इंडिया बीएफ सेक्स

छवि स्रोत,भाभी देवर की सेक्सी बीएफ वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

निर्वस्त्र फोटो: इंडिया बीएफ सेक्स, कुछ देर अपने दोस्त की जवान बहन ऐसे चोदने के बाद मैं लन्ड उसकी चूत से निकाल कर बिस्तर पर लेट गया और पीहू से कहा- मेरे लंड के ऊपर आकर इसकी सवारी करो।पीहू मेरी कमर के दोनों तरफ अपने घुटनों के बल होकर अपनी चूत की छेद पर मेरे लन्ड को सेट कर बैठ गयी। मेरा पूरा लन्ड उसकी चूत में समा गया।मैंने पीहू से कहा- पीहू, अब तुम मुझे चोदो.

बीएफ पिक्चर बियर

मैंने उसके हाथ पर अपना हाथ रखा और पीछे मुंह करके बोली- आप मुझे पकड़े ही रहो, वरना मैं गिर जाऊंगी।वो मेरे पेट पर हाथ रख कर मुझे पकड़े रहा जब तक मैंने खाना नहीं ले लिया।हम लोग खाने लगे. फौजियों की बीएफशकील ने अम्मी का हाथ पकड़ा, अपने लंड को रजाई के अंदर ही बाहर निकला और अम्मी के हाथ में थमा दिया.

सागर अपना हाथ मम्मी की गांड पर रख कर नाइटी की ऊपर से सहलाने, दबाने और मारने लगा।सुधा कुछ देर सागर के होंठ चूसने के बाद दूसरी तरफ मुंह करके 69 की पोजीशन में लेट गयी और सागर का लन्ड उसकी शर्ट्स के ऊपर से ही मसलने और चूसने लगी।सागर भी उनकी गांड से नाइटी उठा कर उसने अपनी उंगलियों पर थूक लगा कर उसमें उंगली करने लगा. बिपाशा बसु के बीएफकुछ देर बाद मैंने दोनों बुआओं की गांड में तीन तीन उंगली करके देखीं, उन्हें दर्द नहीं हो रहा था.

हम दोनों एक ही सोफे पर बैठ कर टीवी देख रहे थे कि तभी अचानक हीरो हीरोइन के बीच एक अन्तरंग दृश्य आया, जिसमें हीरो हीरोइन बिस्तर पर लेट कर चुम्बन ले-दे रहे थे.इंडिया बीएफ सेक्स: शायद वीर्य बाहर इसलिए निकाला कि वो लोग अब दूसरा बच्चा अभी नहीं चाह रहे थे।उसके साथ ही मेरी भी पैंटी पूरी गीली हो गई मेरी चूत से लगातार बह रहे कामरस से!दीदी उठकर बाथरूम चली गई और मेरे साथ सो गई आकर!लेकिन मुझे नींद नहीं आ रही थी।फिर कुछ दिन और रुकने के बाद मैं अपनी ससुराल चली गई.

अब गर्ल्स के लिए सबसे ज्यादा जरूर जानकारी मेरे लंड का साइज़ क्या है इसकी बात करते हैं.होटल रूम सेक्स कहानी के पिछले भागचाची को होटल में लेजाकर चोदामें अब तक आपने पढ़ा था कि चाची की चुदाई का राज प्रियंका भाभी ने जान लिया था और वो भी मुझसे चुदने के लिए कहने लगी थीं.

अफ्रीकन बीएफ सेक्सी - इंडिया बीएफ सेक्स

मैं भी खुश था लाइव पोर्न देख कर को भी अपनी बहन का जो कि खुद किसी पोर्नस्टार से कम नही।आगे मैं बताऊंगा कि कैसे सौरभ मेरी बहन को अपने दोस्तों के साथ चोदने के लिए बुलाता है और मेरी बहन एक परेशानी में फंस जाती है।मेरी चालू बहन की चूत और गांड चुदाई की कहानी कैसी लगी?[emailprotected].और उसके घर वालों ने उसकी शादी के लिए लड़का ढूंढने की जिम्मेदारी मुझे दी है।उन्होंने मुझसे कहा- अगर तुम्हारी नजर में कोई लड़का हो तो तुम जरूर बताना.

फिर मैं अपने घर पहुंच गया; जाकर मैं नहाया और अपनी गांड के चुदे हुए छेद पर तेल लगाया मैंने।कई दिनों तक मुझे उसकी चुदाई याद रही. इंडिया बीएफ सेक्स इसके बाद मैंने अपने शरीर का सारा भार दी के ऊपर डाला और एक जोर का धक्का लगा दिया.

फिर उसने मेरे सिर को पकड़ कर मेरे होंठों को अपने दूधों पर रखवा दिया.

इंडिया बीएफ सेक्स?

हमारी थोड़ी देर बात हुई, फिर उसने बोला- अब आ जाओ, हम सब रेडी हो गए हैं. अंकल ने बोला- अपना बदन तो दिखाओ जान!मॉम ने कहा- तुम खुद ही मुझे नंगी करके देख लो न!फिर अंकल ने मॉम की साड़ी खोल दी. आज रात को मम्मी और प्रशांत (जो अब मेरा बाप था) आज उनकी सुहागरात थी, तो मैंने सब इंतज़ाम कर दिए थे.

मेरी माँ ऐसी नहीं है!मौसी- तुझे विश्वास नहीं ना … तो आज शाम को जब हम घर जाएंगे. मैंने उनको पूछा- आप कौन हो?उन्होंने जवाब दिया कि जिसको आपने अपना नंबर दिया मैं वही हूं. मेरे दिमाग में एक आईडिया आया कि अगर इन्हें चोदना है, तो यहीं चोदा जा सकता है.

वो सुन कर आंखें बड़ी करते हुए हैरानी सी जाहिर करती हुई बोलीं- अरे वाह सर … आपकी तारीफ़ सुनकर तो मेरी मेहनत सफल हो गई. मैंने अपना लंड अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया और मेरा साथ मॉम ने अपने गांड उठा कर देना शुरू कर दिया. वो घोड़ी बनी तो मैंने उसके पीछे से लंड उसकी चूत में घुसाकर धक्का दे दिया.

मैंने अपनी छाती के निप्पल सहलाते हुए कहा- ऐसा क्या ख़ास देख लिया है भाभी जी?भाभी ने एक मादक अंगड़ाई लेते हुए कहा- मेरी जवानी आपका भोग लगाने को मचलने लगी है. प्रियंका भाभी मेरी जांघ के ऊपर आकर बैठ गईं और हम दोनों एक दूसरे को प्यार से देखने लगे.

उसने चुपके से मेरे कान में कहा- रुको दो मिनट, मैं धीरे से कपड़े उतार लेती हूं.

हिम्मत करके मैंने पैंटी को थोड़ा और हटाया और उसकी चूत के पास मुंह को ले गया.

उसने मेरा हाथ पकड़ा और बोली- ये लो आपका पर्स!मैंने अपना पर्स लिया और उससे बोला- थोड़ी देर बैठकर बात करते हैं. मैं उसके स्तनों को दबाते हुए नीचे जाने लगा, उसकी नाभि में जीभ डाल कर चूसने लगा और उसके पेट को काटने लगा. मैं जोर जोर से धक्के मारने लगा … वो जोर जोर से सिसकारियां भर रही थी.

मैंने जैसे ही फोन ऑन किया, तो देखा कि उसके फोन में भाई बहन की एक सेक्स कहानी खुली हुई थी. हम सब पानी में आ गए थे, लेकिन जब बड़ी बुआ ने मेरा लंड देखा, तो वे छोटी से बोलीं- देख मयूर का हथियार कैसे खड़ा हो गया है. मैंने नजर भरके उनके रसभरे मम्मों को देखा और मॉम को सोफे पर लेटा कर खुद उनके ऊपर चढ़ गया.

इतना सुनकर शनाज़ भी हंस कर बोली- जानती हूँ आपके खतरनाक लंड और आपके गर्म माल से मैं हर बार हमल से हो सकती हूँ.

अब वो बहुत सेक्सी आवाजें निकाल रही थी- अह भाई ऐसे ही मस्त मजा आ रहा है और जोर से चोदो … आह!मैं धकापेल चुदाई करता रहा. इतने में सुनीता उठी और वह अम्मी को देखने लगी और चौंक कर बोली- अगर कोई मेरी गांड मार ले मैं तो मर जाऊंगी. उस लड़के ने लड़की की चड्डी भी उतार दी और उसकी बुर चाटने लगा।चूत चटवाते हुए वो लड़की मस्त होती जा रही थी.

मैंने उसको रोकना चाहा लेकिन वो पूरे जोश में था क्योंकि उसका अभी नहीं छूटा था. पार्टी खत्म होने के बाद कुसुम ने खुद ही मुझसे कहा- मुझे रूम तक छोड़ दो. पता करने पर पता कि वो साइंस वाले सर के साथ ऊपर लैब में गयी हैंइस पर मॉनिटर ने मुझसे कहा कि तुम वहां जाकर मैडम को बुला लाओ.

कमर से होते हुए मैं उनकी चूचियों पर ऊपर से ही हाथ फिरा रहा था।मामी ने बहुत ही मस्त और एक हार्ड मैटीरियल की ब्रा पहनी हुई थी.

इसके बाद चाचा जी ने अपने पेंट की जेब से एक सिगरेट निकाली और सुलगा आकर मजा लेने लगे. मेरे पति या किसी और को कोई शक भी नहीं हुआ क्योंकि जब मैं ननद के घर गयी थी तो अपने पति का नाम करने के लिए उस्ससे बहुत बार चुदकर आई थी.

इंडिया बीएफ सेक्स जैसे जैसे हम बड़े हो रहे थे वैसे वैसे हमारी बातचीत भी थोड़ी कम ही होती जा रही थी. मैंने देर ना लगाते हुए धीरे से लंड का टोपा आंटी की चुत में डाल दिया और धक्के मारने शुरू कर दिए.

इंडिया बीएफ सेक्स मैंने उनसे कहा- मैम यह तो एक बड़ी मजे की बात है … इसमें आपको मजा ही आएगा. भाभी ने आंख दबाते हुए अपनी चूचियां आगे कर दीं, तो मैंने उनके दोनों मम्मों को पकड़ लिया और उनको चूमने लगा.

जब हम दोनों की चुदाई का खेल खत्म हुआ, तो रिंकी ने बाहर जाने के लिए दरवाजा खोला.

प्रियंका चोपड़ा के सेक्सी चुदाई

ये सफ़ेद पानी इस वक्त मुझे साफ़ दिख रहा था और ये ऐसा लग रहा था जैसे खीरे के मुँह को काट कर उसको रगड़ते हैं. मैं बहुत से शहर घूमा हूँ, पर पिछले तीन साल से तो गुड़गांव में ही रह रहा हूँ. सब घर के काम उनको ही करने पड़ते थे।अब गरम रजाई की बात करते हैं।काफी रात हो गई.

और फिर सच में अंकल ने मेरे सामने ही दीदी को पूरी तरह से नंगी कर दिया. जब उसका पानी निकलने लगा और वह मेरे सर को अपनी जांघों पर दबाने लगी और चूत में लंड डलवाने के लिए तड़पने लगी. मैंने मजे में अपनी टांगें ऊपर उठा ली और उसके बालों पर हाथ फिराने लगी.

उसने लंड अंदर डालकर धक्के देना शुरू किया और मेरी दर्द भरी आवाजें आने लगी- आह्ह.

5 मिनट तक लगातार एक ही निप्पल को मस्ती में चूसता रहा और फिर 5 मिनट तक लगातार दूसरे निप्पल को चूसता रहा. हम दोनों ने मम्मी को गोद में उठा लिया और उनको उठा कर बिस्तर पर लिटा दिया. इस धक्के से मेरा लिंगमुण्ड अपने रास्ते में आने वाली सारी रुकावटों को दूर करता हुआ उसकी बच्चेदानी से जा टकराया.

लेकिन मैंने ऐसा अभिनय किया, जैसे मुझे समझ नहीं आया कि वह क्या कह रही हैं. उसके बाद वो उठकर जाने लगी तो मैंने उसे पकड़ लिया और उसकी चूचियों को पकड़ कर पीने लगा. भाभी ने एक अंगड़ाई ली और अपने मम्मे आगे करके बोलीं- दूध पियोगे?मैं समझ गया कि भाभी की चुत लंड के लिए मचल उठी है.

दीदी ने अपनी चूत की चुदाई मुझसे कैसे करवायी?हैलो फ्रेंड्स, मैं आपका दोस्त मन एक बार फिर से आप लोगों के साथ दीदी की चुदाई की अपनी एक आपबीती सांझा करते हुए हाजिर हूँ. और तभी वह मुझसे बोली- अब तुम्हारा लंड तैयार है, अब चोदो मुझे!तो मैंने कहा- मुझे तुम्हारी गांड मारनी है.

ये समझ कर आंटी ने लंड के टोपे को ही होंठों में दबाया और जीभ से उसके छेद को कुरेदने लगीं. मैंने बाइक को उनके घर से थोड़ा दूर खड़ी कर दी और उनके घर पर ऊपर वाले कमरे में चला गया. इसलिए केवल वहीं लिखूंगा जो उसने मेरे लिये किया और मैंने अपनी दोस्ती के इस रिश्ते में क्या गलती कर दी.

फिर मैंने भाभी का पेटीकोट भी उतार दिया अब वह मेरे सामने केवल ब्रा और पेंटी में थी.

कुछ देर तक तो वो उसकी चूचियों को दबाती रही फिर उसने शिल्पी की नाइटी उसकी जांघों तक उठा दी. तभी मैंने उसके होटों को जोरदार चुसाई करते हुए मैंने एक और ज़ोरदार झटका मारा और पूरा लण्ड उसकी बुर में पेल दिया. उमेश सर के घर जाकर मैंने डोरबेल बजाई, तो सर ने दरवाज़ा खोला और अन्दर बुला लिया.

वॉशरूम में चूमा चाटी के बाद हवस मिटाने की हमारी कोशिश अधूरी रह गयी. वो मेरे लंड को चूसने में लगी रही और मैंने उसके मुंह में ही अपना माल गिरा दिया.

फिर उसने मुझे सीट पर लिटा दिया और मेरी टांगें फैला कर अपना लण्ड मेरी चूत में डाल दिया. टीना- मीत, अब और बर्दाश्त नहीं होता … जल्दी से डाल दो मेरी चुत में अपना हब्शी लंड और शांत कर दो इसे प्लीज़ … ये मुझे बहुत तंग करती है. उसके पागलपन की वजह से मैं भी काफ़ी उत्तेजित हो गया था और झड़ने की कगार पर आ चुका था.

हिंदी आर्केस्ट्रा सेक्सी

इसलिए मैंने बात को टालने की कोशिश की और मना करते हुए कह दिया कि मैं ऐसे ही ठीक हूं.

इतने पर भी उसकी कामुकता कम नहीं हुई थी और उसकी चूत में से काफी रस बह रहा था. उसकी चुचियों को मसलने के बाद मैं उसकी समीज को ऊपर उठाकर उसके पेट पर आ गया. उसने मेरी तरफ सवालिया निगाहों से देखा, तो मैंने आंख दबाते हुए उससे उसकी जीएफ के लिए कहा.

अब तो वो 15 दिन तक बिना चुदाई के रहने के लिए बोलने लगी थी … ताकि उसकी हालत ठीक हो जाए. साली गांव की इतनी औरतें और लड़कियां चोदी मगर तेरे जैसी बात नहीं उनमें।अमिता- ऊऊह आह … मनीष जी आपके खातिर ही तो अपने हिजड़े पति से तलाक लेकर यहां आई हूं। मैं एक दिन भी आपसे चूदे बिना नहीं रह सकती हूं. वीडियो हिंदी बीएफ हिंदीफिर हमारे सीनियर्स ने हमें फ्रेशर्स पार्टी दी, जिस पार्टी में मैं और कुसुम ने मिल कर पेपर डांस में भाग लिया.

इतना सब होने के बावजूद भी आपा कुछ नहीं बोली तो मैं भी अब जानबूझकर अपने लंड को आपा की गांड में दबाने लगा. हमारी तो आज गांड फटने वाली थी।अम्मी ने बड़ी बाजी को आवाज दी तो नजमा बाजी और आसिफा बाजी और मेरी सारी बहनें व उनकी बेटी ऊपर आ गईं।मैंने तब तक कपड़े पहन लिए और राबिया ने भी सलवार बांध ली थी.

थोड़ी देर बाद मैं बाथरूम की तरफ गया और जब मैंने अन्दर देखा, तो मुझे ट्रिमर चलने की आवाज़ आयी. फिर थोड़ी देर बाद मैं चुपचाप उठ कर उनके रूम के बाहर जाके देखने लगा. मैं- आह्ह … इतने मोटे बूब्स चाची?वो बोली- हां, इनको पीना चाहेगा?मैंने कहा- इनको तो निचोड़ लूंगा मैं!वो बोली- तो फिर आ ना … निचोड़ ले.

इसके बाद प्रशान्त ने अपना लंड मम्मी की चूत में रखा और झटके से अन्दर डाल दिया. भाभी ने सुबकते हुए बताया- तुम्हारे भैया मुझे ख़ुश नहीं रख पाते हैं. आखिरकार कुछ धक्के और मारने के बाद मुझे भी महसूस हुआ कि मेरा भी होने वाला है.

फिर पूरी रात हम दोनों ने खूब मजे किए, सुबह लौटते समय उसने मुझे कुछ पैसे भी पकड़ा दिए.

वो ऐसे बातें करने लगी जैसे वो हमारे परिवार का ही हिस्सा हो।तभी मुझे पता चला था कि मीनाक्षी की शादी को ढाई साल होने को आये थे लेकिन अभी तक भी उसके कोई औलाद नहीं हुई थी. मगर उसकी चूत से खून निकल आया था जो मैंने धीरे से पानी लेकर साफ कर दिया.

नहीं तो कल रात को जब मैं एक बार ज़ोहरा आपा को चोदकर वापिस आ रहा था तो ज़ोहरा आपा ने मुझे रोक कर फिर से 2 बार चुदाई क्यों करवायी?मैं हंस कर अपनी अम्मी को बोला- अगर हम दोनों भाई बहन के बच्चे हमारी शक्ल लेकर पैदा होंगे तो रफ़ीक़ जीजू और शनाज़ का मन छोटा हो जाएगा. दो मामा तो साथ ही रहते हैं और अपना कारोबार करते हैं जबकि तीसरे मामा बैंक में मैनेजर हैं. मैंने भी उसकी चूत में लंड की ठोकर देते हुए बारी बारी से उसकी दोनों चूचियों को खूब चूसा.

मुझे वहां देख कर पहले तो वो चौंकी, फिर मुस्कुरा कर बोली- मेरा पीछा कर रहे हो?मैं- नहीं तो!दीपा- झूठ मत बोलो. उसने मेरा पेंट खोल के अंडरवियर जैसे ही नीचे किया, मेरा तना हुए लंड सीधे उसके मुँह पर लगा. चाय के बाद सबने सत्यम का नंबर ले लिया और उसको भी अपना अपना नंबर दे दिया.

इंडिया बीएफ सेक्स अब उसने मेरी तरफ हवस भरी नजर से देखा और बदले में मुझे भी किस कर दिया. ननदोई जी ने अपना लंड दीदी की चूत से बाहर निकाल लिया और अपना वीर्य एक कपड़े पर छोड़ दिया.

बांग्ला सेक्सी वीडियो एक्स एक्स एक्स

वो भी मेरे सर को पकड़ कर मुझे बारी बारी से अपने दोनों दूध पिला रही थी. सच में बड़े ही मस्त मम्मे थे … एकदम टाइट और रसीले … ऊम्म … मउम … क्या मस्त मजा आ रहा था. इस बार मैंने थोड़ी और हिम्मत करके अपना हाथ उसके ड्रेस के ऊपर साइड से अन्दर ले जाने की कोशिश करने लगा.

इसी कारण मैं भी नई-नई हसीनाओं, भाभियों व आंटियों की चूत का दीवाना रहता हूं. उधर ज़ोहरा अपना ने कभी भी अपनी चूत अपने शौहर रफ़ीक़ से नहीं चुसवाई थी. बीएफ सेक्सी वीडियो नंगीफिर मामी ने मेरे कान में धीरे से कहा- पहले अपने कपड़े उतार लो।मैं बाथरूम में गया और जल्दी से अपने कपड़े वहां पर टांग कर आ गया.

हो … ये बात … क्या मैं तुम्हें हॉट माल लगती हूं?मैंने कहा- हां आप एक हॉट माल ही हैं … मेरा तो दिल करता है कि आपके गुलाबी होंठों से होंठ लगा कर आपका सारा रस पी लूं, आपकी धड़कनों को मैं महसूस करना चाहता हूं और उसके बाद!इतना कह कर मैं रुक गया.

उधर यदि समय मिले तो, ये पर्चा और पैसे ले जाओ, कुछ बाजार से भी काम निबटाते हुए आना. उसके बाद हम दोनों एक दूसरे को किस करने लगे और मैंने उसके सारे कपड़े उतरवा दिये.

उसकी सोसायटी अमीरों की बस्ती लग रही थी और उसका घर एक सत्रह मंज़िल की बिल्डिंग में सबसे ऊपर था. मैंने इसके पहले छुप छुप कर नंगी औरतों को खूब देखा था यहां तक कि अपनी मां को भी मैंने पूरी तरह नंगी देखा था. मेरे सास ससुर ने भी मना नहीं किया और मैं अपनी ननद के यहां चली गई।ननदोई जी मुझे स्टेशन से लेने आये.

फिर मैंने एक हाथ से उसके चुचे को पकड़ा तथा दूसरे हाथ से उसकी जांघों और पैंटी के ऊपर से स्वर्ग के दरवाजे को सहलाना चालू कर दिया.

मैं खेत के अंदर ही बैठा हुआ अपनी गांड से गिर रहे उसके माल को हाथ में लेकर सूंघ रहा था. हमें जब भी मौका मिलता हम चुदाई करने लगे और तीनों घर में ही मजे लेते रहे. अर्धचेतना की हालत में भी चारू मुझे चूम रही थी और अपने मन से निकल रहे उन्माद को बयां करने की कोशिश कर रही थी- अन्नु … मेरी जान … तुमने आज मुझे शांति प्रदान की है.

हिंदी सेक्सी बीएफ एचडी सेक्सीउसके बाद वहीं पर उसी समय पण्डित जी ने हम दोनों की शादी की तिथि और मुहूर्त भी निकाल दिया।और तो और साथ की साथ उन पण्डित जी ने मेरी कुण्डली देख कर मेरा भविष्य भी बताना शुरू कर दिया. मेरी बीवी के जीजू का लंड मेरे लंड से शायद मोटा था जिससे मेरी बीवी बहुत जोर से चिल्लाई और उठ कर बैठ गई.

ज्यादा सेक्सी सॉन्ग

आपा ने जिसे फ़रिश्ता समझ कर पूरी रात अपनी कसी चूतचुदवाई थी … वो उनका छोटा भाई था?आपा ने मेरी तरफ झाँक कर देखा तो मेरा लंड ज़ोहरा की आंखों के सामने था. फिर मैंने धीरे लंड को बिना बाहर निकाले उसकी चुत को मथना शुरू किया और बमुश्किल आधे मिनट में उसकी कसमसाहट खत्म होने लगी और हाथों की मुट्ठियां ढीली पड़ने लगीं. जब हम दोनों नीचे जा रहे थे, तब भाभी ने मुझसे कहा- मुझे अपने टीवी के डिश एंटीना को सैट करने के लिए एक मैकेनिक की जरूरत है.

मुझसे रुका न जा रहा था और फिर हड़बड़ी में मैंने उसके ब्लाउज को फाड़ दिया. कुछ देर बाद हम दोनों घर के लिए निकलने को हुए, तब मैंने उसे जूस की दुकान पर ले जाकर जूस पिलाया और घर आ गए. हम दोनों की अच्छी बनती थी और वो मुझसे हर तरह की बात शेयर कर लिया करती थी.

मैं- भाभी जब दो दो माल जैसी भाभियां चुदना चाहती हों, तो दुनिया का कोई भी मर्द पागल हो ही जाएगा. मम्मी बीच बीच में पाद रही थीं और उनकी गांड की खुशबू मुझे घायल कर रही थी. इस बीच मैंने लगभग रोज ननदोई जी से चुदाई करवायी क्योंकि ननद रोज टहलने जाया करतीं थीं.

इसी के चलते मैंने थोड़ा जोश में आकर उनके मांसल स्तन को कुछ ज्यादा ही दबा दिया जिसके कारण शायद वो जाग गई. मैं लेपटॉप पर ऑफिस का काम करने लगा हुआ था लेकिन सिर्फ भाभी के बारे में ही सोच रहा था। अब मुझे इंतजार था तो सिर्फ ज्योति भाभी का और मेरा लण्ड तो खड़े-खड़े लार टपका रहा था.

मां ने पेटीकोट घुटनों से पूरा ऊपर उठा लिया और मां सीधे लेटकर सो गईं.

मैंने पूछा- क्या हुआ प्रिया?तो भाभी ने कुछ नहीं बोला और मुझे अपनी ओर खींच कर अपने गले से लगा लिया. अच्छी बीएफ दिखाओवो मुझे मुस्कुराते हुए देखी और पूछने लगी- हमको पहचाने?मैंने गौर से देखा उसे और शर्माते हुए बोला- नहीं, नहीं पहचान पा रहे हैं. सेक्सी बीएफ पिक्चरेंजब कॉलेज की छुकरिया चूत मरा कर आती हैं गोली लेने के लिए तो उनको चोद कर मजा ले लेता हूं. वो भी अपने दूध मेरे मुँह में ठेलते हुए सिस्याने लगी- आह पी लो … चूस लो … बहुत दिनों से तुम्हारे लिए तड़फ रही थी.

मेरा विवाह हुआ और कुछ दिन बाद ही मेरी बीवी मायके चली गयी परीक्षा देने.

उसकी चीख निकल पड़ी- आहह आहह ऊईई आहह ऊईई ऊईई सीईई आहह!वो बोली- राज, मैं मर जाऊंगी निकाल बाहर!मैंने उसकी एक न सुनी और झटके पे झटके लगाने लगा. अब मैं उसकी चूत चूसने के साथ साथ ही अपनी उंगली उसकी गांड में अन्दर बाहर भी कर रहा था. लेकिन जब से तुमसे भेंट हुई है, तुमने मेरी सारी चिंता ही दूर कर दी है.

उसने अपने दोनों पैरों से मेरी कमर को जोर से पकड़ लिया और अपने होटों को जीभ से चाटने लगी और मुख से सेक्सी आवाज़ में आहें भरने लगी. वो सिसकारियां भरने लगी- आहह आहह आहह ऊईई ऊईई!मैंने एक हाथ उसकी पैंटी में डाल दिया और चूत सहलाने लगा. फिर आंटी चटखारा लेते हुए बोलीं- ओह्ह किशु … तेरा पानी तो बड़ा गाढ़ा और मीठा है … इसने तो मेरी प्यास बुझा दी.

बहुत ही बढ़िया सेक्सी वीडियो

तो मैंने उसकी गांड मारी या नहीं?कहानी का पिछला भाग:दोस्त की बहन बनी गर्लफ्रेंड-3फिर मैं उसके पेट और कमर को चूमते हुए उसकी चूत पर आकर एक चुम्बन किया। उसके बाद बायें पैर के जाँघों को चूमते हुए घुटनों से नीचे उसके पैरों की एड़ियों तक आया फिर दायें पैर की एड़ी को चूमते हुए उसकी घुटनों से होते हुए उसकी जाँघों तक जाकर फिर से उसकी चूत पर किस किया।वो आह भ. ये बोलकर मैंने रमेश को बांहों में भर लिया और उसके लंड को सहलाते हुए उसके गालों पर चूमने लगी. डर लगने लगा कि अगर चोर हुए तो मेरा पर्स, पैसे और फोन वगैरह सब छीन लेंगे.

उसके मोटे मोटे चूतड़ों को दबाते हुए मैं अपना लंड उसकी गांड पर ही रगड़ने लगा.

वो बड़ी मस्ती से अपने जीजा का लंड चूस रही थी, ये देख कर मेरा लंड भी खड़ा होने लगा.

इसलिए मैं मोबाइल खोल कर अन्तर्वासना की साईट खोल कर सेक्स कहानी का मजा लेने लगी. उनके नहाने की वजह से साबुन पानी में मिल गया था और पानी में साबुन के झाग की वजह से अन्दर का कुछ नहीं दिख रहा था. कंडोम सेक्सी बीएफपहली चुदाई के बाद उस दिन मुझे भी थकान हो रही थी तो मैं घर वापस आकर सो गया.

वॉशरूम में चूमा चाटी के बाद हवस मिटाने की हमारी कोशिश अधूरी रह गयी. यह कहकर ज़ाफिरा ने मेरी सगी बहन आइला को पकड़ लिया और उसके मम्मों को दबाने लगी. अपना सर हिला कर चुत पर हाथ फेरा और उन्हें अपनी रजामंदी देते हुए हामी भर दी.

संजय अंकल स्टेशन के अन्दर चले गए और मैं कार में बैठी उनसे हुई चुदाई को एक बार फिर से याद करने लगी. वो बहुत खुशनसीब होगा जिसे तुम जैसी बीवी चोदने को मिलेगी।ज्योति ने मुझसे कहा- भईया, वो खुशनसीब तो आप हैं.

मैंने लंड हिलाते हुए पानी निकाला और लोटे से हाथ धोते हुए आवाज दी- बस हो गया आ ही रहा हूँ.

उसके बाद हम दोनों एक दूसरे को किस करने लगे और मैंने उसके सारे कपड़े उतरवा दिये. अवनीत का लहंगा ऊपर उठाकर मैंने उसे पकड़ा दिया और उसकी पैन्टी उतार दी. फिर मैंने दो उंगलियों को अन्दर डाला, तो उसकी आंखों में दर्द का अहसास झलका, लेकिन वो उंगलियों का मजा लेती रही.

मधु शर्मा के सेक्सी बीएफ वो सागर के झटके झेलने लगी और उनकी मुंह से कामुक कराहने की आवाज़ उफ़ हह ओह्हआह आह आह हह आ रही थी. मैं नीचे से धक्का लगाता रहा और उसकी चूचियों को अपने होंठों से चूसने लगा.

कुछ देर चोदने के बाद मैंने उसको खड़ी किया और फिर खड़े खड़े ही उसकी चूत में लंड पेल दिया. एकदम से वो मेरी तरफ पलटी और बोली- क्या साहब?मैंने कहा- क्या … क्या मतलब? मुझे तेरी गांड चोदनी है. जैसे ही लण्ड को उन्होंने मुंह में लिया … मानो मैं खुद को जन्नत में महसूस करने लगा।मेरे सुख का अंदाजा नहीं लगा सकते आप दोस्तो!पर मेरा लण्ड चूसते ही उन्हें शक हुआ क्योंकि वो तो मुझे पापा ही समझ रही थी।तो उन्होंने लाइट ऑन कर दी।उस लाइट के उजाले में मैं और माँ दोनों नंगे एक दूसरे को देख रहे थे.

डीजे सेक्सी वीडियो एचडी

मैंने उसको रोकना चाहा मगर उसने ऐसा जाल फेंका कि …दोस्तो, मैं सीमा चौधरी अपनी कहानी के दूसरे भाग के साथ हाजिर हूं. फिर 5-7 मिनट की चुदाई के बाद वो एकदम से धीमे पड़ते चले गये और मेरी पीठ पर ढेर होकर हांफने लगे. तभी मेरी मां ने कंडोम छीन लिया और कहा- अपने जीजा से कैसा परहेज है तुझे … कंडोम रहने दो और अपनी योनि को राजू के बाप के लिंग से संभोग करवा लो.

उन्नत माथा, बंद नशीली आंखें, लाली लिये दो गुलाबी रसभरे होंठ जिसमें नीचे वाला होंठ मध्य से ज्यादा सुडौल, थोड़ा बड़ा था. दोनों बुआ की शादी हमारे गांव से दूर के एक गांव में एक ही घर में हुई है.

बस दिमाग में घुस गया था, तो मैं उन्हें बाथरूम में नंगी नहाते हुए देखने की जुगत में लग गया.

ऐसे ही मैं उनके दोनों तरफ के कानों को और जोर से चाटने लगा और गर्दन पर किस करने लगा. मैं भी जल्दी से पूरा नंगा होकर लेट गया और वो मेरा लण्ड चूसने के लिये अपना मुंह मेरे लण्ड के पास ले आई. मैं तुम्हें ये सोच कर बख्श रहा हूं कि कभी हम इतने गहरे दोस्त हुआ करते थे, अगर तुम्हारे स्थान पर कोई और शख्स होता तो तुम सोच भी नहीं सकते हो कि मैं क्या कर बैठता.

मैंने उसे बधाई देते हुए कहा- वाह … बधाई हो! यह तो बड़ी खुशी की बात है. थोड़ी देर बाद मैम भी धीरे-धीरे मस्ती में आने लगीं और मेरा साथ देने लगीं. उन्होंने मेरा और ना जाने मेरे जैसे दूसरों का भी यौन उपयोग अपनी जिस्मानी भूख मिटाने के लिए किया होगा.

दोस्तो, जैसा कि मैं आपको बता चुका हूँ कि चारू एक सांवले रंग की बहुत ही सेक्सी लड़की है.

इंडिया बीएफ सेक्स: उनकी जवानी का नमकीन रस उनकी चूत से निकल पड़ा और मैंने उस रस का पूरा आनंद लिया. मैंने अपने फोन की रिंगटोन बंद की और अपनी बहन को 5 मिनट बाद कॉल किया और पूछा- गैस है क्या सिलिंडर में? हिला कर देखना वरना मंगवाना होगा।तो वो किचन में गयी और सिलिंडर हिला कर चेक करने लगी.

अभी तक मैं वो सपना पूरा नहीं कर पाया हूं कि मैं अपनी दोनों मौसेरी बहनों को एक ही बेड पर एक ही समय पर चोद सकूं. मैं मुठ मारकर अपने आप को शांत कर देता था लेकिन चोदने का ख्वाब देख नहीं सकता था. मैं भी खुश था लाइव पोर्न देख कर को भी अपनी बहन का जो कि खुद किसी पोर्नस्टार से कम नही।आगे मैं बताऊंगा कि कैसे सौरभ मेरी बहन को अपने दोस्तों के साथ चोदने के लिए बुलाता है और मेरी बहन एक परेशानी में फंस जाती है।मेरी चालू बहन की चूत और गांड चुदाई की कहानी कैसी लगी?[emailprotected].

थोड़ी देर बाद मैंने अंजलि के मुंह को चूत की तरह चोदा और उसका गला माल से भर दिया।मैंने गोली इस उम्मीद में ली थी कि दोनों बहनों को एक साथ चोद सकूं।मगर यह इच्छा मेरी अधूरी ही रह गयी.

फिर ज़ोहरा अपने आप से बात करने लगी- रफ़ीक़ के आने में तीन हफ्ते रह गए हैं. जब मैं जीन्स या कोई चुस्त कपड़े पहनता हूँ, तो उसमें मेरी गांड बहुत ही ज्यादा उभर कर दिखती है. लेखक की पिछली कहानी:मैंने अपनी मॉम की सैंडविच चुदाई देखीये उस वक्त की बात है जब मैं 19 साल का होने वाला था.