करिश्मा कपूर हीरोइन के बीएफ

छवि स्रोत,जवान लड़कियों की सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

इंडियन ब्लू सेक्सी फोटो: करिश्मा कपूर हीरोइन के बीएफ, उसके पेट्रोल पम्प पर हुए झगड़े में हमारी मुलाक़ात हुई थी जो दोस्ती में बदल गयी.

इंडियन मां बेटे का सेक्सी वीडियो

मैं सोचने लगा अगर वाकयी कुच्ची झड़ चुका है तो मतलब शब्बो की चूत अभी गर्म होगी … क्योंकि ये सब बहुत जल्दी खत्म हो गया था. પંજાબી સેકસીइधर प्रकाशित कुछ सेक्स कहानी बहुत ही अच्छी होती हैं, उनको बार बार पढ़ कर लंड हिलाने का मन होता है.

फिर उन्होंने वो खीरा भी अपनी गांड से निकाल लिया जो वो काफी देर से अंदर लिये हुए थे. चुची फोटोमेरी इस बात के बाद मैंने देखा कि भाभी के आंख से आंसू निकलने लगे थे.

मैंने कहा- तेरी बहन तेरे ब्वॉयफ्रेंड का भी लंड लेती है … वो मुझे पता है, लेकिन मैं उसके साथ अभी तक इसलिए था क्योंकि मुझे तेरी गांड मारनी थी रंडी!अब मैंने नगमा को खड़ा किया और उसकी सलवार को फाड़ दिया.करिश्मा कपूर हीरोइन के बीएफ: मॉम ने कहा- ठीक है पापाजी, पर मेरी एक शर्त है कि आप लोगों पर उसका कोई हुक्म नहीं चलेगा.

मगर उसने मुझे देख कर बड़ी बदतमीज़ी वाले अंदाज़ में किसी से कहा- ये किस चूतिया को बुला लाए … ये क्या करेगा, ये तो वही गांडू है ना, जिसको आपने दिल्ली आते ही फोन किया था … और आपने इसकी ट्रेन में मारी भी थी.इसलिए मैं घुटनों के बल अजय के सामने बैठ गयी और उसके मुरझाए हुए लंड को किस करने लगी.

हिन्दी बिऐफ - करिश्मा कपूर हीरोइन के बीएफ

जब मेरे पापाजी और मम्मी जी ने अनुमति दे दी, तो मैं क्या कर सकती हूँ.मैंने कहा- पर मैं इसके बारे में कुछ नहीं जानता हूँ कि ये सब कैसे होता और क्या करते हैं!मामी बोलीं- वो सब तुम मुझ पर छोड़ दो.

उसी समय चाची चिल्लाईं- इतनी देर तक कौन सोता है … उठ जाओ केदार!मेरा सपना टूट गया और मेरी आंख खुल गयी. करिश्मा कपूर हीरोइन के बीएफ आज उसकी चूत को मैं इस तरह से चाट रहा था कि जैसे उसकी चूत मक्खन मलाई निकल रही हो औ मैं उसी मलाई को खा रहा हूं.

मुझे समझ ही नहीं आ रहा था कि मैं क्या करूं, एक काला भैंसा सा आदमी मेरे सामने मेरी मॉम की पिक पर अपना लंड रगड़ रहा था.

करिश्मा कपूर हीरोइन के बीएफ?

अचानक से उनकी गांड ने एक झटका खाया और मामी जी की कमर अपने आप ही ऊपर की तरफ उचक गईं, जिससे मेरा आधा से ज्यादा लंड उनकी चूत में घुस गया. चाची- क्या वो गीलापन मेरी वजह से था?मैं- सच कहूँ तो हां चाची जी, प्लीज़ मुझे माफ़ कर दीजिए. अब तो अंकल मेरी चूत के अलावा मेरी गांड में भी अपना लौड़ा डालने लगे थे.

मैं घर में गया तो देखा कि रमेश और दीदी फोटो सेशन चला रहे थे और रूम का दरवाजा लॉक था. मेरी चुदाई ऐसी हुई कि …दोस्तो, मैं शबनम अपने जेठ से चुदाई की कहानी को आगे बढ़ा रही हूं. मीना की चुदाई से पहले पूजा मुझसे चुदना चाहती थी क्योंकि मंझली वो ही थी.

पूनम बुआ की चुत पर झांटें उगी थीं … शायद कुछ महीनों से काटी ही नहीं गई थीं. वो मुस्कुराती हुई देखने लगी- उनके सामने इस रूप में मत चली जाना … नहीं तो …मंजू ने झट से साड़ी उठा कर अपना नंगा शरीर छुपाती हुई बोली- नहीं तो से तेरा क्या मतलब?ममता गेट खोल कर अन्दर आ गई और बात पलट कर बोली- कैसी लगी मां, अपने बेटे की पसंद?मंजू ने शर्माते हुए कहा- तू यहां क्या कर रही है … और तू कब आई यहां?ममता- कुछ नहीं मां, मैं इधर से जा रही थी. मैंने थोड़ा सा लंड बुर में डाला और उसको भींच लिया; उसके मुँह पर जोर से अपना हाथ दबाया और उसी पल पूरी ताकत लगा कर लंड को धक्का मारा.

मैंने ज़्यादा समय ना लेते हुए बैठते हुए चाची की साड़ी पेटीकोट के अन्दर अपना मुँह ले गया और उनकी रस टपकाती चुत में उंगली से दाने को मसलने लगा और खेलने लगा. आजू बाजू में रहने वाले लोग भाभी पर बुरी नजर गड़ाए बैठे थे, वो मौके की तलाश में थे कि कब भाभी बुलाए और कब वो अपनी हवस मिटा लें.

मामी जी के जोर जोर से निकलने वाली सिसकारियों ने मुझे समझा दिया था कि उन्हें अपनी गांड चुसाई में बहुत मज़ा आ रहा है.

फिर थक कर अपने पांव मेरी कमर में लपेट कर मुझे चूमती हुई अपने बाहुपाश में कैद कर लेती थी.

फिर मैंने अपने लंड को मां की चूत से बाहर निकाला और कंडोम को उतार दिया. कभी आंख पर पट्टी बांध कर चुदाई का अहसास करना … लंड और चुत को सिर्फ अपने मजे से मतलब होता है. वो बोली- हां हां मैं हूं … कुतिया छिनाल रंडी शन्नो मैं ही हूँ … मैं अपने बेटे का लंड अपनी चुत में भी लेने को रेडी हूँ.

कभी बेडरूम में नंगी होकर लंड चुत में ले लेती थी तो कभी किचन में वो मेरी साड़ी उठा कर मुझे चोद देते थे. मैं बोला- भाभी सच बताऊं, तो मैं अभी तक वर्जिन हूं और मुझे …इतना कहकर मैं चुप हो गया. उन दोनों के लंड चूसने वाली लड़की जोया कभी नवीन के टोपे को चूसने लगती, तो कभी विवेक के टोपे को चूसने लगती.

भाभी- सपने में किसकी चुत मार रहे थे मेरी जान … जो मेरे देवर का लंड इतना कड़क खड़ा हुआ है.

मम्मी पहले नानुकुर करती रहीं … मगर पापा ने मम्मी की चुत में अपना लंड डाल दिया और उनके ऊपर चढ़ गए. मैं उसके बच्चे की माँ भी बनने वाली हूँ।मगर खुशी मुकेश मना रहा है।बुढ़िया भी बहन के जाने के गम को दादी बनने की खुशी में भुला चुकी है. मैंने कहा- तेरी बहन तेरे ब्वॉयफ्रेंड का भी लंड लेती है … वो मुझे पता है, लेकिन मैं उसके साथ अभी तक इसलिए था क्योंकि मुझे तेरी गांड मारनी थी रंडी!अब मैंने नगमा को खड़ा किया और उसकी सलवार को फाड़ दिया.

शीना अब पूरी मस्ती से अपनी बुर चटवा रही थी और मैं भी पूरी शिदत्त से उसकी बुर के हर कोने को चाट रहा था. पूनम बुआ ने आंखें बंद कर लीं और पूर्ण समर्पण के साथ मेरे होंठों को चूसने लगीं. शहजाद के कहने पर मैं अपनी बेटी से घर से बाहर जाने की कह कर निकल गई.

इसलिए वो मुझसे किंजल वाली बात नहीं कह पा रही थी और मुझे अपने जाल में नहीं फंसा पा रही थी.

वो मालिश समझ कर मजे ले रही थी जबकि मैं अपनी गिद्ध दृष्टि उसकी गुलाबी गोरी गांड पर लगाए हुए था. मैंने वो भी निकालने के लिए बोला तो उसने अंडरवियर भी निकाल दिया।माय गॉड….

करिश्मा कपूर हीरोइन के बीएफ उन्होंने किसी एग्जाम के लिए तीन दिन तक रायपुर में अपनी सहेली के घर रुकने की कह दी और अपनी सहेली से कह दिया कि घर से कोई फोन आए, तो बता देना कि मैं तेरे घर पर ही हूँ. मैंने भाभी से पूछा कि भाभी ये जो कल रात को हमने किया था, वो सब सेफ तो है ना … किसी को पता तो नहीं चलेगा?उन्होंने मुझसे कहा- बेबी तुम चिंता मत करो, तीनों लड़कों को मैं बहुत समय से जानती हूं.

करिश्मा कपूर हीरोइन के बीएफ हम दोनों पति पत्नी सेक्स में खुले विचारों के हैं, खुल कर चुदाई का मजा लेते हैं. मैम ने बताया कि वो किसी साइंस से जुड़ी जगह थी, जहां साइंस से जुड़ी कई चीजों के बारे में हमें सिखाया जाएगा.

तभी एक दिन चित्रा ने कहा- आपने मुझे दवा नहीं दी?सॉरी, मैं भूल गया था.

செக்ஸ்வீடியோ இங்கிலீஷ் செக்ஸ்

उनके घर का दो मिनट का रास्ता था तो मैंने भाभी के घर के पहले ही उन्हें मोबाइल पर घंटी दे दी, उन्होंने आकर मेन गेट खोल दिया. वो भी बहुत ज्यादा गर्म हो रही थी और बार बार मुझे अपने ऊपर खींचकर मेरे होंठों को चूमने की कोशिश कर रही थी. आती रहना कमरे पर।मैंने उनके नंबर भी लिए और सुरजन मुझे बस स्टैंड तक छोड़ने आया।बस में बैठी हुई मैं उन्हीं लम्हों को याद कर रही थी।ससुराल वालों का धोखा भी याद करने लगी.

अम्मी अभी 38 साल की ही तो है … तुझे मादरचोद बनने में भी बड़ा मज़ा आएगा. फिर आंटी की दोनों टांगें फैलाकर अपना लंड चुत पर घिसने लगा और एक ही झटके में आंटी की चुत में लंड पेल दिया. मैंने आंटी का गाउन ऊपर करके उनके चूचे दबाने शुरू कर दिए और मुँह लगा कर चूचुक चूसने लगा.

हनीप्रीत के जाते ही जसविंदर ने मुझे फोन किया- आपकी लाइट आ रही हैं क्या?मेरे हाँ कहने पर बोली- पता नहीं मेरे यहाँ क्यों नहीं आ रही है? मुझे एमसीबी वगैरा की कोई समझ नहीं है और गर्मी के मारे मेरा बुरा हाल है, आप आ सकते हैं क्या?मैंने कहा- क्यों नहीं, मैं अभी आ रहा हूँ.

वो कमरे के बाथरूम में घुस गईं और सूसू करके अपनी चुत साफ करके वापस कमरे में आ गईं. मेरी दीदी और मैं घर में अकेले ही रहते हैं क्योंकि मेरे मॉम और डैड जॉब पर चले जाते थे, तो घर पर हम दोनों ही अकेले ही रहते थे. बहूरानी ने भी उदास होकर अपनी नज़रें झुका लीं पर उनकी आंखों के कोरों से झांकती नमी मुझसे छुपी न रह सकी.

मैंने अपने लौड़े की रफ्तार और तेज़ कर दी और तेज़ी से लंड चुत में अन्दर-बाहर करने लगा. डैड ने मेरे मॉम की सुहागसेज सजाई और हम सब सुहागसेज के सामने खड़े हो गए. कुछ देर तो शहज़ाद ने मेरे चुचे रगड़े, लेकिन जब ये पाया कि मैं सो गई हूं.

दिन चढ़े जब नींद खुली तो देखा कि बहूरानी खूब गहरी नींद में है और उनके मुख पर एक मनमोहक मुस्कान तैर रही है. मैंने धीरे धीरे बात बढ़ाते हुए दोस्ती शुरू की, तभी उसकी रूम पार्टनर भी आ गई.

कुछ देर बाद हम दोनों बिस्तर में लेट गए और एक दूसरे के शरीर से खेलने लगे. गोविन्द ने मुझे अपनी गोद में खींच लिया और मुझे बिंदु के सामने ही प्यार करते हुए मेरे बूब्स दबाने लगा. मैंने रात में वहीं रुकने का प्लान बनाया और अपनी टीम को फोन करके बता दिया कि मैं आज रूम पर नहीं आऊंगा.

सुम्मी के साथ जो बात उसे हमेशा कष्टदायक थी, वो ये बात थी कि उसका पति उसे सारी खुशी दे रहा था लेकिन वक़्त नहीं देता था.

’उसकी इन रसभरी बातों से मैं और ज्यादा उत्तेजित हो गया और मैंने फिर से एक जोर का धक्का दे दिया. मैं सोचने लगा अगर वाकयी कुच्ची झड़ चुका है तो मतलब शब्बो की चूत अभी गर्म होगी … क्योंकि ये सब बहुत जल्दी खत्म हो गया था. उसको पता भी नहीं चलना चाहिए कि मैं अभी तक इस तरह की ब्रा पैंटी पहनती हूँ.

दस मिनट के बाद मामी झड़ गईं और मेरी छाती पर सर रखकर सांसें भरने लगीं. इस बार चूत में गीलापन नाम मात्र का था तो लंड अन्दर जाते टाइम मुझे हल्का दर्द महसूस हुआ और बहूरानी की चूत की मांसपेशियां भी खिंच गयी जिससे उनके मुंह से एक हल्की सी आह निकल गयी.

मैंने देर ना करते हुए फिर से बुआ के होंठों पर होंठ रख दिए और उनके चूतड़ों को मसलने लगा. उधर साहिल एकदम नंगा था और उस अलमारी के पीछे छुपकर अपने लौड़े को हिलाते हुए अपनी अम्मी की चुदाई देख रहा था. ले जाकर बोली- देख लड़की, छुपाना मत। सच बता कितनी बार लेट चुकी हो नीचे?मैं एकदम से हैरान रह गयी.

लड़की और कुत्ते का बीएफ

सुबह मीरा उठी तो उसने रीमा को उठाया और वो काम वाली बाई के आने से पहले रीमा को अपने कमरे में ले गयी.

कुछ ही देर में निखिल ने रीमा की ब्रा और टी-शर्ट निकाल दी और उसके नंगे हो चुके मम्मों को मसलने लगा. यूं ही हाथ फिराते हुए मैं अपने हाथ मां की पैंटी के अन्दर ले गया उनकी गांड के छेद को टटोलते हुए उनकी गांड को उंगली से सहला दिया. मैं कार में से में निकला, घर खोला और आस पास देखा कि कोई देख नहीं रहा है, तो मैंने सादिका को बुला लिया.

मैंने अपनी मां रज्जी से कहा- डालूं जान?मेरी मां रज्जी- आंह विशु, आराम से डालना. ‘आह क्या मोटा लंड पाया है … कहां था भोसड़ी के इतने दिन तक मादरचोद … आह चोद दे … आह आह. भाभी देवर की सेक्सी फोटोमैंने अब महसूस किया कि वो कितनी भी काली थी लेकिन काली जैसी काली नहीं थी.

और मेरी चूत गीली हो रही थी।मैं जब नहाने गई तो अपनी चूत में उंगली करके खुद को ठंडा किया और अपनी चूत के सारे बाल साफ करके एकदम चिकनी कर लिया।अब मैं रात का इंतजार करने लगी।शायद दीदी ने भी अब तक जीजू को सब बता दिया था क्यूंकि वो मुझे बहुत ही वासना भरी नजरों से देख रहे थे।फिर रात हुई और सब सोने के लिए छत पर आ गए।कुछ देर के बाद जब सब सो गए तो जीजू मेरे पास आकर मुझे नीचे चलने के लिए बोले. मेरा लंड उसे कुतिया बना कर चोदने लगा।अब मैंने मालती को उठाया और सोफे पर ले गया।मैंने लंड खड़ा किया तो मालती उसपर चूत रखकर बैठ गई.

कमर मेरी कमर से चिपकी हुई थी और उसके बूब्स मेरे सीने से चिपक गए थे. आपको यह ग्रुप में ओपन सेक्स की कहानी कैसी लग रही है?आपकी प्यारी मनीषा भाभी[emailprotected]ग्रुप में ओपन सेक्स की कहानी का अगला भाग:पड़ोसन भाभी ने मेरी अन्तर्वासना को समझा- 3. आशा है आप सभी स्वस्थ होंगे और अपनी सेक्स लाइफ का भरपूर आनन्द उठा रहे होंगे.

कचरा निकालते समय झुकने से मेरे यौवन उभारों का सीन बड़ा दिलकश नजर आता था. ये बात सुनकर मेरी मम्मी की चुत में शायद पानी आ गया था तो वो अपनी साड़ी के ऊपर से ही अपनी चुत मसलती हुई चाची की बात सुनकर हां में सर हिलाने लगीं. धीरे धीरे बड़ी दीदी भी मुझे प्यार करने लगीं और हमारे बीच काफी मजाक होने लगा था.

वो एक कंपनी में वर्क करते हैं, उन्हें कंपनी के किसी काम से वहां जाना पड़ा था.

अब मेरे और अमित के बीच जब ये सब बातें हुईं तो अमित और मैं एक दूसरे से मुहब्बत करने लगे क्योंकि हम दोनों ही चोट खाए हुए थे. उसके मांसल चूतड़ों को मसलते हुए मैंने कहा- आह … क्या संगमरमरी हुस्न है.

हम लोग नई नई जगह जाते, वहां की आंगनबाड़ी आशा की मदद से जानकारी लेते और आसपास घूम भी लेते।ऐसे काम करते करते पता नहीं चला कब एक महीना बीत गया।एक बार हम काम के लिए एक नगर गए तो वहां की आशा छुट्टी पर थी. मैंने देखा कि चाची की गोरी जांघ पर लाल रंग का एक गोल चकत्ता बन गया था जिसके बीच में मधुमक्खी का डंक दिख रहा था. वे तेजी से मेरी चुत चोदने लगे और मैं सिसयाने लगी- आहह इस्स आह अहमद आह आह ओह.

शहजाद- तो?सबा- तो ये कि आप मेरे साथ भी सेक्स करो वरना मैं अब्बू को सब बता दूंगी. फिर मैंने अपनी बेटियों को चुदाई का मौक़ा कैसे दिया?हैलो फ्रेंड्स, मैं सबीना एक बार फिर से आपका अपनी सेक्स कहानी में इस्तकबाल करती हूँ. उसने ज़ोर ज़ोर से झटके दिए और बाहों में कस लिया।मैं भी उसमें समा गयी और बोली- आह्ह … भर दे राजा … आह्ह मेरी चूत में औलाद की बरकत कर दे।उसने जब लंड निकाल कर मुँह के पास किया तो पूरा सफेद हुआ पड़ा था.

करिश्मा कपूर हीरोइन के बीएफ धीरे धीरे बड़ी दीदी भी मुझे प्यार करने लगीं और हमारे बीच काफी मजाक होने लगा था. अब जब भी अहमद चाचा दुबई जाते हैं, तो मैं और खान सर उनकी हवस शांत करते हैं.

हिंदी पिक्चर ब्लू फिल्म वीडियो

मिहिका बार बार टांगों को भींच कर मेरी जीभ को पकड़ने की कोशिश करने लगती. फिर उसने शर्माकर आंखें बंद करके धीरे से अपना लंड मेरी चुत में डाल दिया. मैं अब उसकी बुर में जाना चाहता था इसलिए मैं सीधा हुआ और उसके चूतड़ उचकाकर दो पिल्लो रख दिये.

भाभी ने उस दिन मेरी न्यूड पिक ले ली थी जिसे मोबाइल में देखकर वो अपनी चुत में उंगली कर रही थीं. नगमा तो पहले से एक नम्बर की रंडी थी, पर मुझे अब तक ये मालूम था कि हिना वैसी नहीं थी. सुहागरात वाला सेक्सी पिक्चरउस रात को मैंने उन दोनों को अपनेलंड की सवारीकरवाई और मस्ती से चुत चुदाई का मजा लिया.

मैंने पास रखी तेल की कटोरी में उंगली डाल कर भिगोई और उसकी गांड में डाल दी.

अब मेरे और अमित के बीच जब ये सब बातें हुईं तो अमित और मैं एक दूसरे से मुहब्बत करने लगे क्योंकि हम दोनों ही चोट खाए हुए थे. इसी लिए उन्होंने एक बड़े की हैसियत से मुझे आगाह भी किया था कि तू झुक कर काम करती है तो लोग तुझे घूर कर देखते हैं, ये तेरे लिए अच्छा नहीं है.

मेरे बिना कहे तुम्हें मेरी ख्वाहिशों का पता चल जाता है … यू आर सो नाईस. चाची टांगें फैलाकर बोलीं- सोहेल जल्दी डालो … अब सहन नहीं हो रहा है. फिर वो वासना भरी आवाज में कहने लगी- अब डालो ना!मैंने उसकी चूत के पास हल्के से रगड़ दिया.

दोस्तो, मेरे बच्चे की पैदाइश में पहला अजनबी मर्द ये डॉक्टर होने वाला है.

वो अगले तीन घंटे तक नहीं आने वाला था क्योंकि शाम के समय उस रूट पर बहुत जाम हो जाता था और ये बात मैं अच्छी तरह जानता था. अब शीना ने लन्ड चूसने में बिल्कुल अपनी माँ की नकल की, उसने पहले जीभ से मेरे सुपारे को चाटा फिर लन्ड को मुंह में लेकर चूसने लगी. क्रिस्टल बार में पहुंच कर मैंने लास्ट की केबिन ली और दोनों बैठ गये, व्हिस्की और स्नैक्स का दौर शुरू हुआ.

सनी लियोन वीडियो xxxमैंने मौसी की ताबड़तोड़ चुदाई करना शुरू कर दी और झड़ने को आ गया तो मैंने उनसे पूछा- कहां छोड़ूँ?मौसी ने अपना मुँह खोल दिया और जीभ बाहर निकाल दी. उसके 32 साइज के तने हुए चुचे मुझे ब्रा के ऊपर से ही बहुत अच्छे लग रहे थे.

ब्लू पिक्चर सेक्सी बीपी वीडियो

मैंने भी उसे अपने ब्वॉयफ्रेंड के बारे में सब बताना शुरू किया और रोने भी लगी. इसके बाद भाभी की मखमली संगमरमर के जैसी एकदम सफेद जांघों को चाटते हुए मैं फिर से भाभी की गांड के छेद पर आ गया. दीदी की गोरी गांड इतनी बड़ी थी कि मुझे ऐसा लग रहा था कि उसने लंड खाकर ही गांड बड़ी कर ली है.

ये टूर लगभग तीन हफ्तों का था, जिसमें टीचर्स, स्टूडेंट को कुछ हिस्टोरिकल प्लेस दिखाने और साइंस से सम्बन्धित कुछ सिखाने के लिए ले जाते थे. अभिनव के लिए नीम्बू का मीठा वाला अचार भी आप भेज देतीं क्योंकि मम्मी आपको पता ही है कि अभिनव को नाश्ते में परांठे और नीबू का मीठा अचार ही पसंद है. दीदी ने पूछा- मजा आया?मैंने कहा- दीदी, मैं तो आपको सनी लियोनी समझ कर चोद रहा था, सच में आप बहुत मस्त माल हो.

इतना कह कर नेहा ने ममता के कपड़े उतारने शुरू कर दिए ममता भी नेहा को नंगी करने लगी दोनों बहनें मादरजात नंगी हो गईं. मेरी बहन सीधी पर कॉलेज में सबसे ज्यादा होशियार थी, नीता तेज लड़की थी, नीता ने मेरी बहन से दोस्ती की थी क्योंकि वो मेरी बहन की मदद से अपनी पढ़ाई पूरी करना चाहती थी. मैं उनके गले से लटक कर झूल गई और हम दोनों एक दूसरे को प्यार करने लगे.

मैंने ब्रा को हाथ में लेकर देखा, तो उस पर 28 का साइज टैग लगा हुआ था और उसकी ब्रा में से बहुत ही भीनी भीनी खुशबू आ रही थी. थोड़ी देर तक चूमने के बाद वो उठे और बोले- शबनम, मैं अहमद को बाहर ले जाता हूँ.

जिससे मुझे पता लग गया था कि इसकी चुत में आग सुलगने लगी है और मेरी दवा ने असर शुरू कर दिया है.

नीतू अभी भी सुबक रही थी।जब उसने अपनी गर्दन मेरी तरफ की तो मैंने देखा उसका काजल उसके आंसुओं से पूरे चेहरे पर पर फ़ैल गया था, गर्दन की नसें तन गई थी और पूरा चेहरा दर्द की वजह से लाल हो गया था।नीतू ने रूंधे हुए शब्दों में कहा- राहुल, प्लीज मुझे छोड़ दो. लड़की की चूत दिखाओकृति चिल्लाते हुए तड़फ उठी- आह … उम्मह … चोद दे मुझे मेरे राजा … आह … चोद दे अपनी इस रंडी रानी को … अहह … याह. वीडियो सुदाइअब जब भी अहमद चाचा दुबई जाते हैं, तो मैं और खान सर उनकी हवस शांत करते हैं. मैंने भी जानबूझ कर अपना कमरा लिए रखा था ताकि कोई दूसरा उन्हें परेशान न करे … और कोई दूसरा उनकी मजबूरी का फायदा न उठा सके.

उसकी ब्रा को हटाया तो उसके कोमल गोरे चूचे नंगे हो गये जिनके निप्पल हल्के लाल मगर थोड़े से गुलाबी रंग के थे.

और फिर रात को भैया को सो जाने के बाद फिर भाभी मेरे बेडरूम में आ गई. चाची- और एक बात बता, मेरी ब्रा में भी गिराया था ना तूने!मैं- सॉरी चाची जी. चाची आंह आंह करती हुई मेरा सर दबा रही थीं और मैं अपनी जीभ से चुत संग चटाई का खेल खेल रहा था.

पुलिस गर्ल Xxx कहानी में पढ़ें कि एक शाम मुझे एक पुलिस वाली का फोन आया. मेरे दोस्त के जाते ही वो मेरे पास आकर बैठ गये और फिर हम दोनों टीवी देखने लगे. मैंने लंड पर थोड़ा थूक लगाया और झुक कर उसकी चूत पर सैट करके धीरे धीरे फांकों में रगड़ने लगा.

हिंदी बीएफ फिल्म वीडियो

उसने शीला आंटी से बोला कि जिसने फोन पर बात की थी, वो माल कहां है!शीला आंटी ने उससे बोला- थोड़ा रुको, वो बस आ रही है. फिर उसी नंबर से दूसरा मैसेज आया- सॉरी, आपको गलती से मैसेज चला गया है. उनके ही क्लीनिक का एक लड़का मुझे वहां छोड़ आया और कैसे क्या करना है, वो भी उसने बता दिया.

गिलास और केतली टेबल पर रखकर सर ने कमरे का दरवाजा बोल्ट कर दिया, मुझे थोड़ा सा अजीब तो लगा लेकिन कुछ खास नहीं.

चाची मस्ती में आवाज निकालने लगीं- इस्स आईईईई और तेज रगड़ो ऊईईईई ईईई … दो लंड से चुदने में मज़ा आ रहा है … उफ्फ … आह आह ओह आह उईइ आहह.

मैंने उनके निप्पल को दोनों उंगलियों के बीच लेकर मसलना शुरू कर दिया और पूनम बुआ की कामुक सिसकारियां भी बढ़ती चली गईं. मम्मी पापा मेरे सामने सेक्स करते थे तो मैंने अपनी वासना आंटी से बुझायी. पंजाबी सेक्सी आंटीथोड़ी देर बाद दोनों 69 की पोजीशन में आ गए और एक-दूसरे के अंगों को चूसने लगे.

उसने निखिल के गले में हाथ डाला और उसे अपनी ओर आने का इशारा कर दिया. थोड़ी देर में नगमा झड़ गई और अब मैं उसकी गांड मारने के लिए रेडी हो गया. अब वो दोनों और मैं एक साथ शहज़ाद से चुदवा लेती थीं, मतलब फ़ोरसम चुदाई हो जाती थी.

जब हम मार्केट पहुंचे और बाइक से उतरे तो मैंने देखा कि उनका लंड पूरा खड़ा था और पजामा फाड़कर बाहर आने को बेताब था।जब उन्होंने मुझे उनके लंड को घूरते हुए देखा तो उन्होंने शर्माते हुए अपने हाथों से उसको छुपाने की नाकाम कोशिश की।तो मैंने कटाक्ष करते हुए कहा- एक अंडरवियर आप भी ले लो पापाजी।वो भी ठरकी थे, उन्होंने कहा- तू ही पसंद कर के दिला देना. [emailprotected]प्यासी औरत की चुदाई कहानी का अगला भाग:बुआ की चुत गांड चोदकर मजा लिया- 3.

बस मुझे ये लग रहा था कि अभी खिड़की से कूद कर अन्दर चला जाऊं और अपना लंड दीदी के मम्मों के बीच रख कर लंड का माल दीदी को पिला दूं.

इसके बाद मैंने अपना लंड मां के मुँह में दे दिया और मां ने उसे चूस कर खड़ा कर दिया. मैंने उसे ऐसे ही बिस्तर पर डाल दिया और बॉडी आयल की शीशी लेकर उसके सफेद गोरे जिस्म की मालिश करने लगा. मैंने गौर किया कि मेरे और कुच्ची के अलावा और भी लड़के थे जो उन दोनों पर नजर गड़ाए हुए थे.

ब्लू फिल्म सेक्सी बढ़िया वाली मेरी मां की पैंटी थोड़ी भीगी हुई थी, उनकी चूत ने पानी छोड़ दिया था शायद. कुछ देर बाद दीदी अपने ब्वॉयफ्रेंड से बोलीं- अब तुम यहां से जल्दी चले जाओ, कोई आ जाएगा तो बड़ी दिक्कत हो जाएगी.

गीला लंड फच्च फच्च फच्च करके अंदर बाहर होने लगा और उसकी रफ़्तार बढ़ती जा रही थी।मैंने भी लगाम छोड़ दी और झटके मारने लगा और मेरे लौड़े ने वीर्य छोड़ दिया. अब ये सब बातें मेरी कहानी का विषय तो हैं नहीं तो चलो मुद्दे की बात पर आते हैं. नहीं तो सारी रात ऐसे ही तरसते तड़पते गुजर जायेगी; फिर कल सुबह विदाई के बाद हमें निकलना होगा, शाम को दिल्ली से तेरी फ्लाइट जो है.

इंग्लिश सेक्सी बीएफ एचडी

मेरी चीर (क्लीवेज) पर टिके मंगलसूत्र को साईड करते हुए सुरजन ने जीभ से चाटना शुरू किया और बोला- साली, जिसका मंगलसूत्र पहना है वो शराबी तो गांडू है, बहुत बड़ा लंड खाने वाला गांडू।मैं बोली- क्या बोल रहे हो तुम ये?वो बोला- हाँ भाभी, वो गांडू है. अब 12 बज रहे थे, कूपे की लाइट बंद थी और मैं अपने जीजा जी के साथ एक ही कंबल में थी. उनकी इस बात से मेरे चेहरे पर थोड़ी मुस्कान आ गई और मेरी टेंशन खत्म हो गई.

फिर उसने ममता की सलवार पैंटी सहित निकाल दी, जिससे ममता की बिना बालों वाली चूत खुल कर सामने आ गई. कुछ देर बाद हम दोनों बिस्तर में लेट गए और एक दूसरे के शरीर से खेलने लगे.

इसी बीच रुबिका ने भी हम दोनों को चुदाई करते हुए देख लिया लेकिन वो कुछ नहीं बोली.

मैं मजाक करते हुए बोला- ये तुम क्या कह रही हो … मैंने कब कहा कि तुम खराब हो … तुझमें कुछ भी खराबी नहीं है. बरखा के साथ दिल्ली में मेरी लाइफ मजे से चल रही थी, खर्चे पानी की कोई परेशानी नहीं थी क्योंकि महीने में एक बार चित्रा आती थी और लाख, दो लाख दे जाती थी. मैं भी नीचे से लंड को और अन्दर तक घुसाने की कोशिश कर रहा था, पर मुझे कुछ खास मज़ा नहीं आ रहा था.

अब मैं घर में बिना लुँगी के ही घूमने लगा, जिससे मां को मेरे लंड की लंबाई पता चल सके. कुछ ही मिनट में अभय ने अपने लंड की ढेर सारी गाढ़ी गाढ़ी मलाई अपनी बहन के मुँह में छोड़ दी, जिसे ममता पूरी की पूरी चाट गई. आपको देखकर तो ऐसा लगता है कि आपको ही अपनी गर्लफ्रेंड मानकर यहीं पर चूम लूं.

उसकी चूत फिर से मेरे लंड को खा गई और मैंने उसकी एक चूची पर अपना मुँह लगा दिया.

करिश्मा कपूर हीरोइन के बीएफ: फिर मैं पूछा- आपका कितनी देर तक खड़ा रह सकता है?अंकल बोले- वो तुम चिंता मत करो, मैं दवा ले लूंगा. मैं उन्हें सब बता दिया कि डैड अब मॉम के सिर्फ पति भर हैं वो उन्हें सेक्स में संतुष्ट नहीं कर सकते हैं और घर में दादा दादी जी भी हैं.

वो कपड़े पहनकर बाहर गए और बोले- क्या हुआ अहमद? शबनम बाहर गई होगी, चलो देखते हैं. हैलो भाई लोगो और चुदक्कड़ भाभियो, मैं पंकज आपको आज अपनी माँ बेटे का सेक्स कहानी सुनाने जा रहा हूँ. और यह बोलते ही उसने अपना मुंह मेरे चूचों के बीच में रख दिया और सूंघने लगा मेरे वक्ष की खुशबू को।फिर उसने मेरी ब्रा को अलग कर मेरे दोनों चूचों को रिहा कर दिया और मेरे मलाई जैसे चूचे अपने हाथों से दबाने लगा।मैं- सागर, खा जाओ अपनी भाभी के चूचों को। बहुत दिन से तड़प रहे हैं ये एक मर्द के लिए!मित्रो, मेरी सेक्स विद सिस्टर इन लॉ की कहानी आपको पसंद आ रही होगी.

ये कह कर मामी जी ने एक बार मेरे होंठों को चूमा और फिर बिस्तर से उतर कर अपनी साड़ी पहनने लगीं.

जब उसका फोन आया तो उसने कहा कि घर का गेट खुला है और घर में कोई नहीं है. इसलिए मैंने सोचा आज तेरे लिए मटन बना दूँ, ताकि तुझसे ताकत बनी रहे और तू जल्दी थके नहीं. मॉम इठलाती हुई बोलीं- नहीं जी, मैं ऐसे सबके सामने कैसे नंगी हो सकती हूँ.