सेक्सी हिंदी बीएफ फुल एचडी

छवि स्रोत,सेक्सी करण्यासाठी

तस्वीर का शीर्षक ,

દેશી સેક્સ: सेक्सी हिंदी बीएफ फुल एचडी, फिर जब उसके पूरे शरीर पर किस करना चालू किया, तो उस संगमरमर के तराशे हुए बदन से मुँह ही नहीं हट रहा था.

सनी लियोन की सेक्सी मूवी एचडी वीडियो

फिर मैं उसके दूध पीने लगा और उसके लोअर में हाथ डाल के चुत को मसलने लगा. सेक्सी वीडियो नंगी पिक्चर दिखाइएउनकी मदमाती 36-34-38 की फिगर को कोई भी देखेगा तो बस देखता ही रह जाएगा.

अब उसने कहा- अब क्या पूरी रात चूसते ही रहोगे या कुछ आगे भी करोगे?मैंने देखा कि मेरे लंड ने इतना पानी बहा दिया था कि उसे किसी भी चीज की जरूरत नहीं थी, जैसे चिकनाई या तेल की या थूक की… सो मैंने इसके बाद अपने लंड को हाथ में पकड़ा. दिवशी सेक्सी व्हिडिओफिर पिंकी ने गोलू को लंड दिखाने को कहा, उसने शर्मा कर मना कर दिया; गोलू 18 साल का बहुत शर्मीला लड़कियों जैसा स्वभाव वाला लड़का है.

तब उसने मुझको थोड़ी देर बाद कॉल की, जब मैंने बात की, तक पता चला कि ये वो रवि नहीं था.सेक्सी हिंदी बीएफ फुल एचडी: मैंने कहा- बता ना!उसने कहा- नवीन, मैं तुम्हारी फीलिंग्स को समझती हूँ लेकिन घर में ये सब करना ठीक नहीं है और ऊपर से हम भाई बहन हैं.

मुझे मस्ती करनी है अडल्ट वाली मस्ती!”मैंने उसे ओके बोला और आगे की बात समझाई.मैं बहुत खुश हुआ कि मुझे सील बंद चुत मिली हैमैं अब रूका और उसे किस करने लगा.

सेक्सी फोटो सेक्सी ओपन - सेक्सी हिंदी बीएफ फुल एचडी

इसकी वजह से मैं अब उसके लिए पूरा पागल हो चुका था… और वो भी ये बात जान चुकी थी.करीब 15-20 मिनट तक बारी बारी से उसके दोनों मम्मों को चूसता रहा और उसकी जींस के ऊपर से उसकी चुत को सहलाने लगा.

मैंने देर न करते हुए उसकी चूचियों के निप्पल पर अपनी जीभ सहलाना शुरू कर दी. सेक्सी हिंदी बीएफ फुल एचडी शायद अगर मैं उनको एक हल्का सा भी इशारा कर देती तो उस दिन तो मेरा ग्रुप चोदन हो जाना था.

जैसे ही मैंने अपनी जीभ को उनकी चुत के अन्दर डाला, उनके मुँह से चुदासी आवाजें आना चालू हो गईं.

सेक्सी हिंदी बीएफ फुल एचडी?

रेंट बहुत कम था क्योंकि वो डैड के फ्रेंड का ही फ्लैट था, सो हमें ज़्यादा रेंट नहीं देना था. जीजा बोले- वन्द्या, तुम्हारा जिस्म तो आग की भट्टी की तरह बहुत गर्म है, तुम प्यासी हो, बहुत चुदासी हो!मैं यह बात समझ नहीं पा रही थी. मैंने अपनी चुत में लंड की हरकत से कसमसाते हुए कहा- कितने पैसे देने होंगे?वो बोला- पैसे तो मैं तुमको दे दूँगा.

वो मादक से स्वर में बोली- कहां खो गए??मैंने खुद को संभालते हुए कहा- कहीं नहीं. तभी अचानक ही मेरी कमर अपने आप ऊपर हो गई और मेरी चूत ने पानी निकाल दिया. उस दिन मैंने वाइट टॉप और नीचे थोड़ी नीचे तक लंबी वाली ब्लैक स्कर्ट पहन रखी थी.

मैं दरवाजे से बाहर आया और नाज़ के बगल में बैठ कर चाय पीने लगा और जान बूझ कर अपने ऊपर चाय गिरा ली. तो उसको अपनी नानी याद आ गई। उसके सारे अंजर-पंजर ढीले होने लगे। वो मुझे छोड़ देने को गिड़गिड़ाने लगी।वो तब तक 3 बार झड़ चुकी थी. मैं अपनी ज़ुबान से उसकी चुत चाटने लगा और उसकी चुत के होंठों को अपने होंठों में दबा के चूसने लगा.

अगले दिन मैंने उसे कॉल किया और डायरेक्ट बोल दिया- देखो, मैं सुसाइड कर लूंगा. अभी तक मेरी हिन्दी सेक्स कहानी में आपने पढ़ा कि मैं अपने दोस्त के खाली घर में दो लड़कियों को चोदने के लिए ले गया.

फिर मैं धीरे धीरे उसके पेट को चाटे गये नीचे की ओर सरका और उसकी लेगी को उसकी जांघों पर से सरका कर पूरा उतार दिया.

मैं उंह उंह उंह हूँ… हूँ… हूँ… हमम मम अहह्ह्ह्हह… अई… अई… अई…” चिल्ला रही थी.

वो नहीं मान रही थीं, लेकिन तभी उनका लड़का स्कूल से आ गया और बोला- मम्मी, क्या हुआ भैया को?तो चाची बोलीं- कुछ नहीं बेटा, तुम्हारे भैया को थोड़ी चोट लग गई है. खैर अगले दस मिनट तक वो अपना लंड मेरी चुत में हिलाता रहा और फिर से खलास हो गया. करीब दस मिनट बाद हम मैं झड़ने को हुआ तो मैंने पूछा- अंदर कर दूँ क्या?वो बोली- हाँ कर दो! अब मैं भी आने वाली हूँ.

भैया ने कहा- नहीं यार, तुम मत जाओ, रिया तुम्हें नंगी होने की ज़रूरत नहीं है, तुम खाली अपनी पेंटी उतार लो और साड़ी ऊपर कर लो, बाकी मैं कर लूंगा, उन्होंने ऐसा ही किया. आप इस कहानी को पढ़िए… मजे लीजिये और पसंद आए तो अपने मेल्स के जरिये जरूर बताइएगा कि कहानी कैसी लगी. रानी आँखें मींचे चुपचाप पड़ी थी और अभी अभी हुई विस्फोटक चोदाई का मज़ा भोग कर सुस्ता रही थी.

चुदाई जैसा बोल्ड लफ्ज़ दीदी के मुँह से सुन के मानो मेरे बदन में करंट दौड़ गया.

अगर ऐसा करने में तुम्हें कोई परेशानी है तो रहने दे प्रिया!”प्रिया ने तिरछी नज़र से मेरी ओर देखा और बोली- ठीक है! जैसा आप चाहो… पर समय सीमा कोई नहीं. ”जैसे ही रोशनी झुकी, उसके गोल गोल पुठ्ठे देख कर मेरे लंड में तूफान आ गया, मन किया कि लंड निकाल कर दोनों पुट्ठों को चीर डालूँ, पर मैंने कण्ट्रोल किया फिर धीरे से उसके पुट्ठों को पकड़ कर फैलाया. अबकी बार उसने मुझे खड़ा किया और मेरी एक टांग बेड पर रखी और दूसरी ज़मीन पर रखवा कर कुतिया जैसी पोजीशन में मुझे खड़ा कर दिया.

मैं अपनी साली की चुचियों के बारे में बताऊं तो उसकी साइज़ 32c है और बिल्कुल गोल. आख़िर इसमें किसी और कि नहीं, अपनी होने वाली बीवी की ही मदद कर रहा हूँ. प्यार हो रहा था… कोई लड़ाई नहीं जिस में किसी के जीवन-मृत्यु का सवाल हो!आओ न…!” प्रिया कसमसाई और उस ने बिस्तर पर अपनी टाँगे खोल दी.

मुझे चुदाई में बहुत मजा आने लगा था तो मुझे एक दूसरे लड़के ने पटा लिया.

”और वो मेरा लिंग दबाना, सहलाना और पीठ पर चिकोटी काटना?”” दबाने का तो ऐसा है कि वो या तो सिर्फ आप को पता या मुझे और यही बात पीठ पर चिकोटी काटने पर लागू होती है लेकिन सहलाने वाली बात का तो मैं कहूँगी कि वो सिर्फ एक एक्सीडेंट था. मैंने भाभी से कहा- इसको उतार दो!तो उन्होंने कमर ऊपर उठा दी मैंने सलवार के साथ पैंटी भी उतार दी.

सेक्सी हिंदी बीएफ फुल एचडी मैंने उनके आने जाने पर ध्यान दिया तो पाया कि आजकल वे कुछ ज्यादा ही बाहर आने जाने लगी थीं जबकि पहले ऐसा कुछ नहीं था. दोस्तो, हमने शुरूआत की, तो दो की कह कर कई पैग वोडका के खींच लिए… जिसके बाद हमें नशा होने लगा.

सेक्सी हिंदी बीएफ फुल एचडी अब विनय ने मेरा सिर पकड़ लिया और एक झटके में लंड को मेरे गले तक पेल दिया, जिससे मुझे खांसी आ गई. मेरे साथ जो लड़का (राजेश बदला नाम) था, उसने कहा कि ओरियन मॉल में चलते हैं.

जब मैं भाभी के ऊपर से हटा तो मैंने देखा कि भाभी के नीचे खून था, मैं बोला- भाभी, क्या आपकी ये पहली चुदाई हुई है?तो वो बोलीं- किसी मर्द का लंड तो पहली बार ही मेरी चुत में गया है.

तिरपल सेक्सी बीएफ वीडियो

दीदी वहीं किचन में रखी चेयर पे बैठ गईं… और अपना एक पैर उठाकर क्रॉस करके चेयर की आर्म्स पर रख कर बाहर की तरफ लटका दिया जिससे दीदी की चुत एकदम साफ साफ दिखाई दे रही थी. मैं अपनी हथेली पर प्रिया के जवान और मदमस्त जिस्म की झुलसा देने वाली गर्मी साफ़ महसूस कर रहा था. दोस्तो यह सेक्सी कहानी बिल्कुल सच है और आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं।अब मैंने पारुल को बोला- गाड़ी को साइड में लेकर किसी पेड़ के नीचे रोक दो ताकि रोड से थोड़ा दूरी पर रहे और कोई देख ना सके!पारुल ने गाड़ी साइड में लेकर रोक दी.

मैंने विनय का हाथ दबा दिया, जिसे विनय ने भी महसूस किया और बोला- नेहा कल पूरी रात मैं बस तुम्हारे बारे में ही सोचता रहा. मेरी इस बात पर भाभी चुपचाप मेरे सामने नज़रों से नज़रें मिलाकर मुझसे बोलने लगीं- अच्छा मैं जंगली बिल्ली हूँ?मैंने बोला- हां हो. पूरे पांच महीने लगे तुझे बिस्तर पर लाने में… मैं भी पक्का चूतनिवास हूँ… हिम्मत नहीं हारी… पीछे पड़ा ही रहा.

अगले रविवार को उसने कहा- आज तुम मेरी गेस्ट हो और मुझे होटल में मिलना, हम दोनों वहीं पर लंच करेंगे और डिनर फिर तुम्हारे घर पर करेंगे.

मैंने धीरे से गांड पे हाथ फेरा और चूतड़ को हल्के से दबाया तो मुझे उसकी मुलायम गांड पर हाथ फेरने में मजा आ गया. मैं मालकिन आंटी के पास पीने का पानी लेने गया, तब आंटी के घर पर शायद कोई नहीं था. फिर थोड़ी ही देर में मैंने एक और धक्का मारा और इस बार अपना पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया.

कमरे का दरवाजा अधखुला था तो मैंने हल्के से अन्दर झाँका तो मैं अन्दर का नजारा देख कर कर दंग रह गया. अब मैं जानबूझ कर चाची के सामने बैठ गया और उनके तने हुए मम्मों को ताड़ने लगा. कई बार उसकी उँगलियों ने अण्डों और गांड के बीच के मुलायम भाग को दबाया, जिससे मज़े से मेरी किलकारियां निकल गयी; सी सी करता हुआ मैं झड़ने के क़रीब जाने लगा; उसका सिर पकड़ कर जो मैंने चार तगड़े धक्के मारे हैं तो लंड धम्म से झड़ा.

मैं समझ गया कि मेरी लंड लेने की कही बात को सोचते हुए इसका तम्बू तन गया और अब इसका लंड मान नहीं रहा हे और अपना कामरस पिलाने मेरे पास आया है. सो मैंने बेझिझक अपने कपड़े उतारे और उसकी गोद में बैठ कर उसके कपड़े भी उतारने लगी.

शाम हो चुकी थी मैंने रूम की लाइट ऑन कर ली और चुपचाप रूम में लेट कर आंटी का इन्तजार करने लगा. वो गांड मटकाते हुए चली गई, पर वो नहाने का बहाना बना कर अपनी चूत के बाल साफ करने गई थी. वीरवार शाम 7 बजे के लगभग मैं घर आया तो देखा कि मेरे दोनों बच्चों ने रो रो कर आसमान सर पर उठा रखा था, दोनों अपनी मां और मौसी के साथ जाने की जिद कर रहे थे.

विक्रम ने ड्राइवर को फोन किया कि मेमसाब को अभी उनके घर पर छोड़ कर आओ और वो कुसुम के दूध दबाते हुए मुझसे बोला कि आप ड्रॉइंग रूम में जाएं, ड्राइवर आपका वेट कर रहा है.

ये मेरी फर्स्ट सेक्स स्टोरी है, उम्मीद करता हूँ कि आप सबको बहुत पसंद आएगी. मैंने उसे उठाया उसको पैंटी और जीन्स वापस पहनाई और उसने मेरा कंडोम उतार के एक पैकेट में डाल दिया. भाभी को ऐसा देख कर मैं बिस्तर पर कूद पड़ा और सेजल भाभी के पैरों की तरफ़ मुँह करके एक साइड पे लेट गया.

मैं उसकी चूचियों को अपनी मुट्ठी में लेकर उसके ऊपर किसी कुत्ते सा चढ़ा हुआ था. जैसे मेरे हाथों के नीचे का हिस्सा पूरा खुला था, हाथों पर ही कुछ दूर तक आ रही थी.

मैंने अपना बायाँ हाथ पारुल के मम्मे पर रख दिया और दबाने लगा लेकिन मेरा पूरा ध्यान सड़क पर ही था. तो दोस्तो, यह फ्री सेक्स कहानी करीब 6 महीने पहले की है, जब मैं दिल्ली से पुणे आया था. रुक जाओ।लेकिन वो तो मज़े से मेरी सवारी कर रहा था, उसने अपनी थोड़ी स्पीड बढ़ा दी, मैंने बेडशीट कस कर पकड़ ली.

तमिल बीएफ एक्स एक्स एक्स

सिंधु उठी और मेरे लंड को अपने मुंह में भर लिया और कुछ देर तक लॉली पॉप की तरह उसे चूसती रही।और एक बार फिर सिन्धु ने मेरे लंड की सवारी करना शुरू कर दिया, मेरे दोनों हाथ उसके दोनों मम्मों को पकड़कर मसलने लगे थे, कभी मैं उसके पूरे मम्में को पकड़कर दबाता तो कभी उसके अंगूरनुमा दानों को मसलता.

माँ ने बताया कि मौसा जी की तबियत खराब होने के कारण वे चार-पांच दिन के बाद आ पाएंगी. मेरी हालत अब लस्त हो गई थी लेकिन मन में एक जबरदस्त गांडू की आत्मा बार बार ऐसे कह रही थी कि और खा ले साले फिर पता नहीं कब ऐसा मौका मिले. उसने उन फोटोज से ग्राफिक्स से कोई स्केच बनाया और फिर उसको सामने रख कर मेरा ऑपरेशन शुरू किया.

अब वह मेरे सामने सिर्फ शर्ट और पैंटी में थी और उसकी नंगी जांघें मुझे पूरी नजर आ रही थी. मैंने अपने कमरे में जाना ही ठीक समझा और मैं अपने कमरे में आकर सोच रहा था कि मेरी बीवी गैर मर्द की बांहों में मस्त हो गई है. सेक्सी वीडियो आलिया भट्ट कारेड कलर की ब्रा और पेंटी उनकी लिपस्टिक में पूरी तरह से मैच कर रही थी.

तभी मैंने देखा कि अंकल का एक दोस्त दुबारा से फ्री हो गया, फिर तीसरा दोस्त आ गया. जब कभी भी उसको कहती हूँ कि यार बहुत दिन हो गए हैं… तो वो समझ जाती है कि मेरी चुत में खुजली हो रही है और मेरे लिए किसी लंबे और मोटे लंड का इंतज़ाम करवा देती है.

मैं बाहर गया और एक शॉप से ठंडे की बोतल ली और उसमें बाजू में शराब की दुकान से हाफ लेकर थोड़ा सा अल्कोहल भी मिला लिया. भाभी मुझे लेटा कर मेरे ऊपर आ गईं और मेरे लंड को अपनी चूत पे सैट कर के धीरे धीरे बैठने लगीं. फिर वो बोली कि आगे भी कुछ करना है या यहीं खड़े खड़े किस ही करते रहोगे.

बहुत माथा पच्ची करने के बाद ये हल निकाला कि एक रूम में मम्मी, सोनी मैं और मेरा छोटा भाई सो जाएँगे और दूसरे रूम में मामा मामी और उनके दोनों बच्चे सो जाएंगे. सबसे पहले हम रूम पर पहुंचे जो चिंटू के ही दोस्त का था और जहाँ मैं पहले भी बहुत बार आई हूँ और चुदी भी हूँ. मैं राजवीर सिंह अपनी पहली इंडियन सेक्स स्टोरी लेकर आप सबके सामने आया हूँ.

मैंने कमर उठा कर लंड को भाभी की चुत की जड़ तक ठेलते हुए कहा- क्यों नहीं भाभी.

यह मैंने कह तो दिया था मगर लेकिन ये मेरे लिए एक चुनौती थी क्योंकि मुझे नहीं मालूम था कि उनके अन्दर कितनी वासना है. बस अब मौके का इंतज़ार था कि कब मौका मिले और कब मैं उससे कुछ बात करूँ.

भाभी हंस कर बोलीं- अच्छा तुम मुझे इतना अधिक पसंद करते हो?मैंने बोला- हां. मैंने देर ना करते हुए उनकी नाइटी जो काफी शॉर्ट थी, घुटनों तक ही थी, उसे उतारने को बोला तो आंटी बैठ गईं और मैंने पीछे जो चैन लगी थी. अब पारुल और मैं बिस्तर पर आ गए, मैंने अपनी शर्ट और पैंट निकाल दी, बस अपनी फ्रेंची ही पहनी थी, अब मैंने पारुल की शर्ट भी निकाल दी.

फिर इतना मज़ा आएगा कि आज जो भी हुआ, उससे कई गुना ज्यादा मज़ा आएगा।उसको मेरे जाल में फंसते देर न लगी।‘और मज़ा…’ का सुन कर वो खुश होते हुए तुरंत बोली- आज का मज़ा तो वैसे भी मैं कभी नहीं भूलूंगी। लेकिन अब अगर ‘और मज़ा. निशा को भी मेरी उंगली का स्पर्श अपनी गांड पर महसूस करते हुए मज़ा आ रहा था. मेरे ऊपर तो वैसे ही कामुकता चढ़ी हुई थी, मैं तो अपनी बहन को पूरी नंगी करना चाह रहा था.

सेक्सी हिंदी बीएफ फुल एचडी आख़िर मेरी ये पहली असली चुदाई थीमैं नीचे आ गया और उसकी चूत पर अपनी जीभ लगा कर चुत चाटने लगा. उस दिन से मुझे एक चीज का अहसास हुआ कि लड़की कैसी भी हो, अगर वो प्यासी है और उसकी प्यास बुझाने को कोई नहीं है या उसका प्रिय उसके पास नहीं है तो इसमें कोई गलत नहीं है कि वो किसी अपने मनचाहे मर्द के साथ अपनी प्यास बुझा ले.

बीएफ मूवी सेक्सी पंजाबी

अगर मेरा सुझाव तुम्हें पसंद आए तो अपना नम्बर मुझे मैसेज कर देना या फिर बात कर लेना. मैंने पूछा- आपकी क्या उम्र है?वो बोली- वैसे उम्र पूछना बदतमीजी होती है लेकिन मेरी उम्र 34 साल की और तुम्हारी कितनी है?मैं- मेरी 22+ है. अपने हाथों से दीदी को अपनी ओर खींचा और उन्हें धीरे धीरे चूमना शुरू कर दिया.

ये थी मेरी स्टोरी, उम्मीद है दोस्तो कि ये मेरी रियल सेक्स स्टोरी आपको काफ़ी पसंद आई होगी. जैसे मेरे हाथों के नीचे का हिस्सा पूरा खुला था, हाथों पर ही कुछ दूर तक आ रही थी. सेक्सी पिक्चर पूरा सेक्सी वीडियोअब तुमने मुझ पर लंड का नशा चढ़वा दिया है और इसके बिना रहना भी बहुत मुश्किल है.

फिर जब हम दोनों का काम खत्म हो गया तो दोनों लड़कियाँ बोली- चलो अच्छा हुआ, एक बोतल और मिल गयी मूतने के लिये, अब जब हम लोगों को पेशाब लगेगी, तो एक दूसरे के मुंह में मूत लेंगी।लेकिन अभी मुझे पेशाब आयी है!” सोनी बोली.

मां की चिल्लपों सुन कर रमेश अंकल के दूसरे दोस्त ने अपना लंड मेरी मां के खुले मुँह में डाल दिया. उसे देख कर मुझे लगा कि वो भी मुझे पसंद करता है या यूं कहें मुझे चोदना चाहता है.

जिसमें से ब्रा मैंने निकाल दी और उनके बोबों को किसी छोटे बच्चों की तरह चूसने और दबाने लगा. कुछ पल मैं इस स्वर्गिक आनन्द का मज़ा लेता रहा और फिर प्रिया ने मुझे टहोका तो मैंने फिर से काम-क्रीड़ा शुरू की. जब कुछ देर बाद हमारी साँसें सामान्य हुईं तो हम दोनों साइबर कैफे से बाहर आ गए.

जैसे रेशम की नर्म-गर्म सी, नाज़ुक सी मुट्ठी जैसी कोई चीज़ मेरे मेरे लिंग पर रह-रह कर कस रही हो.

मैंने लंड के सुपारे को चुत की फांकों में घिसना शुरू किया, मुझे नहीं मालूम था कि चुत का छेद किधर होता है, बस यूं ही लगा था. ऐसी ही बालों से रहित, रोमविहीन प्रिया की मनमोहक और कोमल योनि भी होगी…” ऐसा सोचते ही मुझ में तीव्र उत्तेज़ना की लहर उठी. मेरा कद 5 फुट 10 इंच है, मैं दिखने में काफी ताकतवर और स्मार्ट ब्वॉय हूँ.

सेक्सी भाभी का दूधशायद उसकी आँखों में अपनी पहली चुदाई का मंजर घूम गया और उसको अपनी चुत की झिल्ली टूटने पर हुआ दर्द याद आ गया. फिर धीरे से चूत पर सैट करके हल्का सा झटका दिया तो उसने अपने गांड को आगे सरका लिया.

गधे के बीएफ

फिर हम डांस करते हुए करीब हो गए और एक दूसरे की बांहों में बांहें डाल कर डांस करने लगे. जब मैंने कॉलेज जाना शुरू किया तो मैं पढ़ाई के चलते कभी कभार की जिम जा पाता था और ज्यादातर कसरत मैं अपने घर के सामने के आंगन में ही करता था. ऐसा तीन चार बार करने से ही उनका पानी निकल गया और वह झड़ गईं, पर मेरा पानी निकलना जरूरी था.

मैं आप से तुम पर आ गया- तुम्हें औऱ तुम्हारे दिलकश हुस्न का दीदार कर रहा हूं. मैं- अच्छा और लंड शांत नहीं हुआ तो?विनय- यही तो सबसे बड़े दुख की बात है कि मेरे पास कोई नहीं है. जैसे ही मैंने पैन्टी उतारी, सामने उसकी एकदम सुर्ख गुलाबी चूत थी, गोरे गोरे बदन पर एक हल्की सी लकीर… और मैं उस लकीर का फ़क़ीर… उसे एक तक देखता जा रहा था.

फिर हम दोनों कुछ देर चिपक कर लेटे रहे और जब वो जाने के लिए कहने लगी तो मैंने उसे कपड़े पहनने में मदद की, उसकी ब्रा का हुक बंद किया. बहुत कामुक चूत की गंध आ रही थी उसमें से! मैंने देर ना करते हुए उसकी पेंटी को भी उतार दिया. वे अपने हाथ से मेरे हाथ को छूते हुए मेरे गले तक आए और धीरे धीरे वो मेरे सीने पर हाथ लगाने लगे.

मैं पूरी मस्ती से जोर जोर से उनको चोद रहा था और वो मादक आवाजें कर रही थीं. मुझे भी पूरा मन कर रहा था कि वो मुझे अपने साथ अपने होटल ले जाए और मेरी गांड में अपना लंड डाल दे.

भाभी के चूतड़ों को मजबूती से पकड़ के बहुत जम के मैं भाभी की चुत की चुदाई कर रहा था.

फिर मैंने फिर से चाय पी और उससे कहा- हाँ, अब ज़्यादा मीठी हो गयी है. एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो हॉट गर्लमैं उंह उंह उंह हूँ… हूँ… हूँ… हमम मम अहह्ह्ह्हह… अई… अई… अई…” चिल्ला रही थी. सेक्सी चुदाई मोटी गांडएक दिन मैंने उनसे बात करने की कोशिश की लेकिन उन्होंने मुझे कोई भाव नहीं दिया. उसने थोड़ी देर बाद फिर से झटका मारा और पूरा लंड अन्दर कर दिया और इस बार वो भी चीख पड़ा क्योंकि उसकी भी सील टूट गई थी.

मैंने अपने दोनों हाथों की एक एक उंगली उसकी लेगी में फंसाई और उसे नीचे सरका दिया.

साड़ी उतारने के बाद उसने अपने पेटिकोट का नाड़ा भी खोल दिया और अब मुझे उसकी नंगी जांघें और फिरोजी रंग की पैंटी में कैद उसकी चूत दिख रही थी. मुझे भी पूरा मन कर रहा था कि वो मुझे अपने साथ अपने होटल ले जाए और मेरी गांड में अपना लंड डाल दे. उसका दुबला शरीर, मेरा 80 किलो का वजन और मेरे लंड का ज़बरदस्त प्रहार वो बर्दाश्त ही नहीं कर पा रही थी.

बिंदु ने पूछा- क्यों तुम्हारी बीवी कहाँ रहती है?वो बोला कि अभी उसकी शादी नहीं हुई. क्या आप आज मुझे यह अधिकार देंगें?”बाप रे! … तो ये सब चल रहा था प्रिया के दिमाग में! अब मैं समझा सारी बात. हमारा सफ़र धीरे धीरे अपने मुकाम की तरफ पहुँच रहा था कि तभी मुझे सोनी ने रोक दिया और बोली- बस नवीन, अब इससे ज़्यादा नहीं हो सकता.

बीएफ जंगल बीएफ

अब ये मुझे मेरे पहले एक्सपीरियेंस में ही पूरा पता चल चुका था कि औरत का मजा क्या होता है. तभी रमेश अंकल के उन दोस्त का पानी निकल गया, जो अपना लंड मां की चूत में पेला हुआ था. फिर मैंने उसकी चुत पर थूक लगाया और धक्का मारा तो मेरे लण्ड का सिर्फ टोपा ही अंदर गया, उसे बहुत दर्द हुआ और मेरे लण्ड पर खून लगा.

बस यूं लगा कि कोई गरम सरिया मेरी गांड को चीरता हुआ अन्दर घुसता चला गया.

मुझे हमेशा से ही भड़कीले रंग वाली पेंटी ज्यादा पसंद है तो मैं तो उसको इस मादक रूप में देखकर अपने आपको नहीं रोक पाया और मेरा हाथ अपने आप ही मेरे खड़े लंड पर चला गया.

अगले दिन फ़ोन लगाया तो उसने रिसीव नहीं किया और अगले कुछ दिन नम्बर बंद बताता रहा और फिर और कुछ दिन बाद उसका नम्बर गलत बताने लगा. हम लोग कार से निकले और कार में रोमांटिक गाना लगा कर मस्ती से कार चलाने लगा. सेक्सी वीडियो बालिका सेक्सी वीडियोमैं समझ गया था लेकिन मैंने सोचा अभी इसको और गर्म होने दो, माहौल तभी बनेगा.

अलका ने मेरी नाक को तर्जनी और अंगूठे से नोचते हुए हिलाया और आँखें मटका के बोली- अरे बुद्धूराम न चाहती होती तो तुम होते यहाँ मेरे अंदर डंडा घुसाए… आखिर मिला न स्वाद इतने लम्बी कवायद का… पता है जो चीज़ आसानी से हासिल हो जाए उसकी क़दर नहीं होती. मेरा लंड सटीक ललिताने पर लगा था और ललिता की चूत भी रस से रसीली थी, साला लंड एक बार में पूरा अन्दर घुसता चला गया. रमेश अंकल मां के चूचों को चूसने लगे थे और उनके एक दोस्त मां की चूत को अपनी जीभ से चाटने में लग गए थे.

यहां मेरी हालात भी खस्ता थी क्योंकि मैंने पहली बार किसी लड़की को नंगी देखा था. बिंदु ये सुनकर बहुत डर गई और बोली- मैं अभी ही तेरे साथ चले चलती हूँ मगर पहले मेरे सामने उस पिक्चर को डिलीट करो और मुझे वो फोन दिखाओ कि मुझको फंसाने के लिए उसमें कुछ और तो नहीं है.

एक दिन उसने चैट के दौरान बोल ही दिया कि मैं काफी दिन से तुम्हारा बिहेवियर देख रही हूँ, तुम बहुत बदले बदले रहने लगे हो.

मैंने उसे हाथ हटाने को कहा तो वो खड़ी हो गयी और अपनी साड़ी खोलने लगी. लड़के की उम्र 4 साल है, लड़की की उम्र 7 साल है, हमारी शादी को 8 साल हो गए हैं और हम दिल्ली से हैं. बाद में टांगों और हाथों को पूरी तरह से बांध कर मेरी टांगों को हिलने ही नहीं दिया जिससे मेरी तो चाल ही बदल गई.

देहाती सेक्सी वीडियो सूट सलवार में अब पारुल उठी और मुझे लेटा कर मेरे ऊपर आ कर मेरे लन्ड को मुँह में ले लिया. खैर शनिवार को मैंने उससे कहा कि क्या मैं लंच में तुम्हारा इंतज़ार करूँ.

अगस्त 2016 के पहले तक माँ के साथ मेरा कोई भी सेक्स सम्बन्ध नहीं था. काफी दिनों से सब कुछ खुल्लम खुल्ला बात होती रही थी तो माँ मेरे साथ काफी फ्रेंक हो गई थीं. मैंने देखा कि पायल एक दूसरी मूवी को जैसे ही ओपन करती है तो ब्लूफिल्म खुल जाती है.

बीएफ सेक्सी वीडियो मूवी हिंदी में

इसलिए मैंने कहा- कल रात को।तभी उन्होंने अपनी पैन्ट उतार कर मुझे अपना लंड दिखा दिया, वो बहुत ही बड़ा था और लंबा भी था।वो मुझे अपना लौड़ा दिखा कर चले गए, मैं सोचने लगी कि इतना बड़ा कैसे ले पाऊँगी।मैंने एक कमरे में जाकर अपनी सलवार नीचे की. उसे मजा आ रहा था, वो अपने चूतड़ उछाल उछल कर चूत चुसाई का मजा ले रही थी. मैं समझ गया कि भाभी ने बोला था कि भाई का लंड छोटा और पतला था, तो इसका मतलब ये था कि भाभी की ठीक से चुदाई नहीं हुई थी.

देखिए कामवासना किस कदर दिमाग पर चढ़ जाती है कि अपने सगे रिश्तेदार की तबियत खराब होने पर भी दुखी होने की बजाए हम दोनों को खुश कर रही थी. फिर मैंने दो उंगलियां घुसेड़ीं, फिर तीन और फिर अपना हथियार ठोक दिया.

मेरे बच्चा सो चुका था। मेरा भतीजा अभी अपने कमरे में सोने ही जा रहा था.

वह मेरे लिए चाय बना कर ले आई और वह मुझको चाय का कप देने लगी तो मैंने कप के साथ उसका हाथ भी पकड़ लिया था. मॉम को देखते ही मैंने अपना लंबा सा लंड उसकी गांड से धीरे से निकाला और थोड़ा सा अपना लंड मॉम को दिखाते हुए छुपाने का नाटक करने लगा. उसने चूत फैला दी और मैंने लंड चूत पर सैट करके हल्का सा धक्का मारा, वो तिलमिला उठी, वो बोली- प्लीज़ जानू, बहुत दर्द हो रहा है छोड़ दो मुझे.

मैं उसकी प्यारी सी मखमली चूत पर हाथ फेरने लगा, तो वो ‘सीईईई सीईईईई. फिर मैं और दिव्या साथ निकले, अवी ने दिव्या को बस स्टाप पर उतार दिया. मुझे बीच में ही रोक कर उसने कहा- राजा आज की पूरी रात मैं तुम्हारी हूँ, धीरे धीरे से करो न…फिर से उसने मुझे चूमना शुरू किया.

उस दिन भाभी के पापा की तेरहवीं थी, जिस दिन आस पास के गाँव के लोग खाना खाने को आते हैं और घर के लोगों को बहुत काम करना पड़ता है।सबने मिल कर पूरा काम निपटाया और रात हो गयी.

सेक्सी हिंदी बीएफ फुल एचडी: उस वक़्त मेरा लंड अंडरवियर में पूरा टाइट था और मुझे थोड़ा नशा भी था. उसने पूरा गिलास सोडा मिला कर मेरे आगे रख दिया और बोला- आप किस फटीचर कम्पनी में नौकरी कर रही हैं.

उसने 10-15 मिनट में मेरे लिप्स गले कंधे मतलब जितना खुला हिस्सा था, उतने पर किस कर लिए. जूही के हाल में आइना इस तरह से लगा था कि किचन में क्या हो रहा है सब दिखता था और हाल में क्या हो रहा है वो किचन से दिखता है. एक दिन शाम के वक़्त मैं गार्डन में ही बैठकर जीएफ से बात कर रहा था, तभी उनका बेटा साइकल से गिर गया.

मॉम की चुत पावरोटी की तरह फूली हुई थी और चुत की अन्दर की दोनों पंखियां चुत से बाहर झांक रही थीं.

दीदी थोड़ा चिल्लाईं और मैंने जल्दी से एक बार फिर जल्दी से लिंग बाहर निकाल कर उतनी तेजी से वापस अन्दर पेल दिया. तो मेरी छाती से और ज्यादा दब जातीं। मुझे बहुत मजा आ रहा था; उसका चेहरा बिल्कुल लाल हो रहा था। मैं उसकी आँखों में देखने लगा. फिर उसने अपने दोनों हाथों से मेरे चूतड़ के पट खोले और मेरी गांड का छेद देखने लगा.