पंजाबी फिल्म बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,नंगी बीएफ एचडी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बीएफ खुला सीन: पंजाबी फिल्म बीएफ सेक्सी, मैंने भी उससे ‘ठीक है …’ बोल कर कहा- तुम बेफिक्र जाओ, मैं तुम्हारी मम्मी का अच्छे से ख्याल रखूंगा.

बीएफ ब्लू वीडियो सेक्सी

कम्पनी में मैनपावर कम होने से हमें 15-16 घंटे काम करना पड़ता और मीटिंग अलग से. चाइना की बीएफ मूवीवो मेरे चरम पर आने से पहले ही झड़ जाते थे; फिर उनका लंड एकदम मरे हुए चूहे की तरह मुर्दा सा हो जाता था, सब मज़ा किरकिरा हो जाता था.

कुछ देर बाद बहुत हिम्मत करके मैंने अपना एक हाथ उनके सीने पर रख दिया. बीएफ हिंदी एचडी फुलएक दिन उसने दोपहर में मुझसे कहा कि भैया आपके फोन में वीडियोज हैं क्या!मैंने उसे सॉंग्स और मूवी के वीडियो ओपन करके दे दिए.

मैंने देखा कि रिया और आयेशा 69 की पोजीशन में आकर फिर से एक दूसरे की चूत चाटने लगी हैं तो इधर मैंने नेहा को अपने ऊपर करके उसे किस करना शुरू कर दिया.पंजाबी फिल्म बीएफ सेक्सी: मैं बोली कि हां मजा तो आता है लेकिन मेरी हिम्मत नहीं हो रही है कि फिर से चुदवा लूं.

ये सुनकर विकास के धक्के बहुत तेज हो गए थे और वो तेज तेज चोदते हुए नेहा की पनियाई बुर में सटासट लंड पेले जा रहा था.मदन जी को याद आया कि जब वह मेरे बनाये खाने की तारीफ करते हैं और मुझको अपनी बीवी कहते हैं तो मैं किसी लौंडिया की तरह शर्मा जाता हूँ.

कन्नड़ बीएफ सेक्स - पंजाबी फिल्म बीएफ सेक्सी

ये समझते ही नेहा अन्दर ही अन्दर खुश होने लगी कि बहुत जल्द ही उसके भाई का लंड उसकी बुर की प्यास बुझा देगा.इतने में नितिन कविता के पीछे आ गया और उससे लिपट गया कुछ देर बाद उसने अपना लंड कविता की गांड में लगाया और एक झटके में अन्दर तक पेल दिया.

हॉल में विश्वेश्वर जी, राजशेखर जी और गुरबचन जी के अलावा तीन और लोग बैठे थे. पंजाबी फिल्म बीएफ सेक्सी उन्होंने फिर से एक लंबी सिसकारी भरी और बोलीं- अब पेलो यार … और मत तड़पाओ.

वह अपने पति को छोड़ चुकी हैं क्योंकि उनका पति उनको शराब पीकर मारता पीटता था और गलियां देता था.

पंजाबी फिल्म बीएफ सेक्सी?

आप सभी को नमस्कार, मैं सुरेन्द्र सिंह अपनी जिंदगी की पहली कहानी लेकर आपके सामने पेश हूं. अनुपम और कार्तिक बोले- अरे आंटी, तो उसे भी अपनी चूत के मजे दे दो, वो भी खुश हो जाएगा. मैं एक पल को चौंका और बोला- क्या मतलब?‘मैंने और कुछ नहीं पहना, अब मैंने नहीं उतारनी बस … तू चाहे और कुछ करने को बोल दे!’उसने फरमान सुनाते हुए कहा.

मैंने पूछा- कौन किसके साथ सेक्स करना चाहता है?मोहित ने आयेशा की तरह इशारा किया और पुलकित और अमन ने मेरी तरफ इशारा किया. ऐसा करते करते उसने मेरे कपड़े खोलना शुरू कर दिए, मेरी पैन्ट निकाल कर अलग कर दी, अंडरवियर को नीचे कर दिया. अभी मेरी तमन्ना पूरी नहीं हुई थी मुझे उसकी गांड की भी चुदाई करनी थी क्योंकि उसकी गांड का गुलाबी छेद मेरे मन को भा गया था.

मैं चाहता तो बड़ी आसानी से उसे हॉट न्यूड गर्ल को दबोच सकता था मगर मैं ऐसा चाहता ही नहीं था क्योंकि मेरे अन्दर कुछ और ही चल रहा था. मैं उनके रूम पर भी नहीं जा सकता था क्योंकि वहां उनको जानने वाले रहते थे. लेकिन गर्लफ्रेंड फक़ के लिए अभी तक हमें कोई सही जगह नहीं मिल पाई है इसलिए हम दोनों काफी उत्तेजित हैं.

वे हमेशा ही टाइट साड़ी ही पहनती हैं जिसमें से उनकी मोटी गांड का उभार साड़ी के ऊपर अच्छे से दिखाई देता था. वो दिन 15 अगस्त 2014 का था, जब संजना दिन में रायपुर पहुंचने वाली थी.

फिर हम दोनों एक साथ नहाने लगे और पूरा साफ़ होने के बाद वो मुझे अपनी बांहों में उठाकर अपने बेड पर ले गया.

उसने पक्का उस वक्त ब्रा नहीं पहनी थी क्योंकि उसके निप्पल्स की नोक टी-शर्ट से बाहर झलक रही थीं.

अनुपम ने अम्मी को पूरी उल्टी लेटा दिया और कार्तिक ने बहन को सोफ़े पर लेटा दिया. कभी वो अपनी जीभ से मेरे लंड के सुपारे को चाटती, कभी पूरा लंड अपने हलक तक लेके लॉलीपॉप की तरह चूसती, कभी अपने हाथों से मुठ मार देती और फिर से मेरा पूरा लंड अपने मुँह में ले लेती. अब आगे हॉट लड़की की पहली चुदाई:मैं हंसते हुए उसकी ओर देखने लगा, उसने मेरी तरफ गुस्से की नजर से देखा और घूम कर बैठ गयी.

रिया ने कहा- अबे गांड मारने की प्रैक्टिस कैसे करनी है?मैंने आयेशा को इशारा किया और आयेशा बिस्तर से उठ कर चली गई. बहुत सोचने के बाद हम दोनों ने फैसला किया कि इनको हां बोल देते हैं क्योंकि हम दोनों को ही बदनामी का डर था. मैंने देखा कि प्रिया अव्यवस्थित तरीके से सो रही थी और तकिए को अपनी जांघ में फंसा कर दीवार की तरफ पलट कर सो रही थी.

जैसे ही मैंने कुंडी लगाई वो आकर मुझसे लिपट गई और हम दोनों ने एक दूसरे को अपनी बांहों में भर लिया.

उधर मोनू अपने हाथों से अपना लंड सहला रहा था और कुछ समय पर बाद मेरे बगल में आकर बैठ गया. हाथ उनको पकड़ने के लिए भागे और मन सोच रहा था कि साले चूतिया इनको अभी तक क्यों भूला हुआ था. फिर हम लोग 69 पोजीशन में आकर एक दूसरे का लंड चूसते और वीर्य पी जाते.

वो भी अपनी गांड को मेरी तरफ उठा उठा कर अपनी चूत को मेरे लंड से खाने की कोशिश करने लगी. सुनील- चौधरी जी आपको मैं पूरी बात बताता हूँ, मगर पहले आप इसको गुप्त रखने का वादा करें. जब चूत का पानी लंड पर अच्छे से लग गया और लंड आराम से अन्दर बाहर होने लगा तो उन्होंने अपनी रफ्तार तेज कर दी.

पर जब वो नहीं हिली तब मैंने उसके कपड़े बदलने का सोचा और उसके वनपीस की चैन पीछे से खोल दी.

उसे गांव की एक भी लड़की पसंद नहीं आती थी, उसे तो बस दिल्ली वाली लौंडियां पसन्द थीं. अब आगे सहेली के साथ लेस्बीयन सेक्स:मैंने भाभी से पूछा- मजा आया भाभी?भाभी बोलीं- अरे यार आज तो बस ये समझो कि चूत की मां चुद गई.

पंजाबी फिल्म बीएफ सेक्सी मैं अभी भी उसी को देखे जा रहा था लक्की ने मुझे अपने आपको निहारते हुए देख लिया था. चौधरी जी मेरे चूतड़ों पर थप्पड़ मारते, तो दर्द के साथ मुझे काफी मजा आता.

पंजाबी फिल्म बीएफ सेक्सी हम दोनों सुहागरात में पहली चुदाई के बाद बहुत ज्यादा थक गए थे और एक दूसरे को बांहों में लेकर सो गए. आपको मेरी देसी भाभी चुदाई कहानी कैसी लग रही है, प्लीज़ मेल करके जरूर बताएं.

मुझे चूत की जकड़ बहुत अच्छी लग रही थी और साथ में वाइब्रेटर का कंपन भी मजा दे रहा था.

बीएफ सेक्सी वीडियो नाबालिक

दोस्तो, यदि आपको रसिका के साथ वाली एक और सेक्स कहानी जाननी हो, तो प्लीज़ मुझे मेल करके बताएं कि आपको मेरी Xxx साली की बुर चुदाई कहानी कैसी लगी?धन्यवाद. आयेशा ने कहा- देखो इन मादरचोदों को, कैसे गांड मरवाने के लिए तड़प रहे हैं. अभी तक पिछले भागकहानी लेखक को सेक्स के लिए बुलायामें आपने पढ़ा था कि किस तरह से मेरी और सुरेंद्र जी की दोस्ती हुई और वो मुझसे मिलने के लिए 700 किलोमीटर दूर से मेरे घर आए.

मैं उसकी बता सुनकर दंग रह गया कि इस जवानी की शुरुआत ही इस लड़के का लंड मुझसे लंबा कैसे है?मैंने बोला- दिखाओ. मैंने कहा- बता न?वो बोली- उसे देख कर मेरे पूरे शरीर में आग सी लग जाती है. मैं फिर से नीचे बढ़ा और घुटनों के पास से पैंटी को उतारते हुए बाहर निकाल दी.

” वह बाहर से ही बोली।मैंने कपड़े पहन लिये।वह अंदर आयी और और मेरा हाथ पकड़कर मुझे मेरे रूम में ले गयी।वहाँ जाकर उसने मेरे आँखों की पट्टी खोली।मैं आँखें खोलकर उसकी तरफ देखा और मुस्कुराया।मजा आया?” उसने मुस्कुराकर पूछा।जितना सोचा था उससे भी ज्यादा आया!” कहते हुये मैं उससे लिपट गया।अरे! अरे! यह साक्षी नहीं, मैं हूँ.

अगर विश्वेश्वर जी से मेरी बात नहीं हुई रहती, तो अरुणिमा की बात मान भी लेता. उसके स्कूल सर्टिफिकेट और रेंट एग्रीमेंट में सजनी का नाम डालकर, आधार कार्ड बना लूंगा. नमस्कार दोस्तो, मैं मधु, अपनी सेक्स कहानीकुंवारी बुर को लगी लंड लेने की तलबसे आगे की घटना लेकर आप लोगों के सामने फिर से हाजिर हूं.

मैंने नीचे से 2 धक्के लगा दिए तो वो मेरी छाती पे हल्का सा मुक्का मारते हुए बोली- मैंने कहा ना कि मुझे तुम्हें चोदना हैं, तो चुपचाप लेटे रहो!मैं चुप होकर उसके धक्कों के मज़े लेने लगा. उसके गोल गोल मम्मों को जकड़ कर उसे उठाया और हाथों से पकड़ कर उसकी गर्दन में किस करने लगा. उसने मुझे थैंक्यू बोला और मैंने भी मुस्कुराते हुए सिर हिलाकर जवाब दिया.

वो सकुचाती हुई अपनी जगह से थोड़ा सा ऊपर उठी और मेरे करीब लग कर बैठ गयी. मेरे लिए वो माहौल बहुत कामुक हो गया था लेकिन हाथ बंधे हुए थे और मैं जल्दबाज़ी नहीं करना चाहता था.

खाना खाने के बाद मैंने फिर से कविता को नंगी किया और हम दोनों ने दो बार चुदाई की. तो मैंने नेहा को बोला- इन सबके लंड देख यार … कैसे बाहर आने को तैयार बैठे हैं!नेहा ने कहा- आज तो बहुत मज़ा आएगा. वो मेरे लंड को अच्छे से चूसने लगीं और आवाजें निकालने लगीं- उम्म … उंहाआ आह!मॉम मेरे लौड़ा को पकड़ कर पूरा मुँह में लेकर मजा देने लगी थीं.

अनुपम ने अम्मी को पूरी उल्टी लेटा दिया और कार्तिक ने बहन को सोफ़े पर लेटा दिया.

एक बार मैंने चाची को मम्मों के ऊपर पेटीकोट बांधे देखा तो …दोस्तो, मैं राज उत्तर प्रदेश के एक छोटे से जिले से हूं. वो मेरी चूत को छूने के बहाने ढूंढती रहा करती, कभी स्कूल के बाथरूम में, कभी बस में, तो कभी कहीं. मैं चिल्ला पड़ी- अअह …ये कह कर मैंने हाथों से चादर जकड़ ली, होंठों से होंठ दबा लिए.

उसके बॉयफ्रेंड का शरीर देख कर लगता था, जैसे उसका लंड बहुत बड़ा होगा. मैं अपनी आंखें खोलता, तो मुझे उसकी छोटी सी बनियान में झलकते हुए उसके स्तन साफ साफ दिखने लगते.

यह उसी की गलती के कारण हुआ था क्योंकि उसने जल्दबाज़ी में गलत टच कर दिया. भाभी जाग गईं और मेरा हाथ पकड़ कर हटाती हुई बोलीं- आप मान क्यों नहीं रहे हो?मैंने कहा- भाभी एक बार करने दो. एक मिनट तक वो कुछ नहीं बोलीं, फिर उन्होंने मुझे अलग किया और मेरे गाल पर हल्के से एक चांटा मार दिया.

चीन सेक्सी बीएफ

जिस पति के साथ रात बितानी होती, उसके पास उस दिन मेरे बेडरूम की चाबी होती.

उसके गले में कई तरह की मालाएं पड़ी थीं और कलाइयों में भी माला व धागा आदि बांधा हुआ था. अब एक और मज़े की बात सुनिए, मैं उस वक़्त तक समझता था कि लंड को बुर में घुसा देना ही चुदाई है. अब वो मेरा लंड सहला रही थी और मैं नीचे हाथ डालकर उसकी चूत मसल रहा था.

हैरी मेरे पूरे बदन को चूमने चाटने लगा और अंत में वो मेरी चूत पर आ गया. मैंने कहा- कमरे में चलें क्या?भाभी- किस लिए?मैंने कहा- एक बार फिर से जोरा-जोरी हो जाए. बीएफ सेक्सी चलने वाला वीडियोकुछ देर बाद मैंने सोनल की चूचियों में अपना मुँह डाला और उसके दूध चूसने लगा.

मैं थक कर बहन के बगल में ही लेट गया और उसकी चूचियों के साथ खेलने लगा. उसके बाद मेरा या उसका जब मन होता, हम दोनों रात में मिलकर प्यास बुझा लेते.

उस पर दोनों भाभी हंसने लगीं तो पिंकी भाभी ने बताया कि ऑपरेशन में बस एक नस को ब्लॉक किया जाता है, जिससे तुम्हारे स्पर्म का मेरे एग से संपर्क न हो पाए. विकास इसी बात को सुनने के इंतजार में था कि उसकी बहन अपने आप बोले कि उसे चोद दो. उसके बाद मैं अपने पतियों की फरमाइश पर कभी कभी संगीता का रूप धर लेती, तो कभी किसी हसीना की.

अब एक कमरे में हम चारों लड़कियां नंगी आपस में एक दूसरे के साथ मजा कर रही थीं. अब आगे जवान सेक्स कहानी:मैंने उस पर चढ़ कर उसे चूमते हुए कहा- तुम्हें मेरी चूत कैसी लगी?वो कहने लगा- मैंने उंगली से चैक किया था. एक हाथ से उसका टॉप ऊपर उठाया और कंधे तक उठा कर उसके स्तन फिर से नंगे कर दिए.

तभी वो डंडी नुमा चीज़ मेरी चूत के मुहाने पर आ गयी और हल्के हल्के से उससे मेरी चूत सहलाई जाने लगी.

यानि कि जिसने गोटी काटी है, वो सामने वाले को अपनी मर्जी से टास्क देगा, जो उसे पूरा करना होगा. मेरे शैतानी मन में ख्याल आ रहा था कि ऐसी लड़की अगर मुझे चोदने मिल जाए तो कसम से रात भर पटक पटक कर इसकी बुर का भोसड़ा बना दूँ.

कुछ देर में हम दोनों थक गए थे और अब शायद हमारा रस भी मिल जाने को आतुर था. दारू के नशे में चौधरी मामा बोले- तुम लोगों को बताता हूँ, मेरी दूसरी बीवी क्यों भाग गयी?सुनील- हां बताओ. दोस्तो, मैं आपका दोस्त अर्जुन एक बार फिर से हाज़िर हूँ एक और नयी कहानी लेकर!पिछली कहानीपहाड़न गर्लफ्रेंड की कुँवारी चूत चोद दीमें मैंने आपको बताया था कि कैसे मैंने मेरी पहाड़ी एक्स गर्लफ्रेंड दिव्या की कुँवारी चूत चोदी!यह देसी गर्लफ्रेंड फक़ स्टोरी दिव्या के साथ मेरी दूसरी चुदाई की है.

मैं उसके घर रिमोट लेने गया, तो उस समय उसके घर में वो भाभी अकेली थी, उसकी ननद बाजार गई थी. मैं उम्मीद करता हूं दोस्तो कि आप लोगों को यह सेक्स कहानी अच्छी लगी होगी. इसके बाद भी दो तीन बार अन्दर गया लेकिन बहुत किनारे से झांक कर तुरंत वापस आ जाता था.

पंजाबी फिल्म बीएफ सेक्सी अब आगे गांड X कहानी:मेरी और संजना की सुहागरात रायपुर के एक 5 स्टार होटल में हुई थी. यह सब नज़ारा देख कर मैं भी गर्मा गया और कमरे में ही अपना लंड हिलाने लगा.

सेक्सी बीएफ हप्सी की

‘आह…हहहह …’‘ओह … हहह …’‘उम्म अम्म्म …’अब उसके हाथ मेरे लंड पर खुद ही ऊपर नीचे होने लगे थे जिससे मुझे मजा आने लगा. यह कहने के बाद मैंने उसका कुर्ता ऊपर उठाया और उसके रसभरे मम्मों को जोर जोर से मसलने लगा. मगर चाची ने उसको हॉस्टल में रखा और हॉस्टल भी ऐसा कि बिना अनुमति कोई नहीं मिल सकता … और तो और कोई फोन भी नहीं रख सकता था.

वैसे भी काफी देर हो गई है रास्ते में ही! थोड़ा ही रास्ता है, वहां चल के कमरे में आराम कर लेना।उनका हाथ फिर मेरी टीशर्ट के ऊपर से ब्रा टटोलने लगा।धीरज पीछे चलते हुए सब देख रहे थे।जाने क्यों मैं भी दीपक और धीरज की ओर खिंची चली जा रही थी. मैंने संगीता के समान खुले गले का ब्लाउज पहना, नौवारी साड़ी धोती के समान पहनी. सेक्स बीएफ देसी मेंअपनी चाल चल कर मैंने अपना हाथ उसकी जांघ से कुछ ऊपर पैंटी के करीब रखा और उंगली से उसकी चूत को सहलाया.

सच में मैं तुम्हारा आदी बनता जा रहा हूँ!संजना ने मेरी गोद में सर रख दिया.

लक्की ने मेरा नंबर लिया और कहा- मैं फोन करूंगी … तो आओगे ना?मैंने कहा- जी हाँ!वो बोली- तो बस आते रहना!फिर मैं अपने घर आ गया. शिवानी ने हाथ हिला कर इशारा किया- ठीक है, जल्दी से उसे चोद कर मेरे रूम में आ जाना.

मुझे ऐसा करते देख प्रिया तुरंत ही बोली- नहीं … नहीं … ऐसा मत कीजिए प्लीज. ये लेकर वो छैल छबीली आगे बढ़ती रही और कुछ ही पलों बाद मेरी आंखों से ओझल हो गई. उसके मुँह से ‘आआह्ह उह्ह्ह उच्च आह उम्म आह्हह …’ की आवाज निकल रही थी.

मैं अपने आपको आगे करके उसका लंड बाहर निकालना चाह रही थी, लेकिन मंजू मुझे आगे नहीं होने दे रही थी.

मैंने उनसे कहा- आज तू मेरी रंडी है और इस बाथरूम में आज तेरी चूत नहीं,गांड मारूंगा. वो बोली- और कैसे बनाने का मन है जान? मैं हो तो गई हूँ तुम्हारी!अब मैंने उससे सीधे सीधे कहा- जानू मुझे तुम्हारी चूत का मजा चखना है. मैंने कहा- जो चाहिए बस वो मिलते रहें और किसी सवाल का जवाब नहीं चाहिए.

भीलवाड़ा की बीएफमैंने उनके हाथों को फिर से पकड़ लिया और दूसरी चूची पर मुँह लगा दिया. वो दूध सी सफेद रंग की, पांच फिट आठ इंच की लंबाई वाली और 34-28-36 के फिगर वाली महिला थी और उसका नाम लक्की था.

कॉलेज की सेक्सी बीएफ वीडियो

उधर उसकी रोहित से चुदाई भी हो गई थी और इधर मेरे लंड ने भी असल में रस छोड़ दिया था।फोन उधर से रोहित ने संभाल लिया, वो कह रहा था- यार रवि, कुछ करो, हम रियल में भी मिलें … एक बार अगर हो पाए!काफी देर हम ऐसे ही बातें करते रहे. अभी तक पिछले भागकहानी लेखक को सेक्स के लिए बुलायामें आपने पढ़ा था कि किस तरह से मेरी और सुरेंद्र जी की दोस्ती हुई और वो मुझसे मिलने के लिए 700 किलोमीटर दूर से मेरे घर आए. उनकी चूचियों में और पैंटी में पूरी आइसक्रीम उन्हें विचलित कर रही थी.

साथ ही मैं हाथ आगे करके भाभी की दोनों चूचियों को नौंचने लगा, मसलने लगा. क्योंकि मैंने पहले भी उसे एक अच्छा सुझाव दिया था तो उसने थोड़ा सोचकर सहमति दे दी. मॉम- बेटा ये क्या है?मैं- कुछ नहीं मॉम वो बस ग़लती से हो गया … सॉरी.

मेरी चूत उनके सामने खुल चुकी थी, वो झुके और उन्होंने मेरी चूत में अपना मुँह लगा दिया. नेहा ने कहा- यार, मैंने पोर्न में डिल्डो बहुत देखे हैं, मगर कभी रियल में नहीं देखा था. आंटी फक़ स्टोरी में पढ़ें कि मेरी गर्लफ्रेंड की अम्मी को हमारे सेक्स का पता चल गया.

उस लड़के ने केवल पैंट पहनी हुई थी और वो दोनों एक दूसरे की चूमाचाटी कर रहे थे. मैंने भी आव देखा न ताव, अपना लौड़ा उसकी चूत में घुसेड़ दिया और उसकी चूत चोदने लगा.

मैं अपना हाथ उसकी चूचियों की तरफ ले गया और उसकी एक चूची को दबाने लगा.

उन्होंने मुझे खड़े खड़े ही गोदी में उठाया और मेरी फुद्दी अपने मूसल लंड पर रख कर निशाना लगाने लगे. जयपुर के बीएफमैं- ले मेरी रानी … देख तेरी जवानी की चुदाई का मज़ा … कैसा लग रहा है तुझे … आज अपने यार से … साली कहानियाँ तो बहुत पढ़ती हो न तुम … मेरी आज देख तुझे असली कहानियों जैसी चुदाई मिल रही है … कैसा लग रहा है मेरी जान. हिंदी में ब्लू फिल्म सेक्सी बीएफतभी आयेशा ने मेरी चूत में उंगली डाल दी और मेरी चूत चुदाई उसने उंगली से ही शुरू कर दी. मैंने जैसे किसी बॉयफ्रेंड की कल्पना की थी, नमन ठीक उसी प्रकार का लग रहा था.

आपको मेरी बिग ऐस सेक्स स्टोरी कैसी लगी, प्लीज मेल और कमेन्ट करके जरूर बताना.

धीरे धीरे ऐसे ही चाटते हुए मैं उसकी चूत तक पहुँच गया जहाँ उसकी काली पैंटी जो उसके कामरस से भीगी हुई थी और उसकी बुर और मेरी जीभ के बीच दीवार बनी हुई थी. मेरे लंड के सुपारे ने उसकी चिकनी चूत की फांकों के मजे लेने शुरू कर दिए. मैं अब सिर्फ कच्छे में था और वो मेरे सामने ब्रा और पैंटी में बैठी थी.

ऊपर खुला आसमान था और मैं नीचे किसी पराई औरत की चूत को उसके गैराज की गाड़ी पर चोद रहा था. साल 2020 में मेरी जिंदगी में एक ऐसी लड़की का आगमन हुआ जिसे पाने के बाद मैं अपने आपको धन्य मानता हूँ. अनुपम और कार्तिक अम्मी बहन की चूत चाटने लगे और अम्मी और बहन फिर से उनके लंड चाटने लगीं.

पंजाबी बीएफ सॉन्ग

मैं- तेरा मूड नहीं है क्या मॉम … करने का … देख ना तेरी चुत कितनी गीली हुई पड़ी है. कुछ देर बाद अमित ने मुझे सीधा लेटा दिया और एक झटके में मेरे बूब्स पर कब्ज़ा जमा दिया. फिर हम दूसरे रूम में गए, तो वहां आयशा घोड़ी बनी हुई थी और अमन पीछे से उसकी चूत में लंड डालकर चुदाई करने में लगा हुआ था.

मुझे एक ऐसी साथी मिल गई थी, जो मेरी तरह ही प्यासी थी और अब हम दोनों बहुत मजा लेने वाले थे.

इसी बीच उन दोनों के मम्मी पापा ने तय किया कि उन्हें आगे की पढ़ाई के लिए शहर भेजेंगे.

मेरी एक उंगली की पोर उसकी गांड में टच कर गई और उसने आह की आवाज कर दी. अभी तक मेरी कहानी के पिछले भागजवान काम वाली की चुदाई में मजामें आपने पढ़ा था कि कैसे मैंने अपनी चुदाई की हवस को पूरा करने के लिए कविता नाम की एक नौकरानी को अपने घर पर रखा और उसके साथ पहली बार चुदाई का मजा लिया. किन्नर बीएफ मूवीउन्होंने मेरे नजदीक होकर मेरी पैंट और भाभी की साड़ी निकाल कर फेंक दी.

जैसे ही मेरा लंड उसकी चूत में घुसा, साक्षी की मुँह से चीख निकल पड़ी- आह मर गई अक्षय साले मेरी चूत फट गयी भोसड़ी के … निकाल जल्दी से!मैंने उसके होंठों को किस किया और उसकी आवाज को दबाने लगा. इतने में उसने मुझे गोद में उठा लिया और दूसरे रूम में ले जाकर बेड पर लिटा दिया. जया बोली- क्यों नहीं बनाई?मैंने कहा- कोई अच्छी खूबसूरत लड़की मिले, तब तो बनाऊं, पर ये आप क्यों पूछ रही हो?इस पर वो कुछ नहीं बोली, बस हल्के से मुस्कुरा दी.

एक दिन जब मैं बहुत दिनों बाद नानी के घर गया तो दिन में उधर कोई नहीं था. फ़ोन रखने जाते हुए मैंने अपना हाथ उसकी बाजू के नीचे से जानबूझ कर आगे किया और उसके स्तन को छूता हुआ निकाला.

मेरे दिमाग़ के सारे तार ढीले हो गए, ये सोच कर कि अब इनके दिमाग़ में क्या पक रहा है.

वो ब्रा खोलने ही जा रही थी कि मैंने उसका रोका और कहा- ये ज्यादा कीमती है, इसे रहने दे, वैसे अच्छा होगा अगर जींस उतारेगी. वैसे उसको मेरे लंड को चूसने में अक्सर समस्या होती थी और उसके मुँह में भी दर्द होने लगता था. मगर उस वक़्त मैंने मेरे गुस्से पर काबू रखा और नार्मल होकर बाहर आ गयी.

चुदाई वाली बीएफ चुदाई वाली बीएफ मैं सिर्फ उसके स्तन को ही देख रहा था, मुझे कोई प्रतिक्रिया न करते देख उसने मेरी तरफ मुँह घुमाया और मुझे उसके स्तन को देखते हुए पाया. धीरे धीरे मेरा लंड खड़ा हो गया और उन्होंने मेरी पैंट की फूली हुई पहाड़ी को देख लिया.

कुछ देर गेम में यूँ ही गुथे रहने के बाद फिर मैंने उसकी एक गोटी काट दी, जो भागने की फिराक में थी. [emailprotected]हॉट न्यूड गर्ल सेक्स कहानी का अगला भाग:उन्नीस की चूत छप्पन का लंड- 3. उस दिन मौसी मॉम और बहन की चूत चोदकर उनका पानी निकाल कर मुझे बहुत मजा आया.

चाइना बीएफ सेक्स

उक्त सेक्स कहानी में मैंने अपनी मम्मी की एक गैर मर्द से चुदाई देख कर उनकी सच्चाई को जाना था. आपको लोगों को तो पता ही है, जब किसी की भी अगर कम उम्र में अगर सरकारी नौकरी मिल जाए, तो लोगों का बर्ताव आपके प्रति और भी अच्छा हो जाता है. एक बार फिर कोशिश करते हुए मैंने लंड को चूत पर फिर से टिकाया और एक झटका लगा दिया.

”और फिर इस कारण से वो सब कुछ सामान्य होते हुए भी यौन सुख का आनन्द नहीं उठा पाता और अपने साथी को भी चरम सुख नहीं दे पाता।इसलिए अगर आपका लिंग 8-10 सेमी या 3-4 इंच का है तो ये बिल्कुल सामान्य है. लगभग 5 मिनट लंड चुसवाने के बाद उसके धक्के तेज हो गए और वो बोलने लगा- आह्ह मेरी जान … आह्ह रंडी आह चूस बहन की लौड़ी … आआअ ह्हह मैं गया बहनचोद!तभी उसने सारा पानी मेरे मुँह में निकाल दिया.

अब मैंने अपने लंड में भी बहुत सारा शैम्पू लगा लिया और संजना की गांड में दुबारा से शैम्पू भर दिया.

शायद इसी लिए हम आप हज़ार बार चूत चोदने के बाद फिर से लंड हाथ में हिलाते उसके सामने मुँह बाए पहुंच जाते हैं. वो मुझसे अलग होने की कोशिश करने लगीं, पर मैंने उन्हें कसकर पकड़ लिया था. मैंने कहा- क्या हुआ जानेमन गर्मी चढ़ गई है क्या?वो बोली- साले, तूने ब्लू-फिल्म दिखा कर मुझे गर्म कर दिया है और गिरने का ड्रामा करके मुझे लिटा लिया है.

रंजीता की दूसरे शहर में नौकरी लग गयी, जिसमें उसे मोटी सैलरी मिलने वाली थी. मैंने कहा- मेरा प्रस्ताव है कि आपके कस्बे के और चार लोग हैं, जो सब्जी की दुकान चलाते हैं और होटल का खाना खाते हैं. मैं रोहित के ऊपर चढ़ गई और उसका लंड पकड़कर अपनी चूत में सैट करके बैठने लगी.

फिर वो नीचे हुए और मेरे पैरों के पास बैठकर मेरे दोनों घुटनों को पकड़कर एक झटके में फैला दिया.

पंजाबी फिल्म बीएफ सेक्सी: मैंने अपनी आवाज में नर्मी ला कर कहा- शाम को कितने बजे तक अरुणिमा को पहुंचवा देंगे आप?विश्वेश्वर जी बोले- क्या बात है, बड़ी चिंता हो रही है. उधर कूलर लगा हुआ था, जिस कारण से मम्मी के कमरे की आधी खिड़की खुली रहती थी.

कुछ मिस्त्री भी हैं, पर आजकल कोरोना के चलते सब कुछ ढीला ढाला चल रहा है. कविता भी बेहद गर्म लड़की थी हालांकि मेरे और कविता की उम्र में बहुत फासला था और वो मेरी बेटी की उम्र की लड़की थी लेकिन बिस्तर पर कविता इतनी ज्यादा गर्म थी कि हम दोनों एक दूसरे को पूरी तरह से संतुष्ट कर देते थे. इस पर मैं लड़कियों जैसा शर्मा गया और ‘हट क्या करते हो …’ बोलकर भाग गया.

वो अक्सर मेरे साथ अपनी पत्नी के साथ हुई चुदाई की बात करता और बताता कि उसने कैसे रात ज्योति को चोदा.

लक्की दो बार पानी छोड़ चुकी थी और अब उससे मेरा लंड सहन नहीं हो रहा था. कुछ देर बाद भाभी बुआ की चूत को चाटने लगीं और बुआ मेरे लंड को चाटने लगीं. मैं अपने आप पर काबू करते हुए अपने लंड को मसलता हुआ छत पर टहलने लगा.