काजल रघवानी के बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,भोजपुरी सेक्सी नंगा गाना

तस्वीर का शीर्षक ,

नंगी सेक्सी वीडियो कॉलेज: काजल रघवानी के बीएफ वीडियो, जैसे ही मैंने अपना हाथ उसके दूध पर रखा, उसने तुरंत मेरे होंठ अपने मुँह में ले लिए और हम दोनों ऐसे ही बहुत देर तक एक दूसरे के होंठ चूमते रहे.

सेक्सी वीडियो मूवी देहाती

वो नीचे से ही चाय व चिप्स लेकर ऊपर आ गयी और बोली- आ जाओ राज, साथ में चाय पीते हैं।भाभी मैं कम्बल से बाहर नहीं आने वाला। टेबल यहीं खिसका लो और आप भी कम्बल के अंदर आ जाओ. सरधा कपूर के सेक्सी वीडियोमैं भी उसके होंठ चूस रहा था, एक हाथ से उसके बूब्स दबा रहा था और एक से उसकी चूत में उंगली कर रहा था.

उसने अपनी आँखें खोली और उछलकर साइड में खड़ी हो गयी और जल्दी से एक ब्लाउज और लहँगा जो पीछे खूंटी पर टँगा था, पहन लिया।दादा … आप? अरे ये सब क्या हो रहा है?”रीना टाइम वेस्ट मत करो, मेरे साथ आज संबंध बना लो. कॉलेज की ब्लू पिक्चर सेक्सीफिर मैंने मैसेज किया कि नहाने के बाद वो अपने रूम में ही रहे और गद्दी बिछाये रखे.

मैंने उसकी चूची के निप्पल को चूसते हुए कहा- मुझे भोसड़ समझ रखा था क्या?इस पर वो बोली- तो रिचा को भी साथ बुला लूं?मैंने कहा- चुत लंड का कोई रिश्ता नहीं होता है.काजल रघवानी के बीएफ वीडियो: इस पोजीशन में धीरे धीरे करके मेरा पूरा लंड उसकी गांड में घुस गया था.

ऐसा ही एक चलन है सुहागरात के दिन यौनांगों पर मेंहदी या हिना का डिजाइन!प्रश्न- क्या शादी की पहली रात को अपने पति को रिझाने या सर्प्राइज़ देने के लिए या मोहित करने के लिए क्या मुझे अपने गुप्तांगों पर मेंहदी लगवानी चाहिए?उत्तर- सबसे पहले तो आप भूलें नहीं कि आप ऐसी संस्कृति का हिस्सा हैं जहां पर कामसूत्र का जन्म हुआ है.उसने मिलने की जगह फिक्स कर दी और कहा- मेरा दोस्त नया है … उसने अभी तक कुछ भी नहीं किया है, तो उसे थोड़ा सिखा भी देना.

ju सेक्सी वीडियो - काजल रघवानी के बीएफ वीडियो

चिन्ना- नहीं मेरी प्यारी बिटिया, तुझे चोदने का प्रोग्राम तो मैंने उसी दिन बना लिया था जिस दिन तू पहली बार मुझ से मिलने मेरे ऑफिस में आई थी.थोड़ी देर में मैंने शटर गिरने की आवाज सुनी और अगले ही पल मोहन भाई कमरे में आ गया.

हालांकि नसरीन दर्द से छटपटा रही थी और अपने आप को मुझसे छुड़वाने का प्रयास कर रही थी. काजल रघवानी के बीएफ वीडियो मैंने पंजाब की रहने वाली टीचर लड़की के साथ कैसे सेक्स सम्बन्ध बनाएं … पहले उसकी चर्चा कर लेता हूँ.

अब मैं भी अपनी मां के बदन के मजे …दोस्तो, मेरा नाम पवन है और मैं आपको एक कहानी बताना चाहता हूं जो मेरे और मेरी मां शीला (बदला हुआ नाम) के बारे में है.

काजल रघवानी के बीएफ वीडियो?

उसके बाद आप हाथों पर नारियल का तेल लगा कर शुष्क त्वचा होने से बचा सकते हैं. अपनी चुत में उंगली करने या लंड की मुठ मारने से पहले मुझे मेल करना न भूलें. उनसे मैंने पूछ लिया कि आपके घर पर कोई होगा तो क्या करेंगे?उन्होंने बताया कि वो घर पर अकेली ही हैं.

मैंने कहा- बहू उसका नाम है शालिनी!बहू बोली- वही न जो अपने घर से थोड़ा दूरी पर रहती है?मैंने कहा- हाँ बहू वही!बहू बोली- डैडी जी, वो तो काफी जवान है अभी. प्लीज मुझे पकड़ा दो मेरे कपड़े।जैसे ही मैं कपड़े देने के लिए दरवाजे की तरफ गया, तभी मुझसे हड़बड़ाहट में कपड़े नीचे गिर गए. मैं- तुम्हें 4 सालों से जानता हूँ … इतना तो समझता ही तुम्हारे बारे में … और मैं भी सहमत हूँ इस बात से … मैं भी नहीं चाहता कि हमारी दोस्ती में किसी भी तरह की दरार आये.

मैंने उसकी एक चूची को मुँह में दबा कर ताबड़तोड़ धक्के देना शुरू कर दिए थे. कुछ देर बाद वो मेरे चूतड़ों को दबाने लगा, तब भी मैंने कोई हरकत नहीं की, वैसे ही दम साधे सोती रही. और ऐसे ही मजाक मजाक में हम दोनों में बहुत अंदर की बातें भी होने लगी.

उसकी बात सुन कर करोना शर्मा कर मुस्कुरा दी और डाइनिंग टेबल पर बैठ कर खाना सर्व करने लगी. उनको इस हालत में देख कर मुझसे कंट्रोल करना मुश्किल हो रहा था और आज कुछ कर गुजरने की ठान कर मैंने अपने सारे कपड़े उतारे और बॉक्सर पहनकर आंटी के साथ ही बेड पर चढ़ गया.

सुहागरात के अगली सुबह जब मीठी मीठी मादक भोर में आप दोनों एक दूसरे के जिस्मों को उभरते दिन की हल्की रोशनी में देखेंगे तो उस समय आपके पति के पौरुष के लिए आपको और आपके जिस्म के अंगों को नजरअंदाज करना बहुत चुनौतीपूर्ण कार्य हो जायेगा.

रचना से मैंने पूछा- फिर कब दोगी?वह बोली- अभी जरा रुको,!रचना अभी कपड़े पहनने गई थी.

इसी दरम्यान मैंने नसरीन को लैपटॉप चलाना सीखने की सलाह दी और उससे कहा कि आज के दौर में कंप्यूटर सीखना कितना जरूरी है. बच्चेदानी के मुँह पर पड़ने वाली हर ठोकर करोना का मजा दुगना कर देती थी. उन्होंने मुझसे कहा- नहीं, मुझे तो तुम्हारी प्यारी सी चूत के अंदर ही करना है और मुझे मजा आने वाला है.

बाद में मैंने उससे लंड चूसने के लिए बोला, तो इस बार वो रंडी की राजी हो गई थी. सिम्मी के गाल पर बार-बार बालों के लट आते जिसे वो प्यार से अपने कान के पीछे ले जाती. मैंने उससे पूछा- शिप्रा मज़ा आ रहा है ना!उसने कहा- भाई काफी दिन से कोई बॉयफ्रेंड नहीं था … इसलिए मजबूरी में तुमसे करवाने को तैयार हुई, पर तुमने पूरा मज़ा दे दिया या.

फिर मैंने भाभी की सहेली को बेड पर लिटाया और उनकी टांगें अपने कंधे पर रखकर अपना लंड भाभी की चूत में डाल दिया और चुदाई करने लगा.

उनके मुंह से आह निकल रही थी गर्दन में किस करते करते!कुछ ही देर बाद हम दोनों ने एक दूसरे के कपड़े उतार दिए. वह धीरे- धीरे जीभ से कभी उसके दाएं निप्पल को छेड़ता, फिर उसके इर्द गिर्द सर्किल बनाता, कभी होंठों में दबा कर हल्के दबाव के साथ चुमला देता. मैं घर पर ज्यादा कपड़े नहीं पहनती हूं इसलिए मैंने बिना ब्रा के एक स्लीवलैस छोटा सा टॉप पहना था और छोटा सा लोअर, जो सिर्फ़ कूल्हे तक का था.

मैंने उससे अपनी मम्मी पापा को लाने का कहा, तो वो अगले दिन से देर से नहीं आया. क्योंकि इस वेलेंटाइन-डे पर मैंने एक ही दिन में दो अलग अलग पार्टनर के साथ अलग तरीके से एंजॉय किया. अब इस तरह से काम चलने वाला नहीं था, सो मैं अपने आपको ठीक करके बैठ गया.

अब तक हम लोग काफ़ी करीब आ गए थे … तो बात करते करते पता चला कि वो शादीशुदा है और उसका पति, एक इनवेस्टमेंट बैंकर है, जिसकी वजह से वो हमेशा ही बाहर टूर पर रहता है.

और फिर मैंने उनको पलट दिया और उनकी जांघों पर किस करने लगा, चाटने लगा. मैंने उसकी स्कर्ट को भी उतार दिया और साथ ही उसकी पैंटी भी उतार फेंकी। अब मेरा हाथ एक उसकी चूची पर था और दूसरे उसकी चूत को सहला रहा था।थोड़ी देर ऐसे ही मजे लेने के बाद फिर मैंने उसे अपने से अलग किया उसका नंगा गोरा चिकना बदन मेरे शरीर के सामने था.

काजल रघवानी के बीएफ वीडियो मैंने उनके स्तन के ऊपर जोर-जोर से किस करना शुरू कर दिया, वहाँ पर एक लाल निशान हो गया. वो ऊपर से मेरे लंड पर धक्के लगा रही थी मैं उसकी ताल में ताल मिलाकर नीचे से लंड को उसकी चूत में गचागच पेल रहा था.

काजल रघवानी के बीएफ वीडियो वो ट्रायल रुम वाले कमरे के पास गया और कहा- बताओ मेरी जान क्या कहना है?मैंने कहा- भैनचोद मां के लौड़े … जो तुमने दिन में किया था, उसकी मैंने वीडियो बना ली है और उसमें तुम दोनों भाई मेरी चुदाई कर रहे हो … सब क्लियर दिख रहा है, अब मैं पुलिस के पास जा रही हूं. उस वक्त मैं राजस्थान में कंप्यूटर सिखाता था और मैं एक कम्प्यूटर सेंटर में जॉब कर रहा था.

अनिल बोला- और पल्लवी, कॉलेज का पहला दिन कैसा गया?मैंने कहा- न ज्यादा अच्छा न बेकार, तुम बताओ बीवी वापस आई या नहीं?अनिल बोला- वो मादरचोद आना होगा तो आयेगी, मुझे उसकी जरूरत नहीं.

सेक्सी बीप्या

अब वो गाज़ियाबाद में रहती है। उसने अपना नंबर और सारे कॉन्टैक्ट बंद कर दिए हैं. वो मस्ती में बोल रही थी- आंह चोदो और तेज चोदो … फाड़ डालो मेरी चूत को और … सससीईईई सससीईई आह आह आह उह उह आह. कोई दो मिनट बाद मेरा लंड का रस लावा की तरह निकलने लगा और वो उसे पीती गयी.

मैंने उसके दिए हुए नंबर को देखा और सोचा कि उससे अभी ही बात कर लूं, पर किस तरह से बात शुरू करूंगा, ये मेरी समझ में ही नहीं आ रहा था. करीब दस मिनट मुँह में लंड लेने के बाद वो बोली- अब और ना तड़पाओ … जल्दी से मेरी आग बुझा दो. अभी विशु बूब्स से थोड़ा सा आगे बढ़ा और उसने मां के मुंह के पास लंड रख दिया.

कहानी में आगे बढ़ने से पहले मैं अपने परिवार का परिचय आपसे करवा देता हूँ.

बढ़ती खुमारी की वजह से करोना अब जानबूझकर यह क्रिया दोहराकर अपने टॉप मैं कैद अपनी चूचियों की घुण्डियां और जोर से चिन्ना की छाती के बालों से रगड़ने लगी. लेकिन जब कभी मुझे देर तक चुदाई करने का मन करता, तो मैं अपनी काम वाली भाभी को अपने दोस्त के घर ले जाता था और उसे दो तीन घंटे तक चोद कर मजा ले लेता था. मैंने भी उसके निप्पलों को खूब काटा और उसके सिक्स पैक को अपनी जीभ से चाटा और फिर उसके लंड को चूसना शुरू किया.

कुछ देर चूचों की मसाज करवाने के बाद अम्मी ने परवीन से कहा- चल, अब तू जा. जब भी मैं अपने मामा के यहां जाता था तो मामी की चूचियों को देख कर मेरा मन बेकाबू सा हो जाता था. तो लवली बताओ निकाल लूं क्या?”अरे नहीं नहीं, ज्यादा दर्द तो नहीं है.

मतलब वो मुझे आज भी दूर से तड़पाना चाह रही थी।मैंने भी सोचा कि चलो अभी तो इसने चुदना ही है. लंड जब चूत पर पड़ रहा था तो ऐसा लग रहा था मानो कोई मिसाइल आसमान से जमीन पर गिर रही हो.

थोड़ी देर लंड चुसवाने के बाद उसने कहा- अब उधर चल सोफे पर साली बहन की लौड़ी … कुतिया बन जा. मैंने कहा- मेरा निकलने वाला है, कहां निकालूं?वो बोली- अंदर नहीं, अंदर नहीं जाना चाहिए पानी. आकांक्षा फिर से तड़प उठी- आआईई ईईईई उफ़्फ़ मर गई उईई अह मां मर गयी … कुणाल बहुत दर्द हो रहा है … ओह्ह ईईई मां निकाल लो बाहर प्लीज.

मैं जोर जोर से लंड चुत में अन्दर बाहर करने लगा और उसके होंठों को चूस रहा था.

अनुभवी चिन्ना ने करोना के हावभाव देख कर झट लगाम अपने हाथ में लेते हुए करोना के दोनों कंधो को अपने हाथों से पकड़ कर उसे दबोच लिया. हां वो अलग बात है कि अब वो बढ़ती उम्र के साथ थोड़ी मोटी हो गयी हैं लेकिन उस वक्त गजब की माल थी. कुछ देर में मुझे लगा कि मेरा होने वाला है, तो मैंने लंड बाहर निकाल लिया.

शायद उसकी तमन्ना थी कि वो किसी शहरी लड़के को इस हालत में अपनी आंखों के सामने देखे. जरा कल्पना करें कि आपका होने वाला पति या शादी की सुहागरात के दिन आपका पति जब आपकी योनि की एक झलक पाने के लिए तरस रहा होता है और उसको आपके वहां पर एक खूबसूरत सा डिजाइन मिले या फिर ऐसी कला मिले जिसके बारे में उसने अंदाजा भी न लगाया हो तो कैसा रहे?मसलन इसमें आप अपने हबी या अपने पति के नाम का पहला अक्षर इस डिजाइन के बीच में बनवा कर उनको ज्यादा मोहित कर सकती हैं.

इतने से ही मेरी मम्मी जोर से चिल्ला पड़ीं- आह निकालो … बहुत दर्द कर रहा है. आह्ह … दोस्तो, उस पल में उसके होंठों को चूसने में जो आनंद था उसको याद करते ही मेरे लंड में तूफान सा आ जाता है. जब मैं उसकी स्कर्ट उठाने लगा, तो जैसे लग रहा था किसी दुल्हन का घूंघट उठा रहा हूँ.

सेक्सी पिक्चर bp

मैंने कहा- आराम से विशाल… आह्ह … धीरे करो बेटा, सब कुछ होगा लेकिन आहिस्ता-आहिस्ता।मेरी बात सुनकर वो रुक गया.

अब मैं भाभी की चूचियों को पी रहा था और लंड को चुत के इलाके में रगड़ रहा था. वो सिक्योरिटी गार्ड बोला- देखो ऐेसे इधर जाना मना है, यह गवर्नमेंट कॉलोनी है. उनको भी चुदने का मन करता है और वो बाहर वाले से ज्यादा किसी घर वाले से चुदना सुरक्षित समझती हैं.

उस दिन के बाद से अम्मी और परवीन अक्सर मेरे लंड को चूत में लेने लगी. मैंने पूछा- कैसा लग रहा है!तो उसने बोला कुछ नहीं और मेरे होंठों को अपने होंठों के बीच जोर से जकड़ लिया और चूसने लगी. सेक्सी विडियो हिंदी में बोलने वालीमैं भाईपना दिखाते हुए उसके पेट को दबाने लगा, जिसका उसने बिल्कुल भी विरोध नहीं किया.

उस दिन जब मैं बीच में ही चुपके से वापस आया तो वैसे ही पहले की तरह घर के सभी खिड़की और दरवाजे बंद थे. रूम में अंधेरा ही था और विशाल ने तुरंत अपना हाथ मेरे मुंह की ओर किया और मेरे मुंह को अपनी ओर करके मेरे होंठों को चूसने लगा.

मैं अपने कपड़े पहन कर सीधे अपनी सीट पर आ गयी और उन दोनों के लंड के अहसास को याद करने लगी. और ऐसे ही मजाक मजाक में हम दोनों में बहुत अंदर की बातें भी होने लगी. उसने चमन को कहा- चोली पर दोनों साइड में आधा आधा इंच तुरपाई कर दे, तब तक मैं इसके लहंगे की फिटिंग देखता हूं.

मैंने उसका एक बूब पकड़ा और दूसरे हाथ से उसके बाल पकड़ कर जोर जोर से चोदने लगा. हम दोनों जब भी मिलते हैं तो आंटी नये नये आसनों में मुझसे अपनी चूत चुदवाती है. तभी मेरी बहू जब पलटी तो मुझे उसके बूब्स और उसकी गुलाबी चूत सब दिखने लगी.

फिर मैंने भाभी को पीछे से झुका कर घोड़ी बना दिया और उनकी गांड को सहलाने लगा.

मैंने कल्पना भी नहीं की थी गैर मर्द की बीवी के साथ इस तरह से मस्ती करने में इतना मजा आने वाला है. प्रिय दोस्तो, मेरी ये सेक्स कहानी एक सच्ची घटना पर आधारित है, इसमें कुछ रोचकता डालने के लिए शब्द संकलन किया गया है, बाकी सब कुछ सत्य है.

वह तो बस इतना जानती थी कि उसे बहुत ज्यादा मजा आ रहा था, उसकी शर्मोहया अब धीरे-धीरे उसका साथ छोड़ रही थी. हम दोनों एक दूसरे को कस कर पकड़ा हुआ था और एक दूसरे की गर्मी निकालने की पूरी कोशिश कर रहे थे।कुछ ही देर के तूफान के बाद मैंने अपना सारा लावा उसकी चूत में भर दिया। भाभी की चूत मार कर बहुत ज्यादा मजा आया। महीने भर की कोशिश आज जाकर सफल हुई थी।जैसे ही मैंने अपना लंड उसकी चूत से निकाला तो दोनों का पानी चूत से बाहर आने लगा. कुछ माल भाभी के होंठों पर गिरा, कुछ चेहरे पर! और वे सारा वीर्य इधर उधर से साफ कर कर पी गई.

उसने इस बात पर बाकी की रजाई भी हटा दी और बोली- भैया आप भी न … मैं तो आपकी ही हूँ न … जब जी चाहे देखिये. दूध के दब जाने से उसकी उई … की आवाज निकल गई और मैंने अगले ही पल उसके दूध को छोड़ दिया. अबकी बार मैंने उसके लंड को एक बार जोर से आगे पीछे किया और उसके मस्त होते ही मैंने फिर से लंड से धक्का दे मारा.

काजल रघवानी के बीएफ वीडियो तभी मैंने अपना मुँह उसकी गांड पर लगा दिया और अपनी बहू की गांड चाटने लगा. उसके बाद सुमित ने अपने दोस्तों को बाइक से गरियाते हुए कहा- उतरो बेहनचोदो!और उसके दोस्त बेचारे उतर गए और कहने लगे- अच्छा बच्चू … लड़की मिली तो दोस्तों को भूल गए.

एक्सएक्सएक्स ह

पर वो ये कहते हुए ‘बाद में आऊंगी’ तेज़ी से सीढ़ियाँ उतरने लगी।मैंने उस लड़की से बहाना बना कर कहा- देखो किताब लेने आई थी पर भूल गयी. उसके बाद अनिल मेरे ऊपर चढ़ मुझे बहुत चोदा और कुछ देर दर्द होने के बाद मुझे भी मज़ा आ रहा था. वो बस तड़प रही थी, कभी मजे में और कभी दर्द में।उसके बाद नीचे की ओर जाते हुए मैंने उसकी नंगी कमर को सहलाया.

दीदी- मन तो कर रहा है कि तुझे एक तमाचा जड़ दूँ … लेकिन मार भी नहीं सकती. मैं नसरीन के चेहरे को ऊपर करके अपने होंठ नसरीन के होंठ पर रख कर किस करने लगा. सेक्सी भाभी के सेक्सी व्हिडीओवो देखने में कोई खास सुन्दर नहीं है, पर उसकी चूचियां और गांड काफी मोटी हैं.

मेरी इस कज़िन सिस्टर सेक्स स्टोरी पर आप कमेंट के जरिये भी अपने विचार रख सकते हैं.

इस तरह मैंने 5-6 बार लंड को धीरे धीरे अन्दर घुसेड़ने का प्रयास किया. मैं आपके इस रूम की सफाई कर रही थी तो मुझे बाहर गेट पर बेल सुनायी दी.

उनके पहनावे के कारण मैं यह जान गया था कि आंटी नीचे से पैन्टी नहीं पहनती हैं. उसने अपनी जीभ मां की चूत के अंदर डाल दी थी और वह अपने एक हाथ से मां की चूत के दाने को मसल रहा था. वो मुझसे आराम से पुश्त से टिकते हुए बोले- मुझे नॉनवेज ज्यादा पसंद आता है.

यही सोच सोच कर करोना का बुरा हाल था, उसके शरीर में अजीब सी संवेदनाएं महसूस होने लगीं, उसे लगा कि उसके निप्पल सख्त हो गए हैं और उसकी कुंवारी कच्ची चूत से कुछ गीला चिपचिपा पदार्थ निकल कर चड्डी को अपने रस में सराबोर कर रहा था।जब करोना ने अपने निप्पलों को छुआ तो उसे एक और सनसनी हुई.

निशु ने अपने नाखूनों से मेरी पीठ पर बहुत बार खरोंच कर नाखून गड़ा दिए थे … लेकिन इसमें भी मज़ा आ रहा था. इस दौरान मैं उसकी चुचियों को दबा कर हंस देती या उसकी चुत में उंगली कर देती थी. मैं बोला- अगर मैं आपसे प्यार करना चाहूँ … तो क्या आप मुझसे प्यार करोगी?वो बिंदास बोलीं- हां करूंगी न … लेकिन किसी को बताना मत.

सेक्सी पिक्चर सेक्स बीपीमैं सोच रहा था कि जितना मेरा मन सेक्स का कर रहा है, उतना ही मन दीदी का भी कर रहा होगा. तो उन्होंने मुझसे कहा कि अभी तो मुझे टाइम नहीं है। जैसे ही मैं फ्री होता हूं मैं आपको बताता हूं, मैं आ जाऊंगा.

देसी चुदाई हिंदी में

आगे देखिये क्या होता है?दादा, आप मुझे 34 नंबर की ब्रा और 95 नंबर की पैंटी दे दीजिए।” रीना शर्म से कांपती हुई आवाज़ में गिड़गिड़ाई।ठीक है, तुम्हारा कपसाइज़ क्या है?”पता नहीं ‘बी’ या ‘सी’ होगा।” रीना बहुत झुंझुला गयी. उसने जाते वक़्त कहा- मैं तुम्हें बाद में जरूर फ़ोन करूंगी … तुम बताना. हड़बड़ाहट में उल्टे सीधे बटनों पर हाथ मारने लगी जिस कारण लैपटॉप बंद नहीं हो पाया.

उस भाभी से कैसे मेरी सेटिंग हुई और कैसे मैंने रात में उसे ट्रेन में चोदा. मैंने कहा- कौन आ गया, कबाब में हड्डी?नीलम एक झटके में उठी और बोली- ये हनी है, घंटी बजाने की यह स्टाइल उसी की है. मुझसे अश्लील भाषा में बात करो, मुझे चोदो, मेरी चूत की धज्जियां उड़ा दो, मेरी चूचियां नोचो, काटो.

मैंने उसे पटाते हुए ब्रा ऊपर करने का बोला कि अच्छा खोलो मत … ऊपर कर लो. शरीर के छुपे हुए अंगों पर इस तरह के डिजाइन देखने वाले के मन में एक अलग ही रोमांच पैदा कर देते हैं. पहले मैं अपने बारे में बता दूँ, अभी मेरी उम्र 25 साल है और मैं लखनऊ में रहता हूं.

फिर वो बोली- अब डाल दीजिए डैडी जी और मेरी चूत की को ठंडा कर दीजिये. उसने फोन किया और बोली- आ जा तू मेरे घर … वो लड़का यहीं है … वो तुझे संतुष्ट कर देगा.

तभी मैंने सोचा कि थोड़ी कोशिश को आगे बढ़ाता हूँ, अगर होगा तो बात बनेगी … नहीं तो कोई बात नहीं.

मैंने उसे कहा- तुम यहीं रुको, मैं बाहर देख कर आता हूँ।उसके बाद मैं खेत की तरफ बाहर आया तो किनारे पर ज्योति थी, उसने मुझसे कहा- आप तो दीदी से मिल लिए, पर मुझे क्या मिला?मैंने ज्योति से कहा- जो मांगो. सेक्सी चुदाई वीडियो एचडी फिल्ममेरे जीवन में चुदाई का मुझे पहला अनुभव और आनंद मिला था जिसके बाद मुझे चूत चोदने का चस्का लग गया. माधुरी दीक्षित के सेक्सी शॉटमैंने फिर से उसको नीचे किया और किस करते हुए फिर से एक जोरदार शॉट मारा. मैंने उसका एक बूब पकड़ा और दूसरे हाथ से उसके बाल पकड़ कर जोर जोर से चोदने लगा.

पर मुझे इस चीज़ की बहुत अच्छे से समझ है क्योंकि स्कूल टाइम से ही मैं क्लास का टोपर रहा हूँ तो लड़कियाँ मेरे से बातें करती रहती थी … और आज भी मेरी स्कूल की लड़कियाँ मेरे संपर्क में हैं।ऐसी ही कॉलेज की एक दोस्त थी मेरी शिल्पा.

वो मस्ती में बोल रही थी- आंह चोदो और तेज चोदो … फाड़ डालो मेरी चूत को और … सससीईईई सससीईई आह आह आह उह उह आह. करीब आठ दस मिनट में मेरे लंड ने हिम्मत छोड़ दी और वो झड़ने को हो गया. शाम को मैंने मोहन भाई को फोन किया और कहा- मोहन भाई, आज बहुत मजा आया … मुझे आपसे कुछ बात करनी है … जरा अलग जाओ ना.

अब उसे यह डर सताने लगा था कि कुछ ही देर में उसकी चड्डी पूरी गीली होकर उसकी नाईट ड्रेस के लोअर को भी गीली कर देगी. जीभ लगते ही उसकी चूत के पानी का और आईसक्रीम का टेस्ट मुझे भी महसूस हुआ. एक दिन मैं अंजू के घर गया, अंजू, मेरा दामाद नरेश, सारिका व मेरे समधी समधन सब घर थे.

एक्सएक्सएक्स hindi video

जब मैंने अपने लंड की तरफ देखा तो वो बिल्कुल लाल हो गया था खून से सन कर!मीनू की चूत की सील टूट गई थी. चिन्ना की हरकतों और इन अश्लील बातों से करोना का दर्द अब कुछ कम होने लगा और उसकी जगह एक नई मस्ती ने ले ली थी. मैंने अपने दोस्त को फोन लगाया जो कि होटल में काम करता था।उसने कहा- कोई बात नहीं, मैं संभाल लूंगा.

उसी वक्त अंदर आकर चोद देता मुझे, तेरे अब्बा तो अब चोद नहीं पाते मुझे, तू ही मेरी चूत को लंड का सुख दे अब। चोद बेटा!मैंने अम्मी के कंधों को पकड़ कर उनकी चूत में लंड के धक्के लगाना शुरू कर दिया.

मैं उसके चेहरे और उसके होंठों को पागलों की तरह चूमने लगा और वो अपने मुँह से ‘सीई ससीईई सससीईईई.

मैंने देखा कि स्नेहा ही मुझे जगाने आई है और उसने कहा- रात में क्या सपना देख रहे थे? अभी 8 बज चुके हैं. हो सकता है इसी बीच के अंदर मधु ने किसी के साथ संबंध बना लिए हों!यह कहते हुए बलविंदर साहब थोड़ा सा उदास हो गए. ब्लैक सेक्सी गर्ल्समामी मेरे वीर्य को देख कर जोश में आ गयी और तेजी के साथ अपनी चूत में उंगली करने लगी.

उसके मुँह से कामुक सिसकारियां निकल रही थीं- ओह ओह अहा अहा … कितना अन्दर तक मजा दे रहा है. ध्यान रखना कि कोई देखे नहीं, मैं सबको खिला कर रात में सोने के लिए आऊंगी।मैं रात के खाना खा कर पूजा के साथ बातें करते हुए निधि के आने का इंतज़ार कर रहा था. मैंने गांड को थोड़ा चाट कर गीला किया और लंड अन्दर डालने की कोशिश करने लगा.

एक हफ्ते बाद मॉम और डैड को तीन दिन के लिए डैड के दोस्त के बेटे की शादी में जाना था. भाभी से ऐसा सुनने के बाद मैंने एक ही झटके में पूरा लंड उनकी गांड में पेल दिया.

तो हुआ यूं कि मेरी बहन, बुआ की लड़की और अंकल की लड़की तीनों बेड पर सोने लगीं.

पानी का गिलास भरते हुए मैंने मामी से पूछा- रात में आपको कुछ हुआ था क्या मामी?वो बोली- नहीं तो, मुझे क्या होने वाला था, ऐसा क्यों पूछ रहा है तू?मैंने कहा- पता नहीं, आपके रूम से कुछ दर्द भरी आवाजें आ रही थीं. 4 से 5 घण्टे लगेंगे आने में!मैं बोला- मैं अपने फ्रेंड के घर जाऊंगा, लेट आऊंगा मैं भी!तो उन्होंने कहा- ठीक है, ताला लगा देना. यह सुन कर करोना ने हाथों से ढका अपना चेहरा पीछे घुमा लिया और जोर- जोर से सिर हिलाते हुए बोली- नहीं- 2 … मुझे नहीं देखना आपको नँगा.

मारवाड़ी सेक्सी विडियो देखिए दीदी- मन तो कर रहा है कि तुझे एक तमाचा जड़ दूँ … लेकिन मार भी नहीं सकती. मैं धीरे धीरे आंटी की तरफ आकर्षित होने लगा था और उनके ख्यालों में खोकर मुठ मार लेता था.

अब करोना समझ चुकी कि वो बेचारी लड़की क्यों गिर पड़ी।मूतने के बाद चिन्ना ने हाथ में पकड़ कर लण्ड को ऊपर नीचे झटकते हुए साफ़ किया और सोने चला गया।करोना आज की सारी कार्यवाही की वजह से थकी होने के कारण और शायद जिंदगी में पहली बार झड़ने की वजह से तुरंत सो गई।उधर चिन्ना को पूरा यकीन था कि कबूतरी ने लण्ड का पूरा जायजा ले लिया है और लोहा पूरी तरह से गरम हो गया है. अवनी- तुझे कोई दिक्कत न हो तो मैं शुभ का ले लूं?रिचा ने कहा- मुझे क्या दिक्कत है … छेद तेरा है, तू किसी का भी ले ले. मैं उसके पास गया और काम निपटाकर वापस होने के लिए बाहर गली में खड़ा हो गया था.

सेक्सी फिल्म पूरी नंगी

दीदी की ब्रा बीच में आ रही थी, इसलिए अब दीदी को मैं नंगी करना चाह रहा था. मैं अपनी बहन की एक चूची को मुँह में तथा दूसरे को एक हाथ से दबाते हुए मजा के रहा था. आज यहां मैं वो दास्तान लिख रहा हूँ, जिसमें मेरे दोस्त की पत्नी ने किस तरह मुझे अपनी चुदाई करने को लेकर मुझे उकसाया.

मैंने उसकी एक चूची को मुँह में दबा कर ताबड़तोड़ धक्के देना शुरू कर दिए थे. मैंने उसे सीधा लिटाया और उसकी टांगें खोलकर अपना लंड उसकी चूत पर सेट किया और हल्का धक्का दिया.

उसकी चूत में मेरा लंड जैसे फंस सा गया था। धीरे-धीरे ही होंठों को चूसने और सहलाने पर उसका दर्द कम होता गया तो उसने भी मुझे अपनी बांहों में भर लिया.

मैं सोच रहा था कि आज तक कई लड़कों ने सपने में दीदी को चोदने के लिए मुठ मारी होगी, लेकिन आज मैं अपनी दीदी की इसी गर्म चुत में लंड घुसाने वाला हूँ. आप कैसी हो?वो फिर से मुस्कुराते और मम्मे तानते हुए बोलीं- तुम बताओ कि मैं कैसी हूँ?उनकी ये बात सुनकर मुझे लगा कि शायद भाभी संग कोई बात बन सकती है … तो मैं जरा खुल कर बोला कि आप तो बहुत सुन्दर हो. मैंने मुस्कुरा कर अपना सुबह का काम पूरा किया और तैयार होकर ऑफिस के लिए निकल गया.

मेरे साथ दरिंदगी करो, मैं बरसों की प्यासी हूँ, तेरे पापा कुछ नहीं कर पाते थे, मैं बहुत तड़पी हूँ. ” यह कहकर मैंने उसकी टी-शर्ट उतार दी उसने कोई भी विरोध नहीं किया।मैंने उसकी टीशर्ट उतार कर बेड पर फेंक दी उसके छोटे छोटे से गोरी गोरी सी चूचियां बहुत ही अच्छी लग रही थी मैं उसकी चूचियों को ब्रा के ऊपर से ही धीरे-धीरे करके दबाने लगा. और जब उन्होंने सेक्स किया तब पता चला कि उनका लिंग अपेक्षाकृत छोटा और पतला है.

मैंने मौका देख कर अपना लंड उसकी गांड में डालना चाहा … सुपारे ने एक बार फिर से छेद को चीरना चाहा, लेकिन दर्द के मारे उसने मेरा लंड अन्दर जाने ही नहीं दिया.

काजल रघवानी के बीएफ वीडियो: उसके बाद रानी की चूत पर सेट करके एक धक्के में मैंने अपना लंड रानी की गीली चूत में थोड़ा घुसा दिया. मेरा अब बहुत मन हो रहा था चुदाई का … तो मैंने रानी को बैड पर लिटा दिया.

मैं कॉलेज के लिए घर से निकला, तो देखा कि तो मेरी बाइक ही पंचर पड़ी थी. मैं रुका रहा और एक मिनट बाद धीरे धीरे अन्दर बाहर करते हुए लंड के झटके मारने लगा. अगर आप बाहर जाते हैं जैसे किसी बैंक में, दूकान पर, पोस्ट ऑफिस में कहीं भी तो वहाँ की किसी भी चीज को, मेज को, कुर्सी को मत छुएँ.

दो साल बीतने के बाद उसके पति की जॉब ऐसी जगह लगी जहां वह दोपहर के बाद ड्यूटी पर जाता है और रात में दो बजे घर वापस आता है.

हां मेरा भाई शुभम … हर बार पहले मेरे मम्मों पर अपना बड़ा लंड रगड़ता है. लेकिन बच्चों और बुजुर्गों के लिए, खासकर फेफड़े के रोग जैसे दमा (अस्थमा) से ग्रसित व्यक्तियों के लिए यह रोग ज्यादा खतरनाक हो सकता है. मैंने गुस्से से उसके हाथों को खींच दिया और उसकी तुरंत उसकी दोनों चूचियों को अपने हाथों में पकड़ लिया.