बीएफ सेक्सी मराठी वीडियो

छवि स्रोत,शाहरुख खान की सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

कानपुर की हिंदी सेक्सी: बीएफ सेक्सी मराठी वीडियो, और मैं बहुत दिन से वीडियो बना रहा हूं, नानी आपकी इज्जत अब अपने नाती के लंड के ऊपर टिकी है.

విల్లగె సెక్స్

अपने हाथों से पकड़ कर मैं सासू माँ के सर को लंड पर आगे पीछे करने लगा।वो भी लगातार लंड चूसे जा रही थी।अब मैं चरम सीमा तक पहुंचने वाला था, मैंने कहा- मम्मी मेरा हो गया … आ आ आ आ!पर वो हटीं नहीं बल्कि पूरी पिचकारी अपने गले में उतार ली. सेक्सी हॉट वीडियो चाहिएलेकिन उसके शरीर का कोई हिस्सा जब भी मुझसे लगता, तो मुझे बहुत मजा आता क्योंकि वो कभी सीधी, तो कभी करवट लेकर सो रही थी.

मैंने पहली बार जिस दिन भाभी को देखा था, उसी दिन सोच लिया था कि कैसे भी करके भाभी को चोदना ही है. ಸೆಕ್ಸ್ ಇಂಡಿಯನ್ ವಿಡಿಯೋमैंने पूछा- क्या हुआ तुझे … तू दिखावा कर रही है बस … ऊपर से ही हंस रही है न!फिर निशा बताते बताते रोने लगी- हां मुझको इस शादी से खुशी नहीं है.

करीब साढ़े आठ बजे विलास के मोबाइल पर सरिता का फोन आया- खाना तैयार है, आ जाओ.बीएफ सेक्सी मराठी वीडियो: मैं कोई कहानी लेखक नहीं हूँ, इसलिए अपनी सच्ची आपबीती ही यहां लिखूंगा, बस पात्रों के नाम काल्पनिक होंगे.

मैंने उससे मिलने की बात की तो उसने मना कर दिया कि कोई देख लेगा तो गड़बड़ हो जाएगी.मैंने भी भाभी की कमर पर किस करते हुए उनके कुर्ते के साथ साथ उनकी ब्रा उतार दी और उनके बूब्स को चूसने लगा.

भाभी का सेक्सी विडियो - बीएफ सेक्सी मराठी वीडियो

मैंने एक पल सोचा कि भाभी ने अभी तक कुछ भी रिएक्ट नहीं किया है, इसका मतलब ये है कि भाभी जाग रही होंगी और मेरी हरकतों का मजा ले रही होंगी.पीछे घर के बाऊंडरी बनी थी, उस साइड गेट लगा था और एक गेट घर के अंदर खुलता था.

मैं हाथ आई उन चूचियों दबाना तो बहुत चाहता था पर डर के मारे नहीं दबा रहा था कि मौसी मां कहीं जाग न जायें।इधर मेरा खड़ा लंड अपने चरम पर था मानो वह बेड में छेद करना चाहता हो।जैसे जैसे मैं अपने हाथ में उनकी चूची और जांघ उनकी जांघ पर महसूस करता, मेरा लंड और टाइट होता जाता. बीएफ सेक्सी मराठी वीडियो ये फूफा जी ने जानबूझकर सिलेक्ट की थी, जहां पर लोग आते जाते नहीं थे.

उसके पापा ने दूसरी शादी कर ली थी, पर जो उसकी नयी मम्मी हैं, वो श्वेता को तो पसंद करती हैं, पर नेहा को पसंद नहीं करती हैं.

बीएफ सेक्सी मराठी वीडियो?

अब हम दोनों ने एक दूसरे को साबुन लगाकर अच्छी तरह से नहलाना शुरू कर दिया. जावेद- और?उसकी आंखें मेरा जबाब सुनने को मुझ पर टिकी थीं, वह मुस्करा रहा था. दोस्तो, ये मेरी रियल कॉलेज स्टूडेंट सेक्स कहानी आपको कैसी लगी, प्लीज़ मेल करें.

जैसा कि वह ब्रा के साथ तौलिया में बैठी थीं और बैठते समय उनकी थोड़ी सी पैंटी मुझे दिखाई दे रही थी जो मुझे एक उत्तेजना दे रही थी. मैं पी नहीं रहा था तो उसने जोर से बाल खींचे और जबरदस्ती पेशाब पिलाई. बारिश में भीगे हुए दोनों के ठंडे बदन, बांहों में आते ही गर्माने लगे थे.

मुझे चोदकर अपने बच्चे की मां बना दे।उसकी चूत को चाटना मैंने जारी रखा. नरपत का लंड बिल्कुल किसी गर्म सरिए की तरह मेरी गांड में घुस गया था. जीजू तो बहुत किस्मत वाले हैं जो उनको आपकी चूत रोज चाटने के लिए मिलती है.

उसने पहले चुत को किस किया और रीना के दोनों पैरों को पूरा खोल कर नीचे हाथ लगा दिया. अब यहां तक तो मेरे अन्दर का लड़का कहानी लिख रहा था, पर यहां से आगे मेरे अन्दर की लड़की सेक्स कहानी बताएगी.

जैसे जैसे रवि का लंड मेरी चूत की गहराई में जाने लगा, मेरे चेहरे पर दर्द की लकीरें दिखने लगीं, आखिर पहली बार कोई लंड मेरी चूत की गहराई को नाप रहा था.

उसने सत्या का लंड चूस कर फिर से खड़ा कर दिया और इस बार शनाया ने सत्या को नीचे लेटने को कहा.

रमेश सर- इसमें जोर जोर से धक्का नहीं मारा जाता है मेरी लैला हज़ीरा, लंड को चुत में अन्दर तक महसूस किया जाता है … तुम बताओ … कैसा लग रहा है!हज़ीरा- ठीक कह रहे हैं मेरे सरताज … आप लंड एकदम से मेरी बच्चेदानी में टक्कर मार रहा है. फिर वो मेरे ऊपर आ गई और उसने अपने हाथों से मेरा लौड़ा अपनी चूत की फांकों के बीच पर सैट किया और बैठ गई. वो नशीले अंदाज में बोली कि बाबू जो आज मैं पिलाती हूँ, पी लो शांति से.

रीना से बात करने के बाद मैंने हसित की तरफ देखा और उसे बताया कि रीना रेडी है. मन तो कर रहा था कि अभी यहीं पटक कर भाभी को चोद दूँ, पर अभी ऐसा नहीं कर सकता था. भाभी ने दो तीन चुप्पे लंड के लिए और सिगरेट का धुंआ मुँह में लेकर भैया के लंड पर धुंआ छोड़ने लगीं.

दिन तो कैसे भी करके मम्मी-पापा, भैया-भाभी और बच्चों के साथ निकाल लेती थी लेकिन रात में मेरी चूत की तड़प चार गुना बढ़ जाती थी.

अब उसने अपने दोनों हाथ मेरे सीने पर रख दिए और अपनी कमर की स्पीड बढ़ा दी थी. इतना कहकर पोर्न भाबी ने मेरी तरफ मुँह करके अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल दी. लवी बोली- कॉल उठाने में भी कोई दिक्कत है क्या?मैंने बोला- नहीं यार, ऐसा नहीं है, वो क्या था कि तेरा नम्बर मुझे मालूम नहीं था.

मैं भी उनके कपड़े उतारने लगी और उनके कंधे और बालों पर हाथ फिराने लगी. शायद अब सरिता की चुत की झिल्ली की दीवार टूट चुकी थी और चुत से खून बहने लगा था. देसी भाभी न्यूड थी, उसकी मस्त उभरी हुई चुत पूरी साफ थी, चुत पर एक भी बाल नहीं था.

तो मुझे अहमदाबाद जाना जरूरी है, तुम अपने भाई को बोलो वो छोड़ देगा तुम्हें!मैंने अपने भाई को, जो सरकारी जॉब में है, बोला- मुझे जयपुर तक छोड़ दे!लेकिन उसने भी ये बोलकर मना कर दिया कि अभी चुनाव की ड्यूटी है तो मैं नहीं चल सकता तुम्हारे साथ, लेकिन मैं कुछ व्यवस्था करता हूँ तुम्हारे लिए!शाम को मेरे भाई का कॉल आया और मुझे बोला- मेरा एक फ्रेंड है जिसकी टूरिस्ट बसें चलती हैं पूरे राजस्थान में.

जीजू मेरी बहन को कमरे में चोद रहे थे, मैं खिड़की के बाहर उनकी सिस्कारियां और चीखें सुन रहा था. सरिता बोली- तो क्या करती हूँ, वही सब देखकर तो मैं अपनी चुत की आग ठंडी करती हूँ.

बीएफ सेक्सी मराठी वीडियो मैंने तो वैसे भी कुर्ता पजामा पहना हुआ था, जिसमें मेरे खड़े लंड का साफ़ पता लग रहा था. मॉम का हाथ मेरे सर पर था और वह जोर-जोर से मुझे अपने मम्मों में दबा रही थीं.

बीएफ सेक्सी मराठी वीडियो आख़िर में हनी डरते डरते दिल्ली जाने को तैयार हो गया क्योंकि वो सोहल को खोना नहीं चाहता था. दोस्तो मैं इस सेक्स कहानी लिखते हुए भी न जाने कितनी बार झड़ चुका हूं, मुझे आशा है कि आपने भी अपने सामान झाड़ लिए होंगे.

भाभी- हां कहो न?मैंने कहा- आपकी ननद श्रुति को भी मैं कुछ सुंदर बनाना चाहता हूँ.

हिंदी सेक्सी चाची की चुदाई

चूंकि अब तक मुझको लग रहा था कि भाभी ने मेरी तरफ देख कुछ भी ऐसा नहीं किया था जिससे मुझे उनके मन में अपने लिए कुछ दिखाई दे. [emailprotected]माँ बेटे की चुदाई हिंदी कहानी का अगला भाग:परिवार में बेनाम से मधुर रिश्ते- 4. वो मेरा 6 इंच का जवान तगड़ा लंड देख कर पागल हो गईं और कहने लगीं- केतन तेरा हथियार तो बड़ा दमदार है, आज फुल एन्जॉय करूंगी.

उससे रहा नहीं जा रहा था, वो मेरे कान में बोली- अब देखती हूँ, रात भर कैसे सोते हो तुम?यह कह कर सरिता मेरे होंठों को चूसने लगी. मुझे ये सही मौका लगा, मैंने एकदम से उन्हें देख कर लंड मुठियाते हुए बोला- भाभी, आप यह क्या कर रही हो?तभी कविता भाभी अपने आप को संभाल कर बोलीं- और तू ये क्या कर रहा है … तेरी मम्मी को बताना पड़ेगा!मैं उसी हालत में लोअर नीचे घुटनों तक किए हुए उनके पास आ गया और मैंने उनको पकड़ कर कहा- मैं भी वही कर रहा हूँ, जो आप उस दिन बाथरूम में नहाते वक्त कर रही थीं. मैं उनकी आंहों को सुनकर और भी ज्यादा उत्तेजित होकर उनकी चूत की सेवा में लग जाता.

मैंने खुशी से जिया दीदी को थैंक्यू बोला और जल्दी से बिना देर किए फोन चालू करने लगा.

मैं ऐसे ही आंखें बंद करके गाड़ी की डिक्की में बैठी रही और एक मस्त अनुभव जो हुआ था, उसका आनन्द अन्दर ही अन्दर उठाने लगी. मेरा मन था कि उसे यही पकड़ कर ठोक दूँ!पर फिर मैंने खुद को संभाला और मैं उसकी कमर पर हाथ फेरने लगा. बस में बहुत ज्यादा भीड़ थी, हम दोनों के सीटों के बीच में खड़े हो गए.

दो मिनट अच्छे से चूत चाटने के बाद सत्या ने अपना लंड शनाया की चूत पर रगड़ना चालू कर दिया; फिर एक ही झटके में लंड चूत के अन्दर डाल दिया. इसलिए आगे क्या होगा … ये जानने के लिए मैंने गन्ने के पेड़ों के बीच में लेटकर आगे जाकर जगह बनाई और वहीं बैठ गया. जल्दी से इसे ठंडा कर!मेरी समझ में नहीं आया कि अब लंड तो मुरझा गया इसे कैसे शांत करूं.

मैंने उसकी कमर को कसके पकड़ अपनी कमर को आगे धकेला, मेरा लंड उसकी चूत की दीवारों में सरकता हुआ आगे बढ़ गया. चाय रखते समय उनका दुपट्टा गिर गया अचानक से मेरी नज़र उनके बूब्स पर पड़ी उनके बूब्स को देखने के बाद मेरे लंड ने सलामी देनी शुरू कर दी।अब उनको देखने का मेरा नज़रिया ही बदल गया.

उनके हॉस्पिटल जाने के बाद और उनके बेटे के स्कूल चले जाने के बाद भाभी घर का सारा काम समाप्त करके दिन में हमारे घर पर मम्मी से बातें करने आ जाती थीं. सोहल ने हनी की टांगें उठा कर अपने लंड को हनी की गांड पर सैट किया और लंड के सुपारे को गांड पर रगड़ने लगा जिससे हनी मस्ती के मारे मचलने. बिंदास हूँ, खूबसूरत हूँ और साथ ही साथ बोल्ड और हॉट हॉर्नी गर्ल हूँ।मुझे बुर्का वगैरह बिलकुल पसंद नहीं है मेरी अम्मी जान को भी नहीं!मैं पढ़ी लिखी हूँ और आज की लड़की हूँ। ओपन माइंडेड हूँ ब्रॉडमाइंडेड हूँ और आधुनिक विचारों वाली हूँ.

मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और कुछ धक्के मारने के बाद ही मेरे प्यारे पति ने अपने लंड पर से मुझे ऊपर उठने नहीं दिया.

दीदी चुदासी हो गयी थी और अब उसकी चूत उससे कह रही थी कि उसको लंड चाहिए. मेरे बर्थ-डे पर मेरे मामा की लड़की जिया दी आने वाली थीं, जिनकी एक साल पहले ही शादी हुई थी. शब्बो पागल हो उठी और कामुकता में सिसकारने लगी- याल्ला हहह मालिक मैं मर गयी … अम्म्मीईई … आह्ह!इतने में ही शब्बो ने वीरू का मुँह अपनी चूत पर जोर देकर दबाया, अपनी जाँघों से उसका सिर दबाते हुए शब्बो मूतने लगी.

मैं उसको फिर भी चोदता रहा।शायद वो थक गई थी इसलिए उसने मुझसे सीधे करके चुदाई करने को कहा. चूंकि भाभी पहले ही बोल कर गई थीं कि दो हफ्ते पहले आना है, तो मैंने कहीं जॉब की कोशिश नहीं की.

लॉकडाउन के समय रात के ग्यारह बजे मैंने दीदी को फोन किया था लेकिन पहली बार की रिंग में जिया दीदी ने फोन नहीं उठाया तो मैंने दोबारा फोन किया. उनकी टांगें खुलने लगीं और मैं उनकी टांगों के जोड़ पर अपनी गर्म सांसें छोड़ने लगा. पागल हो तुम … और इसका किसी को पता चला तो बदनामी का क्या?जयदीप- यार कैसे पता चलेगा! न उसके घर पर कोई है और न हमारे.

सौतेली बेटी की सेक्सी वीडियो

अभी ऐसा भी नहीं था कि मेरी वासना कम हो गई थी, उल्टा ये और ज़्यादा बढ़ गई थी.

अब मैं वापस आया और चोली को बेड के सिरहाने की दराज में रख दिया और उसे लॉक कर दिया. मैंने पूछा- तो आप अकेली क्यों … आप अपने पति के साथ इंग्लैंड क्यों नहीं गईं. वो मेरे मोटे मोटे गोरे मम्मों के साथ छेड़खानी करने लगे, उंगलियों से निप्पल दबाने लगे, हाथ से हल्का हल्का दबाने लगे.

उसने मेरे चूतड़ों पर अपने हाथ रखे और दबाव बना अपनी चूत टांगों को फैला कर मुझे और अन्दर जाने के लिए रास्ता दे दी. कमरे में दो खाट पड़ी थीं, जिसमें एक पर बिस्तर लगा था और रजाई खाट पर किनारे रखी हुई थी. सबसे बेस्ट साड़ीमैंने कहा- फिर?कुच्ची- फिर आखिर में ये तय हुआ कि आज हम दोनों उन दोनों की चूत को चोदने वाले हैं.

शब्बो की चूत तो उसका शौहर ठीक से खोल नहीं पाया तो गांड खोलने का सवाल ही नहीं पैदा होता।ऐसी तंग चुस्त गांड को फाड़ने के लिए उसको बड़ी मेहनत करनी पड़ेगी ये सोच कर वीरू ने अपने कमरे में रखी तेल की शीशी उठायी. और किताबों में भी भारतीय औरतों को दुनिया की सबसे खूबसूरत औरतें बताया गया है.

मैं उसे अपने सीने से चिपकाए हुए ही उसके बालों को सहलाने लगा और उसके माथे पर किस करने लगा. दोस्तो, मेरा नाम विनोद है। मेरी उम्र 25 वर्ष है। मैं उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले से हूं।यह मेरी पहली कहानी है दोस्तो … आपका प्यार व सहयोग मिला तो फिर हाजिर होऊंगा नई नयी कहानियों के साथ!मेरे घर में मैं, मेरी मौसी मां, पिताजी, दो बड़ी बहनें हैं। असल में मेरी माँ की मृत्यु मेरे बचपन में हो गयी थी तो मेरे पिताजी की शादी मेरी मौसी से हो गयी थी. जब प्रकाश ने शादी के पहले प्रेम संबध के बारे में पूछा तो वह रोने लगी.

उनकी खिड़की में कांच लगा हुआ था तो अन्दर का नजारा हल्का हल्का सा नजर आ रहा था. मैंने अपनी लुँगी ठीक से गाँठ लगाकर पहन ली और टीवी चालू करके बेड पर लेट गया. मैंने कहा- ऐसी लॉलीपॉप खिलाऊंगा कि बस बार बार खाने का जी करेगा और सारा डर खत्म हो जाएगा.

कभी उसकी मदमस्त टाईट गांड में एक उंगली डालने की कोशिश करता लेकिन उसकी गांड बहुत ही टाईट थी.

कुछ देर बाद जब वो कुछ ज़्यादा ही बोलने लगी- मुझे मत तड़पाओ प्लीज़ मैं तुम्हारे आगे हाथ जोड़ती हूँ. मैं बहुत हिम्मत करके ब्रा के अन्दर हाथ डालने की कोशिश करने लगा और सफल भी हो गया.

अनिल एक तरफ थककर बैठ गया था लेकिन बाकी दोनों में पहले चोदने को लेकर झगड़ा होने लगा. मॉम- क्या कर रहे हो बेटा?मैं- कुछ नहीं मॉम मैं तो बस यह सोच रहा था कि आपकी कमर कितनी चिकनी है … बिल्कुल संगमरमर की तरह. सामान लेने के बहाने वो थोड़ा और आगे को होते, जिससे थोड़ा दबाव बनता और उनका लंड मेरी गांड में और ज़्यादा टच होने लगता.

मैंने पूछा- क्या हुआ तुझे … तू दिखावा कर रही है बस … ऊपर से ही हंस रही है न!फिर निशा बताते बताते रोने लगी- हां मुझको इस शादी से खुशी नहीं है. उस दिन रोहित भैया ने कहा- सैम, अभी तुम्हारी हालत ठीक नहीं है … तो तुम फिलहाल मेरे घर पर ही खाना खाने के लिए आ जाया करो. मैं अब एक अच्छी दिखने वाली बॉडी वाला हो गया था क्योंकि मैं गांव में रहता हूं तो खेतों में काम करने की वजह से मेरी देहयष्टि काफी अच्छी थी.

बीएफ सेक्सी मराठी वीडियो फिर कैसे हम दोनों भाई बहन ने मम्मी को भी हमारी चुदाई में शामिल किया, वो लिखूँगा. मेरा पढ़ाई में भी मन लगने लगा था और जब कम्पटीशन दिया तो मेरा रिज़ल्ट भी अच्छा आया.

एक्स एक्स न्यू सेक्सी वीडियो

उन्होंने लड़के की फोटो सीमा को दिखाई तो उसने शादी के लिए मना कर दिया. कुछ ही दिन पहले मैंने हार्दिक और एक और दोस्त वंश ने मिलकर उसका गैंगबैंग भी किया था. उसने अपने हाथों से मेरा हाथ पकड़ा और अपने बोबे को जोर से दबवाने में लग गयी.

अगल बगल देख कर मैंने उसके कमरे में जाने की कोशिश की ताकि किसी को पता ना चले और उसकी बदनामी ना हो. विलियम का हाथ मेरे बूब्स की चारों तरफ गोलाइयों को अच्छी तरह नाप चुका था. दीपिका पादुकोण का नंगा फोटोफिर जब दीदी की चुदाई करते हुए 10 से 12 मिनट हो गये तो मैंने हांफते हुए दीदी के कान में कहा- दीदी … मेरा निकलने वाला है.

ये कह कर मैंने भी भाभी के होंठों पर अपने होंठ लगा दिए और उन्हें किस करने लगा.

वो पैकिंग करने लगी तो मैंने कहा- तुम पैकिंग कर लो, मुझे तो नींद आ रही है. मैंने उसकी बातों से अंदाजा लगाया कि लौंडिया सैट होने को राजी दिख रही है तो मैंने उससे सीधे बोल दिया कि जब से तुम्हें देखा है, मुझे रहा नहीं जाता.

मैं जब चंडीगढ़ में रहता था तो रोज सुबह दौड़ लगाने और कसरत करने के लिए एक पार्क में जाता था. हम दोनों काफी थक गए थे तो हम वहीं चादर पर लेट गए और बातें करने लगे. उसे हम लोगों ने बहुत समझाया कि भाई अभी इसका हाथ छोड़ दो, नहीं तो फ्लाइट मिस हो जाएगी.

सोनाली की चूत अब फूल गयी थी, तो मैंने उसकी जांघों को सहलाकर दोनों तरफ फैला दिया और अपना लंड एक हाथ में पकड़कर उसकी फूली हुई चूत की फांकों में रख कर एक ही धक्के में पूरे लंड को चूत की जड़ में उतार दिया.

लेकिन ये सब तब होगा, जब शिल्पा मेरे कमरे में मेरे लंड से चुदने को राजी होगी. एक दो बार फिसलने के बाद लंड ने अपना रास्ता खोज लिया और मैंने अपनी स्पीड भी पकड़ ली. मेरा कॉलेज मेरे घर से बहुत दूर था इसलिए मैं एक छात्रावास के कमरे के लिए लगा हुआ था.

रक्षाबंधन quotes in marathiदिनकर- मुझे मालूम है बेटा … अब तू प्रियंका की बात छोड़ और मुझे अपनी मां चोदने का मजा लेने दे. उनकी साड़ी नाभि के नीचे बंधती थी, जिस वजह से मैं उन्हें इस अंदाज में देख कर पागल हो जाता था.

எக்ஸ் வீடியோஸ் தெலுங்கு

तब तक तुम दोनों अपना मन पक्का कर लो कि आज की तारीख में तुम दोनों को अपनी गांड मेरे लंड के रेडी रखना है. भाभी कहने लगी- तुम इतनी अच्छी बातें करते हो और दिखने में भी अच्छे लगते हो. हॉट कपल कामुकता कहानी में पढ़ें कि मस्तीखोर कपल से काम निकलवाने के लिए टूरिस्ट गाइड कपल ने उनको वासना के जाल में फंसाना था.

लॉकडाउन के समय रात के ग्यारह बजे मैंने दीदी को फोन किया था लेकिन पहली बार की रिंग में जिया दीदी ने फोन नहीं उठाया तो मैंने दोबारा फोन किया. कुछ देर बाद उसने आंखें बंद कर लीं और मुँह से ‘अहहा अहह …’ की आवाजें निकाल रही थी. मैंने आवाज देकर आंटी से कहा- आंटी मेरी पैंट भीग गई है, कोई लोअर है क्या?आंटी बोलीं- अन्दर तौलिया टंगा है, तुम उसे लपेट कर बाहर आ जाओ.

क्योंकि कभी ऐसा मौका मिला ही नहीं था कि साथ में और इस तरह से चिपक कर सोने को मिला हो. उसे बाइक पर लाते समय बहुत बार मुझे मेरी पीठ पर उसके बूब्स टच होते थे. और मैं आपके मामा के घर में किसी को जानती भी नहीं हूँ तो मैं वहां बोर हो जाऊंगी.

वह बहुत ज्यादा गर्म हो चुकी थी और कहने लगी थी- नवीन, अपनी वर्षों पुरानी तमन्ना पूरी कर लो. पहली बार किसी गोरे अंग्रेज का हाथ मेरे बूब्स था और मेरा हाथ उसके लंबे मोटे लण्ड पर!मुझे विलियम पर बहुत प्यार आ रहा था क्योंकि उसने बिना सेक्स की ही मुझे झड़ा दिया.

रीना खड़ी हो गई और उसने अपनी साड़ी की पिन हटाने के बाद साड़ी उतार कर कुर्सी पर रख दी.

उस दिन भी हम कुछ छात्र नकल कर रहे थे लेकिन उन्होंने हमें ज्यादा नहीं रोका. ইংলিশ ব্লু ফিল্ম সেক্সमैंने महसूस किया कि दीदी ने बिना ग़ुस्सा के ये बात कही है तो मैं समझ गया कि मेरे लंड से चुदवाने का मन तो दीदी का भी है. ಸೆಕ್ಸ್ ವೀಡಿಯೊ ಪ್ಲೇಯರ್मुझे देख कर एक लड़के ने कहा- भाभी, नाईटी उतार कर कृपा करके घुटनों और हाथों के बल टेबल पर घोड़ी बन जाइए. मेरी चुदाई से परेशान सासु जी ने अपने बेटे यानि मेरे पति से अपनी चुदाई करवाई और जैसे मैंने सासु जी को अपनी चुदाई दिखाई, उन्होंने भी मुझे अपनी दिखाई.

एक हाथ से वीरू शब्बो की चूचियां पीट रहा था तो दूसरे हाथ से उसकी फुद्दी का दाना रगड़ रगड़ कर उसे और लाल लिए जा रहा था।लौड़े का हर वार इतना फुर्तीला था कि उसके लौड़े का सुपारा शब्बो की बच्चेदानी को ‘हाय-हेल्लो’ करके बाहर आ रहा था.

बचपन में मेरे माता पिता की मृत्यु हो गई थी, तब मैं दुधमुंहा बच्चा था. उन्होंने अपने दूध अपनी टांगों में छिपा रखे थे और पीठ पूरी खोल दी थी. कसम से क्या नजारा था … मौसी मां की आर्मपिट का एकदम चिकना भूरा रंग … हल्की पसीने की बूंदें … छोटे छोटे बाल.

हनी अभी भी अन्दर से बहुत डर रहा था कि वो एक अजनबी अफगानी लड़के के साथ ये क्या कर रहा है. इतने में शिल्पा के मोबाइल पर कॉल आई, जिसे देख कर उसका चेहरा थोड़ा घबरा सा गया. लॉकडाउन से पहले आखिरी टूर में एक अमेरिकी जोड़ा था माइकेल और जेनी का। मैंने जेनी को बहुत बढ़िया योनि मसाज दी तो वो जबर्दस्ती मेरे साथ 69 हो गयी.

हिंदी सेक्सी पिक्चर नंगा

कुछ पल बाद मैंने उसे थोड़ा अलग किया और उसका चेहरे को ऊपर करके उसे किस करने लगा. इसलिए मम्मी ने भी जन्मदिन में जाने से मना कर दिया।परंतु शाम के समय जब नानी ने फोन करके कहा तो मम्मी जाने के लिए राज़ी हो गई और मेरे लिए घर पर ही खाना बना दिया।सब लोग जाने के लिए तैयार होने लगे. दोस्तो, मेरा एक दोस्त हसित है जो एक अच्छे स्कूल का प्रबंधक और प्रिंसिपल दोनों है.

धीरे-धीरे चाची का विरोध कम हो गया और वह भी मुझसे धीरे-धीरे लिपटने लगीं.

वो मेरी बात सुनकर एकदम से बोलीं- चोदोगे मुझे?उनके मुँह से यह बात सुनकर मैं हड़बड़ा गया.

ये सुनकर गगन को गुस्सा आ गया और वो भी गाली देते हुए बोला- साली रांड … मेरा लंड मुँह से निकालती है, तेरी इतनी हिम्मत … देख अब मैं क्या करता हूँ. दरअसल हुआ ये कि मेरे कॉलेज के अंतिम वर्ष के दौरान मेरे लिए रोजाना कॉलेज जाना बहुत दिक्कत वाला हो गया था. वीडियो सेक्सी टीवीआप इसे कैसे सहन कर लेती हो?मैंने फिर से अपनी साली को समझाने की कोशिश की कि मर्द के लंड से लड़की को केवल एक बार दर्द होता है.

थोड़ी देर बाद मैं आंटी के पास किचन में चला गया और उनसे बात करने लगा. शिल्पा से मुलाकात की शुरुआत ही ऐसी हुई थी कि उसके चुचे पकड़ने को मिल गए थे. मैंने कहा- क्या बात है यानि तुमने मेरी बात मान ही ली कि मुझे अकेले सोने नहीं देना है … अच्छा है.

और मैं बहुत दिन से वीडियो बना रहा हूं, नानी आपकी इज्जत अब अपने नाती के लंड के ऊपर टिकी है. लंड की कुछ ही रगड़ों में उसकी चूत ने गर्म लावा छोड़ दिया और अपने रज से मेरे पूरे लंड को नहला दिया था.

अनिकेत भैया का लंड फुल प्रेशर में था- बोलो क्या कह रहे हो तुम लोग?शिवम बोला- मम्मी की चूत का समझौता हुआ था.

प्राची ने शुरूआत में नानुकुर की, थोड़ा सा झूठ-मूठ का गुस्सा भी दिखाया. मैंने सोचा कि नियाज अपनी अम्मी को चोद सकता है, तो साला मेरी अम्मी को कैसे छोड़ सकता है. शिल्पा- आप कौन, किससे मिलना है आपको?मैंने उससे मस्ती करते हुए कहा- मैडम, यहां कोई अंजलि नाम से मैम रहती हैं, मुझे उनसे मिलना है.

मराठी सेक्सी इंडियन वीडियो एक दिन भैया ओर भाभी की किसी बात पर लड़ाई हो गयी और उस समय मैं वहीं था. उसको मैंने बहुत मनाया और उसको मना कर अपने घर रात को बुलाने का प्लान बना लिया.

मैं जिया दीदी के मखमली और कातिलाना मम्मों को जोर जोर से सहलाने लगा. वो एक 5 फुट हाइट की औरत हैं और उस वक्त उनका फिगर तकरीबन 34-28-36 के करीब था. समय बीतने पर प्रकाश और विशाल ने अपना व्यवसाय और घर बेच दिया और बहुत दूर खेती और फार्म हाउस खरीद लिया.

एचडी सेक्सी वि

रमेश सर ने उसे देखा और वो खुशी से बोला- आज का दिन मेरे लिए लक्की दिन है, जब एक और चिड़िया अपने आप आ गयी है. भाभी ने चाय बना कर दी तो मैं दो कप में चाय लेकर ऊपर शिल्पा के पास आ गया. शब्बो को जैसे जैसे मजा आने लगा तो उसकी कराहने की आवाज अब सिसकारियों में बदल चुकी थी।खुद अपनी गांड ऊपर उठाकर वो वीरू का लौड़ा अपने भोसड़े में ले रही थी।आज तक उसके शौहर की लुल्ली से इतना मजा उसको नहीं मिला जितना ये जवान छोकरा उसको दे रहा था.

मैंने भी तुरंत किताब सर को दी और ये सब अनजाने में हुआ, ऐसा नाटक करते हुए अपना बूब स्वेटर के अन्दर कर लिया और चैन को पूरा बंद कर लिया. जिया दीदी- ये तो तुम थे … अगर ऐसी बात किसी और ने की होती तो उसके गाल पर मैं तमाचा जड़ देती.

अगली में आपको फिर से अपनी गर्लफ्रेंड शनाया की चुदाई के कुछ और किस्से सुनाऊंगा.

उन्होंने उस लड़के को मेरे चूतड़ों पर से उठाया और उस लड़के के कहने पर भी मेरी गांड में लंड नहीं पेला. मैंने अब देर ना करते उसे अपना अंडरवियर निकालने का इशारा किया और कहा कि गन्ना चूसो. भाभी ने एक मिनट की भी देर नहीं लगाई और वो अपनी टांगें खोल लंड पर बैठने लगीं.

भाभी हॉट लेस्बियन सेक्स में पढ़ें कि कैसे मेरी पड़ोसन भाभी ने मुझे 3 लंड से सेक्स का मजा दिलाया. मैं धीमे-धीमे जिया दीदी के सारे बदन को चूमने लगा था और नीचे की ओर बढ़ रहा था. सत्या ने पैग खत्म करके सिगरेट सुलगाई और कहा- तेरी गर्लफ़्रेंड शनाया भी तो खूबसूरत है.

उसने मेरी तरफ सिगरेट बढ़ाई, मैंने एक सिगरेट सुलगाई और उसकी जवानी को घूरने लगा.

बीएफ सेक्सी मराठी वीडियो: मैं कुछ बोलता, इससे पहले जमीला ने मेरा लंड अपनी चूत में रगड़ना शुरू कर दिया था. उसकी बात सुनकर मैंने कहा- यार तुम्हारे दिल में जो था, वो तुमने मुझसे कह दिया और हमारी दोस्ती को धोखा नहीं दिया.

तो दोस्तो, आपको मेरी हॉट सिस Xxx कहानी कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं. मैं जोर जोर से कामुक आवाज़ निकालने लगी- आह आंह … मुझे जोर से पेलो … और जोर से … मेरी कमर तोड़ दे कमीने … चोद दे साले बहनचोद. सरिता ने मुझसे कहा- देवर जी, और दो दिन रहते तो हम लोगों को अच्छा लगता.

उनके नीचे जाते ही लंड किसी स्प्रिंग की तरह उछलकर उनके गाल पर चांटे जैसा लगा।उन्होंने फिर लंड को दोनों हाथों से पकड़ा और निहारने लगी.

बबीता भाभी भी अपनी छत से देखने लगीं, आजू-बाजू से बहुत लोग मेरी मदद करने के लिए आ गए थे. यह देखकर विशाल ने ब्यूटीशियन को मोहन और रवि के शरीर के सारे बाल भी निकालने को कहा. मैंने उससे पूछा- तो हम फिर क्यों आए हैं?वो बोली- मेरा घूमने का मन है, प्लीज़ घूमने चलो कहीं.