कोबरा लंड वाली बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,मस्ती वाली सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

न्यू सेक्सी पोर्न वीडियो: कोबरा लंड वाली बीएफ वीडियो, मैंने पैर उठाए, वजन कम किया तो उसका लंड पूरे का पूरा मेरी गांड में घुस गया.

सेक्सी+वीडियो+2021

मैंने मामी की चुत पर उंगली फेरी तो मामी मुझे गाली देने लगीं- मादरचोद, इतना बड़ा लंड तू अपनी मामी को क्यों नहीं दे रहा है. सेक्सी वीडियो एप्स एप्सनीता के सीने पे नज़र गड़ा कर वो बोला- बोल बेटी, मैं कैसे मदद करूँ तेरी? वार्डरोब तोड़ डालूँ क्या तेरे लिए बेटी?नीता को पप्पू की बात और नज़र से ख्याल आया कि वो टावल में पप्पू के सामने खड़ी है, पर अब वो बिना झिझक उसी हाल में रूम में घूमते हुए सोचने लगी.

कुछ दिन बाद मैंने बेहद डरते हुए उस नम्बर पर व्ट्सऐप पर हैलो का मैसेज किया. गण्ड की सेक्सी वीडियोआज पता लगा था जब मेरी शादी हुई होगी, उस वक्त मोनिका पर क्या गुजरी होगी.

गोल गोल कटोरे जैसे चूतड़ और चिकनी मोटी मोटी जांघें किसी भी मर्द से टकराने की माद्दा रखती दिख रही थीं.कोबरा लंड वाली बीएफ वीडियो: नहीं तो पुलिस में कम्प्लेन करूँगी।मैंने सब कुछ बता दिया। मैंने ये भी बता दिया कि सिर्फ मैं देखने की कोशिश करता था.

साथियो, आपको यह कहानी कैसी लग रही है? मेरी कहानी का आनन्द लें और कमेंट्स में अपने विचार प्रकट करें![emailprotected]कहानी जारी है.मेरे मुँह से केवल गूं गूं की आवाज ही निकल पाई और उसका पूरा का पूरा लंड मेरी चुत में समा गया.

देवर भाभी का सेक्सी ब्लू - कोबरा लंड वाली बीएफ वीडियो

लड़का चूचियों को अपने जीभ से सहला रहा था कभी हल्के दांत से काट लेता और हर बार लड़की चिहुँक जाती थी.तुम संजय के बारे में क्या बात कर रही थीं?फ्लॉरा ने संजय की करतूत के बारे में उनको बताया तो दोनों हैरान हो गईं.

बात उन दिनों की है, जब मैं जवानी की दहलीज पर था और गाजियाबाद में रहता था. कोबरा लंड वाली बीएफ वीडियो मैंने उस से पूछा- आप कहाँ तक जाओगी?तो मालूम हुआ कि उसे मेरे स्टॉप से दो स्टॉप आगे उतरना था.

वो मेरे निप्पलों को मसल रहा था, मेरी कमर को अपने हाथों में जकड़े हुए गर्दन को चूम रहा था, उसकी हर एक हरकत मुझे पागल कर रही थी.

कोबरा लंड वाली बीएफ वीडियो?

शमशेर एक तरफ हट गया तो अब मोहन ने भी लंड चूत में डाला तो जैसे उसका लंड अन्दर गया तो चूत से एक सफेद पदार्थ की पिचकारी निकली क्योंकि शमशेर का वीर्य चूत से पूरी तरह निकला नहीं था. मैं उनकी रंडियों जैसी भाषा सुन कर समझ गया कि मेम को मुझसे चुदना है. उसने वह सब अन्दर रखा, फिर वह मुझे ऊपर बेडरूम में खींचती हुई ले गयी.

वो सिसकारियाँ भरने लगी, उसने मेरे मुँह को पकड़ कर अपनी चुत में दबा दिया. दिन भर के गहरी थकान की वजह से उसने बिना कोई हरकत किये अपनी आँखें हल्की सी खोलीं और सामने का नज़ारा देखा तो सन्न रह गया. तो ससुर जी ने मम्मी का पल्लू हटा दिया और उनकी बड़ी-बड़ी चूचियां ब्लाउज के ऊपर से दबाने लगे.

क्या साब यह तो बहुत छोटी सी है अभी आपकी बिटिया की जितनी!”बिटिया जैसी है, बिटिया नहीं है. मैंने उस की चिकनी, बाहर को निकली सुन्दर गुलाबी चूत की फांकों को अपनी उंगलियों से अलग किया और उसमें अपना सुपारा डाला और लंड को उस की चूत की गहराई में उतारने लगा. फिर वो मेरे ऊपर धम्म से गिर पड़ा, उस समय हम दोनों की साँसें ऐसे चल रही थी जैसे कि कोई इंजिन चल रहा हो.

उसको ये बात पागल किये जा रही थी कि आज उसको एक नहीं बल्कि दो दो लंड मिलने वाले हैं और वो भी अपने ही सगे भाइयों का पारिवारिक लंड मिलेंगे. मम्मी भी अब शांत हो गई थीं, उनकी तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं हो रही थी.

मुझे एक डर ये भी था कि कहीं मैं झड़ न जाऊं लेकिन मेरे लंड ने मेरी और अपनी दोनों की ही लाज रख ली थी.

मैंने जिस कोचिंग सेंटर को ज्वाइन किया था, ये कहानी वहीं से शुरू होती है.

और हाँ वो वहां फ्लॉरा के घर पर ग्रुप सेक्स अब तीन जगह एक साथ आप कैसे देख पाओगे, यही सोच रहे हो ना. थोड़ी देर बाद जब सब लोग सो गए तो वंदिता ने मुझे इशारा किया और मैं झट से उसकी चादर में आ गया. बेचारी विनीता चिल्ला रही थी लेकिन उसके साउंड प्रूफ कमरे में मेरे अलावा उसकी चिल्लाहट कौन सुनता.

उसने बेल्ट छोड़ दिया, अपना एक हाथ कमर पर रखते हुए स्टाईल में और हवस के स्वर में बोला- तो ले ना जान. मेरी आंटी बहुत ही सेक्सी हैं और उनसे हमारे परिवार का बहुत ही अधिक मिलन है. उसने बोला कि आप दो मिनट रुकिये मैं आपके पास आ रहा हूँ और उसने फोन काट दिया.

मैंने तुरंत अपना अंडरवियर निकाल कर अपना लंड आंटी की चुत की फांकों पर रखा और एक ही झटके में अन्दर पेल दिया.

गार्ड कुछ आवाज सुनकर हमारी दिशा में बढ़ने लगा और उसने जल्दी से पैंट ऊपर की और मुझसे भी उठने को कहा. मेरा ध्यान उसकी तरफ मुड़ गया, मुझे लगा कि वो भी अपनी सहेली की तरह मजा लेना चाहती है, उसकी आँखों में मुझे समर्पण का भाव दिखा. ये ऐसा ड्रिंक है जो आपकी वासना जगायेगा और आपको थकान भी महसूस नहीं होने देगा।हमने ड्रिंक खत्म की.

सबने सेक्स पॉवर की गोली खा ली, उसके बाद अतुल ने टीना और फ्लॉरा को अपने दाएं बाएं बैठा लिया और अपना लंड बाहर निकाल लिया. अब शीतल को ज्यादा मजा आ रहा था, वो बोली- आह अभि अब थोड़ा ज़ोर से करो. कमरे में हर धक्के की आवाज गूंज रही थी और ये कामुक आवाजें कमरे के माहौल को और ज्यादा सेक्सी बना रही थीं.

चाचाजी ने मेरे मम्मों के निप्पलों को मुँह में लेकर चूसना काटना शुरू कर दिया.

जब मैं उनको पीछे से चोद रहा था तब उनकी भारी गांड देख कर मैंने उसी वक्त सोच लिया था कि उनकी गांड ज़रूर मारूंगा. लंड चूसते चूसते शायद उनका पेट भर आया और डकार मारकर अचानक मामी ने पैंतरा बदला और मेरे लंड पर चुत टिका कर बैठ धीरे धीरे दबाव देने लगीं.

कोबरा लंड वाली बीएफ वीडियो फिर वाशरूम में जाकर सभी ने अपने आप को साफ़ किया और कपड़े पहन कर बातें करने लगे. मैंने भाभी को धीरे से बेड पे लेटाया और मम्मों को दबाते हुए उनके होंठ चूसता रहा.

कोबरा लंड वाली बीएफ वीडियो अब जब ये तुम्हें चोदेगा तब तुम्हें पता चल जायेगा कि असली चुदाई क्या होती है और उसमें कितना मजा आता है. कुछ देर बाद उन का दर्द कम होने लगा और मैं और तेज से धक्के देने लगा.

उसकी मां ने कहा- ठीक है, तावला आ ज्या(जल्दी आजा)रवि ने गेट की तरफ देखा और जब उसकी मां चली गई तो मुझे उठने का इशारा किया.

बीएफ इंग्लिश सेक्सी वाली

और दोनों हंसने लगे।मैंने गौर किया कि उनकी बीवियाँ… मंजू और शशि भी उनकी बातें सुनकर मुस्कुरा रही है. चाचाजी ने मेरे मम्मों के निप्पलों को मुँह में लेकर चूसना काटना शुरू कर दिया. उसने शादी के बाद मुझसे बात करने का वादा किया था, उससे जैसे ही बात होगी.

वो तड़फ़ने लगी और चूत को लंड की तरफ उठा रही थी, पर मैं रगड़ते हुए लंड को फिर पीछे कर लेता. तभी आगे वाले अंकल रोहित को आगे सीट में लिटा कर उठ आ गये और ड्राईवर को बोले- जो गाड़ी में हो रहा है, उसे भूल जाना और गाड़ी में ध्यान दो, एक्सीडेंट मत कर देना. झड़ते झड़ते भी वो उस्मान का लंड चूसे जा रही थी और अमित उसे चोदे जा रहा था.

वो बोला- बस मेरी जान थोड़ा और…लंड पूरा अंदर उतरने ही वाला था कि किस्मत से उसी वक्त पार्क का गार्ड सीटी मारते हुए आवाज़ लगाने लगा- कौन है वहां?वो एक दम से खड़ा होने लगा और उसका लंड गांड से निकलते ही मुझे ऐसा लगा जैसे किसी ने लोहे रॉड को मिर्च लगाकर मेरी गांड से निकाला हो! मेरी दोबारा चीख निकल गई.

मोना- बाबा पूजा खत्म हो गई या अभी कुछ बाकी है?साधु- आखिरी क्रिया बाकी है बेटा. मैंने दीदी के गले से चूमते हुए उनके सारे बदन को अपने थूक से भिगोते हुए उनकी चूत पर अपने मुँह को लगा दिया. बोल वो मवाली लड़के क्या छेड़ते हैं तुझे? क्या बोलते हैं तेरी यह गदराई गोरी जवानी देख कर?नीता ने फिर पप्पू का हाथ अपने जिस्म से हटाया.

वो मेरी पीछे से मेरी गर्दन को चूमे जा रहा था, मुझे उसकी तेज़ हो चुकी सांसों से बीयर की गंध आ रही थी लेकिन मजा भी आ रहा था. ओ के!लेकिन मैंने उसकी कोई बात नहीं सुनी और मैं ऑटो पकड़ कर अपने घर चली गई. लेकिन इस बार शर्ट ऊपर हो चुका था और मेरा हाथ मेरी मामी के चिकने पेट पर था.

कुछ देर बाद जब अर्चना सामान्य हुईं तो मैं अपने लंड को आगे-पीछे करने लगा. फिर उसने मुझे पहनने के लिए ब्रा और पेंटी दिया और खुद ने भी पहन लिया.

शायद उसको भी यह पता चल गया क्योंकि वह आगे-पीछे हो रही थी तो लंड की सख्ती उसे उसके चूतड़ों में चुभ रही थी. एक महीने बाद नीलेश जीजू का मुझे फ़ोन आया और उन्होंने कहा- रोमा, यार तुम्हारी चूत चोदे हुए एक महीना हो गया, यार आज बहुत मन कर रहा है और आज रात पायल की नाईट शिफ्ट है, वो भी हॉस्पिटल चली जाएगी… तो तुम आ जाओ आज कुछ अलग सी चुदाई करेंगे. मुझे अब चोदने की जल्दी पड़ी थी, इस वजह से मैंने उसके पैरों को फैला दिया, अपने लंड को बाहर निकाल लिया, अपने लंड को गीला करने की ज़रूरत नहीं थी क्योंकि चूत ऑलरेडी गीली थी, मैंने चूत के बीचोंबीच अपने लंड को रखा और कस के अंदर किया, पर चूत इतना टाइट थी कि मुश्किल से लंड 1 इंच चूत के अंदर गया और कविता की आँखों से आंसू आ गये.

उसके बाद निशा ने अपने कपड़े पहने और मुझसे बोली- दीदी, अब तुम सारा दिन जय से चुदाई का मजा लो.

तभी मुझे अपने अन्दर कुछ कटता सा महसूस हुआ शायद मेरा स्खलन हुआ था, इसी के साथ विजय की पिचकारी ही छूट गई. उधर मामी अपनी चुदी हुई चुत पर हाथ फेरती हम दोनों की कामक्रीड़ा का भरपूर आनन्द ले रही थीं. दीदी दोनों टांगों से मेरे सर को अपनी चूत के ऊपर दबाने लगीं और चिल्लाने लगीं- आह.

तो मैंने मनोज को इशारा कर दिया, मनोज ने उसकी चूत पे अपना लंड रखा और हलके से झटका लगा दिया. वो साला इतना बड़ा वेवड़ा था कि एक बोतल के लिए कुछ भी करने को तैयार रहता था.

परन्तु शादी का आखिरी दिन था तो जाहिर सी बात है कि घर में मेहमानों की भरमार थी. पहले तो अंजलि ने मना कर दिया लेकिन मेरे ज्यादा कहने पर बोली कि ठीक है मैं रात को 8 बजे छत पर आ जाउंगी, तुम भी आ जाना. दूसरे दिन मैं चुत में लंड लेने के लिए तैयार होकर जाने लगी और माँ से बोली- माँ मैं सहेली के साथ बाहर घूमने जा रही हूँ.

हिंदी बीएफ फुल एचडी ओपन

अर्चना को देखने के बाद मेरे मन में कसक उठने लगी थी, इसलिए उसको ढूँढते हुए मैं भाईयों के कमरे में गया परंतु मेरी चुदक्कड़ बहन वहां नहीं थी.

उसे अंदाज भी नहीं था कि वो कितनी बार झड़ चुकी है और उसके अन्दर का ज्वालामुखी फिर से फटने वाला था. मैंने वैसा ही किया, फिर एक लड़की ने मेरे दोनों हाथ बेड के साइड से रस्सी से बाँध दिए, मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था कि मेरे साथ अब क्या होने वाला है. जाते हुए वैशाली ने मुझे पीछे से बाँहों में पकड़ लिया और बाहों में भर कर बोली- मुझे भूल तो नहीं जाओगे.

मैं अपनी मम्मी की तरह सेक्सी हूँ मतलब मेरी माँ भी एक बहुत मस्त माल के जैसी हैं. मैं तेरी गांड को चाट कर रेडी करता हूँ और तू मेरे लंड को जल्दी से चूस कर तैयार कर दे. सेक्सी ब्लू हिंदी चलने वालीरीना रसोई तैयार करने लगी, मैं बुआ के साथ था, अब गोली के असर से बुआ का सिर भारी होने लगा इसलिए शाम से ही वे अपने कमरे में लेटी रहीं.

टीना ने फ्लॉरा को ये बात बताई, यह भी बताया कि उम्रदराज आदमी का लंड किस तरह चुत को मजा देता है. पप्पू भीड़ को पीछे धक्का दते हुए बोला- सॉरी मैडम… लेकिन क्या करूँ? पीछे से इतनी भीड़ का धक्का आता है और आपसे टकरा जाता हूँ, आय एम सॉरी.

उस नज़र से पप्पू समझ गया कि नीता को अपनी जवानी का एहसास है और वो भी मर्द का साथ चाहती है. सुमन- आह… सस्स पापा इससे तो बहुत मजा आ रहा है… अब दर्द कम है… आह… करो और अन्दर तक घुसा दो ओफ्फ… आह…सुमन की उत्तेजना देख कर अब गुलशन जी ने दो उंगलियां एक साथ चुत में घुसा दीं और उसका अंजाम वही हुआ… सुमन के मुँह से दर्द भरी आवाज़ निकली, मगर वो सहन कर गई और वैसे ही पड़ी रही. किस्मत का खेल देखो… ठीक एक घंटे पहले ये एक सामान्य घर में सामान्य से परिवार थे.

मैंने शर्माते हुए कहा- आज जब मैं जय को जगाने गई थी तो उसकी लुंगी खुल कर बेड के किनारे पड़ी थी, तभी मैंने उसका लंड देखा था. सुमन को यकीन नहीं हुआ कि इतना बड़ा लंड पूरा चला गया मगर गुलशन के समझाने पर वो मान गई. तब मौसी ने कहा कि बेटा आज भी मैं तेरे बिस्तर पर ही सो जाऊंगी, तब और अच्छी नींद आएगी.

तो मैंने देखा कि कनिका की शर्ट उसके मम्मों के ऊपर आ गई है। उसने ब्रा नहीं पहनी थी तो उसकी नंगी चूचियां दिखाई दे रही थी.

मैं उन्हें प्यार से देखने लगा तो मामी ने फिर से मेरे गाल पर किस करने लगीं. फिर चाय पानी पीकर मम्मी की बुआ का हाल चाल जान कर मम्मी बोलीं- बुआ मैं पैदल चलकर आई हूँ, जिससे मेरी तबीयत खराब हो गई है.

मैंने अपनी मामी के बारे में सुना हुआ था कि उन्होंने शादी से पहले बहुत मजे लिए हैं और शायद अभी भी उसी राह पर हैं. अब मैंने अंजलि को सोफे की एक साइड पर डॉगी स्टाइल में किया ओर उसका मुँह सोफे पर लगा कर, अपने लंड को उसकी चुत में एक ही झटके से पूरा अन्दर डाल दिया. उसने कहा- मैं लड़कों में रुचि नहीं रखता और मैंने कभी लड़कों के साथ सेक्स किया भी नहीं है, लेकिन आज तुमने इस अजगर को जगा दिया है तो इसको सम्भालना तो पड़ेगा ही.

तो प्रिय पाठको, उन्ही की इंडियन सेक्स स्टोरी उन्ही के शब्दों में पेश कर रहा हूँ:फ्रेंड्स, मैं रीना सिंह आप सभी पाठकों का बहुत बहुत वेलकम करती हूं। आज मैं सभी लड़कों को ऐसी कहानी सुनाने जा रही हूँ कि उसे पढ़ने के बाद सभी लड़के मुठ मार लेंगे।दोस्तो, मैं दिल्ली की रहने वाली हूँ। अब मैं 26 साल की हो चुकी हूँ। लेकिन यह बात मैं तब की बता रही हूँ जब मैं जवानी में कदम रख रही थी या रख चुकी थी. मैंने उसे बताया कि अब मेरा लंड झड़ने वाला है तो उस ने बोला कि कंडोम उतार कर मेरी गांड मारो और पूरा माल गांड में छोड़ देना. मगर आप दोनों यहाँ कैसे आ गए?अतुल- मेरे पापा बहुत बड़े बिजनेसमैन हैं.

कोबरा लंड वाली बीएफ वीडियो मैंने टीवी ऑन कर दिया और हम दोनों टीवी के साथ बातें भी करते जा रहे थे. रूपा का ज्यादा से ज्यादा क्लीवेज चाटते हुए पप्पू ने अपना मुँह रूपा के ब्लाउज में घुसाया, जिससे रूपा के ब्लाउज का एक हुक टूट गया और रूपा का ज्यादा क्लीवेज नंगा हो गया.

वीडियो बीएफ साड़ी वाला

मैंने कहा- शाम को जब मैं प्रोग्राम में आऊंगा तो अपने साथ पेन ड्राइव भी ले आऊंगा, तो डाल दूंगा. बड़े प्यार से करते हुए मैंने एक बार फिर उस की टांगों को अपने कंधे पर रखा और प्यार से चोदते हुए अपने वीर्य को उस की चूत में भर दिया. मैंने काम वाली को देख लेने को कहा और मैं अपने कमरे में आ गई और अपनी कामुकता को शांत करने के लिए अन्तर्वासना की कहानियाँ पढ़ कर अपनी चूत खोल कर उंगली करने लगी.

!नीतू- आप जाओ दीदी, अगर जीजू मना भी करेंगे ना, तो भी मैं नहीं जाऊंगी. जब थप थप की आवाजें जोर से आने लगी तो शिवानी अंदर आई और बोली- राज! अब डिस्चार्ज भी करो. अफ्रीकी सेक्सीउसकी आँखों से आँसू बहने लगे, सर चकराने लगा मगर उसने हिम्मत नहीं हारी.

उसकी हल्की सी सिसकी निकल गई- आहहह…रवि बोला- अंश, तुझे तो लड़की होना चाहिए था.

उसने बोला- जी साहब!तभी अंकल ने बोला- बाद में तुम्हें भी कुछ ईनाम में मिल जाएगा. अरे हुक टूटा तो क्या हुआ? जब यहाँ से जायेगी तो जान तू क्या सीने पे पल्लू नहीं लेगी? उम्म बड़ा गर्म माल है तू.

पायल की आज नाईट शिफ्ट है तो वो हॉस्पिटल चली गई है मुझे तुम्हें देखना है, तुम छत पर आओ. मैंने एक उंगली गांड में थोड़ी सी डाल दी तो वो एकदम से हिली और बोली- पीछे नहीं…मैंने उससे कहा- यार तू चुप रह के मजे ले. दूसरे ही दिन सुबह पति के काम पर जाने के बाद जब नीता नहाने गई तो रूपा और पप्पू एक दूसरे की बांहों में आ गए.

मेरी ये हालत मौसी से देखी नहीं गई, सो उन्होंने मुझे छोड़ दिया और बोलीं- तुम्हें जवान होने में अभी कुछ दिन और लगेंगे.

बहूरानी की चूत बहुत गीली होकर रस बहा रही थी यहाँ तक कि उसकी झांटें भी भीग गईं थीं. मैं रात में सोने गया तो उस रूम में डबलबेड के बाद कोई दूसरा बेड डालना मुश्किल था. दिनेश बस झड़ने ही वाला था, मौका देख कर वो उस पर भूखे शेर की तरह झपट पड़ा, उसने आरुषि को सोफ़े पर फेंक दिया और उस पर घोड़े की तरह चढ़ गया; उसने आरुषि के गले को पकड़ लिया और ऐ.

सेक्सी बहन भाई की सेक्सीमैंने एक हाथ से उसका मुँह बंद किया और लंड के सुपारे को बुर में सही जगह फंसा कर जोरदार धक्का दे मारा. तो दीदी ने बोला- सागर, मेरी गांड मारने के बारे में मत सोचना, मैं तुम्हें गांड नहीं मारने दूँगी, तेरे जीजा जी भी मेरी गांड मारना चाहते हैं, पर मैंने उनको भी मना कर दिया.

बीएफ भाभियों की

मैंने आरती के बैग से क्रीम निकाल और अपने लंड पर थोड़ी सी क्रीम लगा कर लंड सैट कर दिया. फ्लॉरा- यार सच बता उनका सच में बहुत बड़ा है क्या?सुमन- हाँ, बहुत बड़ा है; अगर अभी वो होते ना तुझे मैं दिखा देती. मेरी उम्र इस समय साढ़े अठारह साल है, मेरे परिवार में मम्मी पापा, भैया भाभी और मैं हूँ, मेरे पापा एक बिजनेस मैन हैं और मेरी मम्मी एक आई.

हम दोनों ऐसे ही पड़े रहे और उस रात एक-दूसरे की बाँहों में लेटे रहे. नमस्कार दोस्तो, कैसे हैं आप सब? काफी दिन के बाद मैं अपनी नई चुदाई की कहानी लेकर आई हूँ, मजा लें!आप सबने मेरी पिछली कहानीपड़ोस वाला जीजा साली सेक्स के लिए बेचैनपढ़ी होगी. उसके बाद संजय सीधा लेट गया और बरखा को लंड पर बैठने को कहा ताकि पीछे से साहिल अपना लंड उसकी गांड में घुसा सके.

अब आगे:आधी खुली साड़ी, घुटनों तक ऊपर आए पेटीकोट और हुक टूटे ब्लाउज में रूपा को एक बार देख के पप्पू उसे नीचे बिठा के उसकी गोद में सिर रख के लेटते हुए और हल्के-हल्के उसके मम्मे मसलते हुए बोला- मैंने किसी को समय नहीं दिया जान… पर सोचा तुझे जल्दी होगी जाने की, वैसे जल्दी नहीं होगी तो रात भर रखूंगा तुझे. इन 2 सालों में मैंने वंदिता के साथ कई रातें गुलाबी की हैं, लेकिन उस पहली रात का मजा ही कुछ और था. चाचाजी ने अपनी स्कार्पियो कार में जाने का सुझाव दिया, जिस पर सब मान गए.

बड़ा अजीब मंजर था मेरे पति जिस बाथरूम में नहा रहे थे, उसी की दीवार से सटी उनकी जवान खूबसूरत पतिव्रता बीवी के पूरे बदन को उनके चाचाजी किसी कुल्फी की तरह चाट रहे थे. पहले तो अंजलि ने मना कर दिया लेकिन मेरे ज्यादा कहने पर बोली कि ठीक है मैं रात को 8 बजे छत पर आ जाउंगी, तुम भी आ जाना.

मैंने यह कहते हुए उसकी गांड को ऊपर उठाया, यहाँ तक कि मेरा लंड खिंचता हुआ टोपी तक बाहर आ गया.

मैं भी हवस से भरा था, मैंने प्रीकम को जुबान से चाटा और गोरे और मोटे लंड के सुपारे की चमड़ी को पीछे की तरफ खींचा, जिससे गुलाबी सुपारा बाहर आ गया. तारा सेक्सी पिक्चरअब मुझमें मौसी को चोदने की बात घर कर गई थी, पर रिश्ता ऐसा था कि कुछ कर नहीं सकता था. सेक्सी फिल्म पुरानी वीडियोतबियत तो ठीक है इनकी?जय बोला- मैं इनकी तबियत ही ठीक कर रहा था कि तुम आ गईं. राहुल- अभी लो, वो किचन में है, बात करवाता हूँ।लता- हेलो राजेश जी, नमस्ते।मैं- नमस्ते लता जी कैसी हो, क्या इरादा है आज रात का?लता हंसती हुई- घर आओ, तब बताऊँगी भी और दिखाऊँगी भी इरादा, पर ये निश्चित है आज रात तुम सो नहीं पाओगे, पूरा निचोड़ दूँगी.

आंटी कुछ मिनट बाद झड़ने को हुई तो मैंने अपना लैंड आंटी की चुत से निकाल कर उं को उठा कर किचन की स्लैब पर बैठाया और अपनी जीभ को आंटी की चुत में डाल कर चाटने लगा.

मगर तुम शदी के बाद बरखा से इस रात के बारे में लड़ाई तो नहीं करोगे ना कि वो कैसे मज़ा लेकर चुद रही थी. मैंने बिल्कुल बेशरम होकर अंकल की जाँघ पर हाथ रख दिया और उनकी जीन्स के ऊपर से ही मैं उनके लंड को सहलाने लगी. अब आगे पूजा की चुदाई की कहानी का मजा लीजिए…कुछ दिनों से पूजा वासना की आग में जल रही थी और आज इत्तफ़ाक़ से उसके घर वाले और संजय के घर वाले किसी फंक्शन में साथ गए.

इसी तरह अजय ने फ्लॉरा की चुत पर क्रीम लगाई फिर उंगली से क्रीम को चाट लिया. पूजा की बात सुनकर संजय के लंड में और तनाव आ गया, उसने जल्दी से पूजा को घुमाया और उसकी आँखों में देख कर पूछा- सच में पूजा आज तू मुझे अपनी गांड की चुदाई करने देगी, मगर कैसे? हम दोनों ने तो प्रोग्राम बनाया था कि वहीं करेंगे. मुझे लग रहा था कि जैसे कोई गरम लोहा मेरी चुत को चीरते हुए अन्दर घुस गया हो.

एक्स एक्स एक्स बीएफ चूत वाली

पूजा- एयाया एयाया मर गई आह… मामू उफ्फ अब्ब… बहुत दर्द हो रहा है आह…संजय- यार पूजा, बस एक झटका और झेल ले… तेरी गांड बहुत टाइट है वैसे तो लंड अन्दर जाएगा भी नहीं… बस थोड़ा सा और बर्दाश्त कर ले तू, फिर दर्द नहीं होगा. हम सभी फ्लैट से निकले और एक रेस्टोरेंट में गए जहाँ मनोज ने लंच करवाया क्योंकि उसने कहा कि आज की पार्टी मेरी तरफ से. तो जैसे ही मैं माँ के साथ जाने के लिए आगे बढ़ा तो रहमत बोला- बेटा आप बाहर ही इंतज़ार करो, वहाँ सिर्फ लेडीज़ ही जाती हैं।मैं चुप करके बाहर ही खड़ा रह गया।माँ भी बोली- रोहन तुम यहीं रुको.

मैं बस उन की छाती में समा जाना चाह रही थी।वो धीरे धीरे नीचे जाने लगे। अभी बारिश भी थोड़ी तेज होने लगी थी, मैंने जीजू से कहा- जीजू, बारिश तेज हो गई है, अब क्या करें?तो उन्होंने कहा- मेरी जान, बारिश में ही तो चुदाई का असली मजा है, तुम तो बस अपनी चूत की चुदाई के मजे लो और मुझे चोदने दो.

मगर एक बात बता देता हूँ तेरी सील टूटने से थोड़ा खून भी निकला होगा, तू घबराना मत.

उसकी मस्त चुचियों को देख ऐसा लग रहा था कि जैसे क़ैद में दो पंछियों को पहली बार आज़ाद किया गया हो. वो मुझे देख कर बोलते हैं कि मैं कितनी गोरी हूँ, मेरी मक्खन जैसी टाँगें हैं, टाँगें ऐसी हैं तो जाँघें कैसी होंगी और अगर जाँघों का यह हाल है तो अन्दर की जन्नत तो कैसी होगी. इंडियन सेक्स वीडियो एचडी सेक्सीमैंने अपनी मामी के बारे में सुना हुआ था कि उन्होंने शादी से पहले बहुत मजे लिए हैं और शायद अभी भी उसी राह पर हैं.

उन्होंने मुझे किस करते हुए पहले तो लंड को ऊपर ऊपर से ही घिसा, जब चूत एकदम गीली हो गई तो उन्होंने धक्का दे दिया और मेरी गीली चूत के अन्दर उनका लंड आराम से फिसल गया. मेरी उंगली आराम से चली गई, फिर मैंने दो उंगलियां डाल कर देखीं तो दोनों आराम से चली गईं. एक दिन अंकल को एक दो दिन के लिए बाहर जाना था, तो मैं ऊपर छत पे आंटी के साथ सोया हुआ था.

साली की चुदाई की कहानीक्सक्सक्स फिल्म दिखा कर साली को मनाया चुदाई के लियेभी आप पढ़ सकते हैं. मैं हाईस्कूल में बारहवीं में पढ़ाई कर रही हूँ मेरी उम्र 19 साल की अभी 4 महीने पहले ही हुई.

मैंने कई लड़कियों को अन्तर्वासना और फेसबुक से अपने कुंवारेपन की बात बताई, पर मेरी बात कहीं नहीं जमी.

मैंने भी सोचा कि साली एक बार कायदे से चुद जाएगी, तभी इसकी अकड़ ढीली होगी. विवश होकर आप मेरे ऊपर चढ़ गए और मुझमें बलपूर्वक मेरी इस में समा गए जैसे ही आपका विशाल लिंग मेरी प्यासी योनि में घुसा था, मैं समझ गयी थी कि मैं छली जा चुकी हूँ, कि मेरे साथ मेरा पति नहीं कोई और ही है क्योंकि आपके बेटे का लिंग आपसे बहुत छोटा और पतला सा है. वो चीख पड़ी और उठ कर बोली- दीदी तुम भी ना मुझे सोने क्यों नहीं दे रही.

हा सेक्सी व्हिडिओ काश मैं उसको देख पाती, अपने हाथों से उसे पकड़ कर हिला पाती और आपका रस. तब तक मैं पूरी तरह से गर्म हो चुकी थी इधर अंशुल ने मुझे भी उन लड़कियों के साथ एकदम से नंगी देखा तो उसने सबसे पहले अपनी शर्ट उतारी और फिर उसने अपनी पैन्ट उतारी.

उनमें से कोई एक उठा लीजिए और मेरा बदन दुख रहा है तो मेरी मालिश कर दीजिए. उस रात हमने सुबह 4 बजे तक 3 बार चुदाई की और हर बार एक दूसरे का रस पिया. वो उठ कर मेरी बेटी रेखा के बगल में बैठ गई और उसके कंधे पर हाथ रख कर रेखा की उठी हुई चूची मसलते हुए बोली- यार तेरी चूचियां तो हार्ड हो चुकी हैं तुम्हारी.

बीएफ सेक्सी जबरदस्त सेक्सी

रहमत का लंड देख हम माँ बेटे दोनों दंग रह गए; इतना मोटा और बड़ा लंड सिर्फ अफ्रीकियों का सुना था. मेरा तो अभी हुआ नहीं था, मैंने स्पीड को धीमा किया तो बोली- थक गए क्या?मुझे गुस्सा आया और मैं जोर जोर से चुत में धक्के मारने लगा. फिर मैं मम्मी के साथ अगले दिन पास के गांव जो हमारे गांव से करीब 7-8 किमी दूर था.

जब हम दोनों के लंड, चुत की गरमी शांत हुई तो मैं उठकर सीधे अपने रूम में चला गया. लेकिन वो कुतिया शायद यह नहीं जानती कि मेरा पति ने तो उस की छोटी बहिन को भी नहीं बक्शा, वह उन दोनों बहनों की चुदाई करता है, सारी सारी रात उनके पास रहता है, इसीलिए वह मेरी ओर ध्यान नहीं देता.

उन्होंने उसके साथ फेरे लिए, मंगलसूत्र पहनाया, फिर उसकी माँग भी भरी और अब सुमन बिस्तर पर घूँघट निकाले हुए बैठी अपने पति का इंतजार कर रही थी.

पप्पू ने उसकी नज़र को पढ़ा, पर ध्यान ना देते हुए पीछे से उसे और दबा के अपना हाथ हल्के से उसके पसीने से गीले नंगे पेट पे रखते हुए बोला- साला कितनी आबादी बढ़ गई है देश की, ठीक से सफ़र भी नहीं कर सकते. दरअसल उसके पायजामा के चूत के नीचे के भाग की सिलाई हटी हुई थी, इतना खुला हुआ था कि ऊपर से हाथ डाल कर चुत के साथ हस्तमैथुन किया जा सके. उसके बाद मैं भी उसके बगल में लेट गया और उसके लटों से खेलने लगा, कभी मैं उसके गाल को सहलाता तो कभी उसके होंठों पर उंगलियाँ फेराता.

पप्पू बोला- अरे तो इसमें क्या गंदा बोलते हैं? गोरी टाँगें और जाँघें क्या गंदा है? वैसे भी देख तू गोरी है तो गोरा तो बोलेंगे ही ना? मैंने तेरा बाकी जिस्म देखा है अब बस अन्दर की जन्नत देखनी है तेरी. काला मूसल जैसा, जिस पर लाल रंग का टमाटर जैसा सुपारा था, लंड भी पूरा बालिश्त भर लम्बा होगा. संजय- तू बस हाथों को टाइट रखना, कहीं नीचे मत लेट जाना, नहीं तो मजा नहीं आएगा.

करीब दस मिनट के बाद वो सब भी नंगे हो गए तो मैं तो उन्हें देख कर दंग रह गया.

कोबरा लंड वाली बीएफ वीडियो: तो नेहा कुनमुना कर बोली- जरा ध्यान से…मैंने पहले उसकी चूत में उंगली की, जिससे वो थोड़ा और गर्म हो गई और फिर उसकी गांड में उंगली करके उसकी गांड के अन्दर तक आयल लगा दिया और उसकी गांड को पूरी चिकनी कर दिया. अब जब से पप्पू घर में आया था, उसकी नज़रों से नीता समझ गई थी कि यह मर्द उसे चाहता है.

कुछ पल हम दोनों यूं ही पड़े रहे फिर उसने अपने रूमाल से पूरा साफ किया. मैं बाथरूम चली गयी पिचकारी को लेकर… कमोड पर बैठ कर भी कोशिश करने लगी पर पिचकारी सीधी नहीं हो पा रही थी. एक बार मैं क्लास में अकेला बैठा था तो आरती आई और आकर अपनी सीट पर बैठ गई.

वो अपने दांतों से भी मेरी चूत को खुजा रहे थे और चूत के दाने को उनके बीच में दबा रहे थे.

इसके बाद जब भी जीजू को मौका मिलता था, वो मेरी चूची दबा देते थे और मैं अपने जीजू को सेक्सी वाली स्माइल देती थी. मैं उठ नहीं रहा था, मौसी ने मुझे बाकी बातें घर में बताने का वादा करके मुझे वापस ले आईंरात को खाने के बाद मैं तुरंत ही मौसी के पास चला गया और पूछने लगा, तो मौसी बोलीं- सबको सो जाने दो फिर बताऊंगी. एक लड़की ने वो पट्टा मेरे गले बाँध दिया और तीनों सोफे पे आराम से बैठ गईं.