बीएफ बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर

छवि स्रोत,रीना भाभी की सेक्सी चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

लोड करने वाली सेक्सी: बीएफ बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर, मैं उसको किस करते करते उसके मम्मों के निप्पल को हल्के हल्के से रगड़ने और उसे गर्म कर दिया.

हिन्दी देसी सेक्सी विडियो

लेकिन उसने मेरे सामने एक शर्त भी रख दी- चार दिन के लिए मैं आपकी रहूँगी, उसके बाद आप मेरे साथ कॉन्टैक्ट नहीं रखोगे. गोरे लोग का सेक्सी वीडियोमैं बस दीदी की खूबसूरती को निहारता रहता था, छुप छुप कर उसे बाथरूम में नहाते देखता.

संजय ने मणि को इशारा किया, तो संजय ने लंड बाहर निकाल कर कोमल की चूत, संजय के लंड के लिए खाली कर दी. मारवाड़ी खेत में सेक्सी वीडियोवह जब घर में होता था तो उल्टा होकर अपना लिंग गद्दे के साथ घिसाने लगता था और मैथुन करता था.

मैंने कहा- ठीक है, मगर तुम कल मिलोगी न?रीना ने कहा- मैं तुम्हें फोन पर बता दूँगी.बीएफ बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर: मैं भी अपनी माँ की गांड को अपने मोटे लंड से पेल रहा था और माँ की टाईट गांड को ढीला कर रहा था.

हम दोनों जैसे बिछड़े प्रेमी की तरह एक दूसरे में समाने की कोशिश कर रहे थे.वो एकदम से बोली- ये क्या कर रहे हो आप?मैंने कहा- कुछ नहीं जान, तुझको चोदने के लिए गर्म कर रहा हूँ.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी हिंदी मराठी - बीएफ बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर

फिर वे लंड को चुत पर सैट करने लगीं और उसे अपनी चुत में फिट करने लगीं.मैं बिल्कुल पागल होकर उसके दोनों तरफ गर्दन में अपनी टांग कैची करके फंसा दी और बोली- आह मर जाऊंगी आशीष अब मुझसे नहीं बर्दाश्त हो रहा आशीष … अब तू चोद डाल … अपना लंड डाल दे … मेरी फाड़ दे चुत को … नहीं मैं पागल हो जाऊंगी.

थोड़ी ही देर में वो फिर गरम होने लगी तो मैंने अपना लंड उसके आगे कर दिया. बीएफ बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर दोपहर का खाना खाने के बाद मैं और मम्मी जी साथ में बैठे … ना तो मम्मी जी कुछ बोल रही थीं और न ही मैं.

मैं उन्हें देखने लगी मगर अंदर से डर लग रहा था कि कहीं कोई आ ना जाए.

बीएफ बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर?

ज़रीना जोर से चिल्लायी।जितना चिल्लाना है जोर से चिल्ला, आज तेरी प्यारी अम्मी भी तुझे बचाने के लिये नहीं आ सकती, मैं आज तुम्हारी गाँड मार के रहूँगा, चाहे तुम राज़ी हो या न हो। अगर खुशी से मरवाओगी तो तुझे मज़ा भी आयेगा और दर्द भी कम होगा. मैं उसको हल्का सा कांपते हुए और साथ ही साथ साँस थामे हुआ देख रहा था. पहले ये तो देखूं कि कितना बड़ा हो गया है तू?उसने मेरी बेल्ट खोल दी और फिर बटन ओर चैन और मेरे लंड को कच्छे से बाहर निकाल लिया.

मैं- मामी जी तो आप प्लीज़ कमरे जाकर थोड़ा सो जाएं, इससे आपको आराम मिलेगा. मैंने कहा- कोई बात नहीं सर, मैं मैनेज कर लूँगा, आप सिर्फ मेरे को एक बार बता देना, बाकी मैं खुद कर लूँगा. उन्हें देख कर फिर से उनको मसलने का मन हुआ, पर मैंने अपने आपको रोक लिया क्योंकि दादाजी भी लगभग उसी समय उठते थे.

मैंने कहा- शिखा, एक बात पूछूं? ये पीरियड्स कितने दिन में खत्म होते हैं?वह बोली- चार से पांच दिनों तक रहते हैं. क्या हुआ नीतू?”मैं उन्हें बोली- अंकल, मुझे ठीक से पकड़े रखो, नहीं तो मैं गिर जाऊंगी. मेरा खड़ा लंड देख कर वो हंसने लगी और कहने लगी- तुम तो मेरी चूत को फाड़ दोगे.

फिर मैंने दो बार और उसकी रातें रंगीन कीं और मैंने अपना सारा कर्ज़ चुका दिया।मैं बिना किसी को बताये चुपके से दिल्ली आ गया. वो कहने लगीं- ये सब क्या बोल रहे हो?तब मैंने उनसे कहा- मुझे चोदते समय गालियां देना अच्छा लगता है.

काम करते-करते कब 5:00 बज गए, पता ही नहीं चला और 5:00 बजे हमारी छुट्टी हो गई.

कहते हैं कि लोग जिस प्रवृति के होते हैं, उन्हें उन्हीं के जैसे लोग मिलते हैं या दोस्ती होती है.

उसे भी लग ही गया था कि ये अच्छा मौका है चाचा से चुदने का तो उसने सर हिला कर हां कर दिया. मैंने उससे पूछा- कैसा लगा?उसने कहा- मुझे बहुत अच्छा लगा, पर तुम्हारा दोस्त होता तो और मज़ा आता. वो इतनी अधिक गोरी थी कि उसे देख कर ऐसा लगता है कि वो अभी दूध में नहाकर आयी है.

ननकू दो दिन ही घर में रहा, इन दो दिनों में मीना काफी खुश रही क्योंकि उसके तन की भूख को ननकू रात भर पेल कर शांत कर देता था. उस समय मेरी उम्र अपेक्षाकृत काफी बड़ी हो गई थी, इसलिए सभी लड़कियां मुझसे बहुत छोटी होती थीं. उधर सब लोग सामान्य बातें कर रहे थे, पर मैं अब भी उसी में खोया हुआ था.

ऐसा करने के बाद वह दूर हटी और बोली- यही मौका उस दिन भी मैं तुम्हें दे रही थी और तुम बेवकूफों की तरह मेरी शक्ल देख रहे थे.

हॉस्टल में कमरा नहीं मिलने के कारण रहने के लिए कोई ठिकाना नहीं था और मैं पहले किसी दोस्त के कमरे में ठहरा था. इस बार सपने में भाभी को पकड़ कर ऐसे पकड़ा, किस किया और फिर उनको सपने में चाटने लगा, बोलने लगा- भाभी आप ऐसी हो, वैसी हो. अब मैं उसको जोर-जोर से चोदने लगा और वो भी अजीब-अजीब आवाजें अपने मुंह से निकालने लगी, बोलने लगी- बहुत अच्छा लग रहा है जान … मुझे ऐसे ही चोदते रहो … मैं तुम्हारी रानी हूं।फिर मैंने उसको उठा दिया और घोड़ी बनने के लिए कहा.

अगले ही पल अनुष्का अपने घुटनों पर बैठ गई और मेरे लंड को हाथ में लेकर अपने मुंह के सामने कर लिया और फिर एकदम से अपने मुंह में ले लिया और चूसने लगी. मैं उसको देख कर और कामुक हो गया और कुछ ही देर में हम दोनों एक साथ झड़ गए. उसके बाद हम नंगे ही एक दूसरे की बाँहों में सो गये।उसके बाद तो जब भी मौका मिलता हम अपनी चुदाई चालू कर देते थे। फिर मैंने उसकी गांड भी मारी। उसकी गांड को चोदने की कहानी मैं कभी और बताऊंगा.

ऊषा बोली- दीदी, बस इतना छोटा सा काम? यह काम तो मैं आंख झपकते ही कर दूंगी.

उसने मना कर दिया और बोली- नहीं मैं खाना बना रही हूँ … खाना खा कर जाना. पिछले कई साल से मामी के मुँह से सुनता आया हूँ कि उन्हें कमर दर्द रहता है, काफी सारे डाक्टर से इलाज करवाया, लेकिन ठीक नहीं हुआ, तो प्रॉब्लम तो वैसे की वैसी ही थी.

बीएफ बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर मैं बस ऊपर मचलती रही, कभी चादर खींचती, अपने नितंबों को खुद ही दबाने लगती, अपने होंठ काट लेती, सिसकारियां भरती रही. मैंने वक्त को समझा, घुटनों के बल बैठ कर लंड को ठीक पोजीशन पर लगा दिया.

बीएफ बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर माला को कोई पहले से ही चोद रहा है, ये बात विजय को काफ़ी देर बाद पता लगा. एक दिन मेरे ऑफिस में मेरा एक फ्रेंड, जो कि उसकी गर्लफ्रेंड के साथ में घूमने जाने का प्रोग्राम बना रहा था, उसने मुझसे भी जिद की कि मैं भी अपनी गर्लफ्रेंड को साथ लेकर चलूं.

कुछ पल बाद उसने खुद ही मेरे हाथ को अपने हाथ से पकड़कर मेरे हाथ की मुट्ठी बनाते हुए अपने लंड पर चलाना शुरू कर दिया.

इंडियन सेक्सी हिंदी में बीएफ

मामी ने जवाब दिया- अच्छा, ठीक है फिर! नेकी और पूछ-पूछ? कहकर मामी हँसने लगी. तभी भाभी बोली- तू तो बोल रहा था कि तुझे कुछ नहीं पता और तूने पहले कुछ नहीं किया है?मैंने जबाब दिया- भाभी ये सब तो मैंने सेक्स फिल्मों में देखा है. ये सब बोलते बोलते उसने मेरा सिर अपनी जांघों से जकड़ लिया और तेज तेज सांसें लेने लगी.

उसने कहा- अगर आज पूरा ज़माना भी सुन लेगा तो कोई ग़म नहीं है। प्लीज़ रूतुल … आहह्ह … बहुत मज़ा आ रहा है. इसका मस्त चुदाई की कहानी का अगला भाग मैं आपको बाद में बताऊंगा कि कैसे मेरी पत्नी आशा ने मेरे दोस्त का लंड अपनी चूत और गांड में लिया. मुझे देखकर वह खड़ी हो गयी और दूध का गिलास मुझे दे दिया और मेरे पैर छूने लगी.

उस दिन चूंकि हम पार्क में थे, इसलिए किस और स्तन मर्दन से आगे कुछ कर नहीं सकते थे.

कुछ देर बाद संजय ने इशारा किया और मणि को कोमल की गांड मारने के लिए बुलाया. यह सोचकर मैं बहुत खुश हुआ कि इसी बहाने मामी जी के दर्शन भी हो जाएंगे. उसकी मम्मी को भी उसकी मामी और वह उसकी जेठानी ने सब बता दिया था, तो आशीष को भी बहुत डांट पड़ी थी.

फिर मैं उसकी टांगें फैलाकर उसकी चूत को अपनी जीभ से चाटने लगा, जिससे वो बेकाबू होकर मेरे बाल नोंचने लगी. उसके मुँह पर थप्पड़ से लाल हो गए थे, लेकिन उसने उस बात का बुरा नहीं माना और मेरे लंड को चूस चूस कर फुला दिया. वास्तव में मेरी जानम को प्रशांत की चुदाई के इस पोज में खूब मजा आया और करीब पांच मिनट तक उसने सिहर कर खूब मस्ती की.

कुछ देर बाद वो मुझे अपनी नौकरानी के साथ चोदने के लिए बोल रहे थे, लेकिन मैंने उनको मना कर दिया. उन्होंने कहा- प्लीज़ थोड़ा आयल लगा लो … मेरे हब्बी और ब्वॉयफ्रेंड का भी मिला कर इतना बड़ा नहीं है.

मामी- शम्मी बेटा, तू एक काम कर, ये तौलिया लेकर जा और अपने कपड़े उतार कर चादर में लेट जा. भाभी फिर से मुझसे पूछने लगी कि अब से पहले कितनी बनाई हैं?मैंने भाभी को सारी सच्चाई बता दी. अब तो मामी मुझे उसी वक्त बुलाती हैं जब उनको चुदाई का मजा लेना होता था.

मैंने जल्दी ही उसके टॉप को ऊपर उठा दिया और उसने कोई ऐतराज भी नहीं किया.

सासू माँ- ठीक है बेटा, आराम से सोच ले इस बारे में, तेरा जो भी फैसला होगा, हमें वो सब मंजूर है. उसने जरा भी समय गंवाए मुझे अपनी बांहों में एकदम से जकड़ लिया और होंठों से होंठ चिपका कर खड़े खड़े ही चुम्बन करना शुरू कर दिया. मेरे रुक जाने की वजह से उन्हें भी रुकना पड़ा और अब उन्होंने मुझे हिम्मत दिलाते हुए अपने दोनों हाथ मेरे कंधों पर रख दिए और कहा- हां बोल यार?मैंने भी आव देखा ना ताव बस कह दिया- मुझे आपका लंड छूना है.

इस नए अंदाज में अब नीना 45 डिग्री का कोण बनाकर प्रशांत के लंड पर अप-डाउन करने लगी. मैंने भी अपनी जीभ को उसकी चूत में अंदर कर दिया और उसको जोर से चूसने लगा और बूब्स को भी साथ में ही दबाने लगा.

उसकी जीभ में गजब का जादू था और उस जादू के आगे मैं देर तक नहीं टिक पाया. ट्रेन के इस स्लीपर क्लास के डिब्बे में मेरी सबसे ऊपर वाली सीट थी, नीचे एक फैमिली यात्रा कर रही थी. उसने थकी हुई आवाज में हांफते हुए कहा- आज तक मैंने ऐसी चुदाई नहीं करवाई यार … मैं तो आपकी चुदाई की दीवानी हो गई.

बाप और बेटी की बीएफ सेक्सी

फिर मैं दीदी की टांगों के बीच में आकर बैठ गया और लंड पर कंडोम लगा कर मैं दीदी की चूत पर अपने लंड का सुपारा रगड़ने लगा.

इसलिए मैंने मोनिका की सलवार किस करते करते ही उसकी घुटनों तक उतार दी, जिसका उसने कोई विरोध नहीं किया. मामी अपनी गांड के छेद को छूते हुए कहने लगीं- गांड का छेद कितना बड़ा हो गया है. अब मुझे स्टीव के मूसल को अपनी योनि में लेना था, मैंने उसे ऊपर खींचा, उसे चूमते हुए उससे कहा- अब बस रहा नहीं जा रहा … डालो अपना लंड मेरे अन्दर और चीर दो मेरी चूत को.

उसकी शेव्ड गुलाबी चूत देखकर मेरे मुँह में पानी आ गया और मैंने उसकी चूत मैं अपने जीभ लगा दी. उससे ऐसा लग रहा था कि भाभी भी सेक्स के लिए प्यासी है।मैं भाभी के होंठ 10 मिनट तक चूसता रहा. सासु मां का सेक्सीकरीब एक किलोमीटर अन्दर चलने के बाद बहुत सी झाड़ियां सी आईं, वहां उन्होंने गाड़ी रोक ली.

विजय का लंड उसकी बच्चेदानी तक जा रहा था, तो माला से ये दर्द नहीं सहा जा रहा था. मैंने उन पर बहुत डोरे डालने की कोशिश की, पर उन्होंने कभी भी मुझे मौका नहीं दिया.

बताओ न?मैं गरमा गया था उसके दूध पर अपना सीना दबाते हुए बोला- साली आज बहुत ही तेवर दिखा रही है … जरा हाथ तो छोड़ … फिर दिखाता हूँ. इतना कहते हुए उसने सारे कपड़े उतार कर फैंक दिए और उसके लंड को कस कर पकड़ लिया. बाकी तेरी मर्जी बेटा, अगर तुझे यहां नहीं रहना, तो तू अपने मायके जा सकती है और हितेश से तलाक ले सकती है.

मेरे पूछने पर उसने बताया- मेरा नाम रितिका है और मैं देहरादून के एक इंजीनियरिंग कालेज के हॉस्टल में रहकर अपनी पढ़ाई कर रही हूँ और मैं पहली बार सेक्स करके अपनी सील तुड़वाना चाहती हूँ और दो तीन दिन आपके साथ बिताकर प्यार करना चाहती हूँ. तो मैंने भी कहा- हाँ, पार्टी करने वाले हो तो मज़ा आएगा, मैं भी चलता हूँ. फिर उसने मेरी गर्दन पर किस किया और बोली- तुम्हें नंगा मैं अपने हाथों से ही करना चाहती हूं.

कुछ देर बाद उनको अच्छा लगने लगा और दोनों ने लिप किसिंग करके मेरे लंड की क्रीम को बड़े मज़े से चाटना शुरू कर दिया था.

फिर भी मैंने जल्दबाज़ी करना ठीक नहीं समझा और वो जो कुछ पूछती गईं, मैं बताता गया. उमरदराज और अनुभवी मर्द ऐसी औरतों को ज्यादा पसंद करते हैं, जो न तो अधिक उम्र की हों और न कम उम्र की.

भाभी ने नॉर्मल ही पूछा- वैसे कोई गर्लफ्रेंड नहीं है क्या?तो मैंने कहा- भाभी है तो, पर क्यों?भाभी बोलीं- अरे जब से आए हो, पर मोबाइल से नहीं लगे हो ना, इसलिए पूछा. मेरे धक्कों के साथ ही उसके मुंह से फिर से कामुक आवाजें निकलना शुरू हो गई. फिर अचानक उसने मेरा मुँह अपने मम्मों पे गाड़ने की कोशिश की और मेरे सर के पीछे से एक हाथ से हलके से दबाया.

ये सब बोलते बोलते उसने मेरा सिर अपनी जांघों से जकड़ लिया और तेज तेज सांसें लेने लगी. तो मेरा लंड घप्प से उसकी चूत में चला तो गया पर मेरा थोड़ा बड़ा था तो भाभी को थोड़ा दर्द होने लगा. उसे तुरन्त ही नींद आ गई क्योंकि दिन भर पैदल चलने की वजह से सभी लोग थक चुके थे.

बीएफ बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर उन्होंने बोला कि अगली बार तो मैं तेरा लंड चूसूंगी, गांड के बारे में फिर कभी सोचेंगे. उसने हां में सर हिलाया तो मैंने उससे इधर उधर की बातें करना शुरू कर दीं.

सेक्स वीडियो डॉट कॉम बीएफ

चूंकि मैं भी रात में कपड़े उतार कर ही लेटता हूँ, तो मेरी नंगी छाती भी उसे दिख रही थी. घर आते हुए रास्ते में बारिश होने लगी और हम भीग गए तो मैंने मामी को कॉल करके कोमल को मेरे ही घर रुकने के लिए कह दिया. अब मैं उसके लंड के थपेड़े खा रही थी, हर एक धक्का पहले से जोरदार लग रहा था.

मैं धीरे धीरे अपने लिंग को आगे पीछे करने लगा और आहना भी मेरा साथ देने लगी. शाम वर्ण, औसत कद-काठी, चेहरे पर बड़े-बड़े आकर्षक नैन बिना काजल के भी कजरारे, जिन पर आप क्या आपके मामा भी फिदा रहते हैं. सेक्सी ट्रैक्टर वीडियोमैं उसके पास जाकर बैठ गया और उसका हाथ अपनी हाथों में लेकर सहलाते हुए बोला- बोल सीखना चाहती है कि नहीं.

यह सोचकर मैं खिल गयी।पापा ने मुझे अपनी बांहों में उठाया और बेड पे लेजाकर मेरे कपड़े उतारने लगे.

मैंने रफ़्तार बढ़ा दी और थोड़ी ही देर में दोनों हांफते हुए एक दूसरे में समा जाने को कसरत कर रहे थे. मैंने भाभी से कहा- आज हम दोनों मिले हैं तो लता को भूल जाओ और आओ साथ मिलकर इस मिलन को रंगीन बना दें.

अब मुझसे रहा नहीं गया मैंने अपने दोनों हाथों से आशीष का लौड़ा पकड़ लिया और ऊपर नीचे करने लगी. मैं जैसे ही ऊपर की ओर गया, मेरा खड़ा लंड उसके गांड पे ठोकर मारने लगा, जिससे वो और भी रोमांचित होने लगी. दस मिनट हम दोनों उठे और एक दूसरे की बांहों में बाहें डाल के बाथरूम से बाहर आ गए.

अब तक भाभी तड़फ उठी थीं- धीरू, अब लंड मेरी चुत में लंड कर दो … आआहह उईईईई … शीई …भैया ने भी भाभी को वहीं जमीन पर पटका और अपना लंड दो तीन बार चुत पर रगड़ कर एक ही झटके में अन्दर कर दिया.

उसके मर्दाना हाथ के अंदर अपने हाथ से उसके लंड पर हाथ चलाने में मुझे गजब का मज़ा आ रहा था. उन्होंने बताया कि वह बहुत बिज़ी रहते हैं और चाहते हैं कि यहां पर किसी प्रकार की डिस्टरबेंस न हो. एहतियात मैं बरत रहा था क्योंकि मुझे ये भी ख्याल था कि हम ट्रेन में हैं और सब कुछ लिमिट के अंदर ही करना होगा.

दाहोद गोधरा का सेक्सी वीडियोमैं पार्क में 9 बजे चला गया, मैंने पार्क में जाकर सारी जगहों का मुआयना किया. ऊपर से ये जवान बहू है तो कौन पूरी करेगा उसकी वासना की इच्छा?दीदी की सासू माँ वो बोले ही जा रही थी, हम सुन रहे थे.

भाई बहनों का सेक्स

यानि उसने मेरे तने हुये लंड को अपनी फुद्दी के नीचे इस तरह से सेट किया कि वो उसकी दोनों जांघों की गहराई में बड़े अच्छे से फिट हो गया।मैंने उस से पूछा- तुम्हें पता है कि इस वक़्त किस चीज़ पर बैठी हो?उसने हाँ में सर हिलाया।मैंने पूछा- क्या है?वो धीरे से बड़ी मीठी सी आवाज़ में बोली- लंड।कितनी मिठास थी उसकी आवाज़ में। अब मुझे बड़ी तसल्ली सी हुई कि ये भी पूरी तरह से मन बना कर आई है. मेरा इतना करना ही हुआ था कि उनकी सांसें तेज़ तेज चलने लगीं और उन्होंने मुझे कसके अपनी बांहों में जकड़ लिया. लगभग 10-15 पिचकारियों के बाद मैंने धक्के लगाने बंद किए और भाभी की टांगों को नीचे उतारा और लंड को अंदर डाले-डाले भाभी की छाती के ऊपर लेट गया.

दरवाजे पास खड़ी होकर ही मैंने अपनी सलवार को नीचे किया और अपनी पैंटी को देखा. मैडम ने तुरंत ही लंड को पकड़ के उसकी उछल कूद काबू में कर ली और दूसरा हाथ लंड के सामने फैला कर दनादन झड़ते हुए मसाले को हथेली पर आने दिया. फिर धीरे धीरे जैसे जैसे मैं मोनिका की चूत को अपने मुँह में भर कर कभी चूसता, कभी दांतों से काटता, वैसे वैसे मोनिका का जो हाथ, मेरे बालों को सहला रहा था, अब वो मेरे बालों को पकड़ कर मेरा सर अपनी चुत मैं डालने की कोशिश कर रहा था.

उसकी चूत को देख कर ऐसा लग रहा था कि यह किसी कम उम्र की लड़की की चूत है. ये देख के पायल बोली- अरे जीजू थोड़ा तो सब्र करो, मैं आप ही के लिए तो आयी हूं, लेकिन कल जैसा मत करो, मैं आपके प्यार की प्यासी हूँ. उसके बाद उसने अपने लंड पर भी कुछ क्रीम लगा ली जिससे बुर और लंड पूरी तरह से चिकने हो गये.

इसी लिहाज से मैंने भी मीना के सर को उठा कर अपनी जांघों में रख दिया. मैंने पूछा- क्या हुआ?तो उन्होने कहा- तबीयत ठीक नहीं, सारा बदन दर्द कर रहा है, सिर चक्कर खा रहा है.

”उन्होंने मेरे हाथ में एक बड़ी कैडबरी रखी, उसे देख कर मैं भी पिघल गयी.

वंश ने मेरी चूत का रस चाट चाट कर मेरी चूत को फिर से गर्म कर दिया था. सेक्सी बीपी वीडियो आंटीइतना सब होने के बाद मैंने क्या किया?साजिदा ने लज्जा से सर नीचे कर लिया. ड्रेक वे 2 सेक्सी सुनेंइस पर उसने पूछा कि ऐसा वो क्या करे, जिससे उसका पति उसकी ओर आकर्षित हो. कुछ देर तक एक दूसरे के बदन के साथ खेलने के बाद उसने मुझे नीचे बैठा दिया और फिर हम गद्दी पर लेट गए.

बीच बीच में भाभी मेरे लंड को अपने मुंह में भी लेकर चूसने लग जाती जिससे मुझे असीम आनंद की अनुभूति होती.

मैं उसके पास चिपक के बैठ गया और समझाने लगा और उसको जगह जगह टच करने लगा जैसे कि नार्मल हो जाता है. उन्होंने कहा- प्लीज़ थोड़ा आयल लगा लो … मेरे हब्बी और ब्वॉयफ्रेंड का भी मिला कर इतना बड़ा नहीं है. फिर एक दिन मैंने उससे बोला कि क्या हम आगे नहीं बढ़ सकते?उसने कहा- उससे बच्चा होने का डर है और मेरी अभी सील भी नहीं टूटी है.

उन्होने मेरी पैंट के ऊपर से मेरे लंड को पकड़ कर दबाया, उसे लोहे की तरह सख़्त देख हँसने लगी. मैंने देखा कि मोनिका की चूत के आस पास का कपड़ा पूरा गीला हो चुका था. अब आगे:फिर मैंने मम्मी के फोन से दूसरे दिन आशीष को फोन लगाया पहली बार.

ब्लू ब्लू फिल्म ब्लू ब्लू ब्लू

बाकी तेरी मर्जी बेटा, अगर तुझे यहां नहीं रहना, तो तू अपने मायके जा सकती है और हितेश से तलाक ले सकती है. मेरा भाई फिर मुझसे बोला- इसका यार देखोगी?और उसने अपनी पैन्ट उतार कर अपना खड़ा हु आ लंड जो लगभग 6 इंच लंबा था, दिखाया और बोला- इसको हाथ में पकड़ो और अपने हाथ से इसकी चमड़ी नीचे करके ऊपर नीचे करो. इंदु की चुत एकदम चमक रही थी चुत बिल्कुल गीली … मेरा लंड आराम से अंदर बाहर हो रहा था पर फिर भी चुत में कसावट थी जो मुझे चोदते समय महसूस होता था.

उसके बाद जीजा जी ने मुझे अपनी गोद में उठा लिया और खुद ही मुझे बाथरूम में लेकर गये.

उन्होंने मेरे सिर को ज़ोर से पकड़ लिया और अपनी बुर की ओर खींचने के साथ ही अपनी चूत को मेरे मुंह पर ज़ोर-ज़ोर से रगड़ने लगी.

मुझे लगा उनका होने वाला है, तो मैं भी नीचे से अपने पैर मोड़ कर जोर लगाने लगा. मैंने अपनी चादर भी उसके ऊपर डाल दी और फिर धीरे से उसकी चादर में घुस गया. सेक्सी बी पी वीडियोअब मुझे साफ समझ आ चुका था कि रवि मामा यहां वहां मुँह मारते फिरते हैं और मौका मिलते ही मस्त चुदाई कर देते हैं.

मैं झूठ मूठ का दुखी चेहरा करके बोला- मामी जी जवान हैं, अगर उनकी मामा जी जैसे बड़े उम्र के व्यक्ति से शादी ना होती, तो शायद मुझे ये सब करने की जरूरत ना पड़ती. हमारी ये बात देख कर साक्षी हमेशा मुझसे एक ही बात बोलती- यार, तुम भी ना एक गर्लफ्रेंड बना ही लो. फिर दीदी खाना बनाने लगी और हम लोग टीवी देखने लगे। मैंने देखा वे सब मुझसे छुपाकर कुछ बात कर रहे थे.

इधर मैं अभी यही सोच रहा था तो आंटी ने मुझसे पूछा- क्या सोच रहे हो?मैंने बताया कि मेरी ऊपर वाली बर्थ की वजह से उस पर सही से बैठ नहीं पा रहा हूँ. अगर आपको कहानी पसंद आई हो तो मुझे मेल करके जरूर बताना ताकि मैं आगे भी आप लोगों के लिए अपनी और भी कहानियाँ लिख सकूँ.

मेरे मम्मों को पकड़ते ही आशीष ने बोला- बंध्या, पहले से तुम्हारे दूध बहुत बड़े हो गए हैं … इन पांच-छह महीनों में किसी से दबवाई हो क्या?मैं बोली- नहीं आशीष, मैंने किसी को हाथ नहीं लगाने दिया, तुम पहले हो जो उस दिन किए थे, फिर तुम्हारी याद जब आती थी, तो सच सच कहूं अपने हाथों से खुद ही दबा लेती थी.

जब भी मैं नीचे जाता तो मेरी मुलाकात लता भाभी और उनके हस्बैंड से होती रहती थी, लता भाभी मुझसे बातें करने का बहाना ढूंढती रहती थी. अब की बार मैंने उसे डॉगी स्टाइल के लिए बोला, तो वो तुरंत तैयार हो गयी. उन्होंने तुरंत मुझसे पूछा- दो दिन से सोनू तुम्हारे पास आ रही है, तुमने उससे बात की?मैंने भाभी को बताया कि आप मस्त रहो वह कभी भी यह नहीं बताएगी कि हम पिक्चर देखने गए थे, मैंने शॉर्ट में भाभी को बता दिया कि मैंने उसकी चूत में लंड डाल दिया है.

हरियाणा गाने सेक्सी मेरे हाथ ने महसूस किया कि उसने सिर्फ फ्रॉक पहनी हुई थी जो सिर्फ दो डोरियों से बंधी हुई थी और ब्रा नहीं पहनी हुई थी. सारा की चीख इतनी बुलंद थी कि एक बार को तो मैं भी डर गया कि कोई पूछने ही न आ जाए … लेकिन तब भी मुझे सारा आपा की सील तोड़ने में बहुत मज़ा आया.

लेकिन दोस्तो, इस प्रेमलीला में जितना वक़्त फोरप्ले में बिताओगे, उतना ही मजा आपको और आपकी साथी दोनों को मिलेगा. अब मैंने मेरा 7 इंच का लंड माँ की चूत की फांकों में रख कर धक्का लगा दिया और पूरा लंड चूत में घुसा दिया. कुछ ही देर की कोशिशों के बाद लंड सैट हो गया और दर्द भी काफूर सा होने लगा था.

देसी लड़की का बीएफ सेक्सी वीडियो

करीब 15 मिनट तक ऐसे ही चुदाई चलती रही और फिर मैं चाची की चूत में ही झड़ गया. वो पानी ले कर आई और मेरे सामने वाले सोफ़े पर बैठ गयी और मेरे बारे में पूछने लगी. वो अपनी गांड उठा कर अपनी पूरी चूत मेरे मुँह में घुसेड़ देना चाहती थी.

मैं पसीने-पसीने हो गई। मैं लेटे हुए अनन्त जीजू और विनय जीजू के नंगे जिस्मों के बारे में सोच रही थी. मैं नए ब्रा और पैंटी लेने गयी थी और मेरी पसंद देख प्रीति ने भी मुझसे सुझाव माँगा कि वो अपने लिए किस तरह के ले.

वो बस मजे ले रही थी ‘अअअअ ईईई ऊऊ उम्म उम्म सीसी सी …’ वो मेरा सिर जोर से अपने वक्ष में दबाने लगी और बोलने लगी- जानू … और जोर से चूसो इनको! मुझे बहुत मजा आ रहा है.

थोड़ा रुक कर मुझे फिर से समझाने लगे- नीतू बेटा, तुम्हें तो पता है, मैं तुम्हें कितना प्यार करता हूँ. मैंने उन्हें डॉगी स्टाइल में आने का बोला, तो वो झट से अपनी पोजीशन में आ गईं. अनुष्का ने पूछा- क्या देख रहे हो? मैं अच्छी नहीं लग रही क्या?मैंने कहा- आज तो आप कमाल लग रही हो मैडम.

मैं उसके एक मम्मे को दबा रहा था और एक को चूस रहा था। वो मेरे सिर पर अपना हाथ घुमाने लगी और एक हाथ पीठ पर फिराने लगी।थोड़ी देर बाद वो मेरे ऊपर आ गयी और मेरे लंड को चूसने लगी. जिस हिरोइन की मैं बात करने जा रहा हूँ वह क्रिकेट प्लेयर की गर्लफ्रेंड भी है. मैंने भाभी को बेड पर लिटाया और उनके दोनों घुटनों को मोड़कर उनकी चूत को देखा.

उसके बाद मैंने उसके मुंह से हाथ हटा लिया तो देखा कि वह मुस्कराते हुए अपनी चुदाई करवा रही थी.

बीएफ बीएफ पिक्चर बीएफ पिक्चर: इसके बाद मेरा अपने होम टाउन जाना हुआ, तो मैं भाभी से फोन पर बात ही नहीं कर सका. दस मिनट में ही उसकी हालत खराब हो गयी और वो बोलने लगी- बस करो मेरी चूत फट गयी है.

वहाँ भैया और भाभी ही रहते थे, उनका एक ही रूम था और वो मेरे सोने के बाद सेक्स करते थे. फिर मैंने उससे कपड़े पहनने के लिए कह दिया और उसको अपने कमरे में जाने के लिए कह दिया. पापा अपने मज़बूत हाथों से मेरी चूचियों को ज़ोर से दबाते जिससे मेरी चीख निकल जाती थी और उनका हाथ धीरे धीरे मेरी लेगिंग्स की तरफ बढ़ने लगा.

उसका चुदना गलत नहीं है बल्कि उसके चूचों पे पड़ने वाला निशान गलत है और उसका इतना मज़ा लेना वो निशान पड़वाते हुए.

संजीव ने जूते उतारे और अपनी जैकेट उतार दीवार पर लगे हैंगर पर टांग दी. पिछले भागमामी की गांड चोद कर सुहागरात मनायी-3में आपने पढ़ा था कि मैंने मामी की सुबह भी जबदस्त गांड मारी थी, जिसके बाद वे सो गई थीं. मैंने उसके दोनों हाथ पकड़ लिए, जिससे वो ऊपर खिसक न सके और दूसरा जबरदस्त धक्का देकर पूरा लंड चूत में उतार दिया.