भोजपुरी में बीएफ वीडियो एचडी

छवि स्रोत,गावठी सेक्सी दाखवा

तस्वीर का शीर्षक ,

खुद का सेक्सी वीडियो: भोजपुरी में बीएफ वीडियो एचडी, मैं उसकी चुत चाट रहा था और वो भी जोर जोर से मेरा लंड मस्ती में आकर चूस रही थी.

पेंटी के डिजाइन

लेकिन मैंने मॉम की गान्ड पर आइस क्रीम अच्छी तरह से लगाई और वो तेल मैंने अपने लन्ड पर लगाया. हरियाणा की सपना चौधरी की सेक्सी वीडियोअब तक मुझे घर में तीनों रंडियों की चूत का सुख मिल गया था और चौथी अनुजा का इंतजार था.

उन्होंने मुझे हिलाते हुए कहा- चल विक्की, अब जल्दी ही अपना लंड मेरी चुत में डाल दे बेटा. बहन की चुदाई की कहानीमेरा लंड तना हुआ था और मैंने उसी पोजीशन में उसके मुंह को चोदना शुरू कर दिया.

लेकिन उस दिन से संजय जीजा जी से चुदाई करवाके मुझको लगा था कि जैसे उस दिन ही मेरी असली सील टूटी थी.भोजपुरी में बीएफ वीडियो एचडी: अच्छा उस वक्त मुझे ये नहीं पता था कि वो अकेली है या कोई और है उसके साथ.

ज़िया खुद रसोई से तेल लेकर आई और उसने मेरे लंड और अपनी चूत पर लगा दिया.आगे और क्या क्या होगा और कौन कौन से नए किरदार इस कहानी में आएंगे, वो आपको आगे की मेरी कहानियां में पता चलेगा.

आदिवासी लोगों की सेक्सी - भोजपुरी में बीएफ वीडियो एचडी

उसने नीचे रेड ब्रा और पैंटी पहनी थी … मैंने अगले ही पल उन दोनों को भी उतार दिया.मैं लंड को बुर की फांकों में रखने के साथ ही बार बार हटा भी देता था … जिससे उसकी बुर को भी लंड लेने की ललक जाग गई थी और उसकी बुर की फांकें भी खुलती चली गईं.

वो शायद बहुत ज्यादा थक चुकी थी इसलिए उसको दो कैन में ही नशा चढ़ने लगा था. भोजपुरी में बीएफ वीडियो एचडी मैंने अपनी दो उंगलियां उसकी चुत में डाल दीं, तो उसने कसमसा कर मेरा लंड पकड़ लिया और उसे दबाने लगी.

आरिफ़ा ने अब उसकी चूत के पानी को चाटा और उसकी चूत को चाट-चाट कर साफ कर दिया.

भोजपुरी में बीएफ वीडियो एचडी?

इसके बाद मैंने निम्मी की बुर के दर्शन किए, जो साफ सुथरी, गोरी चिट्टी, हल्के भूरे बालों वाली मादक खुशबू से लबरेज थी और मुझे खुद ने ऊपर टूट पड़ने का आमंत्रण दे रही थी. मेरे शहर में ही मेरे एक दोस्त, जिसकी कुछ समय पहले मृत्यु हो गई थी, उनका पूरा परिवार रहता है. मैं- कैसा लग रहा है शिखा तुमको … शर्माओ मत!शिखा- मुझे समझ नहीं आ रहा है, क्या बोलूं?मैं- क्यों?शिखा- आपसे ऐसे बात करने में मुझे अच्छा नहीं लगता, आप मुझसे कितने बड़े हैं.

मेरे मुँह से ये बात सुनकर वो एकदम से कहने लगीं- अरे तुम तो मुझे वैसे देख रहे हो?मैंने कुछ कहा नहीं, सिर्फ इशारे से सर उठाते हुए सवालिया सा मुँह बनाया. मेरी मां बोलीं- क्यों अभी लंड से मन नहीं भरा है क्या?चाची बोलीं- नहीं दीदी … अभी भी आग लगी रहती है. मैंने बरखा से कहा- तुम अपने पति का लंड नहीं चूसती थी क्या?तो बरखा कहने लगी- उस साले का तो लंड ही खड़ा नहीं होता था.

फिर मैंने उससे पूछा- कैसा लगा?वो शर्म से पलट गई और जैसे ही वो पलटी, उसकी नंगी गांड मुझे चादर के अन्दर से दिख गई. अर्पणा की मदमस्त जवानी और शराब का नशा क्या गुल खिलाने वाला था, ये मैं आपको अगले भाग में लिखता हूँ. वो मैडम से सीधे भाभी पर आया और बोला- भाभी जी, आपके लिए तो सब रेट कम ही हैं.

मैंने यहीं पर चांस लेने की सोची और बोला कि क्या हम दोनों एक दूसरे की हेल्प कर सकते हैं?शिखा- क्या मतलब?मैं- मतलब … जो तुमको चाहिए क्या मैं वो हेल्प कर सकता हूँ?शिखा- नहीं नहीं … ये नहीं हो सकता, आप मेरी सहेली के पापा हैं, तो मेरे भी पापा समान ही हैं. वो भी अब दोबारा से काफी गर्म हो चुकी थी और चुदाई के लिए तैयार हो चुकी थी.

मैंने मॉम की पेंटी फाड़ दी और उनको पूरी तरह नंगी कर दिया था और खुद भी अपना बॉक्सर उतार कर पूरा नंगा हो गया.

मामी मेरे सामने खड़ी होकर मेरे सर को पकड़ कर बोलीं- नीचे क्यों बैठे हो?मैंने जवाब दिया- अपना फ़ोन ढूंढ रहा हूँ.

कुछ देर के बाद मौसी मेरे पास आई और मुझे अपने साथ चलने के लिए कहने लगी. उसने दोनों हाथों से तकिये को दबा रखा था और मुँह में चादर फंसा कर ‘उम्मह उम्मम्मम. भाभी से यही सब बातें करते करते मेरा लंड पैन्ट के अन्दर तम्बू की तरह खड़ा हो गया.

मैंने 2-3 केले, कुछ डॉयफ्रूइट्स और सफेद मूसली खाई और आराम करने लगा. वो मेरे घर में मदद के लिए रहतीं और मैं किसी न किसी बहाने से उन्हें छू लेता. अब हम दोनों दो प्रेमी के जैसे एक दूसरे को आंखों ही आंखों में देख रहे थे.

अब उन्होंने मेरे लंड को नीचे हाथ ले जाकर पकड़ लिया और उसको जोर से दबाने लगी.

आखिर में मुझे मुठ मारनी पड़ी और अपने लंड का पानी निकाल कर उसको शांत किया. एक दो बार मेरे लम्बे मोटे लौड़े पर मुंह चलाने के बाद लड़की भी खुलने लगी. इसीलिए तो मेरे कोई बच्चा नहीं हो रहा है।और चाची कामवासना से अपनी चुत में उंगली करने लगी और फिर थोड़ी देर बाद वो भी झड़ गयी और फिर सो गई।सुबह जब मैं उठा तो देखा कि दीदी मम्मी और चाचा तैयार हो रहे थे।मैंने पूछा- आप लोग कहाँ जा रहे हैं?तो दीदी ने बताया- जल्दी से तैयार हो जा … मामा के घर चलना है.

हम दोनों के बीच चुदाई को लेकर इतनी खुल कर बात होने लगी थी, जैसे हम दोनों एक दूसरे से सब कुछ बता देना चाहते हों. उसने कहा- तुम्हारा पप्पू तो मेरी मम्मी की भी चूत फाड़ डालेगा … मेरी तो औकात ही क्या है. आरिफ़ा उठी और उसने प्रीति की ब्रा को खोल कर उसकी मोटी चूचियों को आजाद कर दिया.

वो बोली- मैं जब से आई हूं, हम दोनों आपको ही खिड़की से देखते रहते हैं.

वो पूरे लंड को आराम से अंदर बाहर करते हुए मेरी चूत को मस्ती में चोद रहा था. मैंने उसकी खूबसूरती के लिए एक बार उसकी तारीफ़ की, तो उसने मुझे थैंक्स बोला.

भोजपुरी में बीएफ वीडियो एचडी अब मैं नीचे लेट गया और अपने ऊपर निशा को लेटा कर उसकी चूत में लंड डाल दिया. उधर पहुंच कर मैंने देखा कि वे दोनों जुड़वां बहनें एक अपर बर्थ में एक मिडिल बर्थ में जूनियर लड़कों के साथ कम्बल में घुसी हुई थीं और मिडिल बर्थ वाले हिल रहे थे.

भोजपुरी में बीएफ वीडियो एचडी आज पहली बार वो किसी पुरुष के साथ एक कमरे और एक बिस्तर को साझा कर रही थी और एक एक स्पर्श की अभिव्यक्ति उसका चेहरा कर रहा था. मैंने बोला- बिना ब्रा पैंटी के तू पूरे मॉल में घूमती रही थी?वो हंस कर बोली- तो क्या करती … गीली गीली पेंटी से मुझे अच्छा नहीं लग रहा था.

इतने में मम्मी और अंकल की नज़र मुझ पर पड़ी, तो वो दोनों भी कुछ पल के लिए डर गए.

कुंवारी दुल्हन सेक्सी वीडियो हिंदी

अब सिर्फ मेरी बीवी ही मेरे लंड की शिकार बनना रह गई थी, जो कि अगले पांच दिनों तक चले सुहागरात महोत्सव में आखिरी दिन चुदी. फिर मैंने एक हाथ को नीचे ले जाकर मोसी की पैंटी के ऊपर से उनकी चूत को सहलाना शुरू कर दिया. मैंने उससे पूछा- तुमने तो पहले भी किया होगा … इतना दर्द कैसे हुआ?वह बोली- आपके साले का लंड छोटा सा है और पतला भी है.

वो ‘आह ओन्हन्न यस … और ज़ोर से चोदो मुझे … आह!चुदाई की मस्ती छाने लगी थी. बजाए जोर जोर से झटके लगाने के उलट, मैं उसके साथ पूरा चिपका हुआ था और कोशिश यही कर रहा था कि ज्यादा से ज्यादा उसको मज़ा दे पाऊं. उसके साथ इतना सब करने से मुझे एक बात तो समझ आ गई थी कि अंजना खुद भी सेक्स करने के लिए राजी है, नहीं तो अब तक वो चिल्लाने लगती या भाग जाती.

फिर पापा चाची की चूत मैं उंगली करने लगे और साथ में चूचियाँ भी दबा रहे थे.

भाभी ने तुरंत मेरा लंड मुँह से निकाल कर अपनी चूचियों के बीच में रख कर मेरा माल निकलवाया. जब उसने देखा कि लंड सही जगह नहीं लगा है तो रश्मि ने खुद ही मेरे लंड को पकड़ कर अपनी गांड के छेद पर रख लिया. अब आगे:मैंने तुरंत केशव को मार्केट भेजा और 4 कैन बीयर, दो बोतल व्हिस्की और दो पैकेट सिगरेट के मंगा लिए.

उसने मुझे अपने हाथ से रोका और बोली- नहीं अभी मत करो … मुझे दर्द हो रहा है. मैं जानना चाहता हूँ कि मेरी दुल्हन सुहागरात को मुझे अक्षतयौवना मिली थी या नहीं? उसने पहले कभी सेक्स किया था अथवा नहीं. यूं तो मैं शादीशुदा था, लेकिन कहते हैं न कुछ दिन बाद घर की मुर्गी दाल बराबर हो जाती है.

उस दिन के बाद से जब कभी उनका या मेरा मन होता, मैं दोनों में से किसी एक को बुला लेता और चुदाई के मजे ले लेता. मैंने कहा- आज तक धार को चैक ही नहीं किया है … तो कैसे मालूम कर सकता हूँ कि कितनी तेज धार है.

दो मिनट में ही मेरे लंड ने पानी छोड़ दिया और मैं उसके मुँह में ख़ाली हो गया. मैंने उसे बेड पर चित लिटा दिया और उसकी टांगों को फैलाकर उसकी बुर को देखा तो मेरी ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा. आंटी की चूचियां इतनी बड़ी और मस्त थीं कि उनको देख कर लंड से पानी निकलने लगता था.

उसने कहा- ओके मैं तुमको बुला लूंगी … लेकिन मैं दूसरे लड़कों से भी चुदवाती रहती हूँ, तो सबको मैं एक हजार रूपए जरूर देती हूँ.

आगे की सेक्स कहानी में मैं लिखूँगी कि कैसे मैंने उसके अलावा और जग़ह जाकर अपनी गांड के लिए लंड ढूंढना शुरू किया. उन्होंने मुझे देखते ही कहा- हां जी क्या चाहिए?तो मैंने उन्हें कहा- मैंने आपको रूम के लिए फोन किया था।तो उसने कहा- आइए, मैं आपका रूम दिखा देती हूं।वह मुड़कर चलने लग पड़ी. एक दिन बुआ और माँ की बातें सुन कर मुझे पता लगा कि बुआ की चूत की प्यास नहीं बुझती.

मैंने लोअर नीचे खिसकाकर अपना लण्ड बाहर निकालकर हनी के मुंह में दे दिया, वो चूसने लगी. मैं मंत्रमुग्ध उसे देख रहा था … और तभी नीचे झुक कर मैंने उसकी चुत को चूम लिया.

कोई बीस मिनट के धक्कों के बाद मैंने कहा- जान, अब मेरा रस निकलने वाला है. अब मैंने सोचा आज तो रात भर यह चुदाई, खिंचाई और गांड मरवाई का प्रोग्राम तो चलता रहेगा, मॉम को थोड़ा और खुश करता हूं. रवि- साली मादरचोदी … अब मजा दे रही है … ले भैन की लौड़ी गांड में लंड ले.

सेक्सी ब्लू फिल्म भोजपुरी वीडियो

हम सब वापस घर आ गए थे और कुछ दिनों बाद मैं और रूपाली गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड बन गए थे.

वो पूरी गर्म हो चुकी थी।वो आदमी दीदी को चोदने लगा। हर झटके के साथ दीदी का पूरा शरीर हिल जाता।कुछ देर बाद वो दीदी को उल्टा कर दीदी के कूल्हे दबाने लगा और पीछे से चूत मारने के बाद वहीं दीदी के बगल में नंगा लेट गया।इस तरह मैं 5 दिनों तक उन लोगों के साथ दीदी सेक्स को देखता रहा। कभी दोनों चोदते तो कभी कोई एक ही चोदता. फिर मैंने पूछा- कैसे लोगी से … तुम्हारा क्या मतलब है भैया?वो बोला- मतलब कुछ डलिया वगैरह में लोगी. वो बोली- मेरी उम्र की ही मेरी एक सहेली रीना पास ही के एक प्रॉपर्टी डीलर के यहां रिशेप्शनिस्ट के पद पर 5 महीने से कार्य कर रही है.

मैंने मौके को गंवाना ठीक नहीं समझा और कहा कि तुम कहोगी, तो तुमको भी दिला देंगे. ये सेक्स कहानी अब से एक साल पहले उस वक्त की है, जब मैं यूनिवर्सिटी में पढ़ता था. सेक्सी वीडियो गाने केमॉम बोली- बेटा, देख बूब्स से आज बिल्कुल भी मत खेलना, कल से खेल लेना.

बार-बार बहाने से चाची की गांड में लंड को धकेलते हुए मैं उन पर चढ़ा जा रहा था. वो सी… सी … ईई … उई … आह्ह … करते हुए अपनी चूत को मेरे लंड से चुदवा रही थी.

अब मैं समझ गया कि ये चुदने को राजी तो है, पर इसके मन में कुछ हिचकिचाहट है. अब हम दोनों दो प्रेमी के जैसे एक दूसरे को आंखों ही आंखों में देख रहे थे. जब मिष्टी ने मुझे ये बात फोन करके बताई, तो मेरे दिमाग में एक आइडिया आ गया.

वो हड़बड़ा उठी … और बोली- सर … ये क्या कर रहे हो आप?मैंने कहा- प्यार करना चाहता हूं. सोचा आशिमा अपने अंडरगारमेंट धोने के लिए कहाँ रखती होगी, मुझे उसकी चूत की खुशबू सूंघनी थी. आपस में रगड़ खाते हुए उसके हिलते हुए चूतड़ देख कर मेरा लंड भी हिचकोले खाने लगता था.

उफ … क्या बताऊं दोस्तो … रिश्ते में वो मेरी बुआ हैं … लेकिन उनके शोला उगलते हुस्न के आगे में सारे रिश्ते भूल गया था.

जब हमारी सांसें थोड़ी नार्मल हुई तो हम उठे और फिर बाथरूम में नहाने के लिए गये. जब उसने देखा कि उसकी चूत पर टॉर्च पड़ रही है तो वो कहने लगी- पारुल भाभी क्या कर रही हो! टॉर्च को बंद करो.

वो एरिया भले ही कितना भी गंदा था मगर मेरी हवस के आगे मेरे मन ने वो सब नजरअंदाज कर दिया. फिर उसने मेरे लंड को अपने मुँह में अन्दर भर लिया और मस्ती से चूसने लगी. मैंने पूछा कि तुम क्यों नहीं गईं?उसने कहा- मैं शाम को जाऊंगी … दोपहर का खाना भी वहीं है.

अब मैंने अपनी पूरी टांगें अपने प्रेमी के लंड के स्वागत में खोल दी थी और मैंने उसकी कोली भर ली।वह भी ‘दिव्या दिव्या’ कर रहा था और मुझे बहुत प्यार कर रहा था. मेरे लंड से निकल रहा वीर्य का प्रेम रस उसकी चूत से बह कर बाहर आने लगा. मैंने भी बिना देर करते हुए उसको बगल में लिटाया और उसके चूतड़ों के नीचे तकिया लगा दिया.

भोजपुरी में बीएफ वीडियो एचडी मेरे वहां घर पर कोई नहीं था तो मैंने अपने पति के ऑफिस में फोन किया. गर्मी के मौसम का नजारा कुछ ऐसा था कि सभी बाराती … चाहे वो लड़का हो या लड़की हो … नहाने जाने की तैयारी कर रहे थे.

सेक्सी 40 सेक्सी सेक्सी सेक्सी

कहानी का पहला भाग:मकान मालकिन की वासना और प्यार-1बरखा ने मुझे अपना फोन दिया और कहने लगी- इसमें वीडियो प्ले नहीं हो रहे हैं, तुम जरा देखना इसमें क्या प्रॉब्लम आ गई है. आज मैंने ये भी देख लिया था कि तुम मुझे क्लास में कैसे घूर रहे थे … और अभी अभी क्या हुआ सोनू … मेरी मैक्सी की तरफ क्या देख रहे थे?मैंने कहा- हां मैम मैं आपको देखता हूं … तो मुझे अजीब सा लगता है. दस मिनट बाद मुझे रहा नहीं गया और मैंने अपना सारा वीर्य अपनी मॉम के मुँह में गिरा दिया.

ओनर- हां मैंने देखा … ये बता एडमिशन लेने आए हो, एक हजार मंथली लगेगा. जवाब में मैंने कहा- एक तो मैंने तुम लोगों के लिए कुछ ऐसा किया नहीं, जो तुम दोनों मेरा थैंक्स कहो … पर फिर भी अगर तुम्हें लगता है कि मैंने कुछ ऐसा किया है, तो जब तुम्हारा वक्त आए तो तुम भी मेरी खुशी के लिए बदले में कुछ ऐसा कर देना … जिससे मैं खुश हो जाऊं … क्यों करोगी न?ये कहते हुए मैंने निम्मी को आंख मार दी. सेक्सी सेक्सी वीडियोxxxभाभी अचानक मेरे पास आकर कहने लगी- अब मेरी भी मर जाने की इच्छा होती है.

अब तक मुझे घर में तीनों रंडियों की चूत का सुख मिल गया था और चौथी अनुजा का इंतजार था.

मुझे ख़ुशी इस बात की थी कि अपनी कच्ची कली जैसी बहन की सील तोड़कर उसे औरत तो बना दिया. उसके मन से तो मानो जैसे एक पहाड़ उतर गया हो, वह वॉशबेसिन पर मुंह धोकर किचन में गयी और खाना माइक्रोवेव में गर्म करने लगी.

उसने जैसे ही मेरे लंड को महसूस किया, तो उसकी सिसकारियां निकलने लगीं. माँ बोलीं- अब मेरे में इतनी हिम्मत नहीं रही … उम्र 45 से ज्यादा की हो गयी है और तू जब भी चोदने लगता है … मेरी जान निकाल देता है. शुरू से ही परिवार का एक साथ रहने में यकीन था इसलिए मैं अपनी चाची के काफी करीब था.

लंड का टोपा बस अन्दर गया था कि वह चिल्लाने लगी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’मैंने उसके होंठों को अपने होंठों से बंद किया और उसे किस करते हुए अपना लंड अन्दर डालने लगा.

अब अपनी मामी के बारे में बता दूँ … वो कद में छोटी हैं तकरीबन साढ़े 4 फिट की होंगी. अब उसको मेरे साथ रहते हुए काफी समय हो गया है लेकिन हम दोनों अभी भी चुदाई करते हैं. मॉम ने अपनी गांड पीछे को ठेलते हुए कहा- उसे बुरा क्यों लगा था?पापा बोले- अरे यार, उस मादरचोद ने मेरे कुछ पेमेंट रोक दिए थे.

राजस्थानी वाला सेक्सी वीडियोअब वो दर्द से कराह रही थी, उसकी गांड पर मेरी ठापें, ठप- ठप की आवाज़ के साथ पड़ रही थीं. क्या मैं उसकी कुंवारी बुर को चोदा?अब तक की चुदाई की कहानी के पिछले भागदो कुंवारी बहनों को मस्त चोदा-3में आपने पढ़ा कि मैंने कैसे मैंने शीनू की गांड और बुर को चोदा.

प्रिया सेक्सी वीडियोस

जवाब में वो भी जोर जोर से टक्कर मारते हुए मुझे सेक्स का निमंत्रण दे रही थी. अब वो भी मजे लेने लगी और बड़बड़ाने लगी- चोदो … और चोदो … फाड़ दो! आज से मैं तुम्हारी रंडी हूँ. पार्टी के बाद उसने दोबारा से मेरा नाम पूछा, तो मैंने भी उसका नाम और क्लास पूछ ली.

मैं- सर जी मेरी इतनी औकात नहीं है … हां ट्रेनर की कोई पोस्ट खाली हो, तो बता दीजिए, मैं पार्ट टाइम कर दूंगा. खुली बातचीत होने के कारण कशिश को मेरे बारे में सब पता था कि मैं बहुत सी लेडीज़ के साथ सेक्स कर चुका हूं. मैंने कहा- मम्मी, जब मैंने कभी किया ही नहीं तो मुझे कुछ पता कैसे हो सकता है.

मुझे उम्मीद है कि आप लोगों को मेरी यह कहानी पसंद आयेगी और इसको पढ़ते हुए सबके लंड व चूतें पानी छोड़ने के लिए मजबूर हो जायेंगे. पर जैसे ही मैं मुड़ा … तो भाभी ने मेरा हाथ पकड़ लिया और अपनी ओर खींच लिया और मुझे एक जोरदार चुम्बन किया जिससे मेरा पूरा शरीर खिल उठा. मैं सोच रहा था कि अभी सोफी को अभी के अभी पकड़ कर कार में ही इसकी चुदाई कर लूं.

मैंने उसकी पीठ पर हाथ फेरा और उससे पूछा- क्या तुम अपने मामा से शर्मा रही हो?वो बोली- नहीं मामा, बल्कि आज मुझे आपसे बात करना अच्छा लग रहा है. मामी बोली- तूने मेरा तो ये हाल कर दिया और खुद पूरे कपड़े पहने खड़ा है.

वो मेरी जांघ से फिसल जा रही थी, तो उसने अपनी गांड वापस ऊपर को की, तो उसकी गांड में मेरा लंड चुभ गया.

मैंने मोसी की बात का जवाब देते हुए कहा- मोसी, अब छोटा ही रहूंगा क्या?मेरी बात पर मोसी मुस्कराने लगी. मारवाड़ी सेक्सी वीडियो छोटी लड़कीमेरी शादी हुई नहीं है क्योंकि लव मैरिज की इजाजत घर वाले नहीं देते और मैं घर वालों को दुखी नहीं देख सकता. हॉट सेक्सी वीडियो ब्लू पिक्चरहमारी शादी के 4 साल बाद मनी के माता पिता ने 15 दिन की तीर्थ यात्रा पर जाने का कार्यक्रम बनाया तो मेरी साली हनी को हमारे घर छोड़ गये. जैसे ही वंदना मैम ने लंड मुँह में लिया, मैं सब कुछ भूल गया और मैं एक अलग दुनिया में विचरने लगा था.

मैं यही सोचता हूँ कि अगर मेरी वाइफ ने शादी से पहले अगर किसी के साथ सेक्स किया होगा, तो उसको लंड की अदला बदली के लिए मनाने में आसानी होगी.

सेक्स की हवस ने मुझे अंधा कर रखा था और मुझे उसके लिए कुछ भी करना मंजूर हो चला था. मैंने अलमारी से एक टाईट पिंक कलर की लेडीज़ सेक्सी हाफ पैंट, जो लेडीज पैंटी से थोड़ी सी लंबी होती है और जो शायद मॉम बेडरूम में जब पापा होते थे, तब ही पहनती होंगी. मैं उसके पैरों के बीच पहुंच गया और उसकी बुर पर अपने होंठों को टिका दिया.

उसने अपना एक हाथ उसके एक चुचे पर रख दिया और वो अपनी बहन की चूचियों को दबाने लगा. हम दोनों ने एक साथ उसके दोनों छेदों में लंड पेले … और उसे गोद में उठा कर खूब चोदा. लेकिन मर्द का मजबूत हाथ उनकी जांघों को पराजित करता हुआ जन्नत के बगीचे में पहुंच गया था.

बिहार का सेक्सी बिहारी

फिर मैंने उसको मुंह से मजा दिलाया, मैंने उसका लंड अपने मुंह में ले लिया. मेरी कुछ समझ में नहीं आ रहा था, लेकिन चुचियों की मसाज से ही मैम शायद दो बार झड़ चुकी थीं. [emailprotected]कहानी का अगला भाग:मेरी संस्कारी मॉम सेक्स की प्यासी-3.

10 मिनट तक माँ की गांड मारने के बाद मेरे लन्ड में दर्द शुरू हो गया था, मैं झड़ने वाला था.

उसकी ड्यूटी कुरुक्षेत्र में है, जो कि हमारे शहर से 50 किलोमीटर दूर है.

मैंने कहा- साली कुतिया, तुझे नंगी घूमने में मजा आ रहा था ना … चल घर पहुंच तुझे नंगी घुमाता हूं. जब मैं जान गया कि ये हेमा तो एक नंबर की चुदक्कड़ औरत है, तो मेरा काम आसान हो गया था. बंगाली नेपाली सेक्सीकहानी लिखने में यदि कोई गलती हो जाये तो माफ करियेगा। यह कहानी मेरे और मेरी चाची के बीच में हुई घटना के बारे में है.

उन दोनों की चुदाई के बारे में सोच कर एक बार फिर से मेरा लंड तन गया. मैंने उसको अपनी बांहों में कसके जकड़ लिया और अपने होंठों को उसके होंठों पर लगा कर लंड धीरे धीरे अन्दर डालने लगा. मैं चुत का रस चाटने के बाद भी काफी देर तक उसकी चुत को चाटता रहा था.

लंड पेलने के साथ बीच बीच में मैं उसकी जीभ, उसके होंठ और मम्मों को चाटता रहता. मैंने उनके दोनों हाथ जोर से दबा लिए और उनकी टांगें फैला दी और लंड पर दबाव बनाया.

मैंने उनकी चूत की फांकों को दोनों तरफ फैलाते हुए अपनी जीभ निकाल कर उनकी चूत में डाल दी.

उन्होंने मुझे रोक लिया और बात करते करते … भाभी की चूत चुदाई की कहानी का मजा लें. करीब 5 मिनट बाद वो शांत हुई और मेरी कमर को अपने चुत पर दबाने की कोशिश करने लगी. पांच-सात मिनट की चूमा-चाटी के बाद लंड में फिर से तनाव आना शुरू हो गया.

हिंदी सेक्सी फिल्म कम कई बार तो आंटी के घर भी जाने लगा था मगर वहां पर जाकर पता चला कि उनकी ज्वाइंट फैमिली है इसलिए मैं रात को केवल मुठ मार कर सो जाता था. आशी ने खूब चूमा अपने बाप को और अपने बाप के मुरझाये लंड को भी खूब किस किये.

कुछ मिनट चूसने के बाद मैं उसके ऊपर से हट गया और वो जोर जोर से सांसें लेने लगी. अब मेरी बीवी ने उस लड़की को मेरे लंड पर किस करने के लिए उसको नीचे मेरे कदमों में बैठने के लिए कहा. ये कह कर मैंने तुरंत ही अपना लंड चाची के होंठों से लगा दिया और उनको लंड चूसने का कहा.

हरियाणा की सेक्सी वीडियोस

पूरे एक महीने बाद मेरी शिफ्ट चेंज हुई और मैं आफ्टरनून शिफ्ट पर आ गया. मैं लंड के नीचे लेटी चुत वाली के साथ एकदम दानवों जैसी चुदाई करता हूँ और इस दौरान उसके दूध या निप्पल वगैरह में दांत भी गड़ा देता हूँ. मैंने कहा- हां कहा था … तो?वो हैरान सी होकर बोलीं- तुम बड़े ही गंदे इंसान हो.

मेरे शहर में ही मेरे एक दोस्त, जिसकी कुछ समय पहले मृत्यु हो गई थी, उनका पूरा परिवार रहता है. करीब 5 मिनट बाद भाभी का शरीर अकड़ने लगा और वो मुझसे कस के चिपक कर झड़ गई.

फिर मैंने उनके चूत में अपना लंड जैसे ही डाला, वो दर्द से कराह उठी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ क्योंकि मेरा लंड फूफा से बड़ा था.

इसके बाद वो बोली- सर, क्या आपने ही कल फोन किया था?मैंने उसे ऑफिस के अन्दर चलने का इशारा करते हुए कहा- हां. फिर मॉम ने गजब ही कर दिया … मॉम मेरे मुंह पर बैठ गई, अपनी चूत को मेरे मुंह पर रख दिया और बोली- बेटा, अपनी मॉम की चूत को चाट कर मॉम को खुश कर दे. मैंने दो मिनट बाद फिर से उसके हाथों को पकड़ा और होंठों को अपने मुँह में दबाकर लंड अन्दर डालने लगा.

इन सभी पहलुओं पर गंभीरता पूवर्क विचार करने के उपरान्त ही आप किसी निर्णय पर पहुंचे. वो जल्दी जल्दी यह खत्म करना चाहती थी तो उसने नकली लन्ड को अपनी चूत में स्ट्रोक मारना शुरू कर दिया और पापा भी नकली चूत में शॉट मारे जा रहे थे. कुछ ही समय में मुझे लगा कि मेरा गिरने वाला है, तो मैंने निशा को लंड बाहर निकलने के लिए बोला.

तुम मुझे प्यार करते हुए रंडी कहा करो, तुम मुझे बरखा रांड बुलाया करो.

भोजपुरी में बीएफ वीडियो एचडी: मैंने उसका हाथ लंड पर रख दिया, तो वो कच्छे के ऊपर से ही लंड को दबाने लगी. नयी मम्मी बहुत ही अच्छी हैं, उन्होंने हम सबको बहुत प्यार दिया और घर-बार सब सम्भाल लिया.

उस समय वो मेरे साथ पढ़ती जरूर थी, लेकिन मेरी जिया से बात नहीं होती थी. मैं घबरा कर बोली- ये तुम क्या बोल रहे हो … तुम तुम्हारा दिमाग़ खराब है क्या?वो बोला- हां तुझे देख कर मेरा दिमाग़ और हालत दोनों खराब हो गए हैं. मेरे हाथ उसकी ड्रेस के अंदर घुसने के लिए बेताब थे मगर ड्रेस टाइट थी.

उस समय मेरी भाभी (मेरे दोस्त की पत्नी) अपने दोनों बच्चों के साथ अलग रहने लगी.

उस समय हम दोनों ने एक बार और सेक्स किया, जिसमें उसे 3 बार परमानंद की प्राप्ति हुई. अब मुझसे भी सहन नहीं हो रहा था … आज मुझे टीन सेक्स का अवसर मिला था. मैं लगातार उसके पैरों को हवा में उठाए हुए पकड़े था और उसको अपने होंठों से ही चूम और चूस रहा था.