चूत की चुदाई इंग्लिश बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो बॉयज बॉयज

तस्वीर का शीर्षक ,

चतुर मुर्गा: चूत की चुदाई इंग्लिश बीएफ, मेरे पूछने पर उसने बताया कि आज उसने जल्दी खाना खा लिया है ताकि सुहागरात मनाने में कोई देरी न हो.

वीडियो सेक्सी मद्रासी

लेडी दुकानदार ने कई तरह के स्टाइलिश ब्रा और पैंटी लाकर दिखाना शुरू कर दिया. सेक्सी पिक्चर गांव देहात कीमुझे बिल्कुल भी नहीं लग रहा था कि मैं एक कॉलगर्ल के साथ में ये सब कर रहा था.

अंत में उसका हाथ मेरी चूची पर आ पड़ा, जिसको वो बार बार हल्का सा छू ले रहा था. सेक्सी वीडियो कॉल दिखाइएफिर दस मिनट के बाद भाई ने अपनी चड्डी को उतार दिया और मेरी चूत में उंगली करने लगे.

हमने लगभग 45 मिनट तक चुदायी की। फिर हम दोनों ने लंबी नींद ली।मैं शाम के 5 बजे उठा तो देखा कि मैं अकेला सो रहा हूं.चूत की चुदाई इंग्लिश बीएफ: मैंने अपने होंठों को को उसके लंड पर कस लिया और उसे धीमे धीमे धक्के मारने का इशारा किया.

उसका पेट और कमर बिल्कुल सांचे में ढला हुआ लग रहा था, बिल्कुल छोटी सी उसकी नाभि, उसके पेट की खूबसूरती बढ़ा रही थी.किरण ने भी मालिक का हुकुम मानते हुए लौड़े पर थूक दिया और जोर जोर मुठ मारते मारते लंड मुँह में लेकर चूसने लगी.

जीजा साली की ब्लू पिक्चर सेक्सी - चूत की चुदाई इंग्लिश बीएफ

उनकी जांघों के बाल और भीगा हुआ लंगोट देख कर मैं अपने आपको रोक ना सका और अपने लंड को सहलाने लगा.मैंने अपनी जगह बदली और पीछे से भाभी की बड़ी बहन की चूत पर लंड रख दिया.

फिर मैं उनके गांड को भी हल्के हल्के दबाने लगा और धीरे से मैंने उनकी पेंटी को भी अलग कर दिया. चूत की चुदाई इंग्लिश बीएफ हमारा रास्ता लम्बा था, करीब 50 घंटे का … हम लोग अपना खाना आदि लेकर चले थे.

धारा अब बिल्कुल पास आ चुकी थी … शेखर के पैरों की तरफ़ धारा ने अपनी एक टांग उठाकर बिस्तर पे रखा और शेखर की ओर देखते हुए मुस्कुराते हुए अपने हाथों में पड़े हंटर की नोक को शेखर के पैरों की उँगलियों पे धीरे-धीरे फिराना शुरू किया.

चूत की चुदाई इंग्लिश बीएफ?

सुपारे को चारों तरफ से चूमता हुआ गांड का छेद आखिरकार हार ही गया और पक्क की आवाज के साथ पूरा सुपारा रेशमा की अनचुदी गांड में पेवस्त हो गया. मैंने वंदना को चार पैग पिलाए और उसे टुन्न करके उसकी गांड मारना शुरू कर दी. लेकिन लंड महाराज ने अंगड़ाई लेते हुए समझाया कि बेटा रास्ता एकदम साफ़ है … जाओ और पूनम की सुलगती जवानी का भोग लगा आओ.

दोपहर में मैंने अपने भाई के सर को फ़ोन किया और उनसे उनके घर पर मिलने के लिए शाम का समय ले लिया. उसकी आँखों में मिन्नत सी नज़र आ रही थी जो धारा से विनती कर रही थी कि आओ धारा … मेरा लंड अपने मुँह में भर लो और निचोड़ डालो सारा रस. मेरा हाथ सरकता हुआ उसकी चूचियों को टटोल रहा था और उसके हाथ मेरी पीठ से धीरे-धीरे मेरे लंड तक पहुंच गए.

तभी उसने मेरी दोनों टांगों को उठा कर अपने कंधों पर रख लिया और अपना मुँह मेरी चूत से चिपका कर चूसने लगा. तभी मैंने भाभी की गर्दन चूमते हुए कहा- मैंने दरवाजा लगा दिया है, कोई नहीं आ सकता है. वो हंस कर बोलीं- और मेरे जैसे माल को देख कर तुमने आगे क्या सोचा?मैंने कहा- क्या सोचा … बस शुरू हो गया था.

इसके बाद नेहा मेरे चेहरे का मेकअप करने लगी और उसकी सहेली मेरे हाथों पर नकली के लंबे लंबे नाखून लगाने लगी. मैं नशे में था तो मैंने उसे कह दिया कि कुछ साल पहले तूने मुझे प्रपोज़ किया था, तब मैंने तुझे मना कर दिया था.

हमारी छुट्टी हुई तो मैंने रूम से बाहर निकल कर उससे उसके घर का पता पूछा.

मैंने सोचा कि वो पीछे से चोदेगा क्योंकि सुबह भी उसने मुझे ऐसे चोदा था.

मैंने उसको अपना सर मेरी जांघ पर रखने का इशारा किया और वो सर रखकर लेट गयी. मैंने जल्दी से कंडोम लिया और सीधा होटल रूम में आ गया और बिस्तर पर आकर बैठ गया. पर अब लगभग आधा लंड घुसने से रेशमा को पीड़ा होने लगी, दर्द से बिलबिला कर उसने मुझे रोकने की कोशिश की पर मैंने उसका हाथ थाम लिया.

मैंने दोनों हाथों से उसके चूतड़ों को फैलाया, जिससे उसके गांड का छेद मुझे दिखने लगा. इसके बाद सुमैत्री बिस्तर पर सीधी लेट गई और मैंने अपना लंड उसकी चूत पर रख दिया. मैंने भी अपना मुँह आगे बढ़ा दिया और हम दोनों ने धीरे-धीरे किस करना शुरू दिया.

वो विस्मय से मरी तरफ देखने लगी- इस बात का क्या मतलब हुआ डार्लिंग?मैंने कहा- कोई ख़ास बात नहीं है जान.

मुझे पक्का यकीन था कि खाने के बाद कुछ ही देर में उसकी अम्मी नींद की दवाई के कारण सोने चली जाएगी और फिर पूरी रात मैं साबिरा के साथ हम दोनों की हवस की आग बुझाऊंगा. मैं अपने सुपारे को बार बार चमड़ी से बाहर निकाल कर लंड को सहला रहा था. उस गाने में आखिर में एक किस पहले लड़की लड़के के गाल पर करती है … और फिर लड़के को एक बार करना था.

वो मादक आवाज करके अपनी गांड आगे पीछे करने लगीं और मस्ती से गांड की चुदाई करवाने लगीं. कुछ देर बुर चाटने के बाद मैंने अपनी एक उंगली उसकी बुर की दरार पर चलानी शुरू कर दी. भैया ने पास में लगी ड्रेसिंग टेबल पर रखी सरसों के तेल की शीशी को उठाया और ढेर सारा तेल अपने लंड पर लगा लिया.

डिब्बी की वैसलीन से मेरे लौड़े का सुपारा पूरा भर गया और मैंने वैसे ही सारी वैसलीन बार बार लगा कर रेशमा की गांड के छेद पर लगा दी.

मैंने पूछा- शीरा कहां लोगी मेरी रानी?उसने गांड उछालते हुए कहा- मेरी चूत में ही टपका दो राजा. दोस्तो, कैसी लगी हार्ड फक़ नेक्स्ट डोर गर्ल की कहानी … बताइएगा जरूर!आपका आशीष धन्यवाद.

चूत की चुदाई इंग्लिश बीएफ इसका फायदा मुझे ये हुआ कि अब मुझे एजेंट को फोन नहीं करना पड़ता था और रूपा ने अपनी दो सहेलियों को भी मेरे पास भेज दिया. मेरे हर धक्के के साथ मेरी अंडगोटियां गीता की गांड के गीले छेद पर ठोकरें दे रही थीं.

चूत की चुदाई इंग्लिश बीएफ धारा ने आज से पहले बस दो बार ही अपनी गांड में लंड डलवाया था और यही वजह थी कि उसकी गांड ने अब तक लंड लेने की आदत नहीं लगवायी थी और अब भी किसी कुँवारी गांड की तरह तंग ही थी. मैं अपने दोनों हाथों में देविका के दोनों स्तन पकड़ कर लंड अन्दर बाहर करने लगा.

सुबह के दस बज रहे थे और हमको दोपहर के बारह बजे तक क्लाइंट से मिलने जाना था.

डॉक्टर नर्स के बीएफ

रूना ने इस बार मेरे लंड को हाथ में थाम लिया और आगे पीछे करते हुए फैंटने लगी. उनके सीने पर बहुत बाल थे जिसके कारण जल्द ही मेरे दूध पर कई जगह जलन होने लगी. दोनों ने मेरे कपड़े उतार कर मुझे बिल्कुल नंगी कर दिया और मुझे घोड़ी बनाकर रोहन ने अपना लंड मेरे मुँह में भर दिया.

‘आ … आ … आह!’उत्तेजना वश सोनी मुझसे कसकर लिपट गयी, मेरी उंगलियां सोनी के योनिरस से पूरी तरह भीग गयी थीं. वो हंस कर बोलीं- हॉट तक तो ठीक है लेकिन मैं तुम्हें माल भी लग रही थी?मैंने कहा- हां मैम आप मुझे मस्त माल लग रही थीं. अब जब मैं ऑफिस में होता तो रोज प्रिया एक को सुबह बुलाती और एक को शाम को बुला कर मजा लेती और खूब लन्ड चूस चूस रस पीती.

कुछ ही मिनट में ही उसको चरम सुख की प्राप्ति होने लगी और उसकी चूत से पानी बाहर बहने लगा.

मेरी चूत को अब लंड की खुराक मिलने लगी थी इसलिए मेरी चूत भी खिली खिली सी रहने लगी थी. आखिर उसने अपने हाथ से लौड़ा मेरी गांड के छेद पर लगाया और जोर लगाने लगा. अब क्या लाऊं तुम्हारे लिए?मैं- पीने के साथ कुछ नाश्ता भी हो तो ले आओ.

यूँ ही हम दोनों एक दूसरे से बातें बनाते रहे और मैं पायल के ऊपर ही लेटा रहा. इसी बीच मैंने उसे जोर से बांहों में कस लिया था और उसके चूचों को ऊपर से ही भींचने लगा था. कभी उसके बड़े बड़े चूचों को हाथ लगाया, कभी उसको बड़ी सी गांड पर हाथ फेर दिया, कभी चूतड़ दबा दिए.

आगे राजीव की जुबानी ही पढ़िए क्या हुआ, कैसे हुआ और जो हुआ, क्या वो सही हुआ?दोस्तो मैं राजीव कुमार, ये सेक्स कहानी मेरी और सोनी (काल्पनिक नाम) की है. मनप्रीत जी ने लिफ्ट का भी कहा, पर मैं लड़कियों की तरह घूमने वाली फीलिंग को और जीना ज्यादा चाहती थी, इसलिए सीढ़ियों से गई.

धीरे धीरे मैंने अपना लंड चूत में डाल दिया और उसकी गांड को पकड़कर आगे पीछे करने लगा. पहले तो उसने सिर्फ फातिमा पर अपना जोर चलाया और हमारी बातें कम हो गईं. अगली सुबह में डरते डरते उठा और देखा कि कहीं मेरी बहन मेरी मम्मी को न बता दे.

मुझे शर्म आ रही थी, पर फिर भी मैंने एक एक करके अपने कपड़े उतार दिए और सिर्फ कच्छे में बैठ गया.

सुमैत्री ने मेरे लंड पर से कंडोम निकाला और बेड के साइड में नीचे छोड़ दिया. वो बोले- क्यों?मैंने उन्हें अपनी दास्तान बताई कि मेरे पति के लंड में दम नहीं है कि वो मुझे मां बना सके. अब मेरा मन दुकान या पढ़ाई में बिल्कुल नहीं लगता, दिन भर बस सोनी के बारे में सोचना या उसके कॉल का इंतजार करना, यही मेरा काम रह गया था.

मैंने वन्दना को अपनी गोद में खींचा और नंदा से साफ कह दिया कि सुबह उठाना मत, अपने आप आंख खुलेगी, तब उठ जाऊंगा. मैं मॉम के पीछे घुटनों के बल बैठ गया, मॉम की गांड को दोनों हाथों से खींच कर फैलाया और उनके बड़ी सी गांड के छेद को अपनी जीभ से चाटने लगा.

उठ गए, जूस पी लो … थकान मिट जाएगी!” धारा ने बड़े ही प्यार से शेखर को कहा. मौसी का नाम रवीना, उम्र 44 जिस्म, वो भी पोर्नस्टार के जैसी ही 36-30-38 के फिगर वाली माल लगती हैं. उसका यह सेक्सी अंदाज़ देख कर मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया और तौलिए को तम्बू बना चुका था.

देसी बीएफ वीडियोस

हाथ से बेल्ट को छोड़ कर मैंने उसका मुँह उसी हाथ से दबा दिया ताकि उसकी चीखें होटल के कमरे से बाहर ना जा पाएं.

आज मैं इस इत्तेफाक की वजह से पराये मर्द से चुद चुकी थी और वो पराया मर्द अभी भी मेरी किचन में मौजूद था. इस समय मौसी की उछलती हुई चूचियां देख कर मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा था. कुछ देर चूत की फांकों में लंड के सुपारे को घिसा और भाभी की आंखों से आंखें मिलाईं.

मॉम भी मजे से अपनी गांड चुत में एक साथ बाप बेटे का लौड़ा लेने लगीं और मादक आवाजें निकालने लगीं. थोड़ी देर तक तो मैंने धीरे धीरे ही किया लेकिन फिर जैसे ही मैंने अपनी स्पीड बढ़ाना शुरू की तो बड़ी बहन का भी मजा बढ़ता चला गया. तूफान सेक्सी वीडियोहम दोनों मां बेटा इस मधुर चुदाई से इतना थक गए थे कि पता ही नहीं चला, कब नींद आ गई.

जैसे ही वो मेरी तरफ बढ़ने लगी तो मैंने उसको इशारे से रूकने को कहा और खुद खड़ा होकर मैंने अपनी पैंट निकाल दी. मैंने उसकी चूत सहलाई और कहा- और इसने मुझे!वो मेरे होंठों को चूम कर बोली- अब जाओ और कल जल्दी आ जाना.

ऊऊह …’कुछ देर में मॉम ने मेरी उंगलियों से अपनी में मजा लेना शुरू कर दिया. मेरा मन तो नहीं कर रहा था पर मैंने सोचा कि पहले दिन इतनी जबरदस्ती सही नहीं. मेरे इशारे पर उसने भी जीभ बाहर निकाली और ख़ुद अपनी बहन की टांगें फ़ैलाकर मेरा वीर्य चाटने लगा.

लंड बार बार फिसल सा रहा था, तो मैंने ललिता भाभी को वापस बिस्तर पर लिटा दिया और लंड मुँह में डालकर चोदने लगा. कुछ देर बाद मैंने देखा कि सर मेरे हल्के खुले मम्मों को बड़ा घूर घूर कर देख रहे थे. भाभी जैसे ही घोड़ी बनी, मैंने अपना लंड पीछे से उसकी चूत में डाल दिया और ताबड़तोड़ चोदने लगा.

मैं भाभी के बूब्स चूसने लगा और धीरे धीरे नीचे आता हुआ उनके पेट में उनकी नाभि में जीभ फेरने लगा.

मैं अपनी घोड़े जैसी पोजीशन में आ गया और आहिस्ता से अपना लंड सुपारे तक बाहर निकाल कर तेजी से अन्दर डाल दिया. उसने मुझसे अपने ब्वॉयफ्रेंड और मेरे रिश्ते के बारे में पूछा, तो मैं कुछ सोच नहीं पाई क्योंकि मेरा कोई ब्वॉयफ्रेंड नहीं था.

मॉम एकदम से बोलीं- अरे 4 दिन क्यों?मगर तब तक डैड ने हां कर दी- हां चार दिन से कम में मसूरी का क्या मजा आएगा. करीब 20 मिनट तक रीना की चूत चोदने के बाद मैंने लंड बाहर निकाला और उसके मुँह में दे दिया. मुझे देखते हुए उसके चेहरे पर जो मुस्कान थी, उससे साफ पता चल रहा था कि वो पूरी तरह संतुष्ट थी.

मैं तो समझ गया था कि अब एक दो दिन में आराम से भाभी की चूत चोदने को मिल जाएगी. मेरी बात पर वो बोले- मेरा तो उससे भी ज्यादा प्यार करने का मन करता है. धीरे धीरे उसने अपने होंठ मेरी ओर बढ़ा दिए और हम एक दूसरे को धीरे धीरे चूमने लगे.

चूत की चुदाई इंग्लिश बीएफ सरिता आंखें फाड़कर सब देख रही थी और वो पूरी तरह से कामवासना में डूबने लगी थी. कुछ देर बाद मैंने कपड़े उतारे और अपने कमरे में ही छोड़ कर चाचा की चड्डी को एक बार फिर से धोने लगा.

सेक्सी फिल्म बीएफ बीएफ बीएफ बीएफ

मैंने इस बता को भलीभांति समझ लिया था कि पहले गांड के छेद को ढीला करना जरूरी होता है. वो जोर जोर से सिसकारियां निकालने लगी थी- आह चोदो … आह मजा आ रहा है आह चोदो आंह …मैं भाभी का ये रूप देख कर मस्त हो गया और उसकी चूत में और जोर जोर से धक्का देने लगा. वो ‘उईई ऊईईई आह आहहह मर गई बचाओ …’ चिल्लाने लगीं और मैं ताबड़तोड़ चुदाई करने लगा.

अब पाटिल जी किरण की तरफ बढ़े और उन्होंने किरण के बाल खींच कर उसका मुँह रेशमा के मुँह पर लगा दिया. चाची को अच्छा लगने लगा तो मैंने उंगली की जगह लंड गांड में डाल दिया. सेक्सी पिक्चर हिंदी नंगी चुदाईमेरी सहेली ने बताया था कि उसका पति गांड मारता है, तो उसे बहुत ज्यादा दर्द होता है.

आज उसकी जवान बहन एक जवान लड़के से चुद गयी थी और उस लड़के का वीर्य उसके बहन की कोख़ में गिर गया था.

बाजू में मेरी मॉम नंगी नहा रही थीं और उसी समय मेरी बहन उसी बाथरूम में स्टूल पर बैठ कर अपनी चूत की शेविंग कर रही थी. इस पर मैं थोड़ी सी झेम्प गयी, पर अब तो सुजय सर मेरे बदन से खेलने आ ही गए थे.

उस दौरान भी मैंने घर का कोना कोना छान लिया कि शायद कुछ सुराग तो मिल सके लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं मिला. कुछ देर में ही दोनों चुदाई के लिए फिर से पूरी तरह गर्म हो गए थे और इस बार बॉस ने मेघना को उल्टा करके पेट के बल लिटा दिया. अब मेरे सामने दिक्कत यह थी कि रूम में AC लगा था, पर कम्बल एक ही था.

हां जब वो पलट कर बाहर जाने लगती थी तब मैं जरूर उसकी गांड देख कर एक ठंडी आह भर लेता था.

पर वो भी कौन सा दूध का धुला था मादरचोद … भैन का लंड मेरी रेशमा को अपने लौड़े से चोदने ले गया था बहनचोद. शुरू में तो मुझे कुछ ज्यादा महसूस नहीं हुआ पर जैसे ही उसके लौड़ा का सुपारा अन्दर गया, मुझे हल्का हल्का दर्द होने लगा. मैंने कहा- फिर क्या करती हो आप?भाभी- कुछ नहीं बस मन मसोस कर और अपनी चूत में उंगली करके सो जाती हूँ.

पाकिस्तानी+सेक्सी+वीडियोमेरी गांड की गर्मी से पिघल कर वो जूस बूंद-बूंद कर के रिसता, तो मैं माहवारी होना महसूस करती. उनकी उंगलियां अन्दर चली तो गईं लेकिन मॉम को उसकी गांड बड़ी टाइट लगी.

बीएफ इंग्लिश में हिंदी

शुरू में तो मुझे कुछ ज्यादा महसूस नहीं हुआ पर जैसे ही उसके लौड़ा का सुपारा अन्दर गया, मुझे हल्का हल्का दर्द होने लगा. मैं उसके दोनों चूचकों को अपने दोनों हाथों की उंगली अंगूठे के बीच लेकर दबाते हुए चूचकों को खींचते हुए रगड़ने लगा. उनका घर एक बंगला था जिस पर सिक्योरिटी गार्ड ने गेट खोला और गाड़ी सीधी अंदर चली गई.

इस पर मैं भी केक के एक टुकड़े को लेकर उन्हें लगाने दौड़ी, तो भैया भी भागे. सन्नी के साथ आप कितनी बार चुदी हो?मॉम ने मेरे मुँह से ‘कितनी बार चुदी हो …’ शब्द सुने, तो मॉम हिल गईं और बोलीं- ये क्या बकवास कर रहे हो?मैंने कहा- ठीक है, मत बताओ. यहां केवल मेरे जानने वालों में मेरी बहन थी, जिससे मैं बातचीत कर सकती थी.

उसने खींचते हुए मेरी शर्ट के बटन खोलने की जगह तोड़ना शुरू कर दिए और मेरी शर्ट को मेरे शरीर से अलग कर दिया. मैं मॉम के पीछे घुटनों के बल बैठ गया, मॉम की गांड को दोनों हाथों से खींच कर फैलाया और उनके बड़ी सी गांड के छेद को अपनी जीभ से चाटने लगा. मैंने उससे कहा- हां वो तो सब मालूम है बेबी … मगर पहले तुम जैकेट की चैन लगाओ.

पहली बार मुझे उसके बूब्स का कोमल अहसास हुआ, लेकिन सुमन को गिरने के कारण दर्द हुआ. मैंने उसके सर को पकड़ा और बालों को खींचते हुए ऊपर उठाने का प्रयास करने लगी ताकि हम चुदाई शुरू करें!पर वो मेरी चूत से हिलने को तैयार नहीं था.

शहर में मैं अपनी पत्नी मेघना के साथ अकेला रहता हूं और मेरी बाकी की फैमिली के सदस्य गांव में रहते हैं.

ये बात सुनकर मैंने पूनम से पूछा- तुम तो शादीशुदा हो, तो पति चोदता नहीं है क्या?उसने बात को टाल दिया और मुझको अपनी ओर खींचती हुई बोली- आओ मुझे किस करो. सेक्सी वीडियो कम एमबी केमौसी को कुछ देर दर्द हुआ लेकिन फिर मौसी गांड उठा उठा कर मजा लेने लगीं. राजधानी की सेक्सीफिर मैंने भाभी को वापस घोड़ी बनाया और उनकी गांड में थूक लगाकर लंड घुसा दिया. मैं बोली- यहां कहां जाकर अपने कपड़े बदलूँ?भैया ने बताया- तुम सुजय सर के केबिन में जाकर बदल लो.

मैंने ध्यान दिया तो महसूस हुआ कि मेरा भाई मेरे एक मम्मे को चूस रहा था और मेरी चूत में उंगली कर रहा था.

रोहन भी मुझे बहुत घूरता था और हसरत भरी निगाहों से मेरे दूध देखता था. जैसे जैसे मूवी में चुदाई के सीन आ रहे थे, मैं भी मॉम को चोद रहा था. ये तुम्हारा मूसल जैसा लंड तो मैं हर बार अपनी चूत में लेना चाहती हूँ.

अब मैं नीचे आयी तो मम्मी बोलीं- क्या हुआ?मैंने उनसे झूठ कह दिया- सर बोल रहे हैं कि फॉर्म भरना आज ही ज़रूरी है. एक दिन जब मैंने भाभी को पल्लू करते देखा, तो उसका मुँह के साथ साथ भाभी के गोरे गोरे बूब्स देख लिए. वो तो शुक्र है अल्लाह का कि इस भले आदमी ने हमारी इज्जत को दाग लगने से बचा लिया.

सोनाक्षी सिन्हा बीएफ

हालाँकि सुपारा अब भी अपनी चमड़ी से बाहर नहीं आया था, वो अधखुली चमड़ी से बस बाहर झांक रहा था और जितना भी भाग बाहर था उस पर धारा की जीभ अपना कमाल दिखा रही थी. बीच बीच में मैं उसके निप्पल को दांत से काट देता, तब वो ‘उइ माँ …’ बोल कर मेरे सर को सहला देती. शेखर को लगा जैसे अब उसके आज़ाद होने का वक्त आ गया है, धारा अब उसे आज़ाद करेगी और फिर वो बेदर्दी से धारा को चोद चोद कर उसकी चूत की धज्जियाँ उड़ा देगा!लेकिन धारा के दिमाग़ में कुछ और ही चल रहा था.

उन्होंने दर्द से सिहरते हुए मुझे रोकने के लिए बोला भी लेकिन मैं नहीं रुका.

मैं तो उसके लण्ड पर फ़िदा हो गई। मेरी खाला के पास उसका नंबर जरूर होगा। मैं अभी जाकर उसे तेरे पास भेजती हूँ। तुम खुद ही देख लेना की वह तुझे ठीक से चोद पायेगा की नहीं!मैंने कहा- जब वह तेरी खाला का भोसड़ा चोद सकता है तो मेरी भी बुर भी मजे से चोद लेगा। यार उसको जल्दी भेजो। इसके अलावा तेरी जान पहचान का कोई और लण्ड हो तो उसे भी भेज दो। मैं सच में लण्ड के लिए मरी जा रही हूँ।नगमा वादा करके चली गयी.

इसके थोड़ी देर बाद ही वो उठा और अपना खड़ा लंड मेरे होंठों से भिड़ा दिया तो मैंने उसे मुँह में ले लिया. जैसे ही किरण ने अपना मुँह लंड से बाहर निकाल कर अपने पति को जलील किया, वैसे ही झट से पाटिल जी ने पलटी मारी और उसकी तरफ घूम गए. उत्तरी कोरिया सेक्सी वीडियोलेकिन लंड महाराज ने अंगड़ाई लेते हुए समझाया कि बेटा रास्ता एकदम साफ़ है … जाओ और पूनम की सुलगती जवानी का भोग लगा आओ.

अपना पैग पीने के बाद मैं खड़ी हुई और खुद को साफ करके कपड़े पहन कर वहां से निकलने लगी. ये क्यों पूछा?मैं- वो तुम कुत्ते कुतिया की चुदाई को देख कर मुस्कुरा रही थी न … इसलिए पूछा. मॉम ने मुझसे कहा कि अभी एक शॉट लगा कर दिखाओ, मैं इसकी गांड गीली करती हूं, जिससे तेरा लंड आराम से जा सके.

नौ बजे सरिता मुझे जगाने ऊपर आयी तो मैंने उसे खींचकर अपने ऊपर ले लिया और चूमने लगा. मैं पीछे से धक्के दे रहा था तो साबिरा का मुँह अपने आप उसके भाईजान की लुल्ली पर दब रहा था.

घर से पापा का फोन आया कि मौसी की लड़की की शादी है, तो तुम दोनों घर आ जाओ.

उस दिन में अपने कमरे में आ गया और खाना आदि के प्रबंध के बारे में सोचने लगा. मैंने उसके सर को पकड़ा और बालों को खींचते हुए ऊपर उठाने का प्रयास करने लगी ताकि हम चुदाई शुरू करें!पर वो मेरी चूत से हिलने को तैयार नहीं था. मेरे बार बार पूछने पर भाभी ने कहा- मैंने कभी गांड में लौड़ा नहीं लिया.

सेक्सी वीडियो जबर्दस्त 2021 मैं घर आया और आते ही जैसे भाभी को देखा, तो भाभी साड़ी बांध कर मस्त लग रही थीं. [emailprotected]हॉट लड़कियों की चुदाई स्टोरी का अगला भाग:अचानक मिली लड़की की सहेली को भी पेला- 5.

मैं धीरे धीरे अब आंटी की गांड में हाथ फेरने लगा और कूल्हे को दबाने लगा. अब तो मैं खुद को फातिमा से भी खूबसूरत महसूस कर रहा था या यूं कहिए कि कर रही थी. उसके दूध का स्वाद तो कुछ खास नहीं था लेकिन सेक्स के टाइम ये सब अच्छा लगता है.

हिंदी सेक्सी बीएफ देवर भाभी की

एक दिन मेरी सासू मां और उसके बेटे को उनके कोई निजी काम से एक दिन के लिए दिल्ली जाना पड़ा. वो बिजनेसमैन है, और उसने बहुत बार होटल में किसी कॉलगर्ल के साथ सेक्स किया है. मैं बहुत चाव से बड़ी बहन की चूत को चूस रहा था और छोटी बहन मेरे लंड बहुत अच्छे से चूस रही थी.

कुछ देर पहले मेरी तीनों उंगलियां उसकी चूत में कस गयी थीं, पर अब धीरे धीरे उसकी चूत खुल रही थी. ’मैंने पूछा- पहली बार उसी लौंडे ने पेला था न?वो हंस कर बोली- हां … मगर उसका वो छोटा सा था.

कोई 15 मिनट इस पोजीशन में चोदने के बाद मैंने उसे घोड़ी बनने को बोला.

रेशमा की कमर पर रखा हुआ मेरा हाथ मैं उसके सीने पर ले गया और उसका एक चूचा पकड़ कर जोर जोर से मसलने लगा. फिर मैंने आराम से उनके अंडरवियर को नीचे करने की कोशिश की तो उनका लंड 8 इंच का लंड दिखने लगा था. दोस्तो, उम्मीद करता हूं कि मेरी जिंदगी की ये दास्तान आप सभी को पसंद आई होगी.

हालाँकि शेखर कुछ इस तरह बंधा हुआ था कि बहुत कुछ तो नहीं कर सकता था लेकिन उसने आपे सिर को थोड़ा-बहुत हिला-डुला कर अपनी ज़ुबान की नोक को धारा की गांड के छेद से लगा ही दिया. मैं उसके दूध को जोर जोर से चूस रहा था और वो कामुक सिसकारियां ले रही थी- आह आंह भैया आंह और चूसो … आंह बहुत अच्छा लग रहा है और चूसो जोर से चूसो … बहुत मजा आ रहा है. उस वक्त मैं सोचने लगता हूँ कि किसी तरह इस मोटी चूची वाली की चूत चोदने मिल जाए तो मैं इसको अच्छी तरह से चोद दूं.

ये सुन कर दिल को तसल्ली हुई कि चलो कल भी इस खूबसूरत हसीना का दीदार करने का मौका मिलेगा.

चूत की चुदाई इंग्लिश बीएफ: मैं थोड़ी देर वैसे ही पड़ा रहा और जब उसका दर्द थोड़ा कम हुआ तो लंड को हिलाना शुरू कर दिया. [emailprotected]चुत गांड Xxx सैंडविच सेक्स कहानी का अगला भाग:प्राइवेट सेक्रेटरी की अदला बदली करके चुदाई- 4.

अब उन्होंने मुझे टेबल पर बैठा दिया और मेरे मम्मों पर लगा केक चाटने लगे और मेरे मेरे निप्पल्स को चूसने लगे. जैसे ही मैंने उसका कुरता नीचे खींचा, वैसे ही साबिरा के दोनों गोरे-गोरे चूचे उछल कर बाहर आ गए. उसने भी अब मेरे निक्कर में हाथ डाला और मेरा लंड पकड़ कर उसे दबाने लगी.

सुमैत्री ने मेरे लंड पर से कंडोम निकाला और बेड के साइड में नीचे छोड़ दिया.

मैंने उन्हें घोड़ी बनाया और गांड में तेल लगाकर धीरे धीरे मालिश करने लगा. मेरा लंड लोहे की सरिया की तरह टाइट हो गया था इसलिए भाभी चूत में लंड डालने में कामयाब हो गई. साबिरा मेरे नीचे पड़ी पड़ी अपनी सांसें काबू में कर रही थी और मैं आंख बंद करके इस चुदाई का आखिरी मजा लेते हुए उसके बदन को चूम रहा था.