सेक्सी सेक्सी बीएफ चाहिए

छवि स्रोत,घोड़ा वाली सेक्स वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

मद्रास की बीएफ: सेक्सी सेक्सी बीएफ चाहिए, मैंने सोच लिया था कि आज तो इस मोटी आंटी को पटा कर देखना ही है, चाहे कुछ भी हो जाए.

इंडियन सेक्सी वीडियो फुल एचडी

मैं आपको एक बात बताती हूँ कि मेरा बॉयफ्रेंड है … पर आप किसी को मत बताना. सैक्स imageमैंने पूछा- अब कैसी है तबियत?तो उसने लिखा- तुम तो डॉक्टर हो, तो तुम्हें पता ही होगा कि दूसरे दिन भी थोड़ी बेचैनी रहती है.

ये ओरिजिनल नाप है … लड़कियां देखना चाहेंगी तो उन्हें दिखा भी सकता हूँ. सेक्सी फिल्म हिंदी चलने वालीबस उसी दिन से मेरे दिमाग और मेरे लंड ने चाची की चुत के बारे में सोचना चालू कर दिया था.

थोड़ी थोड़ी तो मेरी भी फट रही थी पर आज पता नहीं क्यों, हाथ आई हुई चूत को मैं दूर नहीं जाने देना चाहता था.सेक्सी सेक्सी बीएफ चाहिए: इस सबसे रेखा सह नहीं सकी और अपने कूल्हे उठा उठाकर मेरा साथ देने लगी.

आहह क्या मज़ा था … उसकी नर्म नर्म जांघों का!उसकी जांघ का स्पर्श पाकर ही जन्नत का मज़ा आ गया था.हमारे बीच जो भी बातें होंगी और हम दोनों का हर रिश्ता सिर्फ हम दोनों तक ही सीमित रहेगा हर्षद.

सुपर सेक्स ओपन - सेक्सी सेक्सी बीएफ चाहिए

फिर उसने मेरी शर्ट फाड़ कर मेरे बूब्स में अपना लंड फंसा दिया और रगड़ने लगा.जल्दी से नीचे जाकर मैंने लंड को धोया और सोचने लगा कि अगर अभी फिर से अन्दर चला गया तो शायद बात ना बने.

अब मुझसे एक पल भी रहा नहीं जा रहा था, मैंने धीरे से उसके कान में कहा- प्लीज विलियम फक मी … फक मी बेबी!उसने मेरे बड़े बड़े बूब्स को चूसना चालू कर दिया. सेक्सी सेक्सी बीएफ चाहिए मोनिका थी।रेखा मोनिका को लेकर सोफ़े पर पसर गयी।आशु ने मौका देख कर रेखा से कहा- आप लोग बात कीजिये, मैं लंच करके आता हूँ, एक घंटे में आ जाऊंगा।अब रेखा क्या कहती … उसने हाँ कह दी.

मैं- ठीक है भाभी, पर कोई दिक्कत तो नहीं होगी ना?भाभी- अरे कोई दिक्कत नहीं होगी.

सेक्सी सेक्सी बीएफ चाहिए?

फिर वो दोनों हंस दिए और खाली गिलास मुझे थमा कर वापिस टैंट लगाने लगे. जो रास्ता खुला रहता था, उसके बगल में बैठ जाओ तो पूरा घर साफ़ दिख जाता था. जिस प्रकार से वो मुझे छेड़ता और किसी को कुछ पता भी नहीं चलता, ये मुझे अन्दर तक खुश कर देता था.

मैंने दो मिनट बाद फिर से बोला- अब तो झड़ जा मेरी जान!वो बोला- बस दो मिनट और … तू बस एक बार फिर से चूस दे. देसी हाउस मेड सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी खाना बनाने वाली औरत को बिना किसी भूमिका के कमरे में लाकर चोद दिया. जब मैं अपना लंड रिया के मुँह की तरफ़ लाने लगा तो उसने लंड की टोपी पर बस एक चुम्बन देकर कहा- मुझे लंड चूसना अच्छा नहीं लगता है.

लेकिन जब मैं चंडीगढ़ पहुंचा तो पहले मैं उसके होटल में उससे मिलने गया. तभी मैं अच्छे से चैक करके दवाई से साफ कर पाऊंगी और मलहम भी अच्छे से लगा सकूँगी हर्षद. चाची ये सुनकर खुश हो गईं और बोलीं- चल मुझे आज कुंवारे लंड से चुदाई का मजा मिल जाएगा.

मेरा मन कर रहा था कि अभी उसके ऊपर चढ़ जाऊं और लंड उसकी चूत में डाल कर उसकी जोरदार चुदाई कर दूँ. थोड़ी देर रुकने के बाद जब भाबी जी का दर्द कम हुआ तो मैंने धक्के लगाना चालू कर दिया.

अब आगे इस पेशेंट डॉ पोर्न कहानी के अंतिम भाग में आपको एक विशेष मजा मिलेगा.

कुछ देर तक हम होंठों के रसपान में डूबे रहे और अब मैंने भी अपने कपड़े निकाल दिए.

वो मादक सिसकारियां लेने लगी- उम्म … उम्म … उम्म!मैं एक हाथ से उसकी एक चूची दबाता तो दूसरी चूसने लगता. फिर भी मैं हिम्मत करके रीटा से लिपट गया और उसके आम से रसीले मम्मों को दबाने लगा. मैंने अपना लंड बाहर निकाला और आंटी जल्दी से घुटनों के बल बैठ गईं, मेरा लंड दोबारा जोरों से अपने मुँह में लेकर चूसने लगीं.

अब शनाया ने हार्दिक के लंड को अपने मुँह में ले लिया और उसे चूसने चाटने लगी. मैं चाहती हूं कि जब मैं फेरे ले रही होऊं, तब मेरी चूत तुम्हारे स्पर्म से भरी हुई हो. हम जब शादी से फ़्री होकर निकले, तो उस रास्ते में पता नहीं चाची ने या तो जानबूझ कर या डर की वजह से खुद को मेरे पीछे चिपका लिया था.

मैंने आव देखा ना ताव … सीधे उनकी चूत पर पैंटी के ऊपर से ही हमला कर दिया और किसी आम की तरह चुत चूसने लगा.

वो रोने लगी और बोलने लगी- मैं कल जिम कैसे जा पाऊंगी, मेरी कल के एक्सरसाइज कैसे हो पाएगी अमित, कुछ करो … मुझे जल्दी से ठीक करो, मुझे कल जिम जाना है. सबसे पहले मैं अन्तर्वासना साइट को शुक्रिया अदा करना चाहता हूं जिसकी वजह से लाखों लोगों को अपने चरम सुख की प्राप्ति होती है और लोगों की कहानियां पढ़कर पाठक मजे लेते हैं. मैं घर आ गया और बाथरूम में जाकर उसको सोचते हुए आंख बंद कर, अपने लंड को हिलाने लगा.

पांच मिनट बाद मेरा लावा छूटने वाला था और चाची से पूछा कि माल किधर टपकाऊं?चाची ने कहा- अन्दर ही छोड़ दे, मैं गोली खा लूंगी. आई लव यू रेखा!ये कहते हुए मैंने अपने होंठ रेखा के मुलायम होंठों पर रख दिए. कुछ देर में शिखा ने फिर अपनी गांड उचकाना शुरू किया तो मैंने उसे घुमाकर 69 में कर लिया.

ये सेक्स कहानी मेरी और मेरी प्यारी मौसी की चूत की चुदाई की कहानी है.

रास्ते में मैंने उससे पूछा- फ़लक एक बात बताओ, आज तुमको इतना दर्द क्यों हुआ … और तुम्हारा खून भी निकला. ऐसा नहीं हैं कि उससे पहले मैंने खूबसूरत लड़कियां या आंटियां नहीं देखी थीं.

सेक्सी सेक्सी बीएफ चाहिए उन क्लिप्स को देखने का और अपनी वासना को भड़का कर शान्त रह जाने का सिलसिला चलने लगा. उन्होंने मुझसे कहा कि आज वे नहीं आएंगे, उन्हें कंपनी के काम से कहीं बाहर जाना पड़ रहा है.

सेक्सी सेक्सी बीएफ चाहिए राहुल कहने को मेरा दोस्त है लेकिन हम दोनों में भाइयों से ज्यादा प्यार है. पांच मिनट में ही रेखा ट्रे में से दो कप चाय और खाने के लिए बिस्कुट ले आयी और मेरे सामने ही तिपाई पर रख दिया.

वीना को दर्द होने लगा और वो चिल्लाने लगी- उम्म मम्ह आह आह आह साले चाचा आराम से कर … मैं कहीं भागी नहीं जा रही हूँ.

देहाती सेक्सी ब्लू फिल्म

पर मैं बहुत ही सीधा था, इतना कि उस समय तक मैंने एक भी गर्ल फ्रेंड नहीं बनाई थी. उसने धीरे-धीरे अपना लण्ड दोबारा से मेरे मुंह में हिला कर वीर्य पूरा गिरा दिया. यह देख डॉक्टर बोला- इन्हें अगर मैं अपने मुंह में नहीं लूंगा तो पूरा बिस्तर आप खराब कर देंगी.

एक साल पहले मेरी मम्मी का फिगर 36-34-38 का था पर अभी उनकी कमर घटकर करीब 28 की हो गयी थी. अन्दर घुसते ही गेट बंद करके मैंने उनको पीछे से कसके पकड़ लिया और उनको चूमने लगा, उनके दूध दबाने लगा. अपना सिर भाभी के कंधे पर झुकाया तो उन्होंने भी अपना सिर मेरे कंधे पर झुका दिया.

उसने एक दो बार मुझसे पूछा भी कि तुम श्रेया मैडम के साथ क्या बात करते रहते हो.

अपनी गांड हाथों से फैला ले … और बोल कि मालिक आइए और मेरी गांड मारने का मजा लीजिये. चाची मेरे लंड को दबाती हुई बोलीं- ये आज तेरा लंड बड़ा बड़ा सा और मोटा क्यों लग रहा है. मैंने सोचा कि चलो सॉफ्टवेयर देखने के साथ साथ श्रेया के साथ थोड़ा फ़्लर्ट भी कर लूंगा.

अब मेरा हाथ उनकी टांगों में और अच्छी तरह से फंस गया था जिस वजह से मम्मी की नींद खुल गयी. उधर एक होटल में चैकइन करके मैंने उसे फोन किया कि मैं किस होटल में रुका हूँ. ‘यसस्स् आंह यसस्स रोहित … ऐसे ही आआह्ह्ह रोहित मेरी ज़ान … आंह प्लीज़ और तेज और तेज और तेज्ज …’वो एकदम से तड़प उठी.

थोड़ी देर यूं ही आराम आराम से चोदने के बाद मैंने अपनी स्पीड थोड़ी तेज़ कर दी और जोर जोर से उसकी चूत में अपना लंड अन्दर बाहर करने लगा. घचाघच लंड अन्दर बाहर जाने के कारण उसका चूतरस हम दोनों की जांघें गीली करने लगा था.

मेरी पिछली Xxx कहानीकोचिंग क्लास की लड़की ने मुझे पटा लियाअंतर्वासना पर प्रकाशित हुई थी. मैंने शिल्पा से कहा- कुछ बोलो अपने बारे में!शिल्पा बोली- क्या बताऊं?मैंने कहा- मैं जो पूछूंगा, सच बताओगी?शिल्पा बोली- हां ठीक है, पूछो. Xxx एनल बैक सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने होटल के कमरे में एक भाभी की गांड तेल लगा कर मारी.

दोस्तो, मेरी किस्मत भी ऐसी कि जिससे मुझे प्यार हुआ, वो मेरे मामा का लड़का है.

कभी कभी वो कहते हैं ना कि ‘फर्स्ट इम्प्रेशन इज लास्ट इम्प्रैशन …’इस कहावत की वजह से कुछ लोग मेरे लिए बुरा विचार बना लेते हैं. चूत के गीलेपन से लंड भी गीला हो रहा था जिस वजह से सरिता आराम से लंड चूत में अन्दर बाहर कर रही थी और मजे ले रही थी. कभी पूरा का पूरा लंड मुँह में ले लेतीं, तो कभी सुपारे पर जीभ फेरने लगतीं.

समीर मेरे पीछे पीछे कमरे में आ गया और मुझसे बोला- बाहर क्यों नहीं चल रही हो?मैंने मना कर दिया तो वो मेरा हाथ पकड़ कर खींचने लगा और कहने लगा- चलो यार बाहर टीवी देखने चलो. मैंने भी मुस्कुरा कर तौलिया उठा कर एक तरफ रखी और अपने कपड़े पहन लिए.

यहां भी बस पर आने वाली 15-16 औरतों के बीच, मैं एक अकेला मर्द अपनी बेटी को छोड़ने आता हूँ. मैगी खाते समय रिया मेरी गोद में बैठी हुई थी, तो बीच बीच में मैं कभी उसके मम्मे दबा देता तो कभी उसकी चुत में उंगली कर देता. रुचिता मेरे करीब आई और बिना कुछ बोले मेरी बाइक पर गांड उचका कर बैठ गई.

इंडियन ब्लू पिक्चर हिंदी में

मेरे पापा एक बिजनेसमैन हैं और वो अपने काम के चलते ज्यादतर बाहर ही रहते हैं.

जब वो नीचे झुकती तो उसकी ब्रा में कसे हुए सेक्सी चूचे मुझे दिख रहे थे. आशिमा दीदी ने मेरी जींस की जिप खोली और मेरे लंड को टटोल कर बाहर निकाल लिया. रुचिता मेरे करीब आई और बिना कुछ बोले मेरी बाइक पर गांड उचका कर बैठ गई.

मैंने उनको मैसेज किया तो बोलीं- अरे यार तेरे जीजा जी की कॉल आ गयी थी. मैंने प्राची को कॉल किया तो उसने बताया कि अभी वो ब्यूटी पार्लर में है. స్నేహ సెక్స్ ఫొటోస్गीली चूत और गीला लंड होने के कारण, दोनों की घर्षण की कामुक पचा पच फच पचा पच की आवाजें निकलने लगी थीं.

उसकी हालत देख कर साफ़ समझ आ रहा था कि ये अपनी बीवी की प्यास नहीं बुझा पाता होगा. मैं बोली- मुझे नींद नहीं आ रही, मुझे यहीं सोना है तुम दोनों के साथ.

लेकिन सामने का यह पहला अनुभव था कि जब रिया ने मेरे सुपाड़े को रगड़ा और उसको चाट लिया।मैं एक बार फिर घुटने के बल आया और उसकी स्कर्ट उसके जिस्म से अलग कर दिया।रिया ने नीचे कुछ नहीं पहना था, उसकी चूत इतनी साफ और चिकनी दिख रही थी, जैसे ब्लू फिल्म वाली लड़कियों की चूत हो।मेरे हाथ अपने आप उसकी चूत पर फिसल गये।मैं उसकी चूत को सहलाने लगा और रिया सिसकारियाँ लेने लगी।फिर मैंने रिया को पीछे की तरफ घुमाया. कुछ ही देर बाद उसे मजा आने लगा तो वह गांड उठा उठा कर मेरा साथ देने लगी. चुदाई के बाद मैंने उससे चाची के बारे में बात की, तो वो आंख दबा कर हंसने लगी.

ये कहकर मौसी मेरे होंठों को चूसने लगीं और मैं भी पागलों की तरह और ज़ोर ज़ोर से धक्के मारने लगा. पहली बार रेखा पराए मर्द के होंठों का स्पर्श अपनी गुलाबी होंठों पर महसूस कर रही थी तो वो कामुकता से सिहर उठी. उन्होंने बोला- उधर कैसे?मैंने बोला कि रात को 2-3 बजे का टाइम ऐसा होता है कि सब लोग बहुत गहरी नींद में सोए रहते हैं और आपकी विंग में तो अभी आपके और आपके नीचे वाले फैमिली के अलावा और कोई है नहीं.

अब मेरा भाई भी इस बात को समझ चुका था कि मैं समीर से चुदना चाहती हूँ.

मैंने मुस्कुराते हुए शर्म से सर नीचे कर लिया और उसको बैठने को बोला. और फिर लगे फचाफच चोदने! मुझे ऊपर की ओर उछाल उछाल कर!मेरे दोनों दूध हवा में उछलने लगे।मैंने अपने दोनों हाथ उनके कंधे पर रखे हुए थे और उनका लन्ड मेरे चूत की दीवारों पर रगड़ खाते हुए अंदर बाहर हो रहा था.

बच्चे साथ खड़े रहते और हम एक दूसरे से कुछ हल्की फुल्की बातें कर लेते. मैंने ऐसे ही नीचे झुककर रेखा को बेड पर लिटाया और अपने दोनों हाथों से उसके स्तन सहलाने लगा. ये सुनकर विलास ने अपने थूक से मेरा पूरा लंड लबालब कर दिया और आहिस्ता आहिस्ता अपने मुँह में लेने लगा.

तो मुझे पहली चूत कैसे मिली, पढ़ें इस गर्म लड़की की लोकल सेक्स कहानी में!दिल्ली यूनिवर्सिटी से मैं बी. जैसे जैसे मेरी उंगलियां चूत में अन्दर बाहर हो रही थीं, वैसे वैसे शिल्पा की सिसकारियां भी बढ़ती जा रही थीं. मैं मन ही मन ये सोच कर खुश था कि शायद आज रात रंगीन होने वाली है, पर मैं डर भी रहा था कि अगर कुछ उल्टा हो गया, तो मेरी वाट लग जाएगी.

सेक्सी सेक्सी बीएफ चाहिए चाची- अब तेरी मम्मी को बोल कर तेरी शादी करनी पड़ेगी, फिर करना उसके साथ, जो तुझे करना है. फिर उसने कब मेरे होंठों से अपने होंठ मिला दिए और मुझे चूसने चूमने लगा, कुछ पता ही न चला.

सन्नी लियोन xxx

मैंने उनसे कहा- ठीक है, आप अपना काम खत्म कर लीजिए और जब आप फ्री हो जाओ, तब आ जाना. क्या यहीं खड़े रहेंगे!मैं थोड़ा सा हिल गया और अपने आपको संभालते हुए बोला- हंहा हाह … हां भाभी जी. मैं पागलों की तरह चुत चाट रहा था और दोनों हाथों से मॉम की चूचियों को दबा रहा था.

मेरे परिवार में एक बड़ा भाई, मैं और दो छोटी बहनों के साथ मेरी मम्मी रहती हैं. सेक्सी मौसी की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैं और मौसी को एक साथ किराए के कमरे में रहने का मौक़ा मिला. रोमांटिक सेक्सी इंडियनमैंने भी जल्दी से लंड निकाल कर मेरी मौसी की बेटी के मुँह में दे दिया.

मैंने उसकी एक टांग को उठा कर अपने कंधे पर रख लिया और उसकी चुदाई को जारी रखी.

अब मैंने लंड अन्दर बाहर करने की गति को बढ़ाया तो सरिता भी अपनी गांड उठा उठा कर लंड अन्दर लेने की कोशिश करने लगी थी. मैंने रात में एक बार फिर से सेक्सी भाभी की चुदाई की प्रतीक्षा में मुठ मारी.

आज तक मैंने उसको देख कर अपने मन में कभी कुछ गलत ख्याल नहीं लाया था क्योंकि वो जब भी मुझे दिखती थी तो एक साधारण सा सलवार सूट पहनी हुई दिखाई देती थी. उसे बहुत दर्द हो रहा था तो मैं ऐसे ही रुक गया और उसे किस करने लगा, उसके मम्मों को दबाने लगा. इस बार ज्यादा दर्द हुआ तो पत्नी ने ऊपर खिसक कर एकदम से मेरा लंड चुत से बाहर निकाल दिया.

उसने कोई विरोध नहीं किया तो मैं और दबाने लगा।मुग्धा- अब उठ जाइये।उसने अपने पैरों को मोड़ लिया।मैं उसके दोनों बूब्स पे हाथ रखे हुये हल्का सा उठा और फिर गिर गया।तभी वो बोली- आज यहीं रहने का मन है क्या?मैं घबराते हुए हटा.

भाभी ने और बताया- ऐसे ही झगड़ों के चलते एक दिन घर में जायदाद का बंटवारा हो गया. ये सुनकर मैं जोश में आ गया और अपने दोनों हाथों की उंगलियों से उसकी चूत की दोनों पंखुड़ियों को दोनों तरफ फैलाने लगा. ये दर्द होता है और खून भी निकलता है। अब आराम आराम से करोगी तो दर्द भी ठीक हो जाएगा.

सेक्सी फिल्म भाभीमैं भी जब भी, जैसा भी मौका देख कर उसके बदन की, उसकी आंखों की मुस्कराहट की किसी ना बहाने तारीफ़ कर ही देता. नाश्ता, चाय खत्म करने के बाद हम सब वहीं पर बैठ गए और इधर उधर की बातें करने लगे.

हॉट बफ वीडियो

मैंने कहा- सब्र रख जान … नहीं तो अभी किसी गड्डे में ले जाकर चोद दूंगा. थोड़ी देर बाद वह मेरे लिए केले का शेक बना कर ले आई क्योंकि निशा को पता था कि मैं जिन से जाने के बाद घर पर केले का शेक पीता हूं. इतना सुनते ही धीरू ने मुझे खड़ा किया और दीवार से सटा दिया, मेरी गांड से नाइटी और पैंटी हटाई, थोड़ा तेल लगाया और अपना लौड़ा रगड़ने लगे.

मैंने मिनी के ऊपर लेट कर उसके माथे पर किस किया, उसकी आंखों को किस किया और उसके आंसू को चाट गया. नीरजा ने मेरे सीने को देखते हुए कहा- मामा बहुत देर लगाई नहाने में!मैंने कहा- हां, मैं आराम से ही नहाता हूं. लेकिन मैं अपने परिवार के साथ रहता था और हरियाणा के घरों के माहौल से आप सभी परिचित ना हों, तो बताना चाहूंगा कि अधिकांश परिजन बहुत सख्त होते हैं.

मेरी चूत जितनी ज्यादा गीली हो गयी थी, गला उतना ही ज्यादा सूख गया था. मेरी चूत चुहक चूहक करने लगी और अंदर से गीली हो गयी।आह … आए … उफ आह …” मेरे अंदर आग सी लग रही थी. मैंने तब टालने के लिए बोल दिया- हां हां जानू … मैं तुमसे जरूर शादी करूंगा.

हम दोनों पसीने में भीग गए थे लेकिन फिर भी मैं शिल्पा की चुदाई किए जा रहा था. इससे वो सीत्कार भरने लगी- आंह … इस्स!अब मैं उसकी पैंटी की तरफ बढ़ रहा था.

मैंने उन दोनों से पूछा- अब निकलूँ?तभी भाभी मुस्कुराकर बोली- हां अब निकलो देवर जी.

मुझे पहली बार किसी गैर महिला ने गले लगाया था, वो भी बीच सड़क पर, जो मुझे बेहद अच्छा महसूस हो रहा था. घोड़ा वाली सेक्सी पिक्चरकभी कभी वो ज्यादा ऊपर उछलती जिससे मेरा पूरा लंड बाहर आ जाता और एक झटके में अन्दर घुस जाता तो वो चिल्ला पड़ती. सुन लाडकी सासरचीसौम्या डार्लिंग की चूत के लिए चटवाने का शायद ये पहला अहसास था इसीलिए वो लगभग दस मिनट में ही झड़ गई. वे हंसे- अच्छा बीवी के मारे इधर उधर मुँह मारने में गांड फटती है, कब शादी हुई?रनवीर- छह माह पहले.

मेरी नजरें भी मुकेश को यहां वहां देखने लगी लेकिन वो कहीं नहीं दिखा.

इतना सुनकर मेरी चाची ने मेरे अंडरवियर में अपना हाथ डाला और लंड पकड़ लिया. वैसे ही मैं रेखा के ऊपर झुक गया और उसके होंठों को चूसकर कहा- रेखा थोड़ी तकलीफ तो सहनी पड़ेगी तुम्हें … मैं आहिस्ता आहिस्ता ही डालूंगा. मेरे दिमाग में चाची के लिए कभी कोई गलत सोच नहीं थी और ना ही मैंने कभी ऐसा सोचा था.

मैंने कहा- अरे वाह … वो कब चला गया?नीरजा- वो अभी एक महीने पहले ही तो गया है. चुदायी की आग में हम दोनों ही जल रहे थे और आज इस आग को शांत करने का समय आ गया था. मैंने भी लेटे लेटे चुत को अपने मुँह में भर लिया और मेरी जीभ फिर से किसी कुत्ते की तरह उसकी चुत में चलने लगी.

ओपन सेक्स बीपी

लेकिन मैं काम में बिजी था इसलिए कॉल नहीं उठाया।जेठ जी कुर्सी में बैठ गए और मैंने खाना लगा दिया. लण्ड के वीर्य से मेरा पूरा मुँह भर चुका था और मैं चाहते हुए भी मुंह नहीं खोल पा रही थी … मैं सांस नहीं ले पा रही थी. तो हर्ष ने अपनी जीभ से कुछ थूक नीचे सरकाया और अपनी एक उंगली नेहा की गांड में भी कर दी।नेहा कसमसाई पर फिर उसको मजा आने लगा।हर्ष पिला पड़ा था उसकी चूत और गांड के छेद पर!नेहा की चुसाई इतनी असरदार थी कि अब हर्ष को लगने लगा कि अगर उसने अपने को नेहा से नहीं छुड़ाया तो उसका लंड तो नेहा के मुंह में ही खाली हो जाएगा।उसने नेहा से कहा- अब मुझे ऊपर आने दो.

मोहन ने रवि को बताया कि वह बट प्लग लगाकर 4- 5 घंटे तक रहे, गांड का छेद थोड़ा ढीला हो जाएगा.

मैंने भाभी को मार्केट का सामान दिया तो उनकी नज़र मेरे पैंट पर ही टिक गयी क्योंकि मेरा लंड पैंट फाड़कर बाहर आना चाह रहा था और नव्या भाभी की चूत में जाना चाह रहा था.

उसने कहा- अम्मी आप भी?अम्मी ने कहा- अरे तुम भी!मैंने खाला को थैंक्स बोला. शायद सरिता भी वो सुनहरा दिन और सुनहरे पल याद करके ही मेरे पास आयी थी. संतरा की गोलीमैं उम्मीद करता हूं कि आप जब इस Xxx इंडियन भाभी की कहानी का अगला भाग पढ़ेंगे, तो वासना के सागर में गोते लगाएंगे.

मौत के कुंए का खेल जैसे ही चालू हुआ, तो मुकेश ने फिर से अपना हाथ मेरी गांड पर रख दिया और मेरी गांड को दबाने लगा. इससे उनको भी मजा आने लगा और वो मेरे 8-9 झटकों में ही झड़ने को हो गईं. बस में सिर्फ 8-10 सवारियां और थी।हम दोनों पीछे की सीट पर बैठ गए।बस चल पड़ी थी ड्राइवर ने लाइट बंद कर दी।नेहा मुझे बार बार छूने की कोशीश कर रही थी।कुछ देर बाद नेहा मुझे बोली- मौसा जी, मुझे नीद आ रही है।मैं बोला- सो जा फिर!जनवरी का महीना था। ठण्ड बहुत पड़ रही थी.

मेरी पिछली कहानी थी:जेठ जी का लंड कर लिया अपनी चूत के नामआज की कहानी मुझे मेरी एक महिला मित्र ने भेजी है. मैंने जल्दी ही मौके को संभालने की कोशिश की और बच्चों से बातें करने लगा.

तब विशाल ने रवि से पूछा- मज़ा आया?रवि बोला- बहुत … और आपको?विशाल बोला- तुमने मुझे खुश कर दिया.

मौसी- तेरी मम्मी को बताऊं ये सब कि तू अभी क्या कर रहा था?मैं- सॉरी मौसी, प्लीज़ मम्मी को मत बताना … सॉरी. मैंने देखा तो वो लोअर और टी-शर्ट में बेहद खूबसूरत और सेक्सी लग रही थी. वो दिखने में सुंदर, कद साढ़े पांच फिट और फिगर 34-30-36 का, बाहर निकले कूल्हे, बहुत ही सेक्सी फिगर.

साथ निभाना साथिया हिंदी में कभी मैं उसकी बायीं तरफ वाली वाली चूची को चूस रहा था और कभी दायीं तरफ वाली।फिर मैंने उसके पेट पर किस करना शुरू कर दिया और उसकी नाभि में जीभ डालने लगा. मैं अन्तर्वासना सेक्स कहानी की साइट का रेग्युलर पाठक हूँ और यह मेरी बहुत मनपसंद साइट है.

मैं उनका दर्द समझता था क्योंकि भैया के छोटे लंड से चुदने की वजह से उनकी चूत एकदम टाइट थी और मेरे लंबे लंड को तो बड़ी जगह चाहिए थी. यह देवर भाभी की सेक्सी स्टोरी उन दिनों की है जब मुझे बीटेक के लिए दिल्ली के एक आईआईटी कॉलेज में दाखिला मिल गया था. मेरे बालों में मौसी हाथ घुमाने लगीं और मेरे सिर को अपने मम्मों पर ज़ोर ज़ोर से दबाने लगीं.

हॉट पोर्न वीडियोस

मैंने अपना लोवर और अंडरवियर उतारा और उसे इशारे से लंड चूसने के लिए कहा. बस मैं तो यही सोच रहा था कि इन 3 दिनों में तो इसकी गांड फाड़ कर रहूँगा. भाभी एकदम से लंड का हमला सहन नहीं कर सकीं और चिल्लाने लगीं- आंह मर गई भोसड़ी के मां चोद दी … साले हरामी लंड बाहर निकाल!उन्होंने मुझसे छूटने का प्रयास शुरू कर दिया.

मैंने सोच लिया था कि अब मैं इसको चोद कर रहूंगा … क्योंकि वीना जैसी जवान और खूबसूरत लड़की लड़की बहुत ही नसीब से मिलती है. अब आगे लेडी डॉक्टर पोर्न स्टोरी:अब मैं अपनी जीभ रेखा की चूत में और गहराई में डालकर घुमाने लगा.

माया दीदी- क्यों मेरे मासूम राजू … अपनी अनीता के पति बनोगे?मैं लजा गया और मैंने अपना सर झुका लिया.

मैंने कहा क्या हुआ … चुप क्यों हो गई?वो बोली- तुम मेरी जान लेकर रहोगे. सही लग रही है न?उसने जैसे ही मुझे देखा, मैं आगे की तरफ झुककर खड़ी हो गई. मैंने फिर से चाची को बेड पर पटक लिया और उनके 34 बी के चूचे दबाते हुए उनकी चूत पर हाथ फेरने लगा.

इस तरह की चुदाई में शिल्पा की हालत ज्यादा खराब हो रही थी क्योंकि लंड पूरा जड़ तक जा रहा था जिससे उसको दर्द हो रहा था. नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम देव है और मेरा टेक्सटाइल का बिज़नेस है।मेरा कद 6 फुट है और कसरत करने से अच्छी बॉडी बना रखी है।मेरी उम्र 32 वर्ष है। मेरी शादी की बात चल रही थी मेरे पापा के एक दोस्त ने वो रिश्ता बताया था।फिर एक होटल में हम दोनों के परिवार का मिलना हुआ।वहीं मैंने प्रीति को पहली बार देखा।मेरे घर में लड़की सभी को पसंद थी और मुझे भी!वो बिल्कुल परी लग रही थी. मैं इतने मजे में था कि कुछ ही मिनट में ही मैं सौम्या के मुँह में झड़ गया.

इससे मुझे बेहद सनसनी होने लगी और ऐसा लगने लगा कि मैं जल्दी से इसका लंड अपनी चुत में ले लूं.

सेक्सी सेक्सी बीएफ चाहिए: मुझे लग रहा था कि वो जल्दी से मुझे बेड पर लेटा दे और अपना काम चालू कर दे. मैंने कहा- हां रेखा, मेरा लंड भी बहुत महीनों से प्यासा था इसलिए इतना सारा निकला है.

उसके होठों के अहसास से मेरे बदन में बिजलियाँ सी दौड़ने लगी, मानो मैं किसी जन्नत में पहुंच चुका था।यह अहसास बहुत ही खास और सबसे अलग था. मैंने देर न करते हुए सोनिया से कहा- सोनिया, अब मुझे तुम्हें चोदना है. फिर मैंने देखा कि उसकी पैंटी पहले से ही काफी गीली हो गई है तो मैंने पैंटी की साइड में किस करना शुरू कर दिया.

आगे क्या हुआ?दोस्तो, यह कहानी मेरे साथ हुई सच्ची घटनाओं पर आधारित है। कहानी थोड़ी लंबी है क्योंकि यह कहानी मेरी कॉलेज लाइफ के 3 साल के अनुभवों की है।फर्स्ट टाइम लव स्टोरी को मनोरंजक बनाए रखने के लिए कल्पनाओं का इस्तेमाल भी किया गया है।चलिए शुरू करते हैं.

जब आपने मेरा लंड पकड़ा था न, तभी से मैं आपको चोदने के बारे में सोचने लगा था. मैं सोचता ही रहता था कि आखिर कब इस जिस्म का सुख ले पाऊंगा और अचानक वो दिन आ गया. छोटा लड़का पूना में रहता था और बड़ा लड़का अक्सर अपने बूढ़े बाप के साथ खेत के काम के लिए पास के गांव चला जाता था.