बीएफ इंग्लिश फिल्म हिंदी में

छवि स्रोत,ससुर बहु सेक्सी ब्लू फिल्म

तस्वीर का शीर्षक ,

sex विडिओ: बीएफ इंग्लिश फिल्म हिंदी में, आह … आपका लंड बहुत बड़ा है … थोड़ा धीर धीरे घुसाइए ना मेरे राजा … मैं कौन सा अब भागने वाली हूँ यहाँ से.

गर्भवती सेक्सी वीडियो एचडी

मम्मी ने कहा- कोई बात नहीं बेटा, हम लोग 4 दिनों के लिए ही जा रहे हैं. दूसरे का सेक्सी वीडियोमैं भी कोई कच्ची खिलाड़ी तो थी नहीं इसलिए समझते हुए मुझे देर नहीं लगी कि वह जरूर अपने लंड को हाथ में लेकर सहला रहा है या फिर मुट्ठ मार रहा है.

फिर चाची ने कहा- अभी तुझे बहुत कुछ सिखाना है!और एक दूसरे के नंगे जिस्म से लिपटे हुए हम चाची भतीजा एक साथ सो गए!जब मैं सुबह वापस आने लगा तो उन्होंने मुझे बहुत प्यार किया. सेक्सी वीडियो सुदा सुदी वीडियोसाथ ही महेश मेरे मुँह में गले गले तक अपने लंड को अन्दर बाहर कर रहा था.

धीरे धीरे नेहा की सिसकारियां भी अब बढ़ती जा रही थीं- उऊऊ … अह्ह … हुँहुँहंउ … उऊऊ … ह्हहुँहुँहंउ …’ मादक आवाजें निकालते हुए उसने अब खुद ही अपनी कमर को आगे पीछे करके अपनी मुनिया को मेरे मुँह पर घिसना शुरू कर दिया था, साथ ही मेरे लंड को भी वो अब जोरों से चूसने और चाटने लगी थी.बीएफ इंग्लिश फिल्म हिंदी में: उन सबकी चुदाई के बारे में बाद में बताऊंगा, फिलहाल इस कहानी के बारे में बात करता हूं.

वह बोल पड़ी- बस कर मादरचोद! अब क्या चाट-चाटकर ही गीली करेगा मेरी चूत को या अपना माल भी गिराएगा इसके अंदर?मैंने कहा- रंडी रुक, पेलता हूँ तुझे.अब मैंने रॉकी से बोला कि भाई ये कस्टमर बिरजू करता क्या है?तो उसने बताया कि वो ड्राइवर है.

आलिया भट्ट सेक्सी एचडी वीडियो - बीएफ इंग्लिश फिल्म हिंदी में

मामी को लगा मैं सो रही हूँ।मामी ने आवाज़ भी दी मुझे- अन्नु …मैं कुछ नहीं बोली.जगत अंकल ने कर में ही मुझे अपनी गोद में बिठा कर अपने लंड को मेरी चूत में पेल दिया था.

फिर तुम्हारे दोनों मम्मों को हल्का हल्का दबाते हुए मैंने तुम्हारे क्लीवेज पर चूमना शुरू किया. बीएफ इंग्लिश फिल्म हिंदी में घर छोटा होने से मैं उसे देख सकता था कि वो बुर में उंगली डालकर रगड़ कर बुर साफ कर रही थी.

फिर तौलिये से एक दूसरे के बदन के एक एक अंग को पौंछा और बिना कपड़ों के बेडरूम में आ गए.

बीएफ इंग्लिश फिल्म हिंदी में?

उन्होंने स्कर्ट की इलास्टिक पकड़कर पूरी नीचे उतार दी और बोले- यह समीज और अपना ऊपर की टी-शर्ट भी उतार दे. लगभग बीस मिनट बाद वह तौलिया लपेटकर निकली और मुझे देखते हुये मुस्कुराई. सुलेखा भाभी मेरे ऊपर निढाल होकर ढेर हो गयी थीं, मगर मेरे धक्के लगाने से वो अब फिर से कराहने‌ लगी थीं.

इसके बाद हम दोनों ने सोचा कि यहां पर सब देख लेंगे, इससे ज्यादा इधर कुछ करना ठीक नहीं होगा. उधर नीचे से रूपा भी अपनी गांड ऊपर की ओर उछाल कर मेरा साथ देने लगी थी. शेख आंटी पागल सी होने लगीं और चिल्लाने लगीं- अहहहह ह्म्म्म विक्रम चोद दो मुझे!मैं ये सब सुनकर जोश से भर गया था.

मैं बोला- खाला क्या आपको मजा आया … दर्द तो नहीं हुआ?खाला बोलीं- बहुत मजा आया … मेरे दुखती चूत का इलाज तुम्हारे लंड की चुदाई ही है. मैं वापस बेड पर जाकर लेट गई और मामी ने सामान चेक किया और उससे कुछ बातें करने लगी. खिड़की की तरफ ध्यान देने के कारण मैं नेहा की चुत को भूल ही गया था, जिसका अहसास नेहा ने अपनी चुत को मेरे चेहरे पर जोर से रगड़कर करवाया.

प्रिया की चुत भी उसकी बहन नेहा के जैसी ही लग रही थी बिल्कुल‌ छोटी सी और काफी फूली हुई. इतने में जगत अंकल ने आकर अपना लंड मेरे हाथों में पकड़ाया और बोला- ले साली चूस ले.

अब मैंने उसकी आदत ऐसी बना दी है कि वह अपनी चूत में 2 लंड लेकर एक गांड में भी ले लेती है, मतलब मेरी बीवी अब एक साथ 3 लंड भी ले सकती है.

दूसरी तरफ प्रीति मेरी सहेली थी, इस वजह से मेरा सुखबीर के साथ कोई विचार अभी तक नहीं बन सका था.

सरोज चाची मेरी कमर का सहारा लेकर बाइक से उतरीं और मुस्कुराते हुए पार्लर में चली गईं. सोनू के अंदर अपने मम्मी-पापा की चुदाई देखकर कामुकता भर गई थी और वह आसानी से मुझसे चुदवाने लगी थी. हो गयी तसल्ली? कर आया अपनी मर्जी? या और भी कुछ बाकी है …” उसने गुस्से से मेरी तरफ देखते हुए कहा और वहां से जाने लगी.

इतना कहने की देरी थी कि उसने तुरंत मेरा पल्लू खींच कर नीचे कर दिया और मेरे तने हुए स्तनों को ऐसे देखने लगा जैसे कोई वहशी कुत्ता हो. मैं तो जैसे अब पागल ही हो गया था क्योंकि नीचे से तो सुलेखा भाभी की गर्म गर्म चुत मेरे लंड की मालिश कर रही थी और ऊपर से भी उनकी बड़ी बड़ी और भरी हुई चूचियां मेरे सीने को गुदगुदाने लगी थीं. इतना सोचने के बावजूद भी न जाने क्यों मेरे दिमाग में सरोज चाची को चोदने की बात नहीं आई थी, जबकि मैंने कई कई बार उनको गांड हिलाकर मटक मटक कर चलते देख कर मुठ मारी थी.

उसके बाद मैंने नीरू और अपनी तो बीवी दोनों को बेड पर डॉगी स्टाइल में चुदाई शुरू की.

मवालियों वाली टोन में उससे कहा- आज तेरी चूत को ऐसे चोदूंगा कि वो लंड लेने से पहले कई बार सोचेगी. नेहा आंटी झट से वहीं नीचे जमीन में बैठ कर मेरा लंड चूसने लगीं और मैं उनके बूब्स मसलने लगा. उन्होंने मेरी पेंटी उतार कर फेंक दी थी और मुझे चुदाई के लिए अपने बंगले पर ले जाने के लिए मेरी मम्मी से भी परमीशन ले ली थी.

पर तुम 15 मिनट तक नहीं रुके … यू आर अमेजिंग!यह सुनकर मेरे चेहरे पे थोड़ी खुशी आयी. मैंने अपना दायां पैर फर्श पर रखा था और बायां पैर घुटनों में मोड़कर बेड पर रख दिया था. जेठ जी ने अपनी अपनी लुंगी उतारी, कल की तरह आज भी उन्होंने अन्दर कुछ नहीं पहना था.

उन्होंने अब तक केवल मेरे पापा से ही अपनी आग मिटाई थी और उन्हें सेक्स का असली मजा मिला ही नहीं था.

मैंने अपने लंड को पीछे निकालते हुए एक बार फिर जोर से शॉट लगा दिया और उसकी चूचियों को चूसने लगा. मैं काफी साल से अन्तर्वासना पर पोर्न कहानियां पढ़ रहा हूँ तो मैंने भी सोचा कि क्यों ना में भी मेरे पुराने हसीन पलों को आपके साथ शेयर करूँ!आज मैं आप सभी को अपनी जिंदगी की एक सच्ची भाई बहन सेक्स कहानी बताने जा रहा हूँ.

बीएफ इंग्लिश फिल्म हिंदी में फिर वो मुझसे हाथ छुड़ा कर चली गयी और मैं भी सीधे बाथरूम में गया और मुठ मारने लगा क्योंकि मेरा लंड खड़ा हो चुका था. पहले मैं बेड पर चित लेट गया, उसके बाद वो मेरे ऊपर आकर नीचे की तरफ मुँह करके लेट गई.

बीएफ इंग्लिश फिल्म हिंदी में वो बोली- वो घन्टी मेमसाब के फोन की थी कि वो 15 मिनट में पहुँच जाएंगी. पहले मैं आप लोगों को अपने बारे में बता दूँ, मैं मुंबई में रहता हूँ और मैं एक 18 वर्षीय पतला दुबला और दिखने में गुड लुकिंग लड़का हूँ.

फिर मैंने मनीषा को ढूंढा और बोला- मामा जी ने एक काम करने को बोला है.

कंडोम वाली बीएफ

मैंने सामान्य होकर कहना शुरू किया- सॉरी यार … मुझे तो अभी भी यकीन नहीं हो रहा कि मेरे दादाजी ऐसी हरकत करेंगे. प्रिया तड़प उठी … उसने जोरों से इईई … श्श्श्शशशश … ओयह्ह्हहह …” की‌ सिसकारी भरते हुए मेरे कंधे पर अपने दांत गड़ा दिए. कहानी का पिछला भाग:अपने चोदू को माँ का पति बनवाया-3अमीषा ने माँ से कहा- माँ, तुम को यह तो सोचना चाहिए था कि घर पर एक जवान लड़की है.

फिर मैं चुपके से अपने बिस्तर से उतरा और छोटी चाची के कमरे में चला गया. दरवाजा खोला तो बाहर सोनल खड़ी थी- अरे नीतू, तुम दिन भर आज बाहर दिखी ही नहीं … क्या कर रही थी दिन भर?अरे कुछ नहीं यार … घर की साफ सफाई कर रही थी, आओ ना अन्दर!” मैं अभी भी उससे नजरें चुराकर बात कर रही थी. मैंने तुरंत वो सारा रस रगड़ कर अपने लंड पे लगा कर चिपचिपा और चिकना सा कर दिया.

बस दो मिनट में ही वो जोर से चिल्लाते हुए बोली- क्या बात है देवर जी.

मैंने पूछा- क्या हुआ? तुम भी शराब पीते हो क्या?वो- नहीं नहीं … सर वो मैं सोच रहा था कि आप पीकर घर वापस कैसे जाएंगे, सो मैं रुक गया. मैं तो भाभी को देखता ही रह गया और फिर से भाभी ने अपना गिलास पूरा का पूरा केवल दारू से भर लिया. उनके लंड का मजा अपनी चूत में ले ही रही थी कि बगल में जो ठाकुर साब कहे जाने वाले अंकल बैठे थे.

शादी के कुछ दिन तक तो सब ठीक था, जेठ जी हमारे घर खाना खाने आते, मेरे पति से बात करते और चले जाते, पर थोड़े ही दिनों बाद उन्होंने अपना रंग दिखाना शुरू कर दिया. मैं अपना हाथ कौशल्या की नाभि में फेरने लगा, फिर हाथ पेटीकोट के अन्दर डाला और धीरे धीरे उसकी चूत में उंगली करने लगा. ’ फिर मैंने कायदे से उसके दूध को बाहर से दबाया फिर अन्दर हाथ डाल कर दबाया और उसकी दूध की घुंडी को मसलता रहा.

हाय दोस्तो, मैं विराट आप सबके लिए अपनी कहानी को आगे बढ़ाते हुए एक बार फिर से हाजिर हूँ. फिर वेटर से स्नॅक्स आदि मंगाकर रूम को लॉक करके हम दोनों ने दारू पार्टी एन्जॉय करना चालू किया.

फिर उसने वह गिलास दोबारा अपने हाथ में उठाया और मेरे मुँह पर लगाया तो मैंने भी उनकी झूठी कोल्ड ड्रिंक पी ली।तुरंत ही राहुल ने अपने होंठ मेरे होंठों पर रख दिये और मेरे होंठों को चूसने लगे. मैंने अब पहले तो नेहा के होंठों पर एक प्यार भरा चुम्बन किया और फिर उसके गाल, गर्दन, उसकी चूचियां और फिर उसके पेट पर से चूमते हुए धीरे धीरे मैं उसकी जांघों के बीच आकर अपने घुटनों के बल बैठ गया. कुछ दिन और ऐसे ही बीत गए मगर कहीं पर भी किसी सेफ जगह का जुगाड़ नहीं हुआ.

मेरे मन में तो चोर घुसा हुआ था, मेरी गांड फटने लगी थी कि कहीं सरोज चाची मेरी मम्मी से कह न दें.

लचकती 24 साइज़ की पतली कमर और बाहर को निकली हुई 36 की साइज की गांड. उन्होंने मुझे उठाकर पूरी सीट पर चित लिटा दिया और अपनी पैंट को भी उतार दिया. इस बीच जब-जब प्रशांत से नीना की आंखें चार हुर्इं, तो दोनों ने अपनेआप में अजीब तरह का बदलाव पाया.

अन्दर आते ही उसने पहले अपनी साड़ी, फिर ब्लाउज … फिर ब्रा … फिर पेटीकोट और पैन्टी सब उतार दिया और मेरे सामने एकदम नंगी खड़ी हो गई. उसकी चूत गीली थी, फिर मैंने एकदम से अपनी उंगली उसकी चूत में डाल दी, वो चिहुंक उठी … पर मैंने उंगली नहीं निकाली और न ही उसके चूचुकों से होंठ हटाए.

मेरे होंठों को चूसते हुए प्रिया के हाथ भी अब मेरे पीठ पर घूमने लगे, जिससे मुझे एक अजीब सा अहसास होने लगा और मेरी पकड़ और भी मजबूत हो गई. करीब 15 मिनट के बाद चाचा के खर्राटे की आवाज सुनाई देने लगी … तो मैं समझ गया कि वो लोग सो गए हैं. भाभी बोलने लगी- आपका लंड मेरे पति से काफी ही नहीं काफी से भी अच्छा है, ये बहुत बड़ा है, मैं इसको चूस चूस कर और इससे चुद चुद कर अपनी प्यास बुझाना चाहती हूँ.

बीएफ वीडियो मोटा लंड वाला

2 मिनट बाद मैं उसके मुँह में ही झड़ गया और मनीषा मेरा सारा पानी पी गयी और मैं बेड पे उसके पास लेट गया.

मैंने कहा- ठीक है मम्मी जी!तभी मम्मी बोली- मैं तुम्हें मिस काल कर दूँगी!और चली गईं. फिर हम दोनों बेड पर आ गईं और हम दोनों ने कल की तरह दो तीन घंटे मस्ती की. कुछ ही देर बाद हम दोनों 69 की अवस्था में आ गए और हम एक दूसरे के सामान को रगड़ने चूसने लगे.

रमेश उठा और ‘जी मालिक …’ बोलते हुए अपनी जवान पत्नी को मालिक के लिए नंगा करने लगा. पहले तो वह मना करने लगी फिर मैंने उसको प्यार से डिल्डो लेने के लिए मना ही लिया. एचडी सेक्सी चालूमैंने मजबूरी का हवाला दिया और कहा कि जल्दी ही मैं नया कमरा देख लूँगा.

मैं भी झड़ने वाला था … तो मैंने नेहा आंटी की गर्दन पकड़ कर बोला- चल अब मेरा लंड चूस. उसके घर-परिवार के बारे में भी जानता हूँ। उसकी शादी तो हो चुकी है और उसके पति भी बहुत बड़े आशिक हैं.

लेकिन मुझे लगता ही नहीं था कि उसने साड़ी के अन्दर इतना खजाना छुपा कर रखा हुआ है. मैंने उसे पेट के बल लिटा दिया और उसकी टांगों की पिण्डलियों पे किस करने लगा. यह कहते कहते मैं अपनी लुगाई, अरे भाई … अपनी मामी जान के कमरे की तरफ चल पड़ा.

करण बोला- साली कुतिया रंडी … तू इतनी खूबसूरत है … इतना जबरदस्त तेरा शरीर है … इतने दिन से इसी कामुक बदन के पीछे ही तो मैं लगा था. इसकी चुत में बड़ी गर्मी है, साली दिन भर न जाने किन किन मजदूरों को लंड लेती फिरती है कुतिया. फिर मेरी किस्मत चमकी और सोहन ने मुझे कॉल किया और कहा कि हेमा की जवानी और सेक्स के मज़े लेने हो तो तुरंत आ जाओ.

लेकिन यह देख लो कि आपका लंड बहुत तगड़ा है, इसकी बुर में इसको डालना भी है और इसको ज्यादा दर्द भी ना हो … बहुत प्यार से धीरे धीरे डालना है.

मैं- मुझे तो नहीं है!नेहा- ओके, ठीक है जब तुम बुलाओगे, तो मैं आ जाऊंगी. कुछ दिन बाद एग्जाम हो गए और परीक्षा में पास होने के बाद उसकी कॉल मेरे पास आई, तो मैंने उससे पार्टी मांगी.

मैं अभी कंचन मैम के हाथों का मजा ले ही रहा था कि अचानक से उन्होंने मेरे खड़े लंड को अपने मुँह में ले लिया. वन्द्या अभी जब से तू मेरी गोदी में है, तो लगता है कि अब मुझे और कुछ नहीं चाहिए … तू बहुत मस्त है वन्द्या … अब मैं तुझे रोज चोदूंगा. मैंने दरवाजा तो बन्द किया हुआ था मगर शायद प्रिया ने हमें खिड़की से देख लिया था.

इस बार मैंने उनका एक पैर अपने कंधे पर रखा और बिना कंडोम का लंड एक ही झटके में सीधा चूत में पेल दिया. मैं वंदना के ऊपर से हटा और उसके दोनों पैर अपने कंधे पर रख कर चुत पर अपने लंड को रगड़ने लगा. तो मैंने पूछा- तूने ऐतराज़ नहीं किया?वो बोली- मेरा शादी से पहले ऐसे घर से बाहर किसी से चुदवाने का बहुत मन था पर कभी मौका नहीं मिला, आज मिला तो क्यों छोड़ती और एक तुम हो कि कुछ कर ही नहीं रहे थे.

बीएफ इंग्लिश फिल्म हिंदी में बहरहाल प्रशांत ने नीना का मन टटोला- आज क्या इरादा है मैडम?इस बात पर प्रशांत को उलाहना देते हुए नीना बोली- आज न तो बारिश हो रही है और न बाइक धोने की जरूरत है. ऐसे करते हुए उनकी पता नहीं कब सैटिंग हो गई, मुझे मालूम ही नहीं चला.

इंडियन जीएफ बीएफ सेक्स

सब काम करते करते मुझे लगभग 11 बजे गये थे और मैं भी अपने कमरे में चली गई, लाईट बन्द कर ली जिससे सबको लगे कि मैं सो गई हूँ. उसने आगे बढ़कर दादाजी के लंड पर अपनी जीभ घुमाई, तो दादाजी के लंड में हुई थरथराहट मुझे बाहर तक दिखाई दी. सच तो यह है कि अभी तक मैंने आपका ठीक से चेहरा भी नहीं देखा है कि कैसे दिखते हो आप … और घूम के देख भी नहीं सकती हूं.

वह- चंदा! तुम्हें नफरत नहीं हुई मेरे काले कलूटे लंड से?मैंने न चाहते हुए भी उसके लंड को आजाद किया और उसकी आँखों की तरफ देखते हुए कहा- तुम नहीं जानते प्यारे! तुम्हें ईश्वर ने क्या दे दिया है? यह नफरत करने की नहीं, प्यार करने की चीज है. हम इसी तरह ऑटो, सी-बीच और जहां भी मौका मिलता किसिंग और चुची दबाने या लंड सहलवाने का कार्यक्रम शुरू कर देते. पढ़ाई वाली सेक्सीमैं झट से अन्दर गया, मैंने चड्डी उतार के सिर्फ कैप्री पहन ली और उसका इंतजार करने लगा.

जो नए पाठक हैं उनके लिए बता दूँ कि मैं चंदन रेवाड़ी हरियाणा का रहने वाला हूँ.

इस दौरान मैंने नोटिस किया कि मेरे छूने से कौशल्या को कोई परेशानी नहीं हुई. अब उसके नंगे दूध मेरे सामने थे, मैंने एक दूध को अपने मुंह में लिया, उसके निप्पलों को ऐसे चूसने लगा जैसे अभी उनमें से दूध निकलेगा और दूसरे को हाथ से दबाने लगा।कसम से यारो … ये लग रहा था जैसे मक्खन खा रहा हूँ.

जब मैं उसका लंड अपने चूतड़ से रगड़ रही थी मैंने ऐसा किया कि मेरी चूत का पानी भी निकल गया. फिर भी उसे कोई अफसोस नहीं था, क्योंकि चूत के रास्ते उसके पूरे शरीर में मस्ती समाई हुई थी जिसे वह भूल नहीं पा रही थी. दोस्तो, मैं नेहा गुप्ता आप लोगों के लिए एक नई कहानी लेकर आई हूँ जो मेरी आपबीती है। कहानी की शुरुआत करने से पहले मैं बता दूँ कि मेरी उम्र 21 साल है और मेरी फिगर 32-28-34 है।मैंने अपनी बारहवीं की परीक्षा पिछले साल ही पास की थी और मैंने उसके बाद कॉलेज में दाखिला ले लिया था.

वह बोली- झूठ बोल रहे हो, वह तो आप पर पूरे डोरे डाल रही है, कैसे स्कूटर पर चिपक कर बैठती है.

मैंने उससे कहा- ये क्या है … रोज क्यों चुदवाती हो उससे?तो उसने गुस्से से कहा- तुम ही मना कर दो ना उसे … यह सब हुआ तो तुम्हारी वजह से ही है … ना तुम उससे दोस्ती करते … ना उसे घर लाते तो वो क्यों मेरे साथ ये सब करता. मस्ती में आंखे बंद कर मैं अपना होंठ चबाने लगी।उन्होंने अपनी शर्ट उतारी और फिर जीन्स उतार दी. इस दिमागी उथल पुथल के कारण मैं अपने आपको रोक नहीं पाया और दुनिया को बेशर्मी दिखाते हुए अगले 2 मिनट में ही अपना हाथ गाड़ी चलते हुए मामा के लंड के उभार पर रख दिया.

सेक्सी डांस सपना चौधरीइस वक्त जितनी तेजी से भाभी अपनी कमर को उचका रही थीं, मैं उनसे दुगनी तेजी से धक्के लगा कर अपने लंड से उनकी चुत की धज्जियां सी उड़ा रहा था. आप सुनाइए सर यहाँ आप लोग कौन कौन हैं?मैं- बेटा मैं यहाँ अकेला रहता हूँ.

सेक्स सेक्स बीएफ सेक्स सेक्स बीएफ

अब वो बहुत खुश हुई और कहने लगी कि आज तक उसके पति ने उसकी चूत कभी नहीं चाटी. ‌ अब तक प्रिया ने अपनी ब्रा को उतारकर अपने दोनों सफेद कबूतरों को आजाद कर लिया था और उनकी तीखी चोंच को मेरे सीने में चुभोने लगी थी. उस लम्बे मोटे लंड से मेरी चुत की खुजली शांत होती है, पर मेरा मन और तन शादी के बाद बहुत ही कामुक हो चुका है.

मैंने कहा- हां ठीक है … पर यह बात कभी भी हमारे तीनों के अलावा बाहर नहीं जानी चाहिए. क्यों? क्या हुआ? तुम क्या सोच रहे थे कि मुझे कुछ पता नहीं? तुम दोनों के बीच जो कुछ चल रहा है, मुझे सब पता है. मगरमैंनहींचाहताथाकिवोमुझेगलतसमझे, वह यह सोचे कि मैंनेउसकाफायदाउठाया.

रवि मेरी चूत में पूरी ताकत से लंड डाल के अन्दर बाहर रगड़ रगड़ कर चुदाई करने लगे. चूंकि कार में गजल सांग बज रहा था और साउंड सिस्टम की आवाज कुछ तेज थी. घर पर अकेली देख मैंने उसे बातों-बातों में कह दिया- आजकल लडकियाँ शादी के बाद भी दूसरों के साथ सम्बन्धों में रहती हैं.

तेरी पढ़ाई कैसी चल रही है?मेरी नज़रें अभी भी मेरी प्यारी चाची के कसे हुए चूचों पर थी और चाची भी समझ गई थी, पर कुछ बोली नहीं. उसका जोश इतना अधिक था, मानो न जाने कितने दिनों से वो लंड की भूखी हो.

ड्राइवर अंकल मेरी पीठ को कस के पकड़ के धक्का लगाने लगे, तभी वह जो रमीज के साथ पहलवान की तरह अनवर आया था.

मैंने तुम्हें जब फोटो में ही देखा था … तभी जगत से पूछा था कि क्या यह लड़की मेरा लौड़ा बर्दाश्त कर लेगी, तो जगत बोला कि आपको पता नहीं है, वह दिखने में भले ही पतली है … और कम उम्र की नाजुक लड़की है … पर उसकी चूत के अन्दर जो आग है, वह आप सोच नहीं सकते. सेक्सी वीडियो चूत की चुदाई करते हुएसुबह जब मैं उठा तो उसके प्यारे से चेहरे पर अलग ही चमक थी और वो मेरी बांहों में किसी अप्सरा से कम नहीं लग रही थी. बंगाली सेक्सी व्हिडीओ फिल्मइस तरह अपना आभार जताते हुए नीना ने लंड के टोपे को अपने होठों का चुंबन देते हुए दोनों आंखों का नजराना पेश करना शुरू कर दिया. मैं कभी कभी अपनी गांड उठा उतार कर अपने देवर का लंड पूरा अपनी चूत में ले रही थी.

मैं बोली- नहीं, यहां मुझे सिर्फ आप ही करो, उनसे मैं बाद में मिल लूंगी.

अब तक उन लोगों के साथ सब कुछ करते करवाते हुए मुझे करीब एक घंटा हो गया था. रमीज जोर से बहुत ताकत लगाकर अपने लंड को गांड के अन्दर जड़ तक घुसा देता. ‌ मुझे पता था कि स्खलित के‌ बाद भाभी तो अब कुछ करने‌ से रहीं, इसलिए मैंने‌ अब खुद ही कमान‌ सम्भाल‌ ली.

उनके पति अब इस दुनिया में नहीं हैं और वो हमारे पड़ोस में अकेली रहती हैं. मैंने पानी पिया फिर बात की- जी कहिये … क्या हुआ?अभी तक मेरे और रेखा के बीच में कोई ऐसी बात नहीं हुई थी कि मुझे या उसे कुछ गलत लगे. इतनी भी जल्दी किस बात की है देवर जी?मुझे समझ आ गया कि ये नशे में मेरे लंड को लील रही है यदि होश में होती तो पक्का इसकी चूत की माँ चुद जाती.

बीएफ हिंदी सेक्सी पिक्चर वीडियो

उसके बाद क्या हुआ:लता भाभी अदा से मुस्कराकर बोली- अच्छा छोड़ो अब, आज सांय को मुझे पिक्चर दिखा कर लाओ?मैं खुश हो गया, मैंने कहा- ठीक है, 6 से 9 बजे वाले शो में चलते हैं।वह बोली- तीन टिकट ले आना, बच्ची भी साथ चलेगी लेकिन हेमा को पता नहीं चलना चाहिए, हम पिक्चर हाल में ही मिलेंगे. धीरे धीरे अन्दर घुसाते हुए आधी उंगली, फिर धीरे धीरे पूरी उंगली सोनल की चूत के अन्दर पेल दी. मैंने अपने मुँह से महेश का लंड बाहर निकाल दिया और जोर से चिल्ला उठी- उई माँ … मर गई … निकालो मुझे बहुत दर्द हो रहा है.

बेड पे आकर मैंने अपना मुँह उनकी चूत पे रखा और जीभ को अन्दर तक डाल कर घुमाने लगा.

मैंने फोन उठाकर हैल्लो किया तो दूसरी तरफ से प्यारी सी आवाज़ में हैल्लो की आवाज़़ आई.

धीरे-धीरे मैंने भाभी को बेड पर लेटा लिया और फिर उसकी साड़ी को खोलना शुरू कर दिया. पर अंकल को कोई फर्क नहीं पड़ा, दर्द के बाद भी उन्होंने पूरी ताकत लगा कर अपना लौड़ा मेरी गांड में घुसेड़ दिया. सेक्सी सेक्सी हॉट फोटोसेक्टर 17 में मुझे लोन लेने वाले के बारे में जानकारी करनी थी। जब मैं वहाँ गया तो दरवाजा एक नौकरानी ने खोला।मैंने मालिक के बारे में पूछा तो वो मुझे ड्राइंगरूम में बिठा कर मालिक को बुलाने चली गई।कुछ देर बाद एक बहुत खूबसूरत औरत बाहर आई.

मेरी चुत भी उस गर्मी को सहन नहीं कर सकी और फिर एक बार फूट फूट कर झड़ने लगी. लेकिन मेरा मन बहुत करता था कि अपना लंड उसके मुंह में दे दूँ।मैंने सोचा कि आज तो हमारी सुहागरात है, आज प्रियंका मेरे लंड को मुंह में लेने से मना नहीं करेगी. मैंने भी मौका देख कर अपनी पैंट की चेन खोल दी और उसका हाथ पैंट में डाल दिया।वह अपने हाथ से मेरे लण्ड को मसलने लगी.

फिर मैंने उसे उल्टा लेटाया, अपना लंड उसकी गांड के छेद पर रख कर जोर का धक्का दे दिया. वो भी मुझसे चुदना चाहती थी क्योंकि उसका शौहर उसके साथ कुछ नहीं करता था.

उसमें वो क्या मस्त माल लग रही थी!सच में दोस्तो, इस वक्त मेरी बहन की नशीली जवानी के सामने सनी लियोनि भी फेल थी.

पति के देहांत के बाद काफी रकम उसके नाम पर हो गई थी, राजौरी गार्डन इलाके में उसकी खुद की बिल्डिंग है और खुद भी वहीं रहती है. बेड पे आकर मैंने अपना मुँह उनकी चूत पे रखा और जीभ को अन्दर तक डाल कर घुमाने लगा. वो मक्खन खाते समय नेहा की चूचियों को अपने मुँह से कसकर दबा देता और नेहा की चीख निकल जाती.

चुत लैंड की सेक्सी ’ की आवाज़ निकलने लगी और उन्होंने अपना लंड मेरे मुँह से बाहर खींच लिया, शायद वह मेरे मुँह में झड़ना नहीं चाहते थे. मैंने भी गांड उठा कर उसे सिग्नल दिया तो उसने एकदम से अपना लंड चूत में डाल दिया और मुझे चोदने लगा.

बीच बीच में मैं घर जाकर चाची की चुदाई कर आता था, तो इसीलिए मेरा लंड ज्यादा उफान नहीं मार रहा था. जब चाची से और ज्यादा बर्दाश्त नहीं हुआ तो चाची ने मुझसे बेडरूम में चलने के लिए कह ही दिया. उससे मुझे रगड़ते हुए पहले मेरी नाभि और पेट को सहलाया, फिर पीछे तरफ से ही हाथ को सीधे ऊपर किया, जहां से अंकल ने अपने हाथ इस हाथ को मेरी समीज के ऊपर से मेरे मम्मों पर पहुंचा दिया और धीरे से एक को दबा दिया.

सेक्सी बीएफ ब्लू फिल्म बीएफ

मेरे देवर ने मेरी चूची को बहुत देर तक चूसा और मेरे निप्पलों को भी वो अपने दांतों से हल्का हल्का काट रहा था. वह मेरे पार्लर की सबसे पुरानी कस्टमर थी, मुझसे काफी खुल चुकी थी। मैंने पार्लर में काफी सुविधाएं बढ़ा दी थीं. जेठ जी ने फिर से अपने लंड को मेरी चुत के अन्दर डाल दिया और जोश से धक्के देने लगे.

तो उसने कहा- यार गुस्सा मत हो … मैं तुम्हारा लंड भी मुँह में ले लेती हूँ. उसकी इस मस्त चुदाई से मैं जल्दी ही आनंद में मस्त हो गई और अपने चरम पर पहुंच गई.

मैं कन्धे और घुटनों पर हो गया तो वो जोर से हंसी और बोली- ये मेरी पोजीशन है … मुझे आती है, तुम आदमी की तरह लेट जाओ.

लगे हाथ आंटी ने एक्सेप्ट भी कर ली और आंटी का ही मैसेज भी आ गया- अरे वाह … इतनी जल्दी प्रोफाइल भी खोज ली?मैंने स्माइल वाला इमोजी भेज दिया, तो आंटी ने भी स्माइल का इमोजी भेज दिया. अगले दिन जब मेरा उसका सामना हुआ, तो वो मुझे बहुत ही अजीब नज़रों से देख रही थी. पर आप सबसे रिक्वेस्ट है कि कहानी की गलतियों को नजरअंदाज करके भाभी की चुदाई का मजा लीजिएगा.

चाची ज़ोर ज़ोर से सिसकारियाँ लेने लगी थी, जोश में आकर मेरा सर अपनी चूत में पूरा अंदर देना चाहती थी. इस वक्त नेहा ने एक हाथ से मेरे लंड को पकड़ लिया था और उसे ऊपर से नीचे तक सहलाते हुए वो जोरों से चूस व चाट रही थी. मैंने एक दिन उसकी बहन के बारे में पूछा कि आपको अपनी बहन के बारे कुछ पता है कि नहीं?तो वो मुझसे पूछने लगा कि मेरा मतलब क्या है.

मैंने उसको आइडिया दिया कि नीचे चलकर सबके सामने एक सीढ़ी से गिरने का नाटक कर लो, तो तुमको चलना ही नहीं पड़ेगा और जब चलोगी नहीं, तो तुमको कोई बोल ही नहीं पाएगा और तुम धीरे धीरे लंगड़ा कर चल भी सकती हो.

बीएफ इंग्लिश फिल्म हिंदी में: फिर मैंने अपने लंड की तरफ इशारा करते हुए कहा- मैडम, अब इसका क्या?उसने मेरे लंड को चूम लिया और बोली- मैं तो कब से तरस रही हूँ इससे चुदने के लिए. इसके अलावा आज हम लोग मोटरसाइकिल से थे, जिसकी आवाज़ से नानाजी के जागने का डर भी आज ज़्यादा था और मोटरसाइकिल की लाइट से भी नानाजी को हमारे आने का एहसास हो सकता था.

यार भाबी जी का क्या मस्त फिगर था … आह बड़ी सी गांड, बड़े उठे हुए बूब्स … सच में मैं तो बस उनका दीवाना ही हो गया था. ‌ मुझे पता था कि स्खलित के‌ बाद भाभी तो अब कुछ करने‌ से रहीं, इसलिए मैंने‌ अब खुद ही कमान‌ सम्भाल‌ ली. फिर मैं चुपके से अपने बिस्तर से उतरा और छोटी चाची के कमरे में चला गया.

उसने देखा कि गाड़ी में हमारे अलावा कोई नहीं है तो उसने मुझे एक ज़ोर का हग किया और बोली- तुम्हें सबकी कितनी फिकर है.

उसने एक हाथ नीचे किया और मेरी लुंगी खोल दी और मुझे भी पूरा नंगा कर दिया. मैंने कहा- सरु, तुम इतनी हॉट लगती हो, क्या तुम्हारा पति तुम्हारे साथ कुछ भी नहीं करता है?सरिता- करता है राज, मगर एक बेवड़ा क्या कर सकता है भला. फ़िर एकदम से उसने मेरी कमर पर से टांगें नीचे कर के मेरे पैरों में फंसा लीं.