एक्स एक्स एक्स वीडियो एक्स एक्स बीएफ

छवि स्रोत,औरत घोड़ा की सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी हॉट पिक्चर: एक्स एक्स एक्स वीडियो एक्स एक्स बीएफ, मैं अपने दूसरे हाथ की उंगली फिर से भाभी की बुर के फांकों में घुमाने लगा.

सेक्सी वीडियो जानवर की सेक्सी वीडियो

बिना समय गंवाए मैंने उनके आधे लंड को मुँह में भरकर चूसना चालू किया. सेक्सी एचडी फिल्म डाउनलोडकुछ देर में वो थक गई, तो मैंने उसे सीधा लेटाया और उसके पैर अपने कंधों पर रखकर चोदाई शुरू कर दी.

मैं घबरा गई, पर उधर फिर नहीं देखा बस कैसे भी लंगड़ाते हुए सीधे बाथरूम में चली गई. देहाती चुदाई सेक्सी पिक्चरउसके हाथ मेरी ज़ुल्फों से होते हुए मेरे मुखड़े को सहलाते हुए होंठों तक पहुंच चुके थे.

तीन मर्दों को चुम्मियां देने के बाद, उनके सामने सिर्फ ब्रा पैंटी में, शराब के नशे में मैं गर्म हो चुकी थी और बेशर्म भी.एक्स एक्स एक्स वीडियो एक्स एक्स बीएफ: मैंने उससे पूछा- चुत चोदेगा?वो मुझसे लिपट गया और अब वो भी मेरा साथ देने लग गया.

सारा के बाद जरीना की सील तोड़ने का मदमस्त चुदाई का खेल आपकी खिदमत में अगले भाग में पेश करूँगा.मैंने उससे कहा- अगर तू न मिलती, तो शायद ही कभी मैं ऐसी चुदाई के मज़ा ले पाता.

सेक्सी ब्लू फिल्म ओपन वीडियो - एक्स एक्स एक्स वीडियो एक्स एक्स बीएफ

होटल के कमरे में लाकर मेरे बॉयफ्रेंड ने मुझे बिस्तर पर लेटा दिया और मेरे होंठों को चूसने लगा.जब मैं उसके आर्मपिट और गर्दन पे ज़ुबान लगाता था, तो वो ऊपर को उछल पड़ती थी, जिससे मेरा लंड उसकी गांड पे टच हो रहा था.

उनके पति जो सरकारी अफसर हैं उनको दौरे आते हैं और उनकी तबियत अक्सर खराब ही रहती है। जब भी उन्हें ऐसे दौरे आते थे तो उन्हें आंटी दवाइयाँ देकर सुलाया करती थी।आंटी का शरीर उम्र के हिसाब से काफी सुडौल और काफी फिट है।मैं अपने आख़िरी साल के एग्ज़ाम खत्म करके घर आया हुआ था. एक्स एक्स एक्स वीडियो एक्स एक्स बीएफ फिर एक दिन मेरा मन उसकी गांड मारने को किया तो मैंने उसको गांड मरवाने के लिए भी तैयार किया और मैंने उसकी गांड भी मारी.

राहुल फाड़ दो मेरी जालिम चूत को आहह्ह्ह् … चोदो … पूरी तरह निचोड़ कर पानी निकाल दो.

एक्स एक्स एक्स वीडियो एक्स एक्स बीएफ?

पर था वो भी बाकियों की तरह ही, पर कुछ ज़्यादा ही दिलचस्पी दिखता था. उसने दोनों हाथों से मुझे अपने क़ब्ज़े में ले लिया और मेरी कमर अपनी तरफ खींचने लगी. इसके लिए मेरी हरकत कोई शरमाने की बात नहीं, बल्कि मनोरंजन की बात है.

ये सारी बातें जानकर मैं हैरान रह गया और फिर मैंने याद किया कि सामने वाले घर के आंगन में से एक बहुत ही सुंदर छोटी लड़की हर वक्त मेरे कमरे के ऊपर की ओर देखती रहती थी. हम दोनों एक दूसरे के इस राज को राज ही बने रहने देंगे और अपनी आग को भी बुझा लेंगे. आप अपनी पसंद का कोई भी ड्रेस ले लो, स्कर्ट या नीचे पहनने का, जो भी आपको अच्छा लगे.

मेरी खोपड़ी सारे दिन यही सोचती रहती थी कि किस तरह से भाभी को चोदा जाए. भाभी मेरे बाथरूम में नहाती और मेरे रूम में ही कपड़े पहनकर निकल जाती. तो पांच मिनट में वो भी अपनी गाड़ी लेकर आ गई और उसने मुझे मेरा नाम लेकर बुलाया.

किसी ने उसे अब तक छुआ भी नहीं था।अपनी बहन की चूत को मैं अपने हाथ से खोलकर देख रहा था. तो दोस्तो, यह थी मेरी पहली और आखिरी लव एंड सेक्स स्टोरी, यह गांड चुदाई की कहानी बिल्कुल सच है, इसमें टेस्ट के लिए कुछ भी नहीं डाला गया, जो कुछ भी हुआ है, सिर्फ सच्चाई है.

हम वहां खड़े होंगे, फिर आपको चेंजिंग रूम में नहीं बगल से आराम करने कि लिए छोटा सा रेस्ट रूम है, वहां ले चलेंगे.

मैंने कहा- अब पार्टी है तो ड्रिंक तो बनती है … और ज्यादा भी कर ली, तो सर्वेंट हैं, उन्हें ले आएंगे, आप कुछ देर तो बैठिएगा.

मेरे मामा के घर से थोड़ी ही दूर एक घर है, जहाँ मैं बचपन में अक्सर खेलने जाया करता था. मुझे लगा कहीं ये लोग सबको बता देंगे, तो मैं किसी को मुँह कैसे दिखाऊंगी. आज हम दोनों मिले हैं तो लता को भूल जाओ और आओ साथ मिलकर इस मिलन को रंगीन बना दें.

मैं एक बार फिर से उछल गई और फिर चीखी- उम्म्ह… अहह… हय… याह…इस बार मैंने कसके कुर्सी सहित दीदी को जमके पकड़ लिया और उनके दूधों को जोर से अपने हाथों से दबा दिया. मेरी पहली चुदाई की कहानी के प्रथम भागमेरी मासूमियत का अंत और जवानी का शुरुआत-1में आपने पढ़ा कि मैं अपनी सहेली के उकसाने पर उसी के एक दोस्त के पास अपनी पहली चुदाई करवाने को चली गयी. मैंने कभी ये काम करवाया नहीं था पर सहेलियों और भाभियों से सब सुन चुकी थी कि जब पहली बार लड़की की चुदाई होती है, तो खून निकलता है और जब सील टूटती है, तो बहुत दर्द होता है.

मैंने उससे कुछ देर इधर-उधर की बातें की और फिर हिम्मत करके उससे पूछा-एक बात बता नीरू, क्या तूने कभी किसी लड़के को न्यूड (नंगा) देखा है?”मेरे ऐसे सवाल से वह थोड़ी सी सपकपा गई और चुप सी हो गयी.

इस बीच हम दोनों ने किचन में जाकर जाकर नंगे ही रेडीमेड फूड के साथ चाय बनाई और पेट भर लिया. इस बार भी मेरा पूरा प्रयास है कि जो भी भाभी या आंटी मेरी इस नई कहानी को पढ़ेगी उनको रात में अपनी चूत में उंगली जरूर करनी पड़ेगी. थोड़ा हटा, तो देखा कि पद्मा जागी हुई है और मेरे सोये लंड को चूस रही है.

ऋतु- क्या?मैं- क्या सर? गांड मारने का?रवि- हां …मैं- पर सर ऋतु ने आज तक कभी गांड नहीं मरवाई है. जैसे ही मैंने यह बोला तो उन दोनों की हिम्मत बढ़ गई और बोले- मैडम कुछ बुरा न मानना … और गाली ना दो, तो आपको कुछ बोलें. आह्ह … आह्ह … ओह्ह … चोदो … आह्ह … उम्म … करो … कहती हुई वह चुदाई करवा रही थी.

नाग नागिन के जोड़े से लिपटे हुए हम दोनों एक दूसरे में समाने की जद्दोजहद में लगे थे.

मेरा बॉयफ्रेंड मेरी चूत को अपने लंड से चोदकर मुझे पूरा सुख दे रहा था. मैंने बाहर निकले हुए दीदी के चूतड़ मसले और पूछा- इनकी क्या साईज है?दीदी ने कहा- क्या इनकी इनकी कह रहा है … चूतड़ बोल न, चूतड़ अच्छा शब्द है … मेरे चूतड़ की साईज 44 इंच की है.

एक्स एक्स एक्स वीडियो एक्स एक्स बीएफ मैंने लिंग को पकड़ ऊपर की दिशा में सीधा किया और योनि की छेद सुपारे पर टिका कर बैठने लगी. हम वहां खड़े होंगे, फिर आपको चेंजिंग रूम में नहीं बगल से आराम करने कि लिए छोटा सा रेस्ट रूम है, वहां ले चलेंगे.

एक्स एक्स एक्स वीडियो एक्स एक्स बीएफ मैंने उसकी छाती के बालों में अपने होंठों को फिरा दिया और उनको चूम लिया. अब उसकी पीठ पूरी नंगी दिख रही थी और उसकी ब्लैक ब्रा का स्टेप दिख रहा था.

यह तुम्हारी नाक देख कर ऐसा लगता है, जैसे कि ऊपर वाले ने बड़ी फुर्सत से बनाया है.

बीएफ मध्ये

मैंने सोचा कि एक तो मैं पहली बार किसी मर्द के सामने आधी नंगी होने वाली हूँ … कैसा लगेगा. मैं कमला के बारे में सोच रहा था कि क्या होगा, उसकी चुत मिलेगी कि नहीं. वे मेरे ऊपर शुरू से फ़िदा हैं, लेकिन यहाँ वो एकदम कातिल लग रही थीं, लेकिन आज अकेली आई थीं.

उन्होंने मेरी पैंट को खोल कर मेरी जांघों से नीचे कर दिया और खुद भी नीचे बैठ गई. अंकल ने ऐसा मजाक में बोला और मैंने बात कर ली कि जाना है और भाभी को लाना है. हेमा भाभी बोली- मुझे बेवकूफ मत बनाओ, कई दिन से तुम उसी के पास आते-जाते हो और वह तुम्हारे पास आती है, कोई चक्कर चल रहा है, मैं कई देर से दरवाज़े के बाहर खड़ी बेड के चरमराने की आवाजें सुन रही थी.

बस तू थोड़ा सा हिम्मत कर ले … बहुत अंधेरा और शोर शराबा है, तू चिंता नहीं कर बस साथ दे.

”मुझे कोई परेशानी नहीं है … हाँ अगर तुम्हें कोई परेशानी है तो बताओ … अगर कहो तो तुम्हारे लिए दूसरा कमरा ले लूँ?”नहीं कमरे की कोई जरूरत नहीं है … आप बहुत अच्छे है … मुझे आपके साथ कोई परेशानी नहीं … मैं एडजस्ट कर लूँगी. 30 बजे मेरी नियत टाइम पर नींद खुली, तो मैं अपना ट्रैक सूट जो अब तक सूख चुका था, उसको पहन कर घूमने निकल गया. तभी उस नम्बर पर एक मैसेज आया- तुम मुझे बेचैन करके कहाँ गायब हो गए हो, तुम्हारा फोन भी स्विच ऑफ़ आता है.

हम दोनों चाय पीने लगे, तो मैंने उनसे पूछा- कैसी लगी कहानी?उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया. अगर मैं उसकी तुलना किसी फिल्म की हिरोइन से करूँ तो विद्या बालन जैसी लग रही थी. फिर चुदाई को ब्रेक करके मैं किचन में गई और कुछ खाने के लिए लेकर आई.

फ़िर हम भरे मन से एक दूसरे से गले मिले और दुबारा मिलने का वायदा करके मैं वापस अपने घर के लिए निकल पड़ा. बाथरूम से आते वक्त उसने बेडरूम में जाते जाते मुझसे कहा- चलो तुम भी शॉवर ले लेना … और आते वक्त बाहर की लाईट बंद करके कुंडी लगा के आना.

लेकिन उसकी गांड काफी टाइट थी तो इतनी आसानी से अबकी बार लंड नहीं जा पा रहा था. अगले दिन मिशिका कॉलेज जाते समय अपना मेक-अप किट बैग में डालकर निकली. उधर सुजाता भी गांड उचकाते हुए लंड पर कूद कूद कर चुदने का मजा लेने लगी.

भैया मेरे पास आए और मुझसे भागता न देख कर बोले- क्या हुआ तू भागी क्यों नहीं?मैं बोली- भैया मेरी ब्रा पानी के अन्दर चली गई है.

उसने मेरा हाथ पकड़ के मुझे अपने पास खींच लिया, जैसे उसने हाथ पकड़ा. बाजू में एक माल ने बोला- अभी दूल्हा माला डाले, तो पार्टी बम मत फोड़ना. पर जिस तरह से वो मेरी योनि चाट रहा था, मैं जल्द ही दोबारा झड़ने की ओर अग्रसर थी.

मेरा मन कर रहा था कि अभी अपनी निगोड़ी चूत को इसके लंड से चुदवा लूं. बात खत्म करने के पश्चात मैं बिस्तर से उठी और अपनी छुपाई हुई संदूकची बाहर निकाली.

इस बीच हम रोजाना तो नहीं लेकिन कभी कभी थोड़ी मस्ती आपस में कर लेती थी।एक दिन हमने रात को फिर मस्ती करने का प्लॉन बनाया। बहुत दिन से पति से दूर होने के कारण मैंने भी उसको हां बोल दिया लेकिन उस रात उसने कुछ नहीं किया बस घूम फिर कर आने के बाद चुपचाप ही सो गई. तो अब मैंने अपना पूरा ध्यान भाभी के जी स्पॉट को खोजने में लगाया, जो कि ज्यादातर महिलाओं की चूत के दाने के ठीक नीचे अन्दर की तरफ होता है. उसका ऊपर का नंगा बदन इतना सुंदर था कि कोई भी अपने होश खो सकता था, परंतु मैंने अपने ऊपर काबू रखा.

सुनीता सेक्सी बीएफ

उसकी इन गर्म बातों को सुनकर मैं अपनी सहेली से बोली- मुझे भी किसी से चुदवाने का मन करता है.

हब्बी का पूछने पर बोलीं- वो काम के चक्कर में ज्यादातर विजिट पर ही रहते हैं. वह कामुक सिसकारियाँ भरने लगी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’मैंने संध्या की चूत को सहलाना शुरू कर दिया. अचानक वो झुकी तो उसकी चुनरी सरक गई … और मेरी नज़र तुरंत उसके उभारों पर पड़ी.

कब हम दोनों की जुबानें एक दूसरे को चूसने लगीं, इस बात का अहसास तक नहीं हुआ. संजीव ने पीछे हाथ लाते हुए मुझसे हाथ मिलाया और गाड़ी शहर की तरफ मुड़कर सड़क पर दौड़ने लगी. हिंदी सेक्सी जीजा साली की चुदाईमैंने मौका देखकर अपनी रसीली स्वीट जीभ उसके मुँह में डाल दी और थोड़ी सी सलाइवा अन्दर डाल दी.

लेकिन कम उम्र के अपरिपक्व लड़कों के साथ यही दिक्कत कि उन्हें अंतरंगता मिली तो वे लग गये फौरन प्यार करने। हर्ष ने भी वही गाना बजाना शुरू कर दिया जो मुझे सबसे इरिटेटिंग लगता है। मैंने समझाया कि यह बस आकर्षण है, प्यार नहीं। यह रिश्ता हम दोनों की शारीरिक जरूरत को पूरा करने का एक अस्थाई माध्यम भर है. आप लोगों ने मेरी पहली कहानीपहला प्यार और कुंवारी बुर की चुदाईको पढ़ा.

आखिरकार मैंने दोनों चूतों में आधा आधा पानी छोड़ा और हम तीनों थककर ऐसे ही सो गए. टाइम देख कर उसने अपने कपड़े एकत्रित किये, अपने जिस्म को कपड़ों के अंदर पैक करना शुरू कर दिया. सुषी ने कहा- क्या हम फिर से मिल सकते हैं?मैंने कहा- हाँ, मिल तो सकते हैं, मगर …मगर क्या?” सुषी ने उत्सुकता भरे लहजे में पूछा.

उसके इस तरह से लंड घिसने से मुझे बड़ी कामुकता और व्याकुलता का अहसास हुआ जा रहा था. अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज पढ़ने वाले मेरे प्यारे दोस्तो, अभी कुछ समय पहले ही मुझे एक नया सेक्स अनुभव हुआ जिसको मैं आप सब पाठकों से शेयर कर रहा हूँ. फिर मैंने अपना हाथ उसकी गांड की दरार में डाला और उसकी चूत और गांड को सहलाने लगा.

फिर हम दोनों ने एक दूसरे का मोबाइल नंबर लिया, मैंने उन्हें एक सेक्सी गुड बाय किस किया और घर के लिए रवाना हो गया.

मेरे पतिदेव बहुत व्यस्त थे इसलिए उन्होंने कहा- तुम अकेले ही चली जाओ. मैंने उसकी जांघें ऊपर उठाईं, तो देखा कि उसकी चूत थोड़ी चौड़ी हो गयी थी.

सुषी ने मुझसे रूम में चलने के लिए कहा और बोली- तुम अंदर चलो, मैं अभी आती हूँ. मैं अन्दर गया तो उसने मुझे लॉबी में बैठने का कहा और दो मिनट बाद घंटी बजने पर अन्दर आने का कहा. मैंने उन्हें अपना नाम अपनी रोजमर्रा की जिंदगी के बारे में बताया, उन्होंने भी अपना नाम मोहिनी घोष बताया.

मेरा पूरा लंड आंटी अपने मुंह में लेकर उसको ऊपर से नीचे तक निचोड़ने में लगी हुई थी. वो बोली- पगली, चल तुझे मैं यहीं इंज्वाय करवा दूंगी, पर आज नहीं शादी के बाद. वर्षा बोली- दीदी किशोर को दिन में क्यों घर पर बुलाया था?मैं कुछ ना बोल ना सकी, मुझे गहरा सदमा लगा था.

एक्स एक्स एक्स वीडियो एक्स एक्स बीएफ मैं बोला- क्या हुआ?भाभी बोलीं- तूने बहुत कपड़े फाड़े मेरे … अब तेरी बारी है. फिर मैंने उससे पूछा- आपका भी मन कर रहा है ना?वो थूक गुटकते हुए बोला- न.

बीएफ वीडियो श्रीलंका

वो मुझसे चोदते हुए बोला- वन्द्या, बहुत गरम और बेहद टाइट चूत वाली लौंडिया है. सबसे परेशान होके मैंने किसी दूसरे शहर में नौकरी तलाश करने का फ़ैसला कर लिया. भैया की हालत ना कुत्ते जैसी थी कि हड्डी मिली, पर उठा के रख लिए हो और खा ना सके.

फिर मैं अपने कपड़े उतार कर जैसे ही उसके ऊपर लेटा, उसको जैसे करंट लगा हो, वो ऐसे हिल गई. मैं उत्तेजना में उसके अंडों को जोर से दबोच लिया और लिंग को मुँह में भर होंठों और दातों से काटने जैसा करने लगी. लड़की की सेक्सी विघर का दरवाजा खुला ही था, मैंने देखा कौशल्या ने लाल रंग टाइट नाइटी पहनी हुई थी.

”दस मिनट की अलग अलग तरीकों से चुदाई के बाद, जिस बीच में मैं एक बार पानी छोड़ चुकी थी, सुनील जी के लंड की पिचकारी ने मेरी फुद्दी की आग को ठंडा कर दिया और मैं भी दुबारा झड़ गई.

मैंने उनके होंठों से सरक कर उनके गालों को चूमना चाटना शुरू किया और उनके गले से होकर जैसे ही उनके कंधों पर पहुंचा, तो उनके बदन में एक सिहरन सी दौड़ गयी. लेकिन कम उम्र के अपरिपक्व लड़कों के साथ यही दिक्कत कि उन्हें अंतरंगता मिली तो वे लग गये फौरन प्यार करने। हर्ष ने भी वही गाना बजाना शुरू कर दिया जो मुझे सबसे इरिटेटिंग लगता है। मैंने समझाया कि यह बस आकर्षण है, प्यार नहीं। यह रिश्ता हम दोनों की शारीरिक जरूरत को पूरा करने का एक अस्थाई माध्यम भर है.

मैंने भी पूछ लिया कि किसका देखा है?सोनू ने बताया कि उसके पापा रात को 10. आंटी की उन मादक सिसकारियों और उनके चिल्लाने के कारण मैं भी ताव में आ गया था. इसलिए मैं अपनी कामुक आवाजों को मुंह से बाहर न आने देने की पूरी कोशिश कर रही थी.

मैंने उसे डॉगी बनाकर उसकी पीछे से लंड लगाया और उसकी चुत में पेल दिया.

मैं लंड के मजे लेते हुए सोचने लगी और दिमाग लगाया कि ये लगता है वही है, जिसने मेरा थोड़ा सा लहंगा उठा और मुझसे चिपके हुए निहाल को देख लिया था और फिर उसने निहाल से बहस भी की थी. उन्होंने मुझे गाड़ी की चाभी दी और गाड़ी पार्क करने के लिए घर का बड़ा गेट खोल दिया. वहां मैं एक महिला से मिला और रात उसके साथ पहली रात बिताने के बाद उसके कहने पर मैं अगले दिन उसके घर पर रुकने चला गया.

सेक्सी व्हिडिओ जगातमैंने धीरे से सोनू की टांगें चौड़ी कीं और अपने दोनों पांव को सोनू की टांगों के बीच ले जाकर उसे अपनी गोद में बैठा लिया. इसलिए संजना नहीं चाहती थी कि मैं शीना से बात करूँ या उसके आस-पास रहूँ.

बीएफ दिखाइए चोदा चोदी वाला बीएफ

एक दिन की बात है, वे दोनों मेरे कमरे में थे और मैं पूनम की आहें सुन रहा था. उम्म्ह… अहह… हय… याह… … सौरभ … ऐसे ही कर मेरी जान … ज़ोर से कर सौरभ … मैं आ गई सौरभ … और आंटी इतना कहकर फिर से झड़ गईं. कुछ देर के बाद मिशिका ने रिशु के कान के पास ले जाकर उसके कान में कुछ कहा.

”अरे कुछ नहीं होगा मेरी जान!”मैंने थोड़ी जबरदस्ती की, थोड़ा सा थूक उसकी गांड पे लगाया और लंड को हल्के से उसकी गांड के छेद पे रख कर घुसा दिया. वो दरवाजे को बिना कुंडी के बंद करके आ गयी ताकि कोई दरवाजा खोले, तो मालूम पड़ जायेइंदु आते ही लेट गयी, मैं भी उसके साथ लेट कर उसके चूचे दबाने लग गया धीरे धीरे मैंने उसके स्वेटर और ब्लाउज के नीचे के 2-2 बटन खोले ताकि कोई आ भी जाए, तो जल्द बंद हो जाए. मैं उसके चूतड़ों को अपने हाथों से पकड़ कर उसका लंड अपनी चूत में धकेलने लगी.

दो कुत्ते थे मगर कुतिया तो किसी एक को ही सम्भोग करने देगी और शायद इसी वजह से लड़ाई हो रही थी कि कुतिया किसका चुनाव करती है. फिर कुछ देर बाद सुजाता भी नीचे से अपने कूल्हों को और तेजी से उछाल उछालकर लंड लीलने लगी. पापा मम्मी की चूचियां पीने लगे, मम्मी को किस करने लगे, मैं खड़ी-खड़ी देखती रही, मुझे उस दिन कुछ अच्छा लगा.

वो मुझसे बोलीं- माया हमारे मंडल की मीटिंग है, मैं 2 बजे से पहले आ जाऊंगी, तुम खाना बना लेना और जिगर का ख्याल रखना. मज़ा आएगा न?’‘मुझे तो सोच सोच के ही मज़ा आ रहा है, पूरी गरम हो गयी हूँ.

जिस दूध को उसने पूरा मुँह में डाल लिया था, उसको वो जबरदस्त चूस रहा था और दूसरे को अपने हाथ से भर भर के दबाने लगा.

भाभी की टांगें मनोहर के कंधे पर थीं और मनोहर भाभी के चूचों को दबाते हुए उनकी चूत की चटनी बना रहा था. सेक्सी काजल की चुदाईफिर उसने मुझे उठाया और मेरी शर्ट को निकाला और मेरे पूरे शरीर पे किस करने लगी. भारतीय चुदाई सेक्सी वीडियोउसने ऋतु को ड्रॉइंग रूम में एक कैटवॉक करने को बोला, जिससे से वो उसका पूरा बदन देख सके … आगे से और पीछे से भी. आंटी ने मेरी तरफ शरारत भरी नजर से देखा और वहाँ से चलकर सीधी सामने वाले गन्ने के खेत में जा घुसी.

उसने हाथ बड़ा कर मेरा लंड पकड़ा और बोली- उफ्फ्फ्फ़ हाय अल्लाह … इतना बड़ा इतना मोटा … और मजबूत … मेरी तो ये आज फाड़ ही डालेगा … ज़रीना तो बहुत किस्मत वाली है … जिसे इतना मजबूत लंड मिला है.

कुछ समय के लिए मुझे संतुष्टि मिल गई मगर अभी भी बार-बार राधिका आंटी और उनकी सेक्सी हरकतें मेरी नज़रों के सामने नाच रही थीं. उसके बाद पंकज ने मेरी ब्रा का हुक खोल दिया और मेरे चूचे उसके सामने नंगे हो गए. जब अमित को पता लगा कि मैं स्खलित हो चुकी हूँ तो उसने तीन-चार जोरदार योनि भेदन वाले जबरदस्त धक्के लगाये और वह रुकते हुए मेरे नग्न शरीर पर निढाल हो गया.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:कोटा की स्टूडेंट की कुंवारी चूत-2. नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम सौरभ है, मैं अन्तर्वासना का पुराना पाठक हूँ. रात को मेरे पति प्रीतम रोज़ की तरह पीकर आये और उनकी बांहों में मैंने बड़े प्यार से कहा- जानू, मुझे आज ही पता चला कि मेरी स्कूल की सहेली अमनजोत यहीं पास रहती है, फेसबुक पर उससे मेरी आज बात हुई है.

सेक्सी बीएफ कुमारी

उसने मेरी बीवी की गांड में ही अपना गरम गरम माल छुड़ा दिया और हट गया. सुनसान अँधेरे कमरे में चुदाई की वो मधुर आवाज घप घप घप और उसकी दर्द भरी सिसकारियां ‘अह अह अह हम्म ह्म्म्म. हम तीनों नंगे ही छत पर चले गए और फ़िर चियर्स कर के हम सबने दो तीन घूँट में ही बियर खत्म कर दी.

मैंने अजय को देख अपने होंठ काटते हुए होंठों पर जुबान फेरी और उसे अपनी तरफ बुलाया.

पीछे से मेरे हाथ आगे सीधे उसके दाहिने चूचे पर आ गया था। मैं वैसे ही सोने का नाटक करता हुआ उसकी चूची पर हाथ फेरता रहा। उससे वो भी गर्म हो रही थी। अब वो सीधी हो गई.

उसके बाद मैंने दिन फिक्स करने के लिए कहा तो वह बोली- दो दिन बाद आ जाना. उसके बाद मुझे महसूस हुआ कि मेरे पांव को नीचे से कुछ टच हो रहा है, मैंने थोड़ा नीचे की तरफ झुककर देखा तो मामी मेरे पांव को अपने पांव से सहला रही थी. भदोही सेक्सी वीडियोअब जब इतनी सारी जनसंख्या बाहर के दूसरे राज्यों से आकर रहेगी तो यहां की एक ही हांडी (मटकी) में पकने वाली खिचड़ी का स्वाद कैसा होगा इसका अंदाजा तो आप भी लगा ही सकते हैं.

उसके बाद सासू माँ ने बोलना शुरू किया:बेटा, तू तो जानती है, हितेश हमारा एकलौता बेटा है … शुरू से ही हमने उसकी परवरिश में कोई कमी नहीं रखी, बहुत ही लाड़ प्यार से पाला है हमने उसे, शुरू से ही मुझे उसकी हरकतें थोड़ी अजीब लगती थीं, तब सोचा कि बचपना है … धीरे धीरे सब सही हो जाएगा, पर जैसे जैसे वो बड़ा होता गया, वैसे वैसे उसकी हरकतें भी बढ़ती गईं. उसको इस बात का काफ़ी सदमा लगा और उसने नक्की किया कि वो जिंदगी भर कुंवारी रहेगी. मेरी गांड मानो फट गई थी, मैं जोर से चिल्लाई कि फट गई गांड … उई मम्मी रे … आआहह हहह ईईई उम्ह साले हरामी गांड फाड़ दी.

मुझे ज़ोर से चोदते हुए उसने अपने लंड का पानी मेरी चूत में ही छोड़ दिया. मुझे बहुत मजा आ रहा था, पर उसने मेरे मुँह पर हाथ रखा और एकदम जोर से धक्का लगा दिया.

सुबह उठकर मैंने प्रीतम से पूछा- क्या आपको मेरी रात की बात याद है?प्रीतम बोले- इतनी भी नहीं पी थी.

सारा की तरफ हँस कर देखते हुए मैंने एक ही झटके में अपना पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया. उसने मुझे गौर से देखा और उसके बाद आंखें बंद करके अपने चेहरे को आगे कर दिया जैसे वो मुझे किस करने के लिए कह रही हो. जीवन ने ऐसा खेल खेला कि पहले तो सब कुछ ले लिया और रोष या मजबूरी में जब वासना की चौखट लाँघी, तो एक अलग ही दुनिया में पहुँच गयी.

सेक्सी bedeo हम दोनों क्लास में चले गए उसने मुझे क्लास में भी ज्यादा नहीं बात की और क्लास खत्म होते ही सीधा घर पर चले गए. मुझे नहीं आता कुछ भी इसमें से …”काफ़ी देर तक जब उसने कोई जवाब नहीं दिया तो मैंने अपनी नज़रें तिरछी करके उसको देखा.

उसके कहने पर मैं उठकर ‘सर’ के पास जाकर खड़ी हो गयी- सर प्लीज़ … शीट दे दो. पिछले कुछ दिनों से वो जान बूझ कर मुझसे चिपकने की कोशिश करने लगी थी और बेवजह मुझे यहाँ वहां छू लेती थी. पर मैंने नहीं की, तो उन्होंने खुद से कमर पर हाथ लगाकर मुझे दबाया और मेरे टांगों पर नीचे लिपट कर अपनी उंगली चुत की रेखा पर चलाते हुए अपनी नाक भी मेरी चुत में रख दिए.

हरियाणवी बीएफ सेक्सी फिल्म

मैं- मतलब?सासू माँ- देख बेटा, मैं तुझसे उम्र में काफी बड़ी हूँ, मैंने तुझसे ज्यादा दुनिया देखी है और मेरा अनुभव ये है कि आज की तारीख में कोई भी मर्द सिर्फ एक औरत के साथ और कोई भी औरत सिर्फ एक मर्द के साथ नहीं रह सकती. फिर मैंने दीदी से पूछा- दीदी आपका नाम क्या है?तो उन्होंने अपना नाम कोमल बताया. प्रीति की बहन के ब्वॉयफ्रेंड ने भी मुझे बताया कि प्रीति आपसे ही नहीं, मोहल्ले के कई लड़कों को फंसा चुकी हैं और अपनी रातें रंगीन कर चुकी हैं.

उसका 36-26-38 का बड़ा ही कामुक फिगर था, जो मुझे उसे चोदने पर पता चला. उसके हाथ मेरी ज़ुल्फों से होते हुए मेरे मुखड़े को सहलाते हुए होंठों तक पहुंच चुके थे.

एक दिन की बात है कि मैं सो कर उठी तो मुझे नीचे रोने की आवाज आ रही थी.

जैसे ही उसने अपने होंठ खोले, मैंने अपनी मुँह की दारू उसके मुँह में छोड़ दी. वो मानो पागल हो गयी थी और मुँह से ‘आय यस स्श्ह इह्ह उऔऔ इह्ह उऔ ऊया औ उहिही उहू. ऊपर 32 इंच के मस्त चुचे, बीच में 26 की कमर और नीचे 38 की मखमली गांड.

फिर एक दूसरे को बाय बोला और अपने-अपने घर पर आ गए।दो-तीन दिन बाद उसने दोपहर में फोन किया कि मैं घर पर अकेली हूँ. यह सुनते ही सुनील मेरे पास आ गया और बोला- तीन छेद तो समझ में आते हैं. मैं अब पूरी तरह से सामान्य हो गयी थी और बहुत हल्का महसूस कर रही थी.

बार-बार सलोनी अपनी कमर को उछाल कर अपनी चूत को मेरे होंठों के पास लाती और फिर से नीचे ले जाती.

एक्स एक्स एक्स वीडियो एक्स एक्स बीएफ: सभी पाठकों को हिमांशु बजाज का हृदय से प्रणाम! गुरू जी और अंतर्वासना पाठकों के साथ सम्बंध इतना गहरा हो चुका है कि ज्यादा दिन अब दूर रहा नहीं जाता. उसने वहां पड़ी वाइन की बोतल मेरी चुत में डाल दी और वाइन को चूत में भर दिया.

लंड का सुपारा बाहर निकाल कर उसने मेरी बीवी की गांड के छेद पर लगाकर अन्दर डालना शुरू कर दिया. मेरे ऐसा कहने पर उसने जवाब में कहा- जो हुक्म मेरे मालिक। और बस मेरी चूत ही नहीं मेरी गांड भी चाटो न मेरे राजा … मुझे अच्छा लगेगा, अगर तुम ऐसे करोगे तो। और जब भी तुम मेरी गांड पर चपत मारते हो तब बहुत अच्छा लगता है तो प्लीज और मारो मेरी गांड पर।मैंने उसकी चूत पर अपना मुँह लगा दिया तो उसकी एक तीख़ी सी आह … निकल गयी और वो जम कर अपने बोबे मसलने लगी और कुतिया की तरह अपने मूत को चाटने लगी. उसने कहा- यह तो ख़ुशी की बात है, नाम बताओ कौन है, मैं बात करती हूँ उससे.

फिर राहुल का लण्ड अपने मुंह से निकाल कर वह सीधी बेड पर लेट गयी और कहने लगी- अब मुझसे रहा नहीं जा रहा है.

सारा के बाद जरीना की सील तोड़ने का मदमस्त चुदाई का खेल आपकी खिदमत में अगले भाग में पेश करूँगा. मैंने तभी अपना लंड बाहर निकाल लिया, तो वो बोली- क्या कर रहे हो?मैंने उसे सीधा लेटने को बोला. तभी मैंने उसकी सलवार खींच कर पूरी बाहर निकाल दी और कुरती भी हटा दी.