बीएफ पिक्चर एचडी में बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ ब्लू पिक्चर सेक्सी हिंदी

तस्वीर का शीर्षक ,

चोदा चोदी वीडियो बीपी: बीएफ पिक्चर एचडी में बीएफ, फिर 2-3 मिनट चुदाई के बाद मैंने उसको पोजीशन चेंज करने को बोला, वो तुरंत कुतिया बन गई.

जंगली बीएफ वीडियो में

उसने मुझे अपनी बाँहों में लेकर मुझे किस किया और वो अपने घर चला गया. सेक्सी वाली बीएफ वीडियोउनको मस्ती सूझी तो उन्होंने मुझे गिरा कर खुद मेरे ऊपर चढ़ गईं और लंड पर उठने बैठने लगीं.

वो तो बस चुदाई की फिल्म को देखते हुए अपने लंड को मसल रहा थाबिंदु ने उसके कंधे पर हाथ रख कर पूछा- क्या कर रहे हो?वो हड़बड़ा कर उठा, मगर उसका लंड उसके काबू से बाहर था. बीएफ सेक्सी चाहिए सेक्सीमैंने उसे जकड़ कर रखा था और साथ में मैं उसकी गांड धीरे धीरे मारने लगा.

ऐसे ही माथे और उनके बालों में बारी बारी से इस सहलाते हुए इस तरह से उनको प्यार करने लगा.बीएफ पिक्चर एचडी में बीएफ: तब मैं कल का इन्तज़ार करने लगा, सुबह मैंने नहा कर लंड के बाल साफ किए.

इसलिए मैं चुपचाप आपके सामने लेट गयी और आपने अपना काला हब्शी लंड मेरी चूत में पेल दिया.उसने कहा- ठीक है, मैं तुम्हें कल शाम को अपने साथ ले कर चलूंगी और तुम को कुछ ऐसे लोगों से मिलवा दूँगी, जो यह सब कर पाएंगे.

बीएफ सैक्स वीडियो - बीएफ पिक्चर एचडी में बीएफ

मैं भी उसके पास बैठ कर उसे चूमने लगा, जिससे उसकी साड़ी नीचे सरक गई थी.अब हम दोनों मम्मी बेटा बेड पे बैठ गए और मैंने पेग बनाया पटियाला … उसमें बर्फ डाली और सोनू को कहा- मुझे नहीं लगता कि हमें दो गिलास की जरूरत है.

जब मैंने उसको देखा तो वो कोई 50 साल का बुड्डा होगा, मुझे डर लगने लगा और मैं वहाँ से हट कर दूसरी जगह खड़ा हो गया और अपने काम पर चला गया. बीएफ पिक्चर एचडी में बीएफ उनके जाने के बाद मैंने अपने लंड को हाथ से समझाया और उसका पानी निकाला.

मैंने पूछा- आप ही प्रेरणा जी हैं?उसने कहा- नहीं मालकिन अन्दर हैं, आप आइये.

बीएफ पिक्चर एचडी में बीएफ?

मेरी तो समझो हवा ही निकल गई, मैंने तुरंत कोहनी तो हटाई और उससे सरक कर दूर को बैठ गया. फिर उनके बालों को कस कर पकड़ कर सोफा से उठा कर सीधे पंलग पर पटक दिया. कुछ धक्कों के बाद उसको मज़ा आने लगा और वो अपनी गांड हिलाने लगी उसने भी सीत्कार भरते हुए कहा- आह.

क्या पूछना चाहती हो?” उसने मेरी आँखों में झांकते हुए कहा।आखिर तुम लोग यहां नंगे हो कर यह कर क्या रहे थे?”तुम्हें नहीं पता? तुम सच में जानना चाहती हो या घर में दूसरों को बता कर हमारी पिटाई कराना चाहती हो. उसने मुझको फोन किया और बताया कि वह मुझे अपनी गर्लफ्रेंड से मिलवाना चाहता है. वह और भी शर्माने लगी और मेरे बहुत कहने पर मीठी आवाज़ में बोली- मैं भी आप को प्यार करती हूँ.

इसी तरह पता नहीं कब 3 महीने निकल गए पता ही नहीं चला और भैया की शादी का दिन आ गया।शादी की पूरी तैयारी बहुत अच्छे से की थी, बहुत से कामों की ज़िम्मेदारी मुझे दी गयी थी। आलीशान फार्म हाउस बुक किया गया था जिसमें शादी होनी थी. फिर मैंने सोचा कि कुछ जुगाड़ फिट करनी चाहिए, हो सकता है कि भाभी की नंगी जवानी मेरे लंड को मजा दे दे. तो वो आम को किचन की सेल्फ पे रखके मेरे तरफ मुड़ते हुए बोलीं- अरे अम्मी अब्बू अभी रूम से बाहर आ जाएंगे तो?मैंने कहा- आने दो…और दो कदम मैं उनकी तरफ आगे बढ़ गया, जिससे वो पीछे हो गईं और सेल्फ से उनकी मखमली गांड चिपक गई.

वो बहुत खुश थीं, उन्होंने कहा- बहुत टाइम बाद मैंने इतनी चुदाई की है. अपने लंड पर शानदार रूसी लड़की के हाथों का स्पर्श पाते ही आर्थर को मानो करंट सा लगा हो, वो उठ कर खड़ा हो गया और उसने बिजली की तेजी से अपनी पैन्ट उतार फेंकी.

फिर मैंने उनके बेड के नीचे देखा तो पाया कि गद्दे के नीचे मैनफोर्स के कंडोम का पैकेट है.

आप जानते होंगे जब कोई चुदने को चाहती हो और उसकी चुत न चुद पाए तो उसे कैसा लगता है.

थोड़ी देर बाद उसे सीधा लेटाकर उसकी जुबान अपने मुँह में ले ली और भयंकर तरीके से चूसते हुए उसको किस करने लगा. आवाज़ सुनकर शीतल भी जग गयी और हॉल में हमारे पास आकर बैठ गयी!शीतल ने कहा- भैया, सबको फोन लगाओ और बुलाओ!मैंने ठीक वैसा ही किया. लेकिन माँ को भी लंड की जरूरत थी तो वो अब मेरे साथ एडजस्ट करने लगी थी.

मजा तो दोनों को चाहिये था, तभी काजल की चूत ने पानी छोड़ दिया और उसने मेरी कमर में नाखून गड़ा दिए. जब वो जाने लगी तो उसने मुझे मुस्कुरा कर देखा और अपने घर का पता बताते हुए आने का न्योता दिया. रंजीत बोला- क्या हुआ भाभी?मेरी वाइफ कुछ नहीं बोली, सिर्फ़ उन दोनों के बीच पड़ी रही.

वो देखने में इतना मस्त हो गया कि उसे पता ही नहीं लगा कि कब बिंदु उसके पास आ गई.

लेकिन कोई बात नहीं, मैंने भाभी के मोबाइल से आपका नंबर निकाल लिया है. मैंने कुछ देर प्यार से अपने भाई के लंड को देखा, फिर आगे झुककर उसे मुँह में ले लिया. बस थोड़ी देर सब्र कर। अभी पहले से ज्यादा मज़ा आने लगेगा।”मेरा सारा नशा काफूर हो चुका था, लेकिन अपनी बिचली उंगली अंदर घुसाये-घुसाये उसने उलटे हाथ के अंगूठे से वही रगड़न देनी शुरू की जहाँ पहले उंगली से सहला रही थी।धीरे-धीरे नशा फिर चढ़ने लगा।उसके कहने पे मैंने अपने दूध और घुंडियों को अपने ही हाथों से मसलना शुरू कर दिया.

मैंने टीशर्ट और लोअर पहनी हुई थी, उसने मेरी टीशर्ट उतार दी और ब्रा को भी निकाल दिया. फिर वो कहने लगी कि मेरी कमर में बहुत दर्द हो रहा तो तू जरा मालिश कर दे. मैंने उसको उठाया और सहारा देकर धीरे धीरे उसको उसके रूम में लेकर गया.

पर बेटा मैंने तेरे पैदा होने के बाद ऑपरेशन करा लिया था, जिससे अब मैं प्रेग्नेंट नहीं हो सकती.

मैं भी एक हाथ से उसकी चूत में उंगलियां कर रहा था और दूसरे हाथ से उसके सर को पकड़ कर जमकर किस कर रहा था. रात को सोते समय मेरी पत्नी बोली कि सिर दर्द कर रहा है तो मैंने उसको एक और नींद की गोली देकर सुला दिला.

बीएफ पिक्चर एचडी में बीएफ लेकिन वो भी चालू थी, वो जब भी कुछ पूछती तो अपना मुँह सामने तक ले आती और अपने मम्मों को मेरी पीठ पर दबा देती. इससे मेरी पेंट में मेरा लंड एकदम खड़ा हो चुका था और मेरा मन कर रहा था कि भाभी को अभी ही चोद दूँ.

बीएफ पिक्चर एचडी में बीएफ बुड्ढे लोग, बिन ब्याहे लड़के और लड़कियों के लिए छोटे वाले बैंक्वेट में फर्श पर बिस्तर बिछा दिए गए थे. मैंने उसको अपने गले से लगा कर किस किया और उसको भरोसा दिलाया कि तुम मेरी पक्की ग्राहक हो बल्कि मेरे लिए ग्राहक से भी बढ़ कर हो.

फिर एक बमपिलाट धक्के से पूरा लंड उनकी बच्चेदानी तक चोट करता हुआ घुस गया.

బిఎఫ్ ఓపెన్

मैंने उन्हें खाना दिया और एक कमरे में लिटा दिया।आधी रात को मेरे कमरे के दरवाजे पे दस्तक हुई, मैंने उठ कर देखा तो दरवाजे पर जमाई जी थे। मेरे पति नींद में थे, मैंने पूछा- क्या हुआ?वो बोला- मुझे पानी चाहिये. बस दो-तीन बार उन्होंने अपने कमर को ऊपर मेरे मुँह में घुसेड़ने की कोशिश की और फिर शांत होकर, निढाल सी बेड पे पसर गईं. बिंदु बोली- कोई ग़रीब नहीं होता, जब जवान हो तो उसके लिए यही काम सबसे बढ़िया होता है.

और फिर शीतल ने शुरू से लेकर अभी तक की पूरी कहानी उन्हें सुना दी!हमारी सच्चाई सुनके सब हक्के-बक्के रह गए. जैसे ही मैंने आँखें खोलीं, छोटी चाची मेरे होंठों पर किस कर रही थीं. पर जबसे मुझे इसकी जानकारी हुई है, मैंने हमेशा से सिर्फ तुम्हारे बारे में ही सोचा है.

हालाँकि वो बड़े रफ तरीके से मेरी धर्मपत्नी की चूत मारने में लगा हुआ था लेकिन क्योंकि नताशा को भी नशा चढ़ा हुआ था, इसलिए उसे मजा आ रहा था और वो भी खूब जोर-जोर से चिल्लाते हुए आर्थर के लंड को अपनी चूत में पिलवा रही थी.

मैं चाहता था कि भाभी जब एकदम चरम पे पहुंच जाएं, तो मैं अपना लंड उनकी चूत में डालूँ. टॉप के अंदर वैशाली ने गुलाबी रंग की और कामिनी ने सफेद रंग की ब्रा पहन रखी थी. भाबी गांड उठाते हुए कहने लगीं- आह… जोर से चाटो… मेरा पति तो बस अपना लंड खड़ा करता है और डाल देता है… चूत कभी नहीं चाटता.

यह सुनकर नेहा दीदी ने बहुत ही कामुक स्माइल दी और कहा- तुम भी स्मार्ट लग रहे हो. मैंने साथ में ये भो सोचा कि इससे फिलहाल बना कर रखने में ही भलाई है. तभी कविता ने ज्योति से पूछा- ज्योति ये बता कि तुझे चुदाई में कितना मजा आया?ज्योति ने जवाब दिया- दीदी मुझे बहुत मजा आया, आप दोनों का बहुत बहुत धन्यवाद.

मामी बोलीं- अरे मेरे राजा, तनिक आराम से, धीरे धीरे… तुम तो यार किसी एक्सप्रेस की तरह भागे जा रहे हो! जरा छोटे स्टेशन्स का व्यू भी लेते जाओ!तो मैंने थोड़ी शांति पकड़ी और अपना एक हाथ उनकी योनि पर ले गया. मैं फिर से ये रोनू नाम सुनके सोचने लगा कि मेरी शब्बो ने ये मुझे निक नेम दिया है या मुझे चिढ़ाने के लिए बोलती है रोनू, लेकिन मैं रोता तो नहीं हूँ.

वे बिस्तर पर लेटने को हुईं तो मैंने उन्हें पैर फैला कर खड़े रहने को कहा. फिर उसने मुझसे कहा- क्या तुम किसी से बदला लेना चाहती हो?मैंने कहा- साहब आज चुदाई में इन बातों को करना ठीक नहीं… वरना मज़ा भी गायब हो जाएगा. मैं रोज़ सुबह दो अंडे और बादाम का दूध और रात में, अन्नू ने एक सेक्स डॉक्टर से एक टॉनिक लिया हुआ है, तो उसे दूध के साथ पीता हूँ, जिससे सेक्स पॉवर स्टेमिना बढ़ जाता है और बॉडी भी ग्रोथ करती है.

पांच मिनट तक हचक कर चोदने के बाद भाईजान बोले- मैं बहुत खुशनसीब हूँ कि मुझे इतनी खूबसूरत और प्यारी बहन मिली.

मेरे इतना कहते ही भाईजान ने स्पीड तेज़ की तो मुझे असली चुदाई का मज़ा मिलने लगा. होली वाले दिन उसने अपनी तीन सहेलियों के साथ मिल कर अपने युवा नौकर से भांग बनवा कर पी ली और सबको चढ़ गयी. वो मेरी चूत की खुशबू को सूंघने के बाद मेरी चूत को अपनी जीभ से चाटने लगा.

मैंने अपने भी दोनों कपड़े निकाले और अपना खड़ा लंड अभिलाषा की टांगों के बीच अड़ा कर उसकी फूली हुई चूत के ऊपर लगा दिया. इससे हुआ ये कि ज्योति दुबारा से सिसकारने लगी और अपने दोनों हाथों से मेरे सर को अपनी चूत पर दबाने लगी.

पहले तो वो कराहीं और जब जोश आया तो उनकी योनि अंदर से टाइट और गर्म हुई और ये मेरा पूरा साथ देने लगीं. मैं उनको घोड़ी की तरह बना के पीछे से अपना लंड उनकी चुत में डालने लगा. उसने मुझे देखा और मुझे बुलाया और कहा- तुम यहाँ कैसे?मैंने कहा- हाँ.

मायजिओ ओपन सेक्सी वीडियो

मुझे क्या है जब मैं हज़ारों बार अनेकों लौड़ों से चुद चुकी हूँ तो और चार-पांच पुलिस वालों से भी चुद लूँगी.

मैं भी जोश में जा गया और मैंने एक साथ अपनी तीन उंगलियां उसकी चूत में घुसेड़ दीं. मैंने उसको बोला कि तुमको मैं सबसे पहले किस करूँगा, फिर नीचे आ कर तुम्हारे दूध पियूंगा, चूसूंगा और कमर सहलाऊंगा, चूत चाटूंगा और चूत को भी चूसूंगा. मैंने कहा- क्या हुआ?वो हंस कर बोली कि दीदी आप का मँगवाया हुआ खिलौना आ गया है, उसी को दरवाजा बंद करके देख रही थी.

तैयार न होती तो यह न कहती कि कल की कल देखेंगेबल्कि साफ़ साफ़ मना कर देती. उसे पता था उसे लंड को चूसना है, पर उसे मन से चूसने की इच्छा नहीं हो रही थी. बीएफ पिक्चर बीएफ वीडियो मेंलेकिन वायदा करो कि अब कभी दोबारा ऐसा नहीं होगा, तो ही मैं किसी को नहीं बताऊंगी.

अगले रोज मैं सुबह 10 बजे बैंक चला गया और जब 11 बजे के करीब आया तो भाभी जी के पास हिमानी की मम्मी सुजाता बैठी बातें कर रही थी. मैंने पूछा- पूजा डार्लिंग क्या तेरी गांड में डाल दूँ? मुझेलड़कियों की गांड मारने में बहुत मजाआता है.

अचानक मुझे याद आया और मैंने चाकलेट का पैकेट जेब से निकाला उसने आश्चर्य से मेरी और देखा लेकिन कुछ कहा नहीं. इसके बाद हम दोनों बात करते हुए कल्पनाओं में ही फोन सेक्स चैट करने लगे. अभी जब भी मैं जॉब से छुट्टी पर घर आता तो हर बार ससुराल जाकर ममता की चुदाई करता हूँ.

मैं बेड पर लेट गया और वो मेरी टांगों के बीच में आकर मेरे लंड को देखने लगी. दीदी ने जीजा की गोद में चढ़े हुए ही फ्रिज से बर्फ की बकट निकाली और जीजा को चूम लिया. चूंकि मेरे पापा हार्ट के मरीज़ थे और एक बार छोटा सा अटैक आ भी चुका था.

एक और लड़का बलवीर उनका कोई रिश्तेदार ग्वालियर से आया था, मेरी तरह स्टूडेन्ट था मेरी ही उमर का, मेरा दोस्त बन गया.

जैसे ही उसके बड़े-बड़े बोबे और एकदम क्लीन शेव चुत मेरे सामने आई, मैं तो जैसे पागल सा हो गया. मैं तो आ गयी!” वो बोली और मुझसे जोंक की तरह लिपट गयी और अपने पैर मेरी कमर में लॉक कर दिए और उसकी चूत में बाढ़ जैसे हालात हो गये चूत से जैसे झरना बह निकला.

मैं सोच रहा था कि क्या दरवाजा अन्दर से लॉक होगा?फिर मैंने सोचा अगर खुला होगा तो सीधा अन्दर चला जाऊंगा, जो होगा देखा जाएगा. कुछ देर बाद मैंने अपने पेटीकोट का नाड़ा खोल कर नीचे कर दिया, अंदर पैंटी नहीं थी।मेरी चूत में वो उंगली करने लगा, मेरी गर्दन पर, कभी चूचियों पर किस करने लगा. उसने अपना लंड मेरी चूत के मुँह पेर रख कर अन्दर करना चाहा मगर वो अन्दर नहीं जा पाया.

उसका हाथ मेरी चूत पर पड़ा ही नहीं बल्कि वहाँ पर फिरना भी शुरू हो गया. भिंची भिंची आवाज़ में बोली- राजे… कम्बख्त… इतने ज़ोर से उरोज कुचल रहा था… साले बेरहम जानवर… बस झड़ने वाली हूँ मैं…. फिर मम्मों को पकड़ पकड़ का ऐसे खींचता था, जैसे कि किसी बॉल से कोई खेल रहा हो.

बीएफ पिक्चर एचडी में बीएफ बस थोड़ी देर सब्र कर। अभी पहले से ज्यादा मज़ा आने लगेगा।”मेरा सारा नशा काफूर हो चुका था, लेकिन अपनी बिचली उंगली अंदर घुसाये-घुसाये उसने उलटे हाथ के अंगूठे से वही रगड़न देनी शुरू की जहाँ पहले उंगली से सहला रही थी।धीरे-धीरे नशा फिर चढ़ने लगा।उसके कहने पे मैंने अपने दूध और घुंडियों को अपने ही हाथों से मसलना शुरू कर दिया. मैं भी बोला- ठीक है, चलो!वो अंदर गए, एक तेल की शीशी लाये और मेरे लन्ड पर लगा दिया और उन्होंने अपनी गांड पर भी लगा लिया और बेड पर ऊपर पैर करके लेट गए।फिर मैंने उनकी गांड में पहले उंगली करके छेद देखा और अपना लन्ड लगा दिया, धीरे से अंदर धक्का दिया लेकिन लन्ड अंदर गया ही नहीं… दो तीन बार कोशिश की, फिर नहीं गया.

लड़की की और कुत्ता की सेक्सी

मैंने उसकी चुत में जरा सा तेल डाल दिया और एक उंगली चूत के अन्दर डाली. उस दिन पूजा क्या कयामत लग रही थी स्लीवलेस टॉप में… और पीछे पीठ का भाग पूरा खुला ही था, सिर्फ एक डोरी बंधी हुई थी, उसे देख कर मैं पागल होने लगा था, मैंने सोच लिया था कि कुछ भी करके इसे चुदाई के लिए पटाना पड़ेगा।मैंने केक काटा और प्रदीप को खिलाया, फिर पूजा को भी अपने हाथ से खिलाया. अब सोनिया ने मेरा तना हुआ लवड़ा अपने हाथ से अपनी चूत पे लगाया और झटके से बैठ गयी.

तभी वो तपाक से बोली कि तो फिर जल्दी से मेरे फार्म हाउस पर आकर हम तीनों को शाँत कर दो और अपनी दुगुनी फीस लेकर दिल्ली चले जाओ. मेरा बचा हुआ पूरा 5 इंच का लंड उसकी सील को तोड़ता हुआ अन्दर घुस गया. हिंदी में दिखाओ बीएफअब कुछ नज़र नहीं आ रहा था, बस बाप के चूतड़ हिल हिल कर आगे पीछे हो रहे थे.

कुछ देर बाद उसने आँखें खोलीं और मुझसे बोली- तुम खिड़की वाली साइड आ जाओ.

वो कभी उस आदमी के बालों को कस के पकड़ लेतीं, तो कभी उसकी कमीज के अन्दर हाथ डाल कर उसकी पीठ को किसी बिल्ली की तरह नोंच रही थीं. इतने में ही मैं झड़ गया और अपने वॉशरूम में जाकर अपने लंड को साफ किया.

उन तीनों के माहवारी आती रहती थी, जिस कारण मुझे भी रेस्ट मिलता रहता था. मैंने मजाक के मूड में कहा, मुझे उनका ये दिखावटी खफा होने अंदाज अच्छा लग रहा था. वो मुझे कुत्ते कुतिया की चुदाई के बाद दोनों की चुत लंड फंसने के सीन के बारे में बताता हुआ डरा रहा था.

तब मैंने पूछा- तुम्हारा झड़ा नहीं है क्या?तब उसने कहा- मैं तो झड़ गयी थी मगर मुझे बहुत गांड में खुजली हो रही है मुझे ऐसे लग रहा है कि मैं चुदवाती जाऊं!उसके बाद वो मुझसे बोली- मैंने तुझे कहा था कि तुझे मुझसे शादी करनी होगी, मगर मैं चाहती हूँ कि तू मुझसे चाहे शादी मत कर… बस मुझे रोज चोदना… नहीं तो मैं मर जाऊंगी.

लेकिन तभी उसने मैसेज भेज कर मेरा मोबाइल नम्बर माँगा, मैंने दे दिया. मैं थोड़ी देर तक कुछ और धक्के मारता रहा फिर इसके बाद मैंने अपने लंड का पूरा वीर्य उसकी गांड में ही छोड़ दिया. दीदी बोली- मेरा तो सिर्फ आइडिया है तू किसी देसी कपल को भी सैट कर सकता है, पर वो हमारे लिए अजनबी होना चाहिए.

पोर्न वीडियो सेक्सी बीएफमैंने नैना को बेड पे लिटा दिया और ऊपर से किस करते हुए नाभि के पास की गोलाई के भीतर जीभ डालकर चाटने लगा. बुड्ढे लोग, बिन ब्याहे लड़के और लड़कियों के लिए छोटे वाले बैंक्वेट में फर्श पर बिस्तर बिछा दिए गए थे.

मोटी गांड वाली हिंदी सेक्सी वीडियो

तब उसने कहा- कोई गांड भी चोदता है क्या?मैंने कहा- और नहीं तो क्या!उसने कहा- मैंने बहुत इंग्लिश ब्लू फिल्मों में तो देखा है गांड चोदते… लेकिन भारत में भी ऐसे गांड चोदने का रिवाज है क्या? आज तक मैंने नहीं सुना कि कोई गांड भी चोदता है यहाँ!मैंने कहा- जानू, तुम एक बार गांड मरवा कर देख तो लो, तुम्हें भी मजा आएगा, अगर नहीं आएगा तो मैं तुम्हारी गांड नहीं मारूँगा. मैं उसकी जीभ पीने लगा और मैंने उसके गले को चाटना से काटना शुरू कर दिया. जब आपा कॉलेज चली जातीं, तो उसकी ब्रा निकाल कर उसपे मुठ मारा करता था और उसके आने से पहले ब्रा धोकर सुखा दिया करता था.

ये कह कर उस औरत नीलू ने भी मेरे सामने ही अपना टॉप और शॉर्ट उतार दिया. आपकी बार मैंने रेखा रानी की चूचियों को सहलाता रहा जिससे रानी चुदने के नशे में फिर से न सो जाए. मैंने जैसे ही उसकी नजरों से नजरें मिलाईं, वो बोली- अब पास आये तो मैं पापा से सब कह दूँगी.

जब वो दारू पी रहा था तो उसने सुना कि कुछ लोग पद्मिनी की बातें कर रहे थे. पूजा ने लन्ड के बाद मेरी गोली चूसी तो मेरा लन्ड घोड़े के जैसा खड़ा हो गया. तभी शायद उस लड़की को भी शक हो गया था कि मैं उसे देख रहा हूँ, तो वो मुँह बनाते हुए उठ कर वहाँ से चली गई और मैं देखता रह गया.

मैं गौर से उसे देखने लगी।तो वह फिल्म मुझे इसलिये दिखाई गयी थी ताकि मैं यह सब देख कर असहज न महसूस करूँ. दो मिनट तक ऊपर बैठा कर चोदा, उसके बाद नॉर्मल मिशनरी पोज़िशन में चुदाई स्टार्ट की.

उसका रंग गोरा है, हाईट कोई 5 फुट 9 इंच की है और वो अभी पढ़ाई कर रहा है.

उसके इतना कहते ही मैं उसकी चूत में ही झड़ गया, मेरा ढेर सारा माल उसकी चूत में ही समा गया और मैं निढाल होकर उसके ऊपर ही गिर गया. थ्री एक्स व्हिडीओ बीएफमैं सीढ़ी पर चढ़ कर बैठ गया और अन्दर का नजारा देखने लगा।दोस्तो, अब जो मैंने देखा वो आपको बताता हूँ:भैया भाभी से बातें कर रहे थे, भाभी उसका जवाब धीरे-धीरे दे रहीं थीं जो मेरी समझ में नहीं आ रहा था. ऑफिस वाली बीएफपिटाई का अंदेशा था तो जो वह कर रहे थे, जरूर वह गलत ही था, क्योंकि पहले शाहिद शाजिया के केस में भी इसीलिये तमाशा हुआ था।लेकिन उस तमाशे से भी उसे उसके सवाल का जवाब कभी मिल नहीं पाया था और इस बार भी उम्मीद नहीं कि मिल जाये. देवेश ने चुनौती समझ अपने स्पीड बढ़ाई तो उसने अपने चूतड़ों की गति बढ़ा दी.

थोड़ी देर में एकता का पानी निकलने लगा और मेरे लंड से होते हुए मेरी गोटियों को भी गीला करने लगा.

घर वापिस आ कर मैंने उसे बिंदु के हवाले कर दिया और उससे कहा कि इसको समझाओ ताकि यह समझ जाए कि इसकी ड्यूटीज क्या क्या हैं. मैंने उसके पैरों को फिर से ऊपर किया और पैरों को फैला कर उसके अन्दर जोर से धक्का लगाया, उसकी चीख निकल गई और वो रोने लगी. वह ढोलक बजाने के साथ ही साथ हम दोनों की गांड बजाने का भी इच्छुक था पर कह नहीं पा रहा था।फिर शो का जुगाड़ किया, एक दूर झोपड़ी में कुछ नौजवान दर्शकों को दिखाया, सबने पसंद किया। और हिम्मत बढ़ी दो तीन शो किए.

कुछ दिनों बाद उस लड़के ने मुझसे अपनी शादी के लिए अपने माँ बाप को मना लिया. उसके बूब्स के बीच में लंड रख कर तब तक चोदो, जब तक लंड का पानी सीधा उसके मुँह में ना जाए. मेरे पुरुष मित्रों को मेरे किसी आग्रह की जरुरत नहीं पड़ेगी क्योंकि हम अपने लण्ड के साथ हमेशा तैयार रहते हैं … मित्रों, वाकया है ही कुछ ऐसा|मेरी पहली कहानी प्रकाशित होने के बाद मुझे कई मेल्स आये जिनमे एक मेल मेरे ही शहर यानि इलाहाबाद से एक 32 वर्षीया महिला सुकन्या जायसवाल जी का था.

बिहार गर्ल सेक्सी वीडियो

तो फिर चूस कर देखो न!”मैंने उसके दोनों निप्पलों को बारी बारी से अपने होंठों में दबा कर खींचते हुए चूसा. उल्टे उत्तेजित कर रही थी।मैं बहुत ज्यादा गौर से उसे देख या सूंघ पाती कि अहाना ने उसे लपक कर अपने मुंह में ले लिया और मेरे चेहरे के सामने ही चपड़-चपड़ चूसने लगी। वह लप-लप राशिद के लिंग को चूसती चाटती रही और वह लगभग लकड़ी की तरह सख्त हो गया।लो. यह जगह भी तो ऐसी नहीं की कोई सवारी का साधन मिल जाये।”मतलब आप मुझे वाकयी अकेला छोड़ कर जाने वाले हैं?” कहते हुए उसने गहरी नज़रों से मुझे देखा और मेरा दिल जोर से धड़क कर रह गया। मैंने चुपचाप थोड़ा नीचे उतार कर बाइक स्टैंड पे टिकाई और उसके साथ नीचे बढ़ लिया।नीचे कोई बैठने की जगह तो थी नहीं.

उसने अपनी पैंटी को अपने हाथ से साइड में करके मेरी जीभ को अपनी चूत पर लगाने के लिए जगह बना दी.

वो सिसक उठी- आह… माँ…उसकी सिसकारियों ने मुझे और जोश दिला दिया और मैं उसके खूबसूरत मम्मों पर भूखे भेड़िये की तरह टूट पड़ा और उन्हें कभी चूसता.

मैंने बस उसकी चुत को हाथ से रगड़ा और किस किया चूचिया चूसीं, फिर छोड़ दिया. भाई ने मेरी चुत को 14-15 बार ही चाटा था कि मेरे बर्दाश्त से बाहर हो गई और मैं झड़ने लगी. राजस्थानी भाषा में बीएफमुझे सबा की बात सुनकर गुस्सा आया और मैंने उसको बुरा भला बक दिया और घर से बाहर निकाल दिया.

मैंने भी उसकी चुत में लंड सीधे सीधे पेल दिया और ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा. अब पद्मिनी साधारण परिवार की लड़की थी, तो रात को नाइटी नहीं पहनती थी बल्कि वैसी ही सो जाती थी, जिस ड्रेस में रहती थी, यानि वही छोटा स्कर्ट और छोटी सी तंग चोली में सो जाती थी. ज़ोर ज़ोर से किलकारियां मारना, चोदन सुख में मदमस्त होकरआहें भरना और चीखें निकालना, बार बार मेरा नाम लेकर चिल्लाना, ज़ोर ज़ोर से धक्के ठोकने की गुहार लगानाउसकी आदत है.

फिर मैंने उनके कंधे पर हाथ रखा और कहा- आंटी चीनी!आंटी सकपका गई, उन्होंने कहा- यह क्या देखते हो तुम? तुम्हारी मम्मी को कंप्लेन करनी पड़ेगी. धीरे धीरे आहिस्ते आहिस्ते अपनी उंगली को चूत के छेद में डालना शुरू किया.

क्योंकि जिस तरह से उसका बाप उसको चूस रहा था… उससे वो खुद उत्तेजित हो रही थी.

मतलब राशिद से थोड़ी कम ही थी और इस बात से जहां मुझे थोड़ी मायूसी हुई, वहीं अहाना को शायद ज्यादा खराब लगा था।लेकिन उसने हमारी मायूसी पर कोई ध्यान दिये बगैर दो बाल्टी पानी गैलरी में उड़ेल दिया और उसमें फिसल गया।फिर अहाना ने पहल की. दोनों मुझे बेडरूम में ले गईं, जहां मैंने दोनों की 3 घंटे तक जबरदस्त चुदाई की और गांड की भी चुदाई की. वो दोनों इतनी गोरी और खूबसूरत थीं दोस्तो कि दोनों की नंगी जांघें देख कर मेरा तो खड़ा हो गया.

हिंदी बीएफ बढ़िया-बढ़िया मैं- मैं कौन सी स्टोरी पढ़ रहा था बताओ?तो वो बोली-बड़ी बहन को पटाया और छोटी चुद गईमैं उसकी जुबान से खुल्लम खुल्ला चुद गई सुन कर चौंक गया- यार तुम्हारी आँखें है या गिद्ध की आँखें?अब हम दोनों एक दूसरे को देख कर हंसने लगे. वो बोलीं- ठीक है, चलो देखते हैं।तो इस प्रकार मेरी कहानी का एक भाग और ख़त्म होता है, लेकिन अभी बात बाकी है.

अब मेरा हाथ अपने आप ही दिनेश के लंड पर चला गया और दिनेश का लंड हाथों में पकड़ा, उससे पहले अपने आंसू पोंछे, अपने आप दिनेश का लंड हाथ से रगड़ने लगी और अपने मुँह तरफ खींचने लगी. जैसे ही उसने स्पीड बढ़ाई, मैं आआह सिसस्स करने लगी, मैं अपने हाथ से अपनी चूत के किनारे सहलाने लगी. भाईसाहब के मोबाइल पर फोन किया तो पता चला कि तुम सब पाँच घंटे पहले वहाँ से निकल गए हो.

सनी देओल का मोबाइल नंबर

हर बार जब लंड घुसने वाला होता था, तो पद्मिनी अपनी कमर हिला देती और लंड एक तरफ हो जाता. पूजा बोली- पापा जी, नाश्ता आने में टाइम लगेगा, इतने आप मेरी चूत के बाल काट दो. मैं और सुमन दोनों बैठ कर बातें कर रहे थे, तभी टुटू आई और बोली- क्या बातें हो रही हैं.

कुछ मिनट के बाद मैं भी झड़ गया और बांहों में भर कर उसे किस करने लगा. एक बार मैंने अपने जन्मदिन की पार्टी रखी और प्रदीप को बुलाया और पूजा को साथ लेकर आना को भी मना लिया। बुलाया तो मैंने उसके छोटे भाई को भी था लेकिन वो पढ़ाई करने के कारण नहीं आया था.

तब बापू ने अपनी कमर को हिलाया और अपने लंड से पद्मिनी के जांघों के बीच दो छोटे छोटे धक्के दिए.

बेटी टॉवल हटा के नंगी हो गई थी तो माँ भी ब्रा और पेंटी निकाल कर चुत में उंगली कर रही थी. फिर आरुषि ने मेरी बनियान उतारी और मेरी छाती को चूमते हुए नीचे लंड पर हाथ फिराने लगी, फिर उसने मेरे अंडरवीयर को खोलते हुए लंड को हाथ में पकड़ा और टोपे को नंगा करके उस पर जीभ फिराने लगी. हल्के गुलाबी रंग की अपनी चुत को देख मस्त होकर मैं अपने भाईजान से बोली- ओह.

जैसे तैसे शाम हुई तो भाबी का फोन आया कि आ जाओ, लेकिन पीछे के दरवाजे से आना. तभी ज्योति की नजर अपनी चूत और उस चादर पर पड़ी, जिस पर खून का एक बड़ा सा घेरा बन चुका था, जिसे ज्योति बड़ी ही हैरत से देख रही थी. बात करने के क्रम में मुझे बहुत कुछ रहस्य पता चला जो मैं आपसे फिर कभी शेयर करूंगा.

मेरे नीचे वाले फ्लोर मतलब ग्राउंड फ्लोर पे भी परिवार ही रहते थे लेकिन फर्स्ट फ्लोर पे जाने का रास्ता एक ही था, जो नीचे वाले वॉशरूम के बगल से होकर जाता था.

बीएफ पिक्चर एचडी में बीएफ: रेखा रानी ने धीमे धीमे चूतड़ और चूत हिला हिला कर चोदना शुरू किया और आगे को जितना झुक सकती थी, उतना झुक गई. भाईजान अपने लंड को हाथ से पकड़ कर मेरे मुँह की ओर करे खड़े थे कि तभी उनके लंड ने एक तेज़ धार के साथ अपना सफेद गाढ़ा पानी मेरे मुँह के अन्दर डालना शुरू किया.

चल बस कर नवीन…मॉम की बात सुन कर नवीन साड़ी से बाहर अपना मुँह पौंछता हुआ निकला. मैंने उससे कहा- मैं वो सब कुछ करूँगी, जिससे मेरे पति की बहन और माँ को चुदवा कर उनकी फिल्म बना लूँ. हम गरीब घर से हैं, ज्यादा पैसा नहीं है मेरे मम्मी पापा के पास, मेरे पापा एक साल के लिए मुंबई चले जाते हैं.

अब मैं अपने एक हाथ से उनकी चुची दबा रहा था और दूसरे हाथ से उनकी चूत में उंगली कर रहा था.

इसी तरह पता नहीं कब 3 महीने निकल गए पता ही नहीं चला और भैया की शादी का दिन आ गया।शादी की पूरी तैयारी बहुत अच्छे से की थी, बहुत से कामों की ज़िम्मेदारी मुझे दी गयी थी। आलीशान फार्म हाउस बुक किया गया था जिसमें शादी होनी थी. जैसे ही मैंने जीभ को चूत के छेद में डाला वो एकदम से काँप गई और कहने लगी- आआहह. हालांकि मेरे मन में कोई ऐसी गलत भावना नहीं थी, मैं केवल मसाज करता हूँ.