ओके गूगल हिंदी बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,एचडी बीएफ चूत

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी बीएफ एडल्ट वीडियो: ओके गूगल हिंदी बीएफ वीडियो, अब तो तुमने सब कर ही लिया है और रुक्मणी को अब कुछ भी मत बताना, जैसा चल रहा है, उसे चलने दो.

मिया खलीफा बीएफ एक्स एक्स एक्स

साथ ही साथ वो मेरे स्तन भी मीड़ मसल रहे थे, मेरे निप्पलस भी मसलते जा रहे थे. 14 साल की बीएफपिछले भागगांड मरवाने का नशा- 2में मैंने बताया कि कैसे मेरे दोस्त राजेश ने मुझे पहली बार शराब पिलाई और जमकर मेरी चार बार चुदाई की.

थोड़ी देर बाद रेखा की गांड में मजा आने लगा तो फिर मैंने लंड की रफ्तार बढ़ा दी और तेजी से लंड को अंदर-बाहर करने लगा. फुल बीएफ दिखाओअम्मी हंस कर बोलीं- हां ये तो है, मगर तेल से मालिश कराया करो, तो जल्दी बड़ा हो जाएगा.

मैं आपकी जानकारी के लिये बता दूं कि राजेश के साथ भी मेरी एक गांड चुदाई की कहानी और गांडू सेक्स कहानी प्रकाशित हो चुकी है जिसका शीर्षक थागांड मरवाने की शुरूआतयदि आपने वह कहानी नहीं पढ़ी है तो एक बार पढ़ें और आपको मेरे जीवन के बारे में सही तरीके से पता चल जायेगा.ओके गूगल हिंदी बीएफ वीडियो: जब मैं रोशनी की सेक्सी चूत के दाने को मसलते हुए उसकी चुत की दीवारों को चाटता, तब वो पागल होकर अपनी गांड उठाने लगती थी.

उसका लंड रीमा की चुत में जब जाएगा तो आप सब भी उन दोनों की चुत चुदाई की कहानी से सराबोर हो जाएंगे.वाटर कूलर कॉरीडोर के आखिरी वाले रूम में रखा था, वो मेरे रूम के पास ही था.

सैंपल बीएफ - ओके गूगल हिंदी बीएफ वीडियो

मीनू की चुत के पानी से लंड की फिसलन अच्छी तरह होने लगी थी और मीनू भी उत्तेजना में कमर हिला कर चुद रही थी.धीरे धीरे धक्के देते हुए मैंने चाची की गांड में सुपारे को घुसा दिया.

आज तेरी चूत का भोसड़ा बना कर ही दम लूंगा मैं!इतने में ही मेरे पति बोले- आज ये मेरी बीवी नहीं, हम दोनों की रंडी है।अब मैं कुछ बोल पाती उससे पहले ही उन्होंने मेरे मुंह में अपना लंड पेल दिया जो मेरे हलक में फंस गया. ओके गूगल हिंदी बीएफ वीडियो मादरचोद सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी सौतेली मॉम को नहाते हुए देखने लगा.

मेरा घटिया रिजल्ट देख कर पापा ने मुझे बहुत डांटा और काफी बुरा भला भी कहा.

ओके गूगल हिंदी बीएफ वीडियो?

उसके बाद उसने अपनी जींस पहनी और मेरे पास आकर मेरे गाल पर एक किस करके मुस्करा दिया. मैं पूरी ताकत से धक्के लगा रहा था और भाभी नीचे से गांड उठा-उठाकर मेरा पूरा साथ दे रही थीं. मैं झड़ने के बाद एक मिनट वैसा ही खड़ा रहा और पूरा शांत होने के बाद फ्रेश होकर बाहर आ गया.

मैंने उसके जिस्म से ध्यान हटाते हुए, उससे पूछा- क्या हुआ आप क्यों रो रही हैं?तब उसने बताया कि वो अपने परिवार के साथ घूमने आई थी. ये तो मेरी मर्ज़ी है कि मैं किसके साथ सेक्स करूं, किसके साथ नहीं … समझे!कालू- अच्छा मैडम, जैसी आपकी मर्ज़ी. बस मेरा लंड एकदम से अकड़ा और मैं दीदी की ब्रा में ही वीर्यपात कर बैठा.

मैं समझ गया था कि इसका मतलब भैया अपने घर चले जाएंगे और मुझे पूरे रूम में एक महीना अकेला ही रहना था. रात को 2:30 बजे, जब सभी गहरी नींद में सो गए और मुझे भी नींद आने ही लगी थी कि तभी मेरे फोन पर भाभी का मैसेज आया कि छत पर मिलो. उसकी फिगर 38 32 34 है और रंग गोरा है।मॉम की उम्र 44 साल है और वह बहुत ही मॉडर्न है, रहन सहन में भी और विचारों में भी.

वो बोली- दीदी को बता दूं?मैंने कहा- तुम क्या बताओगी जानेमन, मैं ही बता देता हूँ. एक दिन मैं कुछ सामान लेने के लिए लिफ्ट से नीचे जाने को आ रहा था, तो वो लिफ्ट में अकेली खड़ी थी और दरवाजा खुला था.

दोस्तो, मैं राज शर्मा आपको अपनी इंडियन आंटी सेक्स कहानी बताने आया हूं कि कैसे मुझे एक आंटी की चुदाई करने का मौका मिला.

फिर मैंने पहल करते हुए उसकी चूचियों को छेड़ना शुरू किया और उनको हल्के हाथ से सहलाने लगा.

फिर एक लाल रंग की छोटी सी ब्रा दिखाते हुए मेरी सास ने मुझसे पूछा कि ये पसंद है?मैंने अपनी सास को कहा- पहनना आपको है … ये अन्दर की बात है, उसको मैं थोड़ी न देखूंगा. फिर पांच मिनट के बाद उसने मुझे जोर से कसकर पकड़ लिया और वो जोर से आवाज करते हुए झड़ गयी. मुझे उस देसी लड़की की चूत ने इतना पागल कर दिया था कि मैं पागलों की तरह उसे चोदने क़े बारे में सोचने लगा था.

मेरी बीवी दीक्षा एकदम कमाल की है, उसकी चूत से मेरा लंड बहुत खुश है. वो चुपचाप भूसे पर लेटी हुई थी। उनकी पीठ और गांड में भूसा चिपका हुआ था। मैं उनके ऊपर चढ़ गया और उनकी पीठ पर किस करने लगा। उनकी पीठ पर बहुत सारा भूसा चिपका हुआ था. मैंने कहा- क्या हुआ सिमरन?उसने कहा- मैंने तुम्हें भैया कब कहा और समझा!मैंने कहा- जब तुमने अपने पापा से बात की थी.

उनके घर पर भी मेरा आना-जाना ज्यादा होने लगा।एक दिन बातों ही बातों में मैंने पूछ लिया- भाबी, आप लगभग साल भर भैया के बिना रहती हो, आपको कभी अकेलापन और उनकी कमी महसूस नहीं होती?भाबी बोली- कमी तो बहुत लगती है लेकिन क्या किया जा सकता है, उनकी जॉब भी जरूरी है.

मैंने अंकिता की कुंवारी बुर में लंड फंसा दिया और उसके होंठों को अपने होंठों से दबा कर एक धक्का लगा दिया. वो बोली- तुझे कम से कम मुझे बता देना चाहिए था कि तेरा निकलने वाला है. सुरेश बाथरूम से बाहर आया और सुमन को जगाकर कहा कि मैं तो रात देर से आया था, इसलिए मेरी आंख जल्दी नहीं खुली, मगर तुम क्यों ऐसे घोड़े बेच कर सो रही हो?इस बात पर सुमन ने बहाना बना दिया कि अकेले उसको भी रात को देर से नींद आई थी.

मेरी और दूसरे स्टूडेंट्स की इस बात की ड्यूटी थी कि कोई क्लास में रह तो नहीं गया, जो प्रेयर करने नहीं आया. जिसको देखो बस भूत भूत की माला जप रहा है बहनचोद अब भूत को कैसे पकड़ा जाए. राहुल के लौड़े ने जैसे ही मेरी फुद्दी की सील फाड़ी, मैं इतनी जोर से चिल्लाई मानो भूकम्प आ गया हो.

चाचा इस बुढ़ापे में भी एक जवान की तरह जोश से भरने लगे और उसके दोनों स्तनों को पकड़ कर बारी-बारी से चाटने लगे.

अब मैं भी कोई न कोई मौका ढूंढता रहता था कि कैसे न कैसे करके भाभी से मज़ाक किया जाए और उनके क़रीब जाने की कोशिश की जाए. फिर उसकी टी शर्ट पर रंग लगाने लगा। उसकी चूचियों पर टी शर्ट के ऊपर से रगड़ने लगा।जॉन ने देखा और बोला- गान्डू ऐसे कोई रंग लगाता है क्या? देख, मैं दिखाता हूं तुझे कि रंग कैसे लगाया जाता है।ये कहकर जॉन ने हाथ में रंग लिया और गरिमा के पास गया.

ओके गूगल हिंदी बीएफ वीडियो मैं जानता था कि आयशा जैसी लड़की के लिए मैं सही आदमी नहीं हूं क्योंकि उसकी कुछ जरूरतें ऐसी थीं जो मैं पूरी नहीं कर सकता था. बलराम- अच्छा ऐसी बात है … तो यार एक कली को तो मैं अभी ही देख कर आ रहा हूँ.

ओके गूगल हिंदी बीएफ वीडियो क्योंकि जल्दी ही उसने मीता के सारे कपड़े निकाल दिए और खुद भी नंगा हो गया. वैसे अचानक ये कुत्ता भड़क कैसे गया?कालू- आप तो जानते ही हो मालिक, ये हरी एक नंबर का बेवड़ा और रंडीबाज है.

मैं अभी सार्थक के लंड के सुपारे की तपिश से गर्म ही हो रही थी कि बिना किसी चेतावनी सार्थक ने एक झटके में लंड चुत में पेल दिया.

लैंड चुस्ती हुई वीडियो

जब भी रूचि राहुल से कुछ पूछती, तो वो समझने के लिए थोड़ी और झुक जाती. दीक्षा ने मेरे हाथ को पकड़ कर इशारा किया कि थोड़ा रुक जाओ … और आराम आराम से करो. एक बार फिर मैंने लंड को निकाला और उसकी चूत के रस से सने लौड़े को उसके मुंह में दे दिया.

कुछ देर लन्ड चूसने के बाद राजेश ने मेरी दोनों टांगों को एक दूसरे से सटा दिया और आंडों पर ढेर सारा थूक दिया. बस अब क्या था … मैं उठ कर उनके बाजू में बैठा और उन्हें किस करने लगा. इस बीच न ही कोई लड़की मेरी गर्लफ्रेंड बनी, ना ही ज्यादा दोस्त बने थे.

नमन मेरी सील तोड़ कर बहुत खुश हुए और बोले कि वो कितने सौभाग्यशाली हैं कि उन्हें मुझ जैसी अक्षत यौवना पत्नी प्राप्त हुई.

मेरी सासु मां बोल रही थीं- दीदी आप कितनी देर में आ रही हो?वो बोलीं- बस अभी आ रही हूं, दस मिनट लगेंगे. वो कराहते हुए बोली- साले मुझे पता है कि कुछ देर बाद दर्द खत्म हो जाएगा. मैं आंटी को रात भर चोदना चाहता था इसलिए मैंने पहले ही वियाग्रा की गोली खा ली थी.

उसके बदन में इतनी गर्मी थी दोस्तो … कि उसे चोदने से पहले ही मेरा वीर्य निकल गया. मुखिया ने मौका देख कर अपना लंड उसकी गांड से सटा दिया और उसके कूल्हे पर एक हाथ रख कर वो झुक गया. और हां … तेरी नज़र तो मीता की बहन पर भी है … इतना काफी है या और भी बताऊं … मेरे पास बहुत कुछ जानकारी है.

वो एकदम से चिल्ला पड़ी- ऊईई … ईईई … आआ आह्ह … मर गयी रे … फाड़ दी हरामी … इतनी जोर से क्या जरूरत थी … आह्ह … हाये … मेरी गांड … मर गयी मम्मी।मैंने पीछे से आंटी को कस कर पकड़ लिया और उनकी चूचियों को सहलाते हुए पीठ पर किस करने लगा. आज इस देसी बुआ की चुत चोदी कहानी में मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने अपनी सगी बुआ को चोदा.

फिर वो उसकी चुत को देखकर मन में सोचने लगा कि हो ना हो ये जो भी है, मीता को नंगी करके बुरी तरह चूसता है … मगर इसके साथ सेक्स नहीं करता है. मुखिया- अरे नहीं, पहले वाले को क्या कम मज़े करवाए थे … लेकिन साले को ज़रा सी भनक क्या लगी, हमारे सर पर नाचने लगा था हरामी कहीं का … ये साले पुलिस वालों का कोई भरोसा नहीं होता. हम दोनों सहेलियों का पानी निकल जाने के बाद हम दोनों ही शिथिल हो गई थीं.

अब धीरे धीरे आंटी का हाथ फिर से मेरे लौड़े पर आ गया था और वो लंड को सहलाने लगी थी। मैंने भी उसकी चूचियों को पकड़ कर जोर जोर से दबाना चालू कर दिया।नीचे की तरफ मुंह करके उसने मेरे लंड को चूसना शुरू कर दिया.

मैं बोली- इकबाल मैं तेरे अड्डे पर काम करने तैयार हूँ, तू टाइमिंग बता. जब भी पति का फोन आता तो वह फिर से नीरज की बात छेड़ देते थे और उसके साथ थ्रीमस सेक्स का मजा लेने की बात कहते थे. सुमन स्पीड से हरी के देसी लंड पर चुत पटक रही थी और चुदाई के मज़ा ले रही थी.

नाश्ता करते हुए उन्होंने बोला- तुम्हारी मैडम से मैंने सुबह वॉट्सएप पर बात की थी. दोस्तो, ये सेक्स कहानी पूरी तरह से काल्पनिक है और मेरी ख्वाबों की हसीन तस्वीर है.

रवि- नमस्ते डॉक्टर साहब!रवि की उम्र 25 साल थी, वो दिखने में भी ठीक-ठाक था … और सबसे बड़ी बात वो जब से आया था, बस मीता को घूरे जा रहा था. मैं पूरा लंड ले भी नहीं पा रही थी … मगर वे दोनों जबरदस्ती लंड पेले दे रहे थे. अब मेरी गांड फटी पड़ी थी कि अगर आंटी ने किसी को बता दिया तो क्या होगा!मगर मैंने हिम्मत कर ली थी कि जो भी होगा देखा जायेगा.

चीन की बीएफ मूवी

फिर मैंने आंटी को अपनी टांगों में बिठा लिया और उसके सामने अपनी पैंट की जिप खोल दी.

मगर मीता की चुत बहुत टाइट थी, इसलिए उसने दोबारा कोशिश नहीं की और वो बस चुत की चुसाई में लगा रहा. पर न जाने क्यों मेरे मन में आया कि क्यों न देखा जाए, ये सब क्या बातें कर रही हैं. वो मेरे सिर को अपनी चूत पर दबाने लगी और सिसकारते हुए बोली- आह्हह … आऊऊऊ … ह्ह्ह … चूसो … आह्ह और जोर से … ऊईई मां … उफ्फ … पूरी चूस लो।मुझे भी चूत चाटना बहुत पसंद था.

मुझे तो यकीन ही नहीं हो रहा था कि भाबी की चूत को मैं साक्षात अपनी नजरों के सामने नंगी देख रहा हूं. मैं उनसे ये वादा भी कर चुकी थी कि अगर घुसा पाये तो गांड चुदाई करवा लूंगी. हिंदी वीडियो बीएफ सेक्सी वीडियो बीएफपोर्न फिल्मों में देखी हुई उन चुदाइयों को याद करके मैं अपनी चूत में लंड लिए धीरे धीरे उछलने लगी.

शायद उस दिन मेरा भाग्य बहुत अच्छा था, वो इसलिए कि उन भाभी ने कुछ देर पहले ही अपना फेसबुक का एकाउंट बनाया था. फिर वो सोफे पर बैठ गया और माँ को नीचे फ्लोर पर बैठकर लंड चूसने के लिए कहा.

वैसे तो मेरी और राजेश की कम ही मुलाकात होती थी लेकिन जब होती थी तो जबरदस्त होती थी. सेकेंड ईयर में है लेकिन उसको मेरे देवर ने 2 बार पकड़ लिया अपने बॉयफ्रेंड के साथ घूमते हुए, इसलिए पढाई बंद करा दी हमने. मेरी वाइफ ने तो सोचा था कि उसकी मां उसके लिए कुछ गलत नहीं सोच सकती.

पर सोचने वाली बात है कि कोई सगा भाई ऐसा क्यों करेगा … और दूसरी बात, नींद कितनी भी पक्की क्यों ना हो, जिस तरह मीता को चूसा और दबाया जाता है … उससे तो कोई भी जाग जाए. मगर चाची को मैंने इस बारे में कभी ये महसूस नहीं होने दिया कि मैं उनके बारे में इस तरह के विचार रखता हूं. पांच-सात मिनट तक हम दोनों किस करते रहे और भाभी ने एक बार फिर से मेरे लंड को सहलाना शुरू कर दिया.

मैं उसकी चूचियों को दबा दबाकर उसे गर्म करता रहा और फिर वो सिसकारने लगी.

मगर कहते हैं कि मनचाहा लंड मिल जाये तो चूत और मन दोनों ही ज्यादा देर तक शांत नहीं रह सकते. मगर अक्सर ऐसा ही होता है कि चूत खुद चुदने के लिए तैयार होने के बाद भी चुदने में कितने नखरे दिखाती है। जहां एक और मैं भाभी के पेटीकोट के अंदर हाथ डालने के लिए पूरा ज़ोर लगा रहा था, वहीं दूसरी ओर भाभी भी मेरे हाथ को पेटीकोट में नहीं घुसने देने के लिए पूरा ज़ोर लगा रही थी। खैर, इतने नखरे दिखाना तो लाज़मी भी होता है।मैंने जोर का झटका दिया और हाथ अंदर घुसा दिया.

राहुल ने अब अपना एक हाथ मेरे मम्मे पर रख कर उसे दबाना शुरू कर दिया. इस पोजीशन में उसकी चूत मेरे मुंह के पास आ गयी और मैंने उसकी चूत पर जीभ से चाटना और चूसना शुरू कर दिया. वो अब पीठ के बल लेट गई जिससे अब उसका चेहरा, चूचियां, पेट और चूत ऊपर की तरफ हो गए।मैंने तेल लेकर उसकी मस्त गोरी-गोरी चूचियों की मालिश करना शुरू कर दिया.

मैं यही सोच कर पागल सी हो रही थी कि अभी बस हाथ पर ही चुम्बन किया है, आगे आगे क्या क्या होगा और उससे मेरी क्या हालत होने वाली है. मुझे गर्मी लगने लगी क्योंकि बारिश बंद हो चुकी थी और उसके बाद उमस और ज्यादा बढ़ गयी थी. धीरे धीरे मेरा लंड खड़ा हो गया और मौसी की चूत के ऊपर दबाव बनाने लगा.

ओके गूगल हिंदी बीएफ वीडियो इतना बोलकर वो मेरे रूम से बाहर निकल गयी और मैंने रूम को अंदर से बंद कर लिया. आप तो खेतों में अपनी जवानी बिता रहे हो, पत्नी से प्यार करने का आपका दिल नहीं करता क्या!रणजीत- क्यों मैं मर्द नहीं हूँ क्या … लेकिन क्या करूं, खेतों में इतनी मेहनत करके घर आने के बाद थकान से नींद आ जाती है.

भोजपुरी बीएफ ब्लू सेक्सी

स्कूल छूटने से कुछ पहले मैं अपने घर के लिए निकल गया और घर में बिना आहट किए, मैं अन्दर जाकर छिप गया. मैं खींचने लगा तो चर्र … करके आवाज हुई और मॉम बोली- रुक फाड़ेगा क्या?मैं मन में बोला- आज तो बस आपकी फाड़ ही दूंगा मां. मैंने पूछा- आपके घर में और कौन कौन है?वो बोली- मेरे दो बच्चे और मेरे ससुरजी.

उसका चेहरा लाल हो गया और बोली- आह्ह … मार ही डालोगे तुम आज … आह्ह … मर गयी … कितना मोटा और लम्बा है ये!फिर मैं उसे चोदने लगा और देसी आंटी सिसकारते हुए कहने लगी- हां … आह्ह … और चोदो … आह्ह … अच्छा लग रहा है … उफ्फ … आह्ह करते रहो।मैं अब पूरी ताकत से स्मायरा आंटी की चुदाई किये जा रहा था. कमरे में हम दोनों ने थोड़ी देर बात की और बातों ही बातों में मैं उसे किस करने लगा. एचडी में बीएफ मूवीमैंने मॉम से कहा कि सामने वाली बिल्डिंग में जाकर खड़े हो जाते हैं ताकि बारिश से बच सकें.

आज का यह सूरज मेरी जिंदगी में एक जवान लड़की के हाथों से एक बेहतरीन हस्तमैथुन का अनुभव लाया था। दिन चढ़ा तो चाचा के साथ फिर गांव में मैं खूब टहला और लोगों से मिला।फिर थक कर सायं के समय मैं अपने कमरे में बिस्तर पर लेट गया।कुछ देर बाद बहू घूंघट में आई.

मैंने उसको बिस्तर से नीचे पैर लटकाकर लेटने के लिए बोला ताकि मैं फर्श पर जाकर उसकी चूत में लंड डाल सकूं. वो जोर से सिसकारते हुए बोली- आह्ह … राज … चोद दो। अब नहीं रुका जा रहा.

मैंने सुशी की दोनों टांगें अपने कंधों पर रखी और लंड को उसकी कोमल चूत पर रगड़ने लगा. मेरी सास ने कहा कि तू मेरे साथ मेरे बेड पर ही सो जाना, मुझे अकेला डर लगता है और नींद भी नहीं आती. फिर उसकी मां ने उसको पाला और बड़ा किया लेकिन 4 साल पहले उसकी मां भी चल बसी.

अगली दोपहर मेरी इच्छा पूरी हो गई। मैंने अपनी खिड़की से देखा कि राहुल हमारे घर की ओर आ रहा था.

मैं अचानक से बाथरूम में अंदर चला गया और भाबी को पीछे से पकड़ कर कहा- मुझे भी नहाना है आप के साथ में।उसने कहा- ठीक है. मेरा पूरा का पूरा लन्ड उनकी चूत की दीवारों को खोलता हुआ उनकी चूत की गहराई में उतर गया. सुमन- तुम अनाड़ी तो नहीं लगते, फिर ये सब हुआ कैसे?कालू- मैडम जी … मेरा लंड थोड़ा भारी है.

सेक्सी ठोका बीएफफिर मैंने एक जोरदार झटका और मारा जिससे मेरा पूरा लंड उसकी चूत को फाड़ता हुआ उसकी बच्चेदानी से जा टकराया. मैंने भी अपना हाथ भाभी के पेट की साइड से डालते हुए उनकी चूचियों पर पहुंचा दिया और भाभी की चूची को दबाने लगा.

ભાભી ની બ્રા

आंटी हंस कर बोलीं- हां यार, पहले पहल तो खुद के लिए लंड तलाश करती रहती थी. एक दिन मैं ऐसे ही ग्रिंडर पर सर्च कर रहा था, तो मुझे एक प्रोफाइल दिखी. वो मुझे चूम कर मेरे ब्लाउज में दो हजार का नोट खौंस कर बोला- अपने लिए हॉट सी ड्रेस खरीद लेना.

आपकी पिंकी सेन[emailprotected]छोटी चूत की कहानी का अगला भाग:गांव की चुत चुदाई की दुनिया- 6. उन्होंने मेरी टांगों के बीच में हाथ डाला और मुझे किचन की स्लैब पर बिठा दिया. दीदी मेरी तरफ देखने लगी तो मैं बोल पड़ा- सबसे बढ़िया ज़िन्दगी शादीशुदा वालों की होती है, कोई चोरी नहीं.

अब मैंने धीरे धीरे उसके होंठों को चूसते हुए उसकी चूत में लंड को हिलाना शुरू किया. उनकी चूत में उंगली देकर मैं अंदर बाहर करने लगा और मामी दर्द भरी सिसकारियां लेने लगी. मैं आंखें बंद किये उसके मुँह में लंड झाड़ रहा था और वो लंड को चूस चूस कर उसे खाली कर रही थी.

उसे उसके कपड़े पहनाए और वापस उसको उसकी जगह पर लिटा कर खुद वहां से बाहर चला गया. फिर एक दूसरे की आंखों में देखते हुए हम दोनों के होंठ भी आपस में मिल गये.

इस पार्ट में मैंने ज्यादा गालियों का इस्तेमाल नहीं किया है, पर अगला पार्ट बहुत ही गर्म और कामुक है.

मैंने उनके बदन को सहलाते हुए उनके चूतड़ों को अपने लंड की तरफ खींचा तो मौसी अपने आप मेरी तरफ सरक आयीं. सेक्सी वीडियो दिखाना बीएफXxx Aunty चुदाई कहानी मेरी बिल्डिंग में रहने वाली आंटी की दूसरी बार की है. देसी बीएफ देसी सेक्सी वीडियोन्यूयार्क से आने के दूसरे दिन में सुबह को उठकर मैं फ्रेश हुआ और अपने कमरे से बाहर आया. आपकी पिंकी सेन[emailprotected]विलेज गर्ल की चूत कहानी का अगला भाग:गाँव के मुखिया जी की वासना- 4.

मुझे उनकी पीठ की गरमी इस तरह महसूस हुई कि मेरा लिंग लोहे सा टाइट हो गया.

मैं उनकी चूत में उंगली से चोदता रहा और वो किसी तरह बर्दाश्त करती रहीं. धीरे धीरे करके मैं मस्तीखोर बन गया और स्कूल में मेरा नाम सभी के बीच शैतान बच्चा के रूप में फैलने लगा. आप मुझे जरूर मेल करें और इस घर में चोदा चुदाई कहानी के लिए अपनी अमूल्य प्रतिक्रिया बताएं.

करीब 5 मिनट धुंआधार लंड हिलाने के बाद मैंने सारा माल उसकी गांड में डाल दिया. काफी देर तक मुझे चोदने के बाद इकबाल ने मेरी चूत में पानी छोड़ दिया और मेरे ऊपर ही लेट गया. करीब पांच मिनट तक उसके मुँह में पूरा लंड घुसा होने से सिर्फ ‘घुउन … घुऊंटट घुंट …’ की ही आवाज़ आती रही.

सेक्सी बीएफ भोजपुरी देहाती

मैंने घर का दरवाजा खोला और दीदी को अन्दर भेजकर उनसे कहा कि मैं होटल से खाना लेकर आता हूं, तब तक आप फ्रेश हो जाएं. अब जैसे ही वो तौलिया देने के लिए आगे बढ़ी तो उनका पैर फिसला और मैंने उनको लपक लिया लेकिन साथ ही मैं भी नीचे गिर गया. मैंने भी ताव में आकर कहा- रुक जा छिनाल, अभी तेरी चूत की गर्मी निकालता हूं.

दोस्तो, ये थी मेरी सच्ची कहानी जिसमें मैंने पहली बार गर्लफ्रेंड की चुदाई की थी.

मेरे मुँह से चीख़ निकली, पर किसी तरह मैंने तकिये में मुँह दबा कर कन्ट्रोल किया.

मैं- हाय दीदी, आज तू बड़ी सेक्सी लग रही है … क्या बात है किसी पर दिल आ गया है क्या?दीक्षा- हां यार, पर आज तू भी बड़ा मस्त लग रहा है. आयशा को समझाने की मैंने बहुत कोशिश की लेकिन वो मेरे अलावा किसी और से शादी नहीं करना चाहती थी. देवता बीएफचूंकि मेरी बीवी की तरफ से मुझे दिक्कत होने वाली नहीं थी, तो अब मेरी हिम्मत बढ़ गई.

मस्त जवानी की सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरे बॉस और मैं चुदाई के लिए तड़प रहे थे. हरी- साले हरामी मुखिया के गुलाम, जो तू बोल रहा है ऐसा हो सकता है क्या!कालू- तू जानता है. दोस्तो, आपको मेरी आपबीती ये देसी चूत चुदाई स्टोरी कैसी लगी, प्लीज़ ईमेल करके जरूर बताएं.

पांच-सात मिनट तक किस का मजा लेने के बाद मैं उसको गोद में उठाकर अंदर बेडरूम में ले गया. दस मिनट तक काऊ बॉय स्टाइल की चुदाई में मैं भी थक गया तो उसने मुझे पलटा और लेटे लेटे ही पीछे से मेरी गांड को अपने लन्ड से सोटने लगा.

फिर वो अलग होकर बोली- मेरी पैंटी के साथ क्या क्या करते थे तुम, अभी करके बताओ.

उसकी चूत में मेरे लंड का माल भरा हुआ था जिसका स्वाद मुझे भी मिल रहा था. शुरू में तो उसने अपने मुंह को बंद ही रखा लेकिन 2-3 मिनट के अंदर ही मेरी जीभ उसके मुंह में घुसने लगी थी और उसके मुंह के अंदर घूम रही थी. उसने मेरी तरफ देखा और मेरे होंठों से अपने होंठ लगा कर मुझे किस करने लगी.

बीएफ मारवाड़ी हिंदी मैंने उसे बेड पर बिठाया और उसके सामने ही अपने शॉर्ट्स के ऊपर से लंड को सहला दिया. दोस्तो, अब मेरी जीजा साली सेक्सी कहानी को मैं अगले भाग में लिखूंगा.

सच कहूँ तो ये मेरी ज़िंदगी की अब तक की सबसे ज्यादा हुस्न वाली लड़की की रोमांटिक सेक्स स्टोरी थी. फिर मैंने थोड़़ा सा थूक हथेली पर लेकर उसकी गांड में उंगली से अंदर करने लगा. मैंने उसके होंठों पर उंगली रख कर कहा- श्श्श्श… बाहर आवाज चली जायेगी.

दीपिका सेक्सी फिल्म

मैं भाभी की गांड को चाटने लगा। मुझे भाभी की गांड को चाटने में बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था। फिर उनके दोनों चूतड़ों पर किस करने लगा। वो चुपचाप होकर गांड चटवा रही थी। अब मैं भाभी की गांड के छेद में किस करने लगा।वो सिसकारियां भरने लगी। उसको भी गांड चटवाने में मजा आ रहा था. मैं कासिब की बात सुनकर दंग रह गई और बोली- भाई ये तू क्या बोल रहा है … तुझे पता भी है, वो मेरे अब्बू हैं?कासिब मेरा चूचा मसल कर बोला- दिलकश, जब तू मूतने के लिए बाथरूम गई थी, तब मैं अम्मी की चुदाई कर रहा था और मैं और अब्बू दोनों बहुत दिन से तेरी और अस्मा की चुदाई करने की सोच रहे हैं. आपकी पिंकी सेन[emailprotected]वासना की कहानी का अगला भाग:गांव की चुत चुदाई की दुनिया- 5.

सुरेश- अरे वो तेरे सामने शर्माएंगे, तू छिप कर सुन लेना … ठीक है ना!मीता ने हां में सर हिला दिया और सुरेश अन्दर चला गया. वो तड़फ उठी और गाली देने लगी- उई मां … मेरे मम्मे उखाड़ने का इरादा है क्या!मैं बोला- घिस अब मेरी पीठ … साबुन लगा और रगड़ दे मेरी जान.

मुझे लड़की को देखते देख चाचा बोले- बड़ी सुंदर बहू है न? बहुत सेवा करती है मेरी.

मैं उनकी गर्दन पर जोर जोर से चूमने चाटने लगा, जिससे वो बेहद कामुक होकर गर्म आहें भरने लगीं. नताशा: अह्ह … आह्ह … उह … ओह राज … धीमे करो … यू आर सो फास्ट … अह्ह … आह-ओह … आह्ह … राज स्लो डाउन … दर्द हो रहा है. मैंने उसकी गांड के नीचे तकिया लगा दिया और उसकी चूत की पोजीशन को सेट कर दिया.

हमने एक हल्का पैग लिया और फिर उसको मैंने दोबारा से बेड पर लिटा लिया. धीरज ने मेरे मुँह से जब ये सुना कि मैं पहले बार गांड में लंड ले रही हूँ, तो वो खुश हो गया और उसने एकदम से मेरी गांड में लंड पेल दिया. रूपांगी बेटा, क्या हुआ तू तो इतनी जल्दी झड़ गयी?” मौसा जी मुझे चूमते हुए बोले.

मोनिषा ने मुझे सोते देखा, तो उसने मेरा हाथ अपनी पैन्टी से निकाला और वो भी सो गई.

ओके गूगल हिंदी बीएफ वीडियो: सुरेश- आह उहह … तेरी चुत की गर्मी आह … इसका अलग ही मज़ा है … उफ्फ ले मेरी रानी. इस प्रेम में सेक्स की लहरें किस मोड़ पर कैसे पहुंचती हैं, इस सबका का विवरण आपको अगले भाग में पढ़ने को मिलेगा.

मगर मोनिषा ने करवट ले रखी होने के कारण उसका लोअर पूरा नीचे नहीं हुआ. मैं- ठीक है भाभी, पर ये तो बताओ आपको मेरे लंड पर जन्नत की सैर करके कैसा लगा?रुक्मणी- बहुत मजा आया कुणाल. मुझे देर हुई तो दीदी ने आवाज लगा दी- कितनी देर कर रहे हो, नाश्ता बन गया है.

मैंने भी तरसते हुए कहा- चोद लो मादरचोदो, मुझे जी भरकर पेल दो, मैं जितनी चाहे चिल्लाऊं लेकिन मुझे छोड़ना नहीं.

मुझे एक बात तो पूरी तरह से समझ आ चुकी थी कि वो बहुत सीधी और भोली थी. उसकी हवस भरी सिसकारी निकल गयी- आह्ह … राज … और उसने मुझे अपने ऊपर पकड़ कर खींच लिया और मेरे होंठों को चूसते हुए अपनी चूत को मेरे लंड की ओर धकेलने लगी. फिर वो मेरे गोरे गोरे चूतड़ों को सहलाने लगे और बोले- बस … अब सब ठीक हो जायेगा.