बिहार वाली बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी औरत हिंदी

तस्वीर का शीर्षक ,

दारू पीने के बाद: बिहार वाली बीएफ वीडियो, लड़का लड़की सेक्स कहानी पर कमेंट्स के जरिये या फिर मेरी ईमेल आईडी पर आप मुझे संपर्क कर सकते हैं.

मां बेटे की हिंदी सेक्सी मूवी

मां बोली- फिर आ गये तुम?इतने में ही मैंने मां की गांड में लंड लगा दिया और घुसाने की कोशिश करने लगा. लड़की चुदाई सेक्सी वीडियो चुदाईआप सभी को मेरी बहन की चुदाई कहानी कैसी लगी … प्लीज़ मुझे मेल करना न भूलें.

उसने मुझे तेजी से चोदना शुरू कर दिया और मैं भी मजा लेकर उसके मोटे लिंग से चुदने लगी. सेक्सी कहानी बाप बेटीउसने मुझे अपने दूध देखते हुए नोटिस किया और एक हल्की सी स्माइल पास कर दी.

मैंने अपने लंड पर लगा कॉन्डम उतारा और उसको गांठ मार कर डस्टबिन में फेंक दिया.बिहार वाली बीएफ वीडियो: मेरी देसी सेक्स इंडिया कहानी कैसी लग रही है? मेरी इस कहानी पर अपनी राय और कमेंट्स देना न भूलें.

चूंकि उनको चोदने का ये पहला मौका था, तो मैंने आज ज्यादा मस्ती का मूड नहीं बनाया.मजा तो उसको भी बहुत आ रहा था मगर वो खुल कर सामने नहीं आना चाह रही थी.

एक्स एक्स एक्स देसी सेक्सी पिक्चर - बिहार वाली बीएफ वीडियो

वो दोनों चूंकि हमेशा ही घर पर आते रहते थे तो किसी को कोई शक नहीं हुआ.उसने कहा- हो सकता है कि मेरे और मेरे दोनों बिजनेस पार्टनर का तेरे शहर का दौरा हो.

बस में भीड़ की धक्कम-पेल का फायदा उठा कर मैं अपने लंड को उसकी गांड से सटा देता था और वो भी हाथ पीछे करके मेरे लंड को पकड़ कर मुझे मजा देती थी. बिहार वाली बीएफ वीडियो मैंने पूछा- कौन से जेठ से चुदोगी? बड़े वाले या मंझले वाले से?वो बोली- मंझले वाले.

साथ ही बीच-बीच में पूरी जीभ बाहर निकालकर मेरी चूत को ऊपर से नीचे तक चाट रहा था। ऐसे ही दस मिनट से भी ज्यादा देर तक वो मेरी चूत को चाटता रहा.

बिहार वाली बीएफ वीडियो?

मैंने उसी पल सनी का मोटा लंड पकड़ा और उस पर लिक्विड चॉकलेट लगा कर अपने मुँह में लेकर चूस दिया. एक तवायफ भी अपने प्यार को बीवी मानता है, पर उसे हक जताने की अजादी नहीं होती, ना ही अपने यार की बेवफाई पर नाराज होने का हक. अंजलि फिर से गर्म हो गयी और मेरा लंड पकड़कर अपनी चूत के दाने पर फेरने लगी और मुझसे चोदने के लिए कहने लगी। मैंने अंजलि को उठाया और उसे सोफे पर ले गया।सोफे पर बैठकर मैंने अंजलि की टांगों को दोनों तरफ किया.

समझ नहीं आ रहा था कि क्या कहूँ।मैं रूपा से ही बोली- तू ही बता क्या करना चाहिए?रूपा ने बोला- दोस्ती कर ले बस. फिर जो होली का बवाल मचा, क्या कहूँ दोस्तों … चार घंटे तक लगातार चुदाई का मंजर छाया रहा. मैंने सोचा कि कुछ काम हो गया होगा क्योंकि उसको देखे बिना मुझे चैन नहीं आता था.

मेरी बहन की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरी बहन बहुत सेक्सी है हंसिका मोटवानी जैसी. मैं उसे रोक ही नहीं पाई। मुझे किस करते हुए वो मेरी साड़ी के ऊपर से ही मेरी गांड दबाने लगा। फिर वो मेरे कपड़े उतारने लगा। पहले साड़ी, फिर ब्लाउज और पेटीकोट भी।मैं उसके सामने नीले रंग की ट्रांसपेरेंट ब्रा और पैंटी में रह गई जिनमें मेरे निप्पल और मेरी चूत दोनों ही साफ साफ दिख रही थी। वो मेरे जिस्म को सहलाने लगा. मोहित अंकल हंसते हुए- छोड़ो जानू अब जाने तो मादरचोद को … अब ये कभी हमारी बेटी की तरफ कभी देखेगा भी नहीं.

मैं नीचे से उसका लंड अपनी चूत की फांकों में फिट करवा रही थी और वो मेरी एक चूची को अपने होंठों में दबा कर चूस रहा था. फ्रेंड्स ये थी कॉलेज गर्ल Xxx स्टोरी चूत की पहली चुदाई की! आपको कैसी लगी.

इसके बाद उसने मेरे लंड को हाथ से सहलाना शुरू कर दिया और बोली- ये तो मर गया.

अब मैं उनकी पूरी बॉडी को अपनी जीभ से चाट रहा था और उनकी बगल में मुँह डालकर पसीना पी गया.

फिर मैंने अल्पना के बूब्स दबाते हुए उससे बोला- जानेमन, आज तुझे मैं सनी और सोना की लाइव चुदाई दिखाऊंगी. मेरी लेस्बियन सेक्स स्टोरी के पिछले भागलंड की प्यासी मौसी की चूत- 1में आपने जाना था कि मेरी मौसी लंड न मिल पाने के कारण चुदासी थीं और उनको लेस्बियन सेक्स करने की चुल्ल हो रही थी. तब तक मेरी नानी ने मां की चुत रवीन्द्रनाथ के अलावा भी कई लोगों से चुदवा दी थी.

ओहोह निगार आंटी कमाल का पीस थीं यार … मुझे तो वो जन्नत की हूर लग रही थीं. तभी उसने नीचे ही नीचे मेरी पैंट का हुक खोल लिया और मेरी पैंट को नीचे कर दिया. ठंड के छोटे दिन होने के कारण शहर से कस्बे तक जाने में ही दिन डूब गया.

कुछ मिनट तक रवीन्द्रनाथ ने मां की चूचियों को दबाया और इसके बाद बारी बारी से दोनों चूचियों को पीना शुरू कर दिया.

घर आते ही मैं कमरे में गया और पूरे कपड़े उतार कर शीशे के सामने नंगा खड़ा हो गया. देवर भाभी चुदाई देख मैंने क्या किया?मेरे प्यारे दोस्तो, आप सब कैसे हो? मेरा नाम शमा है और मैं मुम्बई में रहती हूं. वो पूरी मस्ती से अपने बदन को अपनी सास के जिस्म से रगड़ता हुआ बोला- हैप्पी होली सासू मां.

वो अपने रूम में गई, तो मैं उनके पीछे जाकर उनके रूम के लॉक वाले सुराख में से उन्हें देखने लगा. वो धीरे धीरे बहुत गर्म होती जा रही थी और जोर जोर से सिसकार रही थी- आह्ह … आह्ह … ओह्ह … स्स्स … आह्ह … निलेश … ओह्ह … आह्ह।मैं अपनी शर्ट खोलने लगा. उसने कहा- ठीक है, मगर मेरा दावा है कि कल की तरह आप फिर से कल आयेंगी और राजी खुशी ये करेंगी, हम आज शाम को फिर आपके पति से बात करेंगे.

मुझे उसके चूसने की कला से कहीं से ऐसा नहीं लगा कि वो पहली बार लंड चूस रही है.

मैंने उसके व्हाट्सएप पर मैसेज किया और उसको बोला कि तुमने मुझे कोई सरप्राइज ही नहीं दिया … मैं इन्तजार कर रहा था. वर्जिन Xxx कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने पड़ोस की एक जवान लड़की की बुर में उंगली करती की वीडियो बना ली.

बिहार वाली बीएफ वीडियो कहकर वो उंगली को चाटने लगा।नहीं रोहित!” मेरे मुंह से इतना ही निकला।मेरे इस शब्द को सुनकर बोला- क्या भाभी, अभी भी मुझसे शर्मा रही हो। इस समय मैं तुम्हारी मलाई चाट लेता हूं. कुछ ही पलों में उसके लंड का सुपारा मेरी चूत की फांकों में फंस गया था.

बिहार वाली बीएफ वीडियो मैंने लाल रंग की लिपस्टिक लगाई, लम्बे ईयररिंग पहने, फिर पूरी नंगी हो गई, बालों का जूड़ा बनाया और एक क्लिप लगाया. कुछ देर बाद बाद उसने जोर से चोदना शुरू कर दिया और अपना सारा रस मेरी चूत में भर दिया.

ये बात आज से एक साल पुरानी उस समय की है, जब मैं जिगोलो नहीं बना था.

पिक्चर सेक्सी वीडियो पिक्चर सेक्सी

मेरी बहन के चूचे 32 इंच के हैं पतली कमर 28 इंच की है और पिछवाड़े पर खुदा की नेमत है. दीदी डर गईं और बोलीं- ये खून क्यों आ रहा है?मैं बोला- मेरी जान तुम आज तक कुंवारी थीं न. मैंने उत्सुकता में पूछा कि क्या हुआ?उसने कहा- मैडम आप नाभि के पास भी शेव नहीं करती हैं.

एक बार रंग लगा कर सुंदर ने हाथ हटाने की कोशिश की, तो चम्पा ने सुंदर के हाथों को थामा और फिर से रत्ना के गालों पर लगवा कर रंग लगाने के बहाने से गालों को मसलने का प्रयास करवाने लगी. चूमने के साथ ही कम से कम 5 मिनट मैंने उसके होंठों को अपनी गिरफ्त से छोड़ा ही नहीं. मैंने उन्हें वासना से देखा … तो उन्होंने वापस लंड को मुँह में ले लिया और अब वो मुँह बिगाड़ते हुए लंड को चूसने लगी थीं.

अगर मामी नाराज हो गयी तो चूत चोदने का मिला मिलाया मौका हाथ से निकल जायेगा.

कुछ पल बाद सुंदर ने अपनी सास रत्ना को अपनी गोद में उठा लिया और उसकी चूचियों को चूसता हुआ कमरे में ले जाने लगा … इसी बीचे सुंदर ने रत्ना की पैंटी नीचे सरका दी और उसकी गीली चूत पर अपनी नाक लगा कर सूंघने लगा. आपको मेरी यह रीयल मस्तचुदाई की Xxx काहनी अच्छी लगी या नहीं? मुझे जरूर बतायें. कॉलेज में मेरा ब्वॉयफ्रेंड मेरी चूत मुफ्त में मांगता है, मगर मैंने दी नहीं.

फिर धीरे धीरे उसकी कुछ लड़कियों से दोस्ती हो गयी और बाहर भी घूमने लगी. उसकी गान्ड काफी मुलायम थी और गांड का छेद गुलाबी था। मैंने उसके होल पर मुंह रखा और चाटने लगा. मैं अपने आप को इसके लिए पूरी तरह तैयार करना चाहती थी क्योंकि मैं अपनी पहली चुदाई को यादगार बनाना चाहती थी। हम दोनों के मिलने में अभी एक दिन का समय बाकी था। मेरे पास अभी पूरा दिन बचा हुआ था।उस दिन मैं ब्यूटी पार्लर गई.

जब मेरी बीव मायके गयी तो मैंने उस कामवाली को कैसे पटा कर चोदा?नमस्कार दोस्तो, मैं रॉकी गोवा से हूँ. वो मेरी फ्रेंची के ऊपर से ही मेरे लंड को पकड़ कर ऊपर नीचे करती हुई फेंटने लगी.

जब तक मैं कुछ समझ पाती, किसी ने दीवार की दूसरी तरफ से मेरे कपड़े खींच लिए थे. मुझे देख देखकर मुस्कराना, बार-बार टच करने की कोशिश करना, मेरे बाजू में ही बैठना, किसी और को न बैठने देना. दीदी मेरी टाँगों के बीच बैठ गयी। दीदी मेरा लौड़ा पकड़ कर पहले आगे पीछे करने लगी.

वो बोले- फिर कब चुदेगी जान?मां बोली- अगले किसी त्यौहार पर।चाचा बोले- नहीं, तू कल ही चुदेगी.

मेरी देसी सेक्स इंडिया कहानी में पढ़ें कि मैं मामा के घर गयी तो उनकी बेटी कैसे चुद कर आयी. उन्होंने मेरा हाथ पकड़ लिया और बोलीं- कहां जा रहा है तू?मैंने कहा- दीदी लाइट क्यों गई, देखने जा रहा हूँ. दोस्तो, मेरा घर बहुत छोटा है और मेरे परिवार में मम्मी, पापा और एक छोटी बहन है.

ऐसा करते हुए अंकल ने लंड को चूत के छेद पर टिका दिया और जोर देते हुए अंदर डालने का प्रयास करने लगे। मगर लंड इतना मोटा था कि आसानी से अंदर नहीं जा रहा था।अब अंकल ने मेरे दोनों हाथों को जोर से पकड़ लिया और अचानक से एक धक्का लगा दिया।फच्च… की आवाज़ के साथ करीब 2 इंच लंड चूत में घुस गया. फिर मैंने पेटीकोट को वापस नीचे कर दिया। अब हम खेत से बाहर आने लगे। मामी जी मेरे आगे आगे चल रही थी। उसकी मटकती हुई गांड मुझे दीवाना बना रही थी.

मैंने कहा- अरे चाची, ये क्या किया?चाची ने कहा- अरे मेरे से सहन ही नहीं हुआ और मेरी पेशाब निकल गयी. ये बात उन दिनों की है, जब मैं कॉलेज खत्म करके यूं ही फ्री घूमता था एवं छोटे-छोटे काम कर लिया करता था. दूसरे दिन मैंने दीदी को फोन लगाया और उनसे कहा कि दीदी मेरी तबियत कुछ ठीक नहीं लग रही है.

ओड़िया सेक्सी फिल्म

फिर उसने अपने मुँह में बीयर भरी और इस बार उसने मेरे लंड को अपने मुँह में ले लिया.

क्योंकि ऐश्वर्या नहीं चाहती थीं कि वो अपने पति के बाप से प्रेग्नेंट हो जाए और अपनी चूत से उनकी एक औलाद को पैदा कर दें. थोड़ी देर ऐसा करने के बाद उसने मेरा दुपट्टा नीचे बिछा दिया और उसके ऊपर मुझे लिटा दिया. मैंने भी अगले 5 से 10 शॉट बहुत ही अन्दर तक ठोकर लगा कर उसकी चूत में अपना पूरा लोड खाली कर दिया.

फिर एक मिनट बाद मैं खड़ा हो गया और ऐश्वर्या के गाल पर किस करके उनको टिश्यु पेपर दे दिया … ताकि वो अपनी चुत को साफ कर सकें. सेक्सी औरत की चुदाई कहानी में पढ़ें कि एक बार अपने गाँव जाते हुए ऑटो में एक औरत मिली. देहाती वीडियो सेक्सी ब्लू फिल्ममैं खुश हो गया और पूछा- क्या तुमने कभी सेक्स किया है?उन्होंने कहा- मेरी किस्मत में ही कहां कोई बॉयफ्रेंड है.

इस तरह से करीब आधे घंटे तक मैं उसकी चूत और चूची को छेड़ छेड़ कर खेलता रहा. आंटी ने कहा कि ये धोखा नहीं है, ये तो शर्त थी … जो मैंने तुझे पहले ही बता दी थी.

वो कभी मुझे अपने बूब्स की फोटो भेजती और मैं उसे अपने लंड की फोटो भेजता. जब मैं और लता आंटी चुदाई करके बाथरूम से बाहर आए तो सामने मीना खड़ी थी. कुछ देर में उसकी बुर ने फिर से पानी छोड़ दिया और वो अपने आपको हटाने लगी.

वैसे सच कहूं तो मुझे काफी बुरा लग रहा है कि तुम मेरी बीवी के साथ …इतने में ही सर के फोन पर एक मैसेज रिसीव हुआ. अजय ने मुझे अपनी बांहों में भर लिया और मेरे होंठों को बेताशा चूमने लगा. अपने लंड को मैंने कच्छे के ऊपर से ही दीदी के सामने सहला दिया और दीदी देख कर मुस्कराने लगी.

फिर ऐसे ही कुछ दिन एक दूसरे को देखने के बाद उसने मुझे अपना नंबर दिया.

करीब दो मिनट बाद ही पारुल और साधना उसी कमरे से म्यूजिक सिस्टम और पिलो लेने आई जिस कमरे में मैं बंद था. मैंने बस उसको तुरंत किस करना चालू कर दिया और साथ में उसके चूचों को दबा कर उसे मजा देने लगा.

फाड़ कर रख दो! उम्म्म याह्ह्ह … चोदो आह्ह … और जोर से चोदो … और जोर से अजय!अजय ने मेरे दोनों बूब्स को पकड़ कर दबाते हुए धीरे धीरे अपनी स्पीड बढ़ाई. दोस्तो, औरतों के मुँह में झड़ने में जो मजा आता है … वो और किसी चीज में नहीं. अल्पना- पर तू ये सब कैसे करेगी?मैं- मैंने बोला न … तू हां बोल … और अपनी चूत चुदवाने के लिए तैयार हो जा.

और जब फिल्म की शूटिंग शुरू हुई तो मुझे पता चला कि यह तो …कैसे हो साथियो? मैं पदमा मैत्री अपने हिरोइन बनने की कहानी का अंतिम भाग आपको बताने आई हूं. मैंने पूछा- जब कोई लड़की नहीं मिलती तब?उसने कहा- ऐसा होता तो नहीं है. काफी देर तक मैंने उसकी चुदाई की और उसकी चूत झड़ने के बाद ही शांत हुई.

बिहार वाली बीएफ वीडियो उसने अपने हाथ से अपनी मॉम की चूत को रगड़ा और मेरा लंड लगा कर बोला- लो मॉम, तेरे लिए लंड अपने हाथों से डाल रहा हूँ. जिसे देख कर अमित ने हंस कर कहा था कि है मस्त माल!मैंने भी हां में सर हिलाते हुए कहा- साली कुतिया रंडी मेरे लंड के नीचे आ जाए, तब तो मस्त माल है … वरना मुठ मारनी पड़ेगी.

सेक्सी वीडियो एचडी हिंदी फुल मूवी

फिर मैं दोबारा बूब्स चूसने लगा और फिर चूमते हुए नीचे नाभि को किस किया. गले से लेकर किस करने लगा और उनको जोर जोर से उनके लिप्स पर किस करने लगा. पहले मेरे नाना अन्य लोगों के खेत में काम करते थे और उनके साथ कभी कभी काम करने मेरी मां भी जाती थीं.

मेरी आँखों से आसुओं की धार निकल पड़ी। मैं किसी तरह उससे छूटना चाहती थी मगर उसने बहुत जोर से मुझे जकड़ लिया था।उसने जोर से मेरा मुँह दबा रखा था इसलिए मैं कुछ बोल भी नहीं पा रही थी।मैं जोर जोर से अपने पैर पटकने लगी। अपने दोनों हाथों से उसकी कमर को धक्का देने लगी. मैं भी आंखें बंद करके जोर जोर से सिसकारते हुए उसके मुंह को चोदने लगा. हिजड़ा सेक्सी मूवीइस काल्पनिक कहानी के पहले भागहाई प्रोफाइल लेडी की सेक्स कहानी- 1में अब तक आपने पढ़ा था कि ससुर जी अपनी बहू ऐश्वर्या को चोदने की तैयारी कर रहे थे.

अब मेरे अन्दर भी सेक्स भरने लगा था और हमारी चुम्मियां भी गहरी होती चली गईं.

मैं दिन में घर से बाहर टहलने निकलती, तो कुछ परिचितों से मुलाकातें भी होती रहती थीं. उसकी पीले रंग की नयी कमीज में से उसकी जालीदार लाल ब्रा भी दिख रही थी.

वो बोली- विशू जी, मेरी चूत मुझे कई दिन से परेशान कर रही है इसलिए मैं इस चूत की वजह से आपके पास आई हूँ. ये कह कर मुझे सर ने खड़ा किया और मेरे दोनों हाथों को ऊपर किया और बोले- ऐसे ही हाथ ऊपर करके खड़ी रहो और मज़े लो. अभी मैं कुछ समझ पाता कि तभी भाबी का कॉल आया- हैलो … क्या सोच रहे हो?मैंने कहा- भाबी मैं तो डर ही गया था, जब आपने चल हट कह कर फोन काट दिया था.

फिर ससुर ने लंड से कंडोम को हटाया और डस्टबिन में फेंककर अपनी बहू को धन्यवाद करके कपड़े लेकर अपने कमरे में चले गए.

उसके कंठ से हल्की हल्की सी मादक और कामुक कराहें ‘अहह … ओह्ह …’ निकलने लगी थीं. आप लोगों ने अगर मेरी पिछली कहानीझारखंड वाली भाभी की मस्त चुदाईपढ़ी है तो आप सब मुझे जानते होंगे. बहुत लंबी चली इस चुदाई मैं 2 बार पहले झड़ चुकी थी और अब मैं तीसरी बार झड़ने वाली थी.

बिहार की लड़कियों की सेक्सी फोटोमैंने पूछा- ये कहां से सीखा?वो बोली- सहेलियों के साथ सेक्स वीडियो देख कर. मैं ब्लैक कलर की साड़ी और मैचिंग का ब्लाउज पहने हुए थी, जिसका गला काफ़ी बड़ा था.

सेक्सी फिल्म हिंदी न्यू

अब तो हम दोनों ही वासना की आग में जल रहे थे और एक सही मौके की तलाश में थे. मजा तो दूर मैं बस यही चाह रही थी कि बस ये मुझे छोड़ दे।मगर मोहित किसी तरह से रुकने का नाम नहीं ले रहा था और दनादन मेरी चुदाई किये जा रहा था। अभी भी उसने मेरे मुँह को दबा कर रखा हुआ था। कुछ देर बाद मेरा दर्द अपने आप ही कम होना शुरू हो गया. उसकी चूत काफी गीली हो चुकी थी और उसकी चूत का पानी काफी नमकीन सा था।दस मिनट तक उसकी चूत चाटने के बाद उसका शरीर अकड़ने लगा और उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया। मैं उसकी चूत का सारा पानी पी गया।फिर हम अलग हुए.

आप मुझे पहले क्यूं नहीं मिली?तो मैंने चूत का रस लगे उसके होंठों को अपने होंठों से लगा दिए और उसको किस करने लगी. तो दोस्तो, आपको मेरी ये कॉलेज गर्ल हिंदी हॉट कहानी कैसी लगी … मुझे उम्मीद है कि आपको भी मजा आया होगा. पास ही में रखी कोल्ड क्रीम, मैंने उसके शरीर पर लगाई और उसकी ब्रा का हुक खोल दिया.

एक तरह से ये हो गया था कि अब मैं उन दोनों के लिए एक जुगाड़ बन गई थी. आज बिस्तर पर मम्मी की चुत में मेरा पूरा लंड चला गया था, इसलिए वो दर्द से चिल्लाने लगीं कि निकाल ले … मुझे बहुत दर्द हो रहा है. नेहा सिसकारियां ले रही थी- आह … आह … आह … आह … करते हुए मेरे बालों को सहला रही थी.

मीना ने मुझसे कहा- हितेश, कल रात की चुदाई में मुझे इतना मजा आया था कि क्या बताऊं. मेरी पिछली स्वीट Xxx गर्ल स्टोरीपड़ोस की कमसिन लड़की की जवानीमें आपने पढ़ा कि मेरी ये तीन पड़ोसनें दरअसल जुबैदा और उसकी दो बेटियां सलमा और नजमी थीं.

मैंने उन्हें अंदर आने दिया और शरमा कर किचन में कुछ बनाने का नाटक करने लगी.

वो अपने मुँह पर धूप से बचने का बहाना करके मुँह ढक लेती थी ताकि कोई पहचान वाला न मिल जाए. यानी सेक्सी पिक्चरचुदाई के समय आंटी की दोनों चूचियां बड़ी तेजी से आगे पीछे हो रही थीं. सेक्सी फोटो बढ़िया सेक्सीअब मेरे पास कोई रास्ता नहीं था क्योंकि वो आदमी बार बार बोल रहा था कि निकलो बाहर वर्ना अन्दर घुस जाऊंगा. शायद एक ने मेरे दिल की आवाज सुन ली और अंकल से कहा- सुमीना, तो केक की तरह लग रही है.

अभी सुपारा ही अन्दर गया था कि मीना कराहने लगी- आह हितेश लंड को बाहर निकाल लो … आह बहुत मोटा लंड है … मैं नहीं झेल पाऊंगी … मैं मर जाऊंगी.

जिया मेम के साथ मेरी पहली मुलाकात में क्या क्या हुआ वो मैं आप लोगों को कहानी के अगले भाग में बताऊंगा. फिर मैं बोला- आप बताइए, क्या आपको मुझसे कोई काम था?वो बोली- हाँ, दरअसल सेक्स करने का बहुत मन हो रहा था, तो क्या आप अभी आ सकते हो?मैंने पूछा- आप ही हो या कोई और भी है?वो बोली- चार हैं. मेरा लंड ऐश्वर्या के अंदाजे से भी काफी बड़ा था, इसलिए उनको लंड लेने में दिक्कत हो रही थी.

कुछ दिन बाद मेरे एग्जाम शुरू होने वाले थे, तो मैंने दीदी को मुझे पढ़ाने के लिए बोला. मैं सोच रही थी कि आज यदि भाई मेरी चुत में लंड पेलेंगे, तो मैं लंड अन्दर ले ही लूंगी. नहीं तो तुम्हारी चूत जख्मी हो जायेगी।लेकिन मैं हल्का फुल्का हिलती ही रही.

सेक्सी सेक्सी भेजो सेक्सी सेक्सी

इसलिए उस चपरासी से सीधे पूछा- जूस गलती से गिरा था या जानबूझ कर गिराया था. मेरी ईमेल आईडी है[emailprotected]लड़का लड़की सेक्स कहानी का अगला भाग:जवान पड़ोसन को पटाकर खुली छत पर चोदा- 2. मैं अकेले में उनके पास जाता और उनसे सामान्य बातचीत करने की कोशिश करता रहता.

फिर जहां प्यार होता है, वहां उम्मीद भी होतीं हैं … फिर उम्मीदें बढ़ने लगीं.

अंकल मेरी चूचियों को चूमते जा रहे थे और मैं बिस्तर पर लेटती ही जा रही थी।कुछ पल बाद मैं अपने आप ही बिस्तर पर लेट गई और अंकल मेरे ऊपर लेट गए। उन्होंने मेरी चूचियों पर बेतहाशा चूमना शुरू कर दिया। वो बहुत जोर जोर से मेरी चूचियों को मसल रहे थे.

उसने कुत्ते के जैसे अपना पूरा लंड अपनी मॉम की चूत में फंसाया और ताबड़तोड़ झटके देने लगा. मां बोली- फिर आ गये तुम?इतने में ही मैंने मां की गांड में लंड लगा दिया और घुसाने की कोशिश करने लगा. सेक्सी वीडियो डॉट कॉम इंडियनउसकी नाभि को चाटने के बाद एक बार फिर से मैंने उसके बूब्स पर हमला बोल दिया.

तुम अपने हिसाब से सोच लो, पेमेन्ट बढा़ देंगे और उसके साथ ही अन्य भी कई सुविधा देंगे, एक हफ्ते के बाद आना और काम चालू कर देंगे. मैंने चुत चाटना बंद किया, तो वो बोलने लगीं- ओई … रुक क्यों गए … और चाटो ना!मैं अभी यही उनके मुँह से सुनना चाहता था. पर क्या करता दोस्तो, मैं चुपचाप रह गया और अन्दर जाकर सोफे पर बैठ गया.

मैं अपने प्रशंसकों को बताना चाहूंगी कि मेरे बड़े बड़े बूब्स की सबसे बड़ी खासियत दोनों बूब्स पर 1-1 छोटे अंगूर के दाने है. दोस्तो … मेरी इस फेमिली सेक्स स्टोरीहोली पर मेरी ससुराल में घमासान सेक्स- 4में अब तक आपने जाना कि रिया दी ने अपनी छोटी बहन स्नेह की चुदाई से परेशान होकर अपने पति दीपक जी सहित मुझे और जेठानी जी को अपना शिकार बनाना शुरू कर दिया था.

दरबान डेढ़ घण्टे में अमिता के साथ वापस आया और मैं उतनी देर सिर्फ बैठ कर सोचता रहा.

असल में तवायफ मर्द या औरत, अमीर या गरीब, गंवार या पढ़ा लिखा, कोई भी हो सकता है. कामवाली बाई सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी बीवी गर्भवती हुई तो मैंने एक हाउसमेड रख ली. मैंने पूछा- और घर में कोई नहीं है क्या?उसने मुस्कुराते हुए कहा- नहीं!मैंने तुरंत ही उसका हाथ पकड़ा और उसे अपनी तरफ़ खींच लिया.

सेक्सी हिंदी नंगी फिल्में जब भी मैं बरामदे में जाती थी तो जेठ जी केवल अंडरवियर में व्यायाम करते हुए मिलते थे. उस दिन अंकल ने दिन में कुछ नहीं किया और फिर रात में मेरे पास आकर मुझे चूमने लगे.

वो बोला- भैया से क्या कह दोगी?मैंने- यही कि मैं विशाल की बीवी बनने के लिए राजी हूँ. फिर उसने खुद ही मेरा हाथ पकड़ कर अपनी पैंटी में घुसवा लिया और मैंने उसकी चूत को जोर जोर से रगड़ने लगा. तुम अपने हिसाब से सोच लो, पेमेन्ट बढा़ देंगे और उसके साथ ही अन्य भी कई सुविधा देंगे, एक हफ्ते के बाद आना और काम चालू कर देंगे.

इंग्लिश पिक्चर चुदाई वाली सेक्सी

अब चूंकि उन दोनों ने मेरे ही रूम में चुदाई की थी तो ठरक मुझे भी चढ़ने लगी. अब मैंने भी मंगलसूत्र उतार कर जेठजी का दिया हुआ हार पहन लिया और उनकी दी हुई ब्रा और पैंटी भी. उसकी चूत काफी गीली हो चुकी थी और उसकी चूत का पानी काफी नमकीन सा था।दस मिनट तक उसकी चूत चाटने के बाद उसका शरीर अकड़ने लगा और उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया। मैं उसकी चूत का सारा पानी पी गया।फिर हम अलग हुए.

मैं बोली- मगर तू शादीशुदा है नवाब।वो बोला- हम लोगों में सब चलता है. बीच में टोक कर मैंने पूछा- वहां क्या मतलब मां, वहां कहां?वो बोली- तू ये सब क्यों पूछना चाहती है?मैं बोली- चलो भी मां, अब तो मैं सब कुछ जानती हूं, खुल कर बताओ ना?मां बोली- सेक्स वीडियो देख कर मेरी चूत में पानी आने लगा और मैं अपनी चूत पर हाथ से सहलाने लगी.

मैं सोच भी नहीं सकती थी कि मेरा फर्स्ट टाइम सेक्स ऐसी जगह और इस तरह से होगा। अब मोहित ने अपना लोवर और चड्डी एक साथ उतार दिया.

उसके पहनावे को देख कर लग रहा था कि उसके परिवार का गुजारा बहुत ज्यादा अच्छा नहीं है. इसलिए उस चपरासी से सीधे पूछा- जूस गलती से गिरा था या जानबूझ कर गिराया था. अब आगे की गर्म चूत चुदाई कहानी:एक दिन कुछ ऐसा हुआ कि दीदी जॉब पर गयी हुई थी.

उधर रिया दीदी अपने हज़्बेंड की गांड मार रही थीं और स्नेहा अपने डिल्डो को दीपक जी के मुँह में पूरा उतार रही थी. उसके मटर के दाने जैसे निप्पल उसकी चूचियों की खूबसूरती पर चार चांद लगा रहे थे. उसने सामान एक बगल रखा और कहा- मैडम एक प्रॉब्लम है, ये ब्लाउज किसी और के ऑर्डर का है, ये खराब हो जाएगा.

और प्रसूति के बाद भी कामवाली की ज़रूरत रहेगी इसलिए उसने मुझसे नाजनीन को नहीं निकालने के लिए कहा.

बिहार वाली बीएफ वीडियो: आह्हह … जोर से राजेश।उसने मेरी भी शर्ट उतार दी और अब हम दोनों की छाती नंगी होकर चिपक गयी और हमारे होंठ फिर मिल गये. मैं खुश हो गया और पूछा- क्या तुमने कभी सेक्स किया है?उन्होंने कहा- मेरी किस्मत में ही कहां कोई बॉयफ्रेंड है.

पिछले भागलेडीज टेलर ने चोद दिया- 1में अब तक आपने पढ़ा था कि टेलर मास्टर ने मुझे ब्लाउज पहना कर मुझसे सब पूछा और कहा कि आप सिर्फ ऐसा ब्लाउज पहन लेने से सेक्सी नहीं दिखेंगी. अब दीपक जी को ताव आ गया और बोले- मेरी साली जान चुपचाप चुत में लंड डलवा लो … नहीं तो भैन की लौड़ी आज मैं तेरी गांड भी मार दूंगा. मैंने घर जाकर कपड़े उतारते हुए पाया कि चूत पूरी गीली हो गयी थी और उसने मेरी गुलाबी पैंटी पर बहुत बड़ा धब्बा बना दिया था.

उसके जाते ही सबसे पहले मैं वाइन के दो पैग बनाए और हम दोनों ने एक एक पैग उठा कर चियर्स बोला और घूंट लगाने लगे.

सर बोले- ठीक है, लेकिन फिर मुझे क्या मिलेगा?मैंने कहा- जो आप कहोगे वो मैं सब कुछ करूंगी. मैं और ज़ोर से उनके मम्मों के ऊपर बड़े और कड़क हो चुके चूचुकों को अपने दांतों से खींच कर हल्के हल्के से काट रही थी. जब उसने मुझे बताया, तो मैंने उससे पूछा कि बेटी कौन सा जॉब है?तब मेरी बेटी बोली- अम्मी एक प्राइवेट कंपनी है, वहां पर जॉब मिल गई है.