हिंदुस्तान बीएफ

छवि स्रोत,నాయుడు సెక్స్ వీడియో

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बीएफ मोटा वाला: हिंदुस्तान बीएफ, मेरी इच्छा है कि मेरी भाभी खिड़की में खड़ी हो… तब मैं जाकर उनकी साड़ी ऊपर करके उनकी चड्डी नीचे करके मेरा लंड उसकी चूत में डालूँ और मैं उनको यह बताऊं कि वो ऐसे ही खड़ी रहें जैसे दूसरे लोगों को यही लगे कि वो सिर्फ ऐसे ही खिड़की पर खड़ी हैं और बाहर देख रही हैं.

செக்ஸ்ய் வீடியோ படம்

उनके इस एक्शन से मेरे तो वारे न्यारे हो गए, देवर भाभी की चुदाई मुझे हकीकत लगाने लगी. தெலுங்கு செக்भाभी भी कहने लगीं- मुझे भी तेरे लंड से चुदने का काफी दिनों से इन्तजार था, तूने कभी हिम्मत नहीं की, यदि मुझे इशारा दे दिया होता तो अब तक हम दोनों कई बार मजे ले चुके होते.

उसके बात करने के तरीके से तो यह लग रहा था कि वह बहुत ही सारे लंड ले चुकी है. मराठी सेक्सी गर्ल्समेरा नाम राहुल है (नाम बदला हुआ) मैं दिखने में सामान्य हूँ, मेरी लम्बाई 5 फुट 7 इंच है और मेरा शरीर स्लिम है और मेरा लंड लगभग 6 इंच का है और 2 इंच मोटा है.

तो फिर आज क्यों पहनी?मैं फिर दरवाजे का लॉक खोल कर चुपके से अन्दर आ गया और पर्दे के पीछे छिप गया.हिंदुस्तान बीएफ: ओमार की नजरें लंड की गति की दिशा में ही घूम रहीं थीं! उसकी ऐसी उत्तेजित अवस्था देख कर मुझे लगा कि वो खुद ही किड के लंड को अपने मुंह में लेने का इच्छुक है!!किड खड़ा हुआ मेरी पतिव्रता पत्नी के मुंह में अपना कठोर लंड ठोके जा रहा था, ओमार नर्म सोफे पर अपने चूतड़ टिकाए बैठ, किड के लंड को रुसी बाला के मुंह में घुसता देखते हुए उसकी गांड में हौले-2 अपना लंड चला रहा था.

मैंने उससे बोला- अगर तुम अपने घर पर हमारी शादी की बात कर लो तो मैं अपने घर बात कर लूँगा.मुझे मॉम की चूत के ऊपर कुछ गीला गीला और गर्म लग रहा था, शायद वो गर्म हो रही थीं.

सपना चौधरी xxx com - हिंदुस्तान बीएफ

मैंने भाभी माँ को करीब 15 मिनट तक चोदा और उन की चूत में अपना गरम गरम लावा छोड़ दिया.अमित- ठीक है और दोस्त की सैटिंग कैसे कराऊँ?मैं- लेकिन इस बार ये मत कहना कि मेरे(दिव्या) लिए ड्रेस है, ये कहना कि वो तुम पर ज्यादा अच्छी लगी थी इसलिए तुम्हारे लिए लाया हूँ और दोपहर में 3-4 बजे आ जाना.

” उसने बेशर्मी से मेरी बात का जवाब दिया।लेकिन अब हम छोटे बच्चे नहीं रहे!” मैंने टोका।तो क्या हुआ?” मेरी बहन ने लापरवाही से जवाब दिया. हिंदुस्तान बीएफ मैं खुद भी गर्म होती जा रही थी, मैंने कब अपने कपड़े उतार फैंके, मुझे खुद नहीं पता चला.

विक्की ने खुश होकर कहा- देखो तुम्हारी सील टूट गई, अब तुम कुंवारी नहीं बची.

हिंदुस्तान बीएफ?

मॉम की चूचियां और कूल्हे उछल उछल कर सबके दिलों पर, क्या बूढ़े क्या जवान, कहर ढा रहे थे. वो कहती है- मैडम मैं अभी, जैसे आप कहेंगी, अकाउंटेंट से सारी गलतियां ठीक करवा लूंगी. उसके साथ जो भी मसला रहा हो लेकिन अभी उसके लिपटने पर मेरा शैतान खड़ा होने लगा.

फिर एक दिन जब मैं घूम रहा था तो वो अचानक से पीछे से आई और उसने मुझे आवाज़ दी. थोड़ी देर के बाद बस ड्राइवर ने एक कार में टक्कर मार दी और लोग देखने लगे कि क्या हो गया. उसने काले रंग की पेंटी भी पहनी हुई थी, मैं उसे उसकी चूत को पैन्टी के ऊपर से छूने लगा लेकिन उसने अपनी पैंटी भी उतार दी और नीचे लेट कर मुझे उसके ऊपर आने का इशारा किया.

मैंने कहा- इसे भी चुदाई सिखानी है, आधी चुदाई तो रात को सिखा दी है और आधी घर पर सिखाऊँगा. मैंने दीदी की तरफ देखा तो उनकी आँखों में आँसू थे लेकिन चेहरे पर एक राहत भरी झलक भी नज़र आ रही थी. फिर मैं उसके चहरे को पकड़ कर उसके गर्म और नर्म होंठों पर अपने होंठ रख दिए.

मैं एकदम से खड़ी हो गई और अपने मम्मों को अपने दोनों हाथों से छिपाने लगी. मैं कॉलेज गई हुई थी कि हमारी टीचर को दिल का दौरा पड़ा और क्लास में ही उनकी मौत हो गई.

बारिश में वो दोनों पारदर्शी हो गये थे और मेरी बहन के बड़े बड़े मम्में मेरी आँखों के सामने साफ़ नज़र आ रहे थे.

लेकिन आप क्यों परेशान होते हैं?कोई बात नहीं, मैं खाली बैठा बोर ही हो रहा था तो आपकी हेल्प ही कर देता हूँ.

चाची ने मुझसे कहा- जल्दी से अब इसे मुझमें घुसा दो… मुझे और तड़पाओ मत!मैंने भी उनकी बात मानी, उनको चित्त लेटा दिया और उनके सामने जाकर चुदाई की पोजीशन में हो गया. उधर मेरी बेटी रेखा अभी भी यकीन नहीं कर पा रही थी कि पिंकी अपनी गांड में एक ही बार में इतना मोटा लंड ले चुकी है. मैंने देखा कि अभी तो केवल ग्यारह ही बजे हैं, फिर मैंने उसकी चूत की सफाई की तो खून की वजह से उसकी चुन्नी खराब हो गई थी.

मेरे ही शहर से मेरा एक पुराना दोस्त था रोशन, जो मेरा क्लास फैलो रहा है. अब हम थक चुके थे तो बांहों में बांहें डाल कर नंगे ही सो गए!अगले दिन हमने फिर से सेक्स किया और बहुत किया. मैंने उसकी रज़ाई में हौले से हाथ घुसेड़ा, ये सोच कर कि मान गया तो बल्ले बल्ले… नहीं तो नींद में होने का नाटक कर लूँगी ताकि उसे ये लगे कि नींद में गलती से हाथ चला गया.

दोस्तो, मेरा नाम सैम है, मेरी उम्र 26 साल है, मैं औसत डीलडौल का गोरा चिट्टा लड़का हूँ और पिछले कई सालों से मैं दिल्ली में रहता हूँ।मैं कई सालों से अन्तर्वासना का पाठक हूँ लेकिन मैं पहली बार अपनी आपबीती आपको बताना चाहता हूँ जो पिछले साल मेरे साथ घटित हुई। मुझे फ्री में मिले सेक्स की कहानी पढ़ा कर मजा लीजिये.

उसकी बात सुन कर मैं शरम से वहां से चला गया पर मेरा 6 इंच लंबा लंड कहां मानने वाला था. इससे उसकी उंगलियों में लगा वीर्य मेरे मुँह में चला गया, नमकीन सा था और अमित ये सब करके बहुत तेजी के साथ दरवाजा खोल के चला गया. अब मेरी दोनों चूचियां उसके दोनों हाथों में थीं और जोर जोर से दबा रहा था.

विक्रांत कुछ और सोच नहीं पाया उसका हाथ अपने आप लन्ड पर चला गया और वो पूरी रफ्तार से मुठ मारने लग पड़ा. चूँकि अम्मी किचन से ठीक बाहर बने डाइनिंग रूम में डाइनिंग टेबल पर बैठी थीं तो हमने कुछ और करना उचित नहीं समझा और मैं मुस्कुरा कर बाहर आ गया. मैंने उसके घर वालों को उस को मारने की धमकी दी और कहा- उसके फ़ोन में कोई मैसेज है या कॉलरिकॉर्डिंग है.

”फिर हम वहां से निकल गए, अन्दर गए तो देखा बेड के आस पास कमरे में सफ़ेद रिफ्लेक्टर और कैमरे लगाए जा चुके थे.

मेरे कसे हुए लंबे तगड़े शरीर का एहसास उन्हें भी हो रहा था, वो मदहोश हो कर मुझ से चिपकी रहीं. मैं सुबह जल्दी उठी गई और दरवाजे की चौखट पर देखा कि एक पैकेट पड़ा था.

हिंदुस्तान बीएफ ऊपर पिंक कलर की एकदम फिट टी-शर्ट पहनी थी, अन्दर शायद ब्रा भी नहीं पहनी थी क्योंकि मैं उसके कड़क निप्पलों को देख सकता था. उसने वो पानी चाट लिया, मैंने स्माइल किया और हम बाथरूम में से बाहर आ गए.

हिंदुस्तान बीएफ वो अब रोशनी में थीं और उनकी बड़ी गांड पीली साड़ी में क्या सुनामी सी दिख रही थी. चूमते हुए पेटीकोट के ऊपर से ही मैं रेणुका भाभी की चुत को चूमने लगा.

तभी मैंने एक और वीडियो चला दी, और इस बार मैंने लैपटॉप को पास ही एक कुर्सी पे रख दिया और हम दोनों भाई बहन साथ साथ देखने लगे.

एक्शन सेक्सी वीडियो

मैंने पूछा- यार आकांक्षा, तुम ऐसा क्यूँ कर रही हो, ये वीर्य को अपने चेहरे पर क्यों रगड़ रही हो?तो बोली- इस से मेरी स्किन सॉफ्ट रहती है. उधर रश्मि को पैसे की जरूरत लगती तो वो मेरी बीवी से पैसे लेकर जाती थी. उसके बाद मैंने उन दोनों की एक एक बार चूत मारी और गीतांजलि की एक बार गांड भी मारी.

झंडी हरी देखी तो फिर मैं उसकी जींस पे हाथ ले गया हो और हाथ फेरने लगा. इस बार जब मैं घर गया तो अपनी ताई के भी घर हो कर आया अपनी बहन से मिलने के बहाने से. मेरी मॉम है ही इतनी सेक्सी और चोदने लायक माल! मेरी मॉम के चूतड़ पीछे थोड़े बाहर को उभरे हुए हैं, जब वो चलती है तो उसके ऊपर नीचे होते कूल्हे सड़क पर कोहराम मचा देते हैं.

व मुझे देख कर बोली- अब बताओ क्या करना है?मैं बोला- मैं दो तीन घंटे तुम्हें प्यार करना चाहता हूँ.

हम करीब शाम के 5 बजे चेन्नई पहुँचे और अंकल ने एक होटल में रूम बुक करवाया. मैंने पूनम से कहा- मूवी देखने चलोगी क्या?पहले तो पूनम ने मना किया, मैंने कहा- पूनम अब आप मेरी वाइफ बनने जा रही हो, अब कोई प्राब्लम नहीं है और यहाँ कोई ऐसा है भी नहीं, जो हम को यहाँ देख कर पहचान जाए और आपके घर कोई बता दे. वो मेरे थोड़े और करीब आए और बड़ी कामुकता से अपनी उंगलियों से मेरे गाल और गले पे बनी आंसू की धारा को साफ करने लगे, जिससे मेरे बदन में अजीब सी कम्पन हो रही थी.

मैंने उन्हें छोड़ा, तो वो वहाँ से उठ कर फ्रिज की तरफ़ गईं और वहाँ से ठंडी आइसक्रीम लाकर मेरे लंड पर डाल दी. जिसे ब्रायन ने अपने शोल्डर से निकाल कर, दूसरी तरफ उछाल दिया और अपना गले में पड़ा क्रॉस भी उतार कर टेबल पर रख दिया. फिर मीतू ने मेरे कपड़े उतारे और मुझे लिप किस करने लगी, फिर मैंने उसे बेड पे खड़ा किया और पूरे शरीर पे चूमना शुरू किया, जैसे गर्दन पे, नाभि, कान, पेट!दोस्तो, ये सब करना बहुत जरूरी है, अगर आप कुंवारी चुत चोदने जा रहे हो तो!मैं अब अपनी एक उंगली से उस की चुत को रगड़ रहा था.

उसने भी इंकार किया तो माला ने मुझसे बोला कि तुम मेरे साथ अन्दर तक चलो. मेरी मॉम भी वहीं पर डांस कर रही थीं जो कि लहँगा चोली में थीं और वो बहुत हॉट लग रही थीं.

लगभग 15 मिनट तक दोनों ने मुझे किस किया और मैंने भी उन दोनों को किस किया. भाभी के मस्त रसीले मम्मों को देखते ही मैं ब्रा के ऊपर से ही उनके मम्मों को चाटने चूमने लगा. तो मैंने उस दूसरे बन्दे को लंड से ही पकड़ कर करीब खींचा और उसे अपने मुँह में ले लिया। तब तक सिराज घूम कर मेरे पीछे आया.

कुछ देर हम ड्राइंग रूम में बैठ कर बात करते रहे, हमने अपने अपने नंबर एक्सचेंज किए और फिर थोड़ी सी चुम्मा-चाटी के बाद जब मैं जाने लगा, तो उन्होंने मुझे पांच हज़ार रूपये दिए और कहा कि अब तो मिलते रहेंगे जानेमन.

भाभी बोलीं- अब सर ही हिलाता रहेगा या अब मुझे गरम भी करेगा?मैंने भाभी से कहा- मुझे नहीं आता आप ही बताओ?भाभी ने अपना माथा पकड़ लिया और बोली कि मैं किस अनाड़ी के चक्कर में पड़ गई?मैं उनकी तरफ चूतियों सा मुँह बाए खड़ा था. फिर दुबारा शायद इस मक्खन गांड को चोदने का कभी मौका मिले ना मिले, मैंने तय कर लिया कि आज गांड भी बजा कर मजा ले लूँगा. जैसे ही यहाँ पहुंची तो रिया की बड़बड़ चालू हुई- ये कहा सुनसान जगह पे ले आई तू कम्बख्त? मुझे लगा किसी पब पे ले चलेगी। अब क्या आगरा जा कर इतनी रात में ताज महल दिखाएगी? कामिनी, तेरे चक्कर में रात ख़राब हुई.

अब वो मुझे देखता रहा फिर उसने धीरे से कहा- मादरचोद क्या क़यामत लग रही है. एक दिन सुबह मेरा और इरफान का किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया, बात इतनी बढ़ गई कि मुझे इरफान ने अनाप शनाप बातें सुनाईं और एक चांटा भी जड़ दिया.

जब मैंने नहीं निकालने दिया, तब उन्होंने रिक्वेस्ट की कि राहुल अब मुझे चूत में दर्द हो रहा और नहीं कर. मैं बोली- तो वर्षा अब हम कब प्लान करेंगे?वो बोली- कैसा प्लान?मैंने कहा- तू रात को क्या बोल रही थी मजदूर से चुदने का. नमस्कार दोस्तो, मैं मयंक, आपके लिए एक मजेदार हिंदी में देसी सेक्स स्टोरी लेकर हाज़िर हूँ.

एचडी सेक्स हिंदी में

अब सबसे मुख्य बात : कहानी लिखने में आप अन्तर्वासना द्वारा निर्धारित नियमों का पालन अवश्य करें.

उसने भी अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल दी, जिसका मैं बेसब्री से इंतज़ार कर रहा था. काफी देखने के बाद उन्होंने एक मिनी स्कर्ट और टॉप दिया और ये उसी तरह का था, जैसे अवी ने दिया था. मैंने भाभी के बूब्स को दबाना चूसना शुरू किया, वाह क्या मस्त मुलायम थे उफ़फ्फ़… वो उसके बड़े बड़े बूब्स, उसके ऊपर छोटी सी किशमिश जैसी निप्पल.

लेकिन शादी में जाना भी जरूरी था तो मैंने उससे कहा- रुको, मैं तुम्हें अभी बताता हूँ. पाठको, आपको मेरी हिन्दी सेक्सी कहानी कैसी लगी, मेरी स्टोरी पर अपने कमेंट्स जरूर कीजिएगा. भूत दिखाइएबात करते करते मीतू मेरी जांघ पे हाथ रखते हुए बोली- भाई पैर ऊपर कर लो!इतना सुनते ही मेरा हाथ उस की जांघ पे चला गया और सहलाने लगा, उसे भी ऐसा करवाने में मजा आ रहा रहा था, परन्तु अचानक वो खड़ी हो गयी और पंखे की स्पीड बढ़ा कर मेरे पास में ही खड़ी हो गयी.

कॉफी खत्म हुई तो सिमरन ने कहा- लाइए मैं आपका फॉर्म फिल अप कर देती हूँ, बस आपसे मैं जो जो पूछती जाऊँ, आप मुझे वो बताते जाना! ओ. शादी जयपुर में थी क्योंकि भैया जयपुर में सेटल थे, उनकी शादी को मैंने अटेंड किया जोकि किसी मैरिज गार्डन से थी.

जब मैं अपने गेट पर गया तब उन्होंने अपनी खिड़की से मुझे एक फ्लाइंग किस किया और होंठ हिला कर ‘आई लव यू. मैं उसके घूरने पर मुस्कुराती हुई बर्थ से उठी तो वह फ़ौरन मेरे पास आया और मुझसे चिपक कर मुझे बोसे देने लगा. फिर मैंने अपना एक हाथ उसकी टीशर्ट के अंदर देना चाह तो उसने हाथ पकड़ लिया और बोली- यहाँ नहीं!और फिर हम दोनो रसोई से बाहर आ गए.

हम दोनों ने शादी अटेन्ड की, फिर रात को वह बोला- यहां राधे चाचा हैं, उनके घर चलते हैं. अमित धीरे धीरे पूरी पीठ को सहला रहा था और पीठ की ही तरफ से मेरी चुचियों को भी छू रहा था. वो घूमी तो उसकी लचकती कमर एकदम नागिन जैसी और गांड सहारा रेगिस्तान के छोटे छोटे रेत के ढेर जैसे एकदम गोल गोल.

तो फिर ये बाकी कपड़े भी उतार दे ना, इन्हें ही क्यों पहन रखा है?”हाय भाई… तुम कहो तो मैं इन्हें भी उतार दूँ।” हंसती हुई वो बोली और झाड़ियों के पीछे पेशाब करने के लिये बैठ गयी।जब वो वापस आयी तो मैंने उसे स्लिपिंग बॅग देते हुये कहा- यार स्वीटी, हमारे पास एक ही स्लीपिंग बैग है, हमें बारी बारी सोना और जागना पड़ेगा।तुम सो जाओ, मैं थोड़ी देर जागती हूँ.

अब तुम बोलोगे भी कि मुझे यहां क्यों लेकर आए हो?महेश- दिव्या आई लव यू यार. गुस्से में अंजलि कुछ बड़बड़ाती जा रही थी और इसी वजह से कमरे की कुण्डी भी नहीं लगाईं थी.

अब तो उनसे भी रहा नहीं जा रहा था, इधर मेरे पैन्ट में मेरा लंड भी सलामी दे रहा था. अब मैं झड़ने वाला था तो मैंने लंड भर निकाल कर पूरा माल उस के पेट और बूब्स पे डाल दिया और हम दोनों आराम से बेड पर लेट गए. मुझे मेरे भाभी के हाथ टेबल पर रख कर उनको आगे को झुका कर उनके पैर फैला कर पीछे से उनकी चूत में लंड घुसा कर चोदना है और चोदते हुए उनके मम्में दबाना है.

आरजू ‘अहह हह हहहा आहहा आआअ विनीत आआह हहह हहहा आराम से करो!’ बोले जा रही थी. मैं उसकी गांड पर चपत लगा रहा था, जैसे मैं किसी रंडी को चोद रहा हूँ. वो समझदार थी तो आराम से किस कर रही थी और मैं बस उसके होंठों को खाए जा रहा था.

हिंदुस्तान बीएफ ”सविता- हैलो मैं अच्छी हूँ और तुम?मेघा- मैं भी, घर पर ही हो क्या?सविता- हाँ क्यों क्या हुआ?मेघा- यार मैं और मेरा फ्रेंड यहाँ पार्क में थे, थोड़ा अजीब सा लग रहा है तो सोचा तेरे यहां आ जाऊं. एमडी ने सबका परिचय माया से करवाया और जैसे ही माया अपनी प्रेजेंटेशन स्टार्ट करने वाली थी, उसकी नज़र अमित पे पड़ी, जो की सबसे पीछे बैठा मुस्कुरा रहा था.

मेला मूवी

अवी ने मुझे लिटा दिया और मेरे शरीर पर लगा हुआ खुद का वीर्य वो खुद चाटने लगा और उसने मेरे जिस्म को साफ कर दिया. मैं बोर हो रहा था तो मैं उनकी काम में मदद करने के बहाने अपनी रांड को देखने लगा. भाभी टांगें फैलाए हुए चूत खोल कर पूरी तरह से उस आदमी के सर को अपनी चूत पर दबाए हुए कामुकता से ‘अह अह अह्ह्ह.

गांव में इतने दिनों बीच में मैंने कई बार फोन पर किशोर से बात की थी. वो ड्रेस मेरे बूब्स से लेकर चूतड़ों तक थी, पीछे पीठ में ऊपर से नीचे तक पूरे में चैन लगी थी. कॉल गर्ल का मोबाइल नंबरअमित- हाँ हो सकता है सन्नी, मैंने भी तो किया है कई बार, और अब भी किया है शिखा के साथ…सन्नी- क्या किया उसके साथ अमित सर?अमित- मैंने उसकी एक ऐसी ही वीडियो बना ली है जिस से मैं उसको ब्लॅकमेल कर सकता हूँ… फिर जो दिल करे कर सकता हूँ,… वो मना नहीं कर सकती.

उसने आते ही मुझसे पूछा- कोई दिक्कत तो नहीं हुई दीदी?मैंने भी हंस कर कहा- नहीं.

जैसे अमित ने चूची दबाई थी, उससे भी ज्यादा जोर लगा लगा कर चूची को चूस रहा था. अब मेरा पढ़ाई में कम मन लगता था और मैं पढ़ते वक्त बस उसी को घूरता रहता था.

वो घूमी तो उसकी लचकती कमर एकदम नागिन जैसी और गांड सहारा रेगिस्तान के छोटे छोटे रेत के ढेर जैसे एकदम गोल गोल. भाभी ने लंड को मुँह में ले लिया और मुझे भी पहली बार उनके मुँह का स्पर्श पा कर मजा आया. मेरा नाम मंजू है, मेरी उम्र 19 साल, मेरी फीगर 36-26-34 और रंग गोरा है, मैं अपने पापा के साथ मुंबई में रहती हूँ, मेरी माँ मेरे पापा के दोस्त के बेटे राघव के साथ पिछले साल घर से भाग गई थी.

अब पूनम ने शायद अपना ब्लाउज आगे से खोल लिया, जिससे उसका ब्लाउज ढीला हो गया और हुक़ लगाने में आसानी हो गई.

मंजरी की दोनों जांघें खोल कर पुलकित ने बीच में देखा, मंजरी ने शायद आज ही अपनी चूत के बाल साफ किए थे, इसलिए बहुत ही साफ और गोरी चूत थी. पूरी चुदाई होने के बाद मैंने बोला- कैसा लगा राखी?वो बोली- जीजा जी मैंने ऐसा पहले कभी नहीं किया है… मेरी शादी के बाद आज पहली बार मुझे इतना अधिक मजा आया है. तो मैंने उससे पूछा कि आज क्या बात है, कहीं शादी में जाना है क्या?उसने हंस कर कहा- हाँ.

साडी सेक्सी व्हिडिओफिर रवि ने अपने लंड को मेरी गांड के छेद पर रखकर एक जोरदार धक्का लगा दिया. रोहण मैं दोनों काफी खुश थे।तभी रोहण ने स्पीड बढ़ा दी और वो अपना पूरा माल मेरी चुट में गिराने लगा.

मूवी फ्लिक्स

मैंने उसकी चूत को किस किया और फिर उसे घोड़ी बना कर वहीं पर बहुत बुरी तरह चोदने लगा, मैंने उसके दोनों हाथ मामी वाली सीट पर लगवा दिए और फिर पीछे से उसे चोदने लगा. घर पर सब बहन के लिए रिश्ता तलाशने में लगे थे परंतु उसका रिश्ता कहीं से भी नहीं हो पा रहा था और वो बहुत परेशान थे. अन्नू मुझसे लिपट कर ज़ोर ज़ोर से सिसकियाँ भर रही थीं और आवाज निकाल रही थीं- अह.

रूचि जी एक तीस बत्तीस साल की आकर्षक महिला थीं, उन्होंने सफ़ेद रंग की गोल गले की टीशर्ट पहनी थी और नीचे ब्लू कलर की जीन्स, जो उन्हें और आकर्षक बना रही थी. जब मुँह में मेरा लंड जाता तो दोनों के मुँह की गर्मी से मेरा लंड और टाइट हो जाता था. इस चुदक्कड़ परिवार की हिंदी सेक्सी स्टोरी की रसधार का अगले अंक में फिर से मजा लीजिएगा.

विनीत ने हमें देखा तो उसे लगा की हम सो गये हैं, उसने आरजू को नीचे उतरने के लिए कहा. जो लौंडिया इतनी मुश्किल से फंसी हो, वो इतनी आसानी से थोड़ा ना चुद जाती. वर्षा ने खाना खाया, मैं उसे ही चोरी से देख रही थी, वो खाकर टीवी देखने चली गई, मैं भी पीछे आई.

साँवली छरहरी काया और सुन्दर नैन नक्श के साथ उसकी मुस्कान किसी का भी दिल जीत लेती थी, वो किसी भी काम के लिए मना नहीं करती थी. पहली बार किसी औरत के स्तनों के स्पर्श से मेरा लंड झट से खड़ा हो गया.

तभी चाचा मेरे सामने आकर खड़े हो गए और बोलने लगे- चोदो… क्या मस्त चूत है, 3 – 3 लंड ले रही है.

कुछ देर बाद आंटी चाय लेकर आईं और उन्होंने फिर से फिल्म चलते देखी लेकिन इस बार मैंने टीवी बंद नहीं किया।उस वक़्त फिल्म में लड़की लड़के का लण्ड चूस रही थी।आंटी ने यह देखकर कहा- हाय. सेक्स व्हिडीओ कॉम सेक्सी व्हिडीओफिर भैया कहने लगे- मान लो मैं कभी बिजी हुआ या ना हुआ तो सर आएं तो जैसे मुझसे नहीं डरती हो, सब कह देती हो. सेक्सी व्हिडीओ मराठी ट्रिपल एक्सफिर मैंने उसको बाथरूम में चलने के लिए कहा तो उसने कहा कि बहुत दर्द हो रहा है उठा ही नहीं जा रहा था. इस तरह मैंने अपने कपड़े खोलने का जुगाड़ तो कर लिया था और अब सोच रहा था कि उनके कपड़े कैसे उतारे जाएं.

हर समय उपलब्ध यूनिवर्सल लुब्रिकेंट थूक निकाला, अपने हाथ में लिया और मेरी गांड पर मल दिया.

जैसे ही उसने वो मशीन आगे करी मैंने गंदा सा मुँह बनाया और कहा- पता नहीं कितने लोगों के मुँह लगा होगा ये. उनकी दो लड़कियां थीं, एक की शादी हो चुकी थी और वो इलाहबाद अपनी ससुराल में रहती थी. दीदी लंड को बाहर निकाल कर अपने मुँह में जमा थूक को लंड पर थूक देती और एक हाथ से तेज़ी से लंड को ऊपर नीचे करके सहलाने लग जाती, फिर जब खाँसी ठीक हो जाती तो जल्दी से लंड को वापिस मुँह में भर लेती और फिर से पूरा लंड मुँह में लेने की कोशिश करने लगती लेकिन पूरा लंड लेने में दीदी को परेशानी हो रही थी, फिर भी वो ज़्यादा से ज़्यादा लंड को मुँहमें लेके चूसने लगी थी.

नमस्कार दोस्तो, मेरा गन्दी कहानी एक जवान मैडम की चूत चुदाई की है जो मुझे एक मॉल की कार पार्किंग में मिली थी. बस मैं तो यही सोच कर खुश थी कि मुझे उपहार मिलेगा और उससे भी ज्यादा कि मैं बहुत अच्छी हूँ, मुझमें कुछ खास है. शिशिर के लंड का मजा तो ले ही चुकी थी, अब मेरा मन सुनील के लंड से चुदवाने को बेकरार हो गया.

फिल्मी पिक्चर सेक्सी

30 बजे कॉल किया तो बोली- ऑफिस में डायरेक्टर ने कुछ काम दिए हैं, निपटा कर आती हूँ. पेल दो अपना लंड इसमें…मैंने भी ज्यादा देर ना करते हुए उसे अपने दोनों हाथों से चूत के पट खोलने को कहा. वो मेरे ऊपर आ गई और मेरे लंड के ऊपर बैठ कर चूतड़ों को ऊपर नीचे करने लगी.

मैं- गले लगाने का ये कब से सोच रहे हो?अमित- जब से उसे देखा है, तब से ही.

एक हाथ पीठ पर से कमर पर और दूसरा हाथ पीठ पर मेरी चुचियों के पास था.

करीब एक महीने बाद हम एक दूसरे के बहुत करीब आ गए और फिर हम दोनों ने ही फिर से लोनावाला जाने का प्लान बनाया. मैं कच्ची उम्र से ही चुदवा रही थी, तो मुझसे चुदाई की आग सम्हाले नहीं सम्भल रही थी. कान्हा की सेक्सीसब मर्द उसे ललचाई नज़रों से घूर रहे थे।विक्रांत यह सोचता हुआ आगे बढ़ रहा था कि गले मिलूँ, हेलो करूँ या सिर्फ हाई से काम चला लूँ.

मेरा नाम मंजू है, मेरी उम्र 19 साल, मेरी फीगर 36-26-34 और रंग गोरा है, मैं अपने पापा के साथ मुंबई में रहती हूँ, मेरी माँ मेरे पापा के दोस्त के बेटे राघव के साथ पिछले साल घर से भाग गई थी. उसके जाते ही एड्रिआना मुझ पर झपटी और मेरे होंठों को कस कर चूमा और मेरे फ़ोन से अपना नंबर डायल किया और मुझे कल की रात के लिए थैंक्स बोला. मैंने फिर हाथ से इशारे से ही अपना लंड बुर पे फिट किया और धक्का दिया, लंड का एक हिस्सा बुर में चला गया, साक्षी कसमसा गयी और मुझे धक्का दे के हटाने लगी.

अब मैं डर गई कि आखिर अमित क्या करने वाला है, कहीं मेरे साथ कुछ गलत ना करे… लेकिन उसने अपने लंड को 3-4 बार ऊपर नीचे किया. फिर मैंने उस के पेटिकोट का नाड़ा पकड़ कर खींच दिया तो उसका पेटीकोट उसकी जांघों से सरकता हुआ नीचे उस के पैरों में गिर गया.

ये क्या कह रहे हैं आप? आप और नाना एक साथ माँ को चोदते थे?रमेश- और माँ हमसे भी चुदना चाहती थी? तो ये बात उसने कभी बताया क्यों नहीं.

फिर वो मेरे निप्पल को अपने मुँह से चूसने लगा और अपने दांतों से काटने लगा. इधर बाईं तरफ वाली चूची थोड़ी खुली रह जा रही थी जैसे ऊपर दाहिनी तरफ वाली थी. मैं बोली- तो वर्षा अब हम कब प्लान करेंगे?वो बोली- कैसा प्लान?मैंने कहा- तू रात को क्या बोल रही थी मजदूर से चुदने का.

एक्स एक्स वीडियो सेक्सी राजस्थानी जैसा कि मेरी पहली इंडियन इन्सेस्ट स्टोरीमेरी नंगी माँ की कामुकता और पोर्न वीडियोमें मैंने अपनी माँ के साथ कैसे चुदाई की, आपको पता चला।वैसे तो मैं और माँ जब पापा घर पे नहीं होते, तो अक्सर चुदाई करने लगे थे। लेकिन कुछ दिन बाद पापा दो महीने के लिए घर पर ही रूक गए तो हम माँ बेटा को चुत चुदाई का मौक़ा नहीं मिल पा रहा था। और मेरा मन माँ की चूत चोदने का कर रहा था तो मैंने माँ से बोला. मैंने धीरे से उसके साड़ी का पल्लू उतार कर उसके मम्मे ब्लाउज के ऊपर से ही चूमना शुरू कर दिया और मेरे चूमने से सोनी भी गर्म हो गयी, वो धीमी धीमी सिसकारियां भरने लगी.

मैं मन में सोचने लगी कि अमित ने कितना करने का कहा था और कितना किया है. मम्मी दोनों हाथों से ब्रायन के लंड को सहला रही थीं और उसके मस्त लंड की मालिश भी कर रही थीं. जब वो स्वेटर उतार रही होती तो उसकी चुची स्वेटर में से निकाल कर बाहर को आती तो मेरा दिल मचल उठता कि मैं भाग कर उनको अपने दोनों हाथों में थाम लूँ और पहले बड़े प्यार से सहलाऊँ, फिर उन्हें दबा दबा कर मसल डालूं!लेकिन दिल के अरमाँ दिल में ही दब कर रह जाते… अम्मी के खौफ के कारण!इसी तरह कुछ महीने बीत गए और गर्मियों का मौसम आ पहुंचा.

हॉट व्हिडिओ सेक्स

एक दिन मैं और भाभी उन के कमरे में बैठे बातें कर रहे थे तो बातों के बीच में भाभी ने मुझ से पूछा- सनी, तुम यह तो बताओ कि तुम मुझे क़िस क्यों करते हो?तो मैंने कहा- बस भाभी… आप मुझे अच्छी लगती हो. तो वो बोली- वहाँ तो मेरी एक सहेली सिमरन (बदला हुआ नाम) इंगलिश पढ़ाती है!मैं एकदम से चौंक गया तो वो बोली- क्या तुम सिमरन से मेरी बात करवा सकते हो?मैंने कहा- मैं तो यहाँ किसी को जानता नहीं हूँ!तो वो बोली- आप सिमरन के नाम से पूछ लो, वो अगर होगी तो बात करवा देना।मैंने कहा- ओ. आज मुझे अहसास हो रहा था कि खुद पर कंट्रोल न करने का अंजाम कितना भयानक हो सकता है। अब मैं पछता रहा था.

दोस्तो, पहले तो माफ़ी चाहता हूँ कि इस स्टोरी को पोस्ट करने में काफी टाइम लग गया लेकिन क्या करता, काफी बिजी था. ऐसा करते हुए मेरा वीर्य निकल जाये और मेरा वीर्य उनके चेहरे पर गिर जाये.

चाची की मदद से कैसे उनकी बहन की सील तोड़ी, वो भी आपको बताऊंगा, जिसके बदले उन्होंने अपनी गांड भी मुझसे मरवाई, यह सब आपको बताऊंगा.

वो रोने लगी, तो मैंने उससे कहा कि कोई बात नहीं, ऐसे ही बातें करते रहते हैं. 10 साल पहले अंजलि दीदी 24 साल की खूबसूरत नैन नक्श और शरीर वाली, स्वाभाव से थोड़ा मुंहफट और कामुक लड़की हुआ करती थी. आखिरकार मैंने अपनी आंखें बंद करके चाचा जी को ग्रीन सिगनल दिया, जिसे समझते हुए चाचा जी ने अपने दोनों हाथों को मेरे बालों में डालते हुए मेरे कांपते हुए होंठों पे अपने होंठ रख दिए और चूसना शुरू कर दिया.

वो हंस पड़ी और बोली- बेटा मैं जानती हूँ कि तुम्हें आज तक माँ का सच्चा प्यार नहीं मिला है. तभी एकाएक दरवाजा खुल गया और मैंने देखा कि रवि बिल्कुल नंगा था और अपने लंड को सहलाते हुए अन्दर चला आया. फिर मैंने उसके चूचों को चूसा, फिर उसके पेट को चूमता हुआ, उसकी नाभि को चाटने लगा.

फिर वो उठ गया खाली होकर!अब जो बड़े साहब थे, जिनका लंड गांड में घुसा था, वो चोदे जा रहे थे, बोले- क्या मस्त माल है तू आरती! आज तक ऐसे गांड किसी ने नहीं चुदवाई!मैंने गांड और उठा दी और बोली- फुल स्पीड से चोदो सर, बहुत मजा आ रहा है.

हिंदुस्तान बीएफ: तो पहले मना करने लगी लेकिन मेरे ज़ोर देने पर लंड को अपने मुँह में लेके चूसने लगी. उनकी इस हरकत से मेरे रोम रोम में सिहरन पैदा हो गई, मैं इंजॉय कर रही थी.

मामी की चुदाई की कहानी आपके कमेंट आने के बाद लिखूँगा, कमेंट करना ना भूलें. मुझे मेरी भाभी की चूत के अन्दर तक जीभ डालनी है, जितना हो सके उसके चूत के अन्दर की जगह चाटनी है और मेरी जीभ को कड़क करके चूत के अन्दर डाल कर जीभ से चोदना है. हम दोनों ने भेल खाई और मुझे एकाएक उस पर इतना प्यार आया कि मैंने उसके सर पर प्यार से हाथ फेर दिया, वो मुस्कुराई और मेरे पास अपनी कुर्सी खिसका ली.

उसने मुझे बॉडी लोशन दिया, साथ ही पहले मेरे लंड को अच्छे से लोशन लगा कर रेडी किया.

क्या तुम मेरे साथ चलोगी घूमने?मैंने उसको मना कर दिया और बोला कि आकाश हम दोस्त सिर्फ़ कॉलेज में हैं बस. हाय राम मार डाला रे!” रानी ने मुझे कसके अपनी बाहों में समेट लिया और अपनी टाँगे मेरी कमर में कस दीं. मैं अपने एक हाथ से उनके एक चूचे को मसल रहा था और उनके दूसरे चूचे के निप्पल को चूस रहा था.