बीएफ देखनी है वीडियो में

छवि स्रोत,सेक्सी मारवाड़ी सेक्सी राजस्थानी

तस्वीर का शीर्षक ,

लड़की की चुदाई वाली बीएफ: बीएफ देखनी है वीडियो में, जैसे तैसे शाम हुई तो भाबी का फोन आया कि आ जाओ, लेकिन पीछे के दरवाजे से आना.

सेक्सी सेक्सी अंग्रेजी सेक्सी अंग्रेजी

मैं भी उसके मूसल लंड से हिल हिल कर और चुत को उछाल उछाल कर चुदती थी. करिष्मा कपूर के सेक्सी व्हिडिओजैसे ही वो उठा तो गीता जल्दी से उठी और चुत को वॉश करने के लिए भागी ताकि जल्दी से धोकर वापिस आए और बच्चे पैदा होने के ख़तरे कम हों.

मैं भी अपना पूरा जोर लगा कर चुदाई करने लगा और 15-20 झटकों के बाद मैंने उसकी नई चूत को पहली बार वीर्य की गर्म गर्म पिचकारियों से भर दिया. एक्स एक्स वीडियो सेक्सी हिंदी वीडियोअब मेरा हाथ अपने आप ही दिनेश के लंड पर चला गया और दिनेश का लंड हाथों में पकड़ा, उससे पहले अपने आंसू पोंछे, अपने आप दिनेश का लंड हाथ से रगड़ने लगी और अपने मुँह तरफ खींचने लगी.

मैं फूफा जी के लंड को सहलाने लगी ताकि उनका लंड फिर से पहले जैसे खड़ा हो जाए.बीएफ देखनी है वीडियो में: बस अकेले होने का जी चाह रहा था। हमारे नसीब में अकेला होना कहाँ नसीब… आज मौका था तो सोचा कि थोड़ा वक़्त यूँ भी सही। घर पे तो बोल के ही चले थे कि शाम हो जायेगी कल की तरह, तो कोई परेशानी भी नहीं।”पर यहाँ यूँ अकेले बैठना सेफ रहेगा भला? और यहाँ से वापस कैसे जायेंगी.

जैसे ही मैंने अभिलाषा के नाजुक और नर्म उँगलियों वाले हाथ पकड़े, मेरा 8 इंच का लंड मेरे लोअर में तन कर खड़ा हो गया.जब उन्होंने दो दो तीन तीन पैग पी लिए तो एक दोस्त बोला- यार भाबी को क्यों भूल गए… उसभी तो यह अमृत पिलाओ.

एक्टरनी का सेक्सी वीडियो - बीएफ देखनी है वीडियो में

उसने अपना बचाव किया, अपने पैरों को कसके आपस में लपेट कर चुत को कस लिया.वहाँ पहुँच कर मैंने वॉचमैन से कविता के बारे में पूछा तो उसने बताया कि कविता मैम का सुबह फोन आया था कि मैं आज आ रही हूँ, और अभी एक सज्जन आयेंगे इसलिए उन्हें इज्ज़त से बैठने को कहना.

फ़िर बड़ी चाची ने मुझे गाली देकर कहा- मादरचोद साले मुझे ही नंगी करेगा. बीएफ देखनी है वीडियो में वहां पहुच कर हमने होटल बुक किया और मैंने राज को मिलने के लिए बुलाया.

कहकर दोनों हंस पड़ते। अगर कोई दोनों की पसंद का होता तो- हाय! हंक है यार.

बीएफ देखनी है वीडियो में?

बस 8-10 धक्कों के बाद मेरे लंड ने काजल दीदी के मुँह में अपनी पिचकारी छोड़ दी. तभी मैंने शिवानी की चुत से लौड़ा निकला और शीतल की चूत में पेल कर उसे कस कस के चोदने लगा और कहा- मादरचोद रंडी बहन, तेरा गिराऊंगा पहले अपने लंड से तुझे चोद कर!कुछ देर उसे चोदने के बाद उसका भी गिर गया!उसके माल से सना हुआ लौड़ा फिर से शिवानी की चुत में पेल दिया मैंने और कुछ देर तक उसका बदन को रौंदने के उसका और मेरा दोनों का साथ ही गिर गया. फिर मैं उनके पास गया और पूछा- खाला, ये सब क्या है?खाला बोली- आमिर, आज तुम्हारा इम्तेहान है.

’तब नेहा तुमको धक्का मार कर खुद को छुड़ा लेगी और बोलेगी कि ‘तुम्हारी यह हरकत… मैं आज ही तुमको पुलिस में दे दूँगी… पापा से बोल कर तुम्हें जेल भिजवा दूँगी… क्या समझते हो खुद को!’ उसके बाद मैं जैसे कहूँगी, तुम दोनों वैसे ही करना. मुझे बहुत अजीब लग रहा था कि मुझे पहली बार दो के साथ सेक्स करना पड़ रहा है. खैर मैडम शुरू शुरू में मुझे कम याद करतीं थीं तो मैं कैसे भी समय बचाकर इन दोनों को मैनेज करने लगा लेकिन में एक बात का ध्यान रखता कि कहीं मेरा टाइम टेबल ना बिगड़े!तभी अचानक परिवार में एक शादी आ गई जिसमें पेरेंट्स की अनुपस्थिति पर मुझे जाना पड़ा.

मैं- आप बेहद खूबसूरत हैं!सुकन्या हँसती हुई- थैंक्यू, आप सबसे पहले लड़की की तारीफ़ ही करते हैं क्या?मैं मुस्कुराते हुए- रोक नहीं पाया खुद को!सुकन्या- वैसे आप भी कुछ कम नहीं हैं. दीदी मॉम से काफी लम्बी हैं और उनके चूचे और चूतड़ मॉम से काफी बड़े हैं. मैं खुश था क्योंकि श्लोक को मैंने यह एहसास करा दिया था कि हम दोनों की पसंद एक दूसरे के पास है। आग तो श्लोक के अंदर भी लगी थी, मुझे बस उसमें घी डालना था और उस आग की लपट को रीना की तरफ मोड़ना था।दोनों जीजा साले अश्लील बातों में इतना डूब गए थे कि दिनभर ऑफिस में भी अश्लील बातें ही करते रहते थे सेक्स के अलावा हमारे पास और कोई टॉपिक नहीं था.

उसने मेरे बारे में पूछा, मैं बोली- मैं मेरे घर में अकेली रहती हूं, मेरे पति बिजनेस के सिलसिले में बाहर रहते हैं!तो उसने स्माइल की और बोला- मैं भी अकेला रहता हूं।इस तरह दोनों की बातों बातों में बात बहुत आगे तक चली गई और हम दोनों ने मिलने का प्लान बना लिया. भाभी ने तुरंत पूजा को बुलाया और पूजा से कहा कि अगर तुम चाहती हो कि में किसी से कुछ न कहूँ तो मैं भी अमित से सेक्स करूँगी.

उन्होंने पूछा- तुम दोनों यहाँ?तो मैं बोला- ग्वालियर से यहाँ तक बस से आने में थोड़ा थक गए थे, थोड़ा आराम कर रहे थे!उधर पहुंच कर वही तीसरे फ्लोर के चौथे सुनसान कमरे में मैंनेमैडम की चुदाईकरके संतुष्टि की.

मैंने उसे आँखों से इशारा किया कि मेरे लंड को पकड़ कर अपनी चूत के छेद में टिकाये.

फिर उसने मुझसे सारा का सारा ही झूठ बोला था और मुझे फंसा कर और पैसे वापस मांगने की धमकी दे कर राज़ी किया था. हम दोनों लोग की चुदाई से बिस्तर हमारे पसीने से भीग गया था और बिस्तर भी खराब हो गया था. मैं घर से निकल गया और बहुत खुश था कि कोई लड़की हमारे घर आ रही है, वो भी 20 दिन तक रहेगी.

मैं अपने हाठों से उसे रोक रहा था मगर उस साली की ताकत भी ज्यादा थी मैं उसे अपने बस में नहीं कर पा रहा था. उनके बाल खुले हुए थे, सामने की लटें बार बार सामने आ जातीं तो भाभी काम की उलझनों का भाव अपने चेहरे पे लाते हुए उनको पीछे की ओर धकेल देतीं. देख हम तीनों मिलकर कैसे तेरी चुदाई करते हैं, तुम खुद थोड़ी देर बाद हम तीनों से बोलेगी कि फाड़ दो मेरी चूत और गांड.

वो मेरी चूत को देखने के बाद मेरी चूत को सूंघ रहा था और बोल रहा था- आह.

उसके होंठों और चूचियों को चूसने लगा मैं!5 मिनट बाद जब वो नॉर्मल हुई तो फिर होंठ चूसते हुए मैंने एक तेज धक्का लगा दिया. पीठ पर आते ही मैं कुछ देर के लिए रूक गया और उनकी समीज की चैन खोलने लगा. तब उसने बोला- आज तुमने मुझे बहुत खुश किया है, मैं अपनी खुशी से दे रही हूँ.

चूँकि मना तो मैंने किया था ना!उन्होंने तो शायद जगह भी ढून्ढ ली थीं. अब पद्मिनी के जिस्म का हर एक हिस्सा बापू को बेहद प्रिय लगने लगा और हर उस हिस्से को वह अपनाना चाहता था. भाभी नीचे झुकीं और मेरी पैन्ट के ऊपर से मेरा लंड पकड़ के कहा- अब से ये मेरा हुआ.

हम दोनों चुदाई करने के बाद बिस्तर पर लेट गए और कुछ देर आराम करने के बाद हम दोनों लोग फ्रेश हुए.

फिर कुछ देर के लिए उनके माथे पे अपनी हथेलियां रखके पीछे की ओर ले जाता. मैं चकराया कि ये कैसी बीवी है जिसका पति दूसरी लोंडिया को चोद रहा है और उसे कोई फर्क ही नहीं.

बीएफ देखनी है वीडियो में थोड़ी देर में सोनू चिकन लेकर आ गया, मैंने चिकन बनाया और सबसे पहले शिवानी को खिला दिया. चूत पर उंगलियां लगाईं तो पाया कि चूत रस से भरी हुई है, दोनों उंगलियां पूरी तरह से रस में तर हो गयीं.

बीएफ देखनी है वीडियो में मैंने भी बात को मोड़ते हुए कहा- आपने बड़ी देर कर दी आने में?भाभी- अरे अम्मी अब्बू को सुलाने के बाद आ रही हूँ. मेरे लंड पर काला तिल है और कहते हैं कि जिसके लंड या चुत पर काला तिल हो, वो बहुत सेक्सी होता या होती है.

मुझसे बिलकुल नहीं रहा जा रहा था… मैंने दीदी को कस के पकड़ा और उनके होंठों को प्यार से चूमने लगा.

सेक्सी पिक्चर चला दो

वो मेरे सामने ही पेंटी टाइप शॉर्ट्स में नहाने अन्दर गयी और मैं वहीं बाहर लंड निकाल के हिलाने लगा. राज ने मुझे चूमते हुए खाट पर लेटा दिया, उसका बड़ा सा लंड मेरी बेचारी सी चूत के पास ही था, वो मेरी चूत को किस करता हुआ उसके अंदर प्रवेश करने लगा. कुछ देर बाद मैंने पूजा की चूत के छेद पर अपना लंड टिकाया और एक धक्का मारा और उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया और हिलने लगा।मुझे तब भी विश्वास नहीं हो रहा था कि वो मुझसे चुदवा रही है। लेकिन मुझे हैरानी भी हो रही थी कि पूजा इतनी जल्दी चुत चुदाई के लिए कैसे मान गई और उसकी चूत में मेरा लंड बिना किसी रुकावट के कैसे एकदम से घुस गया.

अंकल ने मेरे पीछे घूम कर जैसे ही देखा मेरे पिछवाड़े की तरफ और मेरे दोनों कूल्हों पर हाथ रखा, बोले- बाप रे, तुम क्या कयामत हो वन्द्या तुम्हारी गांड तो बहुत ही जबरदस्त है, इतनी निकली हुई गांड, मैंने आज तक नहीं देखी, बहुत गजब की गांड है तेरी वन्द्या!और वो मेरे दोनों कूल्हों को चूमने लगे, और फिर कूल्हों को फैलाकर जहां मेरी गांड का सुराख था, वहां जीभ चलाने लगे. यह सोच कर मैं उनके बाथरूम के पास आ गया और दरवाजे के छेद में से देखने की कोशिश करने लगा. दिनेश शरारत करने लगा, मेरा लंड पकड़ लिया, पैन्ट में से निकाल लिया, हाथ से सड़का मारने लगा.

तो जीजा बोले- मजाक था तो तुम सतना यहां ड्रेस के लिए क्यों चली आई? यह उसी मजाक में ही तो यह बात हुई थी।तब मैं कोई जवाब नहीं दे पाई.

फिर साड़ी का सिरा पकड़ कर धीरे-धीरे खींचने लगा, वो गोल गोल घूमने लगीं. फिर मैंने निशा को उठा कर तैयार होने को बोला और बेडशीट हटा कर उसे एक पोलोथीन में डाली. मैंने अपने सारे कपड़े उतारे और पूरी नंगी होकर फूफा जी के बिस्तर में उनके साथ जाकर लेट गयी.

चावल, चावल तो हैं ना घर में!” मैं बोली।हाँ… पर बासमती नहीं है… बिरयानी बनाने की सोच रहा था, ये मेमसाब भी आई हैं ना!” सीमा की तरफ देखते हुए राजेश बोला।अच्छा. मैंने अपने लंड पर थोड़ी वैसलीन लगाई और सोनिया की दोनों टांगें ऊपर उठाकर चुत के छेद पर लंड सैट करके जोरदार धक्का लगा दिया. उसने अपनी पैंटी को अपने हाथ से साइड में करके मेरी जीभ को अपनी चूत पर लगाने के लिए जगह बना दी.

पद्मिनी इन्कार कर रही थी, मगर बापू ने समझाया कि जैसे उसने उसकी चूत को चाटा और चूसा था, वैसे ही उसको भी लंड को चाटना चूसना चाहिए. उनकी बात सुनके मैं समझ गया कि वो क्षण आ गया है और मैंने अपनी कैप्री उतार फेंकी.

वो बोलीं- नहीं मानूंगी… बोलो क्या चाहिए?मैंने चुम्मी वाली स्माइली सेंड कर दी और चुप हो गया. उम्म्ह… अहह… हय… याह… मैं मर गई… साले भोंसड़ी के… आराम से नहीं घुसा सकता था…इस तरह से अब मेरी पुत्रवधू मुझे खुल कर गालियाँ दे दे कर चुद रही थी. फिर उन्होंने मुझसे पूछा- सेक्स की लत कब से लगी?तो मैं बोला- नहीं, लत तो नहीं लगी, बस कुछ लोग ऐसे मिले जिन्हें इसकी काफी जरूरत थी तो मैंने मदद की बस!वो बोलीं- अच्छा ऐसी बात है.

” राजेश जोश में सब बोलने लगा।भंगवा??” चेतना ने पूछा।हम तीनों को भी समझ में नहीं आया था तो हम भी ध्यान से सुनने लगी।भंगवा… उससे एक नशे वाला शर्बत बनता है.

पहले मुझे तो नींद नहीं आ रही थी… जब दोनों तरफ दो जवान लड़कियाँ… वो भी पूरी नंगी बेड पर हो तो नींद किस उल्लू को आएगी. उसने मुझे नीचे बैठा दिया और लंड चूसने को कहा, मैं उसके लंड को चूसने लगी. मेरी वाइफ की चुत से बहुत पानी निकले रहा था, जो कि नीचे तक टपक रहा था.

[emailprotected]इस देसी भाभी की सेक्स कहानी पर मुझे आपके मेल इंतज़ार रहेगा. प्रथम वर्ष में था, उस वक्त मेरी बहन की शादी हुई और मैं अपना पहला सेमेस्टर खत्म कर के अपनी दीदी के ससुराल पहुँच गया.

लेकिन इन सब बातों के बावजूद हम दोनों बात करते रहे, अब तक हमारी बातें पूरी तरह खुल गयी थीं।हम लोगों ने न्यू ईयर वाले दिन जीजा जी के घर पर ही मिलने का प्रोग्राम बनाया. उसने अपना लंड मेरी चूत के मुँह पेर रख कर अन्दर करना चाहा मगर वो अन्दर नहीं जा पाया. मैं आपको बताना तो भूल ही गया कि भाबी के पति महीने में 15 दिन बाहर रहते हैं और घर पर उनके बूढ़े ससुर और वो ही रहते हैं.

सेक्सी वीडियो मोटे लंड वाली

उसके बाद मैंने उसको कुतिया बनाया और ज़ोर ज़ोर से धक्के मारना शुरू किए.

मैं किसी से कुछ नहीं कहूँगी, आप और भैया को जो ठीक लगे वो कीजिये, मैं आप लोगों का पूरा साथ दूंगी!यह सुनकर मेरी टेंशन ही ख़त्म हो गयी और मैंने सोनू को भी सब कुछ बताया. मैं भाभी के चूचों को ब्रा के ऊपर से ही चूसने लगा और उनके निप्पल को काटने लगा. दो मिनट तक ऊपर बैठा कर चोदा, उसके बाद नॉर्मल मिशनरी पोज़िशन में चुदाई स्टार्ट की.

फिर मैंने उससे, उसके माथे पर किस करने की अनुमति माँगी… और उसने आँखें बंद कर के सिर हाँ के इशारे में हिलाया. हमारा घर काफी बड़ा है और जिस कमरे में सुहागरात हो रही थी, उसके पीछे की तरफ एक बगीचा है, जहां कुछ पेड़ पौधे लगे हैं, कुछ पुराना सामान भी पड़ा है, वहां ज्यादा कोई आता-जाता नहीं है, रात को तो बिल्कुल भी नहीं! उस कमरे का दूसरा दरवाजा और एक खिड़की उस बगीचे में खुलता है, दरवाजे के ठीक ऊपर एक रोशनदान है. सनी लियॉन सेक्सी इमेजइतना बोलते ही उसने एक बार फ़िर से मेरे लंड का चुम्बन किया और बोली- आज तो मेरे राजा को बहुत मजा दूँगी.

जब चारों ने उसकी चुत की ज़मीन को अच्छी तरह से अपने लंड से सींच लिया तो बोले- जाओ अब चुत की सफाई करके आओ. अब उसकी स्कर्ट तो घुटनों के ऊपर तक थी और घुटनों के ठीक ऊपर से जाँघ की शुरूवात से, वह रंग.

हम दोनों ऐसे पड़े थे मानो जिस्म में जान ही न हो, वो सारा समय कितनी तेजी से गुजरा कुछ पता ही नहीं चला!मेरे चेहरे पर मंजू को भोगने की खुशी थी! तो मंजू भी देख देख शरमा रही थी. ये सब देखकर मैं तो जैसे सकते में आ गया, मैं जडवत हो गया कि मैंने ये क्या देख लिया. भाभी एकदम से सिहर उठीं और गाली देने लगीं- उई माँ मादरचोद क्या कर रहा है…तो मैं बोला- भैन की लौड़ी रंडी.

मैं जल्दी से उसके मम्मों को टॉप के ऊपर से ही दबाने लगा और थोड़ी देर बाद मैंने उसका टॉप भी उतार दिया. अब वो मेरा लंड चूस रही थी और मैं उसकी चूत को किस कर रहा था, उसे चाट रहा था. पूजा अपने चूतड़ उठा उठा कर धक्के दे रही थी, मैं भी नीचे से अपनी गांड उठा के धक्के देने लगा.

फिर करीब एक घंटे के बाद मेरी आँख खुली तो वो मेरे बालों को हल्के से सहला रही थी.

उनकी आँखें बंद थी, मैंने उनके होंठों को छोड़ कर चेहरा ऊपर किया तो खाला ने आँखें खोली और मुस्करायी. फिर मैं उनके पास गया और पूछा- खाला, ये सब क्या है?खाला बोली- आमिर, आज तुम्हारा इम्तेहान है.

तुम बोलो ये सब छोटी मेमसाब से करना चाहते हो?वो बोला- राम राम मेमसाब, हम तो यह सोच भी नहीं सकते… वरना साहिब हमको जान से मार देंगे. फटाफट मैंने भी अपना लोअर व टी शर्ट उतार दी और फिर ज़रा सा पीछे हट के अलका रानी को निहारने लगा. मुझे पता चला कि वो आज छुट्टी पर है, आएगी नहीं, रात भर मुझसे चुदने के बाद जूली अगले दिन होटल नहीं आ पाई थी।मैं बुकिंग मेनेजर अभिलाषा के कमरे में गया तो वहां अभिलाषा भी नहीं थी.

मैंने गुस्सा होते हुए उनसे पूछा कि ये वीडियो कब बनाई?तो एक बोला- कल नाइट में. पापा ने पैसे के बलबूते पर उसे साउथ में किसी शहर में इंजीनियरिंग करने के लिए भेज दिया. मैं फिर भाभी को चूमते हुए उनके दूध तक पहुँच गया और उनके दूध चूसने लगा.

बीएफ देखनी है वीडियो में मैंने भी बिना देर किए लेटे हुए ही अपनी टी शर्ट उतार फेंकी उसने अपना सर मेरे सीने में दबा लिया और मेरा चेस्ट छूने लगी. यहाँ एक बात मैं आप लेडीज को बता दूँ कि ज्यादातर मर्दों का लण्ड पहले डिस्चार्ज के बाद और भयानक हो जाता है मतलब चुदाई में लगने वाले समय में इजाफा हो जाता है.

भाभी की चुदाई मूवी

बापू तक़रीबन अपनी बेटी की पेंटी को छूने ही वाला था, मगर तभी पद्मिनी यह कहकर उठ खड़ी हुई- अब मुझको जाना चाहिए. मैंने भाभी को पीछे से उनकी चूचियों के नीचे से पकड़ कर अपनी बाहों में जोर से जकड़ा और अपने लौड़े को उनकी गाण्ड पर टिका कर ऊपर उठा दिया. टेबल पर वैसलीन की डिब्बी रखी थी जिसे वह डिल्डो पर लगाती थी, उसने वही वैसलीन मेरे लण्ड पर अच्छी तरह लगाई और फिर अपनी चूत के अन्दर तक लगाई.

फूफा जी का लंड फिर से हरकत मैं आने लगा और कुछ ही देर में पूरा तन गया. देवेश के मुंह से निकला- आज बहुत दिनों बाद कोई टक्कर का मिला।उसके कान के पास ले जाकर धीरे से बोले- कभी मेरी मारना!अब देवेश उसकी कमर पकड़ चिपक कर रह गया, वो झड़ रहा था।उसके बाद सुमेर ने कहा- अब मेरी बारी है. भोजपुरी वीडियो सेक्सी सेक्सवाह क्या स्वाद था!फिर मैंने मदमस्त होकर जीभ निकाल के रानी के पंजे को खूब चाटा.

चूंकि मेरे पापा हार्ट के मरीज़ थे और एक बार छोटा सा अटैक आ भी चुका था.

स्कूल जाते वक़्त बापू के खेत के पास से गुज़रती और घर की चाभी उसको देकर तब स्कूल जाती. जाते जाते वो अपने घर पद्मिनी को यह बताने गया भेजा कि वह देर से घर वापस आएगा.

जब कुछ देर बाद वैशाली की चूत में दर्द कम हो गया तब वह चिल्लाने लगी- भाई चोदो मुझे… और चोदो… आआह…रूम में ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ की आवाजें गूंजने लगी. मैं उसका लंड पकड़ कर रगड़ने लगी और वो मेरी चूत को अपने हाथ से सहला रहा था. और फिर अपने भाई से चुदवाने में कोई डर भी नहीं है, कोई जान भी नहीं पाता और जब भी मन करे, आपसे घर पर ही चुदवा भी सकती हूँ.

मैं उनके ऊपर से हटा तो वो खड़ी हुईं ओर मुझे पलंग पर लिटाया और मेरे ऊपर आकर खुद ही उछल उछल कर लंड को चूत के अन्दर लेने लगीं.

अब वह बोला- मुझे कपड़े पहना दो!फिर मैंने उसे उसकी चड्डी पहनाई, उसने मुझे गाउन पहनाया, मेरी ब्रा और पेंटी तो उसने फाड़ दी थी।मैं बोली- तूने मेरी ब्रा और पैंटी तो फाड़ दी, मुझे नई ब्रा पेंटी लाकर देना!वह बोला- ला दूंगा. वो एकदम से चिल्लाई और उसने मेरे होंठों से होंठ लगा कर किस करने लगी. आहा… मेरे लिए कितना सुखद क्षण था, जिसके लिए मैं तड़प रहा था, वह मेरे लिए तड़प रही है।दोस्तो, यकीन मानो भगवान सबकी सुनता है.

इंग्लिश सेक्सी नेपालीक्या बताऊँ दोस्तो, मुझे उससे पहली नज़र में प्यार हो गया!वो देखने में बहुत ही सुन्दर, और हाइट में मुझसे लगभग 4 इंच कम यानि की 5 फीट 6 इंच के आस-पास रही होगी और उसका फीगर यही कोई 32-28-32 के आस-पास का होगा. वो साली बहनचोद जो मुझको छोड़ कर चली गई है, उसकी चुत से तुम्हारी चुत 100 गुना मस्त है.

গুহাটি সেক্স ভিডিও

जब वो थोड़ी नार्मल हुई तो और एक झटके के साथ पूरा लन्ड उसकी चुत में उतार दिया, उसकी चीख अंदर ही रह गई और वो रोने लगी, उसकी चुत से खून आ रहा था तो मैं थोड़ा देर रुक गया, और जब वो नार्मल हुई तो फिर अपना लन्ड अंदर बाहर करने लगा. बारह बजे के बाद ऑफिस बॉय ने मरीजों को कहना शुरू कर दिया कि आज डॉक्टर साब बिजी हैं, अब कल मिलेंगे. तो वो दोनों बोले- हां हां बता दो, उधर आप अपने पति को बताओ और इधर हम ये वीडियो अभी नेट पर डालते हैं.

उसको किस करते करते मैंने अपना एक हाथ पीछे से उसकी पेंटी के अन्दर डाल दिया और उसके गोरे गोरे और मुलायम चूतड़ों को सहलाने लगा. भाभी- देखो कुछ गलत न समझना तुम्हें तो पता है मेरे हजबैंड दुबई में रहते हैं. अब आर्थर ने एक नए ही पोज़ में नताशा की गांड मारने का फैसला किया और उसने मेरी गुड़िया जैसी पत्नी को उसके पंजे पकड़ कर पेट के बल बिस्तर पर गिरा दिया और उसके पैरों को उसके घुटनों से ऊपर, जांघों से पकड़ कर अपने लंड के नीचे ले आया.

उसने अपने लण्ड का पानी मेरे मुंह में छोड़ दिया, मैं भी सारा पानी पी गई. उनके इतना कहते ही मैंने भाभी को बाँहों में भर लिया और स्मूच करने लगा. लेकिन वो भी चालू थी, वो जब भी कुछ पूछती तो अपना मुँह सामने तक ले आती और अपने मम्मों को मेरी पीठ पर दबा देती.

मैंने अपने हाथ से उसके पैंट के ऊपर से ही उसके लंड को पकड़ लिया और पूछा- यह इतना बड़ा क्या है, अब तो बता दे लालजी?लालजी बोला- अब यह तेरा है, खुद ही देख ले. बिंदु ने उसको समझाया कि कभी कुत्ते को कुतिया पर चढ़ते हुए देखा है?तो बोला- हां बहुत बार.

तब मामी बोलीं- बस इतना ही?तब मैंने उन्हें उठाकर बेड पर पटका और उनके ऊपर चढ़कर उनके बोबे मसलने के साथ साथ उनके होंठों पर किस करने लगा.

इस सबके बाद अपना लंड मेरे मुँह में डाल कर चुसवाता था और जब उसका लंड मेरे थूक से पूरा गीला हो जाता, तो अपने थूक को मेरी चुत में डाल कर दोनों की चिकनाई हो जाने पर अपना लंड चुत में डाल देता था. इंडियन सेक्सी इंडियन सेक्सी व्हिडिओवो देखने में अमीर लग रहा था, वो सोफे पर बैठा था और मुझे घूर घूर कर देख रहा था. सेक्सी 16 साल की लड़की के साथउन्होंने मुझे बुझे मन से थैंक्स बोला और फिर मैं अपने कमरे में चला आया. अब मुझे वहां पे रूकना मुनासिब नहीं लग रहा था, तो हॉल से होते हुए दरवाजे की तरफ चल दिया.

इस तरह बोल कर मैंने उसे किसी तरह मनाया और अब उसकी गांड पर लंड सेट किया और धक्के मारने लगा.

मैं बैठ गई और उसके बाद हम दोनों कितनी देर तक बातें करते रहे। करीब 11 बजे मैं अपने कमरे में आई। मगर मेरी चूत तो पानी पे पानी छोड़ रही थी। रूम में आते ही मैंने अपनी नाईटी उतार फेंकी और नंगी ही बेड पे जा लेटी, अपनी उंगली चूत में डाली और चाचाजी चाचाजी करती हुई ने पानी छोड़ा।कहानी जारी रहेगी. घर और बच्चे मैं ही संभालती हूँ, तुम उनकी बात करके बोर मत करो, एन्जॉय करो और कराओ. फिर कुछ देर बाद उसने मेरी लोअर उतार दी तो मेरा टेंट उसे दिखा, उसने कहा- नए अंडरगारमेंट्स पहने हैं?उसने भी नई ब्रा पैंटी का सैट पहना था.

आपके लिए मैं फिर से उस घटना के आगे की कहानी लेकर आया हूँ कि कैसे मैंने अपनी गर्लफ्रेंड की चूत में अपना डाल कर उसकी सील तोड़ी, उसको जवानी का पूरा मज़ा दिया और अपनी ज़िंदगी का पहला सेक्स किया. अब रेखा रानी के मुंह से भी उत्तेजना से भरी हुई सीत्कार आने लगी थी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ लगता था कि मेरी दूसरी रानियों की तरह यह रांड भी पांव चटवा के बहुत मज़ा पाती थी. मेरा डर थोड़ा कम हुआ और मैंने हंसते हुए कहा- आंटी, देख कर क्या करूंगा, बस हाथ का काम कर लेता हूं.

सामूहिक चुदाई

उसी वक्त उसने अपनी हिप उठा दी, जिससे मैंने उसकी पैंटी को थोड़ा नीचे तक खींच दिया. वो कभी मेरे होंठों पर किस करती, कभी मेरा मुँह अपने दूध पर दबा देती. अब भैया डबल बैड पर भाभी की चूत पीछे से घोड़ी स्टाइल में चोद रहे थे और भाभी रो रही थी.

उसने किया तो मनोरमा ने देखा कि उसने चूत पूरी तरह से सफाचट की हुई थी.

प्लीज़ भाईजान एक बार अपने लंड का पानी मुझे पिला दीजिए ना, फिर जी भर कर चोद लेना अपनी कुँवारी बहन को.

जब तक वो यह सेटिंग जमा रहा था, मैंने एक हाथ जूसी रानी के नितम्बों पर फेरना शुरू किया और दूसरे हाथ से रेखा के नितम्ब सहलाने लगा. कौन तुम्हें कुछ कह रहा है?मैं चुप हो गया और कुछ सोचते हुए बोला- ये साड़ी का थान कैसे खुलेगा?मुझे क्या पता, ये तुम्हारा काम है तुम जानो. हिंदी मे व्हिडीओ सेक्सीहम बहुत थक गए थे तो तुरंत ही सो गए!अगले दिन सुबह 8 बजे मेरी नींद खुली, मम्मी सो रही थी पलंग पे वही हॉट पैंट पहने हुए और शीतल मेरे साथ सोफे पे ही सोई थी.

वह इस वक्त लोवर टी-शर्ट में थी, मैंने उसकी टी-शर्ट उतारी तो देखा कि उसने नीचे कुछ नहीं पहना था. हम अलग हुए कभी न मिलने के लिए!वह जीप लेकर चला गया, मैं स्टेशन की ओर बढ़ा।. वहाँ जाकर जो कुछ मालूम हुआ, उससे मेरे कान सुर्ख हो गए, मेरी 1 कजिन जिसका नाम सारा था और उम्र लगभग १९ साल थी की शादी हमारे कजिन इमरान से हुई थी और उनका आपस में बहुत प्यार मोहब्बत था, पता नहीं क्या हुआ कि उसने ग़ुस्से में आकर मेरी कजिन सिस्टर को तलाक़ दे दिया और इसी कारण से वह शादी में भी नहीं आयी थी.

तो उसका बापू धीरे धीरे, बिल्कुल आहिस्ते आहिस्ते पद्मिनी के ऊपर से चादर को हटाता गया. और ये देख कर मैंने भी स्पीड बढ़ा दी और शिवानी को ऐसे चोदने लगा जैसे आज उसकी चुत फाड़ ही डालूंगा!तभी मैंने एक डिलडो लिया और प्रभा की गांड में डाल के हाथ से ही उसकी गांड मरने लगा.

इस बार अलका ने अपने होंठ थोड़े खोल दिए और मैंने जीभ उसके मुंह में सरका दी.

थोड़ी देर की और मेहनत और दर्द को सहन करते हुए अब लंड आरुषि की थोड़ी देर की और मेहनत और दर्द को सहन करते हुए अब लंड आरुषि की गांड में अपनी जगह बना चुका था और अब आसानी से अन्दर बाहर होने लगा था. जब वो थोड़ी नार्मल हुई तो और एक झटके के साथ पूरा लन्ड उसकी चुत में उतार दिया, उसकी चीख अंदर ही रह गई और वो रोने लगी, उसकी चुत से खून आ रहा था तो मैं थोड़ा देर रुक गया, और जब वो नार्मल हुई तो फिर अपना लन्ड अंदर बाहर करने लगा. जब मैं हाई स्कूल का पेपर खत्म करके अपने घर पर ही गर्मी की छुट्टी बिता रहा था.

बहन भाई की सेक्सी हिंदी हम दोनों ने मिलकर ब्रेकफास्ट किया और मैंने उनके लड़के को स्कूल छोड़ा. तो मैंने कहा- एक दिन में एक ही कहा था मैंने!तो वो बोलीं- कम से कम कप्तान को तो इतनी रियायत होनी चाहिए!तो मैं बोला- ठीक है… लेकिन ये पहली और आखिरी बार होना चाहिए!और मैंने सुकून के साथ उसके और अपने कपड़े उतारे और हमने एक दूसरे को चूमना चाटना शुरू किया.

मैंने भाभी को पीछे से उनकी चूचियों के नीचे से पकड़ कर अपनी बाहों में जोर से जकड़ा और अपने लौड़े को उनकी गाण्ड पर टिका कर ऊपर उठा दिया. वो शायद जल्दी में थी या कोई और भी उसके पास था, तो उसने रात में बात करने का बोल कर फ़ोन रख दिया. दोनों चाची अब मेरे खाने पीने का ज्यादा ख्याल रखने लगीं और दोनों मुझे हर वक़्त अपने साथ रखतीं.

पिता ने बेटी को चोदा

कुछ देर धीरे धीरे चुदाई होने के बाद उसने स्पीड बढ़ाने के लिए कहा- जोर जोर से करो. मैं हैरान होकर बोला- मैम, आपकी बेटी इतनी बड़ी है, फिर भी आप आज भी उसकी सिस्टर लग रही हैं. यह देख वो एकदम घबरा गयी और मुझे उसने दूर झिड़क दिया और अपने होठों को हाथ से पोंछती हुए बोली- चूतिया हो का बे…मैंने उसके मुख से ये सुना तो सच बोलूं तो मेरी गांड फट गयी.

तब मैंने उसे कहा- बेबी मेरा लोलीपोप तो चूस कर तैयार कर ले!वो मेरा लंड पकड़ कर फिर से चूसने लगी, करीब दस मिनट मेरा लंड चूसती रही, जब मेरा लंड पूरे लोहे की तरह कड़क हो गया तब उसे मैंने घोड़ी बनने को कहा, वो तुरंत घोड़ी बन गयी, मैं उसकी बुर देख कर हैरान हो गया, क्या बुर थी उसकी… एकदम नर्म कोमल गुलाब की पंखुड़ी की तरह गुलाबी और खूब फूली हुयी!मैं देख कर पानी पानी हो गया. फिर कुछ महीनों बाद पता चला कि उसकी दीदी की शादी तय हो रही है, लड़का लखनऊ से ही था.

क्योंकि हम दोस्त की तरह थे तो मैंने कह दिया कि दीदी आप तो बहुत सेक्सी लग रही हो.

तब तक भाबी की चूत जवाब दे चुकी थी और उन्होंने अपना शरीर ढीला छोड़ दिया. उसने मेरे सामने ही दूसरी चड्डी पहन ली और इसके बाद अपना पाजामा भी पहन लिया. यह नजारा फिल्मों की वजह से मेरा देखा भाला था और उस वक्त मेरे लिये बाकी नजारे से ज्यादा खतरनाक था।रगों में खून चटकने लगा.

फिर लंड और उसकी गांड के छेद पर वैसलीन लगा कर लंड अन्दर डाला तो उसने जम्प किया और बोली कि मुझे नहीं मरवानी गांड. मैंने कहा- क्या तुमको मजा नहीं आ रहा है?उसने भी बेआवाज हामी भरी और हम दोनों मेंचूमाचाटीअपने शिखर पर चढ़ने लगी. शादी वाले दिन भैया अच्छे से तैयार हुए, बहुत सारे मेहमान आये हुये थे, पूरा घर मेहमानों से भरा हुआ था।फार्म हाउस में शादी हुई, वहां मैंने एक लड़की को चोदा, लेकिन कैसे चोदा, वो कहानी मैं बाद में लिखूँगा।रात को शादी हुई, सुबह भाभी दुल्हन बनकर घर आ गयी, रात भर जागने के कारण भैया भाभी दिन में आराम करते रहे, सोते रहे.

तीन चार दिन पहले जब हम लोग बैंगलोर से साथ चले थे तो बहू की चूत एकदम चकाचक सफाचट क्लीन शेव्ड थी पर आज चूत के चहुँ ओर नाखून के बराबर झांटें उग आयीं थीं.

बीएफ देखनी है वीडियो में: मेरे इतना कहते ही भाईजान ने स्पीड तेज़ की तो मुझे असली चुदाई का मज़ा मिलने लगा. फिर मैंने एक ज़ोरदार धक्का लगा दिया तो उसकी चूत में मेरा पूरा लंड चला गया.

अभी मेरा किसी की चुदाई करने का बहुत मन कर रहा था, लेकिन कोई ऐसा माल ही नहीं था, जिसकी चुदाई कर सकूँ. मेरी कहानी पर अपने विचार मुझे मेल करें, मेरा मेल आईडी है[emailprotected]कहानी का अगला भाग:मेरा नौकर राजू और मेरी बहन-5. बापू के समझ में नहीं आ रहा था कि अपनी पद्मिनी के साथ बात की शुरूआत कैसे करे.

हय आ आ करने लगा- सर जी, रहने दें!पर वे सुन नहीं रहे थे, उन्होंने अपना लंड मेरी गांड में ठूंस दिया और चालू हो गए, बड़ी देर तक पेले रहे, गांड फाड़ कर रख दी, इस बार बड़ी जोर जोर से मार रहे थे, फिर झड़ गए, तब अलग हुए.

वैसे ये उत्कर्ष भी ज्यादा देर नहीं चला, क्योंकि जल्दी ही मैं उसकी गांड मारने लगा, दोनों हमारे मेहमान मेरी पत्नी का मुंह चोदने लगे. रात तो दस बजे मैं पूरी नंगी हो कर अपने रूम में बैठी थी और बिंदु अपने साथ जगत को लाई. फिर अंकल ने अपने हाथ से मेरा लन्ड पकड़ कर लगाया और बोले- अब धक्का मारो!मैंने फिर लगाया, इस बार लन्ड आधा अंदर चला गया.