनी चूत में सेट करके पूरा अंदर ले लिया. मैं अपनी बीवी को आंखों के इशारों से कह रहा था कि आज रात में हम बहुत मस्ती करेंगे.

मैंने झट से मेरा मुँह बाजू किया, तो बोली- साले हरामी इतनी जोर कोई चुत में लंड डालता है क्या … निकाल लंड मेरी चुत से … आह मुझे नहीं चुदवाना तेरे मूसल लंड से.

हर्ष मेरी हालत देखकर बोला- कोई नहीं दीदी, रात को छत पर आ जाना!यह कहकर उसने अपना नंबर मुझे दिया और अब मैं रात का इंतज़ार करने लगी।हल्का-हल्का अंधेरा होने लगा था. उसको ये भी मालूम था कि विशाल सर अब नहीं हैं और वो मेरी जवानी का रस चखने की फिराक में था. उसने मेरे लंड को अपने हाथ में पकड़ा और अपना मुंह खोल कर मेरे लंड को अपने मुंह में भर लिया.

दोस्तो, यह थी मेरी सच्ची फेमिली सेक्स कहानी, मैं उम्मीद करता हूं कि आपको मेरी बहन की सील तोड़ने वाली चुदाई की कहानी पसंद आई होगी. उसने कहा- मैं क्या आगे नहीं बैठ सकती?मैंने कहा- क्यों? आगे ही बैठी हो?उसने कहा- नहीं, आपने पीछे का दरवाजा खोला था न, इसलिए पूछा. मेरे मुंह के अंदर से मैंने छोटा सा बर्फ का टुकड़ा आंटी की चूत पर छोड़ दिया था.

ऐसे 10 मिनट की किस करने के बाद मैंने उसकी कुर्ती को निकाल दिया और फिर उसकी नई नेट की ब्रा से ऊपर से ही उसके मम्मों को दबाने लगा. पिंकी ने म्यूजिक चला दिया … बहुत ही सेंसेशनल म्यूजिक सभी थिरकने शुरू हो गए.

मैंने स्मायरा से कहा- मेरा जोधपुर में दो दिन का ही काम है, मैं परसों जयपुर निकलूंगा, मैं परसों कॉल कर लूँगा और आपको लेने आ जाऊंगा. उसके ऊपर आकर उसके होंठों को, फिर गर्दन को, फिर धीरे धीरे उसके मम्मों को चूसने लगा. मतलब आपकी रात में ड्यूटी है इसीलिए आप रूम पर हो और उनकी दिन में ड्यूटी है.

वो आशा को भी तो बोल सकती थी चाय बनाने के लिए? मगर वो तो उस मुच्छड़ को देख कर ऐसे खुश हो रही थी कि पता नहीं किसी सुपर स्टार को देख लिया हो उसने।खैर, उसके जाने के बाद मैंने सुमिना से उसके बारे में पूछा तो उसने बताया कि ये काजल का भाई था कुणाल।हॉट गर्ल की सेक्स कहानी अगले भाग में जारी रहेगी।.

पर वह कुछ मिनट बाद ही फिर वापस आया। उसके हाथों में तेल की शीशी थी।उसने मुझसे लोअर उतारने को कहा, मैंने बिना कुछ बोले लोअर उतार दिया। मेरी अंडरवियर उसने खुद पीछे से उतारी। उसने मुझे बेड पर झुका दिया औऱ खुद नीचे से मेरी गांड में तेल की शीशी पलटने लगा, तेल मेरी गांड के छेद से रिसता हुआ मेरी टांगों के रास्ते बिस्तर और फ़र्श पर फैल रहा था।उसने अपनी एक उंगली तेल में डुबो कर मेरी गांड के छेद में डाल दी. अचानक से उसने मेरा हाथ पकड़ कर अपनी गोद में रख लिया और बोली- भैया तुम बहुत अच्छे हो. ये मेरी पहली सेक्स स्टोरी है … जो मैंने आप लोगों के साथ साझा की है.

मेरे खड़े लंड को हाथ में लेकर भाभी बहुत खुश हुईं और उन्होंने घुटने के बल बैठ कर जोरदार चुम्मों की झड़ी मेरे लंड के गुलाबी टोपे पर लगा दी. उससे बातें हुईं, तो वो पूछने लगी- कैसी लगी चाची की चूत?मैंने कहा- मज़ा आ गया.

यही बात मेरा प्लस पॉइंट हो गयी उसे पाने के लिए।अब बारी थी हमारे मिलने की … हमने एक जगह और समय प्लान किया और इंतज़ार करने लगे उस दिन का जिस दिन हमें मिलना था।वो दिन भी आ गया और हम मिले. उसके नर्म-नर्म चूतड़ दबाते हुए मन कर रहा था कि उसकी चूत में लंड देकर उसकी चूत को चोद कर फाड़ ही दूं. एक मिनट से भी कम समय में मैंने भाभी के मुँह में ही अपना पूरा वीर्य छोड़ दिया.

डीजे पिक्चर सेक्सी

उम्म्ह… अहह… हय… याह… मुझे चूत में बहुत दर्द हुआ पर इतने बड़े लंड से चुदने की तमन्ना भी मेरी ही थी तो मैं इतना दर्द तो सहन कर सकती थी क्योंकि इतना बड़ा लंड मैं पहली बार लिया था.

मैं मेरी गर्लफ्रेंड को शिमला घुमाने ले या तो उसकी चचेरी बहन हमारे साथ आई थी. मैंने उससे कहा- अब बातें करना छोड़ो वरना मुझे मामा मामी देख लेंगे … और ऐसे कपड़ों में मुझे तुम्हारे साथ आने ही नहीं देंगे. चूंकि भीड़ काफी थी तो मैंने पहले अनीता को ऊपर कर दिया और पीछे से बैग उठाकर अपनी पीठ पर लाद कर मैं भी ट्रेन में घुसने लगा.

इसकी चूत की चुदाई करके ऐसी बना दे भोला इसको कि ये साली शांत हो जाये. हर बार जीजा का फोन लेकर चुपके-चुपके आशीष से बात करती थी आधे घण्टा, एक घण्टा!फिर जब ऐसा मैंने दो तीन बार कर लिया तो जीजा ने पूछा- किसको लगाती हो फोन बंध्या?मैं कहा- सहेली है जीजा, उससे बात करती हूं. देसी पापैइस हिन्दी चुदाई कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा था कि समीर की बीवी नीलम ने अपने पति समीर को चुदाई के लिये मना कर दिया था क्योंकि समीर का लंड बहुत बड़ा था.

संतोष जी बोले- आज तो तेरी चूत और गान्ड दोनों खोल दूंगा।मैं एक शॉल अपने ऊपर डाल कर छत पर चली गई. मैं पूरा दिखावा कर रहा था कि मैं अब उसकी चूत को हाथ नहीं लगाने वाला.

इससे उनके कंगन खनकने लगे।अब मैं ज्यादा दूर नहीं था तो मैंने अपना हाथ उनके 34 साइज के बूब्स पे रख के दबाना चालू कर दिया. फिर जब इशिता ने मुझको अपने कमरे में सोने को कहा, उस दिन क्या हुआ वो अगले भाग में बताती हूँ. मैं सोच रहा था कि चाची खुद ही मेरे लंड को मुंह में लेने के लिए कहेगी लेकिन चाची मेरे लंड को मुंह में लेने के लिए पहल नहीं कर रही थी.

अब राहुल ने भी अपना एक हाथ धीरे से आगे किया और शबनम के निप्पल को सहलाना शुरू कर दिया. फिर उसने तेजी के साथ अपनी चूत को सुमिना की चूत पर रगड़ना शुरू कर दिया. मैंने सोचा कि वो किसी और से प्यार करती है, फिर भी मेरे कहने पर मुझसे चुदने आ गयी.

मैंने सोचा कि वो किसी और से प्यार करती है, फिर भी मेरे कहने पर मुझसे चुदने आ गयी.

जब इसकी चर्चा मैंने सुबह सुबह टहलने के दौरान एक दो लोगों से की, तो मुझे बताया गया कि इस पार्क में और भी लड़के पढ़ने जाते हैं, तुम भी इधर ही चले जाया करो. मैंने सोचा कि घर में भी कोई नहीं है तो क्यों न इस मौके का फायदा उठा लिया जाये.

फिर एक दिन जब मैं प्रशांत और सुमन के साथ फोन सेक्स करते हुए जोर-जोर से कामुक आवाजें कर रही थी तो अचानक से मेरा सगा भाई सुनील मेरे कमरे में आ गया. उनके लंड को हाथ में पकड़ कर मैं आगे चलने लगी और पति पीछे-पीछे चलने लगे. मैं भी हमेशा मॉडर्न कपड़े पहनती हूँ तो मेरी सहेली का बॉयफ्रेंड मोहनीश मुझे हवस भरी नजरों से मुझे देखता है.

शादी से पहले से ही मैं प्रीति को पसंद करता था क्योंकि वो है ही ऐसी. सीमा ने उसके गले में हाथ डाल कर उसे अपने नजदीक खींचा और अपना एक पैर उठा कर उसके लंड पर रगड़ दिया. तब मैंने कहा कि देखती हूं, अगर किसी तरह कोई जुगाड़ बनता है तो मैं आऊंगी.

सेक्सी बीएफ फुल एचडी सनी लियोन हालांकि उसने कहा तो मजाक में ही था पर यह बात मैं सारे रास्ते सोचती रही. पहले तो उसे शायद मजा नहीं आ रहा था लेकिन फिर बाद में वो मस्ती से मेरे लंड को चूसने लगी.

हिंदी वीडियो सेक्सी चूत चुदाई

मेरे हर धक्के के साथ वो चिल्लाये जा रही थी- हाँ ह हाँ … और ज़ोर से हाँ … साहिल आज मुझे पूरी अपनी बना लो, बुझा दो मेरी प्यास … चोदो और ज़ोर से प्लीज!और ऐसे ही चिल्लाते हुए वो अकड़ने लगी और झड़ गई. मैंने कहा- जान, हम लोग यहां सोने थोड़ी आये हैं … सोना ही होता, तो घर ही ना रहते. मैं पहले से थोड़ा ज्यादा बाजार जाने लगी थी जिससे पड़ोस के लड़के मुझे और भी ज्यादा वासना भरी नजर से देखने लगे थे.

इधर एक बात ध्यान देने वाली थी, जितने भी लोग कॉरिडोर में आ जा रहे थे. मेरी नजर टीवी पर कम और अनीता के चूचों की क्लिवेज पर ज्यादा जा रही थी. सेक्सी लड़कियों की फोटो दिखाइएलंड चूसते हुए ही उसने मेरे आंडों को भी सहलाना शुरू कर दिया और एक मेरी गोटी को उसने अपने मुँह में ले लिया.

सारिका वाशरूम में गयी तो अंदर से ही बोली- कितनी बेदर्दी से फेंका है इतनी नाजुक चीज को!पंकज ने पूछा- क्या हुआ?वो बोली- कुछ नहीं … ऐसे ही.

सलहज के द्वारा लंड चुसवाने में जो मजा मुझे आया वो मैं शब्दो में नहीं बता सकता. मैंने उसके डिपार्टमेंट में पता लगाने की कोशिश भी की पर कुछ भी पता नहीं चला और अब तो ये आलम हो गया था कि मैं भी उसे भूल जाऊँ और फिर हमेशा की तरह अपनी जिंदगी में मस्त हो जाऊँ.

खैर अब राहुल अपने नए फ्लैट में शिफ्ट हो गया और पहले ही दिन अपनी फ्लोर पर रहने वाले विजय शर्मा जी के घर रात का डिनर भी ले आया. बातों ही बातों में उसने मुझसे कंप्यूटर सिखाने के लिए कहा तो मैं भी तुरंत मान गया. दूसरी बात यह भी है कि लड़की के चूतड़ बड़े हों, तो सेक्स के टाइम पर जब लंड से शॉट मारते वक्त, जो आवाज आती है, वो काबिले तारीफ है.

उसने मेरे मुँह को अपने हाथों से पीछे किया और खुद ही अपनी पिंक पेंटी उतार कर अलग कर दी.

उसके बाद मैं फिर रोज़ ऋषि की तबियत पूछने जाता लेकिन संजना को मैंने न तो छूने की कोशिश की मैंने और ना ही उसको कुछ बोला या पूछा क्योंकि मैं जानता था संजना अपने बेटे को लेकर चिंता में है. हम उठे, मुंह धोया और नाश्ता किया और एक दूसरे के बगल में बैठे बातें करने लगे. उसका लंड वैसे तो काला सा था लेकिन उसका सुपारा बिल्कुल गुलाबी रंग का था.

दोस्त बनाने की विधिमैं यानि अनुज, पंकज और श्रेयस। हम तीनों ही अच्छे दोस्त हैं लेकिन तीनों ही एक नम्बर के चोदू भी हैं. थोड़ी देर ऐसे ही चोदने के बाद उसका पानी छूट गया और वो जोर जोर से ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ की आवाज करते हुए झड़ गई.

पानीपुरी सेक्सी वीडियो

मैंने मॉम की दोनों टांगों को फैलाकर उनके बीच में आ गया और लंड को उनकी बुर पर सैट कर दिया. तभी वो मज़ाक में बोले- तो ब्वॉयफ्रेंड है क्या?मैंने भी हंस कर कह दिया- अरे नहीं अंकल … वो भी नहीं है. दस मिनट बाद मैंने दीदी से बोला- मैं आने वाला हूँ, रस कहां डालूँ?दीदी ने जल्दी से कहा- मेरी चुत में डाल दो.

वो सीधे अन्दर को भागीं और बेडरूम में अन्दर अटैच टॉयलेट में घुस गईं. दस बीस धक्के के बाद वो भी अब नीचे से गांड उठाते हुए ऊपर को झटके देने लगी. तभी महेश ने नीलम को छोड़ा और उसके बाल पकड़ कर नीलम को अपने सामने बैठा लिया। नीचे बैठाने के बाद महेश ने अपनी पैंट की ज़िप खोल ली और एक झटके में अपना मूसल लंड निकाल कर नीलम के चेहरे के सामने कर दिया- चल साली, चूस इसे!हवस में डूबा हुआ ससुर अब अपनी बहू को गाली देने पर उतर आया था.

जैसे ही आशीष ने यह सब बात बताई तो मैं घबरा गई क्योंकि जीजा को अब शायद हमारे बारे में सब कुछ पता लग गया था. अपनी चुत पर मेरी जीभ का स्पर्श पाते ही मोनाली के मुँह से मीठी सीत्कारें निकलने लगीं- आहहह. उसने मुझे बताया कि वो अपनी गर्लफ्रेंड के साथ आज रात को बाहर कहीं रूम पे रुकेगा.

मेरे लंड महाराज सलामी देने लग गए थे और मैं अपने लंड को हाथों से छुपा रहा था. अब उन्होंने मुझसे पूछा- तुमको कोई दिक्कत तो नहीं हो रही है … तुम ठीक महसूस कर रहे हो न!मैंने हां में सिर हिला दिया, फिर उन्होंने मेरी गांड को उठाया … जो कि पूरी खुली हुई थी.

कहानी अगले भाग में जारी रहेगी जिसमें मैं आपको बताऊंगी कि मेरे पति ने कैसे मेरी गांड को पूरे मजे लेकर चोदा.

उसका दोस्त भी अपना लंड पेलता हुआ कह रहा था- हां ले मेरी रंडी … आज मैं तेरी चूत का सही में भोसड़ा बना कर ही जाउंगा … तू भी आज क्या याद करेगी कि किस लंड ने आज तुझको चोदा है. बिना तार के दांत अंदर करनाकुछ देर तक उसकी चूत को चोदने के बाद अनिल ने अपना लंड बाहर निकल लिया और फिर मैंने अपनी बीवी की चूत में अपना लंड डाल दिया. सविता भाभी स्टोरीचिकनी चूत होने के कारण मेरा पूरा लंड एक बार में ही भाभी की चूत की जड़ तक घुस गया. प्रिया के साथ मैंने जो मजे लिये उसकी शुरूआत खुद उसने की थी लेकिन जब फिर मैंने आगे बढ़ने की कोशिश की तो वो खुद पीछे हट गयी.

फिर उसने अपनी टांगों को मेरी गांड पर लपेट लिया जिससे मेरे लंड का जड़ तक का भाग उसकी चूत से जाकर सटने लगा.

दारू का नशा चढ़ गया था और दूसरी प्यासी चूत की खुजली भी बढ़ गई थी, जिसको कई दिनों से लंड की ज़रूरत थी. मैंने लंड उनके मुँह से निकाला और उनके मम्मों के ऊपर सारा माल डाल दिया. तब मेरी उम्र कुछ 28 के आसपास थी और मैं कुंवारा था, तो ये मेरा पहला अनुभव था.

मैंने उसे उसके घर, मेरे ऑफिस में, होटल में, खेत में … हर जगह चोदा था. पर जैसे जैसे रात बीतती गयी और अंधेरा होने लगा; मेरे दिमाग ने काम करना बन्द कर दिया क्योंकि मैं अपने घर, गांव से काफी दूर जा चुका था और मुझे बहुत जोर की भूख लगी थी।मैं घर वापस नहीं जाना चाहता था तो मैं एक पुराने रेलवे स्टेशन पर वही अंधेरे में बैठ गया।मैं घर से भाग तो गया था पर मुझे समझ नहीं आ रहा था कि मैं क्या करूँ, कहाँ जाऊं?मैं वही बैठकर सिसकारियाँ भर के रोने लगा. उनकी हिचकते हुए स्वर में स्वीकारोक्ति सुन कर मेरे तन बदन में आग लग गयी.

हिंदी सेक्सी चाहिए देहाती

मैं इस दौरान बराबर उन्हें मसल रहा था और उनके पूरे शरीर को चूम रहा था. वो बोली- सॉरी, गुस्से में डांट दिया मैंने, बुरा क्यों मान रहा है?मैंने कहा- गलती तो मुझसे हो गई है लेकिन अब मैं आपके साथ कुछ नहीं करूंगा. हिना- आह छोड़ दे मुझे … आज मेरी सब हसरतें पूरी हो गईं, अब मुझे छोड़ दे … कोई बचाओ ये मुझे मार ही देगा.

आंटी बोलीं- तू तो बहुत मस्त चुदाई करता है … और चोद … चोद मुझे … आहह … अहहा … अहह … अहह … उम्म्म्म … उफफ्फ़ … आहह.

इस बात को लेकर उन दोनों में अक्सर झगड़े होते है, उसका पति उसके साथ मारपीट करता है.

मेरा इशारा वो समझ गयी थी लेकिन उसने ना में गर्दन हिलाते हुए मेरा लिंग चूसने से मना कर दिया. उसे वहां का मौसम सूट नहीं कर रहा था जिस वजह से उसे मुझे अपने पुराने घर पर छोड़ना पड़ा।पत्नी के जाने के बाद मैं अब बिल्कुल अकेला था इसलिए घर का सारा काम जैसे खाना बनाना, साफ-सफाई करना और यहां तक कि अपने कपड़े भी मुझे खुद ही धोने पड़ते थे. सेकसीबिडीयोयार तू नखरे बहुत करता है!और लौंडे की कमर को अपनी बांह से जकड़ लिया, एक जोरदार धक्का दिया.

फिर उसने अपना लंड बाहर निकाल लिया और मैंने अच्छी तरह उसके लंड को अपने हाथ में पकड़ लिया. मगर उसके लिए तुम्हें जीजा-साली के प्रोग्राम में हममें से भी एक को शामिल करना पड़ेगा. आंटी ने मेरा लंड को फिर से अपने मुंह में भर लिया और नेहा मेरा हाथ पकड़ कर अपनी चूत पर फिराने लगी.

उसके बाद मैंने उसके टॉप को निकाल दिया और ब्रा के ऊपर से ही उसके दूध को दबाने लगा तो उसके मुंह से आहा … ऊंह … ऊम्ह की कामुक आवाजें निकलने लगीं. उसने मेरे पेंट को उतार दिया और फिर अपनी जुबान से धीरे धीरे मेरे लंड को चाटने लगा.

मैंने कहा- कौन सा प्रोग्राम?वो बोले- जिस प्रोग्राम के लिए तुम कमरा ले रहे हो मैडम.

मैं मम्मी के डर से नहीं जाना चाहता था, पर आंटी के साथ बात करने की लालच में मैं अन्दर जाकर बैठ गया. वैसे मैं बहुत चोदू किस्म का लौंडा हूँ, अब तक जिनको भी मैंने चोदा है, वे सब मेरे लंड से दोबारा चुदाई के लिए लालायित रहती हैं. समीर के लंड का मोटा सुपारा उसकी छोटी बहन की चूत में फँस गया। समीर ने अपनी बहन की टांगों को पकड़ते हुए एक और धक्का मार दिया।उई माँ … मर गयी.

लड़की की बफ वह अपने ससुर को देखकर सीधी होकर बैठ गई।पिता जी, मैं आपसे कुछ कहना चाहती हूं. इधर मैं अपनी बेटी को दूध पिला रही थी और दूसरी तरफ खुले में चुदाई के बारे में सोच सोच कर रोमांचित हो रही थी।अब मेरी बेटी सो चुकी थी.

इसीलिए मैं चाहता हूं कि भले ही हम लोग घर में कुछ भी करें लेकिन बाहर हमारी इज्जत खराब नहीं होनी चाहिए। हम लोग घर में ही एक दूसरे की प्यास को शांत कर सकते हैं। इसमें गलत क्या है। तुम अभी छोटी हो, अभी तुम्हारी शादी होने में बहुत टाइम बाकी है. मैंने कहा- कोई बात नहीं, अगर दोस्त नहीं तो मैं हूं न? दोस्त का दोस्त!वो बोली- हां, यह दोस्ताना तो मुझे बहुत पसंद आया. थोड़ी देर लंड चूसने के बाद आंटी बोली- अब तो मुझसे भी नहीं रहा जा रहा है.

पूरी ओपन सेक्सी

उसके बाद विनय भी मेरी चूत में तेजी से झड़ने लगा और मेरे ऊपर ही लेट गया. वैसे तो चुदाई सर्दी में ज्यादा मजेदार लगती है लेकिन मैं तो गर्मी में भी गर्म चूत का खूब मजा लेता हूं. मैंने पूछा- वो कैसे?फिर वो उठी और अपनी अलमारी खोल कर उसके अंदर से एक पिंक कलर का लंड की शेप वाला खिलौना सा लेकर आई.

उसका आधा लंड मेरी चूत में चला गया और मैं कुछ दर्द और कुछ आनन्द से चीखने लगी. ” पापा मुझे समझाते हुए बोले।कुछ नहीं होगा पापा … मैं कुछ गड़बड़ नहीं करूंगी … प्लीज … प्लीज … मैं घर में बैठे बैठे बोर हो रही हूं.

तभी अचानक मेरे मन में कुछ आया और मैंने उसको गोद में उठा लिया और बाथरूम में ले गया.

अनिल ने पहले ही कहा था कि तुम्हारी बीवी सती-सावित्री नहीं बल्कि एक रंडी है. शाम को बिना शर्म किए साइकिल स्टैंड की तरफ जाकर विशाल सर से मिलती और खूब चुम्मा चाटी करवाती. एक हाथ से वो मेरी चूची को मसल रहे थे और दूसरी चूची को अपने होंठों से पी रहे थे.

मैं भूखे शेर की तरह उनके भूरे और मोटे निप्पलों को अपने होंठों में दबा कर चूस रहा था. ये दोनों तो निचोड़ लेंगी आज मुझे।आंटी ने फिर उठ कर कमरे में चलने के लिए कहा और अंदर ले जाकर मुझे बिस्तर पर लिटा दिया. स्कूल की पढ़ाई के बाद मैंने दूसरे कॉलेज में एडमिशन ले लिया था, जिसमें लड़कियां थीं.

वे दोनों बिहार से थे, रेल्वे में जॉब करते थे और रूम पर ही खाना वगैरह बना कर खाते थे.

सेक्सी बीएफ फुल एचडी सनी लियोन: अनिल की वाइफ भी अच्छी लग रही थी लेकिन मेरी बीवी ऋतु उस महफिल की शान थी. तब मैं समझ गयी कि ये विवान भैया भी मुझे वासना भरी नजर से देखते हैं.

लगभग 15 मिनट उसे चोदने के बाद मैंने अपना पानी उसकी चूत में ही निकाल दिया … क्योंकि मैं पहले से ही 72 घंटे वाली गर्भ निरोधक गोली ले कर आया था. उसके छोटे छोटे चूचे मेरे पेट पर छू रहे थे और उसकी चूत की खुशबू पूरे कमरे को महका रही थी. मैंने उसको फोन किया तो उसका फोन भी कवरेज क्षेत्र से बाहर बता रहा था.

जब किसी शादीशुदा मर्द को 7 महीनों से चुदाई करने ना मिली हो, तो वो कितना तड़पता होगा … ये बात इस वक्त मुझसे बेहतर कोई नहीं समझता होगा.

अब आगे:सुमिना और कुणाल की चुदाई देखने के बाद मैंने अपनी बहन पर नजर रखना बंद कर दिया था. चाची- हां रे चोद दे जीशान … मेरे हाथ से खाना खाता था … आह और अब मेरी चुत मार रहा है. एक बार मैंने उसके फोन में पोर्न क्लिप देख लिया तो …मेरा नाम तान्या है और मैं पुणे से हूं.