बीएफ वीडियो ब्लू फिल्म हिंदी में

छवि स्रोत,देसी भाभी की गांड चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी गांव वीडियो: बीएफ वीडियो ब्लू फिल्म हिंदी में, अब इनकी ये वासना इन्हें कहाँ लेकर जाएगी ये तो आने वाला वक़्त बताएगा.

ब्लू फिल्म ब्लू सेक्सी

थोड़ी देर बाद एक लड़की आई जो 19-20 की थी वो रोस्टन की गर्लफ्रेंड थी, उसने एक छोटी सी बिकिनी पहनी हुई थी, बिकिनी क्या पहनी हुई थी!! सिर्फ उसके बूब्स एक तिहाई ही ढके हुए थे और पेंटी तो सिर्फ नाम की थी, उसमें उसके पूरे चूतड़ दिखाई दे रहे थे. मसाज वाली सेक्सीफिर जॉन ने सुपारे पर अच्छे से रस लगाया और फ्लॉरा के एकदम पास जाकर खड़ा हो गया.

हिम्मत करके मैंने धीरे से भैया का बेल्ट खोला और उनकी तरफ डरते हुए देख कर उनकी पैंट और अंडरवियर को थोड़ा नीचे करके उनके लंड का दीदार किया. ससस/विलेज आंटीउसने पूछा- बाबूजी कल यहाँ क्या हुआ था?‘कुछ नहीं, अरे वो कुत्ता आया था तो मैं उसे भगाने के चक्कर में था.

मॉंटी- हैलो दीदी, गुड मॉर्निंग कैसी हो आप?सुमन- गुड मॉर्निंग मॉंटी.बीएफ वीडियो ब्लू फिल्म हिंदी में: शायद उनका अंतिम समय आ गया है मगर तेरी माँ तेरी मामी की वजह से जाना नहीं चाहती हैं.

आज मज़ा आ जाएगा चुदाई का!मैं आपको बताना भूल गया कि मेरा लंड सार इंच लम्बा है और खीरे जितना मोटा है.फिर मैंने बेखौफ होकर चाची की मैक्सी को समेट कर उनके गले तक चढ़ा दिया.

ववव क्सक्सक्स वीडियो - बीएफ वीडियो ब्लू फिल्म हिंदी में

आह… उसके मुख की गर्माहट को अपने लंड पर महसूस करके मैं तो जैसे जन्नत में पहुँच गया था.मेरा तो लंड खड़ा ही था और वैसे ही मैंने अपने लंड को फिर से आंटी की चुत में डाल दिया और उन्हें चोदने लगा.

फिर मैंने अपने लंड का सुपारा उसकी बुर की फाँकों में लगा कर फंसाया और जोर से दबाया. बीएफ वीडियो ब्लू फिल्म हिंदी में यार क्या चूचे थे उसके… और क्या नशीला फिगर था उसका… अह… लंड एकदम से अकड़ गया.

भाभी मेरे लिए पानी लेने गईं तो पीछे से मैं उनकी मटकती गांड को निहारने लगा.

बीएफ वीडियो ब्लू फिल्म हिंदी में?

आठ दस बार ऐसा करने पर नीता ने सिर उठा कर पप्पू को चूमते हुए कहा- अंकल, अब दर्द नहीं हो रहा, अब करो जो करना है. दीदी ने ब्लैक कलर की साड़ी और ब्लाउज भी ब्लैक कलर का ही पहना हुआ था. एक रोज सुबह ही हम अकेले थे तो सैर करके पार्क में एक बैंच पर बैठ गए.

चल अब देर मत कर साथ में बाथरूम जाएंगे और वहाँ अपनी झांटों की सफ़ाई करेंगे समझी. कुछ देर हिलाने के बाद मैंने उसकेलंड को मुँह में ले लियाऔर चूसने लगी. अब वो बहुत उत्तेज़ित हो चुकी थी और उसकी चूत कोजरूरत है एक लौड़े की… उसने मॉंटी को चुत चाटने से मना कर दिया- बस मॉंटी अब रुक जा, अब तुझे असली मजा देने का टाइम आ गया है.

टीना को कुछ समझ नहीं आया तो संजय ने उसे कुछ बातें समझाईं कि अब आगे वो सुमन को क्या करने को कहेगी, जिसे सुनकर टीना की आँखों में चमक आ गई. उनके फैमिली में एक लड़का अंकित था, दोनों बहनों का भाई, वो हमसे उम्र में बड़ा था, मैं उससे भी कभी कभी बातें करती थी. उसी समय मैंने अन्तर्वासना पर आरती जायसवाल की एक रियल चुदाई कहानी पढ़ी.

वो हग मैं अपनी पूरी लाइफ कभी नहीं भूल सकता क्योंकि चाची ने इतने दिल से दिया था कि उनकी अगले दो मिनट तक उनकी आँखें बंद थीं. उसे किस करते-करते कब मेरे हाथ उसके मम्मों पे पहुँच गए, मुझे पता ही नहीं चला.

उसने मुझे देखा और बोली- अरे भैया, अबके तो तुम बला(बहुत) दिनान में(दिनों में) आए हो, का गामें (गाँव को) भूल गए का?अरे नाएं(नहीं).

अगर तुम दो रात के लिए अपनी बीवी मुझे दे दो तो मैं तुम्हें एकाउंटेंट बना दूँगा.

अब तो हमेशा मैं तुम्हें चोदूँगा तुम्हारी जैसी कच्ची कली को चोद कर मेरा लंड तृप्त हो गया. कसम से तेरे जैसी गर्म माल देखी नहीं आज तक, चल रख मेरा लंड अपनी गर्म चूत पे. श्वेता ने भी कहा कि वो भी घर पर बोर हो रही है, तो मैंने कहा कि चलो कहीं बाहर घूम आते हैं.

मैं अन्दर गया तो माया थोड़ी चौंक गई- तुम यहाँ?मैं- तबीयत ठीक नहीं है माया. मैंने अब अपने होंठों से उसके मम्मों छोड़ कर उसके होंठों को पकड़ लिया, उसके होंठों को चूसते हुए उसकी चुदाई कर रहा था. साथ ही वो गाली भी दे रही थी- हरामी मादरचोद रंडी की औलाद… चल तुझे अभी बताती हूँ कि पराई लड़की को कैसे चोदा जाता है.

मॉम के मूत से मेरा पूरा शरीर गीला हो गया था, यश मेरे मूत से भरे शरीर को चाटने लगा.

आशा करता हूँ सभी लड़कियों की चूत में पानी तो आ ही गया होगा और लड़के भी एक बार झड़ गए होंगे. तभी 3 लेडीज जिनकी उम्र लगभग 35-40 के अराउंड होगी, मेरी बगल वाली सीट पर आकर लाइन से बैठ गईं. अंधेरा पूरा हो चुका था, वैसे भी आसपास की छतों पर कोई था नहीं तो कोई और हमें देख नहीं सकता था.

दीदी मेरे सिर पे हाथ फिराने लगीं और बोलीं- भैया हम दोनों सगे भाई बहन हैं. आपको मेरी रियल सेक्स स्टोरी कैसी लगी, जरूर बतायें।फिर किसी से सेक्स करूँगी तो आपको बताऊँगी।[emailprotected]. मैं जाने लगा तो उन्होंने रोक लिया और कहा- ये जैकेट ले जाओ और थैंक्स फॉर यस्टर डे.

कविता ने रीना को फोन करके ये सब बताया और समझाया कि पिता के आने की स्थिति में उसका अपने फ्लैट पर रहना ही ठीक होगा.

रागिनी का इशारा पाकर मैंने रागिनी को बांहों में भर कर अपना लंड रागिनी की चुत के छेद पर लगा दिया. अगर मुझे तुम्हारा प्रस्ताव स्वीकार हुआ तभी यहाँ रुकूँगी और तभी अपनी आवशयकता की वस्तुओं के बारे में बताऊँगी.

बीएफ वीडियो ब्लू फिल्म हिंदी में अब उसकी चुत में मुझे कोई इंट्रेस्ट नहीं रहा था इसलिए मैंने उसका बनाया हुआ खाना खाया और उसे वापस भेजा. अनामिका जी ने उस खूबसूरत सी लड़की से परिचय करवाते हुए कहा- इसका नाम रिया है.

बीएफ वीडियो ब्लू फिल्म हिंदी में आँख तुम्हें बंद करनी होगी समझी!सुमन ने थोड़ी ज़िद की, मगर फिर वो मान गई. सुबह जब वो किचन में चाय बना रही थी, तब मैं फ्रेश हो कर फिर बेड पे लेट गया.

क्योंकि वो जिस नजर से मेरी तरफ देखती है (आज भी देखती है) उससे मैं समझ गया था.

कोई ब्लू फिल्म दिखाओ

जैसे ही मैंने अपनी बहन शाफीना के नंगे जिस्म को नजर भर के देखा, मैं पागल सा हो गया. मैंने कहा- यह कैसे मुमकिन है?उन्होंने कहा- मेरा इंजीनियर पति हर फ्राईडे को दारु पीकर पूरा टुन्न होकर आता है. फिर मैंने उसके मम्मों को चूसना शुरू किया तो साली सिसकारती हुई कहने लगी- उह उन्ह जीजू अहह आपकी इसी अदा पर हम फ़िदा हैं.

जैसे ही सरपंच का पता करने जा रहा था कि तभी मैंने देखा कि सामने एक गाड़ी से एक आदमी टकराने वाला था, शायद उस गाड़ी का ब्रेक फेल हो गया था. मेरी पिछली कहानीट्रेन में मिली एक नवविवाहिता की कसी चूतमें आपने पढ़ा कि कैसे मैंने अपनी भानजी के सामने एक नवविवाहिता लडकी की बुर ट्रेन में मारी. मामा जी बोले- तो तुम ही बताओ ये नाराज़गी कैसे दूर करूं मैं?मैं मुस्कुरा कर बोली- मेरी एक ख्वाहिश पूरी कर के!मामा जी ने पूछा- वो क्या?मैं बोली- मुझे भी आपकी लंड से सू सू निकलते देखनी है और लंड से रस भी निकलते देखनी है.

मैं थोड़ी दूर ही गया था कि एक गाड़ी मेरे पास में आकर रुकी, गाड़ी में एक सुंदर सी औरत बैठी थी.

श्रुति भी जब प्रेक्टिस करती थी, तो उसके मस्त चूचे ऊपर-नीचे होते थे. फिर मैंने दीदी की फुद्दी में अपनी जीभ डालनी शुरू की, तो वह अपने चूतड़ उठाकर मुझे प्रतिक्रिया दे रही थीं. अब हम अलग हो चुके थे, अब मैं उनकी चूचियों को चूस रहा था और वो मेरे लंड को सहला रही थी.

आँखों ने आँखों को एक पल में ही एक सन्देश दिया और शहज़ाद ने मुझे उठा लिया. अब मैंने चाची की एक टांग छोड़ी और उनकी टांगों के बीच में घुसकर उनकी एक टांग उठाकर चोदने लगा. कानों में इयर फोन लगे होने की वजह से मुझे किसी का पता नहीं चल पा रहा था.

उस दिन उसके साथ चुदाई का प्रोग्राम था, उसकी मम्मी को भी दो घंटे के लिए किसी किट्टी पार्टी में जाना था तो उसने मुझे बुला लिया था. उसने बड़ी शालीनता से राहुल से पूछा- आप कौन?तो राहुल ने अपना परिचय देते हुए पूछा- क्या ये अनामिका जी का घर है?तभी अनामिका जी आईं और राहुल को ‘वेलकम राहुल.

संगीता ने मेरे सामने ही कपड़े पहनने शुरू किए, उसकी ब्रा का हुक मैंने लगाया उसको उसके कपड़े पहनने में हेल्प की. मैंने मना किया तो उसने मुझे कस कर पीछे से पकड़ लिया और मेरे मम्मों को प्रेस करने लगा. मैंने उसे देखा कि वो मेरी चूचियों को देख रहा है, मैंने अपने दुपट्टे से अपने मम्मों को ढक लिया और उस पर ध्यान नहीं दिया और मैं नीचे अपने कमरे में आ गई.

मैं तुरंत कार की तरफ भागी, कार तो लॉक थी तो मैंने जल्दी से ससुर जी को इशारा किया, वो तुरंत आ गए.

तब तक वो टब में लेट गई थी और उसने अपने पैरों टब के वॉल पर रख दिए थे. सुमन- अरे मगर वो चीज का नाम तो मुझे पता होना चाहिए ना?गुलशन- नहीं अगर बता दूँगा तो दोबारा मैं कैसे जीतूँगा. तभी सिंडी ने कहा कि उसका पानी निकलने वाला है उसकी चूत ने तीसरी बार पानी छोड़ दिया, थोड़ी ही देर बाद मेरी चूत ने भी दूसरी बार पानी छोड़ा.

अब मैं डर गया, मुझे लगा अब ये जरूर मेरी बात कर रहा होगा और उस रात की सारी बात बता देगा कि कैसे मैं इसके और इसके दो दोस्तों के साथ उस कोठरी में चुदा था।मैं घबरा गया और मैंने मुंह फेर लिया और यहां वहां देखने लगा, मुझे अब वहां खड़े रहना पल पल भारी हो रहा था। मेरे दिल की धड़कन धम्म धम्म करने लगी थी और दिल बैठा जा रहा था।कुछ देर उन दोनों में बातचीत होती रही और उसके बाद वो लोग उठ खड़े हुए. फिर उनकी दोनों टांगें बारी-बारी से मोड़ कर फैला दी और खुद उनकी टांगों के बीच आ गया.

मुझे ये सोच कर ही मजा आ रहा था कि मैंने उसकी बुर का उदघाटन किया है. तभी मैंने उसके होंठ को काट लिया और उसने चिल्लाते और मुझे दूर धक्का दे दिया. उधर रागिनी भी कमर उचका उचका कर सटासट लंड अपनी चुत में अन्दर लेती जा रही थी.

राजस्थानी एक्स एक्स एक्स बीपी

मैंने फ़ोन में देखा तो ब्लू मूवी पड़ी हुई थी, थोड़ी देर के लिए तो मुझे यक़ीन ही नहीं हुआ.

बाद में मामी ने कैसे मुझसे चुदवाया और अपनी चुदास खत्म की इस सबके लिए आपके मेल का इन्तजार रहेगा, तब मैं अपनी और मामी की चुदाई की कहानी लिखूंगा. पहली बार बुर के पास एक मज़बूत सुडौल लंड को महसूस किया था, मेरीबुर की लकीरमें लंड चिपक सा गया, आह्ह क्या नैसर्गिक अहसास… पहले कभी पूर्णतया विकसित लंड आँखों के सामने तो आया नहीं था, सिर्फ xxx फिल्मों में ही देखा था. मम्मों को दबाती थी साथ में मेरी उंगली भी तुम्हारी चूत में डलवाती थी.

मेरा भाई शाहिद कपूर हीरो टाइप दिखता भी है और जिम भी जाने से उसकी बॉडी और गठीली दिखती थी. और अगर पता भी लग गया उसे तो वो नाराज नहीं होगी, वैसे भी कोमल ने मुझे तुम्हारे बहुत मजे दिलवाए हैं. மலையாள ஆன்ட்டி வீடியோमेरी कमर पर बैठकर, मेरे सामने झुककर, नीचे सर और ऊपर पाँव करके, दीवार से सटाकर… एक ही रात में उसने सारे आसन में चुत चुदवा डाली.

शोभा- तुम मुझसे क्या चाहते हो?वरुण- मैं ये चाहता हूँ कि तुम जो कर रही थीं वही करती रहो. उसने बड़ी शालीनता से राहुल से पूछा- आप कौन?तो राहुल ने अपना परिचय देते हुए पूछा- क्या ये अनामिका जी का घर है?तभी अनामिका जी आईं और राहुल को ‘वेलकम राहुल.

कुछ देर के लिए मैं इन्हीं विचारों से जूझ रही तभी मेरे मस्तिष्क में एक मुहावरा स्मरण हुआ कि ‘झाड़ी में बैठे दो पक्षियों से बेहतर तो हाथ में पकड़ा हुआ एक पक्षी ही होता है. काकू ने ढेर सारा तेल उसके मम्मों पर डाला और साइड में खड़े होकर उसकी गोलाइयों की मालिश शुरू की. मैंने उसे नहीं छोड़ा, उसने अपनी छाती और मुँह बेड पर टिका दिया और चुदते हुए तरह तरह की आह… आह… उम्म्ह… अहह… हय… याह… आह… मार दिया जालिम… फाड़ दी मेरी चूत… एक ही दिन में 7 साल की कसर निकाल दी.

फिर क्या हुआ?अगले पार्ट में आपसे उसके घर में इस चुदाई की कहानी को साझा करूँगा. मैंने उसके मुँह को मेरे होंठों रख कर बंद कर दिया और एक ज़ोर का झटका दे दिया. बात लगभग 2 साल पुरानी है, अचानक मुझे बिजनेस के सिलसिले में हैदराबाद जाना पड़ गया, प्रोजेक्ट बड़ा था और एक्सपोज़र भी अच्छा था इसलिए मुझे उसी शाम निकलना पड़ा, वो भी स्लीपर बस से.

रीना ने बिना उसकी कुछ सुनी अपनी नाइटी उतार फेंकी और जबरदस्ती कविता को भी नंगी कर के चिपटा कर लेट गयी.

मेरा दिल बैठ गया क्योंकि चाची को नींद की गोली देने का और कोई उपाय नहीं था. जब मैंने चाची को देखा तो उन्होंने एक अजीब सी स्माइल पास की और मैंने भी उसका रिप्लाई उसी स्माइल के साथ किया.

मैंने पूछा- क्या कह कर आई है?बोली- मैंने कह दिया कि मैं सोने जा रही हूँ. मादरचोद… जी करता है तेरे लंड को खा जाऊं… आज मैं तेरा सारा रस पी जाऊँगी… साले… जब से तूने मेरी गांड मारी है… उस में खुजली हो रही है… भेन के लौड़े… आज फिर से मेरी गांड मार…मैंने उसे गुड़िया की तरह उठाया और अपना लंड उसकी दहकती हुई भट्टी जैसी गांड में पेल दिया. मैंने तुरंत राहुल को कॉल किया कि मेरे पास कपल डिनर और मूवी टिकट हैं, तुम दोनों कल शाम को चले जाओ.

तभी जोर से बिजली के चमकी और बादलों के गरजने के साथ बारिश भी शुरू हो गयी तब मैं भीगने से बचने के लिए उसी झोंपड़ी के बाहर बने बरामदे में पनाह ले ली. जॉन- हाँ रात को पक्का तुझे उसका स्वाद चखा दूँगा मगर ये बात हम दोनों के सिवा किसी को भी पता नहीं लगनी चाहिए. जॉय ने जब गौर किया कि फ्लॉरा उदास रहने लगी है तो उसने सोचा कि शायद कॉलेज में कोई प्राब्लम होगी.

बीएफ वीडियो ब्लू फिल्म हिंदी में ये कहिये कि जिसके लंड से मैंने अपना कौमार्य खोया, उसको ही पति मान लिया था मैंने बिना शादी के!आखिरकार एक दिन आशीष ने मुझे शादी के लिए कहा तो मैंने सहर्ष स्वीकार कर लिया. रूपा की कमर कस कर पकड़ कर चूत में लंड ठेलते हुए पप्पू बोला- तो क्या करूँ? तूझे नीचे ले कर आखिरी धक्के मार के तेरी चूत में अपनी निशानी छोड़ जाऊँ क्या रूपा रंडी?रूपा में अब बोलने की ताकत नहीं रही थी इसलिए वो चिल्लाते हुए बोली- आह आहहह आहहह ओहहह माँ आहहह ओहहह माँ ममाँआँ ओहहह माँ चूत फट गई ओहहहहह हाय गाँआँआँडू आहहहहह आहहह होओओओओ माँ.

एक्स एक्स एक्स पिक्चर दिखाइए

रेखा की सबसे अच्छी चीज क्या लगी तुमको?”उसकी गांड एकदम गोल है और उभरी हुई है. मैं भी उसे किस करते करते अपने नीचे ले आया और उसके मम्मों को दबाने लगा. जब तक मुझे अपनी योनि में तरुण के लिंग को समायोजित करने में कुछ समय लगा तब तक वह रुका रहा और जब मेरे चेहरे पर सामान्य भाव आये तब उसने धक्का लगा दिया.

तुम्हारी चुत और गांड ने मेरे लंड को अपने खून का टीका इसलिए लगाया क्योंकि तुम्हारी गांड और चुत को मेरा लंड पसंद आ गया था. कई बार तो शहज़ाद मेरी टांगों के बीच में बैठ जाता और अपना लंड चूत में डाल लेता लेकिन आगे पीछे नहीं करता और बैठे-बैठे मेरे बूब्स की खूब मालिश करता. हिंदी ट्रिपल एक्स वीडियोतभी मैंने देखा कि आंटी तब से बड़े ध्यान से मुझे ही देखे जा रही थी और एक हाथ से अपनी चूचियों को और दूसरे सेअपनी चूत को सहला रही थी.

मुझे मस्ती चढ़ने लगी और मैंने भी नीचे से अपनी गांड उठा कर कमर से पैरों को जकड़ कर चुत में लंड ठुकवा रही थी.

मुझे एहसास हुआ कि मुझसे गलती हो गयी है, अब क्या करूँ…वास्तव मैं उस जवान कसरती जिस्म से लिपटकर में पागल हो गया था इसीलिए मुझसे ये गलती हो गयी थी… मैंने कहा- सॉरी यार… सर्वेश… जोश जोश मैं हो गया… मेरी दूसरी टीशर्ट पहन लेना भाई…!कहते हुए मैंने उसके लण्ड के उभार पर अपना मुँह घुसा दिया और अपना चेहरा लोवर के ऊपर से ही रगड़ने लगा. और अगर तू किसी को आज के बारे में बताएगी तो मैं कह दूंगा कि तूने ही मुझे बुलाया था।यह सुनकर वह बोली- तू वाकई में बहुत कमीना है।मैंने कहा- तू मुझे कमीनापन दिखाने पर मजबूर कर रही है.

अनामिका देखने से ही खाते पीते घर की लगती है मतलब उसका बदन भरा पूरा है. ये कहिये कि जिसके लंड से मैंने अपना कौमार्य खोया, उसको ही पति मान लिया था मैंने बिना शादी के!आखिरकार एक दिन आशीष ने मुझे शादी के लिए कहा तो मैंने सहर्ष स्वीकार कर लिया. मैंने कहा- सर, मुझे विदाई नहीं देंगे?वो बोला- बोलो क्या चाहिए?मैंने कहा- सर, आपने 4 दिनों से मेरी चुदाई नहीं की है.

मैंने उसका लंड हाथ में लिया; उसका कड़ापन महसूस करके मेरे बदन में झुरझुरी फ़ैल गयी.

मेरा लंड पिछले दिन की घटना के बारे में सोच कर एक बार फिर खड़ा हो गया, मैं उनके रूम में गया. अपने दोनों हाथों को गोरी की कमर पर टिकाए हुए, रुस्लान अपने कठोर लंड को आधा अन्दर डालते हुए चोदने लगा. करीब 11 बजे मेरे रूम का दरवाजा अपने आप खुल गया क्योंकि मैंने अंदर से कुण्डी नहीं लगई थी.

लड़की की नंगी चूतआँख तुम्हें बंद करनी होगी समझी!सुमन ने थोड़ी ज़िद की, मगर फिर वो मान गई. फिर 5-10 मिनट बाद मेरे राइट साइड में जो लड़की थी, उसका पैर मेरे पैर से टच होने लगा.

चूत चूत वीडियो

मैंने भी चाची से कह दिया कि मैं आ रहा हूँ तो कल ही बस आप तैयारी कर लेना. एक दिन हमारी पूरी फैमिली को 2-3 दिनों के लिए एक शादी में जाना था, पर मैंने मॉम से मना कर दिया कि मैं नहीं जा पाऊंगी, मेरे एग्जाम पास में है और मुझे कई सारे नोट्स भी तैयार करने हैं. नीता की चूत ने जैसे पप्पू के पूरे लौड़े को लपेट कर अपने अन्दर ले लिया.

मेरा दिल मचल गया और दिल ने कहा कि उसका लंड खड़ा करूँ और मूसल जैसे लंड को अपने मुंह में भर लूं लेकिन किसी तरह काबू किया और दिल में यही असमंजस था कि अब इसके आगे बात कैसे बढ़ाई जाये. समय बीतता जा रहा था और मेरी बेचैनी बढ़ती जा रही थी क्योंकि कोई भी अकेला नहीं था वहाँ पर… मेरी आंखें किसी अकेले जवान मर्दाना जिस्म वाले और फाड़ू लंड को ढूँढ रही थी और अचानक ही मेरी नज़र एक लौन्डे पर आकर रुक गयी और मानो एसा लगा कि मेरी खोज पूरी हो गयी. आज तो मैं आपको भरपूर मज़ा दूँगी और आपका लंड रस आज वेस्ट नहीं होने दूँगी.

फिर मेरी आँख एक बजे खुली, मुझे टॉयलेट लगी थी, मैं टॉयलेट करके रूम में वापस आ गया. रितु दीदी ने फिर पूछा कि क्या तुमने किसी लड़की या औरत को नंगा देखा है? जैसे अपनी माँ, बहन, भाभी, मौसी, नौकरानी को नहाते या कपड़े बदलते?मैंने कहा कि नहीं. धीरे धीरे मेरे कुरते के अंदर उनके हाथ प्रवेश कर गए, मेरे नंगे जिस्म पर मरदाना हाथों का स्पर्श… ‘उफ्फ…’ मैं बयां नहीं कर सकती उस सनसनाहट का आपसे!मेरी ब्रा की स्ट्रिप में रुके हाथों ने एक बार टटोला और फिर ब्रा के हुक को खोल दिया.

फिर मेरी आँख एक बजे खुली, मुझे टॉयलेट लगी थी, मैं टॉयलेट करके रूम में वापस आ गया. मॉम बोली- हे राम, तूने हमें खेतों में भी देखा था?मैं बोली- हां मेरी चुदक्कड़ मॉम!मॉम अपनी सफाई में बोलने लगी- तो क्या करूँ मैं? तुझे तो पता है कि तेरे डैड साल में सिर्फ एक बार कुछ दिनों के लिए आते हैं, और इतने कम वक्त में मेरी चुदास पूरी शांत नहीं हो पाती.

जब उसने हमेशा की तरह डोर बंद करते समय मेरे मम्मों पर अपनी कोहनी टच की, तब हम दोनों को ही शॉक लगा.

मैं बैठ गया, उसने पीसी ऑन किया, फिर एक फाइल लाकर मुझे दे दी और डेटा एंट्री करने को कह कर चली गई. पेशाब करने वाला सेक्सी वीडियोक्या पीना है इनको?मैंने सिर झुकाते हुए ‘हाँ’ बोल दिया, तो कहने लगीं- आ जाओ फिर. ब्लू सेक्सी चूत चुदाईजब मैं उनके घर पहुँचा तो पायल ने चुपके से दरवाजा खोला और मुझे अन्दर आने को कहा. मैं अजीब निगाहों से मॉम को और उनकी चूचियों को देखने लगा था और सोच रहा था कि कभी मौका मिला तो जम कर इन रस भरी चूचियों को मसलूँगा.

अनु ने मुझे कस कर पकड़ा हुआ था और अनु मेरे मम्मों को कपड़ों के ऊपर से मसल रहा था.

मौसी नहीं गई थीं क्योंकि शायद माँ ने उन्हें मेरी देखभाल के लिए छोड़ दिया था. पप्पू अब मस्ती से नीता को चोदने लगा और नीता भी खुशी से चुदवा रही थी. लंड पे मुँह आगे पीछे करते हुए लंड बहुत मस्ती से चूसते हुए रूपा बोली- अब मुझे लंड चूसने देगा या नहीं गाँडू? अब मेरी बेटियों के बारे में कुछ मत पूछना जब तक तू मेरी चूत में अपना पानी ना डाले.

मामी आई थीं, वे अन्दर आईं तो मैंने पूछा- मामी, आप कहाँ गई थीं?मामी- मैं एक दुकान पर कुछ सामान खरीदने गई थी. फिर अचानक मेरे बगल वाली लेडी ने धीरे से पूछा- आपका नाम क्या है?मैंने नाम बताया. मैंने अपनी बहन को नंगी होने को कहा तो वो झट से नंगी हो गई और मुझे पैंटी दिखाने लगी.

देहाती ब्लू सेक्सी पिक्चर

विवेक ने मेरे होंठों को अपने होंठों से मिला दिया और पागलों की तरह किस करने लगा. यश पहले मेरी बुर चोदेगा, बाद में तुम्हें!मॉम ने कहा- अरे बेटी तू ये क्या कह रही है? यह सब अभी से? नहीं बेटी अभी नहीं!मैंने कहा- मुझे कुछ नहीं पता, बस मुझे भी चुदना है. पप्पू पूरा का पूरा लौड़ा चूत में घुसा कर नीता को बहुत ज़ोर से चोदते हुए बोला- नहीं मेरी जान, मैंने तुझे जन्नत नहीं दिखाई बल्कि जन्नत तो तूने मुझे दिखाई है.

फिर मैं सीधा मेडिकल स्टोर में गया और वहाँ से एक वियाग्रा की टॅबलेट लेकर खा ली.

मामी बोलीं- मैं तौलिया भूल गई हूँ, ज़रा देना तो!मैं जाकर तौलिया ले कर आया.

उन्होंने गहरे गले का टॉप पहन रखा था, उसमें से उनके दोनों गोल-गोल दूध से सफ़ेद संतरे साफ दिख रहे थे. पापा- नहीं मेरी बेटी क्रीम से वो चिकनाई नहीं आती, जो इससे आएगी समझी और वैसे भी तुझे डरने की जरूरत नहीं है. ஒபன் செக்ஸ்படம்मेरी इन दोनों आंतरिक आवाजों ने मेरे अंदर चल रहे द्वंद्वयुद्ध को शांत कर दिया और मैं बीते दिनों को भुला कर आने वाले समय के बारे सोचने लगी.

मैंने इससे पहले कभी सेक्स नहीं किया था इसलिए मेरे लिंग की खाल पीछे नहीं होती थी. सभी तुझे नहीं दिखेंगे, ये मुझे ही करना होगा और वैसे भी आज से तू कपड़े नहीं पहनेगी. मैं तो अब उसके गले पर उसकी खुशबू सूंघते हुए किस करने लगा और उसके कान को अपने मुँह में भर कर चूसने लगा। अचानक ही हम दोनों बेकाबू से हो गए और मैंने उसकी टीशर्ट से झांकते हुए उसके फूले हुए डोले (बाइसेप या भुजा) को चाटते हुए दांत से भींच लिया.

लेकिन अब मुझ में ऐसे ही किसी जवान जिस्म और मूसल लंड की प्यास लग चुकी थी जिसे किसी मोटे लंबे लंड से निकला गर्म पानी ही बुझा सकता था. मैंने अपना मुँह उसकी चूत पर रख दिया, वो तड़प उठी और मेरा सिर अपनी चूत पर दबा दिया.

उसने फटाफट अपनी सलवार ऊपर करके बाँधी और सॉरी बोलने लगी कि आगे से ऐसी ग़लती नहीं करेगी.

पप्पू का हाथ नीता की आँखों, होंठ, गाल, गर्दन, मम्मों से भर सीना, नंगा पेट, नीता की गोल और गहरी नाभि सहलाते हुए अब नीता की बिना झाँटों की चिकनी चूत पर आया. मैंने दवा लाकर दे दीं और सुमन से कहा- आप कल ऑफिस मत आना, में शाम को डॉक्टर को लेकर आऊंगा. उसने मुझे देखा और बोली- अरे भैया, अबके तो तुम बला(बहुत) दिनान में(दिनों में) आए हो, का गामें (गाँव को) भूल गए का?अरे नाएं(नहीं).

सुहाग रात की चुदाई आज से पहले सेक्स चैट में भी वो लंड चूसने से मना कर देती थी यह बोल कर कि उसे ये सब पसंद नहीं है. वो मेरा एक हाथ ज़ोर से दबा रही थी, तभी वो सह नहीं पाई और उसने मेरे हाथ में नाख़ून भी मार दिया.

मैं अबचाची की गांडभी मरना चाहता हूँ पटा नहीं मौक़ा मिलेगा या नहीं? और अगर मौक़ा मिला तो चाची अपनी गांड मरवायेगीं या नहीं? या मुझे सिर्फ चाची की चूत चोद कर गुजारा करना पडेगा. तरुण के उत्तर से मैं निरुत्तर हो गयी और उसके काम में हाथ बटाने लगी तथा दोनों ने मिल कर आधे घंटे में ही उस रसोई को बिल्कुल साफ़ कर दिया. ये आपको इतना आनन्द देंगे कि आप सोच भी नहीं सकती। कपड़े तो आपने सुबह से पहने ही नहीं, अगर चाहो तो यहाँ गाउन पहन सकती हैं.

इंडियन सेक्सी ब्लू

पहले हल्के से, फिर जोर से वो मेरी चूचियों को दबाने लगे, मैं कसमसाने लगी. तीन साल तेरी चूत ने बिना पानी निकाले कैसे गुजारे?मेरी बात सुन कर डॉली हंसती हुई बोली- यार, सोचा था विक्रम आयेगा तो तीन साल का पानी एक साथ निकालेगा… यार इतना पानी निकलेगा कि कमरे में हम दोनों तैरने लगेंगे. कुछ देर ऐसे ही लौड़ा ही चुसवाने के बाद मैंने नेहा की दोनों टांगों को अपने कन्धों पर रखा और नेहा की गोरी गांड के नीचे तकिया रख कर उसकी गांड को थोड़ा ऊँचा कर दिया.

दीपिका के क्या होंठ थे, उसके होंठ थोड़े भीगे हुए लग रहे थे, मैंने धीरे धीरे अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिए. फिर एक हफ्ते बाद मैं बाहर खड़ा था तो भाभी ने मुझे आवाज़ दी तो मैं डरते डरते भाभी के गया, वे मुझसे कहने लगीं- तुम्हे क्या हुआ है… तुम आते क्यों नहीं हो?मैंने कहा- कुछ नहीं भाभी, बस ऐसे ही.

आंटी ने मुझे रूम दिखाया, मैंने आंटी को देखकर उनके बेडरूम के बगल वाला रूम ले लिया.

हम 3 दिन गोआ रुके और तीनों ही दिन चुदाई की लेकिन उन तीनों ने सिंडी का हाल बेहाल कर दिया. जब शाम को घूम कर ये लोग वापिस आ रहे थे, तब रोड क्रॉस करते टाइम ममता को एक गाड़ी ने टक्कर मार दी थी. मैं हैरान रह गया कि वो अभी तक चुदी नहीं थी, मेरी बहन की चूत कुंवारी थी.

मैं बोला- क्यों भईया का कैसा है?भाभी बोलीं- भैया का तो काला और छोटा सा है. मैं भी झड़ने वाला था तो जोर जोर से 10-15 झटके मारने के बाद मोनिका की चूत में ही झड़ गया और उसके ऊपर ही लेट गया. सुमन- हाँ पापा, मैंने भी नहीं सोचा था कि मैं आपका लंड सह पाऊंगी मगर बाद में बहुत मज़ा आया मुझे.

मैंने आपको बताया कि मैं दिल्ली की रहने वाली हूँ और सबको तो पता है दिल्ली में कितने लोग किराये पर रहते हैं.

बीएफ वीडियो ब्लू फिल्म हिंदी में: अब दीदी के कपड़े खोले और उनको पूरी नंगी कर दिया, मैं उनके मम्मे दबाने लगा. सिंडी के भी दर्द का ठिकाना नहीं था, पहले तो वो धीरे धीरे कराह रही थी, पर उसके कराहने की आवाज सुनकर वो उसे और भी तेज चोदने लगे.

उसके बाद मुझे कॉलेज जाना था तो मैं रेडी होने लगी और कॉलेज के लिए निकल पड़ी. मैंने सोचा कि ये शायद मेरा MMS बनाएगा लेकिन मैं गलत निकली, उसने मोबाईल मेरे आगे किया और एक वीडियो प्ले कर दी. रूबी कहने लगी- उसके चक्कर में मुझे तो नहीं छोड़ दोगे?मैंने कहा- इच्छा हो तो अभी दुबारा चोदूँ?उसने कहा- अभी तो जाओ, सारा शरीर दुःख रहा है.

वो उन मवालियों से डरती है पर आप जैसे मर्द से नहीं डरेगी… वैसे भी हॉस्टल में पता नहीं क्या गुल खिलाती होगी.

धन्यवाद दोस्तो और प्यारी प्यारी गर्म चूत की मलिकाओ!नए पाठकों के लिए बताना चाहता हूँ कि मेरा नाम राहुल है. क्या हुआ? आप कहाँ थीं अब तक?फ्लॉरा- तू तो सो गई और मैं तेरे पापा के मज़े लेने गई थी मगर उल्टा उन्होंने मेरे मज़े ले लिए यार. दवा ख़ाने के बाद उसका बेटा सो गया और उसकी बेटी हमारे लिए चाय बनाने के लिए किचन में चली गई.