सेक्सी बीएफ पिक्चर ब्लू

छवि स्रोत,assistant बीएफ वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

कोठारी सेक्सी वीडियो: सेक्सी बीएफ पिक्चर ब्लू, भाभी- नहीं … समझता क्या है तू अपने आप को … मादरचोद!इतने में भाभी ने मेरी ठुड्डी पकड़ कर मेरे सूखे होंठों को अपने दोनों होंठों से ढक दिया.

नई-नई लड़कियों की बीएफ सेक्सी

मयंक इशारा मिलते ही लंड को संगीता के गांड की तरफ ले गया और गांड के छेद पर लंड रख दिया; फिर धीरे से घुसाने लगा. भोजपुरी हिंदी सेक्स बीएफवो इसलिए नहीं लिख सका क्योंकि मैं फर्जी सेक्स कहानी नहीं लिख सकता और न ही मेरे हाथ कुछ बनावटी लिख पाते हैं.

इस सब से हम दोनों अनजान थे लेकिन एक सप्ताह ही बीता होगा कि एक दिन विवेक ने दोपहर को मुझे इशारा करके पीछे जाने को कहा. हिंदी बीएफ डॉगफिर मैंने सोचा कि ये ऐसे मुझे चोदने नहीं देंगी, अब मुझे ही कुछ करना होगा.

दोस्तो, मेरे पास चुदाई की बहुत सारी कहानियां हैं, लेकिन ये वाली छोटी चूत वाली सेक्स कहानी आपको कैसी लगी, आप जरूर बताएं.सेक्सी बीएफ पिक्चर ब्लू: ले देख कैसे निचोड़ा है तेरी बहन को!ये कह कर मैंने पूरी बेशर्मी के साथ अपना गाउन उतार दिया और बोली- देख तेरे दोनों जीजाओं ने तेरी जिज्जी को हर तरफ अच्छे से चोद कर निचोड़ दिया है.

उसकी ये हालत देखकर मेरे अंदर वासना की लहर और ज्यादा तेज उठने लगी थी.फ़लक की चूचियाँ शर्ट से लगभग बाहर थीं क्योंकि शर्ट के ऊपर के तीन बटन खुले थे जो बंद ही नहीं हो रहे थे.

बीएफ सेक्सी हिंदी बोलो - सेक्सी बीएफ पिक्चर ब्लू

मैं बिस्तर पर फड़फड़ाने लगी। जेठ जी मेरी चूत का कोना कोना चाट रहे थे और मम्मों को निचोड़ रहे थे।अहमद मेरी चूत को कभी नहीं चाटता था.हालांकि मेरा भी पहली बार का मामला था तो मैंने भी मन बना लिया था कि साली की चुत तो चोदनी ही है … अब चाहे ये रोये या हंसे.

यहां एक बात दूं कि मैंने आज तक जितनी भी चुत चोदी हैं, उसमें सबसे मस्त चुदाई यही वाली हुई थी. सेक्सी बीएफ पिक्चर ब्लू अब तक सुनीता इतनी उत्तेजित हो चुकी थी कि उसकी चूत पूरी तरह से चूतरस से गीली हो चुकी थी और वह बड़बड़ाने लगी थी.

अपनी जीभ को मेरे मुँह में डाल कर जीभ से मेरे मुँह की चुदाई करने लगे.

सेक्सी बीएफ पिक्चर ब्लू?

वो अंगड़ाई लेने लगी थी और बार बार अपनी चूत को मेरे हाथ पर रगड़वा रही थी. जब मेरे दोस्त की मम्मी की सेक्स पावर ऑन हुई, तब तो क्या बोलूं आपको … आह वो तो एक भूखी पोर्न ऐक्ट्रेस सी साबित हुईं. मैंने पूछा- क्या मैं उतार सकता हूँ?उन्होंने अपनी कातिलाना मुस्कान बिखेरते हुए जवाब दिया- रात भर के लिए तुम्हारी हूँ.

उसने एक झटके से शेखर के हाथों से अपनी चूत और चूचियों को छुड़ाया और शेखर की तरफ़ घूम गयी. फिर लगा कि अब मैं आ सकता हूँ तो मैंने अधमरी हो चुकी आशारा को उठाकर सामने कुतिया बनाया. लंड चूत से बाहर निकालते ही वह पलट गई और लंड को जोर जोर से चूसने लगी.

मॉम डैड के अन्दर आने से पहले मैंने अपनी पैंट पैरों के ऊपर चढ़ाई और सामान्य होकर टीवी देखने लगा. उसकी नजर जैसे ही मानस पर गयी, उसने मानस को आंख मारी और अपने होंठ दांतों से चबा दिए. धारा हंसी- हे हेह्ह … इसमें बटन नहीं है जनाब!फिर धारा ने शेखर की उंगलियाँ पकड़ीं, दोनों हाथों की एक-एक उंगली को पकड़ कर धारा ने अपने बगलों के ठीक नीचे ब्लाउज़ के अंदर कर थोड़ा ऊपर की तरफ़ धकेल दिया और खुद अपनी बांहें ऊपर कर लीं जैसे कि हम कोई बनियान उतारते वक्त करते हैं.

धारा इस लगातार हो रहे खेल से 2 मिनट के अंदर ही फिर से गर्म होने लगी लेकिन इस बार वो यूँ उंगलियों से झड़ना नहीं चाहती थी. रिज़वाना हंसने लगी और मेरे सीने पर मुक्का मारने लगी- बड़े शरारती हो … मेरी इज्जत की धज्जियां चौराहे पर उड़ाने की कह रहे हो.

तेरे मुंह में लंड दे देंगे … तेरी मां चोद देंगे … तेरी बहन चोद देंगे!और पता नहीं राज ने गुस्से में क्या-क्या कहा.

फ़लक- धीरे धीरे पूरी …मैं- उंगली से कितनी बार किया?फ़लक- मुझे नहीं पता.

मैं भाभियों का दीवाना हूँ इसलिए सबसे पहले सभी भाभियों को मेरा प्यार. उसने मुझे भी सेक्स का भूखा समझ लिया होगा।ऐसे अनगिनत सवाल और ख़्याल शेखर के मन में दौड़ रहे थे. इस बीच रीना के ऊपर से नींद की गोली का असर खत्म हो गया था, तो रीना को भी मालूम हो गया था कि उसकी बेटी मुझसे चुद रही है.

फिर मैं उसके एक दूध को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा और निप्पल खींच कर काटने लगा. मैंने उन्हें चूमते हुए उनका साड़ी का पल्लू गिरा दिया और ब्लाउज के ऊपर से उनके मम्मों को सहलाना शुरू कर दिया. थोड़ी देर बाद मीरा ने भी अपनी एक टांग उठा कर निखिल की कमर पर रख दी.

मैंने उसके हाथ से ग्लास पकड़ने की कोशिश की, लेकिन उसको ये दर्शाया कि मेरा हाथ गंदा है और मैं ग्लास नहीं पकड़ सकती.

मैंने सोचा कि चलो रहने दो, मां को भी अपनी जिस्मानी भूख मिटाने की जरूरत होती होगी, तभी तो वो ऐसा कर रही हैं. उनकी पैंटी के नीचे से मैंने अपना लौड़ा डाल दिया लेकिन लण्ड चूत के अंदर नहीं गया और नीचे की ओर चला गया. अब आंटी ने मेरी उंगली पकड़ कर अपनी चुत में डाल दी और कहा- यहां पर कीड़ा काट रहा है.

फिर मैंने उन्हें कंधों से पकड़ कर नीचे बैठने का इशारा किया, तो वो घुटनों पर बैठ गईं और लंड चूसने लगीं. आज ही फोन आया है उस सेक्सी टीचर का!अगले महीने आ रही है वो मेरे पास! इस बार पूरे दस दिनों के लिये!आपको ये सेक्सी टीचर हॉट स्टोरी कैसी लगी, मुझे जरूर बतायें!मेरी मेल आईडी है[emailprotected]. औरत के बोबों में लंड डालकर चोदना आसान नहीं होता क्योंकि लंड फिसलने का नाम ही नहीं लेता.

मम्मों के ऊपर गजब के निप्पल थे, मैंने दोनों निप्पलों को चूस चूस कर लाल कर दिया.

इतने में उसने फिर से एक झटका मारा और उसका भी पूरा का पूरा लंड मेरी गांड में घुस गया. मैं तो उसे अपने सामने पूरी नंगी देख कर सोच रहा था कि मैं जन्नत की किसी हूर के सामने पहुंच गया हूं.

सेक्सी बीएफ पिक्चर ब्लू उसकी बीवी की मादक आवाज सुन मुझे अंदाजा हो चुका था कि वो कितनी गर्म और जोशीली है. ऐसे ही दसेक मिनट तक उसके दोनों मम्मों से खेलने के बाद मैं अपनी जीभ को उसके पेट पर फिराते हुए नीचे आ गया.

सेक्सी बीएफ पिक्चर ब्लू भाभी हंसी और मैंने उन्हें पीछे से पकड़ लिया और सीधे चूत में उंगली डालने की सोची. कुछ ही पलों में भाभी निढाल हो गई थीं और मैं कड़क लंड के साथ गर्मा गया था.

मानस ने भी सोनम की गांड पर हाथ रख दिए और खुद अपना मुँह उसकी जांघों में घुसा कर किसी भूखे कुत्ते की तरफ लप-लप करके उस रईस जवान रंडी मैडम की चुत पीने लगा.

सेक्सी वीडियो हिंदी बोलते हुए

तो आशारा ने खुद अपने उरोजों को दोनों हाथों से दबाकर लंड को घाटी में फंसा लिया. मुझमें न जाने ऐसा क्या है कि लड़कियों को मुझसे फंस जाने में जरा भी देर नहीं लगती है. में निकल गए और मुझे व चाची को ज्यादा बात करने का न ही कोई मौका मिला और न ही मैंने कोशिश की.

एक रात उन्हें चोदने के बाद मेरा मन किया कि मैं उनके साथ सुहागरात मनाऊं. हालांकि हॉस्पिटल पहुंचने से 15 या 20 मिनट पहले नीना ने डॉक्टर साहब को अपने आने की सूचना दे दी थी. मैंने एक 7 इंच का डिल्डो खरीदा हुआ है, जिससे मैं जब उसकी चुदाई करता हूँ तो अपना लंड और डिल्डो दोनों उसकी चूत और गांड में डाल देता हूँ.

और हां … अभी बाहर चल कर तुम चाय लेना पसंद करोगे या कॉफी?फिर पहले आशारा बाहर गयी और उसके पांच मिनट बाद में भी तैयार होकर उसी रूम में आ गया.

या यूं कह लो कि कुछ ही महिलाओं को लन्ड चूसने में मज़ा आता है जिसे वो दिल लगा कर चूसती हैं, बाकी बस औपचारिकता के लिए मुंह में लेती हैं और कुछ तो मुंह में लेने से साफ मना ही कर देती हैं. वो बोली- तेरा इतना बड़ा है … मैं तो सोच ही नहीं रही थी कि तेरा इतना बड़ा होगा. उसके मुँह से फिर से आह्ह अःह्ह आहह ओहह आःह्हा हम्ममा ममहा की आवाज माहौल को कामुक और उत्तेजित करने लगी.

इतनी देर से मैं लंड मांग रही थी और वो मेरी चूत को ऐसे ही तरसा रहे थे. वो मेरे शरीर को और खड़े लंड को ऐसे देख रही थी कि बस अब मुझे खा ही जाएगी. मेरा हाथ उसकी पीठ पर चल रहा था और मेरे हाथों के गुदगुदे अहसास से वो कसमसा रही थी.

मैंने कहा- फ़लक, कोई बात नहीं, जितने बंद होते हैं उतना बंद करके तुम बाहर आ जाओ. वो भी बिना कोई सवाल किये तुरंत कुतिया बन गई।मैंने पीछे से उसकी कमर को दोनों हाथों से थाम लिया और उसकी चूत में लंड डालकर सटासट चोदने लगा।कुछ देर बाद नीतू के मुंह से फिर से सीत्कार निकलने लगी- आह्ह्ह … राजा … क्या मस्त चोदते हो.

मेरे भाई की शादी दो साल पहले एक बहुत खूबसूरत लड़की से हुई थी, जिनका नाम स्नेहा है. मस्त चुदाई हुई थी यार … वो भाभी अब भी मेरे दिमाग से निकलती ही नहीं है. धारा- आह्ह … हाँ मेरी जान … और तेज चोदो … और तेज चोदो … हय मेरी चूत … लंड है या खम्भा … आज फाड़ ही डालेगा … फाड़ दो…!!” उन्माद में अब धारा के मुँह से गंदे शब्द निकलने शुरू हो गए.

मीरा ने लंड को अपनी चुत में ले लिया और लंड चुत में लेते ही उसने मादक सीत्कार निकाल दी.

बाहर बारिश पड़ने की आवाजें आ रही थी और अन्दर चूत और लण्ड में घमासान जारी था. शाम को मेरे व्हाट्सएप पर शीना का मैसेज आया जिसमें उसने कॉल करने को लिखा था. उसके मुँह से आवाज निकलती, उससे पहले मैंने उसका मुँह हाथ से बंद कर दिया और लंड को चुत के अन्दर बाहर करने लगा.

मैं सहमा हुआ वहां से तुरंत निकल गया लेकिन उन्हें शायद इस बात का भी अंदाजा लग गया था कि मैंने सब कुछ देख लिया है. धक्का लगते ही मैं एकदम से गिरने लगी तो जाकर सीधे समीर की गोद में गिरी.

अभय- हां बोल … क्या बात है!ममता- भैया कल आप शहर जा रहे हो ना?अभय- हां, तुझे कुछ मंगवाना है क्या?ममता- क्या आप मुझे अपने साथ शहर ले चल सकते हो?अभय- हां जरूर, पर तू क्या करेगी शहर चल कर?ममता- वो मुझे कुछ कपड़े खरीदने हैं. उनकी सारी परवरिश गांव में हुई थी, इसीलिए वो ज्यादा पढ़ी-लिखी नहीं हैं. रेड कलर की ट्रांसपरेंट ब्रा पैंटी का सैट निकाला और जल्दी जल्दी से हल्का सा मेकअप करके तैयार हो गयी.

मद्रासी सेक्सी फिल्म दिखाइए

नेहा- ओके … मैं गार्डन में कुछ देर घूमती रही, उसके बाद में सोने जाने लगी.

मैंने बोला- हां भाबी, क्या बोल रही थीं आप!भाबी ने मुझे गौर से देखा और फिर आंखें इधर उधर करती हुई बोलीं- घर की सफाई करनी है … हेल्प करा दोगे थोड़ी!उनकी नजरों का पीछा करते हुए मुझे अहसास हुआ कि मेरा पोपट तो खड़ा है और मैंने अंडरवियर भी नहीं पहना है. तब तक उसने भी मुझे देख लिया और बोला- अरे बीबी जी, आप यहां कैसे?वो दूध वाला मुझे बीबीजी बुलाता था. अब मैं भी मौका देख कर अपनी गांड ले जाकर एकदम से उसके लंड से चिपका देती.

फिर मैं बोला- इस उम्र में आप बिना पति के कैसे रह सकती हो … और उसने आपको छोड़ा, साला पागल था. वो मेरे लौड़े को मुंह में लेकर गपागप गपागप चूसने लगी और मैं उसके मम्मों को मसलने लगा. बीएफ सेक्सी एक्स एक्स मूवीकुछ देर बाद रोहन का कॉल आया- आप कहाँ पर हो?मैंने उसे बताया कि मैं बस अड्डे के बाहर खड़ा हूँ.

वो बोला- पैंटी मतलब क्या?मैंने उसकी हिंदी में समझाया कि मेरी काले रंग की एक चड्डी थी, वो नहीं मिली. मैं हंस कर बोली- ऐसा कर तू भी रवीना के साथ चला जा … और जब भी मौका मिले, चौका लगा देना.

मैं लगा रहा तो एक मिनट बाद वो फिर से चार्ज हो गई और चुदाई का मजा लेने लगी. निखिल मेरी मम्मी की चूत को देखते ही उछल पड़ा- मेरी जान, तेरी चूत तो एकदम चिकनी है और ये तो बिल्कुल भी खुली नहीं है. अब चूंकि हम दोनों स्कूल में थे, तो हम दोनों साथ मिलकर पढ़ाई कर लेते थे.

पूरे मकान में मैं, मेरी मकान मालकिन और उनका एक 10 साल का लड़का ही रहते थे. मैं- बहुत ही नेक ख्याल हैं आपके!मौसी- हम्म तो कैसी लगी मैं?मैं- बहुत गज़ब, गोरी गोरी दूध की टंकियां देख कर ऐसा लग रहा है कि अपनी जीभ से टौंटियों को कुरेद कर मज़े ले लूं. यह लॉकडाउन सेक्स कहानी एक भाभी की चुदाई की है जिसका शौहर विदेश में फंस गया था.

मैंने भाभी के मुँह से चोदना शब्द सुना तो मैंने भी खुल कर कहा- भाभी, आपको देख कर तो मुझे हमेशा से लगता रहा है कि मैं न जाने आपकी चुदाई कब कर सकूँगा.

वो मेरे साथ सेक्स करते थे, तो पहले तो उनका ठीक से खड़ा भी नहीं होता था और अगर उनका छोटा सा लंड खड़ा भी हो जाता था, तो मेरी चुत में घुसते ही झड़ कर बाहर आ जाता था. मैंने बाइक पार्क की और अन्दर काउंटर पर जाकर पानी की बोतल और कुछ खाने का ऑर्डर देकर सीधा रूम में चला गया.

दफ़्तर से घर तक पहुँचते-पहुँचते शेखर को क़रीब डेढ़ घंटे का समय लग गया. भाभी ने साड़ी पहन रखी थी और एक छोटा सा ब्लाउज, जिसमें वो बहुत सेक्सी लग रही थीं. उधर सनी भी रवीना को चोदने में सफल हो गया था और वो भी जब तब रवीना को चोद देता था.

चाची ने अपने माथे में हाथ मारा और गुस्से से मोंटू को जोर जोर से थपथपाने लगी. मैंने कहा- किसका लंड चूस रही हो जान!मौसी ने हंसते हुए कहा- अबे यार, लंड चूसने की फीलिंग तभी आती है, जब वैसी ही आवाज भी निकले … मैं एक खीरा चूस रही हूँ ताकि तुम्हें लंड चुसाई की आवाजें सुनाई दें. अनिकेत भैया ने लूसी को अपनी बांहों में ले लिया और उसकी चूचियों को दबाने लगे.

सेक्सी बीएफ पिक्चर ब्लू फिर मैं पूरे रास्ते इंतजार करती रही कि कोई तो पास आ जाए!लेकिन कोई नहीं आया. मैंने मौसी को चोद रहा था और उनकी जेठानी हमारी चुदाई लाइव देख रही थी खिडकी से.

हिंदी में भोजपुरी में सेक्सी

हैलो फ्रेंड्स, आप मेरी सेक्स कहानी में मेरे दोस्त की अम्मी की चुदाई का मजा ले रहे थे. रीमा इस बात को सुनकर बड़ी खुश हुई कि उसने एक कुंवारे लंड का शिकार किया है. मैंने उसकी बीवी ले ली।रोमिल बोला- नहीं भाई, पिंकी तेरी भी तो भाभी है।हां.

मैंने पेशाब की और न जाने क्या सोच कर भाई के तरफ का दरवाजा खोल के अन्दर चली गई. हर वक्त मुझे चाची के गुदाज़, गर्म शरीर का स्पर्श याद आ रहा था, चाची के मस्त बूब्स, चाची की फूली हुई चूत का स्पर्श… इन सबकी याद दिमाग से निकल ही नहीं रही थी. वीडियो बीएफ बांग्लामैंने अपनी पूरी जीभ उनके मुँह डाल दी और वो कुतिया की तरह चूसने लगीं.

डैड ने मुझे देखा और कहा- मुदित तुम अभी तक सोये नहीं … और स्नेहा सो गई क्या?मैंने कहा- हां डैड बारिश होने लगी थी और लाइट भी चली गई थी … तो मैं आप दोनों के लिए ही सोच रहा था कि पता नहीं आप कब तक आओगे.

हम दोनों के बीच इतनी गर्मी बढ़ गयी थी कि दोनों को पसीने आने लग गए थे. मुझे लगा फ़लक की चूत कोरी नहीं थी, वह पहले ही सील तुड़वा चुकी थी, चूत से खून भी नहीं निकला, बस एक दो लाल स्पॉट लण्ड पर लगे थे.

उसने रीमा की चुत से खून निकलता नहीं देखा तो वो समझ गया कि रीमा पहले से ही चुदाई के मज़े ले चुकी है. तुम हैंडसम हो … स्मार्ट हो … और किसी लड़की को क्या चाहिए!मैंने पूछा- आपको मैं कैसा लगता हूँ?भाभी बोलीं- बहुत अच्छे लगते हो. फिर पिंकी बाहर चली गई और मैं बाथरूम चला गया।इस तरह मैंने अपने दोस्त की मदद से उसके सामने उसकी बीवी को जमकर चोदा।कैसी लगी आपको यह फ्री सेक्स स्टोरी?[emailprotected].

मैं जानता हूँ कि तुम भी रूपाली की तरह परिवार की इज्जत की वजह से कुछ कह नहीं सकती.

सोनम भी किसी सड़कछाप रंडी की तरह उस चपरासी के लौड़े के लिए पागल हो चुकी थी. दोस्तो नमस्कार!मैं मधु एक बार फिर अपनी इस सेक्स कहानी में आप लोगों का स्वागत करती हूं. मेरे मुँह से भी निकलने लगा- आह उफ और जोर से मामा … पेलो मामा जोर से पेलो … फ़ाड़ दो मेरी बुर को आह चोदो और चोदो.

बीएफ एक्स एक्स एक्स वीडियो दिखाइएइस काली नेट की साड़ी के साथ मैचिंग का लो कट ब्लाउज बहुत आग लगा देने वाला था. धारा के 7-8 मैसेज को पढ़ते पढ़ते शेखर ने उसकी आख़िरी लाईन पढ़ी जिसमें धारा ने ये लिखा था कि वो दोपहर को इंतज़ार करेगी.

사설토토 놀검소76

दोस्तो, टेलर मास्टर से चुदाई की कहानी का अगला भाग शीघ्र ही आपके सामने होगा. पहली बार तो आप मेरे घर आई हो, अनजाने में ही सही, लेकिन आपको मैं बिना चाय पिये जाने नहीं दूंगा. कोई इस कदर प्यार से लन्ड चूसे और मेरा लन्ड खड़ा न हो ऐसा तो मुमकिन ही नहीं था.

मैं चौंकते हुए बोली- कैसा फायदा!तो सनी हंसते हुए बोला- आपको अपने बच्चे के लिए एक और बाप मिल जाएगा. फिर उन्होंने मुझसे कहा- मेरा लंड बुर में लोगी … और ज्यादा मज़ा आएगा. मैंने उसको बोला- मुझे लगा नहीं था कि तुम पहली बार में अपने आप पर कंट्रोल कर पाओगे.

तने हुए मम्मों के नीचे भाभी की 30 इंच कमर और 38 इंच की गांड बड़ी दिलकश थी. वो लोग काफी दिनों से डिमांड कर रहे थे कि हम अपनी सेक्स लाइफ की मदभरी कहानियों को उनके साथ अन्तर्वासना पर शेयर करें. इससे भाभी और मचल उठीं, वे सिसकारियां लेती हुई बोलीं- क्यों तड़पा रहे हो यार … अब जल्दी से मेरी चूत में अपना लंड डालकर इसकी प्यास बुझा दो.

मैंने उसी समय अपने मन में सोच लिया था कि यदि इनकी शादी सूरज भैया से हुई और अगर ये यहां आईं, तो इनको अपने लौड़े के नीचे करने के लिए जो भी मुझसे बन पड़ेगा, वो करूंगा. उसने मुझे बताया कि उसके पति का 2 साल पहले एक्सीडेंट हो गया था, तब से वो अकेली है और किसी के साथ दोस्ती करके सेक्स करने का मतलब है कि अपनी प्राइवेसी को खत्म करना.

परिवार में चुदाई स्टोरी के पिछले भागमेरी सेक्सी ताई और भाभी का नंगा बदनमें अब तक आपने पढ़ा था कि सर्दी भरी उस बारिश की रात में मैं पूरी तरह से नंगा बिस्तर पर कंपकंपा रहा था.

इधर …स्नेहा चेंजिंग रूम में ज्योति से मस्ती करने लगी- आज तो लगता है काम हो गया तेरा?ज्योति चिढ़ते हुए बोली- घंटा काम हो गया … साली छिनाल पूरा काम खराब कर दिया. बीएफ सेक्सी वीडियो जानवरअम्मा ने शायद सुन लिया था तो वो मुझसे दूर होने के लिए बाहर निकल कर सामने वाले घर में चली गईं. लड़की बीएफ चुदाईमैंने कहा- तुम्हारा बेबी कहां है?फरियाल बोली- उसको मैंने आज सुबह ही अपने पापा के यहां चार दिन के लिए भेज दिया है. मेरी चूत में बहुत आग लग रही है … जल्दी कुछ करो!मैंने उसकी पैंटी निकाल दी और उसकी चूत में एक उंगली डाल दी.

लगभग 20 मिनट चुदाई करने के बाद उसके झटके तेज हो गए तो मैं समझ गई कि विशाल अब झड़ने वाला है.

आंटी मुंह से लंड निकाल कर उसकी सख्ती का मजा लेते हुए कहने लगीं- तुम्हारे अंकल मेरी चूत चोद ही नहीं मार पाते हैं, क्योंकि उनका लंड बहुत छोटा सा है. उसने ज्योति की जींस की जिप पकड़ कर नीचे सरका दी और हाथ अन्दर घुसा कर पैंटी के ऊपर से ही उसकी चूत मुट्ठी में भर कर मसलने लगा, पर तभी एक झटके से बस रुक गई. मम्मी- आह आह उई अम्म आह निखिल … आज मजा आया मेरी जान … और जोर से पेल … आह उह!इसी तरह 30 मिनट तक ये चुदाई का खेल चलता रहा.

वे मुझसे कहने लगी- राज, 2 बज गए हैं, अब बस ऐसे ही सो जाओ, मैं पूरी तरह से रज(तृप्त) गई हूँ. मैं यहां पाठकों को बताना चाहती हूं कि मम्मी की शादी कम उम्र में हो गई थी. चाची थोड़ा सीरियस हो कर बोली- और हाँ, अपनी बुक्स भी रख लेना, वहाँ पर पढ़ाई करनी है.

ब्लू सेक्सी बढ़िया सी

वैसे सैम और मैं ज्यादा पुराने दोस्त नहीं थे, पर हम दोनों एक ही जगह जॉब करते थे … इसलिए वो मेरा दोस्त बन गया था. इस बार मैं दर्द से चिल्लाने लगी- आह उम्मह हहहह … उइ मां फट गई मेरी गांड!तभी प्रशांत ने एक और झटका मारा और उसका पूरा का पूरा लंड मेरी गांड में घुस गया. मैंने पूछा- हम लोगों के पास दो तीन घंटे का समय है ना?मैं अपनी किसी सहेली के यहाँ जा रही हूँ, यह कहकर आई हूँ.

वो इतने जोश में आ गए थे कि मेरी नाइटी को जल्दी से निकाल देना चाहते थे और इसी जल्दबाजी में उन्होंने मेरी नाइटी फाड़ डाली।अब मैं केवल चड्डी में ही रह गई थी.

मैंने कहा- ज़रा रुको तो भाभी जी, मुझे इस गुलाब की ख़ूशबू को सूंघ तो लेने दो.

वह दर्द से बेहोश सी हो गई, मैं भी अंजाम की परवाह नहीं करते हुए उसे चोदने लगा. वो अपने भाई की चुदाई से इतनी ज्यादा बार झड़ गई थी कि उसकी चुत गांड सूज गई थी. एक्स एक्स बीएफ सेक्सी बीएफ सेक्सीपंडित जी ने मुझे तिलक लगाया और सितारा को लगाने के लिए तिलक की कटोरी मेरे आगे कर दी.

अब आगे की कहानी कैसे उसने बीवी को चुदवाया:कभी उसकी नजर मेरे लंड पर जाती तो कभी वो अपनी चूचियों को छिपाने की कोशिश करती. शीना- अंकल सॉरी, मैंने आप और अपनी हॉट मॉम सेक्स वाला वीडियो भी देख लिया।मैं- कोई बात नहीं, ये भी अच्छा ही हुआ. मैंने भाभी के मुँह से चोदना शब्द सुना तो मैंने भी खुल कर कहा- भाभी, आपको देख कर तो मुझे हमेशा से लगता रहा है कि मैं न जाने आपकी चुदाई कब कर सकूँगा.

फ्रेंड्स आपको माँ चोद सेक्स कहानी कैसी लगी, मेल जरूर करें … आपके मेल का इंतजार रहेगा. उस दिन मैं जालंधर में ही था तो उसने मुझसे अपने घर में आने का निमंत्रण दिया.

फिर मैंने ना चाहते हुए भी उसके एक गाल पर किस कर दी और बोली- अब खुश … मिल गयी न तुम्हें गिफ्ट!मेरी चुम्मी से तो मानो जैसे वो पागल से गया था.

अब मैंने जैसे ही उसकी जांघों पर किस करना शुरू किया, वैसे ही उसने अपनी चूत उठा दी. फिर मैंने सोचा कि शायद ताई की चुत का भोसड़ा तब बना होगा, जब उनकी चुत से दो-दो बच्चे हुए थे. वो मेरी छाती पर उभरे यौवन को स्पंज की तरह धीरे धीरे दबाने लगे।मैं सिसकारियां लेने लगी- आह आह … ओह छोड़ दो … न न ना … जेठ जी … आह्ह प्लीज … दर्द हो रहा है जेठ जी।उन्होंने मुझे बिस्तर पर गिरा दिया और मेरे ऊपर चढ़ गए और मेरे होंठों को चूमने-चाटने लगे।वो मेरे पेट को सहलाते हुए बोले- शबनम, क्या चिकना बदन है मादरचोद!वो मेरी पैंटी में हाथ डालकर मेरी चूत सहलाने लगे।मेरी चूत ने पानी छोड़ना शुरू कर दिया.

देसी बीएफ पिक्चर चुदाई उस वक्त उसको लन्ड चूत के अंदर चाहिये था चाहे वो मेरा हो या राहुल का!मैंने एक बार फिर कमर की मदद से लन्ड चूत के बाहर हिलाते हुए जरा सा अंदर किया और नेहा की सिसकारी निकल गयी।मैंने फिर से पूछा- राहुल से चुद रही हो न जान?लंड की भूखी नेहा सिर हिलाकर हामी भरने लगी. जिससे से उसका फिगर खुलकर सामने आ रहा था और साथ में उसके निप्पल भी विजिबल हो रहे थे.

उस दिन काफी बारिश होने के कारण मेरा टिफिन नहीं आया और मकान मालिक के यहां भी खाना बनाने वाला नहीं आया. मैं वहां पहुंचा तो …दोस्तो, मैं आपको मसाज पार्लर में लेडी की चुदाई की कहानी बता रहा था. उससे रहा नहीं जा रहा था तो मैंने भी लंड को सैट किया और एक धक्का दे मारा.

क्लासिक मशीनरी

रास्ते में मेरी और चाची की कोई ज्यादा बात नहीं हुई, हम दोनों बस एक दूसरे को देखकर मन ही मन खुश हो रहे थे. कविता की चूचियां चूसते हुए मैंने पैसेंजर ट्रेन की रफ्तार से उसे चोदना शुरू किया. उसने बोला- ठीक है बुला लो … और ये जो तुम कर रही थी, वो सब भी बता देना … वरना मैं ही बता दूंगा.

मैंने उसको बताया कि जिस आदमी से तुम पहले बात करती थी, वो आदमी शादीशुदा है. कमरे में बस धारा की सिसकारियां ही सिसकारियां सुनायी दे रही थीं।साथ में शेखर के मुँह से निकल रही गर्म साँसों की आवाज़ भी उन सिसकारियों के साथ मिलकर वासना का गीत गा रही थीं.

मैं अपनी जीभ उनके मुँह में और वो अपनी जीभ मेरे मुँह में डालने लगीं.

जब मेरा लंड संगीता के मुँह में होता, तो संगीता हाथ से मयंक के लंड को जोर जोर से हिलाती. प्लीज़ एक बार मुँह में लेकर देखो न जान!सैम ने मेरी मां को जान कह कर सम्बोधित किया तो मेरी मां मुस्कुराने लगीं. मैंने शीना की चूत पर हाथ फेरा और शीना से कहा- वाह शीना ,तुम भी अपनी माँ की तरह अपनी चूत की पूरी सफाई रखती हो.

मैं चौंकने का नाटक करते हुए बोली- ठीक है … कर लो, जरा मैं भी तो देखूं कि मेरे पास कौन सी फैक्ट्री है. लेकिन प्राची ने अपने दोनों टांगों को सटा के रखा था जिससे चूत में लन्ड नहीं घुस रहा था।प्राची मेरे लंड की तड़प को देखते हुए मुझे और जोर जोर से किस करने लगी।फ़िर प्राची ने मुझसे चूत चूसने को कहा. तभी मेरी नज़र मेरी बेटी के बुर्के पर पड़ी, जो मेरे जिस्म पर एकदम चुस्त आता था.

हॉट आंट सेक्स कहानी में मेरे दोस्त की अम्मी की दूसरी जोरदार चुदाई है.

सेक्सी बीएफ पिक्चर ब्लू: मैंने पूछा- इतनी सी उम्र में तुझे चुदने का शौक कैसे लग गया!उसने हंस कर बताया कि उसके मामा उसे कैसे बुर चुदाई का स्वाद दे चुके हैं. कोमल कह रही थी- आह नीरज अमित … चोद दो मुझे प्लीज!अमित ने अपना लंड कोमल के मुँह में दे दिया.

तब मैंने लकी की गांड में तेल लगा दिया और अपने लंड पर तेल लगा कर उसकी गांड में डालने लगा. हम दोनों इससे इतने अधिक गर्म हो गए थे कि मैंने बाथरूम में ही आंटी को घोड़ी बना कर उनके आधे घंटे तक चुदाई की. मैंने पैंटी उतारी तो दिखी उसकी क्लीन शेव गुलाबी चूत जैसे डबल रोटी में चीरा लगाकर सॉस डाल दी हो!साथ में अनार के दाने जैसी क्लिट!मैंने क्लिट को होंठों में दबा लिया उसकी चूत को और जीभ घुसाकर अंदर-बाहर करने लगा.

साड़ी खोलने के बाद मैंने उसके पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया तो पेटीकोट नीचे सरक गया.

मैं कहा- साली तू तो आज से मेरी रांड ही बन जा … तेरी चुत को भोसड़ा बना दूँगा. दो मिनट तक भाभी के मम्मों को चूसने के बाद मैंने कहा- भाभी 69 की पोजीशन में आ जाओ. पहली ही नजर में उस पर दिल आ गया और मैं उसे पाने की योजना बनाने लगा.